देसी बीएफ हिंदी में वीडियो

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो मुसलमानों का

तस्वीर का शीर्षक ,

सूट वाली सेक्सी बीएफ: देसी बीएफ हिंदी में वीडियो, ”अब मैंने बेड की ड्रावर में रखा निरोध निकाल लिया और अपना कुर्ता और पायजामा निकाल कर अपने लंड पर कंडोम चढ़ा लिया।बेबी तुम भी अपने कपड़े उतारो ना प्लीज!”ओह … पर वो मैं कपड़े नहीं निकल सकती.

गैलरी सेक्सी वीडियोस

और खुशी का मैसेज आते ही मन में उमंग फिर से भर गया था, इसलिए मैंने भी कह दिया- मैं भी सो गया था यार, नोटिफिकेशन की आवाज से नींद खुली।खुशी ने कहा- यार, मेरा मैसेज जाते ही तुमने जवाब दिया है. सपना चौधरी की सेक्सी नंगी फोटोमैंने उसे कमर से कस कर पकड़ लिया और कमरे में लाकर उसके बिस्तर में गिरा दिया.

सनम प्लान के मुताबिक बाथरूम में थी और मेरी आवाज़ का ही इन्तजार कर रही थी. सेक्सी लड़कियों के मोबाइल नंबर चाहिएमेरी कराहने की आवाज सुन कर थॉमस को भी जोश आने लगा था और वो भी मेरी गांड पर थप्पड़ मारते हुए मुझे और जोर से चोदने लगा.

पर मधुर किसी की बात कहाँ सुनती है।गौरी की मधुर यादें अब भी रोमांच से भर देती हैं। मन करता है अभी उड़कर गौरी के पास पहुँच जाऊं। मैं मधुर के साथ तो मुंबई नहीं जा सका.देसी बीएफ हिंदी में वीडियो: जब मैं थॉमस के लंड से उतरी, तो मेरी चुत से थॉमस के पानी की लार टपक रही थी.

और चोदो … और तेज़ … मजा आ रहा है … और तेज़ और तेज़।सुनील मुझे आहह … आहह … हम्म … हम्म … ये ले साली रांड.मैंने भी खुद को उसके हाथों में छोड़ दिया और आंख बंद करके मज़ा लेने लगी.

सेक्सी सेक्सी गाना चाहिए - देसी बीएफ हिंदी में वीडियो

मैं जैसे ही बाहर आया, तो पूजा एक जंगली बिल्ली की तरह एक पैर मेरे पैरों के बीच में फंसा कर मुझसे लिपट गयी.सॉरी नथिंग … वो मेरा मतलब था अगर चाय पीने की इच्छा हो तो?” कई बार तो साली यह जबान भी साथ नहीं देती।ओहो … मैं आपके लिए मरी जा रही हूँ और आपको चाय की लगी है?”ओह … स.

उसने धक्के मारना शुरू कर दिए और मैं जोर-जोर से चिल्लाने लगी ‘आह आह सर आह आह्ह प्लीज धीरे धीरे आह सर आह. देसी बीएफ हिंदी में वीडियो मैंने भी सोचा कि अगर मैं जाता हूँ और उसको पता भी नहीं चलेगा तो भी कह देगी कि मेरे पति को पता चल गया है, मुझसे झगड़ रहा था.

मैंने देखा कि एक सुंदर सी लड़की बेल बजाने के साथ दरवाजा भी नॉक कर रही थी.

देसी बीएफ हिंदी में वीडियो?

जैसा कि आपको मालूम है कि जब मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को पहली बार मौसी के घर में चोदा था. मैंने बिन्दू के दोनों कपड़े निकाल कर बिल्कुल नंगी कर लिया।बिन्दू को मैंने आगे से अपने ऊपर उठने को कहा. अंकल की चड्डी से ही मैंने अपने हाथ को साफ किया और फिर हम दोनों आराम से लेट गये.

मेरे दोस्तो को दिखाने के लिए प्लीज प्लीज।मैंने थोड़ा सोचा कि यार अगर मैं इसका इस्तेमाल करूँ और ये मेरा! और नतीजा यह कि हमारा कॉलेज ये प्रतियोगिता जीत जाता है तो इसमें क्या बुराई है।आखिर मैंने हाँ कर दी और वो खुश हो गया।हमारी डील हुई कि वो और मैं उसके दोस्तों को दिखाने के लिए गर्लफ्रेंड बॉयफ्रेंड बन जाते हैं. मामी के सिर के बाल मेरी नाक को छू रहे थे … और उनके बदन की खुशबू मानो मुझे पागल कर रही थी. फिर उन्होंने मेरे हाथों को बेड के दोनों ओर दबा लिया और मेरे गाल और गर्दन पर चूमने लगे.

उसके सर को पकड़ा और होंठ उसके होंठ पर पर रख कर अपना हाथ उसकी चुत पर ले गया. नेहा बोली- राज, अगर फोन आया तो भी मैं उसको ऐसे ही बोलूंगी, तुम चिंता मत करो, अब उसकी मेरी जिंदगी में कोई जगह नहीं है. मैं रोहन को दिखा दिखा कर आहें भर रही थी और थॉमस भी मुझे बहुत जोरों से चोद रहा था.

ब्लू फिल्म में भी ऐसा ही दिखाया जाता था कि पति के सामने ही दूसरा आदमी पत्नी की चुदाई कर देता है. मैं गुस्से में बोली- बस करो अब, उंगली से चोदते रहोगे क्या? इस लंड से अपनी बहन की चूत मारोगे क्या?वो भी तैश में आ गया और उसने मेरी चूत पर लंड लगा दिया.

”इतनी सेक्सी बातें प्यार से सुनकर मेरी चूत ने पानी बहाना तेज़ कर दिया.

मैंने भाभी से पूछा- आपके हस्बैंड का इतना बड़ा नहीं है क्या?भाभी- अरे उनका तो इसके आधे से भी छोटा और पतला है.

मैंने अपनी सहेलियों से शादी की सुहागरात की चुदाई के किस्से सुने हुए थे. मैंने मामी के ब्रा के हुक को पकड़ा तो दोस्तो पूछो मत … मेरी कितनी बुरी हालत हो गई थी. फिर मैंने कहा- ये बताओ … पहले तो बहुत प्यार था, एक पल भी बिना बात किये नहीं रह सकती थी.

और मुझसे कहने लगे कि अपना मेडिकल करवाकर आप भी रिपोर्ट लिखवा दो कि इसने आप को मारा है. फिर मेरी गांड के छेद को अपनी जीभ से चाट कर ढीला किया और अपने लंड से मेरी गांड चोदने लगे. फनफनाते हुए लंड को देख कर मीता की एक तेज सिसकी निकल गई- उई मम्मी … ये क्या है?मैं- ये तुम्हारा खिलौना है … खेलो जी भर कर.

दिन में तो हमारी मुलाकत नहीं हो पायी क्योंकि शादी के कामों के कारण मुझे टाईम ही नहीं मिला.

मगर धीरे धीरे मैंने उसका पूरा लंड अपने मुँह में ले लिया और उसे चूसने लगी. फिर उसने मम्मी का हाथ पकड़कर अपने लंड पर रखा लेकिन मम्मी ने हाथ हटा लिया. वैसे भी मैं डर के कारण ये काम अकेले नहीं करना चाहता था इसलिए मैंने शरद को भी उसके मजे देने का वादा किया था.

कुछ देर मज़ा लेने के बाद वो थोड़ा साइड में हुआ और तिरछा होकर बैठ गया. जब अनिकेत ने वो ठंडा रसगुल्ला मेरी लावा उगलती हुई चुत पर टच किया, तो वो मुझे बेसब्र सा करने लग गया. पर अगर आपने मेरी गांड नहीं मारी ना … तो आपकी चूत तो क्या … गांड भी मार मार कर खून निकाल दूंगा मादरचोद.

वो मेरी पीठ पर अपने होंठों से हल्के हल्के से किस करने लगा, जिससे मुझे बहुत ही ज्यादा मदहोशी छा रही थी.

यहां पर हरियाणा सरकार की तरफ से पुलिस वालों की तैनाती की गई, ताकि किसी तरह की कोई हिंसक घटना ना हो. पर कुछ करने की मेरी हिम्मत नहीं होती थी … क्योंकि वो अलग समुदाय से थी.

देसी बीएफ हिंदी में वीडियो मैंने बोला- सर प्लीज आप मेरी गांड मत मारो … आपका लंड बहुत मोटा है … मेरी गांड में दर्द हो जाएगा. वहां बर्फबारी होती है, दोस्तो, अगर आप सर्दियों में शिमला जाते हैं और आपको बर्फ गिरते हुए देखना है तो कुफरी जरूर जायें।वहां भैया भाभी ने बर्फ में आनन्द लिया और शाम को वापस अपने होटल आ गये.

देसी बीएफ हिंदी में वीडियो वे उसकी चीख सुनकर जल्दी से पास आए और डांटा- क्यों बे … क्या हुआ?नसीम उंगलियां डाले ही डाले दांत निपोरे हंस रहे थे … बोले- कुछ नहीं भैया जी, थोड़ी देर में लौंडे का दर्द बंद हो जाएगा. मैं अपनी फटी चूत देख कर शरमा गयी, पर आज मेरा मन बहुत शांत हो गया था.

मैंने भाभी से पूछा- लंड का पानी पीना भी पसंद है?वो बोली- हां तुम मेरे मुँह में ही निकाल देना … मुझे माल को पीना पसंद है.

सेक्सी बीएफ हिंदी मूवी सेक्सी

फिर उसने मम्मी की ब्रा का हुक खोल दिया और ब्रा उनके जिस्म से अलग कर दी. सर ने कहा कि अगर मैं आज रात उनकी प्यास को बुझा दूं तो वो मुझे प्रिंसीपल बना देंगे. ओह फ़क अर्जुन आःह्ह … अभी तो तुम शांत दिख रहे थे!”उसने मुझे वहीं मैट पे पटक दिया- हम्म … मैं शांत नहीं था.

मीता को देखा जाए, तो वो एक साधारण सी लड़की थी … पर सेक्स के लिए एक परफेक्ट पार्टनर थी. तुमने मुझे ऊपर से पूरी नंगी किया हुआ है और मेरी पीठ पर सहला रहे हो, तुम्हें नहीं पता कि मुझे कैसा लग रहा होगा? अब मेरे कहने का इंतजार मत करो और मेरी चूचियों के निप्पलों को जोर से मसल कर निचोड़ दो … आह्ह!अब उसने अपनी दोनों चूचियों को हाथ में भर लिया था और उन पर गोल गोल हाथ फिराने लगी. अर्पित ने भी एक चूची को मुँह में डाला और दूसरी को दूसरे हाथ से मसलने लगा.

अब मुझे थोड़ी टेंशन होने लगी थी … क्योंकि मैंने अभी तक कोई पार्ट्नर भी सिलेक्ट नहीं किया था.

उसने मुझसे लिपटते हुए कहा- कुछ नहीं देखा … बस मुझे पास बैठा एक फरिश्ता नजर आया, जो मुझको निहारते हुए आंसू बहा रहा था. मैं उसके लंड से उतरना चाहती थी, पर उसने मुझे उतरने नहीं दिया और मेरी चुत में ही अपना रस छोड़ दिया. कुछ देर बाद बिन्दू सीधी हुई, उसकी चूत का भरता बन चुका था, जो छेद पहले दिन खोलने से मुश्किल से दिखाई दे रहा था अब वह गुलाबी रंगत लिए हुए खुल चुका था.

3 अगस्त को फोन उठाया, बोली- आदमी जब किसी को मैसेज भेजता है तो पहले हाय हेल्लो कुछ लिखता है. घर आ कर जैसे ही कुच्ची ने कहा कि इतनी देर से हम साथ में हैं, उसका फोन नहीं आया. परदे चेंज करके मोटे परदे लगा दिए, जिससे कमरे में काफी हद तक रात का माहौल तैयार हो गया.

फोन भी चालू ही था, उससे बात करते करते मैं उसके घर के पास पहुंच गया. ’ गांड मारने में लगे रहते हैं … साले पसीने पसीने हो जाते हैं, पर जब तक पानी नहीं छूट जाता, रूकते नहीं हैं.

बिन्दू- वो कैसे?मैंने थोड़ा नीचे झुक कर बिन्दू की वी शेप की पैंटी को उसकी चूत से साइड में किया और लौड़े के टोपे को चूत पर रख दिया. राजू ने बड़ी मुश्किल से अपना लंड बाहर निकाला और मेरे ऊपर आकर मेरे पेट पर अपना सारा पानी निकाल दिया और फिर मेरी बगल में आकर लेट गया. उसके मोटे लंड से मुझे काफी दर्द हो रहा था, लेकिन अंकुश धीरे-धीरे मुझे प्यार से सहलाते हुए अपने लौड़े के टोपे से ही मेरी चुत की मालिश करते हुए उसे अन्दर-बाहर करने लगा.

मैं अनजान बनते हुए बोली- अच्छा आपको कैसे पता?दीदी बोली- मेरी रानी … वो तो तुम्हें शादी से पहले से ही चोदना चाहता था … लेकिन उसे मौका ही नहीं मिला.

उसके मुँह से आवाज़ तो नहीं आ रही थी मगर मुँह ऐसे बना रही थी जैसे ‘आह … ईह उई …’ कर रही हो. प्रतिभा ने जैसे ही गांड मारने की स्वीकृति दी मानो मेरे लंड में फुरफुरी आ गई थी. पर जीजू …” साली जी ने कुछ बोलने की कोशिश की तो मैंने उसके मुंह पर हाथ रख कर रोक दिया.

दोनों टांगों को खोले हुए उसकी चूत को देखा तो मन करने लगा कि अभी जाकर चोद दूं इसे लेकिन अभी वो संभव नहीं था. ये पहनूंगा, ये बेल्ट, ये पर्स, ये जूते … सब कुछ मैं ऐसे कर रहा था जैसे मुझे कल ही जाना हो.

गुदगुदी होती है न वहां पर; अभी देखना जब लंड घुसेगा तो और भी मज़ा आएगा. यह बात आज से तीन साल पहले की है जब मैं अपनी परीक्षा देने के लिए भोपाल गया था. ” मैंने उसे कहा।फिर हम चल पड़े।लोग कहते हैं कि जमाना बदल रहा है लड़कियाँ लड़कों से आगे निकल रही हैं.

ब्लू फिल्म हिंदी सेक्सी पिक्चर

हालांकि वो मुझे बार बार रोक रही थी और कह रही थी कि पांवों पर मुंह मत लगाओ उसे पाप लगेगा.

रकुल घूमते हुए अपनी साड़ी से मुक्त हो गयी और संभल न पाने की वजह से पलंग पर गिर गयी. मैंने उसकी आंखों में झांक कर पूछा- दोहरा मजा कैसे आया?वो मेरे इस सवाल से सकपका गया और बोला- मेरा मतलब एक तो झूला का मजा और दूसरा आप चीख रही थीं न … तो मुझे आपकी चीखों से मजा आ रहा था. सर ने मुझे अपने लंड पर बिठा कर मेरी चूत और गांड मारते हुए मुझे पढ़ाया.

’ की मादक ध्वनि निकल पड़ी और वह स्वयं कमर को उछालने का प्रयत्न करने लगी. रमेश सिसकारते हुए बड़बड़ाया- आह्ह साली कुतिया … ओह्ह … यस्स … आह्ह और चुद … पूरी चुद जा साली रंडी … आह्ह … आ रहा हूं मैं।इतनी ही देर में रमेश के लंड से वीर्य की पिचकारी निकलने लगी. एक्सएक्सएक्स स्टोरीफिर वो थोड़ी सी झुकी और उसके मोटे बूब्स की वो घाटी और उसके मस्त मोटे तने हुए निप्पल्स का नज़ारा मुझे दिखाने लगी.

वह मेरा हाथ पकड़ कर अंदर झाड़ियों में ले गई जहाँ ऊपर से तो झाड़ियां दिखती थी पर अंदर एकदम साफ जगह बनी हुई थी।सबसे अच्छी बात यह थी कि बाहर से कोई हमें देख भी नहीं सकता था। झाड़ियों में अंदर नर्म घास भी लगी हुई थी।हम दोनों वहीं बैठ गए. फिर मैंने पूछा- अब आपकी रातें वहां कैसे कट रही हैं?इस पर मामी बोलीं- कैसी रात कटती हैं … तुम सब समझ ही रहे हो … इस तन्हा रात में मैं तुमसे बात कर रही हूँ.

अब उसने धीरे-धीरे मम्मी के बूब्स को दबाने शुरू कर दिया आप वह नाइटी के ऊपर से मम्मी के बूब्स को निचोड़ रहा था और किस किया जा रहा था. शादीशुदा चूत में लंड की कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे पति ने मेरी चुदास जानकर मेरे लिए अपने ऑफिस से दो लड़के मेरी चुदाई के लिए भेज दिए. अब उसने मेरा सिर पकड़ कर अपनी चूत में लगाना चाहा लेकिन मैंने भी पहले से ही इरादा बना रखा था कि मुझे क्या करना है.

वो बोले- तुम बहुत खूबसूरत हो बेटा और तुम मुझे बहुत पसंद आये। मैं साठ साल का हो गया हूं लेकिन अपनी पूरी जिंदगी में तुम जैसा सुंदर लड़का कभी नहीं देखा।मैंने कहा- नहीं अंकल जी, ऐसी तो कोई बात नहीं है. अब उसने अपनी दोनों बांहें मेरी पीठ के पीछे से निकाल कर मेरे सीने पर कस लीं. इस पर मैं बोला कि भाभी मैं पागल हो गया था भाभी, अब मैं कुछ नहीं करूंगा भाभी … बस आप ही मुझे चोदो.

फिर उसने अपनी थॉन्ग चड्डी की डोरी को खींच दिया और उसकी गांड की दरार मुझे दिख गयी.

उन्होंने अपने हाथ से मेरे लंड को अपनी चूत की फांकों के बीच में रखा और मुझे धक्का देने के लिए बोला. पर मैं धीरे धीरे सबकी नज़र बचा के अपने कमरे में जा के सो गयी।उसके बाद मैं बड़ी आसानी से सेमीफ़ाइनल जीत गयी.

जब भी अमित बाहर होता था तो मैं सेक्सी ड्रेस पहन कर अपनी बालकनी या अपने घर की टेरिस पर आ जाती थी. अब मैंने फिर से कॉल डिटेल देखा तो पता चला इसका मोबाइल 25 तारीख से अभी तक रोमिंग में है. पर हमारे पॉइंट बिल्कुल बाहर होने के करीब थे। हालांकि मेरी टीम बहुत मेहनत कर रही थी पर फिर भी पिछड़ती जा रही थी।मैं हर दिन की रिपोर्ट अपने कॉलेज के सर को देती थी।उन्होंने कहा- चाहे कुछ भी हो जाए, कुछ भी करना पड़े.

मारवाड़ी सेक्सी लेडी मेरी तरफ नशे से देखा और बोला- अभी मन नहीं भरा है. मैं भी कार से उतरने लगी, तो अंकुश ने मेरा हाथ दबा कर मुझसे रुकने का इशारा किया. मम्मी ने मामा को काफी समझाया भी था कि जब घर है ही, तो फिर रेंट पर फ्लैट लेने की क्या ज़रूरत है.

देसी बीएफ हिंदी में वीडियो चूंकि मैं एक बार लंड का रस निकाल चुका था, तो मुझे पता था कि मेरा लंड अब देर तक चुदाई करेगा. इतने में मां बोलीं- हर्षद मैं तुम्हें अपना बेटा नहीं बल्कि एक दोस्त मानती हूँ.

बीएफ लाइव न्यूज़ हिंदी

गोरी चूत लाल हो गई और अब प्रतिभा के अकड़ने बड़बड़ाने का वक्त भी आ गया. अजीब सी आडी टेढ़ी हेयर स्टाइल, जैसे अक्सर फिल्मी एक्ट्रेस रखे रहती हैं. बाद में नेहा से पता लगा कि उसने कपड़े तो पहन लिए थे लेकिन चादर नहीं उठाई जिसे उसकी मम्मी ने देख लिया था और वो मुस्करा कर चली गई.

नीचे मिनी स्कर्ट होने के कारण से ये मेरे घुटनों के ऊपर तक ही आ रही थी, जिससे मेरी गोरी गोरी जांघें साफ़ दिख रही थीं. इस पर उन्होंने शरमाते हुए कहा कि मुझे याद नहीं है कि उस रात क्या क्या हुआ था. गुजराती सेक्सी हिंदी मेंवो सहज ही नहीं होगी तो न उसे सेक्स में मज़ा आएगा न ही वो खुश रह पायेगी और न ही सामने वाले का साथ दे पायेगी.

रश्मि ने रमेश के होंठों पर अपने होंठ रख दिये और उसकी लार को खींचते हुए उसके होंठों का रसपान करने लगी.

मैंने अंडरवियर नहीं पहनी थी तो मेरा लंड फुदक कर एकदम से बाहर आ गया और सीधे पूजा की नाक पर जा लगा. मैंने भी अपना पूरा जोर लगा कर एक बार फिर भाभी की चूत को अपने वीर्य से भर दिया.

मेरी सांसें तेज चल रही थी।कुछ ही पल बाद वो बैडरूम में दाखिल हुआ और मेरे बगल आकर लेट गया. भाभी धीरे से मेरे कान में फुसफुसाई- राज, हम यह क्या करने लग गए?मैं चुप रहा. एक पल रुक कर पायल फिर बोली- आप सुंदर हो, बलिष्ठ हो, समझदार हो और धैर्यवान भी हो.

लगता है कि ये शायद अपने बाप का लंड भी जरूर लेती होगी घर में।रमेश ने अब रश्मि के मुंह के सामने अपना लंड कर दिया और रश्मि ने मुंह खोल कर रमेश के लंड को पूरा अंदर ले लिया और चूसने लगी.

थॉमस अपनी पूरी ताकत से मेरे बूब्स मसल रहा था और मेरे निप्पलों को काट रहा था. इस पर उन्होंने शरमाते हुए कहा कि मुझे याद नहीं है कि उस रात क्या क्या हुआ था. अब निकाल लो … प्लीज!”ओहो … बस एक मिनट और रुको … मैं अपने आप बाहर निकाल दूंगा.

पब्लिक स्पीकिंगउन दोस्तों को भी नमस्ते, जिनके गांड प्रेमी लौंडेबाज लंडों की वजह से हमें गांड मरवाने के मौके मिलते हैं और हम मजे से गांड खोले चुपचाप लेटे लेटे लंड के धक्कों का मजा लेते हैं. दो-तीन बार ऊपर नीचे होने के बाद उसने स्पीड बढ़ा दी और डिल्डो को पूरा का पूरा अंदर लेने लगी.

ಸೆಕ್ಸ್ ಫಿಲಂ ಪಿಚ್ಚರ್

जीजू और तेज तेज चोदो प्लीज … आह मेरे राजा … कितना सुख दे रहे हो मुझे … आह. अब बॉस ने मेरी गर्लफ्रेंड का टॉप उतार दिया और ब्रा के ऊपर से ही मम्मों को चूसने लगा. मैं चीखने लगी, मैंने आंटी की भी परवाह नहीं की। मेरी चूत से कामरस की नदी बहने लगी।मुझे झड़ती देख उसने भी अपनी गति दुगुनी कर दी। बीसियों झटकों के बाद वह काम्पने लगा और मेरी नंगी पीठ से चिपक गया और मेरी चूचियों को पकड़ कर दबाने लगा।उसके लण्ड ने मेरी चूत में ही अपना ज्वालामुखी छोड़ दिया। दोनों के कामरस एक होकर मेरी जांघों से होते हुए बहने लगा।मैं बिस्तर पर गिर गयी, वो भी निढाल होकर मेरे ऊपर ही लेटा रहा.

मुझसे रहा नहीं गया तो मैंने उसे अपनी बांहों में भर लिया और उसे चूमने लगा फिर उसका अधर चूसने लगा. तत्पश्चात मैंने निष्ठा को डॉगी स्टाइल में हो जाने को कहा तो वो तुरंत उठ कर घुटनों के बल झुक गयी और अपनी कोहनियां बिस्तर पर टिका कर झुक गयी. जब मैं उसकी चुचियां चूसता, तो वो नीचे से अपनी पीठ उठाकर चुचियां मेरे मुँह और अन्दर धकेल देती.

अपने जवाब और फीडबैक भेजने के लिए आप नीचे दी गयी ईमेल पर अपने मैसेज भेज सकते हैं. कुछ देर बाद मैंने अंकुश से कहा- प्लीज़, अब तुम मुझे फ्लोट करना सिखाओ न. उसके मुँह से एक ही आवाज आ रही थी ‘आआहह … यस्स … आई लवव … इट … किस मी हार्ड!मीता की आंखें आनन्द में बंद हो गई थीं.

आधा लंड अन्दर महसूस करते ही थॉमस ने नीचे से एक धक्का मारा और उसका पूरा लंड मेरी चुत के अन्दर आ गया. वाह क्या चौड़ी छाती, चौड़े कंधे, छाती पर घने काले घुंघराले बाल … और मस्त साढ़े सात इंच लम्बा और सवा दो इंच मोटा कड़क लंड.

रॉबर्ट ने धक्के मारने शुरू कर दिए और मैं चिल्लाने चीखने लगी ‘आह आह सर आह ऊफ्फ.

घर आकर मैं सोचने लगी कि क्या अंकुश सही कह रहा है कि मुझे दूसरी स्विमिंग ड्रेस ले लेनी चाहिए. ಹಾಟ್ ವಿಡಿಯೋಸ್मैंने नीचे से गांड उठाई तो उसने एक करारे धक्के के साथ पूरा लंड चुत में घुसा दिया. आदिवासी सेक्सी हिंदी वीडियोआपको मेरी यह कामुक कहानी कैसी लगी, प्लीज मुझे ईमेल करके जरूर बताएं. डिनर के बाद हम लोग थोड़ा टहलने के लिए घर से बाहर निकल गए और आधा पौन घंटा यूं ही एक दूजे का हाथ पकड़े टहलते रहे.

मेरे पति के न रहते हुए ससुर बहू सेक्स ने ही मेरी चूत की प्यास को शांत किया.

और कुरैशी मेरी बहन के ऊपर लेट के उसके होंठ चूस रहा है।मैंने कहा- लगता है, सब तैयार हैं। देखो अभी सुबह होने में थोड़ा समय है, बाहर चलते हैं, हरी घास में करेंगे. फिर मैंने चुदाई की स्पीड तेज कर दी और लंड को निकाल निकाल कर चूत मारने लगा. मेरी कुंवारी साली निष्ठा उन दिनों अपने ग्रेजुएशन के सेकंड इयर में थी.

बस इसी सोच के चलते लगा कि शाजिया की चुदाई करने का कुछ मौका मिल सकता है. तब अंकुश ने मेरा हाथ पकड़ कर मुझे पानी में उतारा और मुझे पानी में अच्छे से पैर चलना सिखाया, तो मैं पूल की वाल पकड़ कर पैर चलाने लगी. मैंने अपने बेटे से चलने को बोला, तो उसने कहा- आप अकेली चली जाओ मम्मी.

एक्स एक्स बीएफ देसी

कुछ पल बाद आंटी बोलीं- वाह … राज तू तो अब शादी कर ले … तू पूरा चोदू हो गया है. वो जानती सब थी मगर फिर भी अपने पति से पूछ रही थी- कौन है?वो इससे बोले- विशू भैया का फोन है. रवि- आह्ह … फक यू … आह्ह … फाड़ दूंगा तेरी चूत को … ये ले साली रांड … और ले … आह्ह … ऐसे ही चुदती रह मेरे लंड से … तेरी चूत का भोसड़ा कर दूंगा आज मैं … आह्ह ले … और ले साली … रंडी बनने का शौक पूरा कर तू।रमेश- हाय … रंडी … आह्ह … तेरी गांड … आह्ह् क्या गांड है साली … ऐसी गांड को तो मैं दिन रात चोदता रहूं … आह्हह ले ले पूरा लंड … अपनी गांड में साली … आह्ह चुद मेरे लंड से….

फिर उसने मम्मी को सीधा खड़ा किया और मम्मी की चूत फिर से चाटनी शुरू कर दी.

या यूं कह लो कि हम दोनों के कमरों के बीच में एक ही दीवार थी, बस कमरे दो थे.

जिस समय की ये घटना है, उस समय मैं बीएससी के दूसरे साल में थी और मेरा भाई बारहवीं में था. इस समय उसके होंठों पर लिपस्टिक नहीं थी, पर मेरे चूसने से वो लाल हो गई थी. सेक्सी दिखाएं फोटोक्योंकि मैं उनके भरे हुए सुन्दर कड़क लंड का भरपूर मजा लेना चाहती थी.

मेरे पति एक सेल्स एक्सिक्यूटिव हैं तो वे ज्यादातर दूसरे शहरों में दौरे पर ही रहते हैं. सर ने कहा कि अगर मैं आज रात उनकी प्यास को बुझा दूं तो वो मुझे प्रिंसीपल बना देंगे. रश्मि ने हां में अपनी गर्दन हिलाई और रमेश का हाथ उसके टॉप के निचले छोर को पकड़ कर ऊपर उठाने लगा.

जैसे ही उसकी निगाह मुझ पर पड़ी, तो वो बस मेरे मम्मों को देखता ही रह गया. कुछ कहानी पढ़ने के बाद मुझे एक सेक्स कहानी बहुत पसंद आई, जिसमें एक औरत अपने बेटे के दोस्त से सेक्स करवाती है.

आप बोलीं कि हां हां मेरे पागल आशिक … ये तो बहुत बड़ा लौड़ा है … मेरे पति का लंड तो इसके सामने सुई सा है, तुम्हारा तो लोहे की सब्बल है … मेरे लौड़े.

सनम ने मेरी निक्कर भी उतार दी और मुझे भी पूरी तरीके से नंगी कर दिया. गीली जीभ पूरी निकाल कर मैं नीचे से उसकी नर्म मुलायम चूची को चाटता, तो मीता मचल जाती. मैं अपना मुँह ऊपर उठाकर बोला- क्या हुआ अदिति … तुम्हारी आंखों में आंसू कैसे हैं?मां बोलीं- मुझे दर्द हो रहा है हर्षद … मैं पहली बार इतना बड़ा लंड मेरी चुत में ले रही हूँ ना … इसलिए.

बंगाली सेक्सी वीडियो चलने वाली मैंने उसके एक निप्पल को जोर से पकड़ कर ऊपर की ओर खींचा, जिससे उसने दर्द भरी ‘आआह. फिर वो मेरी चूत को जीभ से चोदने लगा … जो मेरे लिए ऐसे परम आनन्द की अनुभूति थी … जिसे मैं शब्दों में बयान नहीं कर सकती.

अब आगे:उसने मुझे देख कर नमस्ते किया और बोला- अरे आंटी, आप यहां कैसे?मैंने बोला कि मैं घूमने आई थी. रमेश ने रीता के बाल पकड़ कर उसके मुंह को लंड से अलग कर दिया और उठ कर अपने सारे कपड़े खोल कर उतार फेंके. चारों ही राउंड में अलग अलग पोजीशन में चुदाई हुई थी इसलिए नेहा का बदन बुरी तरह से टूट गया था.

इंग्लिश वीडियो नंगी फिल्म

चाय पीकर जब मैं जाने लगा तो सरोज कहने लगी- राज, आज खाना यहीं खा लो. अब धीरे-धीरे मम्मी को भी मज़ा आना शुरू हो गया था क्योंकि मम्मी ने भी बहुत दिन से लंड नहीं लिया था. लेकिन जैसे राजू पर तो कोई असर पड़ ही नहीं रहा था, वह जोर-जोर से उसके मुंह में झटके देने लगा.

हम दो मिनट तक थोड़ा और ज्यादा चले ही होंगे कि अनिकेत ने गाड़ी रोक दी. कोई प्रेम से चुदवा रही है, कोई जिगोलो समझकर, तो कहीं किस्मत से चुदाई नसीब हो रही है.

अगले ही पल उसने एक जोर का झटका मार दिया और इस बार उसका आधा लंड मेरी चूत की गुफा में प्रवेश कर गया.

सामने लेट्रिन बाथरूम बने थे और पानी का एक मटका व कुछ बाल्टियां रखी थीं. सभी छात्र अपने कक्ष में चले गए और हम तीनों लड़कियों को प्रिंसीपल सर के ऑफिस में बुला लिया गया. उसने फिर किचन की तरफ देखते हुए धीरे से कहा- कोई बात नहीं, कभी मौका मिला तो थैंक्यू को ‘गीला’ भी कर देंगे.

अगर किसी पारखी लौंडेबाज की नजर पड़ गई, तो लौंडा गांड मराने का हुनर सीख ही गया समझो. मेरी प्यारी भाभी जी हैं ही इतनी अच्छी।तो आज मैं भैया भाभी की हनीमून की घटना बताने जा रहा हूँ जो खुद मुझे भाभी ने ही बतायी थी।दोस्तो, वैसे शादी के बाद सुहागरात और फिर हनीमून का मज़ा ही कुछ और है. अब राजू भी मस्ती में आ गया, उसने मुझे जोर जोर से किस करना शुरू कर दिया.

फिर कुछ देर बाद अंकुश ने मेरी टांगों को फैलाते हुए अपने कंधे के ऊपर रख लिया.

देसी बीएफ हिंदी में वीडियो: बिन्दू कहने लगी- लेकिन आपका तो बहुत बड़ा है, इस छोटे से छेद में कैसे जाएगा?मैंने कहा- बुर का छेद दिखने में छोटा होता है लेकिन जब लड़की कामवासना से भर जाती है तो बुर में अपने आप लचीलापन आ जाता है. तब भी मैंने मुँह बनाते हुए कहा- क्या यार … मुझे आज तुम्हारे जिस्म पर खाना रख कर चाट चाट कर खाना था और तुम वहां जाने की बात कर रही हो.

सबसे पहले मैं वॉशरूम में गया और अपनी झांट के बालों की शेविंग की और मामी के नाम की एक मुठ भी वहां मारी. नेहा दोबारा से गर्म हो गयी और रॉन ने अपना लंड उसके मुंह में दे दिया और चुसवाने लगा. उसके चेहरे को पकड़ कर उसके होंठों पर अपने होंठ रखने ही वाला था कि उसके केबिन का दरवाजा नॉक हुआ.

उसकी चूत से रस का रिसाव लगातार हो रहा था जिससे चुदाई में फच फच की ध्वनि आने लगी थी.

वीना और श्लोक की मस्त चुदाई के बारे में आगे जानने के लिए कहानी का अंतिम भाग जल्द ही आपके सामने होगा. जैसे ही मेरा हाथ भाभी के हाथ से छूता था तो मेरे सारे शरीर में सिरहन सी दौड़ जाती थी. फिर मैं घुटनों के बल चलती हुई उसके लन्ड के पास आई और बगल में रखा हुआ साबुन लेकर उसके लन्ड पर रगड़ने लगी.