हिंदी वाला सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,गर्ल्स मेकअप

तस्वीर का शीर्षक ,

नंगी फिल्म हिंदी वीडियो: हिंदी वाला सेक्सी बीएफ, यामिना की चूत की बनावट इतनी सॉलिड थी कि दोनों फाँके, क्लिटोरियस और छेद बिल्कुल सुडौल, गोरे और सुंदर बनावट लिए थे.

सेक्स की दुनिया

इस पर उस लड़की ने कहा- क्यों तुम अकेले नहीं आ सकते?तो मैंने कहा- सॉरी मैडम, आप किसी और को अपने साथ ले जाइए, हम दोनों साथ में ही जाएंगे. आंटी सेक्सी फोटोपल्लवी- हां यार, तू सच बोल रही है तन्वी … साली ये भी कोई जिंदगी है, घर से कॉलेज और कॉलेज से घर … बोर हो गई थी मैं तो.

हम दोनों में से कोई भी इस चुम्बन को तोड़ना नहीं चाह रहा था खासकर रूपाली तो बिलकुल भी नहीं।इसलिये मैंने ही आगे बढ़ने की सोची और रूपाली की मैक्सी को अपनी मुट्ठियों में भरकर ऊपर सरकाते हुए उसके बदन से अलग करने लगा।रूपाली ने भी मेरी मदद करते हुए अपने दोनों हाथों को असमान की ओर समान्तर उठा लिया और मैंने उसकी मैक्सी को उसके हाथों से निकाल कर उससे अलग कर दिया. हिंदी में ब्लू फिल्म भेजोअन्दर जाते ही पापा मुझे बोले- जया कॉलेज जाकर तुम ये काम कर रही हो? तुमने तो मेरी पूरी इज्जत मिट्टी में मिला दी है.

भाभी ने लंड का स्वागत करते हुए कहा- अब तो डाल दो … बहुत शरारती हो आप!मैंने थूक से सना लंड चुत पर रख कर घिसा और उनकी चुत पर उनका ही थूक लगा दिया.हिंदी वाला सेक्सी बीएफ: दोस्तो, आपको मेरी चुदाई की स्टोरी हिंदी में कैसी लगी मुझे कॉमेंट में जरूर बताइगा.

लिली ने भी मेरे पेग से सिप किया और बोली- ये लो आज से दोस्ती पक्की!तभी लिली किचन में से कुछ स्नैक्स लेने के लिए उठी तो वह डगमगा गई.जवान तीन परियां आत्मतृप्त होकर मुस्कान बिखेरते हुए अपनी चुत सहला रही थीं.

হিন্দি সেক্সি বিএফ - हिंदी वाला सेक्सी बीएफ

जब तक भाभी का गिलास खाली न हो गया, तब तक मैं उनकी चुचियों को बारी बारी से चूसता रहा.अगर अब मैं कुछ गलत करती और ये बात किसी को पता चल जाती या निखिल को पता चल जाता तो आप समझ सकते हैं कि एक जवान बेटे पर क्या गुजरेगी.

लेकिन फिर भी मेरे अंदर एक झिझक बनी हुई थी कि कहीं चाची मुझसे बेटे वाला प्यार तो नहीं निभा रही है?लेकिन मुझे यह बाद में समझ आया कि चाची भी एकदम खुलने में झिझक रही थी और वह नीचे लौड़े पर हाथ मार कर यह पक्का कर लेना चाहती थी कि मेरे ऊपर सेक्स का कोई असर है या मैं भी बेटा ही बना हुआ था. हिंदी वाला सेक्सी बीएफ उसकी पैंटी को थोड़ा हटाया और उसके चूतड़ पर इंजेक्शन देने ही वाला था कि पायल मेरे करीब आ गयी और उसने मेरे कंधे पर हाथ रखते हुए अपने चूचे मेरे कंधे से सटा दिये.

मैंने अपना एक हाथ चाची की कमर में डाल लिया, कमर पर हाथ लगते ही चाची मजे से एकदम टेढ़ी मेढ़ी होकर अपनी कमर को झटके देने लगी.

हिंदी वाला सेक्सी बीएफ?

जहाँ एक हाथ उसके सिर के पीछे था, वहीं दूसरा हाथ उसके स्तनों को मसल रहा था।हम दोनों की गर्म सांसें एक दूसरे को और ज्यादा गर्म कर रही थीं. उनके हाथ शिथिल से पड़ गए थे और उनके मुँह से सिर्फ ‘हूँ-हूँ …’ की आवाज़ ही आ रही थी. मैं माफी चाहता हूं कि समय न मिलने की वजह से मैं अपनी कहानी जल्दी नहीं पेश कर सका.

शायरा मेरे गले लग कर खुद के दर्द को हल्का करना चाहती थी, इसलिए मैंने भी उसको सहारा दिया. आज रात को हमें आपस में मिलने से कोई नहीं रोक सकता था क्योंकि घर पर हम दो ही थे. मैं आशा करता हूँ कि आपको मेरी पिछली कहानीकॉलेज की लड़की की पहली चुदाईपसंद आई होगी.

वे इतनी जोर जोर से मेरे मुंह को चोद रहे थे कि मेरी आंखों से आंसू आ गए. क्यूंकि मेरी टॉप में से मेरे बूब्स के निप्पल साफ़ साफ़ दिखाई दे रहे थे. मुझे पता था कि मेरा ऑफिस रोहन के ऑफिस के रास्ते में आता था और वो बाइक पर ऑफिस जाता था.

मैंने पूछा- ऐसा क्या आईडिया दिया है?मयंक ने बताया कि वह लड़का एक मेल एस्कॉर्ट के लिए काम करता है, जिसमें बड़े घर की औरतों, भाभियों और लड़कियों को चोदकर खुश करना होता है. कैसे?हैलो हैंडसम बॉयज और सेक्सी गर्ल्स!मैं आपके साथ अपना एक ताज़ा सेक्स एक्सपीरियंस शेयर करना चाहता हूं जिससे मेरी सेक्स इच्छाओं को पूरा करने में मदद मिली जबकि मेरी कोई गर्लफ्रेंड भी नहीं है.

तेजी से लंड पर हाथ चलाते हुए फिर मेरी चरम सीमा आ गयी और मैंने अपने लंड का माल झाड़ दिया.

फिर उसने वह जगह बताई, जहां हम दोनों को रात को 9:00 बजे के बाद जाना था.

पर अभी मेरी इच्छा चुत मारने की ही थी … तो मैंने चुत पर लंड एक बार में ही अन्दर डाल दिया. लम्बाई लगभग 5 फुट 3 इंच, रंग तो दूध जैसा गोरा था ही!शरीर भरने से चाची की चूचियों का साइज भी 34 से ऊपर और गांड तथा चूतड़ों का साइज 36 हो गया था. कुछ ही देर में यामिना इतनी उत्तेजित हो गई कि वह धड़ाम से मेरे ऊपर लेट गई और बोली- सर, अब आप मेरे ऊपर चढ़ो नहीं तो मैं ऐसे ही डिस्चार्ज हो जाऊँगी.

मैं- अरे इधर किधर … कॉलेज बाहर ले जा रही है?सीमा- आज कॉलेज नहीं जाना. मुझसे रहा नहीं जा रहा था तो मैं भाभी के ऊपर चढ़ गया और उनके बोबों को जोर जोर से निचोड़ने लगा और पीने लगा. हम दोनों शांत होकर उसी गद्दे पर लेट गए।तभी अचानक खखारने की आवाज आई और बाहर से सुनाई दिया- काम निपट गया हो तो मैं अंदर आऊं?आवाज सुनकर हम दोनों ने दरवाजे की तरफ देखा तो वहां शशि खड़ी थी.

मैं आपको बता दूँ कि इसके ब्वॉयफ्रेंड ने ही इसकी सील तोड़ी थी और आज भी मैंने इसको चुदने के लिए अच्छे से तैयार किया है.

अन्दर मेरी दीदी एकदम नंगी होने लगी थीं और कपड़े उतारते समय बड़ी मस्त माल लग रही थीं. लिली वाशरूम के बहाने से अपने बेडरूम में गई तो मैं भी पीछे पीछे चला गया और जैसे ही वह वाशरूम से निकली मैंने उसे फिर पकड़ लिया. मैंने यामिना की जांघों को फैलाया और उसकी चूत में लण्ड को चलाने लगा.

उसके आने के बाद मैंने पूछा- डील का क्या रहा? फाइनल हुई या नहीं?वो बोली- हां, हो गयी. किस्मत ने मौका दिया था, तो आज कुछ भी करके मुझे वैशाली दीदी की चुत का गेम बजाना ही था. अब आगे भाभी की नंगी चुदाई:मैंने मोना भाभी को कसके अपनी बांहों में भर लिया और अपने दोनों हाथों को पीछे उनकी नंगी पीठ को सहलाने लगा.

शाम को कमोवेश यही होता है बस उस समय मॉम भी दीदी के साथ काम करती हैं.

पापा मम्मी की बात सुनकर मैं डर गया कि अब मुझे अलग कमरे में सोना पड़ेगा और मॉम डैड सेक्स देखने को नहीं मिलेगा. फिर मैं उस नंगी कमर को चूमता हुआ उसके कुर्ते को और ऊपर उठाता गया।जैसे जैसे मैं कुर्ता उठाता गया, वैसे वैसे मैं उसके नंगे बदन को चूमता भी गया।ऐसे ही चूमते हुये मैंने उसका कुर्ता गले तक ऊपर उठा लिया। उसने ब्रा नहीं पहनी थी इसलिये उसकी चूचियाँ बिल्कुल नंगी थी.

हिंदी वाला सेक्सी बीएफ लेकिन इस बार उसकी मिठास ही कुछ अलग थी।वह मुझे पीछे से चोद रहा था और मेरी दर्द और आनन्द मिश्रित सिसकारियां निकल रही थी।मेरी आवाज कमरे की दीवार से टकराकर मेरे कानों तक वापस आ रही थी. लेटते ही चाची ने मेरी तरफ करवट ली और मुझ पर चादर डाल ली और झुककर अपने होठों को मेरे होठों से मिला दिया.

हिंदी वाला सेक्सी बीएफ मैंने कहा- मुझे नहीं पता, बस तुम रात को कुछ भी करके मेरे कमरे में आ जाना. हम तीनों अपने-अपने पैग हाथों में लेकर सिप सिप कर पीने लगे और करने लगे.

मैंने उससे प्यार से बोला- तेरी चुत को मैं फिर से चाट लेता हूँ … ताकि थोड़ी राहत मिल जाए.

सेक्सी वीडियो देहाती सुहागरात वाला

दोस्तो, ये थी मेरी जीजा साली Xxx कहानी, आपको कैसी लगी … ज़रूर बताएं. नेहा नाईट पेंट के ऊपर से स्नेहा की बुर सहलाते हुए बोली- चल ठीक है, मैं तुझे संध्या चाची और राजू चाचू की चुदाई सुनाती हूँ. फ़लक मुस्कराते हुए बोली- सर, आज तो बुरी तरह से दुख रही है, लगता है चूत सूज गई है, कल कर लेना?हम वाशरूम के शीशे के सामने खड़े थे.

मैं उसे फोन पर ही ज्ञान बांटता रहता था और उसको अपनी ओर खींचने की कोशिश करता. पांच मिनट बाद मैं पापा से अलग हो गई और फटाफट अपने पूरे कपड़े उतार कर नंगी हो गई. मुझे बहुत मजा आने लगा तो मैंने भी अलवीना को पकड़ कर उसकी धकापेल चुदाई चालू कर दी.

अगर आप भी कुछ उत्तेजक, कामुक और निजी पल दिल्ली की इस हसीना तान्या (फोटो ऊपर दी गयी है) के साथ बिताना चाहते हैं तो उसकी प्रोफाइल चेक करने के लियेयहां क्लिक करें.

मैंने उन्हें चूम लिया और पूछा कि कभी मधुसूदन आंटी के फ्लैट में आपने रात भी गुजारी है. एक दिन मेरी बीवी ने मुझे बताया कि उसके बॉस की एक डील फाइनल होने वाली है और विदेश से कुछ लोग मीटिंग के लिए आने वाले हैं. वो बीस इक्कीस का होगा, गेंहुआ चिकना स्लिम होने से जरा लम्बा सा दिखता था.

उसकी यह हरकत देखकर मैं भी मस्ती से उसकी चूत को जगह जगह से चूसने लगा. चूंकि मेरे घरवाले मुझे अकेला नहीं छोड़ सकते थे तो उन्होंने मुझे ताऊजी के यहां छोड़ने का फैसला किया. उसने मेरे पूरे चेहरे को चूम चूमकर गीला कर दिया और मेरे होंठों का तो बुरा हाल कर दिया था.

तब मैंने उसको वो झूठी समस्याएं बताईं जो मेरे कंप्यूटर में थी ही नहीं।चूंकि मुझे पसीना आया हुआ था तो वो मेरे गोल गोल चूचों की बाहरी लाइन और जाहिर हो रहे चूचकों को घूर रहा था।‘तुम इसको देख लो, तब तक मैं नहाकर आती हूं. अगर मुझे खाली समय मिलता है, तो मैं फेसबुक पर दोस्तों के साथ चैट करता हूं.

शीशे पर अपनी पीठ टिकाए सोनम अपने दोनों हाथों से खुद को संभालने की भरसक कोशिश कर ही रही थी. फ़लक- और करना है?मैं- यदि तुम्हारा भी दिल कर रहा हो तो जाने से पहले एक ट्रिप और लगा लेते हैं, फिर तुमने मेरा थैंक्स भी तो करना है. उनमें भरा गाढ़ा सफ़ेद रस उबलकर लावा बनकर सोनम पर बरसने तैयार हो रहा था.

जब जाकर लंड में मुझे कुछ ठंडा लगने लगा, लेकिन दर्द तो अभी भी था … जिसे मैं तो क्या किसी के लिए भी सहन कर पाना बहुत मुश्किल था.

यामिना की बड़ी बड़ी सॉलिड चूचियाँ मेरी दोनों जाँघों में टिकी गई और मेरा लण्ड उसकी ठोड़ी के नीचे लग गया. बातों बातों में उसने मुझसे पूछा कि तेरी फ्रेंड है?मैंने कहा- कोई नहीं है. कमरे में जवान जिस्मों की चुदाई पार्टी अपने पूरे शवाब पर थी, जहां उन्नीस साल की रंजू, बाईस साल की अनु दीदी और रीना दीदी तीन परियां नंगी चुदवाने को राज़ी थीं.

कुछ देर के बाद उसका कॉल आया और उसने सॉरी बोलते हुए कहा- थैंक्स यार, तुमने पब्लिक प्लेस में मुझे रोका. मैंने पहले तो उनके गालों को चूमा, फिर दोनों‌ हाथों से उनकी चूचियों को मसलना शुरू कर दिया.

पूनम बुआ ने मेरे को वो सुख दिया था, जो कोई और आज तक नहीं दे सकी थी. दोस्तो, पारवारिक रिश्तों में चुदाई की कहानी में फिलहाल विराम ले रहा हूँ. चाची के नाइटी में से उभरे हुए चूतड़ और उनकी सुडौल चूचियां मुझे सोने नहीं दे रही थी.

सेक्सी फिल्म हिंदी में भोजपुरी में

लण्ड अन्दर डालकर मैंने अपनी हरकत रोक दी तो आँटी बोली- ओह … करो … जोर जोर से करो!मैंने चुदाई शुरू की आँटी- हाँ मेरे राजा, चोदो जोर जोर से … फाड़ दो मेरी फुद्दी को! बहुत दिनों से प्यासी थी … आह … मेरे राजा … आज तो मुझे खजाना मिल गया है … करो … जोर लगाओ!मुझे अपने लण्ड के ऊपर चूत की गर्मी का इतना अहसास हो रहा था कि लण्ड पर पूरी सेक लग रही थी.

मैं- तो आपने इतने दिन इंतजार क्यों किया?भाभी- मैं आना तो चाहती थी लेकिन आ ही नहीं पायी … सॉरी. मैंने कहा- अपने पैरों को ढीला छोड़ो!वह आखे बंद किए हुए ही बोली- मुझे शर्म आ रही है।मैंने कहा शर्माओ नहीं. मेरा लंड भी और जोश में आ गया था और चाची की चुत में घुसने की कोशिश करने लगा.

अपनी हार क़ुबूल करते हुए उसने अपना बदन उस चपरासी मानस के हवाले कर दिया और वो बेजान उस वाशबेसिन पर पड़ी रही. अब वापस कमरे में आकर मैंने तेल को उसकी पीठ पर और नितम्बों पर एक धार से डाल दिया और हल्के हाथों से ऊपर से नीचे तक मालिश करने लगा. সেক্সি বৌদি বিএফनिखिल मुझसे अलग होकर कमरे से निकल गया और थोड़ी देर बाद ही उसकी आवाज आई- जल्दी चलो, बरसात बंद हो गयी है.

आम तौर पर कोई भी लड़की अपने वर्क स्पेस में इस तरह इतनी जल्दी पीने के लिए नहीं मानती. फिर हाथ में लंड लेकर बोले- मोटा भी बहुत है … मेर जैसा ही है … वाह मेरे शेर.

मैं आती भी कैसे नहीं … मेरी चुत में लगातार 20 मिनट से जो प्रहार हो रहे थे. वहीं ज्योति ने ब्लैक जींस के साथ व्हाइट स्लीवलैस टी-शर्ट, खुले बाल … सिर पर गॉगल्स पहने थे. फिर मैंने डिल्डो पर थोड़ा सा थूक लगाया और उनकी गांड पर भी लगा दिया.

लेकिन उसके गांव जाने के एक दिन बाद ही पूरे देशभर में लॉकडाउन लगा दिया गया. मैंने फिर एक बार फिर से मुठ मारी और अपनी चड्डी बनियान उतार कर मम्मी के पास नंगा ही लेट गया. उनकी रसोई इधर से ही दिखती थी, तो मैं पीछे से उनके कमनीय बदन को निहारने लगा.

अब उसने झटके देना शुरू कर दिए और मैं भी अपनी गांड पीछे को हिलाते हुए उसका साथ दे रहा था.

अब आगे नंगी भाभी सेक्स स्टोरी:आज मुझे भाभी ने फिर से प्रीत भाभी की याद दिला दी थी. वो भी मेरी इस हरकत को जब तक समझ पाता, तब तक मैंने उसे अपनी गोदी में खींच लिया.

मैंने फिर से उसकी चूचियों पर हाथ फिराना शुरू किया तो फ़लक भी मेरे लौड़े को हाथ में पकड़कर सहलाने लगी. हनीमून सेक्स स्टोरी कैसी लगी?[emailprotected]इस कहानी को यहीं पर समाप्त किया जा रहा है. पल्लवी- नहीं … मैं और भाई अभी कहीं भी नहीं जा सकते, तुम लोग घूम आओ.

अनु दीदी किसी अप्सरा सी लगती थीं, सुंदरता में रंजू और रीना दीदी भी कम नहीं थीं. फिर भाभी जी ने मेरा हाथ पकड़ा और मुझ अंधे बने आरूष को कहीं लेकर गईं. और भाभी के ज़ोर ज़ोर से चूसने से मेरे लंड का पानी भी भाभी के मुँह में ही निकल गया.

हिंदी वाला सेक्सी बीएफ मैंने पहले अपना नंबर सेव करके उनका नंबर लेने के लिए हाय का मैसेज कर दिया. मगर जब उसके शौहर का फोन आया तो उसने कह दिया कि वो अपनी सहेली के साथ है और वो खुद ही घर आ जायेगी.

देसी वीडियो सेक्सी मारवाड़ी

तभी भाभी बोलीं- आप तो बहुत शातिर खिलाड़ी निकले … मज़ा आ रहा है आह … आह … कितना अन्दर तक कर रहे हो. लेकिन मैंने उसे कंधे से दबाकर अपने लंड की तरफ खींच लिया जिससे मेरा लंड सीधे उसके बच्चेदानी के अंतिम छोर से जाकर टकराया. इसलिए साक्षी के घरवाले भी औकात से बाहर जाकर उनकी खातिरदारी करने में लगे हुए थे.

गांव के बाहर तक चिपकी रहती, जैसे ही गांव के अन्दर आते, एकदम से संभल कर बैठ जाती. वो पिंकी भाभी को जमकर चोद रहा था वो आहह आहह आहह करके मस्ती में चुदवा रही थी।राशि दीदी ने लंड को तैयार कर दिया और लेट गई. सेक्सी बफ अंग्रेजीएक हाथ से उसके बाल खींच कर दूसरे हाथ से उसने अपना लौड़ा सोनम की गोरी गांड के छेद पर रख दिया.

करीब 15 मिनट बाद हम दोनों अलग हुए और मैंने भाभी के मम्मों को दबाना शुरू कर दिया.

निर्मला जी ने इस हरकत के शुरू होते ही तुरंत अपने दोनों हाथों से मेज़ का कोना पकड़ लिया और गहरी गहरी सांस लेने लगीं- आह और तेज़ अमित … उम्महहह … आअह्ह्ह … करते जा भैनचोद … आह बहुत मज़ा आ रहा है. चूचों के नीचे उनकी पतली कमर और उसके नीचे गोल गोल मांसल चूतड़ों के साथ उनकी 34-30-36 की काया ने कमरे में वासना के उफनते दरिया को और अधिक आंदोलित कर दिया था.

दो मिनट बाद वो भाभी जी एक मेडिसिन बॉक्स लेकर आईं और उसमें से कोई क्रीम निकाल कर उन्होंने मेरे पूरे लंड पर लगा दी. उसको पकड़ कर मैंने ज़ोर से धक्के मारने शुरू किये।हमारी चुदाई की आवाज़ें कमरे में गूँज रही थी।मैंने उसकी गांड पर थप्पड़ मारते हुए उसको चोदा. इससे निर्मला जी की चुत ने फिर पानी छोड़ दिया और उनके इस बार के स्खलन में मैं भी उनकी चुत में ही झड़ गया.

तब शशि ने बात को संभालते हुए कहा- कोई बात नहीं साली भी तो आधी घरवाली होती है।अपने साथ लाए हुए दूध को हमें पकड़ाते हुए वो बोली- बहुत मेहनत की है.

उसने मुझे घर में लेते ही दरवाजा बंद कर दिया और हम दोनों एक दूसरे से लिपट कर चूमाचाटी करने लगे. एक बात और भी बता दूँ कि चमेली की बड़ी बहन आशा को भी मैंने ही चोद कर तैयार किया था. नीमून पर ही रेणु को पता चल गया था कि शेखर कितना कामुक और सेक्स के मामले में बेशर्म मर्द है.

सनी लिओन सेक्सस्नेहा का अब जाकर ध्यान गया कि रात को चूत में उंगली करने के बाद वो नंगी ही सो गई थी. उसके बाद मैंने उसके ऊपर के कपड़ों को निकाला और उसके बूब्स को दबाने लगा।अब वह सिसकारियां निकालने लगी.

सेक्सी वीडियो एचडी प्रियंका चोपड़ा

उधर भाभी के परिवार में एक बेटा, एक बेटी, मगर लॉकडाउन में पति शहर में फंस गए हैं. किंजल अपनी पूरी कमर उठा कर मेरे मुँह पर चूत रगड़ने लगी और अगले ही पल उसने अपनी चुत का पानी छोड़ दिया और मेरे मुँह में ही अपनी चुत का नमकीन रस भरने लगी. मैं उस सामान के बीच में से जैसे तैसे बचता हुआ अपने दरवाजे तक आया और चाबी से दरवाजा खोल कर अन्दर आ गया.

वाशबेसिन पर लगे नल को चालू करके उसने उस वाशबेसिन को उसमें लगे हुए ढक्कन से बंद कर दिया ताकि पानी उस वाशबेसिन में जमा हो सके. डॉक्टर ने पूछा- तो मधुजी जांच कैसी रही … कोई कमी तो नहीं रही ना?मैं बोली- जी, सब ठीक था. मैंने उसको कुछ लिफ्ट देते हुए कहा- देखो, जो तुम देख रहे हो, वो अगर किसी मैडम के हैं, तो तुम कुछ नहीं कर पाओगे और अगर रूपा के देख रहे हो, तो कोशिश करो … शायद अच्छी तरह से देखने के लिए सफलता भी मिल जाए.

सुबह मेरी आंख पांच बजे खुली तो मैं उल्टी करवट लेटी थी और पीछे से मेरी नाइटी कमर तक उठ गयी थी जिसकी वजह से मेरी 40 की गांड पूरी नंगी थी।मैं जल्दी से उठी तो देखा समीर अपने बिस्तर पर नहीं था तो मैं समझ गयी कि आज लड़के ने सुबह सुबह अपनी मालकिन की नंगी गांड का दर्शन कर लिया है।अब मैं भी उठी तो देखा वो झाड़ू लगा रहा था. अब मैं मार्केट में जाता, तो कॉल करके बोलती- जल्दी आओ, मुझे खुजली हो रही है. हम सभी के पड़ोस में कोई न कोई भाभी तो जरूर ही होती है, लेकिन उनमें से कुछ ही भाभी ऐसी होती हैं, जिनके साथ हम कुछ भी शेयर कर सकते हैं.

मैं थोड़ा ऊपर उठा तो चाची ने झट से मुझे नीचे झुका कर धीरे से फुसफुसा कर कहा- ऊपर मत उठो और जल्दी से मेरे साथ लेट जाओ. वे बोले- मुझे पता नहीं था कि तू इतनी जल्दी मुझसे चुदने को मान जाएगी.

मैंने अपनी पैंटी निकाल दी और वैसे ही बिना पैंटी के एक प्लाजो पहना लिया.

अगर मैंने दारू न पी होती, तो शायद कब का निधि की चुत में झड़ चुका होता. बिग अस्स सेक्सअचानक से चाची ने लंड पर अपने होंठ रख दिए और लंड के टोपे को मीठी टॉफी की तरह चूसने लगीं. चुदाई वाली सेक्सी फिल्ममयंक ने कहा- संगीता जी कोई बात नहीं … आप आराम से आर्यन के साथ अपने पल इंजॉय करो. मुझे यह देख कर मैं फिर उत्तेजित हो गया और फिर से लंड की मुट्ठ मार दी.

कुछ देर बाद वो मुझे चूमते हुए बोली- सच में आज मेरा सपना पूरा हो गया.

उसी वजह से मेरे मां, पापा के साथ रह गईं … और मनीष भी उसके गांव में ही फंस कर रह गया. चुदाई या सेक्स क्या होता है, कैसे होता है … शुरुआत में मुझे इसका जरा सा भी अंदाजा नहीं था. तभी भाभी ने मेरा लण्ड पकड़ कर उसके मुंह में डाल दिया और वह बड़े प्यार से मेरा लन्ड अपने गले तक उतारने लगी.

मैं- क्या फंतासी है?वो- यहां पर नहीं, सर आप अपना मोबाइल नम्बर दो, फिर कॉल पर बात करते हैं. मैंने भाभी की चूत पर लंड रखा और एक जोर के धक्के में आधे से ज्यादा लंड पेला तो उसकी चूत कांप उठी. सेक्स कैसे शुरू हुआ?दोस्तो, मैं अमित आपको अपनी मकानमालक की जवान और हॉट माल जैसी दिखने वाली सेक्सी बीवी की चुदाई की कहानी में सुना रहा था.

भाभी और देवर की सेक्सी वीडियो में

मैंने पूछा- आधी रात को भी क्या कोई सेवा होती है?उसने हंस कर कहा- जी, असली सेवा तो तभी शुरू होती है. मैं करीब ऐसे ही 2 घंटे तक चुदती रही और मेरी पूरी जान निकल गई।फिर सब ने कपड़े पहने। जब मैं पहनने लगी तो एक ने मेरी ब्रा और एक ने पैंटी रख ली और उसे सूंघने लगे।मैंने मजबूरी में जींस और शर्ट पहनी जिसकी वजह मेरे बूब्स बहुत हिल रहे थे. ये कहते हुए मोना भाभी मेरे बालों को अपने दोनों हाथों को सहला रही थीं.

क्या आप मेरे साथ बाइक पर चलना पसंद करोगी?वो बोली- हां, मुझे कोई परेशानी नहीं है.

अब सोचो चूत में उंगली, चूत के दाने पर अंगूठे की रगड़न के साथ बोबे का चूसन और मर्दन … किस औरत को भला मजा नहीं आएगा.

भले ही सोनम के मुँह में अंडरवियर दबी थी, पर फिर भी उसके मुँह से दबी दबी सिसकारियां बाहर निकल रही थीं. निखिल ने अपने हाथों से मेरी साड़ी और पेटीकोट को कमर तक उठा दिया था और हाथों से मेरी चुत को स्पर्श करने लगा था. क्सक्सक्स हांड़ीमेरी और दीदी के बीच बहन भाई के रिश्ते के साथ साथ एक दोस्ताना रिश्ता भी था, जिसके चलते हम दोनों आपस में हर तरह की बात कर लेते थे.

लिली कटे पेड़ की तरह मेरी छाती से लग गई और बोली- मैं बहुत अकेली और प्यासी हूँ, मुझे अपने गले से क्यों नहीं लगा लेते?मैंने लिली को सीधा किया और बाहों में भर कर अपनी छाती से चिपका लिया. थोड़ी ही देर में उन्होंने मेरे कंधे को पकड़ कर सीधा लिटा दिया और मुझे किस करने लगे. मैंने पापा से पूछा- आपके पास इतने पैसे किधर से आए? आपकी तनख्वाह तो इतनी है नहीं कि आप कॉल गर्ल पर इतने पैसे खर्च कर सको!पापा- मैंने अपने बैंक में कुछ पैसे जमा कर रखे थे, उसी में से तेरे लिए निकाले थे.

ममता जी भी एक बार तो थोड़ा सा कराहीं, मगर वो भी तो पूरे जोश में थीं इसलिए अब उन्होंने भी अपने दोनों पैरों को मेरी जांघों में फंसा लिए थे और नीचे से अपने‌ कूल्हों को जोरों से उचका उचका कर लंड को धक्के देने लगीं. फिर मेरा लंड भी चाची की गीली चूत की गर्मी और चिकनाई को ज्यादा देर तक बर्दाश्त नहीं कर सका और लावा छोड़ने के लिए तैयार हो गया.

अब डॉक्टर हंसते हुए बोला- अगर तुझे नहीं चोद पाया … तो मैं बर्बाद हो जाऊंगा.

जब मैं घर आया तो मेरी मम्मी ने मुझसे कहा- तेरी बगल वाली भाभी आई थी, वो टैब का कुछ पूछ रही थी. अब हो ये रहा था कि मोना भाभी के कपड़े जो मैंने और भाभी ने पकड़ रखे थे वो कभी भाभी खींच रही थीं, तो कभी मैं अपनी तरफ खींचता. कभी वो जोर से मेरी कमर को खींच कर मुझे अपनी चूचियों से रगड़ देती, तो कभी गांड उठा कर स्पीड बढ़ा देती.

सेक्सी चुदाई भोजपुरी अब क्या चाहिए?इतने में वो बोला- मुझे तो तुम्हारी गान्ड मारनी है।इतना सुनते ही मैं गुस्से में बोली- अपनी हद में रहो! और जल्दी करो. डॉक्टर बोला- तो बताओ अब क्या करें?मैं बोली- तुम जाकर मेरे पति को संभालो.

इन बातों से मेरा ध्यान चुदाई से हट गया था इसलिए लण्ड थोड़ा सुस्त हो गया, और मूड भी चेंज हो गया. अब उसे मजा आने लगा था और वो अपनी गांड उठा कर मेरे लंड के झटकों का जवाब देने लगी थी. वो दोनों सनी के साथ इतनी गंदी गंदी बातें करते थे कि ना मैं बता नहीं सकती.

xxx हिंदी सेक्सी कहानी

मैंने सामने से पूछ लिया- वहां पर क्या काम है?वो एक सांस में बोलता चला गया- यार, दीदी को छोड़ कर आना है, पता नहीं कार में क्या प्रॉब्लम हो गयी है. कैसे बना माँ बेटे का जिस्मानी रिश्ता?हैलो फ्रेंड्स, मेरा नाम संगीता है. पूनम बुआ मेरे ऊपर से हट कर साइड में लेट गईं और मैं पलट कर उनके ऊपर चढ़ गया.

उसका हाथ मेरे सिर पर आ गया और वो मेरे सिर को अपनी चूत पर दबाने लगी. यामिना- यही बात मैं आपसे कहने वाली थी, मुझे पहली बार ऐसे चोदा गया है कि पोर पोर शान्त हो गया है.

मैं- तुम्हें मजा आया कि नहीं … लगी तो नहीं … कोई तकलीफ तो नहीं हुई?प्रभात- नहीं मुझे कोई तकलीफ नहीं हुई.

चूत के छोड़े हुए पानी के वजह से चूत पूरी गीली हो चुकी थी और मेरा लंड भी अब आसानी से चूत के अन्दर बाहर हो रहा था. वह इतने जोर से जोश में धक्के लगा रहा था कि जैसे गांड को आज फाड़ ही डालेगा. मैंने अपने लोअर में हाथ डाल रखा था और अपने तने हुए लौड़े को धीरे धीरे सहला रहा था.

बस ऊपरी मन से बोले जा रही थीं- यश, छोड़ो ना … किसी ने देख लिया तो दिक्कत हो जाएगी. चाची- कौन है वो खुशनसीब?मैंने फिल्मी स्टाइल में कहा- पहले आप अपनी आंखें बंद कीजिए. उसने अपने दोनों पट मेरे दोनों पटों से बाहर कर लिए और चूत को लण्ड पर घिसाने लगी.

’ कह कर अपना काम चालू कर दिया और मैं और अलवीना अपने अपने घर को एक साथ रवाना हो गए.

हिंदी वाला सेक्सी बीएफ: हमारी कामक्रीड़ा में कब दो घंटे चले गए, इस बात कर पता ही नहीं चला था. उस कहानी में मैंने बताया था कि कोटा में कोचिंग के लिए मैं, मेरी चाची की बहन सरिता के घर पर रहता था.

निर्मला जी ने इस हरकत के शुरू होते ही तुरंत अपने दोनों हाथों से मेज़ का कोना पकड़ लिया और गहरी गहरी सांस लेने लगीं- आह और तेज़ अमित … उम्महहह … आअह्ह्ह … करते जा भैनचोद … आह बहुत मज़ा आ रहा है. पीछे से उसके बड़े-बड़े नितंब बिल्कुल नंगे थे।अगर मैं कहूँ कि उसके नितंब दुनिया में सबसे माँसल और भरे हुए हैं तो मैं बिल्कुल भी गलत नहीं हूँ।मेरे हाथ उसके गदराए बदन पर मचलने लगे और उसके मेरे कपड़ों पर!उसने मुझे पूरा नंगा कर दिया।रेनू ने मेरा लण्ड अपने हाथों में लेकर सहलाना शुरू कर दिया. मेरे सामने मेरी चाँद सी सुंदर बीवी नंगी खड़ी है और उसकी चूत में घुसा हुआ मेरा लंड। हमें देख कर चाँद भी शर्मा जाता है और बार बार खुद को बादलों में छुपा लेता है।रूपाली ने भी एक सरसरी नज़र आसमान में घुमाई और बोली- जितना आप चुदाई करने में उस्ताद हो … उतना ही बातें बनाने में! बातें बनाना तो कोई आपसे सीखे!फिर मौसी बोली- नीचे दीदी अकेली हैं.

आपको जवान कुंवारी बुर की चुदाई की ये होटल रूम सेक्स स्टोरी पसंद आ रही हो तो मुझे अपने मैसेज भेजते रहें.

अब मैं उसके कूल्हे को थोड़ा जोर जोर से दबा रहा था ताकि वह उत्तेजित महसूस करे. मैं- तो क्या हुआ?भाभी- अभी तुम्हारी उम्र पढ़ने लिखने की है, तुम ऐसा कुछ मत देखा करो … समझे!मैं- ठीक है भाभी … लेकिन ये सब देखने में मुझे तो बहुत ही मज़ा आता है. तीन साल बाद एक दिन प्रभात अपनी शादी का निमंत्रण देने आया व मेरे जोरदार चुम्बन ले डाले.