सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ

छवि स्रोत,ब्लू फिल्में सेक्सी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

गरम लडकी फोटो: सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ, तो उसका रिप्लाई आया- ओके, वेटिंग कम फास्ट!मैं झटपट उसके पास गया।मैंने सोचा तो था कि कोई जबरदस्त पटाखा होगी.

बीएफ चला कर दिखाओ

मस्त तने हुए ठोस 36 इंच के चूचे, सपाट पेट और थोड़ी सी बाहर को निकली हुई 34 इंच की गांड!जब मैंने उसे पहली बार देखा था, तभी मेरा उस पर दिल आ गया था. ब्लू पिक्चर हिंदी में भेजिएवो बहुत जोर जोर से मेरे चुचे दबा रहा था मुझे दर्द भी हो रहा था और मजा भी आ रहा था.

मैं एक बार फिर से पैर फैला कर खड़ा हो गया और सोनल घुटने के बल बैठकर मेरा लंड हाथ में लेकर हिलाने लगी. नंगी फिल्म वीडियो में सेक्सीअब खुश?साली जी ने मुझे उलाहना सा दिया और अपनी चूत से बहता वीर्य नैपकिन से पौंछने लगी.

चूत और लण्ड के डिस्चार्ज होने से मेरे बेड की चादर जगह जगह से गीली हो गई थी.सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ: फिर अगले दिन मनीषा मेरी तरफ अजीब सी नजरों से देख रही थी लेकिन मैं बिल्कुल नॉर्मली बर्ताव कर रहा था जैसे कुछ हुआ ही न हो.

आज मैं अपने बेटे की बीवी बन गई थी और उसे उसकी बीवी जैसा ही सुख देने को लालायित थी.मुझे पता नहीं क्या हो गया था भाभी की बात सुनकर कि मेरे अंदर की हवस जाग गई थी.

ब्लू पिक्चर नंगा सेक्स - सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ

धीरे धीरे सब मैनेज करने के बाद मैंने सारे रुके हुए बिलों का पैसा निकलवा लिया … जोकि करोड़ों में थी.मेरी उंगली करने की प्रक्रिया को गांड उठा उठा कर मेरा साथ दे रही थी.

मेरी और दीपाली की मुलाकात एक प्रशिक्षण केंद्र (ट्रेनिंग सेंटर) में कुछ इस तरह हुई थी. सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ तीन बजकर पचास मिनट पर मनोज अपने दोस्त के घर क्रिकेट खेलने के लिए चला गया.

फिर हम दोनों मोहल्ले वालों की नजर से बचते हुए रेस्टोरेन्ट पहुंचे और खाना खाया.

सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ?

आज भी अकेले में मैं लड़कियों के कपड़े पहनकर अपनी इच्छा पूरी करता हूँ. अगर आप और मुझे तकलीफ़ देना ही चाहते हैं तो मैं उसके लिए भी तैयार हूँ. सोनम बेटा क्या बात है आजकल तू मिलती ही नहीं और तेरा चेहरा इतना उतरा हुआ क्यों है; क्या हुआ है तुझे?” उन्होंने मुझसे प्यार से पूछा.

मैं तो सच में खुशी से पागल होता जा रहा था क्योंकि अब इतनी खूबसूरत लड़की को चोदने का मौका मिलने वाला था. हम दोनों दस बारह बार पूरा चक्कर घूमे, मैं घड़ी की उल्टा दिशा में घूमा और दिलिया घड़ी की दिशा में घूमी. इस कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं आपसे थोड़ी सी कुछ और बात भी साझा करती हूँ.

क्या बात पतिदेव … सास बहुत पसंद आ रही है?”रानी अब मेरी सास नहीं है, अब वो मेरी और मेरे यार की रखैल है. दोस्तों भाभी के एकदम गोल और कड़क चुचे देख कर मेरा मन करता था कि बस खा जाऊं. अंकल ने मेरा मुँह अपने होंठों से बंद किया और अपने धक्कों की गति बढ़ा दी.

मेरी उम्म्ह… अहह… हय… याह… निकल गई लेकिन मुझे इस वक्त लंड इतना मजा दे रहा था कि बस मेरी आंखें मस्ती से बंद होकर लंड का मजा ले रही थीं. मैं डरते हुए उठ कर बाहर गया तो देखा कि शिखा किचन में चाय बना रही थी.

मुझे वो मैगजीन दिखाते हुए बोली- तू ये सब गंदी किताबें कब से पढ़ रहा है?मैं- बहुत दिन हो गये.

फिर मैंने धीरे से अपना बरमूडा खोलकर अपनी जांघों तक कर दिया और अपने खड़े हुए लंड को बाहर ले आया.

डॉक्टर ने लण्ड को पकड़ा और घुमा कर हाथ फेर कर बोली- अभी कुछ आराम हुआ है, अब देखते हैं कि चुदाई से क्या फर्क पड़ता है. फिर मैंने पीछे हाथ ले जाकर उसकी ब्रा की हुक खोलनी चाही, तो वो मुझसे खुल ही नहीं रही थी. अब जब तक मेरी और तुम्हारी फैमिली में से कोई एक नहीं आ जाता, तब तक मैं तुम्हारा लंड अपनी चूत में लिये पड़े रहना चाहती हूं, इसलिये कल मैं और तुम दोनों ही स्कूल में छुट्टी की एप्लीकेशन देंगे और सेक्स और खाने के अलावा कोई दूसरा काम नहीं करेंगे.

इस कहानी में आगे बढ़ने से पहले मैं आपसे थोड़ी सी कुछ और बात भी साझा करती हूँ. कमरे में से ही पहले खिड़की में से गेस्ट हाउस की ओर देखा लेकिन यहाँ से कोई हलचल नहीं दिखी. अगली बार मैं अपने जीवन के और भी अनुभवों को आप लोगों के साथ साझा करना चाहूंगा.

ये सब सोच कर इस बार मैंने ठान लिया था कि अब मैं भाभी को चोद कर रहूँगा.

उन्होंने कहा- थोड़ी देर सो जाओ!तो मैं ऐसे ही नंगा लेट गया और वो कपड़े पहनने लगी. उसने भी मुझे अपनी कुछ फ्रेंड्स के साथ चुदाई का मजा दिलाने का वायदा किया. कुछ देर बाद उसके मुंह से आवाज आई- सच … गांड मरवाने का मजा और ही है.

आज मैं तुम्हारे इंजन में अपना ऑयल डालकर इसको एकदम नया बना दूंगा, आज के बाद तुम्हारा इंजन बहुत ज्यादा एवरेज देगा. फिर दूसरा जोर का झटका दिया तो मेरे लंड का एक चौथाई हिस्सा उसकी चूत में चुका था. मैं यही सोच रहा था कि यहां कैसे मौसी की चुदाई हो पाएगी?मैंने मौसी की तरफ देखकर इशारे में ही पूछा- यहां कैसे?मौसी ने वहीं पड़ी एक मेज़ की तरफ इशारा किया जिस पर कुछ सामान पड़ा था.

प्रतिभा खिलखिला उठी और गाना गाने लगी- जो है नाम वाला … वही तो बदनाम है.

मेरा जिस्म अकड़ रहा था, लेकिन नम्रता मेरे लंड के साथ खेलने में इतनी मशगूल थी कि मेरे जिस्म की अकड़न को नहीं देख पायी, जिसके परिणाम स्वरूप मेरे लंड से पिचकारी फूट पड़ी और सीधा नम्रता के पूरे चेहरे पर मेरा लावा चिपक गया. जब भी मेरी गांड अर्जुन की जांघों से टकराती तो थप थप की मस्त आवाज निकलती और मेरी चूत में उसके लंड के प्रवेश के साथ मेरे चूत रस की मादक खुशबू पूरे कमरे में फ़ैल गई थी।अर्जुन ने मुझे कुतिया बनने को बोला.

सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ लेकिन मैंने उसे मना कर दिया और उसको अपने बदन से चिपका कर सो गया।मैं 12 बजे उठा तो वो कमरे में नहीं थी। मैं हॉल में आया। किचन में देखा तो वो खाना बना रही थी। मैं हॉल बैठ कर टीवी देखने लगा।कुछ देर में वो खाना लेकर आयी। उसने ऊपर सिर्फ पीली कलर की ब्रा पहन रखी थी. भाभी बोलीं- जब से तुमने ये कमरा लिया है, तब से मैं इस दिन का इंतजार कर रही थी.

सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ थोड़ी देर बाद वो थोड़ा ऊपर की तरफ उठा और मेरे दोनों पैर ऊपर उठा कर उसने ज़ोर ज़ोर से धक्का देना शुरू कर दिया. उसने मेरे अंडरवियर को नीचे किया और खुद ही मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी.

और हरकेश ने अपना लंड लगाकर एक बार में ही पूरा लंड उसकी गांड में उतार दिया.

देसी इंडियन सेक्सी ब्लू फिल्म

फिर उसने मेरी तरफ गर्दन घुमाई और फिर एकदम जोर से ठहाका मारकर हंस पड़ी. थोड़ी ही देर में वो बहुत गर्म हो चुकी थी, जिसका अंदाज़ा भाभी की गीली चुत से मुझे हो गया. थोड़ी देर बाद मैं काजल की पैन्टी को हाथ में लेकर अपनी नाक के पास ले गया.

एक बात जरूर समझ में आई कि मीता सेक्स की बात पर कहीं से शर्मा नहीं रही थी. ”वे दोनों दूसरे कमरे में चली गयीं।लेकिन मुझे आवाज़ें आ रही थीं- अंशु मेरे पति तो नहीं पर मैं लूंगी इसकी!आप? कैसे?”इससे!”ये तो बिल्कुल असली जैसा है. नम्रता के झड़ने से जो पानी निकल रहा था, वो मेरे लंड को गीला कर रहा था.

अगर तेरे यार ने सुन लिया तो वो समझेगा कि तू अपने जीजा से चुद रही है.

वो नजदीक के शहर में कोई कोचिंग ले रही थी, जिस वजह से हम दोनों मिलने लगे थे. इधर मेरे सामने उसकी चूत लपलप कर रही थी, जिसकी फांकें आज भी एक दूसरे से जुदा नहीं हुई थीं. अब मैं उसे लगातार किस करते हुए पीछे से उसके चुच्चों को दबा रहा था और वो मजे से दबवा रही थी.

भाभी बोलीं- जब से तुमने ये कमरा लिया है, तब से मैं इस दिन का इंतजार कर रही थी. मैंने अपने दोनों हाथों से उसके चूतड़ों को पकड़ा और जोर जोर से उन्हें आगे पीछे करके अपने लंड पर मारने लगा. थॉमस मुझे अब तक 35-40 मिनट तक चोद चुका था और मैं भी पूरे जोश में थॉमस से चुदवा रही थी.

बेड पर गुलाब के फूलों की सजावट होती है मगर मेरी शादी के दिन ऐसा कुछ नहीं था. उसमें दर्द भी है, डर भी है और रोमांच भी!कुछ देर बाद मैंने समय देखा तो 1 बज चुका था.

फिर मैं प्लान के मुताबिक चुपके से मानसी के कमरे में यहां आकर लेट गई और मानसी मेरे कमरे में जाकर लेट गई. अमित की गर्म सांसों मैं भी थोड़ी थोड़ी गर्माने लगी थी … और कसमसाने लगी थी. ”ओह … थैंक यू प्रेम जी!” अपनी तारीफ़ पर वह खिलखिला कर हंसने लगी पर बाद में कुछ संजीदा (सीरियस) होते हुए बोली- पर ऐसी फिगर का क्या फ़ायदा?क्यों … ऐसा क्या हुआ?”मैं तो बनर्जी साहब को बोल-बोल कर तक गई कि किसी ढंग के डॉक्टर से दवाई लें और एक्सरसाइज भी किया करें पर वो मानते ही नहीं.

सारा जो दिलिया के ओंठ और जीभ चूस रही थी, उसने मजा दुगना कर दिया था, ऐसा लग रहा था जैसे कोई लण्ड चूत में पेंच की तरह जा रहा हो.

वो मेरे लण्ड को पकड़कर जोर जोर से हिलाने लगी और बोली- ये तो बहुत मोटा है, अंदर कैसे जायेगा?मैंने कहा- देखती जाओ मेरी जान … अपने आप चला जायेगा. लेकिन थोड़ी देर बाद कंचन ने कहा- सारा मज़ा अपनी चाची को ही दोगे?तो मैंने चाची से कहा- अब इसकी हवस ही मिटा ही देता हूँ।फिर मैंने कंचन के ऊपर उल्टा लेटा जैसे मेरा मुँह उसके पैरों की तरफ हो जाये. आओ डिअर … अन्दर आ जाओ!”थैंक यू सर!”मैं दरवाजा बंद करके सुहाना को लिए अन्दर आ गया और उसे हॉल में पड़े सोफे पर बैठने को कहा। सुहाना ने हाथ में पकड़ा बैग और नाश्ते का टिफिन सोफे के पास रखे टेबल पर रख दिया।मॉम ने आपके लिए नाश्ता भेजा है।”ओह … इतनी तकलीफ की क्या जरूरत थी डिअर … थैंक यू.

राजेश ने मुस्कुराते हुए मेरी नाभि को चूमते हुए मेरी चूत को भी चूमा और फिर मेरी कमर को पकड़ मुझे घुमा दिया. जैसे ही मैंने चीनी उतारी, मेरी नज़र भाभी की नज़रों पर पड़ी, जो मेरा लंड देख रही थीं.

फिर मैंने तीन उंगलियां चूत में डालीं, तो भाभी अपने आपको रोक नहीं पाईं और झड़ गईं. हां बेटा, एकदम सच्ची में!” अंकल जी बोले और मेरा हाथ पकड़ कर मुझे अपनी ओर खींच लिया. उसकी चूत ने रस छोड़ना शुरू कर दिया था, जिससे उसका वो इलाका गीला होने लगा था.

बाथरूम बफ

अनिल भैया- बस इतना ही दम था … या अभी कुछ और बची है … अबे शेर का बच्चा है तू … कुछ भी नहीं हुआ.

” रानी ने मुझे कन्धों से पकड़ के उठा दिया और पास की मेज पर रखे गिलास को उठा कर मुझे दिया. बड़े बड़े कबूतरों जैसे उसके स्तन देखकर मैं मदहोश हो गया और उन्हें चूमने, चाटने और चूसने लगा. फिर मैंने उसकी पैंटी को भी उतार दिया और उसकी योनि को भी नंगी कर दिया.

मेरी पत्नी इस तरह की चुदाई से मजा लेकर बोली- इसलिये मैं तुम्हारे साथ आना चाहती थी. उसने तुरंत मेरे होंठों पर अपने होंठों को रख दिया और चाची की चूत का गर्म पानी मुझे अपने लंड को भिगोता हुआ महसूस हुआ. सेक्स करने वाला वीडियो देखना हैवो बिन पानी की मछली की तरह तड़पने लगी और मेरे मुँह को अपने चुच्चों पर जोर जोर से दबा रही थी.

मैंने उससे कहा- ये सब तुम क्यों करती हो? और करना ही है तो अपने बॉयफ्रेंड के साथ क्यों नहीं करती?बिन्दू बोली- मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है. भैया मुझसे पूछने लगे- चुदवाने में मजा आ रहा है?मैं पीछे पलट कर उनको देख कर स्माइल कर रही थी और वो अपना लंड मेरी चूत में डाल कर मेरी चूत को चोद रहे थे.

ये देखकर वो धीरे से मुस्कुराया … और वो पीछे का दरवाजा खोल कर मेरे साथ आकर बैठ गया. बड़े बड़े कबूतरों जैसे उसके स्तन देखकर मैं मदहोश हो गया और उन्हें चूमने, चाटने और चूसने लगा. फिर मैं शुरू हो गया, बोला- रूई!और सारा ने अपना दायाँ चूतड़ ऊपर उठा दिया, मैंने पूरा लंड निकाल कर उधर को धक्का मारा, लंड चूत को रगड़ते हुए अंदर चला गया.

ऊई माँ!! उम्म्ह… अहह… हय… याह… अई ऐईई सी … सी … सी! मर गयी बॉस!” मैं जोर से चिल्लाने लगी. जब भाभी के पास गया तो भाभी बोलीं- इतना क्यों डर रहे हो, मैंने तुमसे कुछ कहा क्या?तो मुझे थोड़ी राहत की सांस मिली. और उसके बाद मेरी नज़र मेरी बेटी की कोमल चूत पड़ी जिस पर एक भी बाल नहीं था.

स्थिति ऐसी हो गई कि एक दिन सुबह दूध लेने के लिए निकला तो गुप्ताइन अपनी किचन में खड़ी दिख गई.

आप लोग तो जानते ही हो कि अगर सरकारी काम कहीं भी करवाने जाओ तो बिना रिश्वत के तो कोई काम होने से रहा. उधर संजना भी अब तक संभल चुकी थी और उसने मेरे पीछे आकर मुझे पकड़ लिया.

यह मेरा पहला हस्तमैथुन था। उस दिन के बाद मुझे आपको देखने का नजरिया बदल गया. बिन्दू झिझकते हुए बोली- आपने मेरी फ़ोटो खींची है?मैंने कहा- तुम वो सब क्या कर रही थी? तुम बहुत ही ग़लत काम कर रही थी. जिस बुर में अभी अभी बाल आने शुरू ही हुए थे, उसमें मेरा मोटा लंड अन्दर तक घुस कर सवारी कर रहा था.

उसके बाद उन्होंने मेरी चूत में उंगली दे दी और उसे अंदर बाहर करने लगे. मेरा लंड तो ऐसे खड़ा होकर फुंफकार रहा था … मानो बस पैंट फाड़ कर बाहर आ जाएगा. फिर भैया ने पूछा- कैसा लग रहा है?‘ठंडा!’मेरी बचकानी बात से भैया हंसने लगे और बोले- ठीक है ये ठंडक अब अन्दर तक जाएगी.

सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ वो बोली- अर्पित मैंने अपना सब कुछ तुम्हें दे दिया है, अब मुझे छोड़ना मत!मैंने बोला- नहीं अदिति, मैं तुमसे शादी करना चाहता हूँ, बोलो तो कल ही अपनी माँ पापा को तुम्हारे घर भेज दूँ. थोड़ी दूरी पर उसने एक वाइन शॉप पर कार रोक दी और मुझे व्हिस्की लाने को कहा और साथ में सिगरेट भी.

बीएफ लड़की का

तभी मैंने उनकी कमर को अपने हाथों से पकड़ा और उनको अपनी ओर खींच लिया. पर मैंने कुछ खास ध्यान नहीं दिया क्योंकि मुझे लगा कि टीशर्ट पहना है तो इतना तो दिखता है. मैं और माणिक, हम दोनों जब भी घर में अकेले रहते थे तो हम एक दूसरे से खूब बातें करते थे.

कई बार रात रात भर पढ़ाई के बहाने से मैं सहेली के पापा से चुदने चली जाती थी. मेरे एक रिश्तेदार के घर एक हफ्ते के बाद शादी पड़ी थी, जिसका कार्ड कल घर में आया था और उनकी तरफ से पूरी फैमिली को उसमें शामिल होने के लिये खास तौर पर मुझे फोन किया था. एक्सएक्सएक्स विंडोजमेरे चेहरे का रोष देखकर शुभ्रा ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोली- मैं तुम्हें प्यार में मायूस नहीं करना चाहती.

फिर खुद ही अपने ब्लाउज के बटन्स खोलने लगीं और जल्दी ही 2-3 बटन्स खोल कर अपना हाथ हटा लिया.

इस घड़ी को दिल में संजो कर के तो मैं सदियों-सदियों नर्क की आग में ख़ुशी-ख़ुशी जल जाऊं. चूंकि मुझ पर किसी की कोई रोक टोक थी नहीं, तो मैं मन चाहे ड्रेस पहनती थी.

फिर वो इसको आगे से आगे अपने दोस्तों से मिलवाएगा, इसकी फ़ोटो भी ले सकते हैं, ब्लैकमेल भी कर सकते हैं और सबसे बुरी बात यह प्रेग्नेंट भी हो सकती है, आप चिंता मत करें, कुछ दिन बाद जब इसकी शादी होगी तो यह से अपने आप छोड़ देगी. मैं उसकी चूत को चाटने लगा तो वो पागल हो गयी और जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह … फक मी … आआ … कमॉन डिअर … फक मी हार्ड।उसकी चूत चाटने में बहुत मस्त रस मिल रहा था. फिर मैं अपने कमरे में आया, तो वो मुझसे बोली- मैं कहां सोऊंगी?मैंने उससे कहा- इसी बिस्तर पर.

प्रतिभा को मैंने बांहों में भर लिया और प्रेम से उसके मस्तक पर किस करते हुए कहा- प्रतिभा, तुम खूबसूरत हो और जितना लाजवाब तुम्हारा बदन है, उससे कहीं ज्यादा सुंदर तुम्हारा अंतर्मन है.

मैंने उसकी पैंटी उसके मुँह से निकाल दी औऱ फिर उसके होंठ अपने होठों से दबाकर मैंने फिर से एक जोरदार झटके के साथ ही पूरा लंड उसकी बुर में उतार दिया. नम्रता ने भी मेरे सीने पर एक जोर का चुंबन जड़ दिया और मेरी पीठ और चूतड़ को सहलाने लगी. वैभव ने खुशी से ये वादा भी किया कि वो एक बारे संदीप से नार्मल मीटिंग कराएगा.

फर्स्ट टाइम सेक्स एक्स वीडियोलगभग दस मिनट के घमासान संभोग के बाद उसकी योनि सिकुड़ने लगी और उसी समय उसने मुझे जोर से जकड़ लिया और अपनी टांगें मेरी कमर में फंसा दीं. वह पूरी तरह से नंगी हो चुकी थी। मैंने अपनी चड्डी से लंड निकाल कर सुमन के चूतड़ों की दरार में फंसा दिया और उसकी पीठ को दांतों से काटने लगा।हरकेश भी उसकी कमर को पकड़ कर उसके चूचों को चूम रहा था। सुमन भी पूरे जोश में आ चुकी थी, उसकी आंखों में नशा और हवस साफ-साफ दिख रही थी.

सील पैक बीएफ वीडियो में

दीपाली की चुत इतनी टाईट थी कि दर्द के मारे उसने ‘ऊउइ … उफ़्फ़्फ़ … अम्मा … मर गई. मैंने उसके पेटीकोट का नाड़ा ढीला करके उसके पेटीकोट को नीचे करके घुटनों में फंसा दिया. फिर खाना खाते वक्त दिखने वाले सेक्सी मम्मों को देख कर मैं गर्म हुए जा रहा था.

भार्गव का लंड मेरे मुँह में था … और मैं ज़ोर ज़ोर से उसका लंड मेरे मुँह में हिला रही थी. लंड को पूरा का पूरा अंदर ले जाते हुए चाची की बहन मेरा लंड चूसने लगी।कई मिनट तक लंड चुसवाने के बाद जब हम दोनों पूरे गर्म हो गये तो मैंने उसके कपड़े उतरवा दिये. इससे मेरे अन्दर हलचल सी होने लगी थी, लेकिन मैं बुत बनकर कमरे के बीचों बीच पैर फैलाये हुए खड़ा था.

फिर वापस उसी तरह जीभ चलाते हुए नीचे की ओर बढ़ते हुए उसने लंड को गप से मुँह के अन्दर लेकर ओरल चुदाई शुरू कर दी. मम्मी परसों मेरे एग्ज़ाम खत्म हो जाएंगे, अगर आप कहो तो हम दोनों कहीं घूमने चलें, इससे आपका भी मूड फ्रेश हो जाएगा. उसी समय मैंने गांड को कुछ और खोलने की कोशिश की और छेद की कसमसाहट से वो समझ गए कि मुझे क्या चाहिए.

जब तक वंश खाना लेने गया, तब तक मैंने जल्दी से बैग से बोतल निकाल कर दो पैग स्मेललैस बोडका के लगा लिए और एक सिगरेट खींच कर मुँह में इलाइची दबा ली और उसके आने का इन्तजार करने लगी. उसके बाद मैंने दीपाली के कान में धीरे से उससे पूछा- दीपाली क्या मैं तुझे चोद दूँ?उसने सिसकारी लेते हुए कहा- हां मेरे राजा … जल्दी से चोद दे … मैं मरी जा रही हूँ … तेरे लंड से अपनी चुत की प्यास बुझाने के लिए … जल्दी अपना लंड मेरे चुत में डाल के मुझे अपनी रंडी बना ले.

नीचे का नज़ारा देख कर मेरा लंड तन कर एकदम नब्बे डिग्री के एंगल पर झटके देने लगा.

घर आकर हम सभी ने थोड़ी देर बात की और अपने अपने कमरे में सोने के लिए चले गए. हिंदी सेक्सी पिक्चर फिल्म बीएफयह एक अनोखे किस्म का सेक्स था जो मैंने पहले दो तीन रानियों के साथ किया तो था मगर बॉडी वाश के कारण फिसल फिसला के नहीं. बीएफ सेक्सी देवर भाभीमगर मैंने उसके चूचों को अपने हाथों में लेकर दबाना शुरू कर दिया और उसकी पीठ को चूमने लगा. उसकी चुत को चाटने का मन तो बहुत था, पर टाइम की कमी थी … इसलिए बस एक बार उसकी चुत पे मुँह लगाकर चुत की घुंडी को अच्छे से चूस लिया.

मैंने उसको थोड़ी देर इंतज़ार करने को कहा क्योंकि भैया बिल्कुल साइड में थे.

मैंने कपड़े पहन लिए जबकि रानियों ने नंगी ही रहते हुए गले तक कम्बल ओढ़ लिया. भाभी भी चुपचाप लंड चूसने लगीं, वो लंड चूसने में बहुत ही एक्सपर्ट थीं, तो कुछ ही टाइम में उन्होंने मेरी आहें निकाल दीं. मैंने भी अपनी बांहों में उसके जिस्म को जकड़ लिया और उसे कस कर हग करते हुए उसको ‘आई लव यू’ कह दिया.

लेकर खड़ी क्यों हो?साली- ठीक है!इतना बोल कर तौलिया रख कर वो चली गयी. ”अंकल ने मेरी पीठ की मालिश करनी शुरू कर दी, अपना हाथ मेरी गर्दन से कमर तक घुमा रहे थे और वही प्रक्रिया अपने होंठों से भी दोहरा रहे थे. मेरे दूध कलश जैसे गोल गोल हैं और निप्पल्स के चारों ओर बड़े-बड़े चमकदार चिकने डार्क कलर के गोले हैं.

बिहारी की बीएफ

जब थकान कुछ कम हुई तो उसके चूतड़ के नीचे दोनों हाथों से ऊपर लाता और वापिस छोड़ देता. आसमान की ओर देखते हुए नम्रता बोली- शरद भगवान भी कभी-कभी नाइंसाफी कर ही देता है. मैं पहले ही मानसिक रूप से कमजोर हो चुकी थी तो मैंने अंकल जी की बात मान ली और उन्हें अपनी सारी व्यथा कथा कह सुनाई कि क्यों मेरी आगे की पढ़ाई बंद कर दी गयी है और मेरा भविष्य अन्धकारमय हो गया है.

पायल की शरारत मेरे मन को अब भी गुदगुदा रही थी, पर मुझे प्रतिभा की कमर को छूने का अहसास भी बेचैन कर गया था.

आप भी काफी सावधानी से ऐसा करके किसी के साथ इस प्रकार का सेक्स कर सकते हैं.

आज बहुत दिनों बाद मेरी चुत को आज थॉमस का मोटा लंड मिला था … जिसे पाकर में बहुत खुश थी. इतना सुनने के बाद मैं उसके मुँह की तरफ आया और उसके सिर को अपनी हथेली पर लेकर उठाया और लंड को उसके मुँह पर ले गया. बीएफ देसी फिल्मइसकी चुदाई में जो मजा आ रहा था, वो सीमा जी की चुदाई में कहाँ से आएगा.

उन्होंने दोनों गिलासों में शराब डाली, फिर बोले- चल मेरे और अपने पैग वाले गिलास में मूत. अभी प्रतिभा के आने का समय हो चुका था, तो मैंने जानबूझ कर आंखें मूंद लीं. और मेरी कलाई के बराबर मोटा होगा, लण्ड नहीं पूरा मूसल लग रहा था।मैं सोचने लगी कि इसके मारे तो मेरी चीख निकल जायेगी.

फिर मैं शुरू हो गया, बोला- रूई!और सारा ने अपना दायाँ चूतड़ ऊपर उठा दिया, मैंने पूरा लंड निकाल कर उधर को धक्का मारा, लंड चूत को रगड़ते हुए अंदर चला गया. पहले तो मैं उसका लंड अपने हाथ में लेकर हिलाने लगी और उसके बाद उसका लंड अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

तभी भार्गव ने हंसते हुए रुमित से कहा- यार रुमित … तुमने तो कार में ही पेट भरके नाश्ता कर लिया है … थोड़ा हमें भी तो नाश्ता कर लेने दिया होता.

वैभव ने खुशी से ये वादा भी किया कि वो एक बारे संदीप से नार्मल मीटिंग कराएगा. में परीक्षा के बाद एक इंटरव्यू दिया, जिसमें मेरा सिलेक्शन हो गया और मेरी नौकरी तय हो गई. वो मेरे कान की लौ को चाटने के बाद मेरे पेट को चाटने लगा और उसके बाद मेरी नाभि को चाटने लगा.

தமிழ் நடிகைகளின் செக்ஸ் வீடியோக்கள் करीब तीन चार मिनट तक वो मेरे आसपास ही पौंछा लगाती रही पर मैं उतने टाइम में झड़ गया सिर्फ उरोज देख कर. हमने एक दिन छोड़ कर मिलने का सोचा कि घर पर भी कुछ बोलना है और ऑफिस में भी.

अब डेली उस जगह पर मिलने मुश्किल था, तो हम दोनों ने फेसबुक आईडी पर चैट शुरू कर दी और बात आगे बढ़ती बढ़ती गई. रिया- हा हा हा … कुछ भी बोलते हो डैड। सूसू साथ में करने में क्या मज़ा?रमेश- तू देख तो सही रंडी कि मैं क्या करता हूँ? मज़ा ना आए तो कहना!रिया- जो करना है जल्दी करो डैड. मौका देख कर पिताजी ने एक झटका मार दिया जिससे उनका आधा लण्ड उनकी बेटी की चूत में घुस गया और सुमीना के मुँह से एक चीख सी निकल गयी- आआह हह पापा धीरे … लगती है!लेकिन वो लगभग नार्मल लग रही थी.

वीडियो एचडी बीएफ

बल्कि आप यह समझिये कि इस जिम में लड़के लड़कियों के अलावा सभी आयु वर्ग के लोग आते हैं. ये तो मेरे साथ खड़े लंड पर धोखा था, तो मैंने उन्हें फिर से दबोच लिया और उनके मम्मों को मसलने लगा. सर मेरे पास आकर मेरे होंठों पर अंगूठे से फिराते हुए बोले- वाह रे रांड, तू तो बहुत ही चुदक्कड़ चीज है.

कुछ देर तक मेरे लंड के साथ कामुक खेल खेलने के बाद साना ने मेरे लंड को पकड़ लिया और उसको मुंह में लेकर चूसने लगी. घर पहुंच कर मैंने रंजना के साथ हुए पहले संभोग के बारे में सोच कर फिर से मुट्ठ मारी.

साथ ही घर का सारा काम करके वह करीब 08:00 बजे वह अपने घर वापस चली गई.

इस तरह होंठ चूसते हुए उसने अचानक से अपनी जीभ निकाल कर मेरे मुँह डाल दी. मैं मीरा रोड का रहने वाला हूँ तो मैं मीरा रोड उतर गया … पर दीपाली अभी तक उतरी नहीं थी. उसकी बुर में फिर मैंने दो उंगली डाल कर बुर के छेद को फैलाया और फिर उसकी बुर में घुमाने लगा.

वो अपनी सीत्कारों को काबू करने की भरपूर कोशिश करते हुए बोलने का प्रयास कर रही थी. मेरी कुछ सहेलियां पढ़ाई और जॉब करने के लिए मेरे शहर में किराये से कमरा लेकर रहती थीं. मैंने भी कहा- चलो जो हुआ, अच्छा हुआ! तुम को भी एक अलग अनुभव मिला और मुझे भी!वह मुस्कुराती हुई बोली- अनुभव तो ठीक है.

आज ऊपर कोई नहीं है इसलिए डरने की कोई बात नहीं है, आज हम जो भी करेंगे, खुल कर करेंगे.

सेक्सी मूवी ब्लू फिल्म बीएफ: कहानी के इस भाग से संबंधित अपने विचार आप मुझे मेरे मेल आई डी[emailprotected]पर भेज सकते हैं, मुझे आपके मेल का इंतजार रहेगा. मैं तेरे प्यार को तस्लीम करके उसे सिर्फ इज़्ज़त दे सकता हूँ, तेरे आगे नतमस्तक हो सकता हूँ … बस!!!मेरा सूटकेस मेरे हाथ से छूट गया.

”कहने को तो मैं आप को ‘तू’ कह कर भी बुला सकता हूँ वसुन्धरा जी! लेकिन अभी आपने मुझे ऐसा अधिकार दिया नहीं है. उसके दोनों कबूतर पिंक पैड वाली ब्रा में से झांकते हुए बहुत सुन्दर लग रहे थे. धीरे धीरे मुझे वस्तुस्थिति का भान हुआ और मैंने धीरे से वसुन्धरा को अपने आगोश से मुक्त किया.

केवल चूत की चुदाई की थी। दोनों संतुष्टि वाली चुदाई करके सो गए। फिर मैं सुबह 4:00 बजे के अलार्म बजने का इंतजार करने लगा.

मुझे लंड चूसने के कारण ही पेशाब पीने में भी कोई शर्म या हिचक नहीं आई थी. फिर मैंने भी उसकी तारीफ करते हुए कहा- तुम भी बहुत शानदार तरीके से चुदवाती हो. उसकी सीत्कारों की वजह से पंद्रह-बीस मिनट में ही मेरे लंड ने उसकी गांड में थूक दिया.