इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में

छवि स्रोत,इंस्टाग्राम सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ फिल्म सुहागरात की: इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में, वो दोनों बगल के कमरे में चले गए।मेरी प्लानिंग के अनुसार सब सही चल रहा था।फिर दीपक बोला- चलो देखते हैं दोनों को.

जंगल का सेक्सी वीडियो हिंदी में

फोन पर हम लोग काफ़ी बात किया करते थे।वार्षिक उत्सव ख़त्म हो चुका था और हम दोनों को आपस में बात करते हुए एक महीना हो चुका था।एक दिन मैंने मौका देख कर उसको प्रपोज़ किया और उसने ‘हाँ’ कर दी।अब फोन की बातें सेक्स चैट में बदल गईं।लेकिन दोस्तो, जब चूत का जुगाड़ हो जाता है. செக்ஸ்ய் இமேஜ்बस नींद खुली तो तुमको ना साथ पाकर पूछ लिया।’‘ओह जनाब का इरादा क्या है.

तो यह मांग कभी भी ख़त्म नहीं हो पाएगी।रोहित के साथ तो मैंने सिर्फ़ 4 बार ही ऐसा ब्रूटल सेक्स किया और इस बात को आज 8 महीने हो गए हैं. सेक्सी डबल सेक्सी वीडियोमैं पापा को बता दूँगा कि नहीं है।मैं उनके होंठों को चूम कर खेत की ओर चल पड़ा।आज मैं बहुत खुश था कि जिंदगी में पहली चूत मिलने वाली है और वो भी इतनी जल्दी.

पता नहीं नतीजा क्या होगा?यही सोचते सोचते नींद आ गई, सुबह उठे तो नाश्ता करके दीपेश और बाकी लोग भी अपने अपने डिपार्टमेंट चले गए। उस दिन मैं चाहता तो घर जा सकता था लेकिन पीयूष की जवानी मुझे कमज़ोर बना रही थी, मैंने सोचा कि कुछ भी हो मैं इसको एक बार तो दिल की बात बताकर रहूंगा।मैं कॉलेज के बहाने से उस वक्त तो कमरे से निकल गया लेकिन फिर 12 बजे ही वापस आ गया।करीब 1.इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में: और मैं उसके होंठों की खूब चुसाई करने लगा।फिर मैंने हाथ पीछे ले जाकर उसकी ब्रा खोल दी.

तो मैं अपने कपड़े लेने बाथरूम में घुस गई। मुझे अपनी ब्रा-पैन्टी की हालत देख कर यकीन हो गया कि मेरा हथौड़ा निशाने पर लग चुका है।मेरी पैन्टी के ऊपर भैया के वीर्य का चिपचिपा पदार्थ लगा था।मैं भी प्यासी थी.तो मैं अब और भी ज़ोर-ज़ोर से धक्के देकर चोदने लगा।वो चिल्लाने लगी- आअहह.

सेक्सी वॉलपेपर दिखाओ - इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में

मैंने उसका लंड मुंह से निकाला और उसकी जिप को वापस से बंद करके उसकी बगल में लेट गया.और उनके सिर से बह रहा पानी काले रेशमी बालों को माथे पर चिपकाता हुआ उनकी छाती के बालों को भिगोता हुआ नाभि से होकर उनके काले रंग के टी.

साथ ही अपनी चूत में बैंगन डाल रही थी।प्रियंका यह देख कर उसके पीछे से दीवान पर बैठ गई. इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में वो थोड़ी देर में मस्त हो गई और अपनी कमर को ज़ोर-ज़ोर से मेरे लण्ड पर हिलाने लगी।अब वो बोलने लगी- मेरी प्यासी चूत को तेज़ी से चोदो.

और मूवी का नाम भी ‘जिस्म-2’ था।हम दोनों तय समय में पेसिफिक मॉल में पहुँच गए.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में?

तुम्हें शादी के टाइम समझाना पड़ेगा।यह सुनते ही मेरा लौड़ा खड़ा हो गया।मैंने कहा- आप तो चाबी दे दो. ’ किया। मैंने इशारे से चुदाई के लिए पूछा तो उससे कुछ बोला तो नहीं गया. तब मैंने जो देखा उस पर मुझे विश्वास नहीं हो रहा था।राकेश बुआ के दूध चूस रहा था, बुआ भी अजीब-अजीब सी आवाज निकाल रही थीं।कुछ देर बाद बुआ की सहेली का भाई राकेश ने बुआ के पेटीकोट में हाथ डाल कर उनका नाड़ा खोल दिया। बुआ अब बिल्कुल नंगी हो चुकी थीं, राकेश ने भी अपने कपड़े निकाल दिए।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !राकेश का लण्ड लगभग 6 इंच का था। बुआ ने राकेश को चूत चाटने के लिए कहा.

तो वो बहुत दुखी हो गई।ये सब बातें मैंने उससे चैटिंग के टाईम ही बोल दी थीं. फिर मैं मम्मों को छोड़ कर बुआ की चूत के पास आ गया, उनकी पैंटी तब तक पूरी गीली हो चुकी थी।मैंने उनकी पैंटी और सलवार पूरी तरह से खींच कर उतार दी और उनकी टाँगों को फैला कर उनकी चूत को चाटने लगा था।उनकी चूत पर छोटे-छोटे बाल उगे थे. जब वो कुछ समय के बाद वापस आई तो मैं उसको देखता ही रह गया। उसने एक बहुत प्यारी सी नाइटी पहनी हुई थी जिसमें कि जूही का 32-28-30 का फिगर साफ़-साफ़ समझ में आ रहा था.

सभी जगह उसको खूब चूमा-चाटा। उसके चूचुकों को तो मैं अपने होंठों से काटने की कोशिश करता रहा। मैंने बिना दाँत चुभाए उसके सारे जिस्म पर. तो मैंने सोचा क्यूँ ना मैं भी अपनी कोई चटपटी कहानी आपके समक्ष रखूँ।मैं आज पहली बार अपनी सच्ची कहानी लिख रहा हूँ।आपने अन्तर्वासना डॉट कॉम पर अब तक हजारों कहानियाँ पढ़ी हैं. लेकिन उसने लंड अंदर डाला और जिप बंद करके जाने लगा।लेकिन मेरी प्यास का क्या.

उसके गर्म पानी से मेरा लंड भी गर्म हो गया और मैं भी उसकी चूत में जोर-जोर से पिचकारियाँ मारते हुए झड़ गया।थोड़ी देर उसके ऊपर ही लेटा रहा. मैं उसको देखते ही खड़ा हो गया, शीशे के अन्दर झांकने लगा।उस युवती ने गुलाबी रंग की साड़ी पहनी हुई थी.

इसलिए उन लोगों ने जल्दी से कपड़े पहन लिए और बाहर को आने हो हुए।फिर अन्दर से दरवाजे से आवाज़ लगाई- दवाजा खोल दो.

क्यूंकि मैं अभी भी प्रियंका के मम्मों को जो कि एकदम टाइट और पूरे गोल थे.

मैं भी ज्यादा देर भावनाओं को संभाल नहीं पाया तो फिर से पैन गिरा दिया और अबकी बार पैंट में सोये हुए उसके लंड की टोपी पर अपनी छोटी उंगली रख कर दबाते हुए पैन उठा लिया. ’ की आवाज़ निकल रही थी।मैंने दो उंगलियां उनकी चूत में घुसा दीं और उंगली से ही भाभी को चोदने लगा. पर सोने का नाटक कर रहा था।मैं समझ गई कि इसकी नींद खुल चुकी है।अब मैंने भाई की चड्डी नीचे को की और अपना लोवर नीचे करके अपनी पैन्टी भी नीचे सरका दी और भाई से बिल्कुल चिपक कर लेट गई।अब भाई से कंट्रोल नहीं हुआ तो उसने भी अपना हाथ मेरी चूत पर रख कर छेद में उंगली अन्दर-बाहर करने लगा।जैसे ही उसने अपनी उंगली अन्दर की.

जब मैं पहनूँगी।दोस्तों अब सुबह से दोपहर हो गई और कुछ ऐसी बात भी नहीं हुई. सच बोल रहा हूँ।आंटी हँस कर अन्दर चली गईं और मैं अपने घर वापिस आ गया।उन दिनों वर्ल्ड कप चल रहा था और आंटी को मैच देखने का काफ़ी शौक था. उसने एक कंटीली सी स्माइल दे दी।मैंने भी कहा- अभी तो इससे काम चला लेता हूँ.

’ की आवाज़ निकाल मुझे और भड़का रही थी।अब मैंने उसे मेरा लण्ड मुँह में लेने को बोला.

इस बहती हुए चूत में लौड़ा पेलकर इसकी प्यास बुझा दे।इसके बाद मेरा उससे कहना भर था- बस रानी एक बार मेरा लौड़ा अपने मुँह में लेकर चूस ले. इस हिंदी सेक्स स्टोरी के पहले भागकमसिन लड़की और चूत की भूख-1अब तक आपने पढ़ा. तो कोई मुझे ये बताए कि मैं अपनी भाभी को गाण्ड मारने के लिए कैसे राजी करूँ।[emailprotected].

जैसे मानो वो स्वर्ग में थी।इसी बीच उसका शरीर अकड़ने लगा और वो झड़ गई।मैं भी झड़ने वाला था. वहीं जा रही हूँ।मैंने कहा- कब तक आओगी?बोली- शाम 7 बजे तक आऊँगी।मैंने कहा- ओके, ठीक है।‘हम्म. जिससे थोड़ी जगह हो गई और मैं अब आराम से उनकी गाण्ड चोद रहा था।मैम ‘आह.

जैसे वो मेरे सर को ही अपनी चूत के अन्दर ले लेना चाहती हो।मैं उसकी चूत को चूस भी रहा था और हाथ दो उँगली को अन्दर-बाहर भी कर था। कभी-कभी मैं उसकी चूत के दाने को दाँतों से दबा देता.

वो गरम हो रही थी।हम दोनों ने प्रियंका को इग्नोर करना स्टार्ट किया क्योंकि उससे तो हमें कोई भय ही नहीं था और वो भी मूवी देख रही थी।फिर जब देखा प्रियंका मूवी में बिजी है. मोनू बोला- क्या हुआ रीमा दीदी?मैंने कहा- तू तो सचमुच अब बच्चा नहीं रहा.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में तब मैंने कहा- तुम्हारी कच्छी दिखाई दे रही है।चूचियों का नाम तो मैं ले नहीं सकता था।वो तुरंत मेरे पीछे झाडू लेकर दौड़ने लगी।मैंने कहा- तुमने प्रोमिस किया है. अब मैंने उसको खड़ा किया और ब्लाउज और साड़ी उतारने लगा।वो हल्का सा शर्मा रही थी.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में मैंने एक झटके से फिर पूरा अन्दर पेल दिया।अब उसको दर्द कम हो रहा था. तो आधा लण्ड नीलम की चूत में घुस चुका था और वो एकदम से चीखने लगी।मैंने उसका मुँह दबाया और उससे कहा- थोड़ा धीरे चिल्लाओ.

’संतोष का खड़ा लण्ड देखने से मेरी चूत एक बार फिर चुदने को मचल उठी और मैं ‘तबियत ठीक नहीं है’ का बहाना करके बोली- संतोष तुम खा लो.

जवान की सेक्सी वीडियो

तो सनडे को इनके घर होने पर भी तुमको कॉल करने का रिस्क ना लेती। यह प्यार ही था. तो राकेश जी ने मेरी ब्रा के हुक खोल दिए और मेरे दोनों दूध निकल कर सामने आ गए. तो पूरा लंड बाहर निकाल कर फिर से मुँह में भर लेता।मुझे नहीं याद पड़ता कि कभी उसके पहले मेरा लंड इतना चिकना और गीला हुआ होगा। मेरे लंड से थूक और काम रस दोनों साथ में टपक रहे थे। मेरी गोलियां सर्दी की वजह से और काम के वेग की वजह से लंड के बिल्कुल पास आकर रुकी हुई थीं.

फिर मैंने उसको हाथ से हिलाना चालू किया।तभी उसने कन्डोम निकाला और लण्ड पर लगाने के लिए मुझे दिया।मैंने कहा- अनु यहाँ कोई देख लेगा। लेकिन वो नहीं माना।मैंने लण्ड पर कन्डोम चढ़ा दिया।अब अनु बोला- देख हिमानी तेरा पसन्दीदा खुश्बू वाला कन्डोम है. मगर मेरा ध्यान तो उसकी मस्त गाण्ड पर ही था।कुछ दिन बाद उसकी नानी के घर से फ़ोन आया कि उसकी नानी की तबियत बहुत ख़राब है. क्या आजकल किसी गाँव की दूसरी औरतों के साथ हगते हो?इतना कह कर वे जोर-जोर से हँसने लगीं।मैं शरमाते हुए बोला- भाभी आपने ही तो मेरे हगना बंद कर दिया.

इतनी छोटी-छोटी बातों से।उनको मुझे टयूशन देते हुए तकरीबन दो महीने हो गए थे। तभी एक बार मेरी दादी की तबीयत खराब हो गई और उनको हस्पताल में भर्ती करवाना पड़ा। पापा ऑफिस जाते थे.

तो वो इस पर झुक गई और मुँह में लेकर ऊपर-नीचे करके लण्ड चूसना शुरू कर दिया।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !कुछ देर चुसवाने के बाद मैंने उसको घोड़ी बनाया और उसकी चूत को थूक से गीला किया और अपने लण्ड की टोपी उसकी चूत पर फेरने लगा।वो बोली- मेरी जान अब डाल भी दो अन्दर. मैंने दिन में उस मूवी के सेकंड पार्ट की जगह एक ब्लू फिल्म डाल दी थी और उसको उसका नाम दे दिया था।सोनी मूवी देख रही थी और मैं सोने का नाटक कर रहा था. चूत से क्या मस्त खुशबू आ रही थी।मैं उसकी गाण्ड के नीचे हाथ फेरता हुआ उसकी चूत की भीनी-भीनी महक को सूंघने लगा।फिर धीरे से मैंने उसकी चूत के बालों में अपना मुँह रगड़ना शुरू कर दिया.

उसने बताया था कि उसका कोई बॉयफ्रेंड है।हालांकि उसकी इस बात को जानकर मुझे थोड़ी मायूसी भी हुई थी. ’मैंने उसकी रसीली चूत में अपनी उंगली घुसा दी और अन्दर-बाहर करने लगा।‘फ़चा-फ़च्छ. इसलिए विशु तुम यह टेंशन मत लो और बेफिकर होकर जी भर के मेरी चुदाई करो। मुझे भी सपना की तरह खुश कर दो और मेरी कोख में अपना बच्चा डाल दो।मैंने कहा- ठीक है.

आप तो बिल्कुल हिरोइनों के जैसी हैं।मैंने अपनी टाँगें चौड़ी कर दीं।अब खेल शुरू हो चुका था और मेरा मन उससे चुदने को आतुर हो उठा था।कहानी जारी है।[emailprotected]कहानी का अगला भाग :मुँह बोले भाई का लण्ड देख मेरी चूत गीली हुई -2. शायद ये आपकी चुदाई का ही असर है। पर मैंने तो सुना था कि ज्यादा चुदाई से चूत ढीली हो जाती है लेकिन ये तो उल्टा ही असर हो रहा है।मैंने कहा- यह मेरी चुदाई का नहीं चटाई का असर है.

कि मैंने दो-तीन बार कॉलेज की एक लड़की के साथ सेक्स किया है।अब तो भाभी मेरे कमरे में आने-जाने लगी थीं और मेरी सब चीजों को भी देख लेती थीं।जब भाई नहीं होते थे. फिर हमारी कॉलेज की परीक्षा शुरू हो गईं। परीक्षा होते ही आमिर को अपने गांव वापस जाना पड़ा।हम दोनों फोन पर बातें कर लेते थे और एक-दूसरे के साथ के लिए तड़प भी रहे थे. अब चूस ले।मैंने अब उसके खड़े लौड़े को बड़े आराम से मुँह में ले लिया। मुझे अब कोई दिक्कत नहीं थी, मैंने लण्ड को चूस-चूस कर और मोटा कर दिया।अब वो बोला- हिमानी तू पेड़ को पकड़ कर घोड़ी बन जा.

पुनः लिख रहा हूँ कि यह कहानी पूर्णतय: काल्पनिक है।मेरे घर में मेरी सौतेली माँ.

खूब दारू पी।फिर दोस्त ने कहा- चल किसी कॉलगर्ल को चोदा जाए।अब मुझे भी नशा हो गया था. इसकी मैं जितनी भी तारीफ करूँ, हमेशा कम लगती है।लेकिन जहाँ कहीं भी देखो, आज के दौर में सिर्फ महिलाओं का बोल-बाला है. मैं काफी समय से अन्तर्वासना का नियमित पाठक रहा हूँ।मैं नॉएडा में रहता हूँ और इंजीनियरिंग कर चुका हूँ। मेरी उम्र 24 साल है और लम्बाई 5 फुट 7 इंच है। मेरा लण्ड 7 इंच का है।मैं अपनी यह पहली कहानी लिख रहा हूँ.

तो मैंने प्रीत का सर दोनों हाथों से पकड़ा और जोर-जोर से प्रीत के मुँह को चोदने लगा।करीबन 30 से 40 धक्के मारने पर सारा माल प्रीत के मुँह में डाल दिया।अब हम दोनों साथ में नहाए और फिर प्रीत ने अपने कपड़े पहने और मुझे खाना दिया। इसके बाद जैसे ही उसने दरवाजा खोला. तभी वो काँपने लगी और इधर-उधर को अपनी गाण्ड हिलाने लगी।उसने अचानक पूरी पीछे को होकर मेरा लंड अपनी चूत में पूरा लेने की कोशिश की.

वो अभी भी सिसक रहे थे और रो रहे थे। सच ही है अगर 4 घन्टे तक लगातार किसी की गाण्ड मारी जाए तो सोचिए क्या होगा।अब मुझे भी बुर चुदवाने की ज़रूरत थी लेकिन इनकी हालत इतनी खराब थी कि फिलहाल यह सम्भव नहीं दिख रहा था। वैसे भी रात के एक बज गए थे। मैंने भी कमरे में फैले अपने यूरिन को साफ़ किया और सुबह 5 बजे का अलार्म सैट करके सो गई।सुबह 5 बजे मेरी नींद खुल गई। मैंने देखा कि मेरे पति नंगे ही सोए हुए हैं. मगर मैं अभी उसे और अभी और गर्म करना चाहता था।मैंने शाज़िया से कहा- जान एक बार इस लंड को अपने होंठों की गर्मी दे दो. तो वो मुझ पर हॉस्टल के दिनों से ही मरता है।’उसने हँस कर कहा- तुम तो अभी भी चिकने दिखते हो.

हनिमून सेक्सी

या यूँ ही कह रहे हो कि पेली हैं।मैं- हाँ भाभी रोज रात में गाँव की जिस भी औरत की चूत में खुजली होती है.

मुझे शाम तक जाना है।इतना सुनने की देर थी कि उन्होंने मुझे अपनी बाँहों में भर लिया और मेरे चेहरे को एक हाथ से ऊपर उठा के बोला- मुझे लगता है. और उनके सिर से बह रहा पानी काले रेशमी बालों को माथे पर चिपकाता हुआ उनकी छाती के बालों को भिगोता हुआ नाभि से होकर उनके काले रंग के टी. मुझे लगा कि मैं ऐसे ही झड़ जाऊँगा।फिर वो उठ कर मेरे लण्ड पर कन्डोम पहनाने लगी और उसके बाद वो नीचे लेट गई।अब वो शुद्ध रंडी की भाषा में बोली- आ जा मेरे राजा.

मेरी सेक्सी देसी कहानी के पिछले भागट्रेन में फंसी पंजाबन कुड़ी -1में आपने पढ़ा:अब आगे…जैसे ही उसने बोलना बन्द किया. ’ करने लगी।मैंने अपनी जीभ उसकी चूत में पूरी अन्दर तक घुसा दी।‘आह्ह. दिल्ली जीबी रोड की सेक्सी वीडियोपूरा लौड़ा दनदनाता हुआ चूत में समा गया।एनी को लगा उसकी बच्चेदानी पर ज़ोर की चोट लगी है.

कि मैं पसीना-पसीना हो गया था।मैंने मैडम से कहा- बाथरूम कहाँ है?तो उसने बताया. मैं एक 38 साल बहुत गोरी और सेक्सी महिला हूँ।जो घटना मैं बता रही हूँ.

।तो प्रीत बोली- थैंक्स।प्रीत ने अभी तक अपने कपड़े नहीं बदले थे तो वो मुझसे बोली- यश तुम यहीं बैठो. फिर हमने सोने की तैयारी कर ली।मैंने पूछा- मैं कहाँ पर सोऊँगा?भाभी ने कहा- हम दोनों एक ही बिस्तर पर सो जाते हैं।मैं चादर के अन्दर मुँह करके मोबाइल पर अन्तर्वासना डॉट कॉम पर भाभी-देवर की चुदाई की स्टोरी पढ़ने लगा. अब तो वो जान भी मांगता तो भी हंसते हंसते दे देता… अब मेरा भी फर्ज था कि मैं भी उसको और आनंदित करूं.

’मेरा इतना कहना था कि संतोष दौड़कर गया और तेल की शीशी ले आया और मुझसे बोला- मेम साहब सबसे ज्यादा दर्द कहाँ है?‘हर जगह है रे. जो अपने पति से अलग रह कर एक चार्टेड अकाउंटेंट के यहाँ काम करती थी।मैंने और ममता. मैंने उनके होंठों को बड़े प्यार से छुआ और अपने होंठों से उन रसीले अधरों का रसपान करने लगा।भाभी के जिस्म से बहुत ही मादक सुगंध आ रही थी।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !दोस्तो, भाभी गर्म होती जा रही थीं और मैं उनके पूरे जिस्म को मानो किस नहीं कर रहा था.

पेट और फिर नाभि के नीचे भी तौलिया का एक कोना जिसमें मेरा हाथ उनके जिस्म को अधिक टच हो रहा था.

पर तुझे भी अपने कपड़े उतारने पड़ेंगे।कुछ सोचने के बाद वो राजी हो गई।हम दोनों ने कपड़े उतारे और एक-दूसरे के जिस्म के दीदार किए।वो मेरा टाइट लौड़ा देख कर बोली- तेरा तो बहुत बड़ा है. अभी के लिए मैं अब आज्ञा चाहता हूँ। शायद मेरी इस कहानी ने आप सभी की चूत में खुजली और लंड में तनाव कर ही दिया होगा.

कि मैं अपने पति के साथ उनकी मानसिक स्थिति का इलाज करने हेतु एक डॉक्टर की सलाह मान कर उनके साथ सेक्स की एक विधा ‘ब्रूटल सेक्स’ का प्रयोग कर रही थी और उसी क्रम में मैं आज राज रात उनके साथ पेश आ रही थी।घटना-क्रम के पूर्व भाग में आपने जो पढ़ा था उससे आगे. मेरा 6 इंच तक अन्दर चला गया। मैडम की चीख मेरे मुँह में दब गई। मैडम तड़पने लगी ठीक उसी तरह. परन्तु हमको रिजर्वेशन होने के कारण जगह मिल गई। उस औरत ने भी हमारे पैरों के पास जगह बना ली और लेट गई, उसकी सास और बेटा भी वहीं लेट गए।वो औरत मेरे पैरों के ठीक नीचे अपने चूतड़ मेरे पैरों की उंगलियों पर टिकाकर लेट गई थी। मैं कुछ नहीं बोला.

तो मैंने नाड़ा खोला और उनको सीधा कर दिया। फिर उनकी सलवार के अन्दर हाथ डाल कर पैंटी पर से उनकी चूत सहलाने लगा।तभी बुआ ने मेरा सर पकड़ा और अपने मम्मों पर रख दिया। मैं उनके मम्मों को चूसने लगा। वो मेरे सर पर हाथ घुमाने लगीं. 5 इंच का था।मैंने कहा- इतना बड़ा अन्दर कैसे जाएगा?तो बोला- इसकी चिंता तुम मत करो. बाहर को आ गए। मैंने तुरंत ही उसकी ब्रा के अन्दर हाथ डाल दिया और उसके निप्पल्स को रगड़ने और मसलने लगा।अब मैंने उसका टॉप ऊपर करके उसके दायें मम्मे को हल्का बाहर निकाला.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में तो वहाँ घर दूर-दूर थे और जगह भी सुनसान थी।मैंने उसके घर पहुँचकर डोरबेल बजाई जैसे ही दरवाजा खुला. मुझे नहीं चुदवाना!’मैं हँसते हुए उसकी चूचियों को चूसने लगा और एक हाथ से उसके बालों और कानों के पास सहलाने लगा। कुछ देर के बाद मैंने उसके कानों को भी चूमना शुरू कर दिया।कुछ देर के बाद वो फिर से गरम हो गई, फिर मैंने धीरे-धीरे धक्का लगाना शुरू किया, पहले तो वो चिल्लाई लेकिन कुछ देर के बाद मैंने पूछा- मजा आ रहा है?वो बोली- हाँ महेश.

इंडिया सेक्सी बीपी पिक्चर

उसने स्काई ब्लू रंग की हाफ बाजू की शर्ट पहन रखी थी जो उसकी छाती पर खिंची हुई थी और कसे हुए डोलों के साथ उसके हाथों पर मर्दाना बाल बड़े मस्त लग रहे थे. मुझे ऐसा सेक्स कभी पहले नहीं मिला था और ना बाद में मिलनी की उम्मीद है।इस सेक्स कहानी के पढ़ने के बाद आप अपनी राय मुझे जरूर बताइएगा।[emailprotected]. बस अब हमारी ज़िंदगी यूँ ही बहुत मज़े में कट रही है।अक्सर वो भी मेरी गाण्ड मारते हैं.

इसलिए तो उसने मुझे सब सच बताया।मैं भी ऐसा सच्चा दोस्त भी खोना नहीं चाहता था।संजय- तुम मुझ पर गुस्सा नहीं हो?मैं- था. पर पहले दूसरे प्यार के बारे में बताने जा रहा हूँ।यहीं से मुझे ऐसे काम में थोड़ी हिम्मत मिली।बात उस टाइम की है. कार्टून वाला सेक्सी फिल्मतो मैं कभी भी यह सब नहीं कर पाती।लेकिन क्योंकि वो भी कई सालों से यही सब करवाना चाहते थे.

पर मैं वैसे ही दबाता रहा और रिया बस अपनी आँखें बंद करके मज़े ले रही थी.

मेरा दिल धड़क रहा था कि अम्मी की आज दो मर्दों से चुदाई होगी।असलम ने अम्मी को अकरम के पास जाने को कहा।अम्मी धीरे-धीरे शरमाते हुए अंकल की तरफ़ बढ़ रही थीं. मेरा लण्ड ‘गप्प’ से अन्दर लेकर गपागप चूसने लगी।उधर प्रियंका ने मेरे पीछे आकर धीरे-धीरे मेरी गर्दन के पास चूमते हुए.

उसे रोकेगा कौन?वो मान गई और हम काफी रात तक एक-दूसरे के साथ बात करते रहे और ये सोचते रहे कि कब हम दोनों एक-दूसरे के करीब होंगे।क्योंकि आज की इस घटना के बाद न मैं ही अपने आप को रोक सकता था. बीच-बीच में अपने दांतों से निप्पल पर हल्के-हल्के काट भी रहे थे और वो और ज्यादा मस्त होती जा रही थी।मैंने उसकी उस चूची को. उसकी चीख निकल गई।मैं थोड़ी देर के लिए रुक गया और उसके उरोजों को मसलने लगा। थोड़ी देर बाद उसका दर्द कम हुआ.

जैसे मुझे तुमसे प्यार हो गया और तुम्हें पा लेना चाहता हूँ।उन्होंने बड़े प्यार से मेरे होंठों को चूम लिया।उनके होंठों का अपने होंठों पर स्पर्श मिलते ही मैंने उन्हें कस कर पकड़ लिया और मेरी आँखें बंद हो गईं।उन्होंने अपने होंठ मेरे होंठों से अलग किए.

तो वो दोनों ट्रक के बाहर ही खड़े थे।ट्रक ड्राइवर ने मुझसे आगे ले जाने के लिए पैसे माँगे।मैंने कहा- पैसे की तो कोई बात नहीं हुई थी।मैं डर के मारे काँपने लगी. मैंने एक लिंक पर क्लिक किया तो मालूम हुआ कि वो भाई-बहन में चुदाई की कहानियाँ पढ़ता था।मेरा भी मन किसी से सेक्स करने का होता था. और ना ही उसके बस में था।पूजा सलवार तो उतार चुकी ही थी सो मैंने भी देर ना करते हुए उसकी पिंक कलर की पैन्टी को नीचे खींच दिया।अब हम दोनों नीचे से बिल्कुल नंगे हो गए थे और मैंने अपना लंड चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया।इससे पूजा सिसकारियाँ लेने लगी ‘आहहाअ.

ப்ளூ பிக்சர் வீடியோक्योंकि उसने उसकी चूचियाँ पूरी मस्त के साथ बेदर्दी से मसलनी शुरू कर दी थीं।मेरी बीवी इतनी गर्म हो रही थी कि उसने तुम्हें रोकने या कुछ कहने के बजाए मस्ती में आँखें बंद कर लीं और धीरे-धीरे सिसकारियाँ भरनी शुरू कर दीं।मैंने उसकी ओर देखा तो वो मस्ती में भरी हुई सेक्स की मूर्ति लग रही थी, वो अपनी सीट की पीठ से टेक लगा कर पीछे की ओर झुककर बैठी थी. अपनी नाज़ुक उंगलियों से छेड़ने लगी। तभी मुझे लगा कि मेरी बुर से रस निकलने लगा है। अपनी बुर पर मेरी पूरी हथेली चलने लगी और थोड़ी ही देर में मेरी पूरी हथेली मेरी चूत के रस से लबालब हो गई।अंकल के साथ चुदाई का सोच कर मुझे मज़ा तो बहुत आया और मैं जल्दी झड़ भी गई.

सेक्सी लेडीज सेक्स

जरा मदद कर दे।वो सफेद झीना गाउन पहन कर मेरे कपड़े लेकर बाथरूम में चली गई और कपड़े धोने लगी।मेरा लौड़ा सख्त खड़ा हो गया. और हम दोनों हमारी कल रात की हरकतों के बारे में खुल कर बात करने लगे। बड़ा ही हसीन पल था वो. अगले भाग में मिलते हैं। अपने ईमेल जरूर भेजिएगा।कहानी जारी है।[emailprotected].

मैं हाथ फेरता रहा।मॉम तौलिया वाले गाउन को बदन पर पकड़े हुई थीं।मैं हाथ को अन्दर डालकर यह सब कर रहा था।फिर मैंने नाभि के नीचे पोंछते समय एक झटका दिया और उनका तौलिया वाला गाउन नीचे गिर गया।उनका पूरा गोरा जिस्म मेरे सामने नंगा हो गया। मॉम ने दोनों हाथ चूचों पर रख लिए. मेरी चूत प्यासी है… इसकी प्यास तो मिटानी ही होगी।किशोर कहने लगा- मेरा नाम किशोर है. जिसकी बाहें भी काफी चौड़ी थीं जो कि मेरी मैडम का प्लान था।हम दोनों मूवी देखने लगे.

वो अभी भी सिसक रहे थे और रो रहे थे। सच ही है अगर 4 घन्टे तक लगातार किसी की गाण्ड मारी जाए तो सोचिए क्या होगा।अब मुझे भी बुर चुदवाने की ज़रूरत थी लेकिन इनकी हालत इतनी खराब थी कि फिलहाल यह सम्भव नहीं दिख रहा था। वैसे भी रात के एक बज गए थे। मैंने भी कमरे में फैले अपने यूरिन को साफ़ किया और सुबह 5 बजे का अलार्म सैट करके सो गई।सुबह 5 बजे मेरी नींद खुल गई। मैंने देखा कि मेरे पति नंगे ही सोए हुए हैं. वैसा करते जाओ।मैंने तुरंत ‘यस’ कर दिया।मॉम ने अपनी अल्मारी से हेयर रिमूवर क्रीम निकाली और मुझे दे दी।अब उन्होंने मुझसे अपने दोनों हाथ ऊपर करके बाँहों की बगलों के बालों पर लगाने को कहा. पिछली होली का खुमार उतरा नहीं था कि इस साल भी होली आ गई…कुछ जल्दी ही आ गई।होली से एक दिन पहले रवि ने कहा कि इस बार बॉस की होली में उसे भी बुलाया गया है।बॉस यानी किशोरकांत… मैने उन्हें एक बार ही देखा था, लंबी-तगड़ी कद काठी-गठा हुआ शरीर, बुलंद आवाज।मैंने रवि से पूछा- क्या पहन कर जाना होगा?रवि बोला-.

और मेरा हाथ अलग करके ठीक से करवट लेकर सो गई।मैंने भी सोचा अब मैं भी मुठ्ठ मार कर सो जाता हूँ। फिर सोचा इससे अच्छा मौका फिर कहाँ मिलेगा. मैंने दोनों दूधों को हाथों में लेकर मसलना शुरू किया जिससे वो सिसकारियाँ लेने लगी ‘आहहहह मरररर गई.

घर भी जाना है। तुझे भी अपने घर जाना है तो मैं अभी ही माल निकाल देना चाहता हूँ।उसने ‘हाँ’ बोला और पुनः पूरा लंड मुँह में भर कर गोल-गोल घुमाने लगा और मेरी दोनों गोलियों के बीच में अपने अंगूठे से दबाया। मैं समझ नहीं पाया और मुझे लगा कि मैं अब नहीं रोक पाऊँगा।मैंने उसको बताया.

?उसने कहा- वह काफी अच्छी है और खूब गरम भी है। फिर भी मुझे उसके साथ सेक्स में कोई ख़ास मजा नहीं आता और मैं जल्दी झड़ जाता हूँ। तुम चाहो तो मेरी बीवी को चोद सकते हो।मैंने हैरानी से कहा- यह तुम क्या कह रहे हो. ब्लू वीडियो मूवी सेक्सीमैं फिर भी नहीं बोली। उसे लगा कि मैं सो गई हूँ।उसे पता था कि शादी में मुझे काफ़ी सर्दी लग रही थी। फिर भी उसने पंखा चला दिया और मेरे बिस्तर पर मेरे कंबल में आ कर लेट गया।मैं जाग रही थी लेकिन सोने का नाटक कर रही थी।उसने अपने पैर से हल्के से मेरे पैर को टच किया. आर्केस्ट्रा थिएटरजो कि मेरे चलने से एक अजीब से सेक्सी अंदाज़ में हिलते हैं।मेरे मम्मे इतने मस्त. तो देखा कि दो बज चुके हैं। हमें अपनी काम-क्रीड़ा में इसका पता ही नहीं चला।आगे इस वासना की आग को भड़कते हुए पढ़ने के लिए अन्तर्वासना से जुड़े रहिए।कहानी जारी है।[emailprotected].

’ की आवाज आने लगी।कुछ ही पलों में पूजा के मुँह से भी आवाजें तेज होने लगीं ‘आअह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह्ह.

अन्तर्वासना पर मैं आपको अपनी चूत की अनेकों चुदाईयों के बारे में बताने जा रही हूँ. उसने अपना नाम बताया और कहा- मुझे ये नंबर मेरे किसी परिचित ने दिया है. निकलने वाला है।तभी मैं भी उठी और उसका लंड मुँह में ले लिया, एक ज़ोर की धार के साथ मेरे मुँह में उसने अपना पानी निकाल दिया, मैं लपलप करके सब चाट गई।फिर हम तीनों यूँ ही नंगे ही सो गए अब मैं उन दोनों के बीच में आराम से नंगी पड़ी थी।सुबह मेरा से चला भी नहीं जा रहा था।पहली बार में ही दो लन्डों से मेरी चूत चुदवाने की रसीली कहानी आपको कैसी लगी दोस्तो.

क्योंकि मैंने उसे पहले ही बता दिया था कि वो हमें डिस्टर्ब ना करे।परदा लगाने के बाद हम फिर इधर-उधर की बातें करने लगे। बातें करते-करते हम एक-दूसरे के अंगों को छेड़ रहे थे. ऐसा समझो कैमरा घूमता रहेगा बस।अर्जुन अब पायल की चूत को चाट रहा था और वो सिसकारियाँ ले रही थी।पायल- आह्ह. नहीं तो ऐसी हालत हो जाएगी जिसे तुम सोच भी नहीं सकते।टोनी- अच्छा इतना घमण्ड है तेरे को अपने भाई पर.

सेक्सी वीडियो ब्लू सेक्स वीडियो ब्लू

नहीं तो तेल लग जाएगा।’और मैं ब्रा खोल कर निकाल कर संतोष को देते बोली- ले. उसके लंड में भी तनाव आने लगा था और मैं पैंट के ऊपर से ही उसके मस्त लंड को चूमे जा रहा था।उसका लंड उफान पर आ गया और झटके मारने लगा था. मचल रही थी और मुझे अपने अन्दर समाने की कोशिश कर रही थी।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !पसीने में तर-बतर हम एक-दूसरे में खोये हुए थे और प्यार के उस अथाह समुंदर में गोते लगा रहे थे.

उठी हुई गाण्ड और पहाड़ जैसी चूचियाँ मुझे पागल करने लगीं।मेरे शेर ने भी अब मेरी पैंट पर एक उभार सा तैयार कर दिया था.

मुझे घर भी जाना है।समुझे लगा कि उन्होंने मेरी बात सुन ली और मान गए, उन्होंने मेरी तरफ सर उठा कर देखा और कहा- चुदने के लिए तैयार हो?मैंने भी उनके ही भाषा में कहा- अब तड़पाओ नहीं यार.

जबकि उसका कमरे में एसी चल रहा था।फिर थोड़ी देर मैंने आयिल से गाण्ड की मालिश शुरू कर दी. मैं गया और मैंने सारी खिड़कियाँ बंद कर दीं। मैं आज हम दोनों के बीच किसी तीसरे को नहीं आने देना चाहता था।अब उस कमरे में खिड़कियों से आती चाँद की चांदनी. एक्स वाई वीडियो सेक्सीअर्जुन चुदाई के साथ एनी के मम्मों को भी चूस रहा था। अब एनी की बातों से उसका जोश और बढ़ गया, वो और स्पीड से कमर को हिलाने लगा और ‘खचाखच’ चूत की धुनाई करने लगा।एनी भी गाण्ड को हिला-हिला कर झड़ने लगी, उसका कामरस अर्जुन के लौड़े से छुआ.

इन सभी के नाम असली हैं और शहरों के नाम सेफ्टी के लिए बदल दिए हैं। इन सभी का आभारी हूँ। जो अब हमारी ख़ास दोस्त बन गई हैं और उन सभी भाभीयों का भी आभार. या बोल सकते हो कि कुछ ख़ास है।मैं भी सोच में पड़ गया कि यार क्या हो सकता है।मैंने बहुत पूछा. वो कुछ ही धक्के लगाकर मेरी चूत में ही झड़ गया और काफ़ी देर मेरे ऊपर ही पड़ा रहा। अब वो थक चुका था और उसका मन भी भर गया था।मुझे सूसू आ रही थी.

जिससे वो लगभग चरम सीमा पर पहुँचने वाली हो गई थी। मैंने अपनी उंगली से उसकी चूत के अन्दर के जी-स्पॉट को सहलाने लगा. अब तो तेरा जोश और पॉवर देखना ही पड़ेगा। चल शॉपिंग बाद में करेंगे, पहले तुझे ठंडा करवा के लाता हूँ।सन्नी ने गाड़ी स्टार्ट की और अर्जुन को लेकर चल पड़ा।सन्नी- कभी विदेशी माल भी खाया है क्या तूने?अर्जुन- अरे मैं ठहरा गाँव का छोरा.

पर नार्मल सा रियेक्ट कर रही थीं।फिलहाल इंटरवल में अब हम चारों बाहर आए।मैं टॉयलेट में चला गया.

जिससे थोड़ी जगह हो गई और मैं अब आराम से उनकी गाण्ड चोद रहा था।मैम ‘आह. आप सेक्स करने से पहले अपना लंड अच्छी तरह से क्लीन करें उसके बालों को शेव करें और उसे साबुन से साफ़ करें।4. वो शाम तक नहीं आने वाला था।उस दिन मेरे पास कुछ ज्यादा ही कपड़े धोने के लिए थे.

नॉनवेज स्टोरीज इसी धुन में धक्के लगाता रहा।नीचे से सुरभि उसके चूचे चूसते हुए अपने पैर के अंगूठे से प्रियंका की चूत में अन्दर-बाहर करने लगी. चलो घूमते हुए बात करते हैं।बात करते हुए मैंने उनको डाइट चार्ट की बात छेड़ दी तो उन्होंने मुझसे कहा- मुझे भी बता दो न.

तो उसने मुझे तेज़ी से धक्का दिया और सलवार ठीक करते हुए बाहर चली गई।मैं उसके शरीर के इस भाग को देख कर सोचता ही रह गया. उसने मेरे लबों को किस किया और कपड़े पहन कर मैं अपने घर को चला आया।उसके अगले दिन मैं उसके घर जब पहुँचा. कैमरा ऑन हो गया। मैंने सबसे पहले अपनी साड़ी निकाली और बोली- ये नीचे टाँगों और मेरी चूचियों को ढकने में काम आती है। अब बारी थी मेरे ब्लाउज की.

असली चुदाई सेक्सी

वो मेरे पड़ोसी भईया की साली थी। चढ़ती जवानी का माल थी और मेरी बहनों के साथ की ही थी।जैसा कि होता है. तो नेहा इस बात को देख रही थी।अब प्रीत केक ने काटा और पहला पीस लेकर सीधा मेरी तरफ आई और मुझे केक खिला दिया. मैं हामी भर दी।हम दोनों घूमने का नियम पूरा करने के बाद अपने अपने घरों को जाने लगे तो तो आंटी ने कहा- क्या तुम अभी मेरे घर पर डाइट चार्ट बताने के लिए आ सकते हो?मैंने कहा- अभी काफ़ी लेट हो गया हूँ.

तो कभी पूरी जीभ चूत के अन्दर डालने लगता।भाभी मेरा सर अपनी चूत पर दबाने लगीं और जोर-जोर से चिल्लाने लगीं- चाट रवि. ’ मॉम के मुँह से निकला, बोलीं- इतना मज़ा पहले कभी नहीं आया… वेल डन माय बॉय.

कमरे में गूँजने लगीं।यह कहानी आप अन्तर्वासना डॉट कॉम पर पढ़ रहे हैं !कुछ देर इसी तरह चोदने के बाद मैंने सोनी की दोनों टाँगें ऊपर उठाईं और जोर-जोर से उसकी चूत की चुदाई करने लगा। इस बार सोनी रो रही थी.

तो मैं देखता ही रह गया, मेरा मन किया कि मैं आगे जा कर उसके निप्पल को छू लूँ. नहीं तो शायद आज सैलाब आ जाएगा और इस सैलाब को रोकने वाला ही जब दूर है तो. उन्हें कह कर मेरी नानी मुझे ऊपर भेज देती थीं और मामा मुझे ऊपर ले जा कर मेरे कमरे में मुझे सुला देते थे। लेकिन जब वो सीढ़ियों से ऊपर ले जाते.

लेकिन ज्यादा मोटा नहीं है। फिर मेरे लण्ड को वो अपनी चूत में घुसवाने के लिए तैयार हो गई और काफी प्रयास करता रहा. आपके लिए दिल ओ जान हाज़िर है।प्रीत हँस कर बोली- कल बताउंगी कि मुझे गिफ्ट में क्या चाहिए।मैंने कहा- कल तो आपके ससुराल वाले भी आएंगे?तो प्रीत बोली- नहीं. जूही ने अपने हाथ से मेरा लण्ड निकाला और चूसने लगी। वो बहुत प्यार से मेरे लण्ड को चूस रही थी। कुछ समय के बाद मेरा सारा पानी उसके मुँह में ही निकल गया और वो मेरा पूरा पानी पी गई और मेरे लण्ड की अच्छे से सफाई भी कर दी।मैं निढाल हो कर उसके बराबर में ही लेट गया और उसको दूधों के साथ खेलने लगा, कुछ ही समय में उसके निप्पल कड़क हो गए।अब जूही बोली- मुझसे बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं हो रहा है.

तो मैंने और तेज़ी से अपनी जीभ उसकी चूत पर फेरनी शुरू कर दी और थोड़ी ही देर में उसकी चूत ने अपना रस मेरे मुँह पर उड़ेल दिया।सोनाली ने आँखें खोलीं और मुझे नग्न अवस्था में देखा तो बोली- राहुल.

इंग्लिश बीएफ सेक्सी वीडियो में: पर थी तो वो भी लड़की।कंप्यूटर सेंटर में उसको एक लड़का पसंद आ गया।उसने मेरे ज़रिए उस लड़के से बात करना शुरू किया और बात करते-करते उनकी बातें कब प्यार में बदल गईं. दुकान नज़दीक थी और मैं जल्दी वापस आ गया था।आंटी ने मुझे आता देख घर में बुलाने का इशारा किया.

फिर धीरे-धीरे मम्मों को थोड़ा दबाना शुरू किया।मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि जाने कौन सी मजेदार चीज मेरे हाथ लग गई थी। उसका सूट टाइट था. ठीक उसी तरह किसी लड़की को पहली बार चोदते वक्त आराम से चूत के अन्दर प्रवेश करना चाहिए।खपाखप. अर्जुन चुदाई के साथ एनी के मम्मों को भी चूस रहा था। अब एनी की बातों से उसका जोश और बढ़ गया, वो और स्पीड से कमर को हिलाने लगा और ‘खचाखच’ चूत की धुनाई करने लगा।एनी भी गाण्ड को हिला-हिला कर झड़ने लगी, उसका कामरस अर्जुन के लौड़े से छुआ.

तो उन्होंने अपना एक हाथ मेरी जाँघों को पकड़ते हुए मुझे बिस्तर पर घसीटते हुए बीचों-बीच ले आए और फिर उसी हालत में मुझे लिटा दिया।मैं उन्हें अभी भी पकड़े हुए थी। उन्होंने करवट ली.

अगर दूसरा राउंड हो तो बात अलग है।यह सुनकर भाभी ने कहा- दूसरे राउंड की तो बात ही छोड़ो. एक बूँद भी नहीं गिरने दी।उस दिन मैंने उसे रात को 1 बजे तक क़रीब 4 बार चोदा।उसके बाद मैंने उसे बताया कि मैं जा रहा हूँ. मेरे बदन में करंट दौड़ गया।उन्होंने मेरा पजामा एक ही बार में अंडरवियर के साथ नीचे कर दिया और मेरे लंड को हाथ में लेकर हिलाते हुए बोलीं- तेरा लंड तो कितना बड़ा है.