भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,অসমীয়া চেক্স ফটো

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो सबसे अच्छा: भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ, संगीता सर मोड़ कर बड़ी गौर से मयंक के लौड़े को देख रही थी और मेरे लौड़े को अपनी चूत में घुसाए हुए उचक रही थी.

एक्स एक्स एक्स हिंदी सेक्सी डॉट कॉम

तूने शायद कभी ध्यान दिया हो, मेरी मम्मी को भी घर में ब्रा पैंटी से एलर्जी है. जनानी सेक्सताकि चुदने के समय सोनम और भी मस्त रंडी बनकर अपनी चुत और गांड बिना किसी चीख-चिल्लाहट से उसके काले लौड़े से चुदवा सके.

फिर वो थोड़ा मेरे पास आई और बोली- मैं बहुत प्यासी हूँ … तुम मेरी प्यास बुझा दो. बीएफ सेक्सी वीडियो एचडी न्यूउसने तुरंत मुझे फोन किया और हम दोनों धीरे-धीरे बातें करने लगे जिससे किसी को सुनाई नहीं दे और कोई शक भी न कर सके.

रीमा इस बात को सुनकर बड़ी खुश हुई कि उसने एक कुंवारे लंड का शिकार किया है.भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ: भाभी हंस दीं तो झट से मैं बाहर से एक बाल्टी ले आया और उसे उल्टा रख दिया.

मैंने एक दो बार दोबारा कॉल करके देखने का प्रयास किया लेकिन रोहन ने कॉल का उत्तर नहीं दिया।कुछ देर बाद फिर से रोहन का मैसेज मिला- कैसा लगा राज जी?मैं- सुंदर जिस्म है नेहा का.शाम को जब हस्बेंड घर आये तो मैंने उनको ये सब बताया और उनसे चलने के लिए पूछा तो उन्होंने साफ मना कर दिया.

बीएफ वीडियो एचडी बीएफ - भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ

तभी उसने हाथ बढ़ा कर बैग में से डिल्डो निकाला और खुद अपनी गांड में डालने लगी.सेक्सी रीमा की 32 इंच की कसी हुई चुचियां और उन पर उसके भूरे रंग के चूचुक देखकर निखिल कामातुर हो गया.

जबकि मैंने देखा कि भाभी ने मेरा मोबाइल अपनी ब्रा के अन्दर डाल लिया था. भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ चाची अधिकतर लॉन्ग स्कर्ट और साड़ी पहनने लगी थी और उन्होंने नीचे पैंटी पहननी छोड़ दी थी ताकि जल्दी में भी चुदाई की जा सके.

राज को तड़पता हुआ देखकर साहिल अमित और विशाल की भी सांस अटक गई, वे उठने लगे तो मैंने उनको आदेश दिया- कुत्तो, लेटे रहो.

भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ?

लेकिन अब मुझे संभोग की आग बहुत तेज़ लग रही थी और शायद दूध वाले के मन में भी यही चल रहा था क्योंकि मेरी गांड में नीचे से उसका लंड कड़क होकर मेरी गांड की दरार में गड़ रहा था. और वहां मेरा भाई, तेरे जन्मदिन वाले दिन ही तेरी बहन की सील तोड़कर उसकी चूत का भोसड़ा बना चुका है. तभी अचानक से याद आया कि कहीं मेरी मां की चुदाई का समय तो नहीं हो गया है.

अब हम देवर भाभी रोज रात को चुदाई करते थे और दिन में जब भी मौका मिलता तो किस कर लेते थे. नमस्कार दोस्तो, सेक्स कहानी के पिछले भागजवान लड़के को जिस्म दिखा के पटा लियामें अब तक आपने पढ़ा था कि रीमा और निखिल के बीच भी चुदाई का खेल शुरू हो गया था. घर के काम और मेरी काम वासना दोनों के लिए मुझे बहुत अच्छा लड़का मिल गया था.

अंकल ने मेरा हाथ अपने लंड पर रखवा दिया और मुझसे लंड सहलाने के लिए कहा. उसने विक्रम का लंड मुँह में ले लिया और उससे लंड के माल के साथ साथ पेशाब भी मुँह में गिराने की मंशा जता दी. भाभी देखने में इतनी मस्त माल हैं कि उनकी मचलती जवानी को देख कर बुड्ढों का भी लंड पानी फैंक दे!यह घटना इसी मार्च महीने की तेईस तारीख की है.

उसने एक चीख और मारी और कुछ धक्कों के बाद अब वह आंख बंद कर मज़े से चुद रही थी. आह जल्दी जल्दी चोदो मुझे … आह आज इसकी सारी गर्मी निकाल दो … बिना लंड के ये बहुत तंग करती है.

दीदी ने मुझे बेड पर धक्का देकर गिरा दिया था और मेरे होंठों को फिर से चूसने लगी थीं.

पार्टी में हम दोनों किसी शौहर पत्नी के तरह ही हर तरफ घूम फिर कर खाना खा रहे थे.

रोज़ चुदाई होने की वजह से चूत खुल चुकी थी, लेकिन जैसे ही लंड की ठोकर उनके बच्चेदानी में लगी … उनके नाखून तेज़ी से मेरी पीठ पर गड़ गए और मुँह से एक हल्की सी आह निकली. मैंने दोबारा कोशिश की तो फ़लक ने थोड़ा चूतड़ों को ऊपर उठा लिया और पैंट बाहर निकल गई. तब तक आप लोग फिनिश करके अपने अपने रूम में चले जायेगा और कपड़े बदलर बाहर पार्किंग में आ जायेगा।सभी लोग आ चुके थे।एक एनाउंसमेंट हुआ- हम शो शुरू कर रहे हैं। सब जोड़े मूड बना लें.

अचानक मेरी नज़र सामने की खिड़की पर पड़ी जिसकी हल्की सी ओट से नीतू हमें देख रही थी।इस वक़्त मैं नीतू को और नीतू, मुझे और रूपाली देख रही थी. ’मौसी- मजा आ रहा है न!मैं- हां मेरी जान … तुम बीएस लंड चूसना शुरू कर दो. हॉट भाभी की चूत स्टोरी के पहले भागसगी भाभी ने चूचियों से दूध पिलायाhttps://www.

अब वो पूरी तरह से गर्म हो गयी थीं लेकिन मैं अभी उनको और ज्यादा गर्म करना चाह रहा था.

मैंने जल्दी से अपनी उंगली हटा ली और कहा- ये क्या कर रही हो आंटी?आंटी बोलीं- कुछ नहीं, तू इसमें अपनी उंगली डाल और खुजली कर. यहां पर मानस अपना एक हाथ से लौड़ा हिला हिला कर उसे और गर्म कर रहा था मानों जैसे किसी लड़ाई पर जाने से पहले अपनी तलवार को धार लगा रहा हो. खाना बनाने के बाद मैं दूसरे कमरे में जा रही थी कि तभी अचानक से मेरी उस कमरे में नज़र पड़ी, जहां मेरी बेटी और शहज़ाद थे.

अतः मैं अपनी स्कूटी लेकर बाजार गई तथा सभी सामानों की खरीदी के बाद एक जनरल स्टोर पर आई।यह जनरल स्टोर हमारे बिल्कुल पास में रहने वाले एक अंकल का था. इसमें कुछ स्त्रियां बहुत ज्यादा कामोत्तेजित हो जाती हैं … और कुछ को असीम आनन्द की अनुभूति होती है. पर अंदर से थोड़ा डर भी लग रहा था क्योंकि अभी तक हमारे बीच सब सामान्य ही था … मतलब हम सिर्फ अच्छे दोस्त जैसे ही थे।जब मुझे लगा की मामी अभी भी गहरी नींद में सो रही हैं तो मेरी हिम्मत बढ़ी और मैंने अपना हाथ उनकी कमर में रख कर टटोलने लगा.

सविता भाभी की चूत को लंड की जरूरत थी शायद … उन्होंने समय बिताने के लिए टीवी चला लिया।अभी वो टीवी के सामने बैठी ही थी कि खिड़की के शीशे को तोड़ते हुए एक गेंद कमरे में आ गिरी।सविता भाभी को गुस्सा आया झल्ला और वो गली के शरारती बच्चों को कोसने लगीं।फिर अचानक दो नौजवान लड़के आये और उनसे माफ़ी मांगते हुए अपनी गेंद मांगी.

ऐसे कपड़े वो डेली पहनती थी, पर आज मुझे इसमें भी वो माल लग रही थी और मैं उसे ही देखे जा रहा था. मैंने उसे किस करते हुए ओके कहा और फिर कुछ ही देर में मेरा और उर्वशी का एक साथ पानी निकल गया.

भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ मैं अपनी कमर को तेजी से आगे पीछे करते हुए लगातार अपनी मां की चुत को चोदे जा रहा था. उन्होंने मेरे मुँह में अपना लंड डाला और कहा- अच्छे से गीला कर, जितना सूखा हुआ होगा, उतना ज्यादा दर्द होगा.

भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ ये साली फ्रेंची कैसे आ गई?मौसी ने हंस कर कहा- मेरे शेर मजा खराब न कर … आज से तू फ्रेंची ही पहनेगा. लेकिन मैंने उसका लंड चूत से नहीं निकाला क्यूंकि उसने कंडोम पहना हुआ था.

खैर उसने अपना काम जारी रखा और अब थोड़ा हल्के हाथों से धारा के विशाल उभारों का मज़ा लेने लगा.

సమంత సెక్స్ సమంత సెక్స్

धारा- क्या हुआ जनाब, कहाँ खो गए?शेखर- हमम्म … उन विशाल चोटियों की घाटी की गहराई में!!धारा- जी कहाँ?शेखर- ज. [emailprotected]क्यूट न स्वीट गर्ल सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी चूत का लंड से पहला साक्षात्कार- 2. मैं उसकी नंगी देह पर अपने हाथों के स्पर्श को याद करके अभी भी अपने आपको समझा रहा था.

करीब पांच मिनट की लन्ड चुसाई से समीर ने अपना माल हम दोनों के मुंह में छोड़ दिया. कुछ पल बाद भाभी ने घुटनों के बल बैठ कर मेरी पैंट की ज़िप को भी खोल दिया और मेरे अंडरवियर में हाथ डालकर लंड को बाहर निकाल लिया. मैंने उसकी गांड पर बेल्ट जोर से मारी तो उसके मुंह से बहुत जोर की चीख निकली.

अभी मैं कुछ समझ पाता कि उसने मेरे गाल पर हाथ रख कर एक गहरी चिकोटी काटी और मुझे अपनी ओर खींचते हुए मेरे होंठों पर होंठ रख कर एक जोरदार चुम्बन कर दिया.

मेरी जीभ की गर्मी पाकर आशारा की फूली हुई चूत और भी मस्त होने लगी और सांस लेती चूत का स्पष्ट अहसास पाकर मेरी हरकतें तेज होने लगीं. उसने पीछे से मेरी दोनों चूचियों को पकड़ कर जोर से दबा दिया और बोला- आज तो मजा आ जाएगा दीदी. उधर रोहन मेरा लन्ड पकड़ कर उसे हिलाते हुए ग़ौर से देख रहा था मानो उसे उसके तन जाने का इंतजार हो।अब रोहन ने मुझे आराम से बैठने को कहा.

फिर तुम्हारी माँ ने मुझे घर बुलाया और सारी बात बताई, वीडियो भी दिखाया. तने हुए मम्मों के नीचे भाभी की 30 इंच कमर और 38 इंच की गांड बड़ी दिलकश थी. पहले अपनी उंगली से उनकी चूत को सहलाया और धीरे धीरे चुत में उंगली करने लगा.

फिर तीनों दोस्तों और अजय ने मिलकर प्रिया की चुत गांड को चोदकर उसकी आग बुझा दी. ये सब देखकर मेरा मन तो किया कि अभी पकड़कर शन्नो आंटी को भी जमकर चोद दूं.

मैं जब झड़ने को हुआ तो मैंने लंड चुत से खींचा और उसके पेट पर लंड झाड़ दिया. भाभी हंस कर बोलीं- हॉर्न दबाने से क्या हासिल होगा मेरी जान … असली मजा तो नीचे के इंजन चलाने से मिलेगा. तभी मेरे दिमाग में दूसरे मर्द वाली बात घूमने लगी और मैं नशे में उसे दूसरे मर्द से सेक्स के लिए बोलने लगा.

मैं भाभी के नर्म नर्म मम्मे को चूसने लगा और भाभी मेरे बालों में हाथ घुमाते हुए मुझे अपनी चूची चुसाने लगीं.

गगन की बहन प्रियंका और मां सुम्मी ने प्रिया को उठा कर हवा में कर दिया, जिससे उसकी चुत बूब्स गांड सब ढंग से चाटी जा सकें. धारा की चूत में शेखर का लंड अब भी वैसे ही था, अटका हुआ … उसने अपना आधा शरीर उठाया और टटोल कर धारा की चूचियों को थाम लिया।फिर शुरू हुआ धारा कि चूत का कचूमर बनाने वाला खेल. उसने देखा कि उसकी माँ पूरी नंगी होकर मेरा लन्ड अंडरवियर से बाहर निकालती है.

फरियाल मेरा लंड ऐसे चूस रही थी, जैसे वो मेरे लंड को पूरा चूस कर खा ही जाएगी. बस मन कर रहा था कि ये चारों ऐसे ही पूरी रात मेरी चूत और गांड मार मार कर मुझे बेहोश कर दें.

इसी तरह उस भीड़ को पार करते हुए शहज़ाद का लंड मेरी गांड से बार बार टकराने और रगड़ने के कारण एकदम टनटना गया और मुझे कुछ ज्यादा ही गड़ने लगा. तुम्हें कोई भी बात करनी हो, सामान मंगाना हो तो मुझे नहीं, तुम यश को बोल देना. अब इन दोनों भाई बहन अभय और ममता में चुदाई की कहानी ने किस तरह से रंग लिया, वो सब मैं आपको अगले भाग में लिखूंगी.

हीरा का सेक्सी वीडियो

फिर इसी पोजिशन मैं दस मिनट तक भाबी को चोदता रहा और उनकी गांड पर थप्पड़ मार मार कर उसे लाल कर दिया.

मैं आपके लिये चाय बना कर लाता हूँ।मैं बाथरूम में गया, नहाया और तौलिया लपेट कर बाहर आ गया।रोहन मुझे देखकर मुस्करा रहा था।तभी रोहन ने चाय के लिये बोला. एकदम चाची बोली- राज, मेरा बस अब छूटने वाला है, दोनों साथ ही डिस्चार्ज होंगे. अब आगे पब्लिक सेक्स सिस्टम की कहानी:प्रियंका- जब तू नगर की औरतों को चोदता था, यहां तक को मां को भी, तो मैं यही सोचती थी कि भाई तू मुझे चोद रहा है.

ममता- ये बात तू कैसे कह सकती है?मैं- चल छोड़ … जल्दी से फ्रेश हो जा, मुझे नहाना है. उसके बाद हम दोनों नीचे आ गए, नाश्ता करने के बाद वापस दोनों अपने कमरे में आ गईं. ब्लू फिल्म दिखाइए हिंदी में ब्लू फिल्मभाभी सोफे पर मुझसे सट कर बैठी थीं और मैं एक हाथ से उनकी जांघ को सहला रहा था.

मैं- शीना अभी ये सब बताने का उचित समय नहीं है, मैं तुम्हें फ़ोन पर सब बताता हूं. शेखर समझ गया कि धारा अपने तरीक़े से मज़े लेना चाहती है, और उसने कहा भी था कि उसकी इच्छाओं का सम्मान होना ज़रूरी है.

उसने पैर और फैला दिए जिससे उसकी गुलाबी चूत के अन्दर तक दर्शन होने लगे. मैं भाभी की पैंटी निकाल चुका था और उनकी चूत का हाथों से मसलने लगा था. लंड को चुत की मलाई मजा दे रही थी और मेरी जीभ को उसकी जीभ का रस मजा दे रहा था.

इसी तरह मैंने उससे धीरे धीरे चुदाई की हल्की फुल्की बात करना शुरू कर दीं. तुम बोलो मेरी मां तुमको पसंद है … क्या चोदना चाहोगे क्या उनको?मैंने कुछ सोचा और बोला- हां पर कैसे होगा यह?वो बोला- ये सब तुम मेरे ऊपर छोड़ दो. अब इसके बाद प्रशांत और राजेश जब भी घर आते और सनी मिल जाता, तो वो दोनों उससे जमकर मजे लेते.

मेरे मुंह से हल्की सी आह निकली लेकिन मैं उनका लंड में पहले भी कई बार ले चुकी थी इसलिए मुझे बहुत ज्यादा दर्द नहीं हुआ.

फिर तो चिराग एकदम से आगे बढ़ गया और वो अपनी एक उंगली ज्योति की चूत में घुसेड़ने लगा. ” मैंने थोड़ा नादान बनते हुए कहा और उन्हें अपनी बांहों में समेटने की कोशिश करने लगा.

कैसे?हैलो फ्रेंड्स, मैं आपको अपनी जीजू की सैट की हुई एक कुंवारी लौंडिया की चुत चुदाई की कहानी सुना रहा था. घर पहुंच कर मैं फ्रेश हुआ और मुठ मारने का मन हुआ लेकिन मैंने मुठ नहीं मारी क्योंकि मैं अपने लंड के रस को संभाल कर रखना चाहता था. वो बेताबी से बोली- अब तो बिल्कुल भी इंतजार नहीं होता … इसे जल्दी से अन्दर डालो प्लीज.

मेरा मोटा लंड लहराते देख कर आंटी की आंखें ऐसे चमक उठीं, जैसे किसी बिल्ली को मलाई का कटोरा दिख गया हो. मैंने कारण पूछा तो पता लगा कि रवीना की एड्मिशन की लास्ट डेट आ चुकी है. मयंक संगीता की पीठ को सहला रहा था और साथ साथ संगीता की चूचियों को दबा रहा था.

भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ मैंने अगले ही उसकी कमसिन बुर को अपने मुँह में भर लिया और ज़ोर ज़ोर से पीने लगा. ’ चिल्लाती रही और मैं उसे कुतिया बनाकर रंडी के जैसे गपागप गपागप चोदने लगा.

സെക്സ്സ് video

भाभी- क्या, अपनी भाभी को चोदोगे?मैं- हां भाभी मुझे आप बहुत अच्छी लगती हो, मुझे आपसे प्यार है. अबकी बार ज्योति सबके सामने खुल कर चिराग के साथ, कभी उसके गले में बांहे डाल कर सेल्फी ले रही थी … तो कभी हग करके फुल एंजॉय कर रही थी. मेरी जिस्मानी प्यास भी मिटा दे, इसलिए मैंने आपकी कहानियां पढ़ कर आपको मेल किया था.

दूसरा बोला- हां … पहले पीछे से करेंगे क्योंकि दो साल से आपकी ठुमकती गांड को ही देख देखकर ही हम लंड हिलाते आए हैं. वो बार बार यही बोलती जा रही थीं- आह आह उई आह … मेरी जान मुझे अपना बना ले. फ्री बीएफवो चीखी- आईईइ … शेखर … आह्ह … आराम से !!”शेखर को धारा के दर्द का अहसास होते ही उसने झुक कर उसकी एक चूची को अपने मुँह में लिया और दूसरी को अपने दूसरे हाथ से मसलते हुए धीरे-धीरे अपने लंड को चूत में धकेलने लगा.

तो मैंने भी उसे बांहों में भर लिया और उसकी पीठ सहलाने लगा!सहलाते-सहलाते मेरे हाथ उसके कूल्हों पर पहुंच गये और गांड के छेद को ढूंढ कर सहलाने लगा मैं!अब तमन्ना हुयी नीचे और लंड को मुंह में भर लिया.

मौसी- उउउफ आह …मैं- फिर थोड़ा सा ब्रा को साइड करके निप्पल कर किनारे से जीभ से रगड़ूँगा. अब आगे कॉलेज लवर्स सेक्स कहानी:उधर दूसरी तरफ आकाश और स्नेहा आपस में बात कर रहे थे.

कुछ ही पलों में भाभी निढाल हो गई थीं और मैं कड़क लंड के साथ गर्मा गया था. रोहन ने कहा कि वो कोशिश करेगा कि लाइव चुदाई की वीडियो दिखा सके।उस रात को मैं बहुत बेसब्र हो गया था. ये देखकर प्रिया की बड़ी बहन रोमा और विजय की माँ सोनाली भी दिनकर और अजय के लंड को पकड़ कर चूसने लगीं.

हम दोनों नौका से से उस नदी के बीच बने रेतीले टापू पर आ गए, जहां आगे की तरफ कुछ लोग थे लेकिन और अन्दर जाने पर सन्नाटा था.

आप लोगों में से बहुत लोगों ने पूछा कि मेरा बेटा कैसा है और कहां है. वो टीवी को जल्दी से बंद भी नहीं कर रही थीं क्योंकि मैं वही देख रहा था और मेरा लंड खड़ा हो गया था. शेखर ने एक झटके से अपने लैपटॉप को बंद किया और एक निर्जीव की तरह बिस्तर पर पसर गया.

सेक्सी वीडियो बीएफ चाहिएवे पागलों की तरह ऐसे लंड चूसने लगीं जैसे उन्हें पहली बार लंड मिला हो. फिर मैंने जीजू से कहा कि इस नंबर से कॉल आया था … क्या आपके लिए था?उन्होंने वापस उस नंबर पर कॉल किया और उससे बात करने लगे.

चाचा सेक्सी

वह बहुत धीरे-धीरे और प्यार से मेरी चुदाई कर रहा था जो मुझे बहुत पसंद आई. मैंने कहा- ज़रा रुको तो भाभी जी, मुझे इस गुलाब की ख़ूशबू को सूंघ तो लेने दो. अगर उसका लंड फ़्रेंची में क़ैद ना होता तो पक्का उसके ऊपर धारा के दांतों के निशान उभर गए होते.

तभी एक कार मेरे पास आकर रुकी और उसमें से बैठे आदमी ने आवाज दी- राज?मैंने भी पलट कर पूछा- रोहन?रोहन- आओ बैठो. उस दिन रात को दो बजे सैम उठा, तो मैं जाग गया और उसे मां के कमरे में जाता हुआ देखता रहा. बस अनायास ही मेरे होंठ उत्तेजना और शर्म के मारे कांपने लगे और इसी कश्मकश में पता नहीं कब, मैंने उनके अंडे जैसे बड़े गुलाबी सुपारे को मुँह में ले लिया.

मैं और शहज़ाद दोनों मस्ती करने लगे एक दूसरे को पकड़ने के लिए भागने लगे. जब कभी भी हम तीनों को टाइम मिलता था तो उस वक्त मेरे देवर पीछे रहते थे और उनका दोस्त आगे. इतना बोल कर स्नेहा बाथरूम में भाग गई, उधर जाकर वो अपनी चूत में उंगली करने लगी.

दोस्तो, अगर मेरा ये सेक्स अनुभव आपको पढ़ने योग्य लगा हो, तो मेल ज़रूर करें. फिल्म खत्म हुई, हमने रेस्टोरेंट में खाया पिया और मैंने उसको चौराहे पर ड्राप करने को कहा.

मेरे सामने सरला मैडम एकदम नंगी हुई, तो वो बड़ी मस्त और मादक लग रही थी.

मतलब अब नीतू भी मज़ा लेने लगी थी।अभी मैं अपने काम में लगा हुआ था कि पीछे से मौसी की आवाज आई- अरे ओ चूत के नाई … इनका हो जाये तो हमारी भी सेवा कर देना. चोदी चोदा एक्स एक्स एक्स वीडियोकरीब दस मिनट किस करने के बाद भाभी के स्तनों से अपने आप दूध बहने लगा और मैं भाभी का एक निप्पल अपने होंठों में लेकर दूध पीने लगा. बीपी नंगी बीपी नंगीउधर वो भी झड़ गई और मैंने भी उसकी चुत को चाट चाट कर एकदम शीशे सा चमका दिया. यहां एक बात दूं कि मैंने आज तक जितनी भी चुत चोदी हैं, उसमें सबसे मस्त चुदाई यही वाली हुई थी.

मैंने अब तक ये कभी नहीं सोचा था कि मेरा स्नेहा भाभी के साथ ऐसा हो जाएगा.

सितारा ने जैसे ही मेरी फ्रेंची नीचे खिसकाई काले नाग सा फुफकारता मेरा लण्ड बाहर आ गया. स्नेहा थोड़ा गुस्से में बोली- ओ हैलो माइंड योर लेंग्वेज … रंडी की भोसड़ी में बड़ी आग लगी हुई है. फिर दूसरे फोन से मैंने चंचल को फ़ोन किया और उससे पूछा- तुम कहां हो?उसने कहा- मैं रूम में हूँ.

दूसरे दिन सुबह:ममता सुबह जल्दी तैयार होकर आई- गुड मॉर्निंग भैया मैं तैयार हूँ … चलें?आज ममता ने बिना ब्रा के एक टाईट सलवार सूट पहना था. वो बोली- आज नीचे कोई नहीं है, सब बाहर गए हैं … और सार्थक के पास दूसरी चाबी है, वो दरवाजा खोल कर खुद आ जाएगा. थोड़ी देर तक मम्मी की चुत में उंगली अन्दर बाहर करने के बाद निखिल ने अपनी जीभ से उनकी चूत को चाटना शुरू कर दिया.

सेक्सी वीडियो पार्क

उनका सिर्फ एक तिहाई लौड़ा ही मेरे मुँह में समा पा रहा था।वे बोले- वाह हरामजादी वाह … क्या बात है, साली तू तो काफी मजेदार तरीके से लंड चाटती है, अहमद को तो मजा आता होगा बहुत!मैं लंड को हाथ से रगड़ते हुए बोली- अरे जेठ जी, उनका लंड तो आपके लंड से आधा भी नहीं है. शेखर- थैंक गॉड!धारा- ऐसा क्यूँ कहा आपने, इसमें थैंक गॉड वाली क्या बात है?शेखर- धारा जी, कल ललित भाई और मेरे बीच ढेर सारी बातें हुईं हैं. मैं अन्दर गया और उससे कुछ बोलता, वो मेरे चेहरे को पकड़ कर किस करने लगी.

मेरा भाई मुझे घुमा घुमाकर देखने लगा और बोला- तुम्हारी तो अच्छे से बजा दी है … और सब मिला कर 13 निशान भी देकर गए हैं.

भाभी की लगातार सीत्कार निकल रही थी- आह आह … मारो धक्के … बहुत मजा आ रहा है.

दोनों अपनी दो उंगलियां मेरी चूत में डाल रहे थे और जोर-जोर से अंदर बाहर कर रहे थे. फिर विवेक बाहर चला गया और अनिकेत भैया ने अंदर से दरवाजा बंद कर लिया. बफ सेक्स हिंदी वीडियोअब वो भी गांड में मस्ती से लौड़ा ले रही थी और ‘आह आहह …’ करके अपनी चूचियों को मसलने लगी थी.

मैंने कहा- नहीं … अब आपको भी मेरा लंड चूसना पड़ेगा वरना मैं चुदाई नहीं करूंगा. तब निखिल ने रेड वाइन की बॉटल खोली और मम्मी की छाती पर धीरे धीरे वाइन डालनी शुरू की. कुछ अपनी इच्छा को एक दूसरे को बता कर उसे मनाकर इसका मज़ा लूटते हैं तो कुछ मन के अंदर ही रख कर रह जाते हैं.

उन्होंने मुझे धक्का देती हुई बेड पर गिराया और सीधा मेरे ऊपर आकर बोलीं- अब फटाफट लंड अन्दर डाल दे, नहीं तो मैं मर जाऊंगी. अब मैं अंदर ही अंदर खुश भी थी क्योंकि मैं अपने चूतिया पति को अपने साथ शादी में लेकर भी नहीं जाना चाहती थी.

आपको ये बीवी को चुदवाया स्टोरी कैसी लगी मुझे मेल में जरूर बताईयेगा.

मैं ‘आअह अआहह … मादरचोद जोर से झटके मार … आःह्ह रंडी के बच्चे मार मेरी चूत … आअह …’ करती हुई झड़ गयी. थोड़ी देर थोड़ी देर बाद वह लड़की ऊपर वाली साइट बर्थ पर आ गई तथा उस पर सो गई. मैं उसको यू अचानक इस अवस्था में देख कर सकपका गयी और उस पर चिल्लाने लगी.

बीएफ इंग्लिश पिक्चर सेक्सी बीएफ उसी दौरान उन दोनों ने एक एक उंगली मेरी चूत में डाल दी और आगे पीछे करने लगे. शेखर का दूसरा हाथ भी ख़ाली हो चुका था, अपने दाहिने हाथ की हथेलियों को धारा की चूचियों पर फिराते हुए शेखर ने अपने दूसरे हाथ से धारा की कमर को पकड़ कर अपने क़रीब खींचा और उसे अपने सीने से सटा लिया.

भाभी ने एक लम्बी सी सिसकारी ली और वो मेरे होंठों को काट-काट कर चूसने लगीं. जिम से कसी हुई बॉडी, गोरा रंग और लंबा चौड़ा कद किसी भी औरत को पल भर में अपने वश में कर ले … वो ऐसा था. इसी बात से मुझे लगता था कि भाभी मुझसे अपनी चुदाई करवाना चाहती थीं, हालांकि ये बात सिर्फ मैं सोचता था.

भोजपुरी सेक्सी वीडियो भाभी

शाम को हम जब अलग हुए तो वो चार बार चुद कर न जाने कितनी बार झड़ चुकी थीं. वो उसको वापस लेने निखिल के कमरे की ओर बढ़ी, तो मीरा ने उससे पूछा क्या हुआ?रीमा ने बताया कि मैं अपना मोबाइल निखिल के कमरे में छोड़ आई हूँ, वही वापस लेने आई हूँ. मैंने लंड पर ढेर सारा थूक लगाया और एक ही झटके में आंटी की चुत में अपना लंड डाल दिया.

मां की चूत पर काफी काले बाल थे, जिसकी वजह से मुझे उनकी चूत नहीं दिख रही थी. वो बोली- पहले नाश्ता खत्म कर लो, ठंडा हो जाएगा … फिर मुझे चोद लेना.

भाभी एकदम मस्त होकर तड़पने लगीं और कहने लगीं- अब बस करो मेरे देवर राजा … जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में डाल दो राजा … नहीं तो मैं मर जाऊंगी.

थोड़ी देर बाद वो एकदम से थमते चले गये और मेरा मुँह उनके वीर्य से भर गया।वे बोले- वाह हरामजादी … वाह क्या बात है, चल अब पूरा माल गटक जा मादरचोद!मैं पूरा वीर्य गटक गई और उनके लंड को प्यार से चाटने लगी. अब सीन ये था कि कभी उसका लंड चुत में जाता, तो कभी गांड में चलने लगता. चूंकि भाभी मेरे ऊपर लदी सी थीं तो उनकी जांघ से खड़ा लंड टच कर रहा था.

मैंने कहा- क्या दर्द होगा?वो बोला- देख ले … मैंने अभी तक जो किया, उसमें तुझे मजा ही आया है. कोई 15 मिनट की चुदाई के बाद मेरा और उसका पानी आने को हुआ तो मैंने पूछा- कहां निकालूं?जिस पर वो बोली- अन्दर ही डाल दो … मेरी चूत की प्यास बुझा दो. चाची- और मैं कैसे रात काटती हूँ … तुम्हें क्या, तुम तो विदेश में कोई ना कोई चूत मार लेते होगे.

कभी भाभी बहुत रोमांटिक मूड में दिखती थीं, तो कभी सती सावित्री सी दिखने लगती थीं.

भाभी और देवर का सेक्सी बीएफ: दोस्तो, अगर मेरी X भाबी चुदाई स्टोरी पढ़ कर आपके लंड चुत से पानी निकल गया हो, तो प्लीज़ मुझे कमेंट और मेल करके जरूर बताएं ताकि इसके बाद मैंने कैसे भाबी की गांड भी मारी, वो बता सकूं. रूचि के मम्मों का साइज़ चाहे जैसे बड़ा हो लेकिन साली के दूध में बड़ी कसावट थी … और सबसे बड़ी बात यह थी कि इतने बड़े बड़े थे कि मेरे एक हाथ में नहीं आ रहे थे.

आपको मेरी टॉयलेट सेक्स कहानी कैसी लगी, यह भी आप अपनी ईमेल के जरिए मुझे बताएं. मयंक संगीता की पीठ को सहला रहा था और साथ साथ संगीता की चूचियों को दबा रहा था. उसी दिन रात को मेरे मन में मस्ती चढ़ी, तो मैंने उसी नंबर पर वापस कॉल किया.

मैंने उसकी चुचियों को उसके टॉप के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया … तो वो गर्म होने लगी.

अगले स्टेशन से कुछ लोग चढ़े, जिनमें से एक छोटा बच्चा मेरे सामने ऊपर वाली सीट पर आकर बैठ गया. दोस्तो, अब समय आ गया है कि आप भी तन्वी के चाचा के परिवार का परिचय जान लें. मैं मन ही मन सोचने लगा कि ताई की चुत में तो आसानी से तीन उंगलियां चली गईं मगर भाभी की चूत में क्यों नहीं जा पा रही हैं.