बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी

छवि स्रोत,ब्लू सेक्सी चित्र वाली

तस्वीर का शीर्षक ,

वॉलपेपर का सेक्सी पिक्चर: बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी, मैं अपनी गांड की खुजली खत्म करने के लिए किसी अजनबी लंड को ढूँढने लगा और एक गे साइट में जाकर मैंने फिर से एक नया अकाउंट बना लिया.

जानवरों की लड़कियों की सेक्सी वीडियो

अंकल जी मेरे दोनों दूध दबा दबा कर चूसने लगे जिससे मेरे निप्पल तन गए और मुझे दूध चुसवाने का मज़ा आने लगा. तेलुगु हॉट सेक्सी वीडियोमेरी रगड़ाई में कभी लंड उसकी चूत पर जोर से लग जाता, तो वो कराहने लगती.

उम्म … आआ … आह्ह …इस तरह की कामुक आवाजें निकालते हुए उसने मेरे हाथों को पकड़ लिया और मैंने उसकी जांघों को पकड़ लिया. राजस्थानी खेतों का सेक्सी वीडियोउसकी चूत को सहलाते हुए ही मैंने उसकी चुत में अपनी एक उंगली डाल दी, तो वो चीख पड़ी ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’मैंने उसकी चूत से उंगली नहीं निकाली तो उसने अपनी टांगें फैला कर मेरी उंगली को अपनी चूत में एडजस्ट कर लिया.

अब मीना ने अपनी कमर को तेजी से ऊपर उठना शुरू कर दिया, शायद अब वो झड़ने वाली थी!उसकी बढ़ती ही सिसकारियाँ मुझे और अजय दोनों को बेचैन कर रही थी, उसकी साँसें जितनी तेजी से अंदर बाहर हो रही थी, उतनी ही तेजी से उसके स्तन भी गतिमान हो ऊपर नीचे हो रहे थे! तभी मीना ने अजय के लन्ड को छोड़कर मुझे अपने ऊपर खींच लिया और मेरे कान गर्दन पर काटने लगी.बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी: तुम अब जवान हो गयी हो बेटी, चुन्नी डाला करो ना … ऐसे अच्छा नहीं लगता ना … देखो … बाहर से ही साफ दिख रहे हैं!” सर की इस बात पर पिंकी सहम सी गयी.

मेरी कहानी मेरी ज़िंदगी का सच्चा अनुभव था जो कि मैंने आप सभी से शेयर किया।बहुत से मित्रों ने मुझे मेल भी किये और कहानी की सराहना भी की.मैं कई बार उसकी बाथरूम की चूत और चूचियों के साथ खेलने की हरकत से भी अंदाज लगा लिया था कि दीदी को भी लंड की जरूरत है.

सेक्सी वीडियो राजस्थानी कॉलेज - बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी

’कमरे में वो बिस्तर पे लेट गईं और मैंने जी भर के उनके चूतड़ों की चुम्मियां लीं, उनकी गांड को चाटा, चूम, चूसा.इस झटके से उसका मुंह खुल गया। मैंने मौके का फायदा उठा कर अपनी जीभ डाल कर उसका मुंह टटोल लिया। बड़े ही उत्तेजक तरीके से किस करते हुए उसकी चूत चुदाई करने लगा.

भाभी ने अपने कपड़े उतारे और वे सिर्फ ब्रा पेंटी में मेरे साथ मेरे बिस्तर में आ गईं. बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी मैंने देखा एक बहुत ही खूबसूरत से अंकल, जिनकी उमर 50-52 साल के आस-पास होगी, पार्क में टहल रहे थे.

कुछ ही दिनों में मुझे उसके साथ इस तरह से चूमाचाटी करने में मजा आने लगा था.

बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी?

यह मैंने मजाक के लहजे में कहा, जिस पर भाभी ने मेरा हाथ पकड़ लिया और रोने लगी. मेरे बेटों का बीज, तुम्हारी मम्मी की चूत का पानी, मेरे जन्मदिन का केक सब है, जांघों और चूतड़ों के बीच में ले. मुझे मिनी ने बताया कि नीचे फ्लोर पर एक और रूम बुक है जहां मिनी ने कपड़े बदले हैं.

शाम 4 बजे हम निकले 8 बजे तक हम दोनों ने बहुत मजे से यात्रा का आनन्द लिया. मुझे अपनी इस खूबसूरती के लिए अब तक कोई ब्वॉयफ्रेंड बनाने लायक लौंडा नहीं मिल सका था. पर वे रूके ही नहीं, उन्होंने मेरी कमर पकड़ कर अपना पूरा पेल ही दिया.

वैसे तो मैं पढ़ाई में भी बहुत अच्छा हूँ पर सेक्स के बारे में भी सब कुछ जानता हूँ. विलियम का दोस्त डेविड जो ऊपर स्लीपर में सो रहा था, वह नीचे उतर आया और विलियम को बोलने लगा- क्या हुआ? तुम अभी तक नीचे नहीं उतरे?तो विलियम ने कहा- नहीं, थोड़ी आंख लग गई थी, बस कब आकर रुकी पता ही नहीं चला. हमारी बर्थ कन्फर्म नहीं थी, परन्तु हम दोनों स्टेशन आ गए और मैंने टीटी को 200 रूपये देकर स्लीपर कोच में एक बर्थ कन्फर्म करवा ली.

मेरे मुंह से आह के पीछे आह के पीछे आह निकली और लौड़े से वीर्य का ढेर झड़ता हुआ रानी की चूत में चला गया. नैना की आंखें लाल हो चुकी थीं, उनमें वासना तैर रही थी और इधर मैं भी इसी आग में जल रहा था.

मैंने सोनू की चूत में अपना अंगूठा लगाया और उसके क्लिटोरिस को रगड़ते हुए सोनू से पूछा- आज तुम्हारी यह चूत क्या मेरे इस लंड को लेने के लिए तैयार है?सोनू ने कहा- ट्राई करके देखो.

उसके बाद मैंने फिर से मैंने उसकी चूत से लंड को निकाला और उसकी गांड पर लगा दिया तो वह एकदम उठ गई और घूम गई.

ऐसे ही इस दीवाली के दूसरे दिन शाम को वो एक चाईनीज़ स्टॉल पर दिखीं, वो नूडल्स खा रही थीं. हैलो दोस्तो, नमस्कार… मैं आपका दोस्त राहुल शर्मा आपके सामने अपनी एक और आपबीती रख रहा हूँ. मैंने उसके होंठों से अपने होंठ सटा कर एक जोरदार धक्का मारा और मेरा लंबा और मोटा लंड पूरा अन्दर चला गया था। इस बार के झटके से उसकी चीख उसके गले में ही रह गई और उसकी आँखों से तेजी से आँसू बहने लगे। उसने चेहरे से ही लग रहा था कि उसे बहुत दर्द हो रहा है।मैंने गुलाबो को धीरे धीरे चूमना सहलाना और पुचकारना शुरू कर दिया, मैं बोला- मेरी रानी, डर मत, कुछ नहीं होगा, थोड़ा देर में सब ठीक हो जाएगा.

मुझे इस वक्त शीतल भाभी एक पोर्न एक्ट्रेस सी लग रही थीं, जो अनायास ही मेरे लंड के नसीब में आ गई थीं. वो मेरी छत की तरफ देखती हुई चली गईं … मगर उस समय मैं उनके सामने नहीं आया. तभी उसने पूछा- सेक्स किए हुए कितने दिन हो गए?मैंने इस बार बिंदास कहा- सात महीने हो गए हैं डाक्टर.

ऐसा करते हुए उनका लंड मेरे मुंह तक पहुंच रहा था जिसको मैं मुंह लेने की कोशिश करती तो वह मेरे मुंह में चला जाता था.

नीचे उतार कर उसकी गर्दन पर किस करने लगा, होंठों पर चूमा, गाल पर चुम्मा चाटी करने लगा. मगर इतना भी शक नहीं था कि वह कुत्ते से अपनी चूत की प्यास बुझवाने की कोशिश करेगी. चुदाई खत्म होने के बाद रोहन तो सो गया लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी.

उसने मुझे बताया कि वह अपने बाकी दोस्तों के साथ किसी दूसरे दोस्त की बीवी की चुदाई करके आयेगा. उसने अपने हाथ से लंड को चूत पर सैट किया और मुझे आंखों से इशारा किया. सारे रिश्ते नाते, वक़्त, दुनिया … सब कभी पीछे छोड़ कर हम दो भाई बहन अपनी मानोकामना पूरी करने में लगे हुए थे.

अब मैंने मम्मा को अपने नीचे लिटाया और मम्मा ने भी अपनी चिकनी टांगों को पूरा फैला लिया ताकि मेरा लंड उसकी चूत में जाने में कोई दिक्कत ना हो.

मैं कुछ समझ नहीं पा रहा था कि क्या करूँ, कहाँ से शुरू करूँ?निशा बोली- अब उल्लू की तरह आँखें फाड़ कर देखते रहोगे या मेरे पास भी आओगे?मैंने पूछा- निशा ये रूप कौन सा है. उसके साथ वापस उसके घर तक आने की वजह से मैंने उससे बात करना चालू कर दिया था.

बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी हम दोनों एक दूसरे से तब अलग हुए, जब दोनों एक एक बार झड़ गए हालांकि मम्मा मुझसे जल्दी झड़ गई थीं लेकिन मज़ा दोनों को पूरा आया. जब सुषी अकेली थी तो मैंने मौका देख लिया और उसके दिल की बात पूछने की सोची.

बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी मेरी मामी यानि धीरज की माँ कह रही थी- इन बातों का आप जानें … मुझे तो आप अपने लंड से खुश करो. सर ने मेरी तरफ देखा, तो मैंने पूछा- क्या हुआ सर?सर मुझसे बोले- तुम अपने काम में ध्यान लगाओ.

कुछ देर हमने बैठकर इधर उधर की बातें की और बातों ही बातों में मैडम ने बताया कि वो अकेली रहती हैं.

सेक्सी व्हिडिओ सेक्सी व्हिडिओ व्हिडिओ

मैंने अपना लंड बाहर निकाल दिया और उसके मुंह में डाल दिया तो वह फिर से मजा लेकर उसको चूसने लगी. फिर क्या था कुछ ही पलों में मेरा लंड सात इंच का कड़क सरिया बन गया था. मैंने घबराकर उनका हाथ अपनी छाती से हटाने की कोशिश की पर उन्होंने मेरी चूचियों पर से हाथ नहीं हटाया।क्या हो गया बेटी? इतनी घबरा क्यूँ रही हो? आराम से पेपर करती रहो ना … ये देखो … अंजलि कितने आराम से कर रही है.

मैं उठी और विपिन पर बिगड़ते हुए बोली- चलिये मेरी चूत ने आपको माफ किया. हमारी बात ऐसे ही चलती रही और वो अपने हस्बैंड से ज्यादा टाइम मुझे देने लगी. मुझे भी इस ऐशोआराम की इतनी आदत पड़ गयी थी कि अब काम करने की सोचने से भी डर लगने लगा था.

मैंने बाथरूम में जाकर भाभी को याद करके मुठ मारी, तब कुछ शान्ति हुई.

मेरा दिमाग खराब सा हो गया था, मैंने सारा से कहा- यार, आज मेरी और ज़रीना की सुहागरात है. कुछ ही पल बाद जब मुझे लगा कि अब चूत ज्यादा गीली हो गई है तो मैंने दो उंगलियां उसकी चूत में डाल दीं. मैं बाहर सिगरेट पीते हुए सोचने लगा कि मेरी दोनों बहनें क्या सच में मुझसे चुदना चाहती हैं.

भाभी तुरन्त उठी और बाथरूम में जाकर चैक करके आने ही वाली थी कि अचानक उसके परिवार में चाचा के गिर जाने से चोट लग गयी. साली हवशी रांड कमर उछाल उछाल के चुदाई करवाने लगी, मेरी पीठ पे उसने अपने नाखूनों को गड़ाना शुरू कर दिया. मैंने एलेक्स के अंडरवियर को भी खींच लिया और उसे बिल्कुल नंगा कर दिया.

तभी वो पटेल का दोस्त बोला- अबे जल्दी कर … किसी और दिन चाटा-चूटी कर लेना, अभी जल्दी चोद इसको. मेरा दिमाग उन्हें रोकने को कह रहा था, पर मेरा शरीर दिमाग की बात नहीं सुन रहा था.

वह बोली- साहिल, क्या आप मेरी एक मदद कर सकते हैं?मैंने कहा- हां, क्यों नहीं, मैं तो आपकी हर तरह से मदद करने के लिए तैयार हूँ. पर फिर मेरी जिद पर उन्होंने मुझसे कहा- ठीक है अपनी तीनों बीवियां अपने साथ ही ले जाओ. यहाँ पर मेरे सिवा कोई नहीं रहता क्योंकि पापा गांव की मार्केट में दुकान पर रहते हैं और पापा के साथ सब वहीं पर रहते हैं.

मैंने मम्मी के एक दूध को अपने मुँह में लेकर हाथ ऊपर की तरफ करके उनकी पट्टी को हटा दिया.

इसके बाद बहुत सारी घटनाएं मुझे लिखने का मन है, जो लगातार जल्दी जल्दी घटी थीं, किस तरह से मैं आशीष के प्यार में पागल होकर बिगड़ती गई और आशीष मुझे बिगाड़ता रहा. उसकी ब्रा जैसे ही मैंने उतारी, मैं उसकी नीबू जैसी चुचियों को देख कर पागल हो गया था. सर ने मम्मी की चूत को चाटना नहीं छोड़ा, तो मम्मी ने सर से कहा- अब चोद भी डाल साले.

एक बात की ख़ुशी है मुझे कि आशा भाभी के मुकाबले मैं ज्यादा बड़ा, ज्यादा मोटा और ज्यादा काला लंड चूसती भी हूँ और अपनी चूत और गांड में लेती भी हूँ. ऐसे ही चुदाई करने के बाद अब मैंने निशा की एक टांग को ऊपर अपने कंधे पर किया और फिर से उसकी जोर से चुदाई करना शुरू कर दिया.

बाइक पर जो भी हुआ, अमर उस बात को लेकर सलहज की तरफ से हरी झंडी समझने लगा था. फिर मैं सरिता को अपनी बांहों में जकड़ कर अपने दोनों हाथों से उसकी पीठ को सहलाने लगा. मेरे पूरे मुँह में उसका गाढ़ा वीर्य भर गया और मजबूर होकर उसको मैं निगल गई.

ranidom वां

जब तक मामा मामी वापस नहीं आ जाएंगे, तब तक नाना जी को अकेला छोड़ कर आप कैसे आ सकती हैं.

वसुंधरा के पैरों के तलवे गहरे गुलाबी रंग के, गद्दीदार और वलय वाले थे और पैरों की सारी उंगलियां रोमरहित एवं समानुपात में थी. मैं जहाँ पर जॉब कर रहा था वहाँ मुझे ज्यादा मजा नहीं आ रहा था काम करने में, इसलिए मैंने विशाल भाई से बात करने की सोची. जब उसके द्वारा बताए गए पते पर पहुंचा तो मैंने वहाँ पहुंच कर दरवाजे की बेल बजाई और एक 21-22 साल की लड़की ने दरवाजा खोला.

मामी की चूत में जीभ तो डाल ही रहे थे और साथ ही अब उनकी गांड में अपनी उंगली भी करने लगे थे. फिर मैंने उनको बोल दिया कि मैं अपनी बीवी अंजलि से ही बात करके बताऊंगा. सेक्सी भोजपुरी विडिओसलोनी बोली- आप पहले इंसान हैं जिसने मेरी तारीफ की है वरना कोई लड़का तो मेरे पास ही नहीं आना चाहता है.

मैंने लंड हाथ में लेकर उसकी चूत की फांकों में लगाया और सुपारा सैट करके अन्दर घुसा दिया. पहले थोड़ी देर तक मैंने उनका सपाट पेट सहलाया, फिर अपना हाथ नीचे की ओर लेकर जाने लगा.

उधर वीणा भी रीना के स्तनों के साथ खेल रही थी। रीना ने उत्तेजना के कारण अपने होंठों को अपने दांतों के नीचे दबा रखा था।मैं अपना खड़ा लंड लिए यह सब नजारा अपनी आंखों में कैद कर रहा था. उसे रात होने से पहले अपने घर वापस जाना था क्योंकि उसका पति बहुत शक्की किस्म का आदमी था. मैंने कहा- शिल्पा ने देख लिया तो?निशा बोली- उसकी फिक्र मत करो और मुझे प्यार करो, जितना कर सकते हो.

मेरे तीव्र आवेश के कारण वसुन्धरा के मुंह से निकलने वाली ऊँची-ऊँची काम-कराहों से सारा कमरा गुंजायमान था. अगले दिन हमारी आंखें मिलीं तो इस बार इन आंखों में एक अलग सा ही अहसास था. मुझे तो बहुत शर्म आ रही थी, पर मन में अलग ही उत्तेजना पैदा हो रही थी.

मैंने उसकी साड़ी का पल्लू उसके कंधे से नीचे सरका दिया और उसे पकड़ कर उसकी साड़ी अलग करने लगा.

फिर भी मैंने कन्फर्म करने के लिए पूछा- अभी तक का कैसा अनुभव रहा आपका मेरे साथ?कल्पना ने थोड़ा सोचने के बाद कहा- जैसा कि आप जानते हैं, पहली बार किसी आदमी या दूसरे इंसान ने मेरी उस जगह को छुआ और किस किया. उन्होंने बहुत सावधानी से मारी थी, पर जब लंड में जोश आ जाता है तो क्या कोई मारने वाला धीरे धीरे कर पाता है, रगड़ ही देता है.

मैं बोली- आशीष मैं तुम्हारी कसम खाती हूं … अपनी कसम भी खाती हूं कि तुम पहले मर्द हो, जिसने मुझे प्यार से छुआ है, जिसने मुझे प्यार किया है और जिसने मेरे साथ सेक्स किया है. पम्मी आंटी को चुदाई के लिए कहने में भी मुझे डर लगता था क्योंकि वो मेरे दोस्त की दूर की मामी लगती थीं इसलिए मैं उनके नाम की मुठ मार कर ही काम चला लेता था. भाभी बोली- मैंने तुम्हारे लिये ही आज इसको खास तौर पर तैयार किया है इसको.

वहीं रितेश डॉक्टर होने की वजह से हेल्थ के बारे में ज़्यादा ध्यान रखता था और रोज छत पर योगा करता था. मेरी योनि इतनी चिकनाई से भर गई थी कि जैसे ही लिंग का सुपारा मेरी योनि की छेद पर पड़ा, मेरे हल्के से कमर दबाते ही उसका पूरा लिंग सरसराता हुआ मेरे भीतर घुस गया. तो मैं उससे चिपकती हुई उसके कान में बोल पड़ी- मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा … मुझे तुम्हारा लण्ड चाहिए अभी!मेरा इतना कहते ही उसने झट से मुझे पकड़कर अपनी गोद में बिठा लिया.

बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी अब में सिर्फ एक निक्कर में रह गया था जिसमें से मेरा लंड नब्बे डिग्री पर अपनी उत्तेजना से उन तीनों चुदासियों की चूतों में चीटियां रेंगा रहा था. घर आकर मम्मा ने मुझसे कहा- तुमने मुझे बेकार में ये कटे फटे कपड़े दिला दिए.

हॉलीवुड रोमांस

दरवाजा बंद होते ही उसने मुझे दरवाजे के सहारे ही वहीं पर सटा लिया और मेरी पैंट के ऊपर से ही मेरे लंड पर हाथ फिराते हुए मेरी छाती को सूंघने लगी. मेरी योनि इतनी चिकनाई से भर गई थी कि जैसे ही लिंग का सुपारा मेरी योनि की छेद पर पड़ा, मेरे हल्के से कमर दबाते ही उसका पूरा लिंग सरसराता हुआ मेरे भीतर घुस गया. बहुत देर तक हम लोग एक दूसरे को चूमते रहे, मैं उसके नाजुक अंगों को उसके कपड़ों के ऊपर से ही मसलता रहा.

पहले पहले मीना ने मना किया लेकिन बाद में वो मान गयी, एक पेग लेकर मीना बोली- अभी आती हूँ. चूतड़ों को नचा-नचा कर आगे-पीछे की तरफ धकेलते हुए लंड को अपनी बुर में लेते हुए सिसिया रही थी शारदा चाची. सेक्सी चुदाई हिंदी एचडी वीडियोभैया ने आशा के भाभी के बालों को पकड़ा और अपने लंड की गोलाई पर भाभी के होंठों को फिराने लगे.

पूरा दिन गुजर जाने के बाद जब रात को सोने का समय हुआ उसने अपने लिये नीचे फर्श पर अलग से बिस्तर नहीं लगाया और मेरे साथ ही बेड पर आकर लेट गयी.

उसके बाद मेरे पति रोहन आए और उन्होंने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया. अंकल जी ने मेरी चोटी पकड़ कर खींच ली जिससे मेरा मुंह ऊपर की ओर हो गया और वे मुझे पूरी शक्ति से चोदने लगे.

वो बोलती थी कि जितना पीना है, पतीले से डाल कर पी लो लेकिन आज उसने गिलास में डालकर क्यों दिया है!मैं समझ गया कि मेरे दूध में इसने नींद की गोली मिलाई है. सच कहूँ तो मुझे सलोनी मौसी बहुत अच्छी लगती थीं और मैं अक्सर उनके नाम की मुठ मारा करता था, पर ये बात कभी बंटी को नहीं बताई. वो झट से मेरे ऊपर आ गया और मेरे गांड में लंड टिका कर अपने पैरों से मेरे पैरों को फैला दिया और मेरे ऊपर लेट कर मुझे कस के जकड़ लिया.

पहले तो मेरी तरफ देख कर कल्पना मुस्कुराईं, फिर छत की तरफ देखते हुए कहने लगीं- नीचे …मैंने अनजान बनते हुए कहा- पेट पर या नाभि पर?इस बार उन्होंने मेरी तरफ गुस्से से देखा और छत की तरफ देखते हुए कहा- पेट और नाभि से थोड़ा और नीचे.

मैं भी सुबह ही दोस्तों के साथ निकल गया और होली खेल कर दोपहर में लौटा. मैंने लंड हाथ में लेकर उसकी चूत की फांकों में लगाया और सुपारा सैट करके अन्दर घुसा दिया. एक महीने बाद भाभी दिन में ही अपने पति के साथ क्लीनिक पर आ गयी और घूंघट की आड़ से मुस्कराने लगी.

तेलुगु सेक्सी शॉटनशा भी काफी हो गया था, तो हम सबने तय किया कि अभी कुछ देर रुकने के बाद पैग वाला नियम जारी करेंगे. दोस्तो, कैसी लगी मेरी भाभी की चुदाई कहानी, मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी को अच्छी लगी होगी.

डॉग वाला सेक्सी व्हिडीओ

उन वीडियोज को देख कर मुझे अपनी मम्मा सौम्या को चोदने का मन होने लगा. रिम्पी थोड़ी अमीर है, लेकिन वो मेरे सामने कभी भाव नहीं मारती थी इसलिए हम दोनों की दोस्ती हो गई थी. मैं प्रिया को ड्रेसिंग टेबल के सामने ले गया और उसके बालों को हाथ से हटा कर उसकी पीठ को अच्छे से चूमा और खूब चाटा.

उसका नर्म-मुलायम मखमल जैसा गर्म हाथ पकड़ते ही मेरा लंड फुफकारें मारने लगा और सनसनाता हुआ पूरा 8 इंच तक बड़ा हो गया. वह मेरे लंड को बाहर निकाल देना चाहती थी लेकिन मैंने ऐसा नहीं होने दिया. इससे पहले कि लंड को कुछ सूझता, तब तक पिंकी भाभी ने लंड को अपने हाथ से पकड़ा और उसे चूसना शुरू कर दिया.

घर आया तो मेरी आंखों के आगे बार बार भाभी की बड़ी बड़ी सेक्सी चूचियां घूम रही थीं. अपनी गर्म चूत पर लंड पाते ही मम्मी बोलीं- आपका लंड बहुत मोटा और बड़ा है, थोड़ा धीरे से पेलिएगा. दिन में मैं कभी उसे बाथरूम में नंगी नहाती देखता, तो कभी किचन में उसकी हिलती गांड देख कर लंड सहला लेता.

वो चिल्लाने को हुई तो मैंने झट से उसको होंठों को चूसना शुरू कर दिया. मैं उसके विश्वास में बेफिक्र हो गई और अन्दर कमरे में, जहां चारपाई लगी थी, वहां आशीष और मैं पहुंच गए.

वो मुझे इस नाम से इसलिए बुलाती थी कि सब अपरिचितों के सामने जान कहकर नहीं बुला सकती थी, तो उसने जॉन नाम रख दिया.

वहां गांव के कारण बाहर खुले में करना था, तो मैं उठी, बाहर थोड़ी दूर गयी जिधर एकांत था. बिहारी सेक्सी व्हिडिओ सेक्सी व्हिडिओतो रोज़ी ने डबल मीनिंग जवाब दिया- क्या फायदा ऐसे लंड को छूने का, जो अंदर न जाये।चारों हंस पड़े।आगे एक गली पूरी मसाज पार्लर्स की थी।बाहर ही लड़कियां बैठी थीं, उनके रेट लिखे थे।डेविड ने सनी से मज़ाक किया- यार, तेरे तो बहुत पैसे बच जाते हैं. सेक्सी वीडियो भाई बहन सेक्सी5 सेंटीमीटर से कम वाले हम जैसे लोग अक्सर बॉटम रोल में रहते हैं।फिर मैं बिस्तर पर गांड ऊपर कर लेट गया और अनिला को पास रखे डिल्डो पर क्रीम लगा कर अंदर डालने को कहा।वह बोला- सरजी यह तो ज्यादती है, मेरा अच्छा खासा खड़ा है और आप नकली लंड यूज करने को कह रहे हैं?मैंने कहा- तेरा एकसाइटमेंट इतना ज्यादा है कि तू दो मिनट में ख़लास हो जाएगा. जब से मैंने अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ना शुरू की, तब से ही मेरा मन था कि मैं अपनी सेक्स स्टोरी आप सभी के साथ शेयर करूँ.

कहाँ हो आप?”वसुंधरा जी को ले आने के लिए ज़रा सा डायवर्ट होना पड़ा … बस आ ही रहा हूँ.

कुछ दिनों बाद मैंने महसूस किया कि धीरज अब मुझसे चुदाई करने में कुछ ज़्यादा इंटेरेस्ट नहीं लेता. कुछ 7-8 मिनट तक ऐसे ही धीरे धीरे झटके मारने के बाद मम्मा ने कहा- आह मेरे राजा, अब तुम मेरी ओखली में अपने मूसल को जितनी तेज़ी से चाहो … ठोक सकते हो. भाभी इस दौरान अपने मुँह से ‘आहआह आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उफ्फ उफ उफ्फ जोर से.

झड़ने के बाद मैं नहाने लगा और नहाने के बाद मैंने रूपा को आवाज लगाई- तौलिया दे दो रूपा!वो किचन में थी तो बोली- भैया मुझे टाइम लगेगा, आप बाहर निकल कर खुद ले लीजिए. वो मुझे वाशरूम तक ले गए और वाशरूम के दरवाजे पर खड़े होकर अपना हाथ आगे किया और बोले. उसकी मुनिया का रंग हल्का सांवला था पर बिल्कुल छोटी सी प्यारी सी चूत थी.

க்ஸ் வீடியோ கம

मैंने कहा- शिल्पा ने देख लिया तो?निशा बोली- उसकी फिक्र मत करो और मुझे प्यार करो, जितना कर सकते हो. मैंने अपना लंड साफ किया और जाकर सो गया, इसके बाद और कुछ नहीं हो पाया. मुझ बहुत बाद में पता लगा कि धीरज मेरा कज़िन नहीं बल्कि मेरा सौतेला भाई है.

ताई ने अपने हाथ से ताऊ के लंड को पकड़ा और टांगों के बीच में सही जगह लगा कर ‘हन्न …’ की आवाज दे दी.

मैंने अपने एक हाथ से एलेक्स को रोकने की कोशिश की लेकिन वो नहीं रुक रहा था.

मैं भी उसको भूलने लगा, फिर मैं सोनीपत पहुंचा, पर ऊपर छत पर नहीं गया. मैं अपनी बहन की कमसिन चुत को सहलाने लगा और अपना लंड बाहर निकाल लिया. भाई बहन की सेक्सी कहानी सेक्सीमैं महसूस कर रहा था कि वे अपने स्वेटर के ऊपर से अपने मम्मों को मसलने लगी थीं.

इसके बाद अंकल और मैं बाथरूम में जाकर फ्रेश हुए और मैं अपने घर चला गया. मम्मा 4 घंटे ट्रेनिंग करतीं और बाकी 6-7 घंटे हम दोनों चुदाई करते रहते. दो-एक मिनट बाद अचानक मेरा लिंग वसुन्धरा की योनि के अंदर फूलने लगा और मैंने अपना लिंग अपने लिंग-मुंड तक वसुन्धरा की योनि से बाहर खींच कर पूरी शक्ति से वापिस वसुन्धरा की योनि में धकेलना शुरू कर दिया.

प्रिया सच में गजब की रांड लग रही थी खुले बाल, एकदम वाइट बॉडी और उसके दूध शानदार तरीके से उछल रहे थे. शायद उन्होंने कोई दवाई खा रखी थी क्योंकि मम्मी उनसे कह रही थी कि आज कोई टेबलेट खाई है क्या जो इतना चोद रहे हो? मम्मी और पापा के कमरे से बहुत देर तक उनके मजे से चिल्लाने की आवाज आती रही.

वहां से निकल कर मैं उसे सीधा एक बड़े फैशन स्टोर में ले गया और एक बढ़िया सी स्लीवलेस शार्ट घुटनों तक ड्रेस बर्थडे गिफ्ट के लिए दिलवाई.

मैंने पति का लंड चूसकर एकदम गीला कर दिया ताकि मेरे पति का लंड मेरी चुत में आसानी से घुस जाए. मैंने खुद पर बड़ी ही मुश्किल से कंट्रोल किया और श्वेता के डांस करने के बाद गेम फिर से शुरू हुआ. राशि की कमर पर चुम्बन किया और फिर उसकी गर्दन पर अपने होंठों को रख कर उसके बालों की खुशबू लेते हुए उसकी गांड के छेद पर लंड लगाकर उसको पीछे से बांहों में भर लिया.

हिंदी सेक्सी चुदाई वीडियो ऑडियो पूजा ने अपना हाथ हटा लिया, मैंने अपने दोनों हाथों से पूजा की गांड फैला दी और लंड को ठोकर मारी, तो पूजा की गांड के कसे छेद में घुसते हुए मेरा आधा लंड गांड में घुस गया. धीरे उसकी गांड के छेद पर उंगलियाँ फिराईं और हल्के से उसकी गांड के छेद की गोलाई के आस-पास हल्के से मसाज दी.

इस तरह हमलोग काफी देर तक और भी स्कूल की बातें, अमृता के बारे में बातें करते रहे फिर मैं घर लौट आई. तीन चार दिन तक नम्रता के दर्शन नहीं हुए, पता चला कि उसकी तबियत कुछ ज्यादा खराब हो गयी थी. लंड का सुपारा चूत की फांकों में जैसे ही सैट हुआ, मैंने जोर से धक्का दे दिया.

తమిళ సెక్స్ వీడియోస్ తమిళ సెక్స్

मैंने कहा- आप जब वहां आई थी तो आप मुझे अच्छी लगीं और जब पता लगा हम दोनों को एक ही जगह जाना है तो दिल से लगा कि काश आप और हम एक साथ सफर करते और देखिए न अब हम सच में साथ सफर कर रहे हैं. अपने बाप की तारीफ सुन कर मैं खुश हो गया कि पापा भी चुदाई के माहिर खिलाड़ी हैं. मैंने कहा- क्या पूछ रहे थे?रोहन- वो बोले, यार अगर तेरी बीवी के साथ एक बार सेक्स करने को मिल जाए तो मजा आ जायेगा!मैं रोहन की तरफ देख रही थी.

हो गया सर, जाने दो हमें …”सर गुर्राते हुए बोले- अच्छा, पेपर हो गया तो जाने दो? हमें नहीं करना पेपर … वाह! मैं क्या चूतिया हूँ जो इतना बड़ा रिस्क ले रहा हूँ!”जैसे ही मैं खड़ी हुई सर ने मेरी कमर को पकड़ कर मुझे अपनी गोद में बैठा लिया. जब से मैंने अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ना शुरू की, तब से ही मेरा मन था कि मैं अपनी सेक्स स्टोरी आप सभी के साथ शेयर करूँ.

ऊपर के भाग को अच्छे से साफ करने के बाद मौसी ने अंततः अपने दोनों पैरों को अलग कर दिया.

मैंने कहा- तुमने भी भूल कर अपनी चूत खोल दी थी तो मैंने चूत में पेल दिया. अब जैसा ऊषा ने मुझे बताया वो भी सुनो:मैंने (ऊषा) इतनी ही देर में पूरे कपड़े उतार दिये थे. उसके बूब्स ऐसे थे जैसे किसी ने सीने पर 32 नंबर की दो रुई की कटोरियां रख दी हों.

मौसी का चेहरा ठीक दरवाजे की तरफ था और इस वजह से मुझे उनके शरीर के आगे का भाग पूरा दिख रहा था, सिवाय उनकी चूत के. लेकिन जीजू आपकी स्पीड भी मस्त थी यार … मेरी चुत का तो एक बार में ही भोसड़ा बन गया. पापा ने मेरी टांगों को पकड़ा और दस-बारह धक्के बहुत ही जोरदार तरीके से लगा दिये.

उसने बताया कि उसके मम्मी-पापा शादी में गए हुए हैं और वह घर पर अकेली है इसलिए उसने मुझे बुलाया है.

बीएफ फिल्म ब्लू पिक्चर सेक्सी: आशीष बोला- बंध्या, आज पहली बार मैं तेरी बहुत ही मस्त चुत की चुदाई करने वाला हूं, तू भी आज पहली बार मेरे से चुदवाएगी. अब आगे भाई बहन Xxx स्टोरी:मैं- प्रिया, कुछ खाने का मन है?प्रिया ने मुस्कुराते हुए अपनी टांगें खोल दीं- आज इसे खा लो जी भरके!मैंने देखा कि उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था.

मेरी चीखें निकलने लगी- अह्ह आह येस अह्ह येस्स आह्ह अह्ह आह मजा आ गया. पिंकी की ननद ने अपनी भाभी को अपनी देखभाल के लिए बुला लिया था ताकि वो अमर का और उसके परिवार के लिए ध्यान रख सके. मैंने उनकी तरफ सवालिया निगाहों से देखा तो वो मुझे रुकने का इशारा करके चली गईं.

रात को जब सोने की बारी आई तो जगह कम होने के कारण सबको अड्जस्ट करना पड़ा.

फिर मैंने उसकी कुर्ती को उतरवा दिया और नीचे उसने काले रंग की ब्रा पहनी हुई थी. मीरा तो पहले से इतनी गर्म हो चुकी थी कि रितेश के 3-4 मिनट चाटने से ही वो एकदम से झड़ गयी. एक महीने बाद भाभी दिन में ही अपने पति के साथ क्लीनिक पर आ गयी और घूंघट की आड़ से मुस्कराने लगी.