पंजाब पंजाबी बीएफ

छवि स्रोत,मां बेटे की चुदाई हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी इंग्लिश बीएफ: पंजाब पंजाबी बीएफ, नीलम के अपने पति से अलग रहने से अब मेरा नीलम से बात करना आसान हो गया.

गाना सेक्स वीडियो

कुछ देर मज़ा लेने के बाद वो थोड़ा साइड में हुआ और तिरछा होकर बैठ गया. गोसाईगंज लखनऊआप सबकी वजह से में आप लोगों को अपनी सेक्स कहानी बताने का अवसर मिला.

लोगों से सुना था कि लड़की जब पहली बार चुद जाती है तो उसकी चाल हमेशा के लिए बदल जाती है; वो मैं उस दिन प्रत्यक्ष देख रहा था. bp वीडियो हिंदीमैं- वो तो हम जैसे चाहेंगे, चोदेंगे ही … मगर अगर तुम मुझे ये बता दो कि तुम्हें क्या अच्छा लगता है और क्या नहीं, तो हम दोनों और ज्यादा मज़ा कर पाएंगे.

अब मुझे भी मजा आ रहा था और मुझे भी किस्मत से मिले इस लण्डधारी के लण्ड का पूरा स्वाद लेना था तो मैं भी अपनी कमर हिलाने लगी.पंजाब पंजाबी बीएफ: मैंने शाजिया को बताया कि रात को तुम्हारे घर में ही चुदाई का मजा लेंगे.

मैंने भाभी से बोला- मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा है, मेरा होने वाला है.बिन्दू से मैंने पूछा- तुम चुदना चाहती हो या नहीं?बिन्दू- हाँ, चाहती हूँ, करो.

अक्षरा सिंह का सेक्सी वीडियो एचडी - पंजाब पंजाबी बीएफ

मैंने उसकी चूत में धीरे धीरे लंड को चलाते हुए धक्के लगाने शुरू किये.नेहा होटल की स्टॉफ थी, जो खास मेहमानों की मेहमान नवाजी में लगी हुई थी.

मैं- ओह्ह क्लेरिसा! तुम्हारे बदन की मदमस्त खुशबू मुझे वासना में डुबोए जा रही है. पंजाब पंजाबी बीएफ मैंने लंड को चूत के छेद पर लगाया और अपने हाथ नीचे लेजाकर साली जी के दोनों मम्में थाम लिए और लंड को चूत में धकेल दिया.

प्यासी जवानी, ऊपर से गाड़ी फुल एसी की ठंडक होने के बावजूद मुझे इतनी गर्मी लग रही थी कि मुझसे अब बिना लंड के रुका नहीं जा रहा था.

पंजाब पंजाबी बीएफ?

क्योंकि मैं बात को आगे नहीं बढ़ाना चाहता था इसलिए मैंने एसएचओ को कहा- एक बार हम बाहर जाकर बात कर लेते हैं. साली जी ने मेरी बात एक बार में ही समझ ली और धीरे धीरे ऊपर नीचे होने की प्रैक्टिस करने लगी. कुछ आधा घंटे की चुदाई के बाद स्वीटी मैडम बोलीं- आंह जानू और तेज चोदो … और जोर से … मेरी जान बड़ा मस्त मजा आ रहा है … और जोर से करो.

यह सुनकर सोनू की मम्मी मृणाल का चेहरा उतर गया क्योंकि सोनू की मम्मी जिस उम्र में थी उस उम्र में औरत को सेक्स की बहुत जरूरत होती है. पर चुत के बीच में लगी हुई वो जालीदार पैंटी मुझे बिल्कुल नहीं भा रही थी, तो मैं उसकी पैंटी को उतारने की बजाए उसकी नेट को फाड़ दिया. रिसोर्ट के एक हिस्से में राजस्थानी फोक डांस हो रहा था और वहीं से थोड़ी दूर पर ओपन बार भी बना हुआ था.

मैं बोला- मीता तुम आज इतनी खूबसूरत और सेक्सी लग रही हो कि मेरा मन डोल गया. शादीशुदा चूत में लंड की कहानी में पढ़ें कि कैसे मेरे पति ने मेरी चुदास जानकर मेरे लिए अपने ऑफिस से दो लड़के मेरी चुदाई के लिए भेज दिए. उसने मेरी आंखों में एक पल के लिए देखा और दूसरे ही क्षण मुँह फेर कर शर्माने लगी.

रमेश ने ये बात सुनते ही मोबाइल वापस नीचे रख दिया और बड़े गौर से उसका खूबसूरत चेहरा देखने लगा. लेकिन मैं ज्यादा देर तक टिक नहीं पा रही थी, मेरी चूत में बहुत जोर से ऐसा लग रहा था किसी ने सरिया घुसा दिया हो.

विनीता मुझसे लिपट गयी, मानो मैंने उसके जिस्म में एक नई जान डाल दी हो.

मैंने बात बनाते हुए कहा कि मेरी सहली एक बेटी का भी डांस का प्रोग्राम है, तो मैं उसी को देखने आई थी.

जो भी मुझे देखे, बस अपने बिस्तर पर लिटाने का ख्वाब देख ले। मेरे बदन के दो सबसे आकर्षक हिस्से है पहला मेरे स्तन, जो 34C के आकार के हैं. पूजा- मैं इसे कैसे मुँह से खोल सकती हूँ?मैं- मेरी जान, जरा अपनी जीभ निकाल कर फिराओ और चैन को दांतों से पकड़ कर खोल दो न!पूजा मेरे पैंट के ऊपर से ही अपनी जीभ निकाल कर मेरे लंड पर जीभ चलाने लगी. मिठाई में तो लसमलाई ओल काजू की कतली बहुत पसंद है।” सानिया ने अपने होंठों पर जीभ फिराते हुए कहा।चलो कोई बात नहीं.

कुछ देर मैं भी उसी के पास रही और उसके दोस्त से बोली कि इसका ध्यान रखना … मैं कुछ देर के लिए घर से होकर आती हूँ. मेरी गर्लफ्रेंड को उधर काम करते हुए समय बीतता गया और मेरी गर्लफ्रेंड के उसके बॉस की हरकतें साथ शुरू हो गईं. मैं क्लास में अकेली ही स्टूडेंट थी, तो वो मेरे बगल में ही बैठ कर मुझे पढ़ाने लगे.

उसकी चूचियों को मसलते हुए वो मेरी बीवी की चूत को बेरहमी से चोदने लगा.

वो फ्लाइट चेक कर रहा है जोधपुर से दिल्ली की।अदिति बोली- अरे ऐसे जाने से तो अपना टूर खराब हो जायेगा. उसने कहा कि हां मुझे याद है, पर संडे के दिन स्विमिंग इंस्टीट्यूट में फैमिली अलॉउड होती है … और आज अंकुश भी हमारे साथ स्विमिंग के लिए चल रहा है. जब मेरा पानी निकलने को हुआ, तो मैंने उनसे फिर पूछा- अबकी बार पानी कहां निकालूं?उन्होंने मुस्कुरा कर कहा- मेरे मुँह में निकालो.

एक मिनट के बाद वो गुस्सा करते हुए बोली- तुमने तो जान ही निकाल दी यार, मेरे बारे में भी तो सोचा करो! ऊपर से तुमने माल भी अंदर ही निकाल दिया! नीचे से मेरी चूत में सब कुछ गीला और चिपचिपा हो रखा है. मैंने देखा बहुत ही सुंदर और गोरे चिकने चूतड़ों के बीच में चूत और गांड के दोनों छेद मेरे सामने थे. उसके बाद इसका रात को 8 बजे मेरे पास फोन आया, उसने मुझसे 1 घण्टे तक बात की.

पूजा ने कमरे की तरफ से ऊपर से नीचे की ओर खिसकाई और गांड ऊपर उठा कर पैंटी को जांघ तक खींच लिया.

इसके बाद अप्रेन्टिस से एक्सपर्ट कैसे बना इसकी कहानी भी लगे हाथ सुना देता हूँ. यकीन मानिए दोस्तो, प्रतिभा के हुस्न ने उस सादे पानी में भी नशा भर दिया था.

पंजाब पंजाबी बीएफ मैंने उसको बोला- तेरी चूत में आग नहीं लग रही क्या?तो वो बोली- यार मेरी चूत तो तुझे सुबह टॉवल में देखकर ही पानी छोड़ गयी थी. मैंने- फिर?प्रतिभा ने कहा- संदीप, हमने तो सिर्फ खेल रचा था, पर खुशी तुमसे बहुत प्यार करती है … और इस खेल के कारण मैंने अपनी सहेली को धोखा दिए बिना उसकी जिंदगी के दो अहम किरदारों से प्रेमालाप का रास्ता बना लिया.

पंजाब पंजाबी बीएफ कुछ समय बाद हम दोनों 69 की पोजीशन में आ गए और एक दूसरे को खूब चाटने लगे. लेकिन सनम तो जैसे पागल सी हो गई थी, वह बहुत जोर जोर से लंड चूसने लगी.

मुझे गोदी में पहली बार किसी मर्द ने इस तरह उठाते हुए चूसा था, तो ये मेरे लिए ये एक ख़ास लम्हा था.

बीएफ चाहिए फुल एचडी वीडियो

इतने में मां बोलीं- हर्षद मैं तुम्हें अपना बेटा नहीं बल्कि एक दोस्त मानती हूँ. चूत के नीचे के भाग में नेहा की सुंदर गुलाबी गांड का छेद था जिसके बाहर दो सुडौल सुंदर और गोरे नितंब थे. मामी मुझे उत्तेजित करते हुए बोलीं- जरा धीरे धीरे कर … मुझे लग रही है.

मैंने तुरंत अपने मोबाइल को बंद किया और सीट पर रख कर बाहर आकर चुपके से देखने लगी कि कौन है. अब श्लोक वीना के ऊपर था और वीना श्लोके के नीचे आ गयी थी।श्लोक ने वीना के मुह में लन्ड डाल दिया और खुद 69 की अवस्था में वीना की गुलाबी चूत को जीभ से चोदने लगा।वीना के मुंह में लंड के जोर जोर से झटके देते हुए श्लोक कहने लगा- फकिंग यूअर माउथ बेबी, लिक इट लाइक एन आइसक्रीम. आह्ह … तुम्हें चोदने में कितना मजा आ रहा है बेबी … यस बेबी … अब तुम्हारी गांड चुदाई भी करने दो।वो आहिस्ता से उठी और उसने डिल्डो को अपनी गांड में डाल लिया.

और बुरा न मानो तो क्या पूजा को एक दिन के लिए अपना साथी बना सकता हूँ.

इस पर उन्होंने शरमाते हुए कहा कि मुझे याद नहीं है कि उस रात क्या क्या हुआ था. जैसा कि पहले बताया था उनके दो बेडरूम तो इकट्ठे थे जिनके बीच में दरवाजा था परंतु तीसरा बेडरूम उनसे बिल्कुल अलग था. शाम को राजू शायद जानबूझकर सात बजे आया तो हमने उसे अंदर ले लिया और सनम ने जाते ही उसे किस करना शुरू कर दिया.

आपके सुझावों के आधार पर ही कहानी को और बेहतर बनाने में मदद मिलती है. ऊपर से मैं इतनी खूबसूरत हूँ और सारे मर्द टीचर की पसंदीदा हूँ।अब वो बेचारे भी क्या करें हैं तो इंसान ही, खूबसूरत और जवान लड़की देख के फिसल जाते हैं।हमारे कॉलेज में इतने बुद्धिमान छात्र थे. मैं उछल कर बेड पर आ गयी और रोहन की तरफ अपना चेहरा करके डॉगी पोजीशन में आ गयी.

बिन्दू की बुर और उसकी गांड बहुत ही कसी हुई तथा चुदने के लिए बिल्कुल जवान थी. मेरी गोटियों पर उंगली फिराई और उसी उंगली को अन्दर तक करके मेरी गांड के छेद पर फिराने लगी.

जयमाल का समय हो गया सब वहाँ पहुँच गए। पायल भाभी मेरे आगे ही खड़ी थी और वो अपनी गांड से मेरा लन्ड बार बार टच कर रही थी जिससे मेरा लन्ड खड़ा होने लगा. फिर मैंने हंसते हुए धीरे धीरे उसके दूध दबाने शुरू कर दिए और निप्पलों को मसलने लगा. उसने फोन रख दिया, तो कुच्ची बोला- अब भाई तेरी ठंडी तो दूर हो जाएगी मेरा क्या होगा?मैं- तू ना यहां बैठे बैठे ये कल्पना करना कि अब मैं उसकी चूची चूस रहा होऊंगा … अब वो मेरा लंड छू रही होगी और अब चुदाई हो रही होगी.

यूं जीजा साली का रिश्ता तो हंसी मजाक छेड़छाड़ वाला होता है, ‘साली आधी घरवाली’ टाइप का.

मैंने उंगली और अंगूठे से नेहा की चूत के बाहरी होंठों को थोड़ा खोला तो चूत की दरार के ऊपर बहुत ही सुंदर गुलाबी रंग का मोती सा बना हुआ था जो उसका क्लीटोरियस था. फिर मैंने तुम्हें नंगा किया, तुमने मुझे नंगी किया और मैंने टांग ऊपर करके तुम्हारे लौड़े को अपनी चुत की फांकों में सैट कर दिया. अतः अपने स्वभाववश मैं अपनी साली से अत्यंत सामान्य संतुलित शालीन व्यवहार ही करता था, बात भी उतनी करता जितनी जरूरत हो बस.

मैंने कहा- सारा काम तो पति वाला ही कर रहे हो, अब और क्या चाहिए?वो बोला- थैंक्स भाभी, आपकी वजह से ही सब संभव हो पाया है. अपना चेहरा तो दिखा सकती हो ना?रमेश ने वापस एक स्ट्रॉन्ग सिप लिया और बेड के स्टैंड से टिक कर लेट गया.

मेरी चूत के बीच उसने अपना सर रखा और एक बार में पूरे चूत रस को चूस जाना चाहा. ” उसने अपनी नज़रें झुकाए हुए ही उत्तर दिया।पर कपड़े उतारे बिना यह सब कैसे होगा?”मैं अपना पायजामा नीचे कर देती हूँ. उसको मैंने पकड़ा और जोर से गरज कर कहा- क्या बात है? कौन हो तुम? क्यों झगड़ा कर रहे हो?तभी सरोज एकदम मुझसे बोली- राज! मारो इसको, इससे बच्चा ले लो और इसको बाहर निकाल दो.

बीएफ सेक्सी सेक्सी देहाती

वो बड़बड़ाते हुए बोला- आह्ह … क्या माल हो भाभी! एकदम गरम मसाला सनी लियोनी की तरह! काश … आप मुझे पहले मिलीं होती.

मैंने बोला- जब तक खाना नहीं आता मैं सबके लिए जब तक ड्रिंक्स ले आती हूँ. वो बूढ़ा बाबा अपने दोनों हाथों से मेरे निप्पलों को सहलाने और मींजने लगा. नसीम नखरे करने लगा- वाह भाईसाहब … बार बार मेरी ही लोगे?प्रकाश भाईसाब बोले- साले नखरे नहीं … जल्दी से खोल … वरना समझ ले.

फिर उसका मैसेज आ गया कि किटी पार्टी कैंसल हो गई है और शॉपिंग के लिए चलना है. साथ ही मैंने दूसरी वेबकैम मॉडल के नाम भी एक कागज़ पर नोट कर लिये क्योंकि सारी ही मॉडल्स बहुत सेक्सी थीं. सीडीएक्स व्हिडिओमैंने चुदाई करते हुए उसके दोनों मम्मे दोनों हाथों में पकड़ लिए और चूसने लगा.

कुछ आधा घंटे की चुदाई के बाद स्वीटी मैडम बोलीं- आंह जानू और तेज चोदो … और जोर से … मेरी जान बड़ा मस्त मजा आ रहा है … और जोर से करो. या भाभी की जीभ को अपने मुँह में लेकर चूसते।लगातार ऐसे करते करते भाभी गर्म हो गयी.

अब उस ध्यान मेरे मोबाइल पर गया।ओह … सर … ये क्या कर रहे हो … ओह … नो. एहसास ना हो जब तकएक लम्बी चुदाई काना जाने देना अपने साथी कोजब तक उसकी चूत ना बोलेलंड की बानी उसकी ठुकाई काहम रास्ते में जा रहे थे, तो मुझे होटल से पहले रास्ते में स्पोर्ट्स की दुकान थी. मैंने कुच्ची को बताया, तो वो बोला- अबे कितना चोद दिया था कि उसकी बुर में अब जाकर खुजली हुई है.

वो कभी रमेश के होंठों को तो कभी उसकी गर्दन को और कभी उसकी छाती को चूमती. अगली बार मैं थॉमस के मोटे लंड से अपने पति के सामने अपनी चुत चुदाई का मजा लूंगी. शाम को मैं सुमीना के यहां गया ये देखने कि उसके बच्चे की तबियत अब ठीक है या नहीं.

इस बार जुनैद ने भी लंड को चुत की फांकों में सैट किया और मेरे ऊपर छा गया.

शाम को उसके भाई, मम्मी पापा घर आ गए थे … तो मैंने उसके भाई से बात की. मैं रसोई में गया और खाली प्लेट और गिलास ला कर बियर की कैन खोल कर बैठ गया.

लौडों की माशूकी की उम्र बहुत कम होती है … बस उसका आप अंदाजा ही लगा लीजिए कि किशोरावस्था से जवानी की दहलीज तक. तभी वो झर गए उनका लंड सिकुड़ कर छोटा हो गया।मैंने उन्हें पकड़ लिया कि ‘और चोदो।’‘नहीं मेरा झड़ गया है. वो- चुप रहो … तुमने तो आज …मैं- क्या क्या … आज क्या?वो- कुछ नहीं … और बताओ?मैं- तुम बताओ?वो- तुम्हें पता है … तुम्हारे जाने के बाद जब मैं घर में जा रही थी, तो मेरे हाथ पैर कांप रहे थे.

मैं- वो कुछ बोली नहीं?वो- उसको ये थोड़े ही पता था कि हम क्या कर रहे थे. सनम एकदम से बाथरूम में गई और थोड़ी देर बाद बाहर आते ही उसने राजू को थप्पड़ मारा और बोली- बहन के लोड़े, तूने अपने लंड का पानी मेरे मुंह में क्यों छोड़ा?तो राजू बोला- दीदी, मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ. कमेंट्स के द्वारा अथवा नीचे दी गई ईमेल पर मैसेज करके आप अपनी राय भेज सकते हैं[emailprotected].

पंजाब पंजाबी बीएफ मेरे हाथ उसके कंधों पर जमे हुए थे और वो मुझे गाली देते हुए चोदता रहा ‘आह … साली रंडी चुद. पता नहीं … मेरी जांघों में ऐसी क्या बात है … पर आज तक जितनों से भी चुदी हूं सब मेरी जाँघों से लिपटे रहते हैं और सब मेरी मोटी और ऊपर की ओर उठी हुई जाँघों की प्रशंसा जरूर करते हैं।मैंने अपनी जवानी में 20 वर्ष की उम्र तक कभी भी चुदाई का मौका नहीं छोड़ा। यहां तक कि मैं एक बार अर्धवार्षिक परीक्षा में पास होने के लिए 52 वर्षीय हेमन्त सर का लंड चूस कर माल पी गयी थी.

एक्स एक्स एक्स मूवी देखना है

हमारी लव मैरिज हुई थी और हम शादी के 2 साल पहले से ही रिलेशन में थे. उसका लंड जब मेरी चुत में गया, तो मुझे महसूस हुआ कि उन सभी में शायद आशीष का लंड सबसे मोटा था. मैंने बोला- कंट्रोल करना भी कौन चाहता है!अर्पित बोला- कोई आ गया तो?मैं बोली- कोई नहीं है इधर, सब उधर नाच-गाने में लगे हैं.

अचानक से ममा मेरी चूची दबा देती हैं, तो कभी सामने आकर मेरी चूत को मुट्ठी में दबा देती हैं. मैं इन्हीं ख्यालों में खोया था कि पता नहीं लड़का होगा या लड़की!जो भी हो हमने कभी कोई जांच नहीं करवाई थी कि आने वाला बच्चा लड़की होगी या लड़का, जो भी भाग्य से होगा वो ख़ुशी ख़ुशी मंजूर था हमें. नंगे फोटो चाहिएमगर मेरी जान, मेरी चुदाई में तुम्हें मजा नहीं आता क्या?रीता- मज़ा तो बहुत आता है, तभी तो खुलकर सबके सामने भी आपसे चुदने चली आती हूँ.

मैंने इस कामुक ड्रेस को पहनने के बाद अपने लम्बे बालों का जूड़ा बनाया और स्कूल के लिए निकल गई.

आपको मालूम है कि पहले हीना की चुदाई, फिर प्राची भाभी की चुदाई हो चुकी थी, लेकिन खासतौर पर जिसकी संतुष्टि के लिए मुझे कहा गया था, उससे तो अभी मुलाकात भी नहीं हुई थी. मैंने जोर लगाया तो भाभी भी बोली- राज, बस इतना ही जायेगा, लगता है बच्चेदानी का मुंह आ गया है, तुम्हारा तो हथियार ही इतना बड़ा है.

मुझे गोदी में पहली बार किसी मर्द ने इस तरह उठाते हुए चूसा था, तो ये मेरे लिए ये एक ख़ास लम्हा था. वो उस पर रहम नहीं कर रहा था और रश्मि के मुंह से दर्द भरी चीखें निकल रही थीं- आह्ह आईई … अंकल … नो … प्लीज … स्टॉप … आईई मां … आह्ह निकाल लो प्लीज।मगर रमेश उसकी नहीं सुन रहा था और लगातार उसकी चूत में धक्के लगाये जा रहा था. इसे ठंडा करो!”कैसे?”चोद दो मुझे!” उसने कहा।पर कैसे?” मैं उससे सब सुनना चाहता था।अपना सामान डाल दो!”कैसा सामान?”अपना लंड.

भाभी के बड़े और गुदाज़ हिप्स इतने सेक्सी थे कि उनके स्पर्श से ही मेरा लण्ड तनकर खड़ा हो गया.

उसने लंड को चिकना करके रीता की चूत में पेल दिया और उसको पकड़ कर चोदने लगा. वो बड़बड़ाते हुए बोला- आह्ह … क्या माल हो भाभी! एकदम गरम मसाला सनी लियोनी की तरह! काश … आप मुझे पहले मिलीं होती. फिर भाभी ने मेरी गोटियां सहलाईं और कुछ तेज झटके के साथ मैंने अपना पूरा माल भाभी की चूत में डाल दिया.

राजस्थान की ब्लू फिल्मरश्मि की गांड का छेद बहुत छोटा सा था जो एकदम से सिकुड़ कर चिपका हुआ था. दूसरी तरफ मेरे फैमिली मेंबर सब लोग मामी को देख कर बड़े खुश थे कि चलो बहू सुंदर मिल गई है.

हिंद वेयर

… क्योंकि मेरे हाथ पूरे जकड़े हुए थे … और मैं एक मर्द की बांहों में बंधी हुई उसका पूरा साथ दे रही थी. यह बात आज से एक साल पहले उस वक्त की है, जब मैं 18 साल की नई नई जवान हुई थी. उसकी आंखें बाहर को निकल आई थीं और आंसू की धार के साथ नीचे चूत से खून की धार बहने लगी थी.

आप भी मजा लें पढ़ कर!नमस्कार दोस्तो, एक बार फिर आपका दोस्त राहुल सिंह कानपुर के पास से आपके सामने एक नई सेक्स कहानी के साथ हाजिर है. तभी सर ने मेरे कंधे पर एक हाथ रखा और आगे हाथ करके मेरी उंगलियों पर अपनी उंगलियां रख कर मुझे सिखाने का ड्रामा करने लगे. शेफाली और मैंने देखा कि आज तो पूरा इंस्टीट्यूट खाली खाली लग रहा था.

दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि आपको मेरी प्यासी जवानी की स्टोरी में मजा आ रहा होगा. अब सर से अपने लंड का दबाव और ज़्यादा मेरी गांड के दरार में देना शुरू कर दिया. इन दो महीने में गर्मियों की छुट्टियों में हम सब लौंडे काम चलाऊ तैरना सीख गए थे.

हर लौंडा माशूक नहीं होता है, मगर मैं था … क्योंकि दोस्त कहा करते थे. और तू इतना क्यों शरमा रही है? तुझे तो मैंने कई बार इस तरह से नंगी देखा हुआ है.

मैंने नेहा को इशारा किया और कहा- निकालो इसे बाहर!नेहा ने जैसे ही मेरे अंडरवियर के इलास्टिक में अपनी नाजुक उंगलियां फंसा कर अंडरवियर को नीचे किया.

मैंने उसकी चूत के ऊपर के उभरे हुए हिस्से को अपने होंठों से चूम लिया. चोदा चोदी वाला भेजिएकोई पांच मिनट लंड चुसाई के बाद रॉबर्ट ने अपना दुबारा माल मेरे मुँह में निकाल दिया. छोटी बुर की चुदाईरात को करीब एक बजे मेरे मोबाइल पर घंटी बजी, देखा तो गुरजीत की कॉल थी, बोली- आपने सुबह घर आने के लिए कहा है. मैंने आगे हाथ करते हुए हल्के से मामी के चूचों को दबा दिया और उनकी गर्दन पर पीछे से किस किया.

अंकल दूसरे कमरे में सोने चले गए।लगभग एक घंटे के बाद मैंने अपने कमरे के दरवाजे को बंद होते हुए देखा। मैंने देखा कि मम्मी कमरे से बाहर गयी हैं। मैं समझ गया कि अब मम्मी उन अंकल के कमरे में गयी होंगी.

गाउन में भाभी बहुत खूबसूरत लग रही थी।भाभी ने मुझे एक बार वह गाउन पहनकर भी दिखाया था. सिर्फ मुझे अर्जुन का लंड चाहिए था, ऐसा मुझपे उसके चुदाई का खुमार छाया था. साली जी, आज शाम को कुछ स्पेशल बना के खिलाओ न!” मैंने निष्ठा का ध्यान बटाने के उद्देश्य से कहा.

पर उन्होंने कहा- तू शरमा क्यों रही है, हम दोनों तो इस बिस्तर पर आज की रात के साथी हैं. भाभी ने अपनी नाजुक उंगलियों से मेरे अंडरवियर को जैसे ही नीचे किया, मेरा 8इंची लम्बा मोटा लौड़ा झटके से बाहर निकल कर मेरे पेट पर लगा. कॉलेज गर्ल हॉट ओरल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने पड़ोस की एक कमसिन सेक्सी लड़की की पैंटी उतरवा कर उसकी चूत देखी.

कामसू त्र के चित्र

एकदम ताजे गुलाब की खुशबू पूरे कमरे में फैली थी, पूरा रूम सजा हुआ था साफ़ सुथरा … और बेड पर एक योगा पैंट जो ज्यादा मोटा नहीं था, झीना कह सकते हैं लेकिन काला होने के चलते सायद सिर्फ मेरे उभार ज्यादा दीखते. मेरे मुंह से चुदास भरी गालियां निकल रही थीं- फाड़ दे मेरी चूत को, इसका भोसड़ा बना दे … आह्ह … चोद दे मुझे जोर से … और फाड़ … आह्ह … हां … चोद … और चोद।रॉकी भी शायद झड़ने के करीब आ गया था. अंकल की चड्डी से ही मैंने अपने हाथ को साफ किया और फिर हम दोनों आराम से लेट गये.

जब मैं नीचे काम से जाता था या घर से बाहर कहीं जाना होता था तो अक्सर सुमीना भाभी मुझे दिख जाया करती थी.

एक दिन मैंने बातों ही बातों में मामी से उनके सुहागरात वाली रात की बात पूछ ली.

जिससे उसकी पीठ कंधे और गर्दन मेरे आंखों के पास आ गए और मेरी सांसों का अहसास उसे स्पष्ट होने लगा. रोहन- अंजलि के साथ कल की रात कैसी रही?थॉमस बोले- कल रात अंजलि का स्वाद चख कर मजा आ गया. अक्षरा सेक्सी फोटोगुड़िया ने मेरे आधे लंड को मुँह में भर लिया, फिर मुझे तिरछी नज़र से देखते हुए आराम से लंड को मुँह से निकालने लगी.

”अब मैंने बेड की ड्रावर में रखा निरोध निकाल लिया और अपना कुर्ता और पायजामा निकाल कर अपने लंड पर कंडोम चढ़ा लिया।बेबी तुम भी अपने कपड़े उतारो ना प्लीज!”ओह … पर वो मैं कपड़े नहीं निकल सकती. अब आगे की सेक्सी भाभी की देसी चुताई कहानी:मेरा मोटा लंड चुत में लेते ही भाभी की चीख निकल गई- हाई … उईई … मैं मर गई … मांआ. वो दूसरे हाथ से मेरा पल्लू नीचे करके मेरी चुचियों का मानो नाप ले रहा था … मतलब दबा रहा था.

कुतिया बना कर उन्होंने मेरी गांड को अपनी उंगली सहलाना शुरू कर दिया. मैं उसकी पतली कमर पर हाथ फेर रहा था और साथ ब्रा के ऊपर का खुले हिस्से में मैं चूस चूस कर लव बाइट देता जा रहा था.

एक दिन मेरी छोटी बहन ने हमें सेक्स करते देख लिया तो …दोस्तो, मेरा नाम यासीन है.

थोड़े झटके लगाकर मैं एक पुलिस वाली के ऊपर से उठा और दूसरे साथी के पास जाकर उसे अपनी जगह भेज दिया. उन्होंने अपने हथियार को सहलाया और वहीं ताक में रखी तेल की शीशी से तेल लेकर तबियत से लंड पर चुपड़ा, कुछ तेल अपने हाथ पर भी ले लिया, उस पर थूक भी दिया. भाभी की गुदाज़ गोरी टांगें, उनकी गोरी कमर और लगभग नंगे नितम्ब मेरे सामने थे.

ववव कॉम हिंदी बफ और आए भी क्यों नहीं … सालों बाद मेरा लंड फिर से एक कुंवारी चूत का उद्घाटन करने जा रहा था. दस मिनट तक मेरे चूचे चूसने के बाद थॉमस ने मुझे पलट दिया और मेरी पीठ पर आ गया.

ये कह कर मैंने फाइनल दाना डाला और फिर से कहा- चलो अब हम दोनों को देर हो रही है. मैं शिवानी भाभी के पास गया और उनसे बोला- आज रात के लिए मेरा खाना भी अपने यहां ही बना लेना. मैंने भाभी से पूछा- अब भैया के साथ आप सेक्स नहीं करती क्या?भाभी उदास हो कर बोली- डॉक्टरों ने आपके सामने ही तो मना किया था, वैसे भी हार्ट अटैक की दवाइयों से आदमी का सेक्स खत्म हो जाता है.

एक्स एक्स एक्स बीएफ दिखाएं

ब्रा की स्ट्रिप्स को खींच कर अचानक छोड़ देता, तो वो चट की आवाज के साथ उसकी पीठ को लाल कर देती थी. हम दोनों सिसकारियां लेते हुए बड़े ही मजे से एक दूसरे के अंग को चूस रहे थे. रात को खाना खाने के बाद करीब 9 बजे सुमीना के व्हाट्सएप से मैसेज आया और हम दोनों बातें करने लगे.

मैं लेटी रही, मेरे जिस्म में बहुत कम जान लग रही थी लेकिन अर्जुन का लंड मेरे दिमाग से नहीं उतर रहा था. मैंने थॉमस को बेड पर सीधा लेटा दिया और खुद भी थॉमस के लंड के उपर आ गयी.

तो वो बोली- भैया से पूछो कि हमारे यहाँ नहीं आयेंगे क्या?उसके पापा मुझसे बोले- तुम्हारी दीदी पूछ रही है कि हमारे यहाँ नहीं आयेंगे क्या?मैंने कहा- मेरा फोन तो उठाती नहीं हैं, क्या करने जाऊँगा.

उसने जो केला मुझे दिया था, उसे पहले मैंने हाथ से सहलाया और उस लड़के को देखते हुए मज़े लेते हुए केले को चूस कर खाने लगी. इस सेक्स कहानी में आगे बढ़ने से पहले एक आप लोगों के लिए एक शेर अर्ज करने का मन है. तभी रमेश बोला- रश्मि … थोड़ा चूसकर और गिला कर न इसे?रश्मि ने अपने हाथों से रमेश के लंड को मुँह में लिया और उसके आंड सहलाने लगी।रमेश- आह्ह्ह ,.

इसके बाद अंकुश ने आगे बढ़ कर मेरी जीन्स का बटन खोला और मेरी जीन्स को उतार दिया. मैंने बिन्दू को इशारा किया तो उसने मुझे इशारे से बताया कि वह आ रही है. वो मेरी चूत को चाटते हुए, मेरी चूत के दाने को भी चूसने लगा, तो मैं ‘ऊउन्न्ह ऊम्म्ह.

इसका फायदा उठा कर उन्होंने अपने दोनों हाथों से मेरी दोनों मोटी मोटी चुचियों को थाम लिया.

पंजाब पंजाबी बीएफ: वह जैसे पागल सा हो गया था, उसने मम्मी की होठों को काटना भी शुरू कर दिया. उसके लिए तुम्हें अभी आना होगा चुदवाने।मैंने कहा- नहीं, सेमीफिनल के बाद करूंगी।सुनील ने कहा- नहीं सॉरी, या तो अभी … वरना मैं तो पढ़ ही रहा हूँ कल जीतने के लिए।मैंने सोचा चुदवाना तो अब भी है और कल भी.

चूचियाँ भारी भारी गोल होनी चाहिए, गांड भी भरी और गोल होनी चाहिए, चूत भरी और मोटी होनी चाहिए, मुझे सूखी हुई चूत जिसमें से केवल छेद दिखाई दे, वैसी चूत कम पसन्द है. फिर अपने पांवों को आपस में रगड़ते हुए लंड को मथने लगीं जैसे मथानी से दही बिलोते हैं. लगभग 2 मिनट बाद उन्होंने मेरे गाल चूमे और फुसफुसा कर मेरे कान में ‘आई लव यू …’ कहा.

डॉगी पोजीशन में चोदने के बाद थॉमस ने मुझे अपनी गोद में उठा लिया और मुझे दीवार के पास ले गया.

लेखक की पिछली हॉट सेक्सी कहानी:मैं बनी स्कूल की नंबर वन रंडीमेरी हॉट सेक्सी कहानी में पढ़ें कि मैंने स्कूल में टीचर, लड़कों से सेक्स फॉर फ्री मतलब खूब चुदाई करवाई. अमित ने आव देखा न ताव … वो पागलों की तरह मेरी दोनों चुचियों को बारी-बारी से पीने और मसलने लगा. मीता की दर्द और सिसकारी के आवाज निकल जाती ‘आआह्ह … उफ्फ … लगती है न!’फिर मैं उसके गाल पर किस कर लेता.