भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी

छवि स्रोत,सेक्सी फिल्म दिखाएं सेक्सी फिल्म ब्लू

तस्वीर का शीर्षक ,

लड़कियों कुत्ता सेक्सी: भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी, फिर मैंने अपना लंड निकाला और उसका मुँह पकड़ कर उसके मुँह में लंड घुसा दिया.

हिंदी मूवी सेक्सी एचडी वीडियो

पिंकी को रोते हुए देखकर, गोलू खुश हो गया और उसकी भिन्डी भी कड़क हो गई, पर अब भी केवल 5 इंच से ज्यादा नहीं हुई थी. सेक्सी वीडियो मम्मी की चुदाईदरअसल ये मेरे लिए एक गाली न होकर मेरी योग्यता को दर्शाने के लिए लिखा है.

इतने में उसने मेरा लंड चूस चूस कर पूरा निचोड़ लिया और मैंने उसके मम्मों पर ही अपना लंड का रस गिरा दिया. जिओचैट सेक्सी पिक्चरआप सभी को नमस्कार और उन सभी पाठकों को बहुत धन्यवाद, जिन्होंने मेरी पिछली कामुकता भरीगर्म सेक्स स्टोरीको सराहा और मुझे मेल किए.

हमेशा की तरह मन भर कर इस पोज़ में चुदाई करने के पश्चात आर्थर ने नताशा को थोड़ा आराम दिया, सच पूछो तो आराम नहीं सिर्फ दो चार साँस लेने भर की मोहलत!उसने मेरी फूल जैसी परी को फिर से कुतिया बना कर उसके चौपायों पर खड़ा कर दिया और अपनी पहले दो, फिर तीन उँगलियाँ उसकी गांड में घुसेड़ दीं.भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी: तभी वह रोने लगीं और अचानक मेरे हाथ छुड़ा कर लंड से नीचे उतर कर अपनी पैंटी पहनने लगीं.

मैंने उनसे कहा- वाह चाची आपकी चूत तो एकदम टाइट है, चाचा कुछ करते नहीं है क्या?उन्होंने कहा- अब कहां उनको टाइम मिलता है, दिन में वो ड्यूटी करते हैं और रात में आकर सो जाते हैं.अलका ने एक किलकारी मारी और मज़े से बेहाल होकर अपना सिर इधर उधर हिलाने लगी.

बात करते हैं सेक्सी - भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी

मॉम को देखते ही मैंने अपना लंबा सा लंड उसकी गांड से धीरे से निकाला और थोड़ा सा अपना लंड मॉम को दिखाते हुए छुपाने का नाटक करने लगा.मैंने तभी उसे पूछा- अंजलि, मजा आ रहा है ना?वो मेरी बात सुन कर शरमा गयी और कुछ नहीं बोली, उसके चेहरे की मुस्कान सब कुछ बयाँ कर रही थी.

अब अंकल अपना लन्ड जोर से मेरी चूत में घुसाने लगे, मुझे बहुत दर्द होने लगा, मैं बहुत तेजी से चिल्लाने लगी- छोड़ दो मुझे!और रोने भी लगी. भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी उसकी इस बिंदास भाषा को सुनकर मैंने अपनी चड्डी को छोड़कर सारे कपड़े उतार दिए और पानी की ओर आगे बढ़ गया.

अब स्वाति मेरे सामने सिर्फ पैंटी में थी और मैं उसकी चूचियों को देख कर अपने लंड को मसलने लगा.

भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी?

जब वो नहा चुकीं तो उन्होंने मुझे आवाज लगाई और कहा- आकाश बेटा जरा वहां मेरा टॉवल पड़ा होगा… दे देना, मैं भूल गई हूँ. दीदी ने पैंटी का आगे का हिस्सा पकड़ कर साइड में सरका दिया… जिससे दीदी कीचुत बिल्कुल नंगीहो गई… और अब चुत साफ साफ दिखाई देने लगी. यारो… रानी के हर धक्के पर इधर उधर उछलते चूचे, रानी के बिखरे हुए बाल, उसके होंठों पर छायी हुई अनंत सुख की मुस्कान, लंड के अंदर बाहर होने पर फचाक फचाक फचाक की आवाज़ें और अलका रानी की ऊँची ऊँची आवाज़ में सिसकारियां इत्यादि सब मिल के वातावरण को अत्यधिक कामुक बना रहे थे.

मैंने फोन रखा और चूत सहलाते हुए बोल दिया- चल जीतू अब तुम्हारी बारी है. अब मेरा लंड उसकी गांड में अच्छी तरह से चल रहा था और उसे भी मज़ा आने लगा. मैंने भी अपना काम जल्दी ही खत्म कर लिया था और अब उसके जाने का भी समय हो गया था लेकिन मैंने उसको मेरे लिए एक कप चाय बनाने के लिए कहा.

उनका रूखा और चिड़चिड़ापन देख कर मैं समझ गया कि इनकी चुदाई भैया ठीक से नहीं कर पा रहे हैं. मुझे लगा दीदी उठ गईं, मैंने अपनी आँखें बंद कर लीं और सोने का नाटक करने लगा. उसका मानना था कि जिंदगी एन्जॉय के लिए मिली है, प्यार व्यार सब बकवास बातें हैं.

मैंने अपनी गांड को मटकाना शुरू किया तो सर समझ गए और उन्होंने मेरी चुत चोदना शुरू कर दी. वो बोला- आज तुम्हें मैं एक गिफ्ट देता हूँ जिससे तुम इस चुदाई को नहीं भूलोगी.

फिर मैं और दिव्या साथ निकले, अवी ने दिव्या को बस स्टाप पर उतार दिया.

तभी वो बोली- नाउ फक मी और अब मुझसे रुका नहीं जाता, प्लीज़ जल्दी से लंड पेल दे.

वाह… क्या नशीला अहसास था वो… जैसे ही मैंने अपने जीभ को उसकी चुत के अन्दर बाहर करना शुरू किया, वो और ज्यादा सिसकारियां भरने लगी. मैंने उसका सर बेड के ऊपर लगा दिया था और मैं उसकी टांगों के बीच बैठा था. बेडशीट सफेद थी तो खून ज्यादा लग रहा था।ये सब निशा देख कर बोली- जानू, अब ये सब तो होना ही था… अब मुझे तुम खुश कर दो।अब मैं भी उसकी चूत में ताबड़तोड़ धक्के लगाता रहा, अब निशा भी साथ दे रही थी और नीचे से अपनी गांड ऊपर कर कर के चुदवा रही थी।इस पोज़ में मैंने उसे दस मिनट चोद चोद के उसकी हालत खराब कर दी.

अगले दिन हम दोनों ने हाफ डे की छुट्टी की और कुसुम मुझको अपने घर पर ले आई. मैंने उसके मुँह से अपना लंड निकाल कर, उसे पीठ के बल पलंग पर लिटा दिया और उसकी गांड के नीचे तकिया लगा कर मैं पलंग से नीचे उतर आया. रीमा- महक तो अच्छी आ रही है, कोई परफ्यूम लगा रखी है क्या?मैं- नहीं, साबुन और पसीने की मिलावट होगी.

मिलोगी नहीं?उसने दो दिन बाद के लिए कहा और बोली- मैं परसों के बाद फ्री रहूंगी, तब मिल लेंगे.

उसकी बॉडी की खुशबू मुझे गरम कर रही थी और ऊपर से वोड्का का नशा भी था. उन्होंने मुझे वहीं रेत पर लिटा दिया और मुझे पैरों से मुझे चूमना शुरू कर दिया. अच्छा प्रिया! दो-एक बातें तो बता?”प्रिया की भवें प्रश्नात्मक तौर पर मेरी ओर उठी.

भाभी के चूतड़ों को मजबूती से पकड़ के बहुत जम के मैं भाभी की चुत की चुदाई कर रहा था. कामिनी और वो एक दूसरे की बांहों में बाँहें डाल के डांस कर रहे थे, उसने कामिनी को गांड के पीछे से पकड़ रखा था और कामिनी ने उसके सीने पर!उसने धीरे से कामिनी के छोटे से बेबी डॉल में नीचे से हाथ डाला और नाचने लगा. तभी उसने मेरी बेल्ट खोली और मेरी जीन्स का हुक खोल कर पैन्ट को नीचे कर दिया.

आंटी मुझसे पहले सैट हो गई और एक दिन जब उसका पति ऑफिस गया था और मेरी मॉम व बहन स्कूल गई थीं.

मैं बाहर गया और एक शॉप से ठंडे की बोतल ली और उसमें बाजू में शराब की दुकान से हाफ लेकर थोड़ा सा अल्कोहल भी मिला लिया. मैं तो चाहता ही था कि चिंटू मेरे मम्मों को सिर्फ़ टच ना करे, बल्कि उन्हें दबाए और चूसे.

भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी उसके बाद वो कहने लगीं- विकी, मैं किचन में खाना बनाने के लिए जा रही हूँ. ’ निकला। मैंने सोचा इसे भी मज़ा आने लगा है। उसकी हाइट कम होने के कारण उसने अपने पैर मेरी टांगों पर रख लिए। वो मेरे ऊपर ही चढ़ गया। फिर उसने और ज़ोर लगाया और उसका आधा लंड गांड को चीरता हुआ अन्दर चला गया।मेरी आँखों में आंसू आ गए, मैंने अपना मुँह तकिए से दबा लिया। मुझे यह सब एक मजबूरी के लिए करना पड़ रहा था। उसने एक और धक्का लगाया और पूरा लंड मेरी गांड में गाड़ दिया।मेरी टांगें एकदम कांप गईं.

भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी पहले तो मैंने टी वी पर कोई हिन्दी या अंग्रेजी सेक्सी फिल्म सर्च करने की कोशिश की लेकिन उस समय पर कोई भी ऎसी सेक्सी फिल्म नहीं आ रही थी, दिन के समय एडल्ट मूवीज आती भी नहीं! उनके केबल टी वी पर फैशन टीवी भी नहीं लगता था. लंड देख कर भाभी पागल होकर लंड पर टूट पड़ीं… मेरे लंड पे किस करने लगीं फ़िर मेरे लंड की चमड़ी को खींच कर टमाटर जैसे लाल सुपारे को बाहर निकाल कर चारों तरफ़ जीभ से चाटने लगीं.

उसके साथ और भी कई मैडम थीं, वो सब एक प्राइवेट गर्ल्स होस्टल में रहती थीं, जो मुझे काफी पसन्द करती थीं.

सेक्सी वीडियो ओपन वाली

उम्म्ह… अहह… हय… याह… साले फाड़ दो मेरी चुत को… लव यू जान…मैं उसको और तेज़ चोदने लगा. मैं उठी और फ्रेश हो कर तैयार हो गई क्योंकि कुछ देर बाद मुझे निकलना था. ये सब देख मुझे बहुत अजीब सा लग रहा था, समझ में नहीं आया रहा था कि क्या करूँ, एक तरफ मेरी साली को इस तरह देख कर मजा भी आ रहा था और मेरा लंड खड़ा हो गया था और दूसरी तरफ मुझे जलन हो रही थी क्योंकि मैं भी अपनी साली को बहुत पसंद करता था.

दोस्तो, मेरी इस हिंदी सेक्स स्टोरी में मजा आ रहा हो तो मुझे ईमेल जरूर कीजिएगा. पता नहीं कितनी देर हम चूत लंड का खेल खेलते रहे और आख़िरकार वो पल भी आ गया, जब हम दोनों अपने चरम पर पहुँच गए, दोनों लगभग एक साथ ही झड़ गए. मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया और चूत के ऊपर रगड़ने लगा और अपना काम-रस उसकी चूत के ऊपर गिरा दिया उसने भी मेरे लंड रस को अपनी पूरी चुत पर मल लिया.

मैंने उससे कहा कि जिस चुत में उंगली नहीं जा रही थी, उसमें इतना बड़ा लंड चला गया.

उसने मेरे लोअर में हाथ घुसा के लंड को पकड़ लिया उसके ऐसे करते ही मेरा लंड और तमतमाने लगा. फिर जैसे ही मैंने उसकी स्कर्ट और पिंक कलर की पेंटी को नीचे उतारा तो ब्राउन कलर की झांटें और चूत खुली हुई पिंक कलर की दिख रही थी. उस दिन पूरा दिन मेरे हाथ कुछ नहीं लगा, लेकिन रात में सोने की प्राब्लम सामने खड़ी हो गई.

मैं अकेली ही थी।उस आदमी के आते ही मैंने सिर पर चुन्नी ले ली।उसने पैसों के बारे में पूछा. मुझे देखते ही उसका रंग उड़ गया, फिर भी उसने हंस कर दरवाजा खोला और मुझे अन्दर आने के लिए बोला. अच्छा एक बात बता मज़ा आया कि नहीं तुझे… या बस ऐसे ही? क्या बात कर रही है… आधा घंटा उस बुढ्डे ने तुझे चोदा… ओ माय गॉड… तेरे तो मज़े हैं बॉस.

फिर मैंने अपनी जीभ उनके मुँह में डाल दी और जीभ का लड़ना शुरू होने लगा. उस अधिकारी को तो पुलिस ने छोड़ दिया क्योंकि उसने किसी खास आदमी से फोन करवा दिया.

विवेक मेरी बीवी के मम्में मसल रहा था, वो कामुकता से सिसकारियाँ भर रही थी, गर्म हो रही थी, एकदम से विवेक ने कामिनी को चिपका लिया और उसकी नंगी पीठ पर हाथ फेरने लगा. आमतौर पर मैं फोन अटेंड नहीं करती थी और मैसेज देख कर या तो जवाब दे देती थी या फिर मैसेज भेजती थी. तो मैंने हमारे गांव के पास वाले किले को चुना, वहां शाम को कोई नहीं जाता था.

मेरी स्टोरी आपको कैसी लगी? आप मुझे मेरी मेल आईडी पर मेल करके बता सकते हैं।[emailprotected].

पारुल ने हाथ में मेरा लन्ड पकड़ा हुआ था और हाथ से लन्ड की स्किन को आगे पीछे करने लगी. मैंने आइसक्रीम को आंटी के चुचों की लाइन में डाल दी और उनके रसभरे मम्मे चाटने लगा. पारुल कार काफी अच्छी ड्राइव कर रही थी, मैंने उससे कहा- पारुल यार तुम भी एक पैग ले लो!तो वो बोली- अभी तुम लो, मैं बाद में लूंगी।अब मैं अंजलि की शर्ट में हाथ डाल कर चुचे ब्रा के ऊपर से दबाने लगा.

जब भाभी और मैं एक दूसरे से मिलते थे तो उन्होंने मुझसे कहा कि उनकी शादी को 4 साल हो गए हैं, पर उन्हें अब तक कोई बच्चा नहीं है. मैं उसकी बॉडी पे हल्के हल्के हाथ फेरने लगा और वो मेरे बाल सहला रही थी और मुझे सर पे गाल पे किस कर रही थी.

उनकी गांड में जैसे ही उंगली डाली, भाभी बहुत छटपटा कर बोलीं- क्या कर रहे हो यार?मैं बेरहम बन रहा हूं… आपने ही तो कहा था ना… बिल्कुल रहम मत खाना!”वो मुझे देखकर हंस पड़ीं और फ़िर से मेरा लंड मुँह में भर लिया. मैं भी चुदाई का मजा लेते हुए सीत्कार कर रही थी- आह्ह्ह्ह आहह्ह्ह आहह्ह्ह चोदो मुझे. दीदी के बड़े बड़े बूब्स ब्लू रंग की ब्रा में जकड़े हुए थे… ब्रा इतनी टाइट लग रही थी कि मानो बीच से अभी टूट जाएगी और दीदी के चुचे अभी ब्रा से बाहर कूद पड़ेंगे.

হট ভিডিও সেক্স ভিডিও

क्या मेरा कर्ज़ा चुकता हो गया कि अभी भी कुछ बाकी है?वो मुझसे बोला- दुनिया की नज़रों में तुम चाहे कुछ भी हो मगर मेरी नज़रों में तुम मेरी बहन ही रहोगी.

जानवरों की भाषा में इसको आंचल कहते हैं और अंग्रेजी में इनको निप्पल कहते हैं. जब वो कॉफी लेकर आई तो एक मस्त सेक्सी नाइटी में थी, मैं तो देखता ही रह गया. पर सच बताऊँ दोस्तो, उसके पास जाने की मेरी हिम्मत ही नहीं हुई, बात करना तो बहुत दूर की बात है.

तू तो मुझे ऐसे चोद रहा है जैसे मैं कहीं भागी जा रही हूँ।मैंने भाभी को आँख मारी और उनके ऊपर लेट गया और धक्के लगाने लगा. साले हरामी मार डालेगा क्या? जा जाकर अपनी बीवी की गांड मार भोसड़ी के…पंकज ने धक्का मारते हुए कहा- अरे जान, स्मिता तो चूत भी सही से नहीं देती. हॉर्स लेडी सेक्सीमैं- पर तूने तो चुदने से मना कर दिया था ना?रीमा- मना नहीं किया था, बाद में चुदने को बोला था.

फिर अम्मी ने अपने कपड़े भी उतार दिए और नंगी मुझसे चिपक कर मेरे निप्पल को दबाने लगी, फिर उन्होंने मुझे अपनी और घुमा कर दोनों हाथ से मेरे निप्पल को ऊपर नीचे कर के उन्हें चूसने लगी. फिर मैंने उसे बेड पर लिटाया और उसकी टांगों के बीच जाकर उसकी चूत पर अपना लंड फेरा और बोला- तू कितने दिन से नहीं चुदी है?वो बोली- दो महीने से नहीं चुदी हूँ… पर आज जी भर के चोद दो, कई दिनों से चाहती थी कि आप मुझे चोदो.

मैं शाम को आऊंगा, लेकिन मेरी एक ख्वाहिश है कि आज रात तुम मेरे लिए दुल्हन जैसे सजो और मैं तुम्हारे साथ सुहागरात मनाऊं. हमारी ये धक्का पेल चुदाई लगभग 15 मिनट तक चली होगी, उस समय तक भाभी एक बार झड़ चुकी थी और अब मेरा भी निकलने वाला था तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ाई और लगभग 15-20 शॉट के बाद मैं भी भाभी की चूत में झड़ गया. फिर चिंटू ने मेरी गांड मारने को कहा तो मैं चाहता था कुछ ऐसा करना लेकिन मैंने मना कर दिया क्योंकि मुझे डर लग रहा था कि गांड में दर्द होगा और न जाने क्या हो जाए!उसने कहा- ठीक है या, लंड गांड के अन्दर मत लेना, पर सिर्फ़ गांड पर टच करवा ले.

जब उसका नंबर आया और उसने मुझे देखा तो वो थोड़ा शॉक हो गयी- आप यहाँ?मैंने कहा- हाँ!तुम्हें अभी तक जॉब नहीं मिली?”फिर मैंने उसका इंटरव्यू लिया और उसके बारे में बहुत कुछ जान लिया. जिसकी वजह से उसकी 32 इंच की कठोर चुचियां ऐसे ऊपर नीचे हो रही थीं, जैसे दो पहाड़ हिल रहे हों. मैं हमेशा से ही शौक़ीन मिज़ाज़ का रहा हूँ और चूत से ज्यादा औरतों की गांड में दिलचस्पी रखता हूँ, जो कि मुझे काफी बार मिली भी है.

पर लंड भी पूरा बहनचोद बन चुका था, वो साला फिर से दीदी की चूत की तरफ फिसल गया.

अब वो सिर्फ़ पेंटी में रह गई थी, उस 34 इंच के टाइट चूचे क़यामत लग रहे थे. मेरी पत्नी ने बेटी होने के बाद जॉब छोड़ दिया था, पहले वो एक टेलीकॉम कंपनी में ऑफिस रिसेप्शन पर थी.

उसने ब्लू कलर की पेंटी पहनी थी और उसकी जांघ बहुत पतली सी ट्यूब लाइट जैसे चमक रही थीं. उनकी हवस जागने के बावजूद भी वो समझ नहीं पा रही थीं, वो बोलीं- पर राहुल. कयामत तो तब बरपा हुई जब प्रिया ने अपनी बायीं टांग उठा कर मेरे ऊपर रख दी.

मेरे और उसकी लगातार चुदाई के बाद 3 महीने में नतीजा ये निकला कि मैं पेट से हो गई. प्रिया का कंप्यूटर कोर्स भी अपने अंतिम चरण में था, पांच-छह दिन की और बात थी, 02 नवंबर को प्रिया ने घर लौट जाना था. आप अंदाजा लगा सकते हैं कि किस तरह से हम दोनोंभाई बहन ने चूत लंड का खेल खेलाहोगा.

भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी मैं- आपसे रिलेटेड एक बात बोलूं, आप बुरा तो नहीं मानोगी?माँ- पर्मिशन लेने की ज़रूरत नहीं है… जो कहना है साफ़ बोलो. ये कह कर वो मॉम के ऊपर झुक गया और मॉम के मम्मों को अपने मुठ्ठी में पकड़ कर मॉम को किसी कुतिया की तरह चोदने लगा.

सेक्सी वीडियो सेंड करो

उस वक्त शाम का टाइम था तो माँ और दीदी और भाई हम सब बाहर चौपड़ में बैठ कर बातें कर रहे थे. उसने कहा- मैंने तो इस काम के लिए कम से कम 15 दिन का टाइम सोचा था जो आपने एक ही रात में कर दिया अगला दिन भी नहीं रुकने दिया. जैसे ही बनता है, मैं बता दूँगी।ऐसे ही हमारी रोज बात होती रही और मधु भी अब बिना शर्म के खुलकर बात करती और हम सेक्स चैट करते। परन्तु मिलने का कोई प्लान नहीं बन पाया। ऐसे ही एक दिन मधु का फोन आया वो बोली- यार सुनो.

वो बोला- इसके लंड से चुदने के बाद मेरे कमरे आओ तो सही, फिर देखता हूँ. गाँव देहात के मजबूत जानदार लड़के, मजबूत कड़क हाथ, शर्ट की खुली बटन… वाह क्या नज़ारा था… अब बस मैंने तो सोच ही लिया था कि आज यहाँ मैं किसी ना किसी गाँव वाले लन्ड का स्वाद तो आज जरूर चखूँगा. सेक्सी बीपी वीडियो खपाखपअब मुझसे कण्ट्रोल नहीं हो रहा था, मैंने कहा- चाची अब मुझे आपको चोदना है.

वहां पहुँची तो जमाई जी रजाई में थे।मैंने कहा- रचना बेटी मेरे पास आकर बोली कि वो वहाँ लेटेगी, तो वो वहां लेट गई.

मैंने भी कपडे पहने और उसे उसके घर के मोड़ तक छोड़ कर आया क्योंकि उससे ठीक से चला नहीं जा रहा था. फिर मैंने उंगली से थोड़ी देर तक उसकी चूत को चोदा, पहले ही उसकी चूत बहुत पानी छोड़ चुकी थी, जिससे उसकी पैंटी काफी गीली हो गई थी.

अभी तो हम सब मिल कर तेरी गांड का भुर्ता बनाएंगे, आज तेरी गांड सुजा देंगे साली रंडी. हिंदी सेक्स कहानी की बेहतरीन साईट अन्तर्वासना पर कहानी पढ़ने वाले सभी पाठकों को मेरा नमस्कार।दोस्तो, मैं आपको आज अपने जीवन की सत्य घटना बताने जा रहा हूँ। मेरा नाम राजेश (बदला हुआ नाम) है और मैं छत्तीसगढ़ का रहने वाला हूँ। अभी मैं बीए में हूँ. उस वक्त उसके एक्स बॉयफ्रेंड ने फोन करना स्टार्ट कर दिया और कालेज छोड़ने का दबाव बनाने लगा.

मैंने दीदी का एक मम्मा मुँह में डाला और दूसरे को दूसरे हाथ से दबाने लगा.

कल बॉस को मेरी गांड से प्यार हो गया इसलिए वे सिर्फ गांड ही मारना चाहते थे. मेरा माल जैसे ही गिरा, उसने लंड को फिर से मुँह में भर लिया और चूस चूस कर साफ कर दिया. फिर कुछ देर बाद मैं एकदम से तेज हो गया और उनकी योनि के अन्दर ही अपना पूरा रस छोड़ दिया.

आंटी को सेक्सी वीडियोआज मैं आपको एक कहानी बताऊँगा, जिसमें मैंने अपनी साली को एक दिन के लिए अपनी बीवी बनाया और उसके साथ चुदाई के खूब मज़े किए. आ जाओ।मैं उसके कमरे में डाबर हेयर आयल की बोतल लेकर चली गई।मैंने दरवाजा लॉक कर दिया.

सेक्सी फिल्म हिंदी में ब्लू फिल्म

उसका जवाब था कि मैं झिझक रहा हूँ कि कहीं तुम्हारे घर पर कोई कुछ ना बोले. आज लगभग तीन साल से मैं उनकी निरंतर सेवा कर रहा हूँ, इससे अब चाची भी खुश रहतीं है लेकिन हम बार बार लगातार कैसे मिल सकते थे. मुझको कुछ गड़बड़ लगा, फिर दिल मानने को तैयार नहीं हुआ, मैं गाड़ी के पीछे पीछे चलने लगा.

लेकिन पवन ने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोला- बेटा, क्या हो रहा है?मैं कुछ बोलता, इससे पहले अजय ने मेरी गांड को मसलना शुरू कर दिया और पवन ने मेरा हाथ अपने लंड पे रखवा दिया, वो मेरे होंठों को चूमने लगा. हम दोनों वासना की आग में जल रहे थे और ऐसे एक दूसरे से खेल रहे थे, जैसे कोई जंगल में शेर और शेरनी सेक्स करते वक्त खेलते हैं. सुबह जागकर मैं स्कूल गई और उधर से लौटते हुए वो चैक मैंने अपने अकाउंट में लगा दी और 20 हजार और जमा किये जो मुझे मिले थे.

जब मैं उसको गेट पर ही किस कर रहा था, उसने मुझसे कहा- मेरे बाबू, रुक जाओ, मैं अगले 2 दिन के लिए आपकी ही हूँ. उसने सेक्सी डांस शुरू किया और डांस करते हुए अपने एक एक कर कपड़े उतारती गई. वो अपने मम्मे हिलाते हुए बोलीं- मुझे तो नहीं… और किसी चीज को देख कर मस्त बोल रहे थे.

वो भी शर्माते हुए हां में सर हिला देती है और मैं उसे बांहों में भरके क्लिनिक के पिछले कमरे में ले जाता हूँ और उसे चूमता चाटना शुरू कर देता हूँ. नवीन- आह मालकिन कहीं बच्चा होइ गवा तो?मॉम मुस्कुराते हुए बोलीं- तू उसकी चिंता मत कर नवीन.

फिर हम दोनों एक दूसरे में इस तरह समाए कि एक एक करके उसने और मैंने एक दूसरे के सारे कपड़े उतार दिए.

और जैसा कि आप सभी को पता है कि एडल्ट साईट पर तस्वीर कैसी आती है।मैंने कहा- ठीक नहीं महसूस कर रहा हूं. सेक्सी xx2023वो बहुत गरम आवाज में मोनिंग कर रही थी- ओह ओह… आआअह…मैंने अपनी अंडरवियर निकल दी और उसकी पूरी चुत को अपने मुँह में ले कर पागलों की तरह चूसने लगा. सेक्सी वीडियो एचडी डीजेमैंने बड़े ज़ोर से धमाधम्म फिच्च… फिच्च… फिच्च… की ध्वनि के साथ करारे शॉट टिकाते हुए एक चूची में दांत गाड़ दिये और दूसरी चूची को पूरी ताक़त से हाथों से एसे निचोड़ा जैसे धुलने के बाद तौलिये को निचोड़ते हैं. अब जल्दी से अपने लंड को मेरी गांड में डालो।उसने अपने लंड को गांड पर रखा.

मेरी मॉम और मेरी कामवासनासे आगे:इस बात का शक़ थोड़ा मेरी मॉम को भी होने लगा था कि मैं उसको चोद सकता हूँ.

काफ़ी देर चूसने के बाद मैं नीचे आया और मैं अपनी ज़ुबान उसकी नाभि में डाल कर घुमाने लगा. ”क्यों मैं सुंदर नहीं हूँ क्या आप लोगों ने तो तारीफ ही नहीं की!”अरे भाभी वो जिनेन्द्र को शायद अच्छा नहीं लगे इसलिए…”अरे चिंता मत करो, उनको बुरा नहीं लगेगा. रीमा- क्या हुआ?मैं- तेरे चुचे तो वैसे ही टाईट है, आसमान को देखते रहते हैं तो तुझे ब्रा पहनने की क्या जरूरत.

निशा को भी मेरी उंगली का स्पर्श अपनी गांड पर महसूस करते हुए मज़ा आ रहा था. उसकी चूत में लिसलिसा पानी हो जाने से मेरा लंड अब उसके चूत में आसानी से जा रहा था और उसकी कामुक सिसकारियां सुनकर मुझे बहुत मज़ा आ रहा था. वैसे तो विशाल और मुझको भोजन से ज्यादा एक दूसरे की बीवी की भूख ज्यादा लगी हुई थी।हम लोग खाना खाने बैठ चुके थे और यह सही भी था क्योंकि नीलम पूरी तरह से नशे में नहीं थी।खाना खाते खाते मैंने नीलम को कोल्ड ड्रिंक में दो पेग और पिला दिए, नीलम पूरी तरह से नशे में हो चुकी थी, अब यही समय ठीक था.

एक्स वीडियो नया

मैं- आज का दिन तुम चाहो तो तुम्हारी जिंदगी का सबसे सुखमय और यादगार दिन होगा. मैंने सबको नाश्ता करवाया, मेरे पति अपनी दूकान पर चले गए तो जमाई जी मुझे चुपके से बोले- सासू जी, जाने से पहले एक बार और?मैं मुस्कुरा दी।मैंने अपनी बेटी रचना को दिन में उसकी सहेली से मिल कर आने को कहा तो वो अपनी सहेली के यहाँ चली गयी।अब मैं और जमाई जी अकेले थे। उन्होंने मुझे आँगन में ही पकड़ लिया और मेरे ब्लाऊज को खोलने लगे. लेकिन मेरे लंड से एक ये सुविधा थी कि मैं जब चाहे उनकी चुत के लिए उपलब्ध हूँ.

कुसुम चुत उठा कर बोली- तो मेरी चुत भी अपने अन्दर जाने के लिए तुम्हारी जीभ माँग रही है.

एक दिन मेरे पति अपने किसी पुराने दोस्त को खाने पर लाए, खूब बातें वगैरह हुईं, वो बहुत अमीर था.

अभी तो हम सब मिल कर तेरी गांड का भुर्ता बनाएंगे, आज तेरी गांड सुजा देंगे साली रंडी. क्योंकि तुम्हारा बच्चा गिराने के लिए जब मैं तुम्हारे अन्दर अपना डालूँगा तो तुम्हारे बदन की गर्मी से मुझे नुकसान भी हो सकता है. जंगली सेक्सी टार्जनफिर हमने एक दूसरे के नंबर्स एक्सचेंज किए और उसके बाद से ऑफिस कैंटीन में भी बात होने लगी.

मैंने उसके बीच में सोते हुए ही उसकी माँ को न जाने कितनी बार चोदा है और न जाने कितनी ही बार उसकी माँ चोदते समय मैंने उसके चूचों को भींचा है. अंधे को क्या चाहिए दो आँखें… मैं भी खुशी से मान गई और दिए गए टाइम पर उस होटल में जा पहुंची. वैक्स करते करते उसने बहुत बार मेरे कूल्हों को और उनके पास बहुत टच किया.

हमने काफी ऑर्डर की और आराम से बैठ कर काफी पी।तो दोस्तो, यह थी मेरी सेक्सी कहानी दो प्यासी औरत की चुत चुदाई की… आप लोगों को मेरी कहानी पसन्द आई, मजा आया या नहीं… मुझे मेल करके जरूर बताना![emailprotected]मैं आपके मेल की प्रतीक्षा करूँगा और अगली कहानी में बताऊंगा कि जयपुर जाकर मैंने फिर अंजलि और पारुल की कैसे चूत और गांड चुदाई की. मैंने भी सोच लिया था कि अब तो जो हो सो हो, पर अब इसे इस तरह से नहीं जाने दूँगा.

अब जीजा एक हाथ से मेरी फ्रॉक को ऊपर करके मेरे सीने तक कर दिया, तो पैर से लेकर सीने तक पूरी नंगी हो गई बीच में सिर्फ पैंटी बची बदन में!जीजा एक दम ललचाई आंखों से मुझे देखकर बोले- वन्द्या, क्या मस्त चिकनी माल हो! मुझे तो यकीन ही नहीं हो रहा है कि मैं तुम्हारे ऊपर चढ़ा हूं, दुनिया की सबसे सेक्सी लड़की को चोदूंगा।यह कहते हुए जीजा ने मेरी पैंटी के अंदर हाथ डाल दिया.

थोड़ी देर में मैं झड़ गया और उसने मेरे लंड से निकला पूरा रस अंदर गटक लिया. रानी ने पहले तो पूरे लौडे को नीचे से ऊपर तक चूमा, टट्टे सहलाये और फिर बड़े दुलार से खाल पीछे खींच के टोपे को नंगा किया. फिर अगली सुबह न जाने मेरे दिमाग में क्या आया, मैंने उस नम्बर पे कॉल किया.

सेक्सी ब्लू फिल्म देवर भाभी की चुदाई उसका जलता हुआ जिस्म मुझे धीरे धीरे एक दुनिया से दूसरी दुनिया में ले जा रहा था. मुझे लगा दीदी उठ गईं, मैंने अपनी आँखें बंद कर लीं और सोने का नाटक करने लगा.

सब कुछ देखने के बाद उसने कुछ दवाई लिखी और एक तेल भी लिखा और कहा कि इसको इस तेल से दिन में एक बार मालिश हल्के हाथों से कर देना इसकी हड्डी में चोट लगी है. इसके घटना के बाद पानी के अन्दर ही नीला और मेरे बीच वो सब कुछ हो गया, जिसे चुदाई कहते हैं. बहुत माथा पच्ची करने के बाद ये हल निकाला कि एक रूम में मम्मी, सोनी मैं और मेरा छोटा भाई सो जाएँगे और दूसरे रूम में मामा मामी और उनके दोनों बच्चे सो जाएंगे.

xxx.com सेक्स वीडियो

मेरे वीर्य से प्रिया की योनि बाहर तक सराबोर हो उठी और मैंने पसलियाँ तोड़ देने की हद तक प्रिया को अपने आलिंगन में दबा डाला. फिर मैंने कंडोम लगाकर लंड को उसकी चुत में धीरे धीरे धकेलना शुरू किया. अम्मी ने सबसे पहले मेरे होंठो में होंठ रख दिए और बड़े प्यार से चूसने लगी.

उसी तरह कब हम दोनों अपने अपार्टमेंन्ट पहुँच गए, पता ही नहीं चला और वही मुद्रा आपके सीसीटीवी में कैद हो गई. उस दिन मैंने उसको 1000 रूपये दे दिए थे क्योंकि वह एक ग़रीब घर से थी.

वो मुस्कुरा कर बोली- ऐसे क्या देख रहे हो?मैं बोला- तुम बहुत सेक्सी लग रही हो.

मेरी बहन से कामिनी ने कहा- दीदी, आज आप पिंकी को लेती जायेंगी? मुझको ऑफिस जल्दी जाना है. मुझे लगता था कि वो भी मेरी निगाहों को समझती थी लेकिन उसने कभी भी मुझे इस तरह का कोई इशारा नहीं दिया. सब कभी पीछे छोड़ कर हम दो भाई बहन अपनी मनोकामना पूरी करने में लगे हुए थे.

जैसे ही उन्होंने लंड को मेरे मुँह में डाला, तुरन्त ही उन्होंने सारा रस मेरे मुँह में ही निकाल दिया. फिर मैंने उसका टॉप निकाला तो वो शर्मा रही थी और अपने स्तनों को हाथ से छुपा रही थी. और 2-4 काफ़ी तेज धक्कों के बाद ज्वालामुखी का एक ऐसा फव्वारा छूटा जो अपनी अग्नि में सब बहा ले गया.

मैंने हिम्मत करके उनके मम्मों पर अपना मुँह लड़ाया, जब उनकी कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई तो मैंने अपने होंठों से निप्पल को दबा कर महसूस किया.

भाई बहन की सेक्सी बीएफ एचडी: एक बार की बात है कि उनके पापा का एक्सिडेंट हो गया था और वो कोमा में चले गए. उसने मुस्कुरा कर मुझे गले से लगा लिया और चूमते हुए कहा- ठीक है राजा तुमको भी आज सील तोड़ने का हक है.

”उन्होंने मुझे नीचे लिटा कर धीरे से चूत पर अपने लंड रगड़ा और धीरे से अन्दर डाल दिया. मैं गाड़ी के एकदम नजदीक पहुंच गया और गाड़ी के शीशे में देखने की कोशिश करने लगा. किला पहुँच कर हम दोनों एकांत से कोने में जा बैठे, जहां किसी गार्ड या किसी की नज़र न पड़े.

मैं खुले शब्दों में बोलता हूँ कि अरे एक महीने तक मुझे तुम्हारे साथ वो सब करना पड़ेगा ना.

थोड़ी देर चूमा चाटी के बाद मैंने उसके टॉप में हाथ डाल कर बहन के चूचे दबाए, जिससे उसको और भी मजा आने लगा. रास्ते में मैंने स्मिता को समझा दिया था कि घर पर कोई ओवर रिएक्शन ना करे. ऐसे धीरे धीरे मेरा आना जाना उनके घर में काफी बढ़ गया था हमारे फोन नंबर भी एक्सचेंज हो गए थे.