बीएफ से क्स

छवि स्रोत,अर्चना सेक्सी व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

സെക്സ് വീഡിയോസ് ഇംഗ്ലീഷ്: बीएफ से क्स, जैसे जैसे सेक्स के लिए जोश बढ़ रहा था वैसे ही हमारी गतिविधियां भी तेज हो रही थीं.

बैंगन के साथ सेक्सी वीडियो

मैं भी उसे गाली देते हुए चोद रहा था- ले साली लंड ले … आह कितना मस्त चुदती हो यार. सेक्सी वीडियो कॉलेज सेक्सी वीडियोमस्ती में मेरे लंड पर अपने गर्म होंठ कसते हुए वो मेरे लंड को चूसने लगी और दूसरी ओर मेरी जीभ उसकी चूत की गहराई नापने लगी.

वो लंड को खड़े होते हुए देख रही थी … और मैं आंख बन्द करके उसके हाथों के स्पर्श के मजे ले रहा था. पी एम सेक्सीफिर से दोनों को अपने सीने से भींच कर गर्दन पर कान के नीचे दोनों की चुचियों के बीच में चुम्मी की बौछार लगा दी.

वो मेरा हाथ पकड़ कर एक तरफ को ले जाते हुए बोला- माय डिअर … इधर थोड़ी झाड़ी में आ जाओ.बीएफ से क्स: वो ब्लैक जीन्स और टी-शर्ट में मस्त लौंडा मेरे लिए एकदम फिट दिख रहा था.

मूवी से आने के बाद हमने आपस में बात करके कार्यक्रम की रूपरेखा निश्चित कर ली.मेरे दोनों जुड़वा बच्चों और पूनम के होने वाले बच्चे का बाप भी टोनी ही है, जो कि अब तेरा होने वाला पति है.

ब्लू सेक्सी नंगी पिक्चर दिखाइए - बीएफ से क्स

वो बोला- मैं चाहता हूँ कि तुम मेरी वाइफ को हर तरह से खुश करो … चाहे सेक्स से … या मसाज से … मुझे सिर्फ़ उसकी ख़ुशी चाहिए.बस 5 मिनट किस करने के बाद मैंने उनके ब्लाउज को ऊपर सरकाया, ब्रा ऊपर की और उनकी दोनों चूचियों को चूसने लगा.

मैंने मुनासिब समझा कि लण्ड को बाहर निकाल लिया जाये।अब मैं सुमन की चूत पर अपनी उंगलियों से थूक मलने लगा। मैंने देखा कि उसकी चूत से खून बहने लगा था लेकिन मैंने सुमन को बताया नहीं कि उसकी चूत से खून निकल रहा है वरना वो असहज हो जाती और सारा खेल बिगड़ जाता. बीएफ से क्स हालांकि इस उम्र तक मैंने कभी चुदाई नहीं की थी तो मुझे इन सब बातों के बारे में जानकारी नहीं थी.

मोनिया ने मेरा लोवर उतारते हुए कहा- अब दर्द कैसा है?मैंने कहा- सुबह से थोड़ा ठीक है.

बीएफ से क्स?

अब मैंने मौके की नज़ाकत को समझा और उसके लबों पे लब रख दिये और बेकार के नाटक और विरोध के बाद वो मेरा साथ देने लगी. मैंने काजल को पीठ के बल लेटा दिया और उसकी गांड ऊपर करके तकिया लगा दिया. मेरी ममेरी बहन कामुकता इतनी बढ़ी हुई थी उसने अपनी कुंवारी चूत को मेरे प्यासे लंड को समर्पित कर दिया.

ये सब सुनकर तो मैं जैसे और जोश से भर गया और उसे ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. पांचवें दिन मैंने बातों ही बातों में पूछ लिया कि तुम्हारा बॉयफ्रेंड क्या करता है?उसने मना कर दिया कि मेरा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है. मेरे मुँह से भी यही निकल रहा था- और जोर से चोदो पापा जी … फाड़ दो अपनी बहू की चूत!मेरे मुँह से ये बातें सुनके पति भी और जोश में आ गए और उनके धक्के और तेज हो गए.

मुझे पता चल गया कि शायद बैठते समय किसी फ्रेंड ने इसे सीट के निचे डाल दिया होगा. और इस बार का चुम्बन कुछ ज़्यादा मीठा और अच्छा था।अब मौका तो था कि मैं उसकी ठुकाई कर दूँ पर एक बार मन में ख्याल आया कि कहीं बुरा न मान जाए. चाची मुझे अपने बेटे जैसा ही मानती है और उनके अपने बच्चे की तरह ही मेरा खयाल भी रखती है.

उस सीन को देख कर मुझे मेरे एक्स बॉयफ्रेंड के लंड की याद आयी और मेरा हाथ अपने आप मेरी जीन्स पर चला गया. बाबा ने मेरे कंधे से पकड़ कर मुझे उठाया और मुस्कराते हुए बोले- क्या बात है कन्या, अपनी परेशानी कहो.

मैंने अपना सारा माल मामी की चूत में ही डाल दिया और ऐसे 10 मिनट तक लेटे रहे.

उसके साथ वाला लड़का, उससे बोल कर नीचे चला गया कि मैं दूसरी बोगी में सीट देखने जा रहा हूँ.

मेरा नाम साहिल खान है मेरी सेक्स कहानी के पिछले भागमामी की चूत चुदाई की सेक्स कहानी-1में आपने पढ़ा था कि मैंने अपनी रुकसाना मामी की चूत चोद कर लंड का माल उनकी बुर में ही डाल दिया था. मेरा नाम साहिल खान है मेरी बीवी का नाम सना खान है हम लोग कपल है 23 और 25 साल के!मेरी बीवी के जिस्म का साइज 34 30 36 है. मैंने उसके बाल पकड़ लिए और घुड़सवारी करते हुए गाली देने लगा- मादरचोद … छिनाल … आह मेरी रंडी बहुत मस्त है.

अब मैंने उमेश को मैसेज किया कि ठीक है … लेकिन मैं अपने बेटे को नहीं ले जाऊंगी … क्योंकि वापसी में रात हो जाएगी और उसको ठंड भी लग सकती है. काको मस्ती में मेरे लंड को चूस रही थी और रानी अपनी चूचियों को सिसकारियां लेते हुए दबवा रही थी. मैंने उसकी चूत की चुदाई 15 मिनट तक जोरदार तरीके से की और उसके बाद उसकी चूत में ही खाली हो गया.

जब मुझे पता चला कि दीदी अपनी जवानी का पूरा मजा उठा रही है लोगों से चुद कर तो मैं भी दीदी की चुदाई की चाह करने लगा.

फिर रात के खाने के बाद मैंने पति से पूछा- क्या पहन कर जाऊं यार आज?तो पति ने मुझे एक स्टॉकिंग पहनने के लिए कहा और कहा- ये पूरी फाड़ के चुदाई करवाना!12 बजे रात मैंने पापाजी को मैसेज किया और उन्हें गेस्ट रूम में बुलाया. तभी मैंने यह कहकर बात घुमा दी कि तुम पढ़ाई भी करते हो या सिर्फ ऐसी फिल्में ही देखते रहते हो?वह शर्माते हुए कहने लगा- नहीं यार मैं तो बस संडे को ही देख लेता हूं. कोई आधा घंटे बाद बुआ सो गई … लेकिन आज मेरे मन में उसको चोदने के विचार फिर से आने लगे.

वो मुझे फुल स्पीड में चोदने लगा और मैं भी उचक उचक कर उससे चुदवाने लगी. तभी अचानक से रानी को चुत से पानी रिसता सा महसूस हुआ, जिससे उसकी आंखें खुल गईं. यश एकदम से मेरी ब्रा में कैद मेरे रसीले मम्मों को देख कर मानो बौरा गया था.

ऋचा बोली- यार, तू कितनी लकी है कि तुझे किस्मत ने अपनी प्यास बुझाने का इतना अच्छा चान्स दिया है और तेरे हज़्बेंड भी शहर से बाहर रहते हैं.

मैंने सपना से कहा कि मैं तुम्हें एक तरकीब बताता हूं ताकि हम दोनों स्वतंत्र रूप से मजा ले सकें. भैया भी जान गये कि उनकी चुदक्कड़ बीवी एक बार फिर से गर्म हो गयी है.

बीएफ से क्स मैंने तेल की शीशी उठाई और उसकी गांड के छेद में उंगली से तेल लगाने लगा. मगर ननदोई जी ने मुझे पकड़ कर रखा और गिरने नहीं दिया।जब मेरा पानी निकल गया तो ननदोई जी बोले- दुलहनिया, अब ऐसा कर तू मेरा भी पानी गिरवा दे, चूस इसे और खाली कर दे मुझे।मैं नीचे फर्श पर बैठ गई और ननदोई जी का मस्त लंड चूसने लगी.

बीएफ से क्स वो गैर मर्द से चुदाई की आदी हो चुकी थी और मेरा मन भी उसकी चूचियों को देख कर बहकने लगा था. मैं एक प्राइवेट कंपनी में काम करता हूँ और उसी कंपनी की तरफ से कॉर्पोरेट क्रिकेट खेलता हूँ.

मैं नीचे से लंड की ठोकर देते हुए उसकी चुत चुदाई का असीमित मज़ा ले रहा था.

हिंदी में बात करते सेक्सी

आपने मेरी पिछली कहानीआंटी की बहू को प्रेगनेंट कियापढ़ी, आपको पसंद भी आई. मैं तेजी से कार दौड़ा रही थी कि तभी मां का फोन बजने लगा कि पापा देर से आयेंगे और मां भी घर से देर से पहुंचेंगी. मैंने पूछा- फैमिली में कौन है?पापाजी बोले- तुम्हें वो पार्टी वाली बुआ याद है?मैंने कहा- हाँ याद है.

तीसरे दिन भाभी ने कहा- माँ की तबियत ठीक नहीं है, वो रात को बार बार उठती हैं. मैंने हां कह कर नीचे बिस्तर लगाने का कहा, तो उसने कहा- इसी बिस्तर पर लेट जाना. उसके साथ उसका बच्चा था, जिसका मैं शुक्रगुजार था कि उसकी वजह से उसकी माँ मुझे चोदने को मिल सकती है.

भाभी बोलीं- अच्छा ये बात है … कोई बात नहीं … मैं तुम्हें दो चार बार में ही सब कुछ सिखा दूँगी.

मेरे कहने पर वो मटकती हुई दरवाजे की तरफ गयी और कुंडी लगा कर वापस आ गयी. मैंने लंड पर थूक कर उसको ज्यादा चिकनाहट दी और उसकी गांड में पूरा लंड फंसा दिया. घर में मेरी अम्मी से बताया- यह सड़क पर गिर गयी थी तो चोट के कारण चल नहीं पा रही।मेरी अम्मी ने अंकल जी का बहुत शुक्रिया अदा किया, उन्हें चाय नाश्ता करवाया.

ये बात तब की है, जब मेरा बेटा 5वीं क्लास में था और वो पढ़ने में थोड़ा कमज़ोर था. एक बार उनकी चूत गर्म हो गई तो वो कुत्ते से भी चुद जायेगी, ऐसा मुझे लगता है. मैंने अपनी बहन की चूत की दीवारों को उंगली से पकड़ कर चूत के दाने पर जीभ लगाई तो सोनल मचल उठी- आआह … आंह प्रेम … उम्म ओह … मजा आ रहा है … आह … करते रहो.

वो मेरे मसल्स देखती और कभी कभी मेरे एब्स पर हाथ फेरते हुए मुझसे मजाक करने लगती. फिर पति बोले- मज़ा आया या नहीं?मैंने कहा- आपने सच कहा था; पापाजी का लंड वाकई बहुत मोटा है और मज़ा देता है.

हालांकि इस उम्र तक मैंने कभी चुदाई नहीं की थी तो मुझे इन सब बातों के बारे में जानकारी नहीं थी. उसी दिन शाम में जब कोई घर पर नहीं था, मामी सब्जी काट रही थी, काटते-काटते अचानक दौड़ी हुई मेरे पास आई और लगी मुझे पागलों की तरह किस करने … मेरे लण्ड को मसलने लगी. मेरा लंड फनफना उठता था और मुझे उसकी चुत चुदाई की कल्पना करते हुए अपना लंड हिलाने में बड़ा सुकून मिलता था.

साथ ही वो बैंक मैनेजर अंकल वालीआंटी की चुदाई की कहानीभी अभी बाकी है.

चौथे दिन मैंने अपनी एक टांग चाची के ऊपर रखी और एक पल सांस रोके पड़ा रहा. रानी को ब्रून का लंड भा गया था और ब्रून तो पहले से ही रानी की चुत फाड़ने के चक्कर में था. हो सकता था कि उसको बारिश के शोर में मेरी इस हरकत के बारे में पता न लगा हो.

एक दिन मैं उससे फोन पर बात कर रहा था, तो मुझे लगा कि कुछ गड़बड़ है. पापा मेरी गांड सहलाते हुए कहने लगे- मेरी रंजू बिटिया की गोरी गोरी जांघें कितनी चिकनी हैं … गोल गोल नुकीले चुचे.

उनकी मस्त बॉडी, अच्छे बड़े लंड … जो हमारे चूतों की जबरदस्त पेलाई करते हैं … अंतिम प्रहार में तो इतना वीर्य दान करते कि पूरा अंदरूनी भाग भर जाता है और रात भी रिस रिस कर बाहर आता रहता है. जीन्स के मोटे कपड़े से भी उनका स्पर्श मेरी जांघों पर उत्तेजना पैदा कर रहा था. जब खेतों में पानी देना होता था तो पिताजी यहीं पर सोते हैं।मैंने ट्यूबेल का दरवाजा खोला और पीहू को अंदर कर बाइक को भी दरवाजा बंद कर लिया।मैं कुछ देर पहले ही ट्यूबवैल पर दीये जला कर गया था.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चोदा चोदी सेक्सी

मैं हटते हुए बगल में लेट गया और सांस को काबू करने की कोशिश में लगा.

उसने फिर से मेरे लंड को मुंह में लिया और मुंह को फाड़कर उसको पूरा अंदर लेने लगी. मेरी अम्मी के तीन भाई हैं, दो मुंबई में रहते हैं और सबसे बड़े वाले यहां रहते हैं. मैंने सोनल के मुँह पर पानी छोड़ दिया और लंड को सोनल की जीभ से चटवा कर साफ़ करके बेड पर लेट गया.

मैंने कई बार उसकी बातें सुनने की कोशिश की लेकिन मुझे कुछ भी समझ नहीं आता था. एक बार मैंने उनके फोन में पोर्न ब्लू विडियो देखी तो मुझे लगा कि भाभी की वासना बढ़ी हुई है. बॉलीवुड की पिक्चर सेक्सीमैंने भी वहीं से कमर को ऊपर नीचे करना शुरू किया और उसके मुँह को चोदना शुरू कर दिया.

मैं बोला- तूने तो मेरा दिल ऐसे भी ले रखा है … और आज तो तू मुझे पूरा खा ही जाएगी. उसके बाएं पैर में मोच आ गयी थी जिस कारण से उससे चला नहीं जा रहा था.

करीब 15-20 मिनट तक मैंने भाभी की जमकर चुदाई की, फिर मैंने अपना सारा रस भाभी जी की चूत में ही छोड़ दिया. एक मिनट बाद वो बोली- जानू बहुत देर कर रहे हो … जल्दी करो … अपना लंड मेरी बुर में घुसा दो. इस बार शुभम, जो मेरी बुआ का बेटा है, छुट्टियां मनाने गुजरात से हमारे घर आया था.

इतने में मैंने शोभा की चूत अपने रस से भर दी तो शोभा ने मुझे ध्क्का दिया और गुस्से में बोली- प्रेग्नेंट करोगे क्या?मैंने उन्हें पकड़ कर अपनी तरफ खींचा और चूमने लगा।वह कहने लगी- हटो … यहाँ से जाओ अपने कमरे में!मैंने कहा- रिलैक्स … कल दवाई ले आऊंगा. भाभी बोलीं कि आदि जरा धीरे धीरे डालना … मैंने आज तक इतना बड़ा लंड नहीं लिया है. उधर का हाल देखकर मैं दंग रह गयी।उसमें मेरी जूनियर लड़की नंगी कमोड पर बैठी हुई थी और मेरी क्लास का लड़का उसकी चूत को चाट रहा था।इस दृश्य को देखकर मैं भी गर्म हो गयी और मेरी उंगली अपनी चूत में चली गयी। यह पहली बार मैंने अपनी चूत के अंदर उंगली डाली थी.

मैंने उसके सामने अपने सब कपड़े निकाल दिए और मैं सिर्फ चड्डी में उसके सामने आ गया.

मां की हालत की खबर सुनकर हनीप्रीत व उसका पति दोनों लोग एकदम से उनका हालचाल जानने के लिए आ पहुंचे. जब मैंने अपनी फोटो देखीं, तो मुझे खुद भी यकीन नहीं हुआ कि मेरा लंड इतना सुन्दर दिखता है.

मेरे मन में ये सोचकर रोमांच पैदा हो रहा था कि ये लोग भी मुझे ऐसे ही देखा करेंगे. मगर बाद में पता चला कि लड़की को पटाने के लिए एक अलग ही काबिलियत की जरूरत होती है. मां पिताजी के धोखे के बाद टूट सी गयी थीं और उनका मेरे सिवाए कोई और नहीं था.

तब तक ब्रून की वाइफ जाग गई और उसने मुझसे कहा कि मैं अपने हज़्बेंड को गिफ्ट देना चाहती थी, इसलिए मैंने रानी को ब्रून के रूम में भेज दिया और मैं खुद यहां आ गई. उसने मेरी तरफ उम्मीद भरी नजर से देखा और फिर कमरे का दरवाजा खोल कर बाहर चली गयी. मैं भी उसकी गीली चूत को सहलाने लगा और वो नीचे से मेरे लंड को दबाने लगी.

बीएफ से क्स मेरे मुँह से भी यही निकल रहा था- और जोर से चोदो पापा जी … फाड़ दो अपनी बहू की चूत!मेरे मुँह से ये बातें सुनके पति भी और जोश में आ गए और उनके धक्के और तेज हो गए. इसी तरीके के कार्यक्रम में करीब 5 मिनट बीत गए और माँ अब पूरी तरह से गर्म हो चुकी थी.

हिंदी देसी सेक्सी एमएमएस

उसके लिए आप मेरी बहन की गर्म जवानी के खेल की कहानी के अगले भाग का इंतजार करें. उसके बाद चौकीदार का लंड फिर से मेरी बहन की चूत चुदाई करने के लिए तैयार हो गया था. मैं लंड के सुपारे को चुत की फांकों में लगा कर उसके ऊपर पूरा लेट गया और किस करने लगा.

तभी वाईस प्रिंसिपल मैडम ने कहा- ये तुम्हारी नई इकोनॉमिक्स की टीचर हैं. एक दो लोगों से घुमा फिरा कर रात में घूमने के लिए जगह की बात की, तो किसी ने बोला कि नोएडा में रात को किसी जगह परांठे मिलते हैं. सेक्सी विदुवैसे भी यहाँ खेत पर कौन आएगा।उसने चारों तरफ देखा, फिर बोली- भैया, आप मुझे बाहर क्यों लाये हो?तो मैंने कहा- मेरी प्यारी बहना, तेरी चुदाई खुले आसमान के नीचे खेत में करूँगा.

एक दिन मुझे सुबह सुबह पूजा भाभी का कॉल आया- जल्दी से हॉस्पिटल आ जाओ.

इसी शौक के चलते हम दोनों जुगाड़ करते रहते हैं कि हमें कुछ और नया करने के लिए मिले. इसके बाद मैंने उनकी चूत में अपने मुँह को लगा दिया और मेरा औजार उनके मुँह में चला गया था.

मैंने अब तक जितनी भी चुत चोदी हैं, उन लोगों की गोपनीयता का ध्यान भी रखा है. ममता जी एक छोटे गाँव की रहने वाली थी और काफी पुराने विचारों वाली महिला हैं. फिर भाभी ने लंड बाहर निकाल कर बोला- ये सब बाद में करेंगे, अभी प्रोग्राम चालू होने वाला होगा … यदि तू जल्दी से नहीं गया, तो तुझे ढूँढते हुए तेरी माँ इधर आ जाएगी.

लेकिन इस नोक झोंक का असर मेरी चूत पर पड़ रहा था जिसे अब कोई लंड नहीं मिल रहा था.

मुझे देखते ही बरस पड़ी- बेशर्म, आज क्या करने आया है?मैंने कहा- कल के लिए सॉरी बोलने आया हूं. उसकी चुत के पास आते ही मैंने उसकी पैंटी को अपनी दांतों से पकड़ा और नीचे खींचना शुरू कर दिया. फिर मैं बाहर गयी और पापा जी को बता दिया कि पति पार्टी में नहीं चलेंगे.

मीना कपूर का सेक्सी वीडियोराहुल- कैसे मान गयी?अनमोल- अंजलि तुम बताओगी या मैं बताऊं?अंजली- आप ही बताइए न. फिर मैंने अपने घर आकर मेरे बेटे को ट्रॉफी दी, तो वो बहुत खुश हो गया.

सेक्सी फिल्म वीडियो में सेक्सी सेक्सी

उसके हाथों ने मेरे पैंट के अन्दर घुसकर मेरे लंड को सहलाना शुरू कर दिया था. बीच बीच में वो लंड को निकाल कर सांस ले लेती थी और फिर मेरा साथ देने लगती थी. रिम्पी भी मजे में टोनी के लंड से चुदते हुए सिसकारने लगी- आह्ह जीजू … ओह्ह … आआ … मजा आ रहा है.

उन्होंने ही यह कहानी मुझे बताई थी और उन्हीं की अनुमति से इसको मैं आप लोगों के सामने प्रस्तुत कर रहा हूं. फिर उसने अपना नाम आएशा बताया और मेरे अच्छे खेल के लिए मुझे मुबारकबाद दी. उसने तुरंत फुर्ती दिखाते हुए भूखी शेरनी की तरह मेरे होंठों को अपने होंठों में दबा लिया और चूसने लगी.

इसके बाद मैंने उसे कुतिया बनाया और उसकी चूत में पीछे से अपने लंड को धीरे से सरका दिया. अब नीचे वाले ने मेरी चूत से लंड को निकाला और फिर मेरे मुंह में लंड को देकर चुसवाने लगा. घबरा कर मैं परेशान सा हो गया कि आखिर ऐसी क्या बात है जो डॉक्टर मुझे अकेले में बताना चाहती है.

तो मैंने क्या किया? मैं उससे कैसे चुदी?हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम सविता है. एकदम अच्छी पोजीशन में चुदाई चल रही थी … पीछे सोनू मां की चूत को मार रहा था, बीच में मां के झूलते चूचे और अंत में उसके मुंह में अभिनव का बड़ा सा लंड देख कर मेरा मन तो एकदम तरोताजा हो गया था.

अब मत तड़पाओ जल्दी से मेरी प्यासी चूत को चोद डालो … कचूमर बना दो इस निगौड़ी सी चुदक्कड़ चूत का.

राजश्री अभी चुदाई के लिए तैयार नहीं थी लेकिन फिर भी वो वॉचमैन का साथ देने की कोशिश कर रही थी. एक्स एक्स एचडी सेक्सी फिल्मवो एक हाथ से मेरी कमर पकड़ कर मुझे किस करते हुई अपनी ओर खींच रहा था और दूसरे हाथ से मेरी गांड मसलने में लगा था. इंग्लैंड एचडी सेक्सी वीडियोमैंने अनमोल को कॉल करके बोल दिया कि तुम केक लेकर मेरे घर पहुंचो, मैं आता हूँ. वो बोली- देखो पैरी, आज मेरा बर्थडे था लेकिन आज सुबह से रात हो गयी है.

उसी दिन मालती ने मुझे रात को फ़ोन किया और हमारी सामान्य बातें होनी आरम्भ हो गईं.

ये सुनकर राहुल का मन बैठ गया, क्योंकि वो मेरी बहन को और चोदना चाहता था. वहाँ जाकर देखा तो पति नंगे सो रहे थे और उनके पास टिश्यू पेपर पड़े थे. मैंने देखा कि वो लड़का बहाने से बार बार अपनी कमर को आगे करता और मेरी गांड को टच कर देता.

ये देख कर बड़ी बोली- क्यों मन छोटा करते हो? हम लोगों की चूत सभी प्रकार के लंड लेने के लिए बनी हैं … क्या छोटा, क्या बड़ा … बस मस्त चुदाई करने वाला होना चाहिए. मैं आराम से धक्के लगाते हुए उसके बदन को किस कर रहा था और उसके मम्मों को दबा रहा था. उसके बाद उन लोगों ने मेरी बहन को घेर लिया और मेरी बहन अब उन सबका लंड चूस रही थी.

सरधा कपूर की सेक्सी

अब हम दोनों बेडरूम में आ गए और मैंने उसको पलंग के किनारे पर लेटा कर उसकी थोंग को उतार दिया. बहुत देर तक उसके होंठों को पीने के बाद मैं नीचे की तरफ आया और उसके लोवर को पकड़ कर नीचे करने की कोशिश करने लगा, लेकिन उसने मेरे हाथ पकड़ लिए. उसके गुलाबी होंठ के हल्के से उतरे हुए लिपस्टिक मुझे मंत्रमुग्ध कर रहे थे.

मुझे लगता था कि मेरी मॉम पापा के न रहने से संतुष्ट नहीं हो पाती हैं, इसीलिए वो इतनी कामुक दिखती हैं, ताकि अपने लिए वो लंड तलाश सकें.

मेरी मॉम ने मुझे हमेशा ही खुली छूट दी थी, जिससे मेरा बचपन भी बड़ा मस्त गुजरा था.

कुछ ही देर के बाद रानी की लार मेरे मुंह में आ रही थी और मेरी लार रानी के मुंह में जा रही थी. इसी शर्त के चलते पति ने मुझे मेरी बड़ी बहन को चोदने की इच्छा जाहिर की. सेक्सी नंगे सेक्समगर आज मेरे पति ने ही मुझे ये टास्क दिया कि मैं उनका लंड अपनी चूत मैं ले लूं.

उसके बाद मेरी सेक्सी बीवी अपनी नाइटी को ऊपर उठाती और अपनी गांड के ऊपर तक खींचती तो मेरी बीवी की नीले रंग की पैंटी दिखती जो उसे और आकर्षक बनाती. कुछ ही देर में दूसरी टीम के साथ उनकी वो मदमस्त मैनेजर भी आ चुकी थी. राहुल बोला- क्या करना है, केक काटना है?तभो उधर से बाथरूम से मेरी बहन ब्रा पैंटी में निकली, राहुल हक्का बक्का रह गया.

मैंने अन्तर्वासना की लगभग सभी कहानियां पढ़ी हैं, खासकर रिश्तों में चुदाई की सेक्स कहानी पढ़ना मुझे बहुत पसंद आती हैं. हां, यह पर यह बात जरूर जोड़ना चाहूंगा कि इंसान कितना भी रोमांटिक मिजाज वाला क्यों न हो, किंतु सामाजिक मान-मर्यादाओं का ध्यान रखते हुए उसे लाज-शर्म का लिहाज भी करना पड़ता है.

एक दिन मैं स्कूल से वापस आया, तो दूसरे दिन रविवार होने की वजह से मैं खाली था.

वहां पर बहुत से खेल होते रहते हैं और वहां पर स्विमिंग भी सिखाई जाती है. अगर तू चुपचाप अपनी चूचियों और चूत को मेरे हवाले करती रहे तो मैं तुझे कुछ नहीं कहूंगा. लंड अन्दर तक पेलने के बाद मैं फिर से रुक गया और उसकी चूचियों को चूसने लगा.

सेक्सी वीडियो चोदते हुए दिखाएं फिर गाड़ी खड़ी करके मेरे पास आई और थोड़े से गुस्से में बोली- आदित्य जी, आपका फोन कल पूरे दिन बंद रहा. तभी उसका बेटा आ गया और हमारी एक दूसरे को खुश करने की ये कोशिश अधूरी रह गयी.

आधे घंटे का विराम देकर मैंने फिर से उसकी चूचियों को छेड़ना शुरू कर दिया. मैं अब ज़ोर ज़ोर से उसे चोद रहा था और वो भी गांड उछाल उछाल कर चुदवा रही थी. मेरा छोटी को थोड़ा और सताने का मन किया, तो मैं एक पैर उठा कर नीचे से चूमते हुए आगे बढ़ने लगा.

हिंदी की आवाज में सेक्सी वीडियो

कभी मेरी गांड को सहला देते थे तो कभी मेरे बूब्स को टच करने की कोशिश किया करते थे. उसके बाद टोनी ने आगे बताते हुए कहा:मैंने रानी की चूत में वीर्य छोड़ दिया था. रात 11 बजे के करीब भाभी ने मुझसे पूछा- किससे बातें कर रहे हो?मैंने भाभी को बोल दिया- एक दोस्त के साथ बातें कर रहा हूं.

लड़का बोला- तू कल क्यों नहीं आई?राजश्री ने कहा- मेरे पास कल आने के लिए कुछ बहाना नहीं था. मैंने करीब पहुंच कर अंदर झांका तो मैं वो नजारा देख कर हैरान रह गयी.

कई बार बैंक में कम्प्यूटर के सामने बैठ कर सोचता रहता हूं कि मैं एक पिता हूं, एक नहीं बल्कि बहुत सारे बच्चों का, जिनको न तो मैं जानता हूं और न ही कभी शायद जान पाऊंगा.

लेकिन इस बार हम दोनों एक साथ ही बैठे और मैं उससे एकदम से सट कर बैठ गया. पूजा भाभी से मेरी नार्मल बातें होती थीं, उनके हस्बैंड कोई सीमेंट फैक्ट्री में काम करते हैं. तो कमेंट्स करके अपना प्यार दें और मुझे नीचे दी गयी मेल आईडी पर मैसेज करें.

उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं था और छह लंड खाने के बाद भी अंजलि की चूत एकदम गुलाबी थी. जिससे उनकी चूत से पानी निकलना और तेज हो गया, जिसे मैं चाट चाट कर पीने लगा. थोड़ी देर बाद में मैंने देखा कि वो अकड़ने लगी और मेरे ऊपर ही गिर पड़ी.

मगर मेरे साथ एक दिक्कत ये थी कि मेरे लंड में गुदगुदी होकर माल निकलने को हो जाता था और फिर से रह जाता था.

बीएफ से क्स: फिर वो दिन भी आ गया जिस दिन मुझे पहली बार कलेक्शन सैंपल देने के लिए जाना था. पहले तो वो घबरा रही थी, मगर जब मैंने उसे भरोसा दिलाया कि किसी तरह की कोई समस्या नहीं होगी.

उसने राजश्री के होंठों को चूसना शुरू कर दिया और राजश्री भी उसका साथ देने लगी. कुछ देर बाद ब्रून ने अपनी वाइफ से कहा- इसको कमरे में ले जाओ और इनके कपड़े चेंज करवा दो. मैं भी अब मोअन कर रही थी और ‘जोर से पापाजी … तेज तेज धक्के मारो पापाजी!’मेरी बातों से और ज्यादा तेज से धक्के लगाने लगे और थोड़ी देर में मेरी चूत ने ढेर सारा पानी निकाल दिया.

मैंने कहा- क्या हुआ?वो बोली- बीती रात में ही तो तुमने मेरी चूत को चोदा है.

छोटी मेरे चूतड़ों पर से हाथ हटा कर कमर के बगल में ले आयी और कमर को रफ्तार पकड़ा रही थी. तीसरे दिन भाभी ने कहा- माँ की तबियत ठीक नहीं है, वो रात को बार बार उठती हैं. मैंने कहा- पापाजी, ख़बरदार ऐसे बातें की तो! अभी तो आपने अपने पोतों के साथ खेलना है, उन्हें बड़े होते हुए देखना है.