बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,क्सक्सक्स इंडियन वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

मल्लू भाभी की सेक्सी: बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ, वाह क्या मस्त बुर लग रही थी, वो अपनी चुत को एकदम क्लीन शेव करके आई थी.

सेकसी बलू

कुछ दिन बाद मेरा काम भी वहां से खत्म हो गया तो मैं वहां से वापिस घर आ गया. सेक्सी मूवी भाभी कीक्षिति ने मुझसे फोन पर एक दो बार कहा था कि बहुत जल्दी मैं आपको एक सरप्राइज दूँगी.

खैर … मैं ये सब सोचता भी क्यों, मेरे लिए मेरी सारी दुनिया उस दिन उस 3 इंच की योनि में ही थी और मैंने लंड को अन्दर की तरफ धकेल दिया. नंगा ब्लू फिल्मउसने भी तुरंत बिना देर किए हां बोल दिया।उस दिन हम लोग पूरी रात चैट कर रहे थे।रात को फ़ोन पर बात नहीं कर सकते थे क्योंकि भूमि घर वालों के साथ सोती थी।प्रपोज करने के बाद हम रोज देर रात तक बातें करते थे.

मैंने सोचा, जब साथ सोना ही है, तो क्यों न इस अवसर का मज़ा लिया जाए.बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ: उसने यही किया, वह जल्दी से मेरे लंड के ऊपर बैठ गई और एक ही बार में मेरा पूरा लंड अपनी चूत में भर लिया.

इस बीच वो दोनों न जाने कितनी बार झड़ चुके थे पर दोनों को मजा बहुत आ रहा था.मामी मेरी चुत का अहसास पाते ही रुक गईं और उन्होंने अपनी चुत मेरी जीभ पर सैट कर दी.

కాలేజ్ అమ్మాయిల సెక్స్ - बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ

मैं अब अपने इस दोस्त से कुछ ज्यादा मिलने लगा और इसके लिए उसके घर बार बार जाने लगा.मुझे लगा कहीं अमन ना जाग जाए इसलिए मैं गगन को यूं ही अपनी गोद में उठाकर बाथरूम में ले गया और लंड को बाहर निकाल दिया.

इस पर हानिया हंसने लगी और बोली- जानू, ऐसे नहीं करते!फिर हानिया ने मेरा लंड पकड़कर अपनी चूत के छेद में सेट किया और मुझसे बोली- अब धक्का मारो!तो मैंने जैसे ही धक्का मारा, मेरा पूरा लंड 1 झटके में उसकी चूत में उतर गया. बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ लेकिन जसवंत हंसता हुआ अपने काम में लगा रहा, उसने आपा की पजामी का नाड़ा खोल दिया और नीचे बैठकर पजामी उनके जिस्म से अलग कर दी.

उसने मेरी कमर के नीचे तकिया रख दिया जिससे मेरी चुत खुल कर उसके सामने आ गई.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ?

मैंने उस समय उससे कहा- कोई बात नहीं … मैं वेटिंग लिस्ट में हो जाता हूँ. वो बोली- भाई अब रहा नहीं जाता, आप अपना लौड़ा अपनी इस 23 साल से प्यासी आपा की चूत में डाल दो प्लीज. मैंने हाथ के इशारे से उसे हटने के लिए कहा, तो वो मुझे आंखों के इशारे से कुछ देर दर्द सहन करने की कहने लगा.

उसने लंड हिला कर कहा- चल रंडी, मुँह में लेकर चूस!मैं उसका लंड चूसने लगी. मैं मना करे जा रहा था मगर उसने मेरी एक न सुनी और लंड को बाहर निकाल कर देखने लगी. भाभी बोलीं- क्यों तड़पा रहे हो आदि … जल्दी से डाल दो इसे … और दे दो मुझे शांति … बहुत तड़प रही हूँ मैं तुम्हारे बड़े लंड के लिए!मैंने भी देर न करते हुए एक ही बार में पूरा लंड उनकी चूत में डाल दिया.

मैं मॉम को किचन में कितने ही बार खाना बनाते समय अपनी चुचियों को मसलते और पैंटी में हाथ डालते देख चुका था इसलिए मेरे अन्दर से पूरा डर निकल गया. बुआ अपनी गांड आगे पीछे करके मज़े से चुदवा रही थीं और मैं तेज़ तेज़ अन्दर बाहर करने लगा था. मैंने नसरीन आपा की तरफ देखा और बोला- आपा, आप मेरे साथ सेक्स करोगी?तो उन्होंने कहा- हाँ कोई परेशानी है क्या तुम्हें?मैंने कहा- मगर आप तो मेरी आपा हो?तो वो बोली- सलीम सुनो, अब मैं तुमसे सीधे सीधे बात करती हूँ.

किसी बिज़नसमैन ने मुझे बुक किया था एक रात के लिए!क्यूँकि अब सलीम ही मेरी बुकिंग करता था मतलब दुनिया के लिए सलीम मेरा दलाल था. मैं जिस एरिया से बिलोंग करता था, वहाँ लड़के अगर लड़कियों से बात करे, हाथ मिलाये मतलब उन दोनों के बीच कोई न कोई चक्कर है.

फिर मैंने पूछा- तुम्हारी चूत इतनी चौड़ी किसने की? पापा ने या विशाल ने?इस बार भी मम्मी ने विशाल की ही तारीफ की.

अब धीरे धीरे से भैया ने अपने लिंग को अन्दर बाहर करना प्रारम्भ कर दिया.

मतलब लड़का लड़की का मूत पी रहा था और लड़की लड़के का!ये सब देखकर मैंने सलीम की तरफ देखा और उसको बोला- यार ऐसा गन्दा सेक्स कोई कैसे कर सकता है?तो सलीम ने कहा- ऐसे बहुत लोग हैं जो ऐसा सेक्स करते हैं. फिर मैंने कहा- यार आपा चुतिया हो क्या? इतनी जोर से चीख रही हो, अम्मी ने सुन लिया तो दोनों की माँ चोद देंगी. उसने दूसरा मकान देख भी लिया था और जब तक वो पूरा मकान खाली करता, उससे पहले ही कुछ ऐसा हो गया, जो इस सेक्स कहानी के लिए आधार बन गया.

तो उनकी संगत में मैं भी धीरे धीरे बिगड़ रहा था; अब मैं पढ़ाई से ज्यादा आवारा गर्दी में समय बिताता था. अंकित ने छूटते ही चूत के मुँह में लंड का टोपा फंसा दिया और कूल्हों को हवा में तान कर चोदने लगा. उसने हंस कर कहा- हट पागल … ऐसा क्या देख लिया मुझमें?वो भाभी फिर से सेक्सी स्माइल देकर जलावन की लकड़ी बटोरने लगी.

आकाश ने कहा- हां मुझे मालूम है मगर मैं तो सिर्फ मजाक में पूछ रहा था कि क्या तुम ऐसे लम्बे और मोटे लंड से चुदाना चाहोगी.

पापा से, चाचा से, मजदूर अंकल से, मेरे दोस्त से …कहानी के पिछले भागपड़ोस की दादी की चूत मारीमें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं अपनी चुदासी मम्मी की खोज में निकला था और वो खेत पर मुझे मिल गईं. तब भी बड़ी होने पर भी वो लगभग 32 साइज से थोड़ी ही बड़ी और 34 से कम की ही रहीं. ससुर जी अपने झटकों से मेरे वासना को शांत करने में लगे थे लेकिन आज मुझ पर एक अजीब ही नशा चढ़ा था कि मैं शांत ही नहीं हो पा रही थी.

धीरे धीरे हर कागज़ पत्र को ध्यान से पढ़ती और अगर कोई दिक्कत आती तो फोन पर अपने पति से पूछ लेती थी।अक्सर मेरे पति भी आ जाते और मेरी काम में बहुत मदद करते!उनके एक दोस्त भी थे जो बिज़नस में मेरे पति के भी पार्टनर थे और मेरे इस नए बिज़नस में मेरे भी पार्टनर थे. साले मैं पेशाब कर दूंगी तुम्हारे लंड पर … मेरी पेशाब भी बहुत गर्म है भोसड़ी के. लंड झाड़ने के बाद जब मुझे होश आया तो मैं डर गया कि इसकी पजामी में तो सुबह तक दाग बन जाएगा.

फिर मैंने उस लड़की को पीछे से आवाज लगाई- एक्सक्यूज मी!वो एकदम से रुक गई और बोली- हां जी कहिए!मैंने उसकी हाथ बढ़ा कर कहा- हाय मैं विकास.

मैं खुश हो गया कि चलो मेरे लंड के लिए भाभी को चिंता है और वो मेरे लिए एक छेद की व्यवस्था करके जा रही हैं. मेरा लंड 7 इंच का है, जो किसी भी लड़की को आराम से संतुष्ट कर सकता है.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ सिस्टर एंड ब्रदर सेक्स कहानी मेरी मम्मी और मामा के बीच हुए सेक्स की है. उन्होंने मुझे अलग ले जाकर कहा- आज रात तुमको इस आदमी के साथ सोना है.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ मैंने उसकी गांड के ऊपर खूब मसला, चूत पर भी खूब उंगलियां रगड़ीं, पर वो टस से मस नहीं हुई. एक दिन आकाश ने मुझे चोदते समय बोला- क्या तुम बड़े लंड से चुदाई करना चाहती हो.

नमस्कार दोस्तो, मेरी कहानी के पिछले भागबीवी की मौसी को जम कर चोदामें आपने पढ़ा था कि कैसे मैंने अपनी मौसी सास को रात में ठोक दिया था.

செக்ஸ்ய் வீடியோ போட்டோ

पिछले भागभैया भाभी की पहली रात की तैयारीमें अब तक आपने पढ़ा था कि भैया भाभी की सुहागरात से पहले महिला संगीत का आयोजन किया गया था. मेरी बीवी ने नाइटी के साथ साथ नशे में ब्रा को भी उतार दिया और नाचने लगी. बाद में जब मैं आया तो देखा कि मेरे छोटे भाई मेरी बिछाई पुआल पर सोया हुआ है.

मैंने कहा- बदन दुख रहा है … फिर चूत की तरफ इशारा करके कहा- यहां बहुत दुख रहा है. कुछ ही देर बाद हम दोनों फिर से किस करने लगे और फिर 69 की पोजीशन में आकर लंड और बुर की चुसाई कर रहे थे. और जैसे ही हम बाहर आये हमने देखा कि पंकज जो मेरा दोस्त था, वो कमरे में था.

फिर उसने आपा से मुंह खोलने के लिए कहा तो आपा ने नहीं खोला तो उसने अपने हाथों से आपा का मुंह खोल दिया और अपना लंड आपा के मुंह में डाल दिया.

उसको शांत करने के लिए मैंने उसे बेड से नीचे उतारा और उसके कमर को पकड़ कर बेड के किनारे ले आया. फट …’इसी के साथ मॉम की मादक सिसकारियां भी आ रही थीं ‘उहह … आआह … उई मां … चोद भी दे …’साथ ही साथ मॉम गालियां भी दे रही थीं- बहनचोद … आंह बहन के लौड़े साले चोद मादरचोद … आज मेरी चूत की बच्चेदानी को भी फाड़ दे मादरचोद आंह और जोर से पेल भोसड़ी के … आंह और जोर से …’उधर मामा अपनी पूरी ताकत लगा कर मेरी मां चोद रहे थे. जब वो आई तो मैं तो उसे पहचान ही नहीं पाया क्योंकि वो भी काफी बड़ी और भरपूर जवान हो गई थी.

मैंने उसके सिरहाने जाकर अपना लंड उसके मुँह में लगा दिया और चूत पर अपना मुँह लगा दिया. लांचा कुछ ज्यादा ही खुला हुआ था और रोशनी सीधे उसकी चूत पर पड़ रही थी, तो उसकी चिकनी चूत साफ़ दिखाई दे रही थी. टोपा घुसते ही आपा आगे को हो गयी और उनके मुंह से जोर की चीख निकली- आईई ईईईई ईईईईई बहनचोद फाड़ दी मेरी गांड … बहन के लोड़े आआह ह्हह निकाल इसे मेरी गांड से चूतिये … आआह ह्हह मर गयी अम्मी!तो मैंने कहा- आपा मेरी जान, अभी तो सिर्फ टोपा ही गया है, लंड तो बाहर है.

मैं बल्लू के सामने घुटनों के बल बैठ गयी और उसके पैन्ट की जिप खोल कर उसका लंड बाहर निकाल लिया. तभी अम्मी ने अपने दोनों पैर पीछे किए और वो अब्बू के ऊपर चढ़ गईं, जिससे अम्मी की गांड छत की तरफ हो गयी.

तभी बल्लू ने मेरे बाल पकड़कर मेरी चूत में जोर जोर से झटके देने शुरू कर दिए. मैंने प्रकाश को टब में धकेल दिया और अपने साढ़े सात इंच के मूसल लंड को थाम कर उसकी गांड के छेद पर रगड़ने लगी. वहां से मैं निकल गया लेकिन उस टाइम से मेरे दिमाग़ में उसका फिगर घूमता रहा.

पहले भागमोहल्ले की हॉट भाबी ने अपनी नंगी फोटो दिखायीमें अब तक आपने पढ़ा था कि भाबी मेरे मोबाइल में गर्म फोटोज देख कर उत्तेजित होने लगी थीं.

तुमने साबित किया कि एक असली मर्द अपनी वाइफ का प्यार पाने के लिए कुछ भी कर सकता है. हम दोनों ऐसे मस्ती कर रहे थे जैसे दो प्रेमी समुद्र में गोते लगाते हुए महसूस कर रहे हों. मैंने उससे कहा- मेरी वाजिहा रंडी बेटी … आज तुझे भी चोद कर और तेरी चूत फ़ाड़ कर तुझे पेट से कर देता हूं.

मैंने रूम पर आने के बाद रेशमा की तरफ देखा तो उसने एक मादक अंगड़ाई ली और मेरी तरफ देख कर अपनी आंख दबा दी. फिर हम दोनों अपने अपने घर आ गए।उससे मिलने के बाद मुझे बहुत ही बेचैनी हुई उससे बात करने की लेकिन हिम्मत नहीं हो पा रही थी।लगता है कि जो मुझे फील हो रहा था उसे भी कुछ ऐसा ही एहसास हो रहा था।तब रात को 10 बजे रेशमा का कॉल आया।हमने बात करना शुरू किया.

दो तीन बार ही मैंने धीरे-धीरे ऐसा किया था कि दीपक के मुँह से निकला- आंह धारा थोड़ा धीरे से कर मेरी जान … आह. मैं भाभी की चूत से निकलने वाले सफेद पानी को बार बार जीभ से चाटकर ऐसे पीने लगा मानो अमृत पी रहा हूँ. अगले कुछ दिनों के बाद एक दिन भाबी ऑनलाइन नहीं आईं तो पता चला कि भैया की शिफ्ट हर हफ्ते बदलती है.

सेक्सी मूव्ही सारखे चित्रपट

मैं अब किराए के मकान में अपनी अम्मी के साथ रह कर धोबन का काम करती हूं.

मेम- क्या ठीक नहीं लग रहा है?मैं- क्या आपको मेरे साथ एक ही रूम में रुकने में अजीब सा नहीं लगेगा?ये सुनकर मेम सोच में पड़ गईं. लगभग 15 मिनट आपा को खड़ी करके चोदने के बाद जसवंत ने आपा को बिस्तर पर लेटा दिया और मुझे बोला- अब तू जाकर साइड में बैठ जा. मैं अपने रूम के बाथरूम में होने की वजह से दरवाजा को बंद करने के बजाए सिर्फ़ भिड़ा कर नहाने लगी.

तो जसवंत ने थोड़ी देर नसरीन आपा की तरफ देखा और बोला- एक रास्ता है जिससे इस चूतिये को ज्यादा रूपए भी देने की जरूरत नहीं पड़ेगी. अब ससुर जी का लंड भी मेरे चुत से ढीला होकर निकल चुका था और वो अब मेरे शरीर से हट कर बिस्तर पर लेट गए थे. गांव की एक्स एक्स एक्स वीडियोवो इस बात से सहम गई और बोली- मामा आप जो कहेंगे मैं करूंगी … मगर आप प्लीज़ इस बात को किसी से मत कहना.

मुझे भी वो हॉट लगने लगा था और मेरा मन उसके साथ कुछ ज्यादा ही लगने लगा था. मैं कभी नहीं पीती थी पर इस बार मैंने लाइफ में पहली बार दो पैग लगाए.

तेरी ज़िन्दगी की पहली बार की जोर जोर से चुदाई करके, तेरी कुंवारी चूत को फाड़ फाड़ कर इसमें से खून निकाल दूंगा. वो मुस्कुरा कर बोली- एक तो तुम्हारे दोस्त और मेरे भाईजान का और एक मेरे रिश्तेदारी में है, उसको तुम नहीं जानते हो. तो आपा ने मुझे कहा- कुत्ते बहनचोद, तूने मेरी नाईटी क्यों फाड़ी? मैं खुद उतार तो रही थी ना?मैंने आपा के बाल पकड़कर किस करते हुए कहा- आज तुझे मेरी रांड बनाकर चोदूँगा साली.

ये कह कर मैं भाबी के मम्मों पर हाथ फेरने लगा और हल्का सा दबाने भी लगा. हमने यह पर एक दो बार मामलों में अगुआई भी की थीं जिससे यहां के लोग हमें और अच्छे से जानने लगे थे. उस दिन चिंता की वजह से मैंने खाना भी नहीं खाया तो मेरी बहन नसरीन मेरे पास खाना लेकर आई और मुझसे पूछा- भाई क्या हुआ है? तू खाना क्यों नहीं खा रहा है?मैंने उसको कुछ नहीं बताया और उसको कहा- आपा, आप अभी जाओ, मुझे अभी सोना है.

सास ने पूछा- क्या हुआ?वो संभलते हुए बोली- कुछ नहीं कुर्सी हिल गयी थी.

उसके अमृत कलश मानो सभी मर्दों को निमंत्रण दे रहे थे कि हे जन्म-जन्मान्तर के प्यासे पथिक आओ और आकर अपनी प्यास बुझा लो. इस बात पर आपा हंसने लगी और उन्होंने अपना हाथ अपने चेहरे से हटा लिया और वे मूतने लगी.

तो रेशमा ने मुझसे कहा- राहुल क्या तुम मेरी माँ को गांव ले जा सकते हो?मैंने उससे कहा- क्यों नहीं जानेमन … आपके लिए मैं कुछ भी कर सकता हूँ।फिर मैं आँटी को पिकअप करने सुबह पहुंचा।मैंने बेल बजाई और उन्होंने दरवाजा खोला दरवाजा खोला. रंजन मेरे होंठ, गर्दन प्यार से चूमने लगा, फिर मेरे स्तनों को ब्लाउज के ऊपर से हल्के से दबाने लगा. वो बोली- यार, मैंने भी उन दोनों को बहुत बार चुदाई करते हुए देखा है.

फिर मैंने उसकी चूत और गांड कैसे मारी?हैलो फ्रेंड्स, मैं बादशाह एक बार फिर से आपके सामने अपनी मस्त छमिया कीर्ति की चुत चुदाई की कहानी लिख रहा था. अनिकेत मुझे बिस्तर पर पटक कर मेरी गांड को उचका कर मेरी चूत में झटके दिए जा रहा था. पहले झटके में ही अब्बू का लंबा लंड अम्मी को चूत को चीरता हुए पूरा अन्दर घुस गया.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ संगीता मैम मेरे कंधों को पकड़ कर मेरी गोद में लटक कर चुदवा रही थीं, वो मेरे कंधों पर जोर देते हुए मेरे लौड़े पर उछलने की कोशिश करने लगीं. मैं भी हंसने लगा और बोला- भाभी जी बहुत परेशान करूंगा आपको, आप हैं ही इतनी सुन्दर … अच्छा थोड़ी देर में आप धर्मशाला जाने के लिए तैयार हो जाओ.

பாவனா செஸ் வீடியோ

सनोबर और फरहीन, वाजिहा की चूचियों को चूसने लगीं, जिससे उसका दर्द मजे में बदलने लगा. फिर एक दिन उस लड़की की मम्मी ने हमें आकर बोला- भैया अब से हम रात को थोड़ा लेट आएंगे तो आप हमारा दूध ले लेना. बच्चे थे घर में!हाशना- कोई नहीं, आज मैं इसे अपने साथ ले जा रही हूँ.

पर जब मैं वापिस आया तो मेरी इच्छा हुयी कि मैं कमरे में फिर से देख लूं. मैंने पूछा- बड़ी जल्दी में हो गया? अपने पास बहुत समय है, जरा मजा ले लेकर करते हैं न!इस पर उसने बोला- वो सब बाद में … पहले तुम एक बार मुझे चोद दो … बाद में जो चाहे कर लेना. हिंदी सेक्सी ब्लू पिक्चर दिखाएंमैंने उसकी दोनों टांगों को अपने दोनों कंधों पर रख लीं और उसको इस पोजिशन में चोदना शुरू कर दिया.

जसवंत के हर धक्के पर आपा की अलग ही आवाज निकल रही थी जिन्हें सुनकर मेरा लंड काबू से बाहर हो रहा था.

मैंने उससे कहा- तुम परेशान मत हो, मैं आज तुम्हारी सारी इच्छा पूरी कर दूँगा मेरी जान, तभी तो ये सेज तुम्हारे लिए सजाई है. मैंने उसकी सलवार का नाड़ा खोल दिया और उसकी चूत में उंगली अन्दर बाहर करने लगा.

अब मैं बोला- हम्म … फिर तो तुम्हें ये भी पता ही कि मैं तुम्हारी कच्छी को रगड़ कर मुठ मार रहा था. इस पर शायद उसका दिल पसीज गया और वह बोला- चल ज्यादा रंडी रोना मत कर और चुपचाप मेरा लंड चूस!यह सुनकर मैं खुश था कि चलो बड़ी मुसीबत से बच गया. इधर ठाकुर साहब के लंड ने ज्यादा ज़ोर मारा और उनकी पत्नी जो गर्भ से थी, ने भी सेक्स करना बंद कर दिया.

मैं करना चाहता हूं, तो ये जोश नहीं दिखाती … और ये करना चाहे, तो मैं इसे खुश नहीं कर पाता.

मालिक ने मुझे कंपनी के ग्राहकों के साथ व्यापारिक कांट्रॅक्ट के कागज पत्रों के बारे में समझाया. तो आपा ने मुझे किस करना शुरू कर दिया और मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए. कागज पढ़कर नसरीन आपा सर पकड़कर बैठ गयी और गुस्से से मेरी तरफ देखने लगी.

सेक्सी कहानी चुदाई कीऐसे ही दस मिनट किस करने के बाद मोबाइल की टॉर्च का सहारा लेते हुए मैंने भाभी को गोद में उठाया और दूसरे वाले कमरे में ले जाकर बेड पर लेटा दिया. बुआ को दर्द हुआ तो वो बोलीं- उई साले बहनचोद … आराम से नहीं दबाया जा रहा क्या?मैं जोर से हंसने लगा.

सेक्सी डॉग वाली

फिर वो बोलीं- क्या तुम अभी मेरे घर आ सकते हो … मेरे कमरे का पंखा नहीं चल रहा है, शायद खराब हो गया है. फिर तूने खीरा अपनी गांड में लिया तो है!वो मान गई और कुछ देर बाद बोली- मैं तेल लाती हूँ. वहां से मुझे लेने गाड़ी आयी और मैं उनके घर के अतिथिकक्ष में पहुंच गया.

वैसे तो वो हॉस्टल में रहने वाली है, फिर भी जब तक उसका एडमिशन नहीं होता, तब तक वो इधर ही रहेगी. अब कभी संगीता मैम मेरे होंठों को चूमतीं, तो कभी मैं उनके होंठों को चूसता. मेरा हाल बहुत बुरा होता जा रहा था और समझ में नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूं और उससे कैसे कहां मिलूं.

मेरी बातचीत से वह काफी खुश थी और मैंने भी उससे पूरी शिष्टाचार से बात की थी. मैंने बोला- सच बताओ?वो बोली- सेक्स तो नहीं किया पर एक बार चुत चटवाई है. इसलिए हमने अपना एक अलग घर बसाया, जिसमें हम दोनों खुशी से अपना जीवन यापन करने लगे.

वो कुछ कहना चाह रही थीं, मगर मैंने अपने होंठ उनके होंठों पर रखे हुए थे. हम दोनों ने थोड़ी देर बात की होगी कि उन्होंने पूछा कि तुम तो अब बहुत अकेले पड़ जाते होगे ना? लॉकडाउन में अपनी गर्लफ्रेंड से मिल ही नहीं पाए होगे.

अब मैं इस भाग में आपको बताऊंगा कि कैसे मैं और स्वाति पास आए और हम दोनों ने जम कर मजे लिए.

कल को हो सकता है तुम खुद का अपना लाइसेन्स भी बनवा लो तो हमारी कंपनी को और भी फायदा होगा।मैंने कहा- अरे मंत्री से मैं मिल कर क्या करूंगी. सेक्सी ब्लू फिल्म्स एचडीउसकी गांड अब लंड लेने लायक हो गई थी तो मैंने अपने लंड के चमड़ी को नीचे किया और लाल सुपारे को बाहर निकाल कर अपने सुपारे पर ढेर सारा थूक लगा दिया. चोदने वाला चोदने वाला चोदने वालाकजरी सब साफ करके मेरे पास आयी और बोली- मालिक चले गए, पर आज मुझे मजा आपने ही दिया. कहानी के पिछले भागदिन में बहन को दूसरी बार चोदामें आपने पढ़ा कि अम्मी घर में नहीं थी तो मौक़ा पाकर मैंने अपनी सेक्सी आपा को दिन में ही चोद दिया.

तो जसवंत ने थोड़ी देर नसरीन आपा की तरफ देखा और बोला- एक रास्ता है जिससे इस चूतिये को ज्यादा रूपए भी देने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

फिर वो गिलास को रसोई में रखने गई, तो मुझसे रहा ना गया और मैंने उसको रसोई में जाकर पीछे से हग कर लिया. मैं उसी के मुँह में झड़ गया तो उसने एक भी बूँद भी खराब नहीं होने दी, पूरा वीर्य अपनी जीभ से चाट कर लंड को साफ कर दिया. फिर उसने मदमस्त निगाहों से मेरी तरफ देखते हुए अपनी सलवार का नाड़ा ढीला किया और नाड़ा छोड़ दिया.

मैं जाकर उनके बेड पर लेट गया और भाबी सिर्फ़ एक झीने से पिंक गाउन में बाहर आ गईं. लगभग 10 मिनट राहुल को लंड चूसने के बाद उसने मुझे अपने ऊपर से हटा दिया और मुझे घोड़ी बनने के लिए कहा. मैंने उसके गालों पर हाथ फेरा, तो वो मेरे जिस्म से चिपक गई और अपने मम्मों को मेरे सीने से रगड़ने लगी.

सेक्सी मुसलमान वाला

मैंने फरहीन को चुम्मी करते हुए उसके कपड़े उतार कर फेंक दिए और उसकी बड़ी बड़ी, गोरी, सेक्सी, हॉट चिकनी चूंचियों को मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने काटने लगा. मैंने उसके गालों पर हाथ फेरा, तो वो मेरे जिस्म से चिपक गई और अपने मम्मों को मेरे सीने से रगड़ने लगी. मैं अपने कपड़े पहन कर उठ गया और भाभी नंगी ही अपनी बेटी को दूध पिलाने लगीं.

मेरी मॉम उठ कर बैठ गईं और उन्होंने नीचे अपनी चूत में देखा कि चूत में मोटा लंबा सा बैगन घुसा हुआ है.

योगेश ने मेरी चुत में ही अपना लंड का पानी छोड़ दिया और बहुत देर तक मेरी चुत में लंड डाले पड़ा रहा.

मैं बोला- अच्छा तभी तुम रोयी थीं?सुनीता- हां और इसी वजह से मुझे बच्चा नहीं हो रहा है. आधा घंटा बाद मैंने भाभी से पूछा- कैसा लगा?भाभी मुस्कुरा कर बोलीं कि बहुत मज़ा आया … और बहुत अच्छा लगा. सनी लियोन का सेक्सी वीडियो बीपीफिर उसने बोला- आप अभी फ्री हो क्या?मैंने बोला- हां मैं एकदम फ्री हूँ.

मैं देख रहा था कि उसने अपने लंड पर क्रीम लगा कर उसे एकदम सफ़ेद कर लिया था. अंकित ने दांतों में पैंटी की स्ट्रिप को जकड़ा और नीचे की ओर तान कर निकालने लगा तो मीनू अपने आप गांड उठा कर उसकी मदद करने लगी. मॉम डॉगी स्टाइल में हो गईं और मैं उसी स्टाइल में पीछे से चोदने लगा.

उसकी टांगें हवा में ऊपर की तरफ हो चुकी थीं और मैं तेजी से झटके लगा रहा था. [emailprotected]हॉट वाइफ Xxx कहानी का अगला भाग:खूबसूरत जिस्म से मौजाँ ही मौजाँ- 3.

बबीता अय्यर के सामने पूरी नंगी बेड पर लेटी थी और अय्यर एक भूखे शेर की तरह उसे घूर रहा था.

मैंने अपने शौहर से इस बारे में बात की पर उन्होंने मुझे कोई जवाब नहीं दिया. मैंने उसके दोनों हाथों को जो उसके बूब्स को ढके हुए थे, उन्हें हटा दिया. इस पर ससुर जी ने हंस कर अपने एक हाथ से मेरे एक पैर को सहलाते हुए ऊपर किया और फिर से एक तेज झटका मार दिया.

दिखाओ ब्लू पिक्चर हाशना दिखने में ठीक-ठाक है, थोड़ा सा सांवली सी है और हल्की सी मोटी है. मेरी बीवी ने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया जबकि मेरी कामुक निगाहें क्षमा की तरफ ही थीं.

आपको मेरी हॉट सिस्टर फक स्टोरी कैसी लग रही है?आप सभी अपने विचार[emailprotected]पर मेल में भेज सकते हैं।सभी मुझसे फेसबुक पर Fehmina. तो मंत्री जी ने अपने हाथों से मेरी कमर, मेरी जांघों को सहलाया, चड्डी के ऊपर से ही मेरी चूत को भी थोड़ा सा रगड़ा।फिर अय्यर ने मेरी ब्रा का हुक खोला तो मंत्री जी ने मेरी ब्रा को मेरे जिस्म से अलग कर दिया. होंठों को चूसने के बाद मैं नीचे आ गया और उनके पेटीकोट को धीरे ऊपर करके मैंने आंटी की जाँघों के बीच में सूंघा.

गाने वाले सेक्सी

दोपहर को मुझे मेरे रूममेट के साथ उसके रिश्तेदार के पास जाना था तो मैंने बहाना बनाकर उसे मना कर दिया और वहीं रूम पर रुक गया. तभी संतोष ने कहा- साले चुपचाप गांड मरा गांडू … यही चाहिए था ना तुझे!मैं ये सुनकर थोड़ा शांत हुआ और सोचने लगा कि हां यही तो चाहिए था मुझे. वो मेरे इस हमले के लिए तैयार ना थी, जब तक क्षिति कुछ सोचती तब तक उसका सारी का पल्लू मेरे हाथों में था.

अब मेरी उत्तेजना और बढ़ने लगी, मैंने उसकी साड़ी को हल्के हल्के खींचना शुरू कर दिया. एक बार चार शराबी मवालियों से मैंने गांडू बन कर मजा किस तरह से लिया.

मैं अपनी बहन और मम्मी के साथ जैसे ही वहां पहुंचा तो हमारा गर्मजोशी से स्वागत हुआ.

अब मुझे ये तो यकीन हो गया कि ये बात ये किसी को बताएगी नहीं, पर मैं उससे कैसे बात करता; उससे तो मैं नजर तक नहीं मिला पा रहा था. उन्होंने दोनों हाथों से मेरे पांवों के पंजों को पकड़ दिया और पांव पर उरोज के बल लेटकर गांड मटकाने लगीं. उसने कहा- मैं समझ सकती हूँ कि इस उम्र में ये सब होना एक नॉर्मल बात है.

फिर उसके मुँह में अपनी जीभ डाल कर मैंने उसके मुँह से चॉकलेट निकाल कर उसके एक निप्पल पर चॉकलेट लगा दी. ससुर बहू चुदाई कहानी में पढ़ें कि एक बार ससुर के लंड का मजा लेने के बाद मुझे उनके लंड की लत लग गयी. मेरी आपा नसरीन हमेशा बुर्का पहनती थी चाहे वो घर में हो या घर से बाहर हो!मैंने आपा को कभी भी बेअदब के कपड़ों में नहीं देखा था.

तभी भाबी ने अपनी दोनों टांगों से मेरी कमर को जोर से कस दिया और ‘आई आई मां …’ करती करती नीचे से गांड उठा कर धक्के मारने लगी थीं.

बीएफ एक्स एक्स एक्स सेक्सी बीएफ: मुझे अपनी मां की बताई बात याद गई कि कविता भाभी का पति दारू पीकर उन्हें मारता है. रात को आपा मेरे कमरे में आ गई और हमने चूत चुदाई का एक राउंड फिर से किया.

फिर दूसरी चूत की प्यास में संगीता की चूत की यादें धुंधली होती चली गईं. ऋतु मेम ने मुझे हग करके मेरे होंठों पर किस किया और बोलीं- थैंक्यू अमन … आज तुमने जो मेरे लिए किया है, उसे मैं कभी नहीं भूलूंगी. अभी इतना ही … शेष फिर कभी!आपको मेरी सच्ची इंडियन देसी चूत की कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करें.

मैंने कहा- जी आपा … कहिये?तो वो बोली- देखो हम दोनों अभी जवान हैं लेकिन तुमने अपनी जरूरत पूरी करने के लिए गलत रास्ता अपनाया था.

दस मिनट तक उन दोनों ऐसे ही चुदाई की और मौसा जी अपना माल मौसी की चूत में निकाल दिया. मेरा शरीर अकड़ने लगा, आंखें बंद हो गई थीं और मेरा हाथ मेम के सर पर जमा हुआ था. उसने भी झट से अपना मुँह खोल दिया और मैंने लंड का सारा माल उसके मुँह में निकाल दिया.