इंडियन बीएफ चालू

छवि स्रोत,मराठी आंटी सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्स एक्स एक्स विद: इंडियन बीएफ चालू, अब मैं बस ऐसे मौके की तलाश में था, जब उन्हें अकेले में पकड़ कर चोद दूँ.

बिहार सेक्सी गर्ल

कुछ देर बाद मैंने मामी की गांड में लंड को निकाल लिया और मैं मामी की चूत फिर से चोदने लगा. xxx मराठी comमैं भी एकदम से सकपका गया था और मैंने उसकी तरफ से अपनी नजरें हटा लीं.

मैंने उसको रसोई में आटा चावल आदि सब सामान बताया और वो खाना बनाने में लग गई. ओपन ब्लू सेक्सअबकी बार तो वो मुझे लात मारने की कोशिश करने लगी लेकिन मैंने उसकी टांगों को पकड़ लिया और झटकों की स्पीड तेज कर दी.

उसने सिर्फ अपना ब्लाउज और पेटीकोट ही पहना था।रम्भा जैसे ही बाहर आई, मैंने तुरंत उसके तन पर अपना धावा बोल दिया और उसे स्टोर रूम के दीवार के सहारे लगाकर मैंने उसके तन को चाटना शुरू कर दिया.इंडियन बीएफ चालू: मैं भी तुनकते हुए बोली- यह क्या जीजू, कितना मजा आ रहा था लंड चूसने में.

मुझे उससे बात करने में थोड़ा अजीब सा लग रहा था इसलिए मैंने उससे ज्यादा बात नहीं की.जब मेरा लंड टनटना कर मूसल जैसा हो गया और मम्मी की चूत भी अच्छी तरह से गीली हो गई तो मैंने एक तकिया मम्मी के चूतड़ों के नीचे रखा और मम्मी की टांगों के बीच आ गया.

ফুল সেক্স ফুল সেক্স - इंडियन बीएफ चालू

मुझे बहुत शर्म सी आ रही थी तो आलिम साहब चिल्ला कर बोले- जिन्न भगाना है तो तुरंत वही करो जो मैं कहता हूँ.मैं समझ गया कि ये एक बार लंड रगड़वा कर भी नहीं हटी, इसका मतलब कुछ जम सकता है.

मैंने जमीन पर तकिया रखा, तकिये पर घुटनों के बल खड़ा होकर सोनी का बड़ा सा काला आधा खड़ा लंड प्यार से देखा. इंडियन बीएफ चालू वो चुदाई करके वापिस अपने कमरे में जा रहा था तो मैंने कहा- आज से तुम अपनी पत्नी के पास ही सोया करोगे.

जब मैं नई नई इस कॉलोनी में रहने आई थी तो वो सभी मुझ पर भी लाइन मारते थे.

इंडियन बीएफ चालू?

वो धक्के मारता तो मैं भी अपनी गांड आगे पीछे करके जंगल सेक्स के मजे ले रही थी. उसे समझाने के क्रम में सविता भाभी को पता चला कि आयुष को भारतीय लड़कियाँ पसंद नहीं क्योंकि देसी लडकियां सेक्स में विदेशी लड़कियों की तरह मजा नहीं देती।तो सविता ने अपने देवर का मन बदलने की ठान ली. कुछ पल बाद मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया और मेरा शरीर एक बार फिर से शिथिल हो गया।निखिल अभी भी पूरे जोर शोर से मेरी चूत चुदाई कर रहा था.

भैया ने करीब 20 मिनट मेरी धकापेल चुदाई की और हम दोनों एक साथ झड़ गए. आखिर में हार कर उन्होंने मुझसे कहा- देखो इधर से जाकर तुम एक महीने तक इन्तजार करना, अगर तब तक तुम्हारी मुहब्बत मेरे लिए जिन्दा रही तो इधर लौट आना. मैंने हंसते हुए माधुरी की चूत को थोड़ा चौड़ा किया और उसमें झटके से एक उंगली डाल दी.

गप्प ओं गों की आवाज़ के साथ साली की आंखें जो अभी तक बंद थीं, अपने प्यारे जीजू की इस हरक़त से खुल गईं. दीदी बोली- अगर आंटी कुछ बोलीं और उन्होंने अम्मी अब्बू को बताया, तो हम दोनों घर से भाग जाएंगे और शादी कर लेंगे. कमरे में आकर सोनी बोला- मैं बहुत जल्दी झड़ गया, मैं बहुत जोश में आ गया था.

करीब दस मिनट तक मैं चाची का मुँह चोदता रहा और उनके मुँह में ही झड़ गया. हमारे बीच बातें साफ़ होने लगी थीं और जवानी की तपिश हम दोनों को ही जलाने लगी थी.

अब उसकी नजर मेरे लुंगी पर बने तंबू पर पड़ी जिसे देखकर उसके चेहरे पर मुस्कान आ गई और वो चेहरा दूसरी तरफ करके मुस्कुराती हुई मालिश करने लगी.

मुझे भैया ने सीधा लेटा दिया और मेरे ऊपर लेटकर मेरे दोनों हाथों को अपने हाथों से फांस लिया.

मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी तो मैं अपना हथियार अपने हाथ से ही हिला कर खुद को संतुष्ट कर लिया करता था. अब दीदी ब्रा में खड़ी थी और उनकी ब्रा पिंक कलर की थी और दीदी के जिस्म के कलर से ऐसे मैच कर रही थी कि ऐसा लगता था मानो कुछ पहना ही ना हो. ढेर सारे डिब्बे थे, मैं उन्हें उठाकर उसे दे रहा था ताकि वह चीजों को निकाल कर व्यवस्थित कर सके.

जब तक सामने वाली पूरी सहमति से बराबर की साझेदारी न करे, उसमें वो पैशन न हो जो उसे मेरे साथ जंगली ना बनाए तब तक क्या मजा. फिर वो मेरी गोद में सर रख कर लेट गए और बोले- बेगम, अब हमको भी पान खिला दो. मेरे चेहरे पर एक जीत की ख़ुशी आ चुकी थी लेकिन मोहित ने जो मुझे गाली बकना शुरू किया, वो तो मुझे और भी ज्यादा जोश दिला रहा था.

तो हम भी तो देखें कि तुम लोगों को गांड मारने में ऐसा क्या मज़ा मिलता है.

मैं थोड़ा काम में बिजी होने के कारण उस वक़्त बाहर जाकर उसे देख नहीं पा रहा था मतलब उसको स्माइल दे नहीं पा रहा था और न ही उसकी खूबसूरती की तारीफ कर पा रहा था. उसने जो ब्लाउज पहना हुआ था वो गहरे गले का था, जिससे उसके सामने से उसके चूचों का आधा हिस्सा दिखाई दे जाता था. एक-दो बार जब हम पास थे, उसने अपने स्तन मेरी बांहों पर रगड़े और एक बार उसके बाएं हाथ की उंगलियों ने मेरे लंड को भी सहलाया.

मैंने उसकी आंखों में देखा, तो वो बोलने लगी- अब क्या देख रहे हो, ज्यादा टाइम मत लगाओ … जल्दी से चोद दो मुझे भैया!ये कह कर उसने अपनी टांगें खोल दीं. सारा कमरा मानो जन्नत बन चुका था, छोटे पलंग की जगह बड़ा सा डबलबेड, उसके बाजू में दूध, फल, पान, मेवे से सजे थाल, कमरे में चारों तरफ गुलाब मोगरे के फूलों की झालरें, और बीचों बीच रखी बिस्तर पर गुलाब के फूलों से बने हुए दो दिल जिनको एक ही तीर ने छेद रखा था. लेकिन कभी-कभी उसकी सफेद ब्रा की तनी बाहर झांक जाती थी, जिस वजह से मुझे ब्रा के रंग का पता चल गया था.

जलालुद्दीन साहब काफी देर तक मुझे पीछे से पेलते रहे और गोली के कारण उनका सामान अभी तक पहले जैसा ही तना हुआ था.

गरिमा ने कहा- फिर कैसे करें?मैंने कहा- तू इसको मेरे साथ सैट करवा दे, मैं इसको अपने साथ बिजी रखूँगा. मैंने कहा- सारी गर्मी निकल गयी क्या कुतिया … मादरचोद रंडी और ले लौड़ा खा साली.

इंडियन बीएफ चालू फिर मैंने भी झटके देना स्टार्ट कर दिया और उसको पूरे जोश में चोदने लगा।उसके मुँह से आह आह आह आह की आवाजें निकलने लगी. जहाँ आकर मम्मी ने मुझसे कहा की- किसी को बताना मत यह बात!इस घटना की बाद मैडम रोज़ मुझे पढ़ने हमारे घर पर आने लगी.

इंडियन बीएफ चालू मैं समझ गया था कि अंजलि आ गई।मैंने अपने रूम का दरवाजा खोला तो सामने एक 5. मैंने फ़ोन उठाया तो कॉल रिसेप्शन से था।उन्होंने मुझे बताया कि कोई अंजलि जी आप से मिलने आई हैं.

तभी डैड मुझसे बोले- बेटा अमित, लगता है तुम्हारी मॉम को काफी चढ़ गयी है.

बीएफ वीडियो देहाती साड़ी वाली

मैंने अपने मुंह से पहले तो पान की पीक उनके मुंह में गिरा दी फिर अपना चबाया हुआ पान भी उनके मुंह में थूक दिया. मैं समझ गया कि हॉट भाभी वांट सेक्स!परन्तु हम दोनों अलग अलग शहर से थे तो हमारा मिलना नहीं हो पा रहा था।आपको मैं बता देता हूँ कि अंजलि को मैंने अभी तक देखा नहीं था, सिर्फ हैंगआउट पर ही बात होती थी।मेरा एक दोस्त है जिसका नाम राजवीर है।उसका मुझे एक दिन कॉल आया, उसने बताया कि उसको कपंनी के काम से बाहर किसी हिलस्टेशन जाना है. मैं छोटी मामी के कमरे से उनकी ब्रा पैंटी का बैग उठा आया और अपनी मामी को डोरी वाली ब्रा पैंटी दिखाते हुए कहा- मुझे ये वाली पहनकर दिखाओ.

आंटी- मैं बहुत दूर से आई हूं, कुछ हो नहीं सकता क्या … प्लाज हेल्प मी! मैं बहुत परेशान हूं. इसके बाद मैंने उनसे कहा- सीमा, अब तुम घोड़ी बन जाओ, मुझे तुम्हारी गांड मारनी है. तापोश- मैं 4 दिनों के लिए टूर पर जा रहा हूँ, टूर से वापस आकर मैं 3 दिन तुम लोगों के साथ रहूँगा.

मैं अर्चना की याद में मुठ मारा करता था।मैंने बहुत बार कोशिश की अर्चना को पटाने की … पर असफल रहा।मैं उसे व्हाट्सएप्प पर गंदे मीम भी भेजा करता था.

थोड़ी देर में ही मेरे लंड ने अपना लावा उगल दिया, जिसे उन्होंने अपने रूमाल से साफ़ कर दिया. [emailprotected]मेरी पिछली कहानी थी:उत्तराखण्ड की कुंवारी चुत का मजा. मैं दीदी को चोद रहा था, तभी खिड़की से बाजू वाली आंटी ने हमें देख लिया.

भाभी मस्ती में आह उह उम्म्ह हाह ऊह … चोदो मुझे … चोदो मुझे प्लीज़ … फक़ मी अआह अह ह्म्म्ह! अमन प्लीज मुझे चोदो. मैं सीढ़ियों से ऊपर गया और दुकान के बाहर पहुंचा तो देखा कि अन्दर माधुरी कुर्सी पर बैठी मोबाइल में कुछ देख रही थी. उसके बाद मैंने सुहागचूड़ा हाथों में पहना और पैरों में पायल पहनकर नहाने के लिए बाथरूम में चली गई.

अब आगे देसी वर्जिन गर्ल चुदाई:यह कह कर जलालुद्दीन ने अपने कपड़े उतार दिए और पूरे नंगे हो गए. जब भी वो अपनी चाल चलने को नीचे झुकती, तो उसके टॉप से उसके गोल स्तन साफ दिखते थे, जो उसकी हलचल पर उसके साथ ही झूलते और हिलते थे.

समीर की बात सुनकर मैं मान गई और मेरा दूसरे दिन शाम को हिना के घर मिलना तय हो गया. फिर एक बार मेरे जिस्म ने चार-पांच तेज तेज झटके लिए, मेरी गुच्छी से फिर एक बार रस की फुहार निकली और मैं शांत हो गई. प्लीज मुझे कमेंट्स में जरूर बताएं।[emailprotected]भाभी वांट सेक्स का अगला भाग:.

मैं जल्दी से बाइक पार्क करके अन्दर चला गया और अपनी जगह पर जाकर काम करने लगा.

वो बोली- बेबी, बिना कंडोम से चोदो … मैंने बहुत दिनों से लंड नहीं लिया है. वो वासना से मेरी तरफ देख कर अपनी चूत सहलाती हुई बोली- अब तुम मेरी चूत चाटो. मॉम फ्रेंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी मम्मी की एक सहेली बारिश में भीगी हुई मेरे घर आयी.

या तो आज मेरा लंड ज्यादा टनटनाया हुआ था या चूतड़ों के नीचे तकिया रखने से मम्मी की चूत टाइट हो गई थी. अचानक मेरी चूत में हजार वाल्ट का झटका लगा और झटके खाते हुए मेरी चूत ने पानी की धार छोड दी.

फिर मेडिकल स्टोर जाकर 5 कंडोम के बड़े वाले पैकेट लिए और सेक्स की गोलियों की एक पूरी डिब्बी ले ली. मैंने नाटक शुरू किया ही था कि इतने में भाभी मेरे करीब सरक आई और मुझसे चिपक गई. तो मैंने वह रिक्वेस्ट उसी समय एक्सेप्ट कर ली क्योंकि फोटो में मुझे वह शादीशुदा औरत बहुत ही सेक्सी और सुंदर लग रही थी.

बीएफ सेक्सी इंग्लिश मराठी

आयशा के हाथ में मोमबत्ती देखकर जो लड़कों की गांड फटी है, कसम से आप लोगों को बता नहीं सकती.

उसके ब्लाउज़ में से 36 साइज के सफेद रंग के बूब्स ऐसे लग रहे थे कि जैसे अभी ब्लाउज़ को फाड़ के बाहर आ जाएंगे. उसकी स्कूल की पढ़ाई पूरी हो चुकी थी और वो पत्राचार से कॉलेज कर रही थी. कुछ दिन बाद मैंने मामी के अंडरगार्मेंट्स वाली जगह को ढूंढ लिया और मामी की सारी पैंटी और ब्रा को एक साथ निकाल कर अपने लंड से लगा लिया.

मैंने उसके एक दूध को ब्लाउज के ऊपर से ही दूसरे हाथ से सहलाना शुरू कर दिया. उसने मेरी टांगें हवा में उठा दीं और मेरी गांड के छेद पर अपना लंड टिका दिया. इंग्लिश चुदाई सेक्सवो बिन पानी की मछली जैसे छटपटाने लगी और उसकी आंखों से आंसू बहने लगे, उसके नाखून और मेरी पीठ में और अन्दर घुस गए.

करीब आधे घंटे तक मेरी चुदाई करते हुए हारून बोलने लगा- भाभी जी क्या आप मेरे बच्चे की मां बनोगी?मैंने हां में सिर हिला दिया और हारून ने मेरी पीठ पर झुकते हुए अपना सारा वीर्य निकाल मेरी गांड के अन्दर ही डाल दिया. शहर में तो औरतें बाहर भीदूसरे मर्दों से सम्बन्धबना लेती हैं, पर गांव में महिलाएं कहां पर जाएं.

फिर मैंने उसके बारे में सोच कर दो बार मुठ मारी, तब जाकर थोड़ी राहत मिली. जैसे ही दरवाजा खुला, मेरी टांगों के बीच में मेरी घंटी बजना शुरू हो गई. उसने रेशम की साड़ी पहनी हुई थी और उसके स्तन उसके रेशमी ब्लाउज में बाहर निकलने को आतुर दिख रहे थे.

साथ ही मम्मी पतली हैं लेकिन बहुत गोरी है लेकिन बहन जी टाइप बनकर रहती है।दरवाज़ा बंद करने के बाद मम्मी भी मैडम के पास आकर खड़ी हो गयी तो मैडम ने उनसे कहा- क्या सजा दूँ इसको? बताओ?मम्मी बोली- आप देख लो. मैंने कहा- रचना मैं बता नहीं सकता कि तुम्हें चोदने के लिए मैं कितना पागल हूँ. मैं वापस कोमल की नाभि पर आ गया और उसकी नाभि को चाटते हुए मैं उसकी कड़क हो चुकी चूचियों पर आ गया.

क्यूंकि मैंने दोनों हाथ से मोहित की गांड को पकड़कर फैला रखा था इसलिए मैंने रिया को इशारा किया और अपने पास बुलाया.

कुछ देर बाद मैंने और नीचे आकर उसकी पैंट और पैंटी दोनों ही निकाल दी. उसकी साड़ी का पल्लू पिंक कलर का था और बाकी साड़ी ऑरेंज और हल्के पीले रंग की थी.

जिस स्टॉल पर कोमल भाभी डिनर लेने का प्रयास कर रही थी, मैं वहां आया और मैंने उससे उसकी मदद के लिए पूछा. दिल में डर और मिलने की बेताबी लिए मैंने अपनी बाइक उसके घर से कुछ दूर एक पेड़ के नीचे खड़ी कर दी और इधर उधर देखता हुआ उसके घर के सामने पहुंच गया. मैंने थोड़ी हिम्मत बढ़ाई और ब्लाउज के ऊपर से उनके मम्मों को हल्का हल्का दबाना शुरू कर दिया.

चैट के साथ साथ थोड़ी बहुत चुदाई की बात हो जाती, जिससे दोनों को मजा आता. मेरी मॉम की चूचियां बहुत ही मस्त थीं और आज मैं मॉम की चूचियों का सारा रस निचोड़ लेना चाहता था. सोनी ने अपनी बीवी से आगे जानने के लिए पूछा तो उसकी बीवी बोली- जिन स्त्रियों को उनके पतियों ने सताया है, उनका गुस्सा शांत करने के लिए, हम पुरुष गुलाम को भाड़े पर लाती हैं.

इंडियन बीएफ चालू जब मैं चौथा पैग पी रहा था, तभी मेरी बीवी सोनू (बदला हुआ नाम) ऊपर के कमरे में आ गयी. मैंने पूछा- नकली लंड मतलब?उसने बताया कि उसने एक रबर का नकली लंड ऑनलाइन मंगा लिया था.

देसी बीएफ लोकल

मैंने अपनी स्पीड और चाची ने अपनी बढ़ा दी और थप थप थप की आवाज़ तेज हो गई. मैं अंगूठे के बाद कोमल के पैर की उंगलियों को बारी बारी से चूसे जा रहा था. फिर बात करते करते हम दोनों ने दो बार और चुदाई की और एक दूसरे से चिपक कर सो‌ गए.

मैं आपको क्या बताऊं, उस दिन जब मेरी मॉम तैयार होकर आईं तो वो एकदम कयामत लग रही थीं. मैंने उससे कहा कि मैंने तुम्हें पहले ही कहा था कि मैं तुम्हें हर रोज देखता हूँ और तुम मुझे बहुत खूबसूरत लगती हो, लेकिन तुम ही मुझे बार बार मजबूर क़र रही थीं, तो मैंने बस बोल दिया. लेस्बियन पॉर्नतापोश नीना के होंठ चूस रहा था, रवि नीना की चूत और सोनी नीना की चूची चूसने लगा.

उसकी चूचियों को चूसते चूसते अब मैं उसकी नाभि को चूसने लगा तो वो बेकाबू हो गई और उसने अपने नाखून मेरी कमर में गड़ा दिए.

तो आपका समय ना बर्बाद करते हुए मैं सीधा अपनी हॉट देसी गर्लफ्रेंड चुदाई कहानी पर आता हूं. मैं भी तुनकते हुए बोली- यह क्या जीजू, कितना मजा आ रहा था लंड चूसने में.

आज मैं आपसे अपनी जिंदगी की पहली चुदाई की कहानी के बारे में बात कर रहा हूँ. मेरी आपा मुझ से सात साल बड़ी थी और उसका निकाह भी पांच साल पहले हो चुका था. इस बात में कोई शक नहीं कि सविता अविश्वसनीय रूप से सेक्सी है। उसका फिगर लाजवाब है.

मैं किसी तरह उसके स्तनों को पकड़ने को उतावले अपने हाथों को रोकने का प्रयास करता.

कुछ ही देर में आग बढ़ गई और मैंने मीना की एक टांग को कंधे पर रख लिया. फिर मुझे न जाने क्या हुआ, मैंने उसके चेहरे को ठोड़ी से पकड़ा और उसके होंठों को चूमने लगा. उस वक्त मेरे बदन में बिजली सी दौड़ गई जब उन्होंने अपनी जीभ को मेरे निप्पल पर चलाना शुरू किया.

সেক্স ভিডিও তামিল সেক্স ভিডিওमुँह खुलते ही उसने बोला- आह ह ह … बस अब और नहीं करना … बहुत दर्द हो रहा है. फिर वो मुझे लिटा कर मेरी चूत की तरफ अपना मुँह ले गए और आईसक्रीम की तरह चूत चाटने लगे.

इंग्लिश बीएफ फिल्म हिंदी

मेरे कामुक दोस्तो, मैं फिर से आपके लंड और चूत से पानी निकलवाने आ गया हूँ. मैंने समय की नजाकत को समझते हुए खुद की उत्तेजना को शांत किया और उससे कहा कि मैं खाने पीने के लिए कुछ लेकर आता हूँ. डिंपी- फिर इसकी आदत डाल लो, क्योंकि अभी तुम्हें और भी बहुत कुछ करना पड़ेगा.

चाची बेड पर घुटनों के बल बैठी हुई थीं मैं बेड पर ही खड़ा हो गया और लंड को चाची के मुँह में डालकर ज़ोर ज़ोर से धक्के लगा कर लंड को गले तक डालने लगा. माधुरी ने कहा- नहीं, ऐसे दोस्त नहीं चाहिए मुझे … जो मेरे बारे में ऐसा सोचते हों. आपको यह जीजा साली Xxx चुदाई कहानी कैसी लगी?[emailprotected]लेखिका की पिछली कहानी: आलिम ने किया मेरी चुदास का इलाजhttps://www.

जैसे ही साक्षी की गांड के छेद से मेरा लंड बाहर निकला, वो और भी ज्यादा कड़ा और तना हुआ लग रहा था. उसने अपने दोनों हाथों से मेरे कंधों को मेरी पीठ के पीछे से फंसाकर कर मुझे अपने सीने से चिपका लिया और मेरी बुर में लंड चलाने लगा. ‘आई ईईई उउह उउ उफ्फ …’ की आवाज सुनकर‌ ना‌ चाहते‌ भी मेरा लंड‌ खड़ा होकर लोहे जैसा हो गया था.

कुछ पल बाद मैंने धीरे से वो कम्बल उसके पैर पर भी डाल दिया और उसने भी कुछ न कहते हुए कम्बल को अपने ऊपर ओढ़ लिया. पूरी दीवाली की छुट्टी में नीना किसी रात तापोश के साथ, किसी रात सोनी के साथ, किसी रात मेरे साथ संभोग करती और वहीं सो जाती.

वो काफ़ी पतली लड़की थी और उसका रंग गेहुंआ था, जैसा आम भारतीय लड़कियों का होता है.

मेरी नज़रें आंटी की गोल मोटी चूचियों और तने हुए निप्पल्स की तरफ हो गईं. पोर्न वीडियोस इन हिंदीप्रिय पाठको, आपको मेरी इस Xxx हिंदी कॉम हॉट कहानी के अगले भाग में ज्यादा मजा आयेगा. सेक्सी पिक्चर ब्लू हिंदीमुझे लगा कि दर्द के कारण ज्यादा मजा नहीं आएगा, लेकिन जब दर्द खत्म हुआ और उन्होंने मेरी कमर पकड़ कर मेरी कसके चुदाई करना चालू की, तो ऐसा लगा कि मेरी चूत ही फट जाएगी. मेरी हिम्मत चाची से बात करने की नहीं हो रही थी पर मेरी नजर बार बार उनके बूब्स पर जा रही थी.

उस दिन मेरे बॉस दूसरे शहर में मरीज़ देखने गए थे तो सभी मरीजों की ज़िम्मेदारी मेरे और मेरे साथ के स्टाफ पर थी.

आह आह के जैसी मादक आवाज निकलती हैं, इसका मतलब ये कदापि नहीं होता है कि किसी को दर्द हो रहा है. फिर मेरे पास तुम्हारा नंबर ही नहीं था और इसी वजह से तुम्हें कॉल भी न कर सकी. तो उन्होंने बताया कि वो इंदौर में ही रहती है।फिर मुझे लगा कि शायद कोई मेरे साथ ऐसा मज़ाक कर रहा है.

भाभी ने मुझे उठाया और लंड को हाथ में पकड़ कर बोली- आज मेरी चूत की आग शांत होगी … बहुत मोटा और लम्बा लंड मुझे चोदेगा. फिर हम दोनों साथ में खड़े हुए और मैंने अंजलि की साड़ी का पल्लू पकड़ कर खींचना शुरु कर दिया।धीरे धीरे अंजलि की साड़ी उतरना शुरू हो गई और कुछ ही देर में पूरी साड़ी मेरे हाथ में आ गई।अब अंजलि ब्लाउज और पेटिकोट में खड़ी थी।अंजलि के मोटे मोटे बूब्स और ब्लाउज और पेटिकोट के बीच का दूध जैसा सफ़ेद गदराया हुआ बदन देख कर मेरे लंड का बुरा हाल हो रहा था. कोई दस बारह मिनट की ठुकाई के बाद मीना ने मुझे बहुत कसके जकड़ लिया और मुझे लंड पर गर्म सा महसूस हुआ.

अंग्रेजी बीएफ वीडियो सेक्स

अब उन्होंने मेरी चूत पर अपना लंड एक बार ठीक से टिकाया और जोर से अपनी गांड को हिलाया. मैं भी बोली- हाँ जीजू, साली बहुत परेशान कर रही थी कल से! आज क़त्ल कर दो इस हरामजादी का!अब जीजू के धक्के तेज होने लगे और गन्दी गन्दी बातें करते हुए जीजू मुझ पर जोर जोर से कूदने लगे- ले हरामजादी, आज तेरी बुर का भोसड़ा बना दूंगा … तेरी चूत में आग लगा दूंगा … साली रंडी. उसने बताया कि उसकी वाइफ हॉट है और वो उसे अपने सामने नंगी चुदती देखना चाहता है.

मैं भी तुम्हारे साथ आना चाहती हूँ … तुम जोर जोर से चोदो मुझे … आंह पूरा अन्दर मेरी बच्चेदानी तक लंड घुसाओ.

अचानक उसकी नजर कांच की दरवाजे से मुझपे पड़ी तो मैं नीचे देख कर ऑफिस के बाहर टहलने लगा.

मैंने कहा- फटी हुई को क्या फटना!वो हंस दी और बोली- तेरे अंकल ने मेरे ऊपर चढ़ना छोड़ दिया है. फिर एक दिन जनवरी में सेकंड टर्म के एग्जाम थे तो मैं कॉलेज के नजदीक वाले गार्डन में बैठ कर पढ़ रहा था. ओपन सेक्सी बीपी मराठीउनके लंड से अजीब सी महक आ रही थी, मुझे लंड मुँह में लेने में जरा घिन सी आ रही थी.

मैं कुछ देर उसके मुँह को चोदता रहा, फिर मैंने अपना सारा पानी अन्दर ही छोड़ दिया. कोई उसे किस करने लगा, कोई उसकी गांड पर हाथ फेरने लगा, कोई चूत चाटने लगा. आपको मेरी यह सच्ची दो चुत दो गांड की चुदाई कहानी अच्छी लगी या नहीं? मुझे जरूर बताएं.

खाला को तो मानो जन्नत का मजा मिलने लगा था, वो अपनी गांड उठाती हुई जन्नत की सैर कर रही थीं. उसने उसे एक बार अपनी हथेली के पिछले हिस्से से लंड को दबाया और तभी कुकर में एक बार सीटी बज गई.

ठंड के कपड़ों की वजह से उनके जिस्म कि गोलाइयों का अंदाज़ा लगाना जरा मुश्किल था, पर चेहरे से वो मस्त माल थीं, एकदम गोरी चिट्टी और चिकनी जैसे भोजपुरी टीवी अभिनेत्री रश्मि देसाई.

फिर मॉम अपनी कमर पर हाथ रख कर एकदम नंगी खड़ी होकर बोलीं- ले देख ले … क्या देखना है. मैं सब पाठकों को पृथक उत्तर नहीं दे सकती तो इसके लिए माफी मांगती हूँ. पूरी दीवाली की छुट्टी में नीना किसी रात तापोश के साथ, किसी रात सोनी के साथ, किसी रात मेरे साथ संभोग करती और वहीं सो जाती.

सेक्सी फिल्म हिंदी में चुदाई उसके बूब्स को चूसने लगा और उसके ऊपर चढ़ कर उसे अपने जिस्म से रगड़ने लगा. उसकी गुलाबी ऐड़ी को अपनी छाती की घुंडी पर रगड़ता हुआ मैं उसके पैर के तलवों को अपनी ठोड़ी पर घिसने लगा.

और दूसरी तरफ माधुरी ने भी न जाने कितनी दफा मेरे मुँह में अपनी जुबान डाल कर मुझसे चटवाई, ये उसे भी याद नहीं था. थोड़ी देर बाद चाची ने कहा- जरा मेरा फोन देखना, क्या बात हो गई है, इसमें नेट नहीं चल रहा है. साक्षी ‘आह इस्स…’ करने लगी और मेरे मुँह में साक्षी की चूची से दूध की धार आने लगी.

फुल एचडी सनी लियोन बीएफ

अब शेखर की स्पीड तेज होने लगी और उत्तेजना के मारे मेरे हाथ भी शेखर के चारों तरफ कसने लगे. मेरा लंड फुल साइज़ में तन कर खड़ा था और उन्हें चोदने के लिए बिल्कुल तैयार था. उसके बाद उसके होंठ मेरे पेट से होते हुए नाभि से होकर नीचे मेरी पैंटी तक जा पहुंचे.

मैंने भी उससे कहा- हां क्योंकि मेरी बीवी है ही इतनी कमाल की कि आज मुझे उसके साथ पोर्न मूवी में दिखने वाले सारे आसान करने हैं और उसको इन आसनों के जैसे ही चोदना है. बाहर मूसलाधार बारिश शुरू हो चुकी थी जो रुकने का नाम ही नहीं‌ ले रही थी.

पिछले भाग8 जवानियों की खुल्लम खुल्ला चुदाईअब तक आपने पढ़ा था कि मोहित ने मुझे झाड़ दिया था और उसने मेरी चुत का रस अपने मुँह में भरकर मेरे मुँह में छोड़ दिया.

यदि भाभी सैट हो गई तो ठीक है नहीं तो अपने भैया से कह कर मेरे लिए उसकी बीवी की बात करना. उसने भी मुझे नमस्ते की और मुझसे पूछने लगी- आप यहां कैसे आए, क्यों आए आपने अपने आने का बताया ही नहीं. इस काम में मुझे टिप वगैरह भी मिलती है और कुछ ऊपर की कमाई भी हो जाती है.

पैरों में पायल पहनने के बाद मैंने सलवार कमीज पहनने के लिए उसका पैकेट खोला तो उसमें से एक सिल्की लाल कलर की प्रिंटेड सलवार और कुर्ती निकली जो उन्होंने टेलर से मेरे नाप की बनवाई थी. हम दोनों टीवी देख रहे थे लेकिन हम दोनों में से कोई भी वास्तव में टीवी का मजा नहीं ले रहा था. पता नहीं क्यों … मगर शालू के साथ दुबारा चुदाई करने का मौका नहीं मिल पाया.

इस पर बीवी ने मजाक में कहा था कि कभी रवि से मिली तो उससे गांड मरवाने की कला सीख लूंगी.

इंडियन बीएफ चालू: खाला की चीख निकल गई- आह मर गई … उई अम्मी रे मर गई … आंह निकालो जल्दी सुलेमान … मैं अपने हाथ जोड़ती हूँ … आह निकाल लो जल्दी से वर्ना मैं मर जाऊंगी. मैं कोमल हाथों की उंगलियों को अपनी उंगलियों में फंसाकर उसके गालों से अपने गालों को रगड़ने लगा.

अगले दिन एग्जाम देने के बाद जब मैं घर पर आया, तब दोपहर के 3 बजे थे. हालांकि मुझे लगता है कि लंड के साइज़ से कोई ज्यादा फर्क नहीं पड़ता है. तो हुआ यूँ कि मेरे मॉम और डैड जब मुझे छोड़ कर वापस घर जा रहे थे तो उन्होंने आस-पास के पड़ोसियों से मेरी जान-पहचान करवा दी थी और उन्हें कह दिया था कि कभी कभी मुझे देखते रहिएगा.

मैं उसके बड़े चूचों को रसीले आम की तरह मुंह में भरकर चूसने लगा और दबाने लगा.

’ये बोलकर आंटी अपनी गांड घुमा घुमा कर मेरे होंठों पर अपनी चूत घिसने लगीं. अब जलालुद्दीन ने मेरे बाल पकडे और एक बार फिर तेजी से मेरा मुंह चोदने लगे. मेरा लंड फटने को हुए जा रहा था पर मैं किसी जल्दबाजी में मज़ा खराब नहीं करना चाह रहा था.