बीएफ सेक्सी ब्लैक

छवि स्रोत,बीपी सेक्सी हिंदी ब्लू फिल्म

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी पिक्चर झवाझवी: बीएफ सेक्सी ब्लैक, माँ बोलीं- अगर दिक्कत हो रही हो तो बेटा बेडरूम में चलें?मैंने ना में सर हिलाया और मॉम की चूत देखने लगा.

माधुरी दीक्षित का सेक्सी पिक्चर वीडियो

मेरी न्यू अन्तर्वासना स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैं अपनी इंस्टीट्यूट के ऑफिस के एक लड़के की ओर आकर्षित हो गयी. मजेदार चुदाई सेक्सी वीडियोथोड़ी देर बाद दीदी को बाथरूम जाने की जरूरत महसूस हुई, तो वो मुझसे बोलीं- सामान देखना, मैं वाशरूम से आती हूँ.

खुशबू नहाकर बाथरूम से निकली, तो उसे देखकर मेरा लंड और कड़क हो गया … क्योंकि उसने ऊपर से टॉप पहन रखा था, पर अन्दर ब्रा नहीं पहनी थी. छोटी लड़कियों की सेक्सी मूवीमैंने अब उसे अपने ऊपर से उतार कर दीवार के सहारे टिका दिया और लंड पेल कर उसे रगड़ कर चोदने लगा.

आकांक्षा- तेरे जाने से पहले में भी मैडम को बुलाने ऊपर गयी थी और वहां मैडम की आवाज़ सुनकर रुक गयी थी कि तभी किसी के आने की आवाज़ आई, तो मैं बराबर वाले टॉयलेट में चली गयी और वहीं बैठी रही.बीएफ सेक्सी ब्लैक: गांड मरवाने की कहानी में पढ़ें कि जवान होते ही मेरी गांड में खुजली होने लगी थी.

वो सुन कर आंखें बड़ी करते हुए हैरानी सी जाहिर करती हुई बोलीं- अरे वाह सर … आपकी तारीफ़ सुनकर तो मेरी मेहनत सफल हो गई.पड़ोसियों ने अगर कहीं देख लिया तो हो सकता था कि वे मेरी मौसी की लड़की को बता दें और बात मेरे घर तक पहुंच जाये.

देवर भाभी का सेक्सी वीडियो दीजिए - बीएफ सेक्सी ब्लैक

तब तक सागर छत पर चला गया था।जूही के सो जाने के बाद मामी पूरी नंगी होकर छत से सागर को बुला लायी और सागर के कपड़े उतार कर उसी कमरे पर और उसी बेड पर दोनों शुरू हो गये जिसपे जूही सोई थी।कुछ देर बाद मामी सागर के लन्ड पर चढ़ कर चुदाई का मज़ा कामुक सिसकारियों से ले रही थी.बहुत बार तो उन्होंने छुट्टी के बाद मेरे क्लास रूम में भी मेरी गांड मारी और मुझसे लंड चुसवाया.

देखो कब वापस जाता हूँ और मुमकिन हुआ उनसे फिर से चुदाई का मौक़ा मिलेगा. बीएफ सेक्सी ब्लैक मैं भाभी के चूतड़ों पर लौड़ा रगड़ते हुए बोला- हां भाभी … सुमन भाभी ने आज मुझे इशारे भी किए थे.

उनकी चूत ने काफी सारा पानी छोड़ा था, इसलिए लंड को हद से ज्यादा चिकनाई मिल गई थी.

बीएफ सेक्सी ब्लैक?

कुछ देर बाद प्रशांत ने मां को पकड़ा और उनको होंठों पर बहुत जोरदार किस की और मम्मी की साड़ी को ऊपर उठा कर उनकी चूत पर हाथ लगाने लगा. अपनी बहन की खूबसूरत जवानी को देखता रहता था लेकिन कभी चोदने का नहीं सोचा था. मैंने प्रियंका भाभी से व्हिस्की के लिए पूछा तो उन्होंने मुस्कुरा कर हां कर दी.

मैं मन में सोचने लगा कि रहने दो भाभी … मत उठाओ उसे … क्योंकि यहां मेरी चड्डी में लंड उठ गया है. हम लोगों को बहुत मज़ा आ रहा था, उसने अपने हाथ मेरी नेक से हटाये और मेरी कोमल और गोल गोल गांड को दबाने लगा। उसने अपनी चड्डी उतार दी और अपने लंड पर मेरा हाथ रखवा दिया. मैंने उसकी मदद कैसे की?सभी पाठकों को मेरे 8 इंच के लण्ड का सलाम और रसीली चूतों को लण्ड की तरफ से प्यारा सा चुम्मा।हां तो दोस्तो, मैं राजू शाह गुजरात से हूं और फिर से आपके सामने हाजिर हूं.

और उसके घर वालों ने उसकी शादी के लिए लड़का ढूंढने की जिम्मेदारी मुझे दी है।उन्होंने मुझसे कहा- अगर तुम्हारी नजर में कोई लड़का हो तो तुम जरूर बताना. मैंने देखा कि मां सो गयी हैं, तो मैं भी उनके बारे में सोचते हुए सो गया. मैं कुछ देर बाद एक हाथ से उसके एक चुचे को दबाने लगा और दूसरे हाथ से उसकी जींस का बटन खोलकर उसकी अंडरवियर में हाथ डालकर उसकी गांड को भींचने लगा.

उसके धक्के मेरे मुंह में इतनी तेजी के साथ लग रहे थे कि ऐसे लग रहा था जैसे किसी ने उसको बिजली पर चलाया हो. उन्होंने कहा- अरे घबराते क्यों हो … मिल जाएगी … बताओ कैसी लड़की चाहिए.

मैं रोज़ शाम को दोस्तों के साथ घूमने फिरने के बहाने लड़कियां ताड़ने शहर में घूमा करता था.

या धीरे करो … दर्द होता है,फिर मैं दोनों हाथों में उसकी दोनों चूचियाँ पकड़ कर दबातें हुए उसकी चूत को चोदने लगा।करीब पंद्रह मिनट बाद पीहू का जिस्म अकड़ने लगा वो बोली- भैया मेरा निकलने वाला है.

दो मिनट के बाद ही वो बोली- बस करो … आह्ह … अब मुझे लंड दे दो, और नहीं बर्दाश्त कर पा रही हूं. संजय अंकल भी लंड ठोकते हुए बोल रहे थे- ले … आह … मेरी रानी ले लंड ले … आह … तुम बहुत मस्त माल हो … आज तुमको चोदने में जितना मज़ा आ रहा है … अब तक मुझे किसी को चोदने में नहीं आया … आंह … ले … रानी … मुझे सपना की मम्मी को भी चोदने में इतना मजा नहीं आया. करीब 6-7 मिनट समझाने के बाद मैंने उसकी बात काटी और पूछा- वो ट्रेन वाला लड़का तुम्हारा बॉयफ्रैंड था क्या?उसने मुझे मना कर दिया।फिर मैंने उससे पूछा- कोई बॉयफ्रेंड है या नहीं?उसने कोई भी बॉयफ्रैंड नहीं होने का दावा किया।मैं बोला- इतनी सुंदर दिखती हो.

Teacher Mam Ki Chut Chudaiअब पूरे कमरे में उनकी सिसकारियां गूंज रही थीं, जो मुझे ओर मदहोश कर रही थीं. वो भी मेरा साथ देने की कोशिश करती थी लेकिन ज्यादा आगे नहीं बढ़ने देती थी. पर जहां तक मुझे पता था, आज तो कॉलेज में कोई प्रोग्राम और एग्जाम भी नहीं था.

वो पहले तो हटाने लगी लेकिन मैंने उसकी चूत को जोर जोर से सहलाना शुरू कर दिया.

मैं- आज मजा आया कि नहीं मेरी जान को?निशा भाभी- मजा तो आया पर अगर ज्यादा टाइम मिलता. मेरे प्यारे पाठको, आपको मेरी फैमिली सेक्स स्टोरी कैसी लगी?[emailprotected]. उसने ये भांप लिया था कि मैं उसकी जवान और रसभरी चुचियों को देख रहा हूँ और शायद वह भी मज़े लेना चाहती थी.

इतना कहते हुए मैंने उसकी रज़ामंदी से उसको किस किया और हम फिर अपनी जॉगिंग ख़त्म करके घर वापस आ गए. मगर मैंने उसको आंखों से चोदते हुए होंठ गोल किये और बिना सीटी बजाए एक ठंडी हवा का झोंका उसके गालों पर मारा. वो आँखें बंद करके मज़ा ले रही थी।इसके बाद मैंने बाये हाथ से उनके साया की डोरी को खींच दिया और वो खुल कर नीचे गिर गया। फिर उनको पलट कर मैंने अपने सीने से लगा लिया और उनके होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा।वो भी मेरे होंठों को चूस रही थी.

मैंने देखा कि सामने एक काले रंग की बेबीडॉल में भाभी अपने हुस्न का जलवा बिखेर रही थीं.

अब मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी चिकनी गुलाबी मखमली चूत में अपनी उंगली घुसा दी. मैं आगे बढ़ रहा था और मुझे अहसास नहीं था कि मेरे हाथों का जोर कितना उनकी चूची पर पड़ रहा है.

बीएफ सेक्सी ब्लैक उसने अपने नाखून मेरी पीठ पर गड़ा दिए थे। मैंने धक्के लगाने चालू रखे. ये कहकर आसिफा बाजी की गोद में से उनकी बेटी को रूबीना ने ले लिया और खिलाने लगी.

बीएफ सेक्सी ब्लैक फिर मैंने आंटी की गांड में भी उंगली डाली और जरा सी ही की होगी कि आंटी का पानी छूट गया. उन दोनों बुआ की चुदाई की कहानी को विस्तार से आपको अगले भाग में लिख कर मजा दूंगा.

मैंने उसके शहर से नई दिल्ली वाली टिकट की फ़ोटो खींचकर व्हाट्सएप्प कर दिया और दोनों टिकट को कोरियर कर दिया।और फिर हम दोनों अपने हॉस्टल चली आईं.

खुल्लम खुल्ला सेक्सी तस्वीर

मैंने नीचे से अपने लंड को चुत के मुँह पर सैट किया और थोड़ा सा धक्का लगाया, तो मेरा लंड चुत को चीरता हुआ सीधा अन्दर चला गया. अलमारी से उसने ड्रेस निकाल ली। उसको ट्राई भी करना था।मुझे आदेशात्मक अंदाज में वो कमरे में बैठा कर दूसरे कमरे में चेंज करने चली गयी. मेरे पास दूसरा कोई चारा ही नहीं था।हम उसके घर पहुँचे तो वहां पर कोई नहीं था। उसने दरवाजा खोला और हम अंदर आ गए। उसने लाइट जलाई, गर्मी थी और पंखा ऑन किया।हम बेड पर बैठ गये और आराम करने लगे.

अंकल- तुम्हारे पास कौन सी कार है?मैं- मेरे पास कार नहीं है … क्योंकि मुझे कार चलाना नहीं आती. मेरे मजबूत डोले और उभरी हुई चेस्ट को देख कर अब लड़कियां मेरी ओर आकर्षित भी होने लगी थीं. आकांक्षा- तेरे जाने से पहले में भी मैडम को बुलाने ऊपर गयी थी और वहां मैडम की आवाज़ सुनकर रुक गयी थी कि तभी किसी के आने की आवाज़ आई, तो मैं बराबर वाले टॉयलेट में चली गयी और वहीं बैठी रही.

अंकल ने यहां भी मेरी मदद की और अपने हाथ से उसकी चूत के छेद को को थोड़ा सा खोल दिया जिससे मेरा छोटा सा लंड उसकी चूत में समा गया.

हम दोनों ऊपर से तो पूरे नंगे थे लेकिन नीचे से मैंने पैंट पहनी हुई थी. बीच बीच में मैं भी उसको किस करता और फिर दोबारा से धक्के बजाने लगता. उसके बाद सौरभ ने मेरी गर्म बहन की चूत पर अपना लन्ड लगा कर धक्का दिया.

इसी के साथ उसने अपने होंठों को खोल दिया और उसी समय मेरी जीभ ने उसके मुँह में हमला कर दिया. मॉम ने कहा- हां आज से एक हफ्ते के लिए मैं तुम्हारी रंडी दासी सब हूँ. वो लगातार कहती जा रही थी- और तेज डालो … आह्ह … और तेज … आह्ह तेज करो।मैं जोर से झटके मारते हुए कहा- आह्ह … भाभी, आप पहले क्यों नहीं मिली?उसने सिसकारते हुए कहा- मुझे विनीता कहो … भाभी मत कहो.

दोस्तो, मेरा नाम दीप है, मैं अहमदाबाद गुजरात से हूँ।यह मेरी पहली और सच्ची घटना है रिश्तों में चुदाई की, सास दामाद की सेक्स स्टोरी!मेरी उमर 29 साल है और मैं प्राईवेट सेक्टर में जोब करता हूँ. फिर मैं मस्ती में आकर बहन की चुदाई करने लगा और वो भी मेरे लंड से चुदते हुए मस्त हो गयी.

उन दोनों बुआ की चुदाई की कहानी को विस्तार से आपको अगले भाग में लिख कर मजा दूंगा. मैंने भी उसे अपनी बांहों में उठाते हुए बेड पर लिटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया. उसका नर्म हाथ मेरे लंड के टोपे को सहला रहा था और मेरी उत्तेजना बहुत ज्यादा तेज होती जा रही थी.

क्योंकि मैं पहली बार कोई चूत चोद रहा था तो मुझे चुदाई करनी नहीं आती थी.

उसने मस्त काली ब्रा पैंटी का सेट पहना और स्कर्ट और टॉप।अभय घर के बगल में रहता है. फिर दोनों ने वीर्य छोड़ दिया और मॉम को सोफे पर लिटा कर उनकी चूत में एक डंडा डाल कर दोनों चले गए. जैसे लोगों को शराब का नशा होता है, ऐसा ही नशा होता है चूत का और मुझे भी बस यही नशा था- बस चूत ही चूत।इंसान की जिन्दगी में सेक्स का अत्यंत ही सुन्दर अहसास होता है.

भाभी की दोनों टांगें मेरे कंधे के ऊपर थीं मैंने अपने लंड को चुत के ऊपर सैट किया और धक्के लगाना शुरू कर दिया. वो बोलीं- अब नहीं बर्दाश्त होता जी … चोद दो मुझे … चोद कर फाड़ दो अपनी सोनाक्षी की चूत.

सर- अब कब मिलोगी अगली बार चुदने के लिए?प्रिया- बहुत जल्द मिलूंगी सर … अब आपके बिना तो मुझे भी चैन नहीं आएगा. अब तक मैं अपने घर से बहुत आगे निकल आया था और सर का घर पास ही में था. तभी बड़ी बुआ बोलीं- मयूर अभी बच्चों के आने में 3 घंटे बाकी हैं, तू अभी ही हमारे नीचे के बाल साफ क्यों नहीं कर देता?छोटी बुआ बोलीं- हां ये समय सही है.

सनी लियोन की सेक्सी वीडियो खुला

झड़ने के बाद मैंने उनसे पूछा तो मैम बोलीं- मैं भी दो बार झड़ चुकी थी.

मैं सोच रहा था कि चूसना तो ठीक है लेकिन अगर इन्होंने मेरी गांड में डाला तो मैं मर जाऊंगा. उसने अपने दोनों हाथों में मेरी चूचियों को भर लिया और ब्लाउज के ऊपर से ही उन्हें गूंथने सा लगा. मैंने पहले भाभी की चूत पर हल्का सा किस किया, जिससे वो पागल हो गयी और मेरे बाल खींचने लगी.

हम खुद जब छोटे थे तब ना कोई मोबाइल पे पोर्न और ना उत्तेजक और सेक्सी टीवी प्रोग्राम हुआ करते थे लेकिन सेक्स और कामुक संबंध उस समय भी हुआ करते थे. अम्मी ने कहा- तुम दोनों बैठ कर बात करो, मैं तुम्हारे लिए चाय बना कर लाती हूं. ममता सोनी की सेक्सी फोटोजब तक वो तुम्हें हासिल नहीं हो जाती तो रात दिन, उठते-बैठते बस वो ही खयालों में रहती है.

और उसने एक सीनियर लड़की का नंबर दिया और कहा- सेटिंग मत कर लेना वरना फंस जाएगा और पिटेगा।हमारे ग्रुप में तो कोई लड़की थी नहीं, इसलिए ये सब काम हमें खुद ही करने थे. मैं ये सब देखकर हैरान था कि एक अजनबी के सामने माधवी भाभी ने ये सब बिना किसी डर के सामने रख दिया था.

चूँकि मेरे मां बाप दिन भर बाहर रहते थे तो मैं उन्हीं के पास रहता था. फिर वो बोली- देख कितना बड़ा हो गया है लेकिन तुझसे संभाला भी नहीं जाता. भाभी से बातचीत तो होती लेकिन वह मुस्कुरा देती थीं, जिससे मुझे लगता था कि शायद वो इस बात को जान गई थीं कि वो मैं ही था, जिसने उनकी ब्रा पर अपना वीर्य छिड़क दिया था.

अगर आपको कोई दिक्कत नहीं हो, तो क्या आप 3 दिन रात के लिए अमित को सोने को हमारे घर भेज सकती हैं?उनकी बात सुनने के बाद मम्मी ने कहा- हां हमें कोई परेशानी नहीं है, अमित रात को आपके घर पर आ जाएगा और इसके अलावा भी कोई दूसरी दिक्कत हो, तो बता देना. मेरे मुँह से सिसकारियां निकल उठीं- आह्ह्ह सोनिया चूसो … इसे पूरा मुँह में ले लो … मजा आ जाएगा … चूस डालो इसे केला समझ कर. भाभी धीरे धीरे शांत होने लगीं, तो मैंने लंड को चुत में आगे पीछे करना शुरू कर दिया.

मैंने उसे उठाया और बाथरूम ले गया; दोनों ने मूता, उसने वहीं मेरा लौड़ा चूसा।मैं उसे गोद में उठाकर लाया और बिस्तर पर लिटा दिया.

तो वह उठकर मेरी गोद में आकर बैठ गई।मैंने उसके हाथ को चूमना शुरू किया और गले तक आ गया. मैंने भी अपने घर बोल दिया कि मैं 2-3 दिन के लिए फ्रेंड के घर जा रहा हो.

मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों को रखा और उसे चूमते हुए फिर से एक धक्का मार दिया. तो परीक्षा से दो दिन पूर्व ही मैं अपनी बीवी को अपनी ससुराल छोड़ने के लिए गया. इनको भी चोद कर अगर सेट कर लिया तो पीहू को चोदने में और भी आसानी होगी।मैंने बात बनाते हुए कहा- मम्मी जी, आपकी सेवा में तो मैं हमेशा ही तैयार ही हूँ.

फिर हम पटना से वेस्ट बंगाल आ गए और इस बार मैं अकेले नहीं बल्कि अपनी रखैल के साथ आया था. बहन चोद सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं मामा के घर गया तो उनकी बेटी जवान हो चुकी थी, गजब माल लग रही थी. दोस्तो, इस बात को अब 3-4 साल हो गए हैं मगर अब तक भी मुझे समझ नहीं आया कि वो आखिर थी कौन? अगर उसको ऐतराज होता तो वो सेक्स क्यों करती?जब उसने सेक्स कर ही लिया तो कहां गायब हो गयी, ये सब बातें मुझे अभी भी परेशान करती रहती हैं.

बीएफ सेक्सी ब्लैक मैंने उसकी चूत को उंगली से चोदते हुए कहा- ले फिर मेरी जान … तेरी चूत का भी उद्घाटन कर देता हूं. कुछ ही देर में दोनों बुआओं ने मिल कर सब के लिए खाना बना लिया था और बच्चों को स्कूल भेज दिया.

अंग्रेजी सेक्सी दो सेक्सी

ये पहले से ज़्यादा तेज़ थी और साथ ही मैडम की बातों से लग रहा, जैसे उन्हें बहुत ज़्यादा दर्द हो रहा हो. मैंने भी अपना लोवर और अण्डरवियर उतार दिया और अपने लंड को उसकी चिकनी चूत पे टिका दिया।मैं पहला बार चूत में लंड डाल रहा था. कुछ देर के धक्कों के बाद मेरे लंड ने भी उसकी चूत में पानी छोड़ दिया.

भाभी के आई लव यू बोलते ही मैंने उन्हें अपनी तरफ घुमाया और अपने होंठ उनके होंठों पर रख दिए. अब मैंने उसके निप्पल को मुंह में लेकर चूसना शुरू कर दिया जिससे वो और ज्यादा मचलने लगी. अनुराधा सेक्सी वीडियोउसके बाद उस लड़के ने भी तेरी मां को ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया और वो भी उसकी चूत चोदने लगा.

मैं रुक गया और थोड़ी देर ऐसे ही रहने के बाद धीरे धीरे उसको चोदने लगा.

फिर मुझसे रुका न गया और मैंने जीभ निकाल कर मामी की चूत को चाटना शुरू कर दिया. बीच बीच में मैं उसको किस करता हुआ उसके मम्मों को दबाता रहा, जिससे वो फिर से गर्म हो गई.

हालांकि उसने बस मजाक में ही मेरी सिगरेट छीन ली थी और मैंने इसी बात पर इसकी पिटाई कर दी. जब भी भाभी के पति घर आते, तो वो मुझसे बात करने के लिए बाथरूम में चोरी से फोन लेकर जातीं. मैंने ये सुना तो बाथरूम से बॉडीलोशन की शीशी ले आया और उसमें से कुछ लोशन निकाल कर उसकी चूत और लंड पर लगा लिया.

अम्मी शायद पहली बार किसी का लंड मुँह में ले रही थीं, इसमें उन्हें बड़ी तकलीफ हो रही थी.

फिर क्लास में तुझे गुमसुम देखकर यक़ीन भी हो गया कि तू ही था और अभी भी तू उन्हीं के बारे सोच रहा था. इस धक्के से मेरा लिंगमुण्ड अपने रास्ते में आने वाली सारी रुकावटों को दूर करता हुआ उसकी बच्चेदानी से जा टकराया. और साथ ही साथ बोल रही थी- मेरी जान, आज की ये रात तुमको हमेशा याद रहेगी कि कितनी किस्मत वाली गर्लफ्रैंड मिली है तुमको!अब सुधा सागर के होंठों पर अपने होंठ रख कर उसको चूसने लगी जिसमें सागर भी उनका साथ देने लगा.

अलवर का सेक्सी वीडियोउसका कमरा काफी बड़ा था, कमरे के ठीक बीचों-बीच एक राउंड डबलबेड था और चारों तरफ सब कुछ अच्छे से सजाकर रखा हुआ था. मेरा लंड चुत में अन्दर तो घुस गया, लेकिन उसकी बुर से खून निकलने लगा.

साड़ी वाली सेक्सी भाभी वीडियो

उस दौरान मैं अपनी छिपी नजरों से दोनों बुआओं के मस्त मम्मों का जायजा लेता रहा. मैंने तो उनसे चुदते वक्त ही सोच लिया था कि अब मेरे पति तो मुझे नहीं चोदेंगे, तो मैं इनके यहाँ आकर ननदोई जी से चुदती रहूंगी. मैंने हां में सिर हिला दिया और मां वहां से चुपचाप दुम दबाकर निकल गयी.

उनका लन्ड तो छोटे बच्चे की तरह था, वे कुछ नहीं कर पाए, मैं प्यासी रह गई. फिर मैं खड़़े खड़े उसके मम्मों को दबाने लगा; उसके होंठों को चूसने लगा. मैं उसके स्तनों को दबाते हुए नीचे जाने लगा, उसकी नाभि में जीभ डाल कर चूसने लगा और उसके पेट को काटने लगा.

मेरा लंड उसकी चूत पर लगा था और मैं उसकी चूचियों को भींच भींचकर पीने लगा. फिर मैं उसके होठों को चूसने लगा, वो भी साथ देने लगी।उसका हाथ मेरे लौड़े को सहलाने लगा।थोड़ी देर बाद दोनों गर्म हो गए. अमित जी काम में व्यस्त थे लेकिन जैसे ही उन्होंने हमें देखा, सारा काम छोड़ करके खुद हमें दरवाजे तक लेने आए।पापा भी उनको देखकर इंप्रेस हुए। पापा जी ऐसे ही लड़के पसंद आते हैं जो बड़ों की इज्जत करें।और अमित जी तो पूरे जेंटलमैन थे इस मामले में।फिर हम उनके केबिन में गए.

जैसे लोगों को शराब का नशा होता है, ऐसा ही नशा होता है चूत का और मुझे भी बस यही नशा था- बस चूत ही चूत।इंसान की जिन्दगी में सेक्स का अत्यंत ही सुन्दर अहसास होता है. मैंने उसकी चूत में मुंह लगा दिया और नीचे से वो मेरे लंड को चूसने लगी.

तभी छोटी बुआ ने कहा- लेकिन दीदी, बच्चे तो घर पर ही हैं?बड़ी बुआ ने कहा- मयूर, बच्चों को रात को खाना खिला कर दूध पिला कर सुला देंगे.

दुनिया के बारे में ज्यादा मत सोचो, कुछ महीनों के लिए अलग घर में जाओगे तो सब ठीक हो जायेगा।आखिरकार फिर दोनों ने अलग घर में रहने का निर्णय कर लिया।उनके इस निर्णय से मेरी तो जैसे लॉटरी ही लग गई. बैड बॉय सेक्सी वीडियोउसके बाद तो जेल जा कर तेरी खूब तबीयत से कुटाई होगी और तेरी बीवी की मस्त तलाशी होगी वहां. सेक्सी फिल्म देवर भाभी सेक्सआखिर जैसे ही मामी की चूत का पानी छूटा, सागर ने एक ज़ोर के झटके में अपना पूरा लन्ड उनकी चूत में डाल दिया. जब मेरा वीर्य निकलने को हो गया तो मैंने पूछा- मेरा होने वाला है, कहां निकालूं, जल्दी बताओ?वो बोली- बाहर निकालना, अंदर नहीं.

फिर उसने मेरे सिर को पकड़ कर मेरे होंठों को अपने दूधों पर रखवा दिया.

मेरे प्यारे दोस्तो, मैं राजेश हूँ, 23 साल का मैं शादीशुदा नहीं हूँ, मैं अपनी माँ के साथ दिल्ली में रहता हूँ. मुझे तो पूरी पूरी गलतफहमी हो चुकी थी कि ज़ोहरा आपा अपने भाई से चुदवा कर गर्भवती होने चाहती हैं. इसका सबब क्या है जान!मॉम ने बोला- आप जैसे लोगों का वीर्य मेरे तन को सुंदर बना देता है.

ऐसे ही रात को कभी कभी मजाक में मैं उसे छू लिया करता, तो वो कुछ नहीं बोलती थी. मैंने तुम्हें इतना डरा दिया, सॉरी तो मुझे बोलना चाहिए।मैं– कोई बात नहीं।शिल्पी– तुम अपना सामान रख लो. मेरी ईमेल आईडी है[emailprotected]मेरी इंस्टाग्राम आईडी है sarfraz_ansधन्यवाद.

10 साल की लड़की की सेक्सी चुदाई

फिर पीछे से ब्रा का हुक भी खोल कर उनके स्तनों को पिंजरे से आज़ाद कर दिया और उन्हें ब्रा से बहार निकाल कर ज़ोर ज़ोर से दबाने लगा।तब मैं अपना खड़ा लण्ड पीछे से ही पेटीकोट के ऊपर से ही उनकी गांड के दरार में फंसाकर घिसने लगा।कुछ देर में मेरा हाथ माँ ने पकड़ लिया. तभी उसकी दर्द भरी आवाज निकल गई- आह … मैं मर गई … इसे बाहर निकालो … चाचू मुझसे सहन नहीं हो रहा है … आंह्ह्ह आआह आह्ह्ह बाहर निकालो इसे!सोनिया की चुत सील पैक होने की वजह से वो इस दर्द को सहन नहीं कर पा रही थी. लेकिन मुझे तो चूत हर हाल में चाहिए थी तो मुझे सास की दोपहर वाली हरकत याद आ गई तो सोचा कि क्यों ना सास पे एक बार आजमाया जाये।यह सोच कर कुछ देर बाद मैं दुबारा दूसरे कमरे में गया.

और साथ ही साथ बोल रही थी- मेरी जान, आज की ये रात तुमको हमेशा याद रहेगी कि कितनी किस्मत वाली गर्लफ्रैंड मिली है तुमको!अब सुधा सागर के होंठों पर अपने होंठ रख कर उसको चूसने लगी जिसमें सागर भी उनका साथ देने लगा.

एक बात भाभी की सहेली आई तो मैंने भाभी को कहा कि अपनी सहेली की चुदाई करवा दें.

उधर उसने आराम से मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया था और चूसने लगी थी. मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी और तेजी से लंड को उसकी ढीली हो चुकी चूत के अंदर-बाहर करने लगा. सेक्सी देहाती बुर चुदाईयह सोच कर मैंने कुर्सी की फोम निकाली और उसमें आग लगाकर खुद को सेंकने लगा.

मैं आगे बढ़ रहा था और मुझे अहसास नहीं था कि मेरे हाथों का जोर कितना उनकी चूची पर पड़ रहा है. मैं उधर ही रुक गया और उसकी तरफ हाथ से हाय किया, तो उसने भी मुझे रिप्लाई दिया. मुझे नहीं पता था कि वो किसलिए मेरी ओर आ रही है लेकिन मैंने अपनी नजर घुमा ली.

उसकी चूत बार बार मेरे लंड को चोद रही थी और इधर से मेरे लंड के धक्के उसकी चूत में लग रहे थे. वो सफेद रंग के टॉप और लेगिंग पहने हुए थी, जो इतनी टाइट थी कि उसकी पैंटी की लाइन साफ चमक रही थी.

अब मैंने भाभी को बेड पर लेटा कर पेट पर आइसक्यूब फेरते हुए नाभि से खेलने लगा.

अपना सर हिला कर चुत पर हाथ फेरा और उन्हें अपनी रजामंदी देते हुए हामी भर दी. फिर उन्होंने अपने कपड़े उतार दिए और भाभी पूरी नंगी मेरे सामने खड़ी हो गयी. उंगली को चुत की फांकों तक अभी ले जाता कि उतने में ही उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया.

ब्लू सेक्सी देहाती वाली अम्मी शायद पहली बार किसी का लंड मुँह में ले रही थीं, इसमें उन्हें बड़ी तकलीफ हो रही थी. कुछ देर के बाद ननद अपनी चूत में उनके लंड को और अंदर लेने के लिए अपनी टांगों को उसकी कमर पर लपेट लिया.

मैंने बोला- भाभी मैं कॉलबॉय नहीं हूँ … वैसे कहिए आपकी क्या फरमाइश है?भाभी बोलीं- पहले खाना खा लो, मुझे भी खाना है. उसकी बुर इतनी टाइट थी कि मेरे लण्ड में भी काफी दर्द हो रहा था, शायद छिल गया था. रमेश अंकल ने बोला- दिनेश का लंड गांड में ज़्यादा मज़ा दे रहा था क्या? मेरा डलवा कर देख रंडी … तेरी गांड फाड़ दूंगा साली.

नीता अंबानी सेक्सी वीडियो

मैं चाबी के छेद से देख रहा था, अंकल माँ के साथ आ रहे थे और कह रहे थे- आज तुम्हारा बेटा जल्दी तो नहीं आएगा?माँ ने कहा- नहीं।वह आदमी आज उत्साहित था, वह माँ के दूध दबा रहा था।माँ ने उससे पूछा- क्या आप पानी पिएंगे?वह कहने लगा- मैं आपके दूध का प्यासा हूँ, मुझे पिछले एक हफ्ते से आपको चोदने का मौका नहीं मिला. हमारा गाँव का घर बहुत बड़ा है और गाँव में केवल भैया भाभी और चाचा ही रहते हैं बाकी सब बाहर जॉब में हैं. मेरा लंड मेरी पैंट की चेन के बाहर था और मैं तेजी से उस जवान लड़की की नंगी चूचियों को देख कर अपने लंड को हिलाने में लग गया.

माँ ने अपनी गांड को थोड़ा उचकाया, जिससे उनकी गांड का छेद मुझे दिख जाए. फिर मैंने उसकी टांग को पकड़ कर उसे अपने ऊपर सैट किया, जिससे हम दोनों 69 पोजीशन में आ चुके थे.

उसके नर्म से हाथ के द्वारा मेरे लंड को सहलाने से मैं बहुत ही ज्यादा उत्तेजित हो गया था.

ठीक उसी वक़्त शनाज़ के फोन की घंटी बजी, वो हंस कर अपनी अम्मी से फ़ोन पर बात करती करती बाहर चली गई. उसके मुंह से कराहटें निकल गयीं- आह्ह … अम्म … चोदो अब … ओह्ह … चोद दो मेरी चूत को. मन ही मन मैंने निश्चय कर ही लिया कि कुछ भी हो, मैं इसकी चूत का रसपान करके ही रहूंगा।संदीप की शादी के लिए अब मैं इंतजार कर रहा था कि कब चारू उसके घर उसकी बीवी और हमारी भाभी बनकर आयेगी.

मेरा लंड तो फटने को हो गया ये सोचकर कि एक अनजान लेडी चुदाई के लिए तैयार है. निशा भाभी ने इस समय हल्के पीले रंग का सूट पहना हुआ था, जिसमें भाभी एकदम कांटा माल लग रही थीं. मैंने उनसे मेरे बेटे के लिए पूछा, तो वो बोले- आप अपना नंबर दे दीजिए, काम हो जाएगा.

उनके नंगे जिस्म के सबसे खूबसूरत अंग उनकी चूत के ऊपर मैं अपना लन्ड घिसने लगा.

बीएफ सेक्सी ब्लैक: मैंने सुमन भाभी को बिस्तर पर अपनी बांहों में खींच लिया और साड़ी खोल कर जल्दी जल्दी उनको नंगी कर दिया. ये सब बातें मेरी सास चुपके से देख सुन रही थी। यह बात उन्होंने मुझे बाद में बताई थी।मैं बहुत मायूस हो गया, सोचा कि ये तो खडे लंड पे धोखा हो गया। मैं गुस्सा होकर वापिस अपने कमरे में आ गया और हाथ से अपना लंड हिलाने लगा.

सोनिया भाभी ने मुझे जैसे ही मेल पर अपनी समस्या बताई, मैं समझ गया कि क्या करना है. मुझे पता चल गया था कि आग उनकी चुत में भी लगी हुई है, पर वो खुद से नहीं बोल सकती थीं और ना ही मैं बोल सकता था. मैंने बोला- ठीक है, वो सब छोड़ो, अभी तो मुझे आपकी सेवा करने का मन है.

मेरी दी की गद्देदार पावरोटी की तरह उसकी चुत एक मस्त छटा बिखेर रही थी.

उसके दूध 38 के हैं और गांड 40 की।वो रंग की गोरी है और पूरी मस्त चोदू माल लगती है. पहले तो मैंने उनके इस तरह से कागज़ डालने के लिए सॉरी बोला और फिर कहा कि मेरे पास उसके अलावा कोई रास्ता नहीं था. छोटी बुआ ज्यादा नहीं चीखीं … क्यों उनकी गांड में जैली का गहरा असर हो चुका था.