हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर

छवि स्रोत,लड़कियां मुठ कैसे मारती है

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी बीएफ व्हिडीओ: हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर, अब उसकी स्पीड थोड़ी कम हुई, उसने पूरा लौड़ा बाहर खींच के झट से अंदर डालना शुरू किया।जैसे तैसे मैंने कहा- पीटर, चलो बेड पे चलते हैं.

नीलम भाभी की चुदाई

हो सकता है कि वो अभी आ जाएं।यह सुनकर दूध वाले की गांड फट गई और वो जल्दी से अपने कपड़े ठीक करके चला गया, जाते समय उसने मुझे अपने नम्बर पर कॉल करने का कह दिया।दूसरे दिन मैंने उसे फोन कर दिया और 11 बजे तक आने को कह दिया। मैंने उससे कहा कि आने से पहले एक मिस कॉल जरूर दे देना, यदि पति नहीं हुए तो मैं तुम्हें कॉल करूँगी. मां बेटी मूवीइधर आओ।मैंने उसको पूरा नंगी किया और उसे बेड पर लिटा दिया। उसने अपने दोनों पैरों को खोल कर अपनी नंगी चिकनी चूत का नजारा दिखाया.

दस मिनट की चुदाई के बाद मैंने उसे खड़ा किया और दीवार के साथ लगा कर खड़ा कर दिया. लड़की घोड़ा का सेक्सी वीडियोमस्त लंड चूसता हूँ तुम्हारा!वो बोला- नहीं यार, चलते हैं…मैं बोला- एक बार चलो तो सही… मस्त मजे कर दूँगा…वो टालते हुए बोला- नहीं, अभी चलो यार, थोड़ी देर से आ जाएंगे!लेकिन मैं नहीं माना.

मुझे बड़े प्यार सेचाचा ने चोदाथा पहली बार… दर्द तो बहुत हुआ था लेकिन मजा भी आया था.हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर: फिर उसको पानी पिलाया और बेड पे अपने पास बिठा कर टीना उसके बालों में हाथ घुमाते हुए सुमन को इशारा किया कि वो जैसे कहे तू हाँ कह देना, सुमन भी समझ गई.

हमारे बॉस का एक दूसरा होटल भी था, तो दो दिन बाद वहाँ मीनल के ऑफिस की मीटिंग थी.जब मेरे लंड से पानी निकलने को होगा तो मैं बता दूंगा और आप लंड को बाहर निकाल देना.

ओके गूगल सेक्स वीडियो - हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर

अन्तर्वासना के सभी पाठक पाठिकाओं को मेरा सप्रेम नमस्कार!प्रस्तुत कहानी मेरी पिछली कहानियोंअनोखी चूत चुदाई की वो रातअनोखी चूत चुदाई के बादकी अगली और अंतिम कड़ी है.थोड़ी देर बाद वो 69 के पोज़ में आ गए और अंकल ने अपना मूसल फ्लॉरा के मुँह में ठोक दिया.

रीना ने उसका कुरता खींचते हुए कहा- चल नहाने चल, फिर तैयार होकर चलते हैं मस्ती करने. हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर नींद तो मुझसे कोसन दूर थी, मैं तो उस स्मृति के घर से जाने की प्रतीक्षा कर रहा था.

अब गुलशन जी भी अपने चरम पे थे, किसी भी पल उनका लावा भी फूटने वाला था.

हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर?

चाची- नहीं बोला ना, तू जिद ना कर अब जा यहाँ से, नहीं तो खाना बनाने में देर हो जाएगी. मेरी हिन्दी सेक्सी स्टोरी पर अपने विचार मुझे भेजें![emailprotected]गर्लफ्रेंड की अदला बदली करके चुदाई की तमन्ना-3. उसकी कामुक सीत्कारें सुनकर तो मेरा जोश और बढ़ गया और अब मैं और तेज गति से अपने लंड को उसकी बुर में अन्दर-बाहर करने लगा.

इधर सविता और मैं भी गर्म हो गये थे पर उस वक्त हमने सेक्स करना ठीक नहीं समझा और बस किस कर के ही वापिस आ कर सो गये. मामा गुस्सा करके बोले- ये ‘कीजिएगा…’ क्या होता है, जो बोलना है खुल कर बोलो, मुझे भी अच्छा लगेगा. आओ अन्दर, आज घर पर कैसे?मैंने- कुछ नहीं बस आपको देखने का मन कर रहा था.

कुछ ही देर में वो झड़ गई थी क्योंकि उसका गर्म लावा मुझे मेरे लंड पर महसूस हुआ. फिर वो अपनी साड़ी ठीक करके जाने लगी, मैंने उसकी गांड दबाई और उसके पीछे चला आया. इस दौरान मैंने उससे और भी बातें की, और थोड़ी देर चुदाई करने के बाद मुझे थोड़ी सांस चढ़ी तो मैंने उसको ऊपर आने को कहा.

इसी बीच मेरी चुत ने भरभरा कर पानी छोड़ दिया। अब मेरी टाँगें काम्पनी शुरू हुई. मैंने अब क्या किया?संजय- कुछ नहीं मेरी प्यारी पूजा ऐसे ही हँसी आ गई। चल अब तू घर जा ओके।पूजा- मामू वो मेरी चड्डी कहाँ है.

मैंने क्रीम लगीं अपनी दोनों उंगलियां उसकी गांड में ठूंस दीं। थोड़ी देर उंगलियां आगे-पीछे कीं।अब मैंने उसे औंधे हो जाने को कहा और अपना क्रीम लिपटा लंड उसकी गांड पर टिका दिया। थोड़ी देर उसकी गांड पर लंड हाथ में लेकर टच किया.

तभी जो मेरे मुँह को चोद रहा था, उसने मेरे मुख में ही अपना वीर्य छोड़ दिया और मुझे एक एक बूंद पीना पड़ा.

”ये मोर पंख से क्या करोगे?”बस देखती जाओ!”आआ गुदगुदी हो रही है… मत करो न!”उम्म्म्म स्स्स्स उईईइ आआआ स्स्स्स चूत में गुदगुदी मत करो, मैं तड़प रही हूँ. लेकिन वे बहुत ज्यादा प्यासी लग रही थी।किस करते करते मैं उसके बूब्स भी दबा रहा था। मैंने उनके चूतड़ों पर एक दो थप्पड़ भी जड़ दिए तो वे आआ आहह हहह … कर देती थी और हंसने लगती थी, फिर किस करना चालू कर देती थी. सुमन कुछ कहती, उससे पहले ही गुलशन जी ने हाथ टी-शर्ट में डाल दिया और सीधे सुमन के नंगे मम्मों पे लगा दिया.

अगर कोई और भी इन्हें देख भी ले तो भी कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि चूत का क्लोजप देख के कोई चूत वाली की पहचान कोई नहीं कर सकता. मैंने देर न करते हुए उसकी चूत में जीभ डाल दी और अंदर तक जीभ को ले जाकर अंदर बाहर करने लगा, ऋतु कामुकता वश पागलों जैसे मचलने लगी, उसने दोनों टाँगों के बीच में मेरे सर को कस लिया. मैं बोला- तुम्हारे घर के सब लोग कहाँ गये?तो बोली- भैया की तबियत खराब हुई रात में, तो मम्मी अस्पताल गयी हैं, भाभी है बस, वो तो दूसरे रूम में सो रही हैं.

फिर मैंने धीरे से अपने पैरों से पेटीकोट ऊपर को किया और हल्के से बार-बार टच करने लगा.

करीब 20 मिनट बाद मैं झड़ने वाला था तो मैंने पूरा मुठ उसकी चुत में ही छोड़ दिया. मैं उनकी चूत को चूसते चूसते इस तरह हो गया कि 69 पोजीशन में आ गया अब उनका जादू शुरू हो गया।उन्होंने मेरे लंड को पहले सहलाया, उसके बाद उस पर पता नहीं कुछ लगाया, शायद शहद ही होगा. उस दिन मैंने बहुत ही एन्जॉय किया था; इतना कि मैं यहाँ आपको बता नहीं सकती हूँ.

चाची ने चूतड़ उठा कर लंड को चूत से बाहर निकालने की कोशिश की, पर मैंने एक हाथ से उनके चूतड़ को नीचे दबाया और तीसरे झटके में अपना पूरा लंड उनकी चूत में उतार दिया. बस फिर क्या था… वो समय आ चुका था, जिसका मुझे बहुत दिनों से इंतजार था. फिर उन्होंने मुझे कहा कि वो आज के इस दिन को एक यादगार दिन बना कर जीना चाहती है और हमारे पहले मिलन को हमेशा याद रखना चाहती है.

इधर मस्त सेक्सी रजनी को अपनी बाँहों में पाकर मेरा काला नाग फन फेलाने लगा.

मेरी इंडियन चुदाई कहानी पर अपने विचार भेजें![emailprotected]मेरी और मेरी सहेली की चुत की कामुकता-2. बस की लाइटें दोबारा बंद हो चुकी थीं और सब लोग सफर के आखिरी पड़ाव में झपकी लेने की मुद्रा में चले गए थे.

हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर तो मैं थोड़ा मोटा बैंगन ले आई और उसे चुत में डालने की कोशिश करने लगी. नताशा के मीठे थूक से खूब सन चुके अपने भयानक लंड को उसने कुछ देर बाद बाहर निकाला, तो वो चमक मार रहा था.

हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर एक दिन भाभी मुझसे पूछने लगीं- कोई जीएफ है क्या?मैंने ना कर दिया तो वो कहने लगीं- तुम इतने स्मार्ट हो, तुम्हारी जीएफ तो होनी चाहिए. कुछ ही देर में चाची की चुत ने पानी फेंक दिया और वे मुझसे रुकने को कहने लगीं.

वो मेरा लंड मुंह में लिए मचल उठी।दूसरी तरफ ऋतु की चूत पर नया मुंह लगने की वजह से वो कुछ ज्यादा ही गर्म हो चुकी थी और उसने अपने पैरों से सन्नी की गर्दन के चारों तरफ फंदा बना डाला था और अपनी चूत उससे चुसवाने में लगी हुई थी.

मेवात सेक्सी

बोलो? फिर क्यों तुम हमेशा मुझे टेढ़े जबाव देती हो?अनिता- अरे मेरे राजा को बुरा लगा. हमने थ्री सम चुदाई का तय किया, दिन फिक्स किया और मिलने का प्रोग्राम बना लिया. थोड़ी देर बाद वो उठा, मेरे कपड़े ठीक किए और मेरे चेहरे के पास खड़ा हो गया.

थोड़ी देर बाद मैंने मेरी बैग से सिगरेट का बॉक्स निकाला और एक सिगरेट होटों के बीच फंसा ली. आज हम एक खेल खेलेंगे, तुम बस अंधे बने रहो और हम ऐसे ही मज़ा करेंगे. सुमन- दीदी उस रात ये सोया था मगर अभी ये जगा है मुझे थोड़ा अजीब लग रहा है.

कुछ तो हुआ होगा? तू खुलकर मुझे बता ना!सुमन ने बताया वो एक बार नहा रही थी तब नीचे साबुन लगाते टाइम ग़लती से उसकी उंगली अन्दर चली गई तो बहुत दर्द हुआ था.

थोड़ी देर बाद मैं चुपचाप टायलेट से निकला और अपने कमरे में दौड़ गया. फिर उन्होंने मुझे सेक्सी बुक्स पढ़वाई और कुछ वीडियो हम सभी ने वीसीआर पे देखे. सुमन बाहर खड़ी बहुत घबरा रही थी, उसे लगा कि कोई उसे ऐसे देखेगा तो क्या सोचेगा, तभी टीना बाहर आ गई.

और वो जोर जोर से चिल्लाने लगी- ‘उईईइ आईईई अह्ह्ह… सी सी सी बस चुद गई… चुद गई… चोद दिया… फाड़ दी मेरी फुद्दी सालों तुमने. ‘अब कैसे बतायें बहुरिया, ऊ जो पंडित रामफल है न? ऊ बताई रहे थे कि बैल का बिज़नस में है न संकट मंडरा रहा है, उसके लिए उपाय करने के लिए बोले हैं. ‘मादरचोद, आराम से चोद उस साली से बोल पूरे गाँव से नहीं चुद रही है, जो इतना आवाज कर रही है.

थोड़ी देर में मेघा का कॉल आया, मैं काटने के बहाने उसका कॉल ऑन करके उसको हमारी चुदाई सुनवाने लगा. वो पानी की बोतल लेकर मेरे पास आई और धीरे से बोली- सर, आपके लिए बोतल यहीं रख दूँ?मैंने सोने का नाटक करते हुए उसे कोई जवाब नहीं दिया.

कुछ कदम चलने के बाद मैं सरिता के पीछे आ गया ताकि दो कदम पीछे से उसकी मटकती गांड देख सकूँ. अब मनीष ने नीचे लेट कर मेरी चूत में अपना लंड सरकाया और यश ने पीछे से बिना कोई वार्निंग ‘आअह्ह मेरी रांड… आआह्ह्ह… ले’ कह कर एक ही झटके में जड़ तक लंड अंदर कर दिया. सुमन ने कहा- वैसे तो हमें किरायेदार की जरुरत नहीं है, परंतु यदि आप स्वीटी की स्टडी में मदद कर दें तो हम आपको कमरा दे सकते हैं.

योनि से तरल स्राव होने लगा, जिससे लिंग आराम से अन्दर बाहर हो रहा था.

तभी एक गीत बज पड़ता है ‘थोड़ा सा ठहरो, थोड़ा सा ठहरो, करती हूँ तुमसे वादा… पूरा होगा तुम्हारा इरादा… करती हूँ तुमसे वादा, पूरा होगा तुम्हारा इरादा, मैं हूँ सारी की सारी तुम्हारीफिर काहे को जल्दी करो. मैंने कहा- चंद्रा भाभी, कहां से आ रही हैं?भाभी- बस आंगनबाड़ी से, हम बच्चों वालियों की तो यही ड्यूटी रह गई है. तुझे भी गिफ्ट्स मिलेंगे और मुझे भी न्यौछावर मिलेगी आखिर नाई हूँ ना और हो सकता है मोहल्ले की लेडीज अपनी अपनी पिंकी का मुंडन करवाने मुझे ही बुला लें.

क्या कातिलाना मुस्कान थी वो… उस मुस्कान के साथ वह जवान लौंडा और भी कामुक लग रहा था. उसकी सांसों से बहुत ही मधुर सुगंध आ रही थी… वह कामदेव की पत्नी रति लग रही थी.

तभी मैं चाह रहा था कि कोई माल जो इस अन्तर्वासना साईट की पाठिका हो या कहानी भेजने वाली हो, वो मुझसे चुदने के लिए बोले और मैं जा कर उसे दबा दबा कर चोदूं. इस बार वह अपनी आवाज रोक ना पाई ‘आअह्ह्ह्ह ह्ह्ह्ह माँ, धीरे डालो थोड़ा… अह्ह्ह्ह!’लेकिन मैं तो चाहता था कि वह कुतिया की तरह चीखे ताकि उसका बेटा ऊपर सुन सके किउसकी माँ कैसे चुद रही है. वीडियो देखते समय अचानक उत्तेजना से मैंने भी बैंगन को जोर से धक्का लगा दिया, तो लगभग 8 से 10 सेंटीमीटर बैंगन मेरी चुत में घुस गया.

सेक्सी हिंदी भोजपुरी गाना

तो मैं बैठ कर उसका सोता हुआ मासूम चेहरा तब तक देखता रहा, जब तक वो जाग नहीं गई।उस दिन मैंने और उसने ऑफिस से छुट्टी ले कर पूरा दिन घूमा, शॉपिंग की.

इस दौरान मैंने उससे और भी बातें की, और थोड़ी देर चुदाई करने के बाद मुझे थोड़ी सांस चढ़ी तो मैंने उसको ऊपर आने को कहा. मैंने पूछा- वैशाली क्या तेरे घऱ पर कोई नहीं है?तो बोली- हाँ सब लोग शादी के लिए गाँव गए हैं, मैं अकेली हूँ. लंड खड़ा हो गया तो उसने मुँह में ले लिया।वह अपने बड़े भाई की तरह पुराना खिलाड़ी था। उसका माफी माँगना तो बहाना था। वह बड़ी जोरदारी से लंड चूस रहा था। फिर उसने मुँह में से लंड निकाल दिया और मेरी तरफ देखने लगा। पर उसे हाथ से पकड़े था.

लेकिन मेरा नहीं निकला तो मैंने उससे कहा- मेरा अभी तक नहीं निकला है. मेरी इस बात पर अंकल ने कहा- ठीक है, एक डेढ़ महीने के अंदर भेज दूँगा. सनी लियोन जबरदस्तीमैंने कहा- ठीक है, मगर ये जाना कहां चाहती है घूमने के लिये, एक बार इससे पूछ तो लो?तभी उसकी बहन ने कहा- मैंने बहुत दिनों से मूवी नहीं देखी है.

तभी यश ने मेरे मुँह में अपना लंड घुसा कर जोर जोर से आगे पीछे करने लगा, वो मेरी मुँह की ऐसी चुदाई कर रहा था जैसे वो मेरी मुँह नहीं चूत हो. ऋतु और पूजा ने देखा कि मैं रूम में पहुंचकर नंगा हो गया हूँ और मेरा लंड खड़ा हुआ है.

अब मैं उसके पेट पर किस करने लगा और धीरे से सलवार का नाड़ा भी खोल दिया. फोन कनेक्ट होते ही- हां अदिति बेटा सुन, मैंने इनसे कह दिया है तेरे यहां जाने के लिए. सुमन- पापा पहले आप कपड़े तो बदल लो, ऐसे पैन्ट पहन कर काम करोगे क्या?गुलशन जी को लगा सुमन सही बोल रही है और वैसे भी उनका इरादा उसके मज़े लेने का था तो पैन्ट में मज़ा नहीं आता, इसलिए वो अन्दर गए और सिर्फ़ लुंगी और बनियान पहन कर आ गए, उसके बाद बाथरूम का लॉक लगा दिया.

बस एक बार शुरू हुए नहीं कि फिर सब जान-पहचान हो जाएगी और अतुल की टेंशन मत लो, उसको भी साथ ही लेंगे यार. इस पर कविता बोली- चलो, मैं अंदर कर लेती हूँ, बच्चा पैदा करके तुम्हें दे दूँगी. दो भरे भरे अमृत कलश मेरे सामने थे, एल ई डी बल्ब की तेज रोशनी में उसके मम्में दमक उठे.

उधर रोहित खाने की टेबल पर बैठा हुआ सविता भाभी के बड़े-बड़े मम्मों को घूरते हुए सोच रहा था कि सविता की जवानी तो और भी अधिक कामुक हो गई है, इसके चूचियां तो शादी के बाद और फूल गई हैं, काश इनको चूसने का मौका मिल जाए.

रोहन ने मुझसे कहा- अंजलि, तुम हमारी मॉडल को बुला कर उसे सब समझा दो. तो सुमन भाभी ने कहा- यार सैम तुम्हारा बहुत बड़ा और मोटा है, मेरे मुँह में नहीं जाएगा.

मुझे उस पर भरोसा नहीं था इसलिए अपने हाथ से मैंने उसका मुँह दबाकर रखा और एक झटके में ही अपने लंड को उसकी चुत के अन्दर डाल दिया. इसी बीच मेरी चुत ने भरभरा कर पानी छोड़ दिया। अब मेरी टाँगें काम्पनी शुरू हुई. बात उस समय की है, जब मैं नागपुर में सन 2007 में अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा था.

उनके बीच वो मर्यादा का परदा अभी भी था और टीना को तो सुमन ने अभी तक कुछ बताया भी नहीं था. फिर थोड़ी देर तक ऑफिस की बातें करने के बाद उसकी बीवी और चाचा की लड़की रजनी ने खाना लगाया, हम सबने साथ बैठ कर डाइनिंग टेबल पर खाना खाया. अब मैंने उसके एक चूचे को अपने मुँह में भर लिया और चूसने लगा और एक हाथ से उसके दूसरे चूचे को पकड़ कर दबाने और मसलने लगा.

हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर ! मैं रोती रही, चिल्लाती रही, मगर पूरी रात उसने मेरी चुत को चोद-चोद के सुजा दिया था. उसके सामने वाली बर्थ पर एक ताजा ताजा जवान हुई छोरी थी जो किसी मोटी किताब के पन्ने पलट रही थी और एक नोटबुक में कुछ लिखती भी जा रही थी साथ में बार बार अपना मोबाइल भी चेक करती जाती, शायद उसका कल कोई एग्जाम था जिसकी तैयारी में थी.

देसी एक्स वीडियो सेक्सी

आपकी बीवी तो आपसे बहुत खुश रहेगी।फिर मैंने उसके मुँह में जीभ डालकर उसको फ्रेंच किस किया।उसने कहा- चलो अब बहुत हुआ. इसके साइड इफेक्ट नहीं होते और ज्यादा असरदार भी होते हैं, लेकिन इसे सेक्स करने के दो तीन दिन पहले से नियमित लेते रहना पड़ता है, जैसे कि मैंने लिया था. ?‘हाँ बस एक मिनट में।’मैं नहा कर बाथरूम से निकला तो टॅावेल लपेटे था.

मम्मी और बुआ मान गईं, फिर 5 मिनट में रूपा के घर जाने से पहले मैंने उसे गर्म करने के लिए कहा- आज मेरे दोस्त ने एक नई फिल्म फोन में भरवाई है, मैंने तो नहीं देखी, तू देखेगी? शायद कोई एक्शन वाली फिल्म होगी. मैंने उसे टेबल शेयर करने की इजाजत दे दी, मेरा धन्यवाद करते हुए वह बैठ गया. क्ष्क्ष्क्स photoमैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कन्धों पर उठा लिया और उसकी पकोड़ा सी चूत पर मेरे हथोड़े से वार करता रहा.

मैं हर वक़्त मौका देखता जब माँ आस पास न होती तो मैं झट से भाग कर जाता और मौसी के साथ लिपट जाता, कभी उसको होंठों पे चूमता, उसके बोबे दबाता, उस से गंदी गंदी बातें करता.

रात को देर से आना, ड्रिंक्स लेना और सो जाना, यही मेरी लाइफ बन चुकी थी. तब वो चोदू अंदाज़ में बोला- मुझे लंड चुसवाने में मजा नहीं आता, चोदने में ही मजा आता है… गांड में लंड पेलूँगा मैं तो!मैं गांड नहीं मरवाता हूँ, इसलिए मैंने मना कर दिया कि मैं गांड में नहीं लूंगा… मुख में चाहे जितना चोद लेना.

वो कुछ देर बाद जब भाभी वापिस ठीक हुईं तो मैंने अपना पूरा लंड भाभी की चुत में पेल दिया. वह सुन्दर, थोड़ी सांवली और उसकी उम्र होगी यही कोई 19 साल… उसका बदन भरा पूरा था, उसकी आँखों में हमेशा कुछ खुराफात सी करने की ललक सी दिखती थी. गुलशन- फ्लॉरा डियर, मैं जान गया कि सेक्स की तलब हम दोनों को बराबर लगी है अगर तुम्हें ऐतराज न हो तो मैं अपना अजगर तुम्हारे बिल में घुसा सकता हूँ, इससे हम दोनों की प्यास मिट जाएगी.

मैं गेट खोलने के बाद उन्हें डांटने लगी कि धूप में खेलने मत जाया करो, बीमार हो जाओगे.

मैं आँख खोल कर उसे देखना चाहती थी, पर उसे समझ नहीं आना चाहिए था कि मैं जाग रही हूँ. चाची के साथ होम सेक्स की कहानी में इतना ही दोस्तों, मैंने और भी कई औरतों और लड़कियों को चोदा, पर वो सब अगली कहानी में बताउंगा. अब आगे:बहूरानी ने नीचे आकर मेरे हाथ से बैग और सामान का थैला ले लिया, पापा जी, अन्दर चलिये” वो बोली.

आलिया भट सेक्सी व्हिडिओमेरी कहानीकॉलेज गर्ल की चुदाई की कहानी हिंदी मेंको पढ़कर किसी पाठिका ने यह कहानी भेजी है, आप भी पढ़ें और आनन्द लें!मंजू शर्मामेरा नाम साबिया है. रमेश ने सरिता की पैंटी को उतार कर उसे नंगी कर दिया और अपना लुंगी खोल कर उसके हाथ को लंड पर रख दिया.

दीदी की सेक्सी कहानी

अब तक इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि बरखा और अतुल के घर आ जाने से फ्लॉरा और टीना ने उनको भी ग्रुप सेक्स के लिए अपने जाल में फंसाने की कोशिश शुरू कर दी थी. गुलशन जी वहां से चले गए और दुकान से अपना काम निपटा कर वो घर चले गए. 5 से 7 मिनट तक मेरी गांड मारने के बाद मामा जी रुक गये और लंड मेरी गांड से निकाल लिया.

किचन में जमीला ने पालक-पनीर की सब्जी बनाई और दाल मखनी, राइस पुलाव…मैंने कहा- चपाती बाद में बना लेंगे, पहले कुछ मस्ती हो जाये! खाने के समय गर्म गर्म रोटी बना लेना. वो धीरे से बिस्तर पर बैठ गए और सुमन की टी-शर्ट को पूरा ऊपर कर दिया. फिर वो रेडी हुई और टीना से मिलने जाने लगी, तभी हेमा ने उसको रोक लिया.

गुलशन जी वहां से चले गए और दुकान से अपना काम निपटा कर वो घर चले गए. मुझे ज्यादा इन्तजार नहीं करना पड़ा, करीब पंद्रह मिनट में ही वो धीरे से मेरे कमरे का दरवाजा खोल कर अन्दर आ गई और मुझे अपना लंड हिलाते हुए देखकर चहक कर बोली- वाह. वो ढीली हो गई थी, मैं उसे जोर-जोर से चोदने लगा और कुछ मिनट बाद मैं उसकी चुत में झड़ने को हो गया.

यहाँ मैं आपको थोड़ा रुक कर नताशा के एक शानदार जिमनास्ट होने के बारे में बताना चाहूँगा… मेरी पत्नी बचपन से ही जिम्नास्टिक की खिलाड़िन रही है और स्कूल में पढ़ते हुए उसने जिम्नास्टिक में पारंगता हासिल कर ली है. घर में घुसते ही उसने दरवाजा बंद किया और किसी वहशी की तरह मुझे पकड़कर दीवार से सटा दिया। वो मुझे पागलों की तरह किस किये जा रहा था और मैं उसे!पलक झपकते झपकते हमने एक दूसरे के कपड़े नोच लिए मगर जैसे ही मेरी नजर उसके लंड पे पड़ी मेरी तो सांस ही अटक गई.

अब तक की बहन की चुदाई की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि रात को जॉन ने फ्लॉरा को नशे की गोली देकर सुला दिया और उसके नंगे शरीर खूब मसला पर चोद नहीं पाया.

com/chachi-ki-chudai/chachi-ki-kali-choot/चाची की चुत में बहुत ही ज़बरदस्त खिंचाव हुआ! उन्होंने मेरे लौड़े को जकड़ कर जब अंदर की ओर खींचा, तब मुझे ऐसा लगा कि मेरा लौड़ा टूट कर उसकी चुत में ही घुस जाएगा. हिंदी बफ स्टेटसउनका ऐसा उन्मुक्त लाइफ स्टाइल देखकर हमारी चुत में धीरे धीरे आग लग रही थी. सेक्सी 69ऐसा लग रहा था कि जैसे वे मुझे अपनी चूत में समा लेना चाह रही हों।उसके बाद उन्होंने मुझे कहा- यार … अब बर्दाश्त नहीं होता. मैंने उसे नीचे उतारा और धीरे से उसके कान में कहा- वैशाली तुम सचमुच हुस्न परी हो, बहुत सुन्दर और बेहद सेक्सी हो.

अब भी जब भी अवसर मिलता है, हम दोनों डो जिस्म से एक जिस्म हो जाते हैं.

मेरा निकाह 22 साल की उम्र में ही हो गया था और वो भी मुझसे 10 साल बड़े आदमी से. उसने एक हाथ से अपने स्तनों को छुपाया और दूसरा हाथ अपनी चिकनी चूत पे हाथ रख के उसे छुपाने लगी. स्मृति की जोर की चीख निकली किन्तु मैं पहले ही सावधान था, जैसे ही चीखने के लिये उसका मुँह खुला, मैंने अपने एक हाथ से उसका मुँह बन्द कर दिया और उसकी चीख गले में दब कर रह गई.

यश ने मेरा हाथ अपने लंड पे रखवाया और वो खुद मेरे निप्पल उमेठने लगा. क्या रसभरे होंठ थे… मैंने भी भाभी के होंठों को चूमने में कोई कसर नहीं छोड़ी. बात उस समय की है, जब मैं नागपुर में सन 2007 में अपनी ग्रेजुएशन की पढ़ाई कर रहा था.

राजस्थान सेक्सी वीडियो सेक्सी वीडियो

बहुत कोशिश करने के बाद मैं किसी तरह से मामा की बाहों से निकल पाई और भाग कर किचन चली गयी और ज़ोर से बोली- आप रूम में बैठो, मैं चाय बना कर लाती हूँ. मगर सबसे बड़ी बात थी कि वे सारे के सारे नंगे थे, कोई शर्म हया नाम की चीज नहीं थी. देखना आज तो कॉलेज में तेरा ये रूप देख कर एक-दो लड़के बेहोश हो जाएँगे.

इस ऑडियो में लड़के ने लड़की से पूछा कि लड़की को किस तरीके से, किस पोज में ज्यादा मजा आता है.

फिर तुम मम्मों को छोड़ कर मेरी चुत में अपने मुँह को लेकर चले गए और अपनी जुबान से मेरी चुत को प्यार करने लगे.

जमाई ने ओके बोल कर धीरे-धीरे करके अपना लंड सास की चूत से बाहर तक खींचा और फिर एक धक्का दे दिया. लेकिन मैंने उसको प्यार से डांट लगाते हुए चुप करवा दिया और पीठ के बल लेटा दिया, फिर उसकी कमर की मालिश करने लगा. सेक्सी पिसातुरे मराठीमैंने उससे पूछा कि क्या तुम सच में मेरे साथ सेक्स करना पसंद करोगी?तो वो बोली- हाँ जालिम.

लेकिन तुम्हारा लंड अन्दर नहीं जा सका, तब तुमने मेरी गांड में तेल लगाया और फिर एक जोर का झटका मारा तो तुम्हारा थोड़ा सा लंड मेरी गांड के अन्दर चला गया. फिर उसने म्यूजिक सिस्टम चालू किया और एक इंग्लिश गाना लगाकर मुझसे डांस करने को बोला. 10 साल पहले तो कोई मजबूरी थी मेरी, आपको फिर कभी बताऊँगी, उस वजह से मजबूरी में किया था, उसको मैं नहीं गिनती.

शाम को एक छोटी सी पार्टी का प्रोग्राम रखा गया, जिसमें कहा गया कि जो कोई भी कुछ भी कहानी, कविता, चुटकुले, शेर, ग़जल या गाना कुछ भी सुनाना चाहे सुना दे. यह कोई मनघड़न्त कहानी नहीं, एक रियल सेक्स स्टोरी है, जो आज से दो महीने पहले घटी थी.

पूजा को बहुत मजा आ रहा था वो जोर जोर से सिसकारियां भर रही थी- मेरी गांड के उंगली घुसा दी माँ के लौड़े… लंड तो तेरा खड़ा होता नहीं मादर चोद… साले तू भी अपनी गांड मरवा ले सुमीत से…तभी पूजा ने कामुकता के जोश में मुझे अपने पास बुलाया और मेरा लंड अपने मुख में लेकर चूसने लगी.

‘हाँ तो दोस्तो… कैसी लगी मेरी वाइफ! है गज़ब? पसंद है आप लोगों को? आज हम तीनों लोगों को ये अपने अन्दर लेगी!! आप तैयार हैं?’ मैंने नारा सा लगाते हुए कहा. मैंने स्कूटर को खड़ा किया और पास ही एक अधूरे बने मकान के अंदर उसे ले गया. मैं भी लगातार उसकी चूत और क्लिटोरियस को जीभ और अपने होठों से चूसे जा रहा था.

सेक्सी 2013 ‘वाओ!… शानदार चूत है मेरी जान की… और न सिर्फ चूत… बल्कि गांड भी!! अगर तुम कहो तो मैं तुम्हारी गांड को थोड़ा रवां कर दूँ हमारे दोस्तों के मोटे लंडों के लिए!!!’ मैंने अपनी बीवी की राय जानने को पूछा. ‘है न शानदार मेरी वाइफ… देखा, कितनी मस्त सकिंग करती है!’ मैंने दोस्तों के सामने शेखी बघारी.

जब पेशाब आया तो उसकी धार बहुत दूर जा कर गिरी, जिससे वह मन ही मन मुस्कराई. उसके बाद मैं उसके होंठों को अपने होंठों से लगा कर चूसने लगा… धीरे-धीरे वो भी मज़ा लेने लगी. मेरे रूममेट सुकांत ने फाइनल परीक्षा दी। अब हम रूममेट नहीं थे मुझे एक दूसरे हॉस्टल में सिगंल रूम मिल गया। यह प्रोबेशन पीरियड भी बस पूरा होने वाला था।जनवरी का महीना था.

सेक्सी फिल्म एनिमल

फिर उनकी साड़ी के पल्लू को पकड़ उनकी पूरी साड़ी को एक ही बार में उतार दिया. फिर मैं गांड को झटके के साथ ऊपर नीचे करने लगी, मामा भी अपने हाथ का सहारा देने लगे, मैं सर को ऊपर की करके आनन्द लेने लगी, कहीं खो सी गयी, गांड के अंदर हलचल होने के वजह से बीच बीच मेरी चूत से गर्म सू सू निकल जाती थी जो मामा जी जाँघ को गीली कर रही थी. मैं- और तुम उससे कितना चार्ज करोगी?ऋतु- वो ही… एक हजार रूपए… ठीक है ना?मैं- ठीक है.

‘वो कहते हैं न संगत का असर तो किसी पर भी होता है, धीरे धीरे मुझ पर भी प्रिया की सांगत का असर होने लगा और मैं भी अब रात को न्यूड सोने लगी थी. करीब 5 बजे गोपाल रेडी होकर निकल गया तब मोना ने अपनी फ्रेंड मीना को कॉल किया और उसे घर आने को कहा.

कुछ देर बाद मैंने अपने लंड पर तेल लगाया और उसकी गांड के छेद पर भी मला.

पण्डित जी ने उठकर कमरे की लाईट जला दी, उन्होंने मेरी ओर देखा और फिर मंत्रमुग्ध से मेरे बदन को निहारते रहे. गांड कितनी बार भी मरवा लो लेकिन गांड मरवाने में हर बार बहुत दर्द होता है. हम एक कार्नर में बैठ गए और मैंने दो डोसे आर्डर किये और उससे पहले कुछ स्टार्टर का आर्डर किया.

फिर जीजाजी रुक गये और बोले- अनु, बच्चे के कारण तुम्हारी चूत थोड़ी फैल गयी है, मुझे मज़ा नहीं आ रहा है. रिया ने कहीं से जुगाड़ करके सुला रासा की वाइन मंगाई थी और हम दोनों सोफे पे पसर के उस बेहतरीन वाइन की चुस्कियां ले रही थी. ऐसे ही बोलती रहेगी क्या?सुमन- अच्छा अच्छा सो रही हूँ मगर अबकी बार आपको खुजली हो, तो मुझे बता देना.

मैं मज़ाक-मज़ाक में कभी उसके संतरों को छू लेता तो वो नाराज़ हो जाती.

हिंदी में बीएफ सेक्सी ब्लू पिक्चर: इतना कहकर फ्लॉरा अलग हुई और अतुल के लोवर से लंड को बाहर निकालने लगी. यों ही बात करते-करते अब मेरे और सरिता के विचार क्लियर हो चुके थे एक दूसरे के लिए, हम दोनों ही हवस में पागल थे, बस मौका ढूंढ रहे थे एक दूसरे को पा लेने का और वह मौका मिला मुझे रात के खाने के बाद.

जब मैं और मेरी मम्मी वहाँ पहुंचे तो अंकल और आंटी हम लोगों को देख कर बहुत खुश हुए, मैं सब से मिला. ‘बिना कपड़ों के मतलब न्यूड, तिवारी जी,’ अनीता अच्छी तरह समझाते हुए बोली. मालूम है ना कि किसी लंड से कोरी चूत तक नहीं फटती, फिर आपकी तो बच्चे तक जन्म चुकी है.

यह बात गर्मी के दिनों की है, जब मेरे शौहर काम के सिलसिले में आउट ऑफ कंट्री गए हुए थे, उस समय बच्चों के छुट्टियां चल रही थीं, इसलिए घर में मैं, मेरा लगभग जवान हो चुका बेटा और उससे छोटी बेटी घर में अकेले थे.

कुछ मिनट बाद सुरेश ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और मेरी चूत में जोर से पिचकारी मार कर अपने वीर्य से मेरी चुत को गीला किया. सब के सब फिर पूल में दाखिल हुए और वहाँ चुदाई का एक और आखरी दौर चला!जब हम दोनों ने तैयार होकर चलने की सोची तो लड़कों के चहरे पे ऐसे भाव थे कि उनकी पसंदीदा चीज कोई उनसे दूर ले जा रहा था. बाथरूम में मैंने चुत को अच्छे से धोया ताकि रात मैं अच्छे से अपनी चुत चटवा सकूँ.