बीएफ चुदाई पंजाबी

छवि स्रोत,देसी सेक्सी वीडियो दिखाएं

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्स बीएफ चुदाई चुदाई: बीएफ चुदाई पंजाबी, अनिता- आराम से करना, आपका लंड बहुत बड़ा है… कहीं मेरी छोटी सी चुत फट ना जाए.

bhai चुदाई

सबसे अजीब बात थी कि सिंसिअर सी रहने वाली लड़की आज इस रूप में?उस दिन मुझे पता चला कि लड़की का सामान्य व्यव्हार और सेक्स की फंतासी दोनों में बहुत अंतर भी हो सकता है. सेक्सी भाभी की सेक्सीउनके हाथ में चोट आई थी और बच्चा भी रो रहा था।मैंने उन्हें उठाकर हमारे घर के सामने बिठाया तो उन्होंने कहा- क्या आप मुझे मेरे घर छोड़ सकते हैं?तो मैंने उनसे ‘हाँ’ बोल दिया.

और जैसे उसने कहा था, मैं प्लेटफोर्म से बाहर निकला और एक खाली ऑटो वाले से स्नेहा की बात कराई और बैठ कर निकल लिया. হানিমুন সেক্সउसने जल्दी से हाथ बाहर निकाला- छी:… जीजू ये क्या है अपने मेरे हाथ पर ये क्या कर दिया.

इसी के साथ एंड्रयू ने अपना लंड स्वान द्वारा खाली की गई गांड में घुसेड़ दिया.बीएफ चुदाई पंजाबी: रात को ऋषिका ने फेसबुक पर रयान की प्रोफाइल और उसके परिवार को देखा, उसे वो लोग भले लोग लगे.

सुपर मॉडल अक्षिमा जैसी लड़की साथ होते हुए भी मुझे उसके प्रति कोई सेक्स या गलत भावना नहीं आई, शायद यह उस दोस्ती का ही असर था.ऋषिका का शरीर सख्त हो गया और उसने भी रयान के पैरों को अपनी टांगों से दबोच लिया.

सेक्सी पोर्न वीडियो दिखाइए - बीएफ चुदाई पंजाबी

तो मैंने थोड़ी देर में हाथ भी रख दिया और दबा भी दिया।इस बार उन्होंने थोड़ा सा आह किया और मुझे किस करके खुद से और ज्यादा जोर से चिपका लिया।मैं ऐसे ही पूरी रात उनके चूचों पे हाथ रखके सोता रहा.मैंने मौसी से कहा- ये क्या किया मौसी, आपने तो मेरे खून ही निकाल दिया.

बॉस ने अपने सारे कपड़े फटाफट उतार फेंके और मेरे सिरहाने आकर मेरे गालों पर अपना गरमागरम लंड फिराने लगा. बीएफ चुदाई पंजाबी अब अनिता का दर्द कम हो गया और फिर से वो उत्तेजित हो गई… उसकी चुत में खुजली होने लगी.

रिया ने पीछे मुड़कर कहा- आज मैं तुम्हें जी भर के व्हिस्की पिलाऊंगी!और ऐसा कह कर बोतल का ढक्कन खोल कर उसने व्हिस्की के साथ बोतल का मुँह मेरी चूत में पूरी ताकत के साथ घुसेड़ दिया.

बीएफ चुदाई पंजाबी?

मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और जब मैं झड़ने वाला था तो थोड़ा सा घूम कर अलमारी की तरफ हो गया और खड़े होकर अपनी धारें मारनी शुरू कर दी. अब उस दूध वाले की और उसके दोस्त के साथ तबेले में रंगरेलियां कैसे मनाईं. मैं भी नीचे खड़ा हो कर उसे पेलने लगा और जबरदस्त चुदाई से उसने अपनी चूचियों को दीवान पर लगा दिया और गांड ऊपर उठा दी ताकी लंड की ठोक अंदर तक लग सके.

इस बार चुदाई इतनी तेज थी कि मैं दो बार झड़ चुकी थी तब मुरुगन का लंड फटने को हुआ. पानी में भीगने के कारण उसके गीले कच्छे में उसका लंबा मोटा लंड दाएं से बाएं और बाएं से दाएं डोलता हुआ अगल से दिखाई दे रहा था. आज पूजा की बुर की खुजली मिटाने के लिए संजय ने कॉलेज जाना कैंसिल किया है.

कितनी कोशिश कर ली, नींद आ ही नहीं रही है, बदन में जगह-जगह खुजली सी हो रही है, पता नहीं क्यों?टीना- ऐसा क्या हो गया तुझे. मॉंटी की आवाज़ से दोनों उठ गईं और टीना उसे हैरानी से देखने लगी कि आज ये कैसा चमत्कार हो गया था मॉंटी अपने आप कैसे उठ गया?टीना- ये मैं क्या देख रही हूँ मॉंटी तू अपने आप उठ गया. अनिता- आह… आ पापा आह… चोदो आह अब मज़ा आने लगा आह… चोदो अपनी सौतेली बेटी को… आह… आ आह.

’ कहा।विक्की की नज़रें बस उसके मम्मों पर थीं, जो टी-शर्ट फाड़ कर बाहर आने को बेताब थे।अजय- कॉलेज के नियम पता है ना. ’ मैंने चूस-चूस कर उसके लौड़े को लाल लाल कर दिया।फिर उसने कहा- अरे भाभी आराम से चूसो.

दोनों का खेल शुरू हो गया जॉन किसी ना किसी बहाने फ्लॉरा के मम्मों को टच करने लगा, कभी उसके ऊपर आ जाता और अपने लंड को उसकी चुत पे रगड़ देता.

फिर ऋतु ने पूजा की तरफ देखते हुए कहा- पूजा, जरा दिखाओ तो इनको कि ये कितना मजा देता है.

तभी स्वान नेगोरी की गांडसे लंड बाहर निकाल कर उसके मुंह में जाने की इच्छा जताई, और एंड्रयू ने दोस्त की इच्छा का सम्मान करते हुए अपना लंड मेरी वाइफ के मुंह से बाहर निकाल लिया. मेरे पापा मम्मी को शायद इस बात की भनक पड़ गई और इसी चिंता को लेकर उन्होंने मेरी शादी करवा दी. तभी हमारे कानों में आवाज आयी- डू यू नीड एनी हेल्प लेडीज?हम दोनों एकदम से सकते में आ गयी, देखा तो पीटर अपने पैंट के ऊपर से अपना मूसल दबाते हुए हमारी तरफ देखकर मुस्कुरा रहा था.

कहाँ खो गए और ऐसे क्या देख रहे हो?मैंने कहा- भाभी, आप इतनी सुन्दर और सेक्सी लग रही हो कि मेरा मन कुछ और ही करने लगा था. अपने छोटू को बाहर मत निकालना मेरी जान!थोड़ी देर में मेरी और उसकी साथ में ही छूट होने लगी. उसने कीकू की स्कर्ट में हाथ डाल कर उसकी चड्डी उतार दी और मेरी तरफ फेंकी, मैंने वो चड्डी कैच की और अपने मुँह के पास ले जा कर सूंघी.

आबिदा ने बताया कि नदीम का लंड बहुत छोटा है, इतनी अंदर तक कभी गया ही नहीं जितना मेरा लंड उसकी चूत में गया.

मुझे एकगुदगुदाहट सी महसूस हो रही थी चूत के अंदर, मामा जी मेरी चूत के दाने को ऐसे अपनी ओर खींच रहे थे जैसे मेग्गी खा रहे हों. हम जैसे ही उठे तो देखा हमारे पास सुलेखा और मनोज भी हमें और अरमान को झड़ते हुए देखकर बर्दाश्त नहीं कर पाए, शायद सुलेखा ने भी मनोज का लंड अपने होंठों में लेकर झड़वा दिया था. और फिर दोनों मम्मी पापा के आने से पहले कपड़े पहन कर तैयार होकर पढ़ने बैठ गई.

फ्रंट के रूम में रिसेप्शनिस्ट, बीच के कमरे में डॉक्टर तथा डॉक्टर के पीछे वाले पोर्शन में एक आराम करने के लिए दीवान, दो चेयर तथा फ्रिज आदि रखे थे. मैं रात का इंतज़ार करने लगा।वो 11 बजे के आसपास आई, पर उसके साथ में कोई था। मैं चौंक गया ये तो वो थी. चूंकि हम दोनों ही बेहद थक चुके थे तो मुरुगन ने मुझे एक लार्ज पैग बना कर दिया और खुद भी नीट दारु से गिलास भर लिया.

क्या कर रहा है… ये सब नहीं प्लीज… नहीं… अब बस कर…’ पिंकी ने कहा और मगर उत्तेजना के मारे फिर से उसकी आँखें बंद हो गई।पिंकी की योनि काफी गीली हो रही थी, उस पर मेरा लिंग अपने आप ही फिसल रहा था और मैं अपने उत्तेजित लिंग को उसकी योनि के मुंहाने पर, तो कभी चुचूक पर बार बार रगड़ रहा था.

गुलशन ने अनीता को बांहों में भर लिया और उसके बाल खींच कर एक जोरदार किस किया. सुमन- अच्छा ये बात है तो क्या मैं इसे दोबारा चूस कर छोटा कर दूँ?मॉंटी- हाँ दीदी प्लीज़ ऐसा ही कर दो.

बीएफ चुदाई पंजाबी उत्तर में बड़े चाचा ने कहा- नहीं भईया, कल सुबह बच्चों को स्कूल भी जाना है. हाल का नजारा बहुत मनमोहक था, रूम फ्रेशनर से कमरा महका दिया गया था, एक कोने में ताजे गुलाब और गेंदे के फूलों का एक गुलदस्ता बना कर रखा हुआ था जिसमें से महक आ रही थी.

बीएफ चुदाई पंजाबी सुमित बोला- इनको देखो, साली इतनी सुंदर लड़की है और ये चूतिया इस सुंदर लड़की से लड़ रहा है. उसने इतनी ताक़त से मुझे बाहुपाश में बांधा हुआ था जैसे ज़िन्दगी में पहली बार कोई लड़की मिली हो.

मैंने रश्मि की दोनों टांगों को थोड़ा बाँहों में उठा कर उसे स्पीड से चोदना शुरू किया.

बीएफ वीडियो चुदाई वाली बीएफ

माफ़ कीजिये दोस्तो, अगर कहानी का लुत्फ़ लेना है तो थोड़ा तो सब्र करना ही पड़ेगा. आपको दर्द हुआ क्या?लंड थोड़ा सा सुमन की चूत के मुँह में गया होगा या शायद चूत की फांकों के बीच में टच हुआ होगा, मगर सुमन को दर्द बहुत हुआ और वो समझ गई कि चुदाई के टाइम कितना दर्द होता है. उन्होंने बोला- मैं कैसी लगती हूँ तुम्हें?मैंने तुरंत बोला- बहुत ही ज्यादा अच्छी और मैं आपको पसंद भी करता हूँ.

और उसने जल्दी से अपनी रिंग टीना को उतार कर दे दी।उधर टीना भी शातिर थी. मुझे इस काम में बड़ा मज़ा आया, मैं चुपचाप लेटा इस काम के मज़े लेता रहा. ये मेरी कहानियों की फैन थी जो आज मेरी बहुत ख़ास दोस्त बन चुकी है और हम एक साथ चुदाई और ग्रुप चुदाई बहुत बार कर चुके हैं.

तो फुल मेकअप किए हुए थीं। मुझसे रहा नहीं गया तो मैं मुठ मारने बाथरूम चला गया और वहां मुठ मारने लगा। जब वो बेडरूम जा रही थीं तो आंटी ने मुझे देख लिया।आंटी- विशाल ये क्या कर रहे हो?पहले तो मैं सकपका गया लेकिन फिर मैंने हिम्मत करके कह ही दिया- आंटी आप हो ही इतनी सुंदर.

बस स्टैंड के बाहर निकलकर बस की स्पीड तेज हो गई और दरवाजे बंद कर दिए गए. उसने खुद ही अपनी दोनों टाँगें खोली और मेरे लुल्ले को पकड़ कर अपनी दोनों टाँगों के बीच में रखा. सुमन- दीदी प्लीज़ बताओ ना आप पहली बार संजय सर से कैसे चुदी थीं?टीना- ये क्या सर सर लगा रखा है, अब संजय बोला कर.

उनके साथ नए-नए लंड भी आते हैं, जिस दिन मॉम-डैड की नाइट शिफ्ट होती है, उस दिन हमारी खूब चुदाई होती है।दोस्तो, मुझे उम्मीद है कि आपको इधर तक की सेक्स स्टोरी अच्छी लगी होगी। आगे की सेक्स स्टोरी भी जल्दी ही लिखूँगी कि मैं प्रेग्नेंट हो गई थी, उसके बाद क्या किया और बाहर कितने लंडों से मैं चुदी।तब तक मेल करके बताओ कि मेरी बुर की चुदाई की सेक्स स्टोरी कैसी लगी।[emailprotected]. मेरा ये सब करने का अब बिल्कुल मूड नहीं है और मुझे अभी बॉस के घर जाना होगा, कुछ दिनों की छुट्टी लेनी होगी।मोना- गोपाल तुम ये कैसी बातें कर रहे हो. जो मुझे आज रिलेक्स फील हुआ और मैं बिना किसी के जगाए जल्दी भी उठ गया?टीना- अरे कुछ नहीं किया.

फटाक से वो मेरे ऊपर आ गईं और मेरे लंड के ऊपर बैठ कर अपनी चुत में मेरा लंड सैट कर लिया। अब मामी थोड़ा सा झटका देने के साथ ही लंड का कुछ हिस्सा उनकी चुत के अन्दर चला गया। लंड घुसते ही उनकी चीख निकल पड़ी- ओह आ. मेरी लंबाई 5 फुट 7 इंच है।दोस्तो, ये घटना 2010 की है, मैं कम्पटीशन एग्जाम देने अम्बाला से दिल्ली जा रहा था। जब अम्बाला कैंट बस अड्डे से बस में बैठा तो रात के 11:30 हो रहे थे.

अब आप हो ही इतनी सुन्दर कि मेरा लंड तो आपको छूने के साथ ही पानी फेंक दे। फिर आपने तो कल इसको ऐसी लाजवाब चुसाई दी कि बेचारा पानी ही फेंकेगा ना!मोना- ठीक है. दोनों की पाव रोटी जैसी चूत पीछे को उभर आई और दोनों चूत एकदम क्लीन शेव और चिकनी. खिलाड़ी जो ठहरा।भाभी- तू कल रात को आ जा।मैं- दिमाग़ सड़ गया क्या? माँ-बापू आने देंगे मुझे?भाभी- तू बोलना कि तेरा दोस्त अकेला है और तुझे सोने के लिए बुलाया है। फिर पीछे के दरवाजे से तू मेरे पास आ जाना।मैं- आइडिया तो अच्छा है पर आज रात को क्यों नहीं?भाभी- आज तो तूने मुझे अभी ही थका दिया.

मगर आज वो घर पहुँचा तो उसकी मॉम और डैड जाग रहे थे जिन्हें देख कर संजय की हवा टाइट हो गई।वो सीधा अपने कमरे में चला गया। उसकी इतनी हिम्मत भी नहीं हुई कि वो कुछ पूछ सके क्योंकि वो कितना भी बिगड़ा हुआ क्यों ना हो.

वैसे उसके घर वालों से मेरी अच्छी बात हुआ करती थी और उसके पति से भी अच्छी बनती थी. मेरा हंसी के मारे बुरा हाल था, हरामज़ादी सुलेखा चाहती थी कि किसी भी सूरत में रीना घर पर न रुके, वर्ना उसकी वर्षों की चुदास कैसे बुझती. मेरे पूरे बदन में सिहरन सी दौड़ गई अपनी माँ की नंगी कमर को पकड़ने मात्र से!उस रात मैंने और ऋतु ने कुछ नहीं किया और सो गए.

उसका लंड और मेरी चूत दोनों काफी चिकने थे, तो 2-3 जोरदार धक्कों के बाद मेरी चूत में उसका पूरा लंड समा गया. छोटी लड़कियों के लिए उसका जुनून बढ़ता ही जा रहा था। कितनी भिखारिन लड़कियों को तो बहला कर लाता.

बीच में ही वह मेरे मदनमणि को अपने दांतों से हल्का सा काटती तो मेरी सिसकारी छूट जाती. यह देखते ही सुलेखा ने ताली बजाई और बोली- रवि को मेरे से तूने ही पास बुलाया था न, ले अब सबसे पहले कर दिया तुझे बेशर्म मेरे पार्टनर ने ही…और हंसने लगी तो रुचिका एक दम सुलेखा की तरफ भागी और बोली- अच्छा साली, तुझे मैं बताती हूँ!कह कर उसने मनोज की गोद में बैठी सुलेखा जिसकी ब्रा पहले ही मनोज ने खोल दी थी, की पैंटी में हाथ डाला और जोर से खींच कर उतार दिया. चलिए आज मैं ही चाय बनाता हूँ।मैं किचन में चला गया। मैं चाय बनाने को बर्तन गैस पर रखा और मैंने जानबूझ कर कटोरी अपने ऊपर गिराते हुए चिल्लाया। मुझे भी दर्द हो रहा था.

बीएफ सीसीसी

तभी एक दिन तरुण ने मुझे रास्ते में रोकते हुए बताया- भाई, तमन्ना मुझसे आपका नंबर ले गई है और बोल रही थी कि ‘प्लीज़ तरुण किसी को बताना मत!’मेरे तो मन में लड्डू फूट रहे थे।जैसे तैसे मैं घर पहुँचा और लगा उसकी कॉल का वेट करने… पर सारा दिन इंतज़ार करने का कोई फायदा नहीं हुआ क्योंकि उस दिन और ना ही अगले दिन उसकी कोई काल आई.

मैं समझ गया कि अब उसे मजा आ रहा है, मैं भी देर किये बिना ही मैं उसे जोर-जोर से चोदने लगा. मैं बैठ अपने लंड को सहला रहा था, और एक हाथ से कीकू के कभी बोबे तो कभी उसकी जांघ को सहला रहा था. उसने अपनी कमीज़ के बटन खोले और मेरा पूरा पाँव अपनी कमीज़ के अंदर डाल लिया.

उसको डर लगता है इसलिए।काफ़ी सोच-विचार के बाद हेमा ने ‘हाँ’ कह दी और टीना ने कमरे में जाकर सुमन को सब समझा दिया।सुमन- दीदी आप भी ना. उसे देख कर गोपाल क्या तू भी पागल हो जाएगी, ऐसा समझ कि बस भगवान ने कीचड़ में कमल खिलाया है. एक्स एक्स एक्स सेक्सी पिक्चर हिंदी मेंदो मिनट बाद वो नौकरानी पानी लेकर आई, उसके ब्लाउज से उसके बूब्स दिख रहे थे, वो बुढ़िया ऐसी लग रही थी मानो कोई 25 साल की औरत हो!पीछे से बैकलेस ब्लाउज था.

रहने दो अब जो हुआ उसको भूल जाओ पार्टी का मज़ा लो ना।फ्लॉरा- वेट वेट. मैंने बूब्स के ऊपर से हाथ हटा कर उसको छोड़ दिया और उसे दिवार के साथ खड़ी कर दिया मैंने उसे और उसकी चूची को चूसना चालू कर दिया.

क़रीब एक घंटे के बाद मुझे अपने दरवाजे पर हलचल महसूस हुई और मैंने देखा कि ऋतु चुपके से मेरे कमरे मैं दाखिल हो रही है, उसने कल वाला ही गाउन पहन रखा था. मैंने सोचा यहाँ पर किसी से पूछ लेता हूँ, मैं पूछने के लिए एक लड़के के पास गया, वो तालाब के किनारे बैठा हुआ अपनी भैंसों को हाँक रहा था जो पानी में दूसरी भैंसों के साथ लड़ाई कर रही थीं. आप मेरी इस सेक्स स्टोरी पर मर्यादित भाषा में ही कमेंट्स करें, सेक्स स्टोरी इन हिंदी का आनन्द लें.

ऋषिका ने उसकी ओर हाथ बढ़ाया और बोली ‘फ्रेंड्स…’रयान ने भी गर्मजोशी से हाथ मिलाया और बोला ‘येस्स्स… फ्रेंड्स!’रयान ने ऋषिका के माथे पर एक प्यारा सा किस किया…. मैं उसकी ओर कदम बढ़ाते हुए देख रहा था कि उसका लंड उसके लाल ढीले कच्छे में तनना शुरु हो गया है और ऊपर उठता हुआ सा दिख रहा है. बॉयफ्रेंड साले मादरचोद होते हैं… उनको और कुछ नहीं चाहिए होता… उनको सिर्फ चूत चाहिए होती है…सिर्फ रण्डीयापा करना जानते हैं, अच्छी अच्छी लड़कियों को रण्डियों की तरह ट्रीट करना जानते हैं.

30 बजे का टाइम था, सड़क पर ट्रकों के सिवा और कोई वाहन नहीं चल रहा था.

पहले अपना सबक याद कर ले, ये चुदाई के चक्कर में अगर फेल हो गई ना तो तेरे साथ मेरी भी शामत आ जाएगी. चूंकि मेरे घर में कोई नहीं था तो उसकी चिल्लाने से कोई डर भी नहीं था.

तुम सब ऐसे वहशी बनोगे तब तो समझो स्कीम फेल ही हो गई।साहिल- यार सब लोग चुप हो जाओ. गुजराती कोमल भाभी से मस्ती के बाद मैं सोमवार को पहले अहमदाबाद आया जहाँ हिम्मत मुझे कार से लेने आया। हिम्मत ने मुझे एक होटल में रोका, बोला- अभी आप यहाँ रेस्ट करो रात को 9. कुछ सेकेण्ड्स बाद मैंने फिर से मुड़कर देखा तो वो दोनों लड़के लगभग मेरे करीब ही पहुंचने वाले थे… मैं डर के मारे दौड़ने लगा… पैर भारी होने लगे… सीने में दम भरने लगा… दोबारा से पीछे देखा तो वो भी मेरे पीछे दौड़ रहे थे.

चो…अ…दिए ना?मैंने कहा- डालिंग अब बेचारे इस बूढ़े को भी अपनी चुत का अमृत पिला दो, ये लो ये बूढ़ा तेरी चुत में अपना लंड डाल रहा है।ये कह कर मैंने तुरंत अपना लंड संजना की चुत में डाल लिया।वो जैंसे चिहुँक उठी और लंबी सी ‘इ…स… अअअअ. इसलिए मेरे जाने के पश्चात मुझे मंझली बहू की सुरक्षा की चिंता लगी रहेगी. जमीला अब मेरा लण्ड और रफीक की गांड भी चाटने लगी तो रफीक ने पीछे मुड़कर देखा तो जमीला मुस्करा दी.

बीएफ चुदाई पंजाबी मैं अपना मोबाइल रख जाऊंगा जिसमें तुम लोगों की चुदाई रिकॉर्ड करनी है तुमको, जिससे मैं वापस आकर देख सकूँ कि कैसे चोदा तुमने और बिमलेश को कितना मजा आया चुदवाने में!मैंने कहा- ठीक है!फिर हिम्मत बोला- यदि बाद में बिमलेश मान गई तो रात को तेरे कमरे में भेज दूँगा, तुम दरवाजा बंद मत करना, मैं पर्दे के पीछे से तुम लोगों की चुदाई देखूँगा।मैंने कहा- जैसी आपकी मर्जी!कहानी जारी रहेगी. मोना उसको दिखाने के लिए बाहर निकाल गई और जैसे ही नीतू कमरे में गई, वो चुपके से वापस अन्दर आ गई.

सनी लियोन की पुरानी बीएफ

फिर ऐसे ही कुछ और दिन बीत गये और मुझे जानवी की चूत से ही काम चलाना पड़ा. मॉंटी को बात समझ आ गई, वो टीना के ऊपर आ गया और लंड को अच्छे से चूत पर रगड़ने लगा. वह शाम को मेरे आने से पहले ही धुले हुए सूखे कपड़ों को प्रेस करने के लिए धोबी को दे आती थी और मेरे घर आते ही मुझे चाय बना कर देती तथा रात के लिए मेरा खाना बना कर अपने घर चली जाती.

हुआ यूं कि एक दिन हमारे पड़ोस के थाने से फ़ोन आया कि पुलिस ने मेरे पति को गिरफ्तार कर लिया है। किसी ने छोटी बच्ची को गाड़ी से टक्कर मार दी है और पुलिस ने शक के आधार पर इनको धर लिया है।मैं थाने भागी. तो मैंने भी बड़े प्यार से कह दिया- आज तो मैं तुम्हारी हूँ, जितना चाहे चोद लो, कर लो अपने पैसे वसूल! मैंने तो तुम से पहले ही कहा था सारी दोस्ती और प्यार बैडरूम में पूरे होते हैं. कुंवारी लड़कियों की चूतजिससे मेरी हाफ बॉडी भीग गई थी। अचानक मेरी नज़र साथ वाली छत पर पड़ी.

उन्हें रयान भला लगा… पर वो बोले- पूरी कोठी की जिम्मेदारी तुम्हारी है.

तू भी इसके साथ मज़ा कर लेना मगर जल्दबाज़ी मत करना वरना काम बिगड़ जाएगा. अब उसने सुपारे को बुर पर सैट किया थोड़ा सा बुर में फँसा कर वो पूजा पर चढ़ गया और उसके होंठों को कस के अपने होंठों में दबा दिया.

दोस्तो, मैं रिया माहेश्वरी एक बार फिर आपके समक्ष अपनी हिंदी सेक्सी स्टोरी लेकर उपस्थित हूँ. आज उसने रेड और वाइट कलर का एक गाउन पहना था, जिसमें उसका निखार अलग ही नज़र आ रहा था. मगर इस चूसा चुसाई में मेरा लुल्ला फिर से तन गया, जिससे मुझे दर्द होने लगा.

मैंने हाथ ऊपर करके उसकी शर्ट के बटन खोल दिए और झटके से उसके कंधों से शर्ट के साथ साथ उसकी ब्रा के स्ट्रेप भी उतार दिए.

इंडियन सेक्स: फौजी अफसर की बदमाश बीवी-1पति के सामने अपने चोदू यार से चुदने इंडियन चूत चुदाई कहानी!राजे ने अगले दिन दोपहर 2. फिर रोहन ने आयेशा की गांड से लंड निकाल कर मेरी चूत में डाल दिया और मेरी चुदाई शुरू कर दी. मेरा लंड और भी जोर से खड़ा हो गया था! वोमैडम की चूतके पास टकरा रहा था जिसका अहसास मैडम को हो गया कि मेरा लंड खड़ा हो गया है.

সেক্স পিকচার ভিডিওमैं रुचिका की दोनों चूचियों को बारी बारी सहला सहला कर चूस रहा था, रुचिका भी भरपूर मज़ा ले रही थी. ताकि मेरा भाई मेरी और आकर्षित हो जाए और मेरे साथ सेक्स करने के लिए तड़पने लगे।मेरी नाईट ड्रेस मैंने और भी छोटी कर दी मेरी जाँघें भी अब तो दिखने लगी थीं। मैंने देखा कि मेरे भाई का ध्यान भी मेरी ओर हो गया था।एक रात को मैं सोने का नाटक कर रही थी क्योंकि मुझे अब रात को नींद नहीं आती थी। मुझे अपने बदन पर किसी का हाथ महसूस हुआ.

बीएफ संभोग

अब हम थोड़ा रेस्ट करेंगे ना?संजय- हाँ तो कर लो किसने रोका है।पूजा- मामू आप कल की तरह वहाँ कुर्सी पर रेस्ट करो ना. और चूचे दबाता रहा। फिर मैंने दीदी का ब्लाउज उतार दिया। वो काले कलर की ब्रा पहने हुई थी. फिर मैं हिलूँगा तो मज़ा आएगा।दोस्तो, पहले भी संजय ऐसे ही पूजा को आराम कुर्सी पर बैठा झूला झुला देता था मगर आज तो उसका इरादा कुछ और ही था।पूजा- मामू ये क्या.

अभी स…सपने मैं तुम्हें चोद रहा था तो पानी निकल गया, इतने में तत… तुम आ गईं… तो मैंने सोचा तुम नाराज़ हो जाओगी… इसलिए मैंने साफ कर दिया और ऐसे ही सो गया. पर उसके शहर में यह संभव नहीं था और बाहर आने जाने के समय उसके घर से कोई न कोई साथ होता था. मैं उत्तेजना के कारण पागलों की तरह जोर जोर से अपनी कमर को हिलाकर चोदने लगा और ‘ईइइशश… अआहह्ह्ह… ईइइशश… अआआहहह्ह्ह…’ की आवाज करने लगा.

मैंने अपना लंड बिना किसी चिकनाहट के ऋतु की चूत पर लगा दिया औऱ जोर से धक्का देते हुए अपना लंड उसकी गीली चूत में भर दिया. एंड्रयू का भाले की तरह तना हुआ लंड जड़ तक मेरी बीवी की गांड में घुस गया और वो अपने दोनों हाथ अपने पीछे एंड्रयू के कन्धों पर टिकाए आगे-पीछे होने लगी. वो आगे बोली- लेकिन वो भी पहली बार सिर्फ तुम्हारे लिए… तब तुम अपने दोस्तों को नहीं बुलाओगे… फिर बाद में हम तय करेंगे कि आगे क्या करना है.

मैं मना करती रही पर आकाश माना ही नहीं और फिर हम दोनों ने किस किया और मैं अपने घर आ गई!घर आकर शाम को मेरे पति के आते ही मैंने सारी बात उन्हें बता दी तो वो मुझे बोलने लगे- तुम्हारे तो मजे हैं, पैसे भी और चुदाई भी… पर मुझे तुम्हारी चुदाई देखनी है हर बार की तरह. मम्मी नहीं हैं।उनका ये जवाब सुन कर मैं चौंक गया और अपने कमरे से बाहर आकर भाबी से पूछा- क्या मतलब भाबी.

लेखक एवं प्रेषक: विवेक ओबेरॉयसंपादक: श्रीमती तृष्णा लूथराप्रिये अन्तर्वासना के पाठकों एवं पाठिकाओं को विवेक ओबेरॉय का सादर प्रणाम.

बस फिर क्या था संजय ने मौका देख कर उसको वहां से निकाल लिया और घर से थोड़ा दूर छोड़ कर खुद चला गया ताकि किसी को शक ना हो कि सुबह से ये उसके साथ थी।पूजा घर चली गई और उसकी माँ ने उसको देखा तो उसने झूठ कह दिया कि गिर गई थी। बस फिर क्या माँ ने पूछताछ की कि ज़्यादा तो नहीं लगी. सुहागरात वीडियो सुहागरात वीडियोफिर धीरे-धीरे बातों को सेक्स की तरफ़ मोड़ दो। अगर ये चुदी हुई है तो इसको कुछ बुरा नहीं लगेगा और अभी तक तो सब प्लान के हिसाब से हो रहा था।अजय- देख ये फ्लॉरा कितनी समझदार है और तू बस नाटक करती है। कल मान जाती तो मज़ा आता ना. मराठी सेक्सी मूवीसमैंने पूछा- ये क्या था?वो बोला- इसको सेट करने के लिए!मैंने गाड़ी आगे बढ़ा दी. दोनों जवानों ने क्षण भर की रूकावट के बाद दुबारा मोटे लंडों को गुलाबी गांड में धकेल दिया और उसकी डबल गांड चुदाई में ब्यस्त हो गए.

वो ‘ऑक्…’ करके रह गई और मुस्कुराते हुए बोली- मजा आ गया।मुझे भी अब लगने लगा कि मेरा लंड से भी कुछ बाहर आने वाला है, इस चक्कर में सुधा को जोर-जोर से चोदने लगा, सुधा भी आह-ओह करती जा रही थी, हम दोनों के शोर से मरियम की आँखें खुल गई और वो हम दोनों की चुदाई देखने लगी.

मुझे बताओ मैं ढूँढ दूँगी।सुधीर- आपके जैसी वाइफ मिल जाए तो क्या कहने. आप सभी का धन्यवाद करता हूँ कि आपने मेरी कहानियों को पढ़ कर मुझे बहुत प्यार दिया. देसी लड़की की कामुकता की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा कि मॉंटी और सुमन एक-दूसरे के ऊपर एकदम नंगे होकर लंड चुत को रगड़ कर मजा ले रहे थे.

काका- उहह उहह साली रांड ये तेरे नामर्द पति का लंड नहीं है जो जल्दी ठंडा हो जाएगा आह. ऐसी भयंकर चुदाई के बाद मेरी टांगें और पूरा बदन दुख रहा था… बस एक चूत ही थी जो बिल्कुल शांत थी क्योंकि उसने आज जी भर के अपनी प्यास एक मोटे लंड से बुझाई थी. वो देखने में बहुत खूबसूरत थी, उसकी लंबाई थोड़ी कम थी लेकिन मस्त चूचियां और उठी हुई गांड बहुत सेक्सी थी.

हिंदी में बीएफ दीजिए हिंदी में

क्या हुआ है?फ्लॉरा भागती हुई जॉन के पास आई और उससे आकर लिपट कर रोने लगी. दरवाज़ खुला था और मैं सीधा माँ के पास इस तरह से गया जैसे कुछ हुआ ही नहीं है. और वैसे भी अब मेरे हाथ दुखने लगे हैं।टीना ने थोड़े गुस्से में ये कहा तो मॉंटी डर गया और चुपचाप कैप्री पहन कर सो गया क्योंकि अंडरवियर को पहनने के लिए टीना ने उसको मना किया था।टीना को पता था उसने मॉंटी के अन्दर के मर्द को जगा दिया है, अब उसको सुकून नहीं मिलेगा मगर वो अपने भाई के साथ ये सब नहीं करना चाहती थी.

कुछ देर बाद मैंने उसी विवाहित जोड़े की तरफ देखा, देखकर मेरी आंखें वहीं अटक गईं, लड़की का मुंह लड़के की तरफ घूमा हुआ था और वो दोनों सीट से थोड़ा नीचे की तरफ खिसक कर आपस में किस कर रहे थे.

बेहद भारी थी मौसी!उसके पिचके से चूतड़ और पतली सूखी बेजान सी टाँगें मेरे ऊपर थी.

स्नेहा भी आगे की तरफ खिसकी और अपनी चूत मेरे लेटे हुए लंड पर चिपका दी और फिर अपने दोनों हाथों से चूत के लिप्स चौड़े कर के लंड को चूत की दरार में अच्छे से फिट कर लिया. सुबह उन्होंने मुझे एक गिफ्ट दिया जो थोड़ा मंहगा था और उनकी सारी बातों को सीक्रेट रखने का प्रोमिस किया और बोलीं कि अगली बार वो फोन लगाएंगी. देसी सेक्स videosबदले में जो चाहे कीमत आप मुझसे वसूल कर सकते हैं।यह कह कर उसने अपना मैक्सी उतार दी और बातें कहना शुरू की।‘मैं जानती हूं आपको मेरे बड़े-बड़े मम्मे बेहद पसंद हैं। आप हमेशा इन्हें घूरते आए हैं। मैं भी चाहती थी कि तुम इन्हें देखो। प्रताप की तरह मेरी चूचियों को मसलो.

काका इतना बड़ा ये कैसे जाएगा अन्दर?काका- अरे रानी, ये तो कमसिन कली की चुत में पूरा समा जाता है. बाहर अकेला बैठा था तो प्लीज़ बुरा मत मानना।इतना कहते ही वो चादर को अपने बदन से दूर करके बिस्तर पर आ गया और मुझे पकड़ लिया।मैंने कहा- प्लीज़. ऋषिका नीचे थी और रयान सीधा उसके ऊपर लेट गया, ऋषिका ने अपने हाथ से उसका लंड अपनी चूत में कर लिया.

एक हाथ में कपड़े दबाये चुपके से बद्ज़ात अपनी माँ की चुदाई का दृश्य देखने उसके कमरे में जा घुसी थी. मगर दिन की रोशनी अलग ही होती है ना, कितना भी लाइट बुझाओ थोड़ा बहुत तो दिख ही जाता है।जैसा संजय ने कहा.

माला ने मेरे होंठों का स्वागत उन पर अपने होंठों का दबाव डालते हुए किया और उन्हें चूसते हुए अपनी जीभ को मेरे मुंह डाल दी.

तो ठीक नहीं तो छोड़ो रहने दो।वो सेक्स को लेकर आतुर थी, कुछ देर सोचने के बाद कामुकता के अधीन हो कर बोली- ठीक है, अब प्लीज मुझे चोदिए ना, मेरी चुत में आग लगी है।मैंने अपना लगभग 6. थोड़ी देर बाद मुझे लगा, कि सब कुछ करने देगी तो मैं उसके बूब्स को दबाने लगा. वो बिस्तर पर मचलने लगी और अपने चूतड़ उठा-उठा कर मेरे मुंह में अपनी चूत मारने लगी.

बफ हिंदी हड वीडियो अब तेरी बुर में लौड़ा डालने का टाइम आ गया है समझी मेरी जान!संजय वापस बिस्तर पे आया तो टी-शर्ट के साथ पानी की बोतल भी उठा लाया और बोतल को साइड में रख कर टी-शर्ट को पूजा की गांड के नीचे लगा कर पूजा के पैरों को मोड़ दिया, अब संजय के सामने पूजा की बुर थी और बस एक तगड़े झटके लगने भर की देर थी. किसको कभी चोदा है?मैं- नहीं!रीना- मुझे चोदेगा?मैं- लेकिन कैसे?रीना- मेरे घर आकर एक रात मुझे जम कर चोदना.

तभी स्वान नेगोरी की गांडसे लंड बाहर निकाल कर उसके मुंह में जाने की इच्छा जताई, और एंड्रयू ने दोस्त की इच्छा का सम्मान करते हुए अपना लंड मेरी वाइफ के मुंह से बाहर निकाल लिया. और वैसे तो मुझे तो अभी इसकी बिल्कुल भी जरूरत नहीं है।पूजा भाभी बोली- मैं तो शुरू से ही यह काम करती चली आ रही हूँ. रात 11:30 का समय होगा, मुझे अक्षिमा के फ़ोन से मेसेज आया- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- बाबा, मैं गोवा में नहीं हूँ, तुम्हारे सामने वाले रूम में ही तो हूँ.

हिंदी बीएफ वीडियो सेक्सी ब्लू

पिंकी काफी उत्तेजित हो गई थी इसलिये उसने खुद ही अपनी टांगें फैला दी और अपने कूल्हों को मेरे लिंग की तर्ज पर हिलाने लगी और उसके मुँह से फिर से सिसकारियाँ फूटने लगी थी. अब मैं चाची से खुल चुका था, मैंने कहा- हाँ मेरी रानी… तुम भी तो कमाल की हो!चाची जोर से हंसने लगी. चल अब तू निकल, मुझे नीतू को काम समझाना है और इसे कुछ अच्छे कपड़े भी दिलाने होंगे.

दो दिन से टीना कॉलेज भी नहीं आई है, तो वो उससे मिलने जा रही है ताकि उसको कुछ तसल्ली दे सके. हम सभी एक दूसरे को गले लग कर मिल ही रहे थे कि डोर बैल दुबारा बजी तो रुचिका बोली- सुलेखा और अरमान होंगे!उसका कहना सही था, वो आ पहुंचे थे, हम उनको भी गले लग कर मिले और हमेशा की तरह सुलेखा को मैंने सभी के सामने लिप लॉक किस की, तो सुलेखा ने भी मेरी किस का पूरा सहयोग दिया.

मैं देख ही रहा था कि अचानक उस लड़के ने मुझे दोबारा देख लिया और उसने लड़की से कहा कि वो सीधी होकर बैठ जाए तो लड़की सीधी होकर आराम से पीठ लगाकर बैठ गई.

घोड़े बेच कर सो रहे हो!मैं बोला- हाँ यार, जमीला और मैं दोनों ही थक गए है. मैं- काश! सबीना भी होती और मेरे टट्टे चाटती चूसती तो तुम उसकी चूत चूसते कितना मजा आता. मैं दूसरे दिन का इंतजार करने लगा और सुबह उनके पति के काम पर जाने के बाद मैं उनके फ्लैट पर जा पहुँचा.

अन्दर उसने कुछ नहीं पहना हुआ था, जिसे देख कर राजू पागल हो गया। आनन-फानन में वो भी नंगा हो गया और मोना के पास जाकर उससे लिपट गया, वो मोना को किस करने लगा। मोना भी उसका साथ देने लगी। कुछ देर बाद दोनों अलग हुए तो मोना झट से नीचे बैठ गई और राजू के लंड को चूसने लगी।राजू- आह. इसी लिए ऐसा कुछ हो गया।उसकी माँ ने बताया कि किसी काम के सिलसिले में उसके पापा को अर्जेंट दिल्ली जाना पड़ रहा है, अभी निकलना है तू जल्दी से फ्रेश होकर नीचे आ, उन्हें स्टेशन छोड़ के आना है।संजय ने ज़्यादा कुछ पूछा नहीं क्योंकि अक्सर उसके पापा बाहर जाते हैं। वो अच्छे से रेडी हुआ. बहन को ऐसा करते हुए देख कर उस आदमी का जोश एक तो ऐसे ही बढ़ रहा था और दूसरी तरफ़ मेरी बहन के पैर में जो पायल की झनकार सुनाई देती थी, वो उसके जोश को और ज्यादा बढ़ा रही थी.

सुमन- वाउ दीदी ये बेस्ट है, मगर संजय को कोई शक तो नहीं होगा ना?टीना- अरे मैं किस लिए हूँ.

बीएफ चुदाई पंजाबी: जिस लड़की का मैं दीवाना था, जिसे एक नज़र भर देखने को तरसता था, जिसकी याद में दसियों बार इसी लंड की मुठ मारी थी और अपनी बीवी को चोदा था, आज वही मेरे सामने पूरी मादरजात नंगी हो के बैठी मेरा लंड पकड़े हुए मेरी तरफ आशा भरी नज़र से देख रही थी. अगर आपको पसंद आई या यह लगता हो कि फालतू टाइम बर्बाद किया, जो भी कमेंट या सुझाव या गाली… नो नो गाली नहीं लिख सकते!वैसे ज्यादा मेल आने वाले तो है नहीं…फिर भी अगर मन हो तो[emailprotected]पर करें!आगे की सेक्स कहानी-सर की बीवी की सहेली की चुदाई.

आख़िर दीदी का दर्द थोड़ा कम होने लगा, दीदी को अब थोड़ा थोड़ा मज़ा आ रहा था. चलो ना?टीना- रुक मेरी जान, तेरा टास्क टाइम हो गया है। अभी ये देखना है तेरी हिम्मत बढ़ी या पहले की तरह तू डरपोक है।सुमन- आप क्या बोल रही हो. संजय ने अपनी स्पीड बढ़ा दी और पूजा की चुत बहने लगी फिर संजय ने उसको सीधा लेटा कर काफ़ी देर चोदा, तब जाकर उसका पानी निकाला.

मैंने शालू को जगा कर कहा- मैं ड्यूटी पर जा रहा हूँ, तुम ध्यान से रहना.

मेरे मेसेज करने के बाद लगभग 20 मिनट तक न उसका कोई मेसेज आया और न ही वो आई. ‘तुम्हें पति का टोपा पसंद है ना नताशा… तो फिर चूसो उसे जरा ढंग से!’ व्यंग्य करते हुए, मानो किसी रण्डी के साथ बात कर रहा हो, स्वान ने नताशा से कहा. मैं बोला- मैं अकेला नहाऊंगा क्या? आप नहीं नहाओगी?तो जमीला- चलो मैं भी साथ आती हूँ.