हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर

छवि स्रोत,सेकसीविडोयो

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो चुदाई एचडी: हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर, मैं उससे बात करते हुए सोचने लगा कि अब मेरे ससुर जी इसकी आगे की लेंगे.

सब्जी वाले की दुकान

भाभी एकदम अप्सरा सी लग रही थीं, लेकिन न जाने वो क्यों गुमसुम सी रहती थीं. मराठी झवाझवी videoउसके बाद फिर मैंने वापस गांड से लंड निकाला और फिर चूत में एक बार डाला.

उस दौरान एक बार फिर हमने एक दूसरे को चुदाई वाला ढेर सारा प्यार दिया. बीएफ फुल वीडियो सेक्सीऋतु को सुहागसेज पर बैठकर शर्म महसूस हुई और उसकी नजरें शर्म से झुक गई थीं.

मैंने थोड़ा घबराते हुए पूछा- तुम ठीक तो हो न … मुझे बताओ बात क्या है?उसने रोते हुए बताया- विनोद भैया ने सब कुछ देख लिया और रिकॉर्ड कर लिया.हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर: सात दिन तक रोज रात को लंड के मसलने के प्रोग्राम के बाद एक दिन मैंने लंड को सहलवाते हुए अपने हाथों से उसकी चुचियां भी धीरे से मसल दीं.

मैं उठ भी नहीं पा रही थी, बड़ी मुश्किल से उठी और मैंने उसके लंड से कंडोम निकाल कर डस्टबिन में फैंक दिया.मेरी दीदी का फिगर ऐसा है कि उनको देखकर बुड्ढों का भी लंड खड़ा हो जाए!पर जो बात मेरी दीदी को सबसे ज्यादा सेक्सी बनाती है वे है उनके लंबे लंबे काले घने और एकदम सिल्की सिल्की बाल!मेरी दीदी के बाल बहुत ज्यादा लंबे हैं और उनके लगभग घुटनों तक आते हैं.

சன்னி லியோனே பி எஃப் - हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर

आप अपने विचार मुझे अवश्य बताएं मेल या कमेंट्स के माध्यम से![emailprotected]भाई और बहन की चुदाई कहानी का अगला भाग:बड़े भाई और छोटी बहन की मजेदार चुदाई- 2.शायद यही कारण था कि मोहल्ले में कोई मुझे बड़ा और एडल्ट मानने को तैयार भी नहीं था.

उन्होंने अपने पैर फैलाए और मैंने उनकी सलवार नीचे खींच कर निकाल ली।अब मासी सिर्फ ब्रा पैंटी में बैठी थी. हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर ‘अह्ह्ह आशु बड़ा अच्छा लगा रहा है … करते रहो उफ्फ अह्ह्ह … प्यार से चूसो ना …’मेरे हाथ उसकी चूत तक पहुंच रहे थे, पर मैं उसकी चूत को छू नहीं रहा था.

अगर मैं हल्का सा भी ऊपर की ओर जाता तो मेरा लंड दीदी की गांड के छेद के ऊपर टच कर जाता!मैंने फिर से दीदी की मालिश करना शुरू किया.

हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर?

मैंने सुमन को देखा, उसने जींस और शर्ट पहनी हुई थी।उसने थोड़ा मेकअप भी किया हुआ था, भोजपुरी फिल्म की हीरोइन लग रही थी।मैंने सुमन की तारीफ की तो वो शरमाने लगी. मैंने कहा- क्या देख रहा है?वो बोला- प्रियंका, तू मुझे बड़ी हॉट लग रही है. दादाजी मम्मी की चूचियों को बहुत जोर जोर से दबा रहे थे और मम्मी दादाजी के लंड को धोती के ऊपर से दबा रही थीं.

मगर उस फौजी ने बहन के लांचा के नाड़े को पकड़ कर खींच दिया, जिससे लांचा निकल गया. मैंने बिना देर किए अपने और बुआ के कपड़े उतार दिए और उसकी मखमली गुलाबी चूत में अपनी जीभ घुसा दी. बगल में शिखा आंटी के घर पर पूछा, तो उन्होंने कहा- तुम्हारे घर वाले दो दिन के लिए बाहर गए हैं और चाभी मेरे पास रख गए है.

करीब आधा घंटे बाद मेरा पानी भी निकलने वाला था तो मैं और जोर जोर से चुदाई करने लगा और उनकी चूत में ही झड़ गया. मैंने किचन से ऑरेंज जूस लिया और रम में डाल कर नगेट्स के साथ पीने लगा. वो मादक सिसकारियां लेने लगी- अहहा हहा आहह उउम्म उउइई … और चोद साले … आंह ज़ोर से चोद कमीने.

एक दिन मैं उसके पीछे गया तो …नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम साहिल है और मैं आपको आज ऐसी मजेदार सेक्स कहानी बताने जा रहा हूँ जिसे पढ़ने के बाद आप आनन्द से भर जाएंगे. जॉन- आंह मेरी चुदक्कड़ चूत, तेरा मुँह भी चूत से कम नहीं है … आंह चूस और चूस … पूरा ले ले जड़ तक साली.

आंटी- आह चोद साले और चोद चोदरा साले … फाड़ दे भोसड़ी वाले … आज आह आह आज मेरी चुत फाड़ ही दे … आंह लंड की ताकत दिखा लवड़े.

गोरे गोरे और उन पर पिंक कलर के निप्पल उन्हें और भी ज्यादा सेक्सी और हॉट बना रहे थे.

‘आआह … आआह जान … क्या मस्त चूसती हो जानेमन … मेरे रहते तुम उस धीरज से क्यों चुदवाती हो. कुछ देर के बाद मम्मी दादाजी के साथ लिप टू लिप किस करने लगी थीं और दादा जी मम्मी की चुचियों को उनके ब्लाउज के ऊपर से ही दबा रहे थे. तूने उसके वो दबाये थे कि नहीं!ये कह कर उसने अपनी चूचियां मेरी पीठ पर रगड़ दीं.

बाद में मंजू मान गई थी, पर उस शाम मंजू के साथ कुछ ज्यादा नहीं हो पाया था. लंड ज्यादा जोर से दबाए जाने के कारण सनी को दर्द का अहसास हुआ और उसके मुँह से आह निकल पड़ी. बातों बातों में उन्होंने पूछ लिया कि क्यों अमित तुम्हारी गर्लफ्रेंड कितनी हैं? कभी देवरानी जी से बात भी कराओ.

मेरी यौन अनुभूतियां काफी ज्यादा हैं … बहुत कुछ है बताने को, जिससे नई जवान होती लड़कियों और लड़कों को अपने यौन सम्बन्धों, सेक्स की जानकारी में मदद मिलेगी.

उसी समय चचा ने अपना पूरा लंड गांड में डाला और हचक कर गांड मारने लगे. मैं अपने भाई के सामने सिर्फ पैंटी में थी, वो भी नाम की पैंटी थी … सिर्फ एक धागा वाली, जिससे चुत की फांकें ही ढकी थीं. जब स्कूल से वापस आई तो मैंने पूछा- तुम्हारा लास्ट पेपर कैसा हुआ?वो हंस कर बोली- मस्त.

सपना बोली- हां इसलिए तो तुझे बुलाया है मेरी जान!मैंने देर न करते हुए सपना को किस करना चालू कर दिया. बाथरूम का दरवाजा पूरी तरह से लगा नहीं था इसलिए अन्दर का मदमस्त कर देने वाला नजारा साफ़ दिख रहा था. भाभी की मादक आवाजें आने लगीं तो मैं पूरी ताकत से पिल पड़ा और उनको चोदता रहा.

अब मैं भी दुबारा झड़ने वाला था तो मैंने भाभी के मुँह में लंड डालकर अच्छे से मुँह की भी चुदाई की और उनके मुँह में ही झड़ गया.

पेपर खत्म होने के बाद मई में चाचा की बहन की सगाई थी तो हमारा परिवार भी वहां गया था. सहलाते सहलाते मेरे हाथ उनके मम्मों पर पहुंच गए और मैं मामी के दोनों दूध दबाने लगा.

हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर कुछ देर बाद हमारे बीच फिर से माहौल बन गया और मैंने बुआ को लिटा दिया. मैंने मजाक करते हुए पूछा- मेरा वो क्या दीदी?वो मेरे गाल पर चिकोटी काटती हुई बोली- अब इतना भी शैतान न बन.

हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर मामी भी स्लैब पर बैठी हुईं मेरे गले में हाथ डालकर मजे से चुद रही थीं. ये सब मैं इसलिए जानता हूँ कि जब कभी मैं और बड़ी बाजी घर पर होते हैं तो अब्बू मुझे किसी काम से बाहर भेज देते थे और मुझसे धीरे से आकर बोल देते थे कि जब मैं फ़ोन करूं, तब वापस आना.

मेरे बार बार तुम्हारे यहां आने का मकसद यही था कि मैं तुमसे चुदूं!प्रिया मुझसे पूरा चिपक रही थी।हम दोनों एक दूसरे में समा जाना चाहते थे.

एचक्यू टीवी चैनल

आपका अंशु सिंह[emailprotected]दर्द भरा सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी पत्नी की गैर मर्द के लंड से चुदाई- 4. पर दूसरी मुलाकात में आपको ये अवश्य दर्शा देना चाहिए कि आप उसकी कद्र करते हैं. बहुत देर तक ज्योति फोटो देखती रही और किशन पीछे से अपनी मां को देखता रहा.

राहुल ने उसे बेड पर लिटाया और उसकी दोनों टांगों को हवा में उठा कर उसकी चूत फैला दी. उसने कहा- साली लंड खोर रंडी, चाट न लंड … बहन की लौड़ी क्यों नखरे कर रही है. वो चुदाई की उत्तेजना में ये सब बोले जा रही थीं- आहहह … और ज़ोर से … ओहह … हम्हह … आहहह … चूस डाल मेरे दूध … आहहह … अम्हह … आहहह … खा जा इन्हें आएए … आहहह!मामी बारी बारी से अपने दोनों मम्मे मेरे मुँह में डाल रही थीं जिन्हें मैं बच्चों के तरह चूस रहा था.

जब तक भाभी चिल्लातीं, मैंने दूसरी ठोकर मार दी और अपना पूरा लंड गांड की जड़ में पेल दिया.

वैसे मैं भी भगवान में अटूट आस्था रखता हूं और रोज़ सुबह दो घंटे तक मेरी पूजा चलती है. इसी तरह वक्त बीतता गया और हम दोनों के मन में दूसरे से शारीरिक सुख पाने की लालसा बहुत ज्यादा होने लगी थी।लेकिन पहल हम दोनों में से कोई भी करने से डरता था।इसी तरह वक्त बीतते हुए जब मेरा बेटा 4 साल का हुआ तो उसका जन्मदिन आया. मेरे बाजू में मौसी की जो लड़की लेटी थी उसको मैं पहले ही चोद चुका हूँ.

फिर सनी ने जैसे ही जीभ निकाल कर ऋतु की चूत पर फेरी, ऋतु की चूत पिघल गई और सनी के मुँह में रस की धार छोड़ने लगी. एक बात जो मैंने तुरंत समझी, वो ये थी कि मीना की चूत पर आज एक भी बाल नहीं था. उसने शिकायत भरी नजरों से सनी की ओर ऐसे देखा मानो उसे कह रही हो कि नींद में क्यों घुसा दिया, कम से कम जगा तो देते.

तभी सपना कहने लगी- आज पहली बार किसी पराए मर्द से चुदने का मौका आया है. मैं अन्तर्वासना साइट का एक बड़ा प्रशंसक हूं, इसलिए मैंने सोचा कि अपनी आंखें देखी सेक्स कहानी को भी इस वेबसाइट पर डाला जाए ताकि मेरी तरह अन्य लोग भी मजे ले सकें.

मैं- अभी ले मेरी रानी … ऐसी नुकीली चूत चोदने में बड़ा मज़ा आ रहा है … ले पूरा लौड़ा ले … ओह्ह ओह्ह और ले आह्ह … मज़ा आ गया मेरा लौड़ा आह्ह … साली चूत को टाइट मत कर आह्ह … लौड़ा आगे-पीछे करने में दुःखता है … आह्ह!मामी- आआह्ह … आईईइ उहह … ससस्स चोदो आह्ह … अई कककक ज़ोर-ज़ोर से आह्ह … चोदो मज़ा आ रहा है मेरे लौड़ूमल आह्ह … मज़ा आ रहा है. उन्होंने मुँह से काटने का इशारा किया, तो मैंने लंड की तरफ इशारा कर दिया. मैं समझ गया कि मम्मी यहीं कहीं पर हैं, पर कहां हैं ये नहीं मालूम था.

एक दिन की बात है, मैं क्रिकेट खेल रहा था, तो बॉल मेरे अंडकोष में लग गई.

दरअसल मैं अपनी चूचियों से थोड़ी परेशान थी क्योंकि मेरी चूचियां पहले की तरह कसी हुई नहीं रह गई थीं. तभी रेशमा ने मेरी हालत भांप ली तो उसने चाय के कप अपने हाथ में ले लिए. मेरा नाम विशाल है और मैं टीचर स्टूडेंट सेक्स स्टोरी पेश कर रहा हूँ.

जब कोई चुत किसी लड़के के मुँह में जाती है, तब तो जैसे चुत का सपना सच हो जाता है. वो बोली- बड़े जालिम हो सा … अब तक मैं अपना स्खलन 2 बार कर चुकी हूँ मगर आपने मेरी सुध नहीं ली.

नीता बोली- आज मैं आपसे धार्मिक विषयों पर खूब चर्चा करूंगी क्योंकि मुझे बहुत अच्छा लगता है. आपने कई बार देखा होगा कि किसी खूबसूरत लड़की का बॉयफ्रेंड उसके मुकाबले बिल्कुल भी खूबसूरत नहीं होता … मतलब की हूर के गले में लंगूर वाली … कहावत से समझ लें. भाभी की चुत तो पहले ही गीली थी मगर मैंने फिर भी उंगली से चुत में तेल लगा दिया.

ब्लू पिक्चर दे सेक्सी

करीब दस मिनट तक ऐसे ही मैं उसके दोनों रसीले फलों को चूसता रहा और मर्दन करता रहा.

फिर दादाजी ने मम्मी के ब्लाउज के अन्दर अपना हाथ डाल दिया और मम्मी के दूध दबाने लगे. मैं- तुमने ही टक्कर मारी थी न मुझे?संजय- सीमा, मैंने टक्कर नहीं मारी थी … गलती से मेरी गाड़ी तुमसे टकरा गई थी. मैं उन्हें बिस्तर पर ले गया और लेट कर बोला- तेल मत लगाओ, आप मेरा लंड चूस दो.

मैं- मैं तो पहले कम से कम आधा घंटा चुम्मा चाटी करता हूँ, फिर आधा घंटा तक बिना रुके करता हूँ. लंड पूरा खड़ा हो चुका था और उसके पूरे सुपारे पर चूत से निकला रस लगा हुआ था, जिस कारण वो बहुत खतरनाक लग रहा था. बीएफ सेक्सी डाउनलोडमैं उनके ऊपर से हटते हुए बोला- आप कहें तो मैं भी चलूं आपके साथ!मामी- तुम यहीं रुको … चोद चोद कर मेरी हालत खराब कर दी.

मैंने उससे कहा- डार्लिंग, अब तुम दोनों मालूम है कि मेरे लंड का स्वाद कैसा है. चूत की लकीर में फंसे लंड को अपने भारी चूतड़ हिला कर उसमें रगड़ रही थी.

एक दिन मैं अपनी छत पर टहल रहा था, तभी मैंने देखा कि एक लड़का शिल्पा दीदी के घर में घुस गया और सीधे शिल्पा दीदी के कमरे में चला गया. रात को सनी की आंखें खुली तो उसने देखा कि उसका लंड ऋतु की चूत पर लगा हुआ है. शादी के कुछ दिन बाद ही मुझे पता चला था कि ऋतु को उसका पड़ोसी सनी प्यार करता था.

दीपक ने मुझ पर लाइन मारना शुरू किया और अपने पैर से मेरे पैर को हल्के से सहलाने लगा. मेरे इतना बोलते ही मौसी ने मेरे सर को पकड़ा और एक जोर का किस कर लिया. अगर जीजा कहीं बाहर जाने वाले होते हैं तो मैं उसके घर चला जाता हूँ और खूब चुदाई करता हूँ.

जितना मजा बहेन की चुत चुदाई से ही मिलता है, उतना तो गर्लफ्रेंड की चुत चोदने में भी नहीं मिलता है.

इतने दिनों के सेक्स का खेल और किताबी ज्ञान एवं संजय के दिए ज्ञान से मैं काम कला में माहिर होता जा रहा था. मैं इधर उधर की बात करने लगा, उसकी कंपनी और प्रोडक्ट्स के बारे में बात करने लगा.

फिर जल्दी से पलट कर अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाल लिया, जिस वजह से मेरा कुछ पानी उसके अन्दर और बाकी का बाहर गिर चुका था. मैंने आंटी को अपने हाथों में उठा लिया और बेडरूम में ले जाकर पटक दिया. जैसे ही उसके नीचे जाने की आवाज आई, तो उसने मुझे बांहों में भर लिया.

और यह कहते-कहते दीदी ने अपनी बुर को मेरे मुंह में जोर से दबाया और झड़ने लग गई. जैसे ही उन्होंने होंठ दबा कर लंड चूसा, मैंने अपना पानी छोड़ना शुरू कर दिया. मैंने हिम्मत बांध कर बोल दिया- तुम चुप हो जाओ और तुम अपना ख्याल रखो.

हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर चूत सहलाने की वजह से वो थोड़ा सा आगे की तरफ झुक गईं जिसके कारण वो मेरे लंड के ऊपर आ गईं. उफ्फ कितना टाइट हो गया था … बिल्कुल पत्थर की तरह सख्त लंड उसके हाथों में अपनी गर्मी का अहसास दिला रहा था.

रंडी का नंगा नाच

पहले भागसेक्सी भाभी ने नंगा जिस्म दिखायामें अब तक आपने पढ़ा था कि तनु भाभी ने दिन में मेरा लंड चूस कर रस पी लिया था और वो रात को चुदाई के लिए मिलने का कह कर चली गई थीं. पर हम लड़के इसमें ही खुश हो जाते हैं और शेखी बघारते हैं कि फलां लड़की को मैंने पटा लिया है. मैंने दीदी को मनाते हुए कहा- प्लीज दीदी, मान जाओ ना … एक बार कर लेने दो, दोबारा कभी नहीं कहूंगा.

मुझे भी इतना ज्यादा मजा आ रहा था और लग रहा था कि यह पल कभी खत्म ही न हो. लेकिन बाम से इतनी अधिक जलन हुई कि मैंने बहन को बता दिया कि यार इसे लगाने से तो बहुत जलन हो रही है. ट्रेन की सेक्सी बीएफबीच बीच में ऐसा लगता था कि मेरे अन्दर से सब कुछ निकल गया है … पर सच में मुझे बहुत मज़ा आया.

मौसी की चुत को देख कर लग रहा था कि उन्होंने एकाध दिन पहले ही शेविंग की थी.

मैं- हां जान … रुक थोड़ी देर और गांड का पूरा मज़ा ले लेने दो … आह्ह … उसके बाद आपकी चूत को भी शान्त कर दूँगा. वो पहन कर मैंने भाई को दिखाया तो वो खुद पर काबू ना रख पाए और मेरे अधनंगे जिस्म को सहलाने लगे.

सेक्स विद हॉट आंटी में पढ़ें कि हम दोस्त के घर उसके जन्मदिन की पार्टी में उसकी गर्लफ्रेंड भी वहीं थी. उसने बोला- आप मुझे प्लीज़ बस स्टैंड से पिक कर लोगे क्या … मैं जयपुर पहुंचने वाली हूँ. क्षिति को मुकेश का फोन आया कि वो लेट आएगा तो क्षिति बोली- मैं चलती हूं.

जब मम्मी अन्दर आईं, तो बोलीं- तू कहां चला गया था?तो मैंने बोला- मैं दोस्त के घर गया था.

Xxx भाभी सेक्स कहानी के पहले भागपड़ोसन भाभी को ब्रा पेंटी में देखामें अब तक आपने पढ़ा था कि मैं जब भाभी के घर गया, तो वो बाथरूम से एक तौलिया पहन कर दरवाजा खोलने आई थीं. फिर कुछ मिनट बाद मैंने बोला- अब डाल दूं?आंटी बोली- नहीं … अभी मुझे भी चूसना है. सनी ने धीरे से ऋतु के चेहरे को ऊपर उठाया, तो ऋतु की आंखें बंद हो गईं.

सेक्सी ब्लू पिक्चर हिंदी में दिखाएंवो मेरे लंड पर बैठकर कैसे कूदी?हैलो मित्रो, मेरी इस देसी मामी सेक्स कहानी में आप सभी का स्वागत है. भाभी ने कुछ समय बाद मम्मों से लंड निकाल कर फिर से अपने मुँह में ले लिया और चूसने लगीं.

पहली रात की चुदाई

जानेमन माफ़ करना … मैं अब क्या करूं?मैंने कहा- कोई बात नहीं, मैं इसका ट्रीटमेंट करूंगी. पूरी रात तुझे चोदूंगा,मैंने अपनी नाइटी हटा दी और उसके सामने चुत खोल दी. सनी ने देखा कि ऋतु की चूत पूरी गीली हो गई थी और उसकी पैंटी को भिगो चुकी थी.

” मैंने चुटकी ली।हाँ, मालिक आपके पालतू जानवर को बहुत मज़ा आया। आप वास्तव में जानते हैं कि मुझे क्या पसंद है. फिर हमने बेड पर जाकर चुदाई शुरू कर दी जो पूरी रात चलती रही और आज भी चल रही है. इस कहानी में पढ़ें कि जब मैंने 19 साल की एक लड़की की बुर फाड़ी तो उसका क्या हाल हुआ.

जीजा साली सेक्सी स्टोरी मेरे अब्बू और मेरी छोटी खाला यानि मेरी मौसी की चुदाई की है. मैं पानी के लिए उठा तो वो जाग गयी और बोली- कहां जा रहे हो?मैंने उसे बोला- पानी लेने जा रहा हूँ मगर तुम यहां कैसे?वो बोली- मुझे अकेले डर लग रहा था. मामी ने अपनी लैगिंग्स और पैंटी घुटनों तक कर दी, जिस वजह से उनकी चिकनी जांघें नंगी हो गईं.

बाथरूम में भाभी के ऊपर गिरते हुए पानी को देखकर मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. चचा ने मेरी दोनों टांगों को अपनी टांगों से लपेट लिया और हाथों से कंधे को पकड़ कर अपने शरीर को आगे पीछे करने लगे.

वो चीखने लगी और रोने लगी- आंह भाई … बहुत दर्द हो रहा है मैं मर गई आं मुझे छोड़ दो … बाद में कर लेना.

मैं भी उसकी चिकनी टांगों के बीच बैठ गया और उसकी चूत में एक उंगली डाल दी. पाकिस्तानी एक्स व्हिडीओमैंने भैया की आंखों में देखा और अपने हाथ से अपने एक दूध की टौंटी पकड़ कर इशारा किया. हिंदी बीएफ बीएफ बीएफआज मुझे पूरी उम्मीद थी कि मेरे लंबे लंड और पिंकू की कुंवारी चूत का मिलन होने वाला है, आज पिंकू को चोद कर रहूंगा, उसकी मचलती जवानी का रस पीकर रहूंगा. मम्मी दोनों टांगें फैला कर दादाजी के मुँह पर बैठ गईं और अपना गीली पैंटी में कैद अपनी चूत को दादा जी के मुँह पर रख दिया.

उन्होंने मुझे कैसे पटाया?लेखक की पिछली कहानी:चुत की अदला बदली में चुदाई का मजादोस्तो, मेरा नाम अमित है.

मेरे भरे और फूले हुए गोरे गाल और पिंकिश रेड होंठ मेरी खूबसूरती में चार चांद लगाते थे. [emailprotected]मेरी सेक्सी हिन्दी कहानियाँ … अगला भाग:जीजू और उनके दोस्त के साथ सैंडविच चुदाई- 2. हम दोनों ने पहले न कभी गांव देखा था, न ही इस तरह रात कभी नहीं बिताई थी.

जब मैं एक सीट पर बैठा तो मेरे सामने की सीट पर कुछ दूरी पर एक भाभी बैठी थीं. मैंने आगे हाथ बढ़ा कर उसकी दोनों चुचियां पड़क लीं और उसकी पीठ को किस करते हुए चोदने लगा. करीब एक घंटे बाद जीजू ने मुझे उठाकर दूसरे कमरे में लाकर फिर से काफी देर तक चोदा और मुझे चरम सुख तक पहुंचा दिया.

बडी गांड की तस्वीरें

तो कैसी लगी मेरी चूतिया कहानी? मैं बस कुछ भी लिख देती हूँ जो मेरे मन में आ जाता है. दीदी की बुर से काफी सारा पानी निकला जिसे मैं सारा का सारा चाट चाट कर पी गया. लगभग 4 दिन बाद लगभग सुबह 9 बजे उठ कर मैं छत पर घूम रहा था कि वो आंटी फिर से कपड़े सुखाने आईं.

वैसे भी मैं खुद शादी करना चाहता था … मगर मेरे पास फिलहाल कोई ऐसी स्त्री है ही नहीं, जिससे मैं शादी कर सकूँ.

ऋतु की चूत बुरी तरह से फट गई थी और उसमें से हल्का सा खून बाहर आने लगा था.

वो लंड अन्दर अड़ा कर बोला- आंह मेरी जान सन्नो … पी जाओ, दर्द कम हो जाएगा. अब उसकी चुत एकदम से ऊपर उठ गई थी, मेरा लंड धीरे धीरे उसमें गोता लगाने लगा. बीएफ वीडियो हिंदी ब्लू फिल्मइंडियन हॉट भाभी सेक्स कहानी मेरे ख़ास दोस्त की बीवी की गर्म चूत की चुदाई की है.

कभी सड़कों के किनारे, कभी पेड़ के नीचे, कभी घड़ी बना कर चुत में लंड चल रहा है. दुर्भाग्य से आज भी हमारे बीच में इससे ज्यादा सेक्स विद फ्रेंड वाइफ ना हुआ. जिस कमरे में वो लोग थे, वहां की खिड़की से सब कुछ साफ़ साफ़ दिख रहा था.

सनी अब लंड को सिर्फ सुपारे तक बाहर निकालता और पूरी ताकत से घुसा देता. वे मेरे दूध, चूतड़ और मेरी पुसी से खेलने के साथ मेरे होंठों को भी चूस रहे थे।ज्यादा नहीं … दस मिनट में वापस हम तीनों ही तैयार हो गये.

उन्होंने अपनी कमर थोड़ी सी उठा ली, जिससे मुझे झटके लगाने में आसानी हो गयी.

फिर रसोई में जाकर एक कटोरी में तेल लिया और दीदी के कमरे में चला गया. हैलो फ्रेंड्स, मैं अंशु सिंह आप सभी का पुन: एक बार अपनी सेक्स कहानी में स्वागत करता हूँ. भाभी मुस्कुरा कर बोलीं- क्या हुआ?मेरे मुँह से न जाने किस झौंक में निकल गया- आप बहुत सेक्सी लग रही हो.

बीएफ इंग्लिश पंजाबी मामी अपनी चूत पर उंगली फिरा रही थीं उनकी चूत से रस बहकर उनकी जांघों तक फैल रहा था. कुछ पल की चुत चुसाई का मजा लेने के बाद मैंने अपनी नशीली आंखों से उसे देखा, तो वो भी चुदासी दिख रही थी.

लाइट तो थी नहीं, हां एक लालटेन थी, जिसकी पीली रोशनी में हम दोनों एक दूसरे को देख कर मुस्करा दिए. मैंने भी तुरंत ही झटका दे मारा और पूरा सुपारा उसकी चुत में पेल कर फंसा दिया. फिर खड़े होकर अपने लंड को अपने ही थूक से गीला करके उसकी गांड के छेद पर टिका दिया.

औजार पर घी लगाने के फायदे

पापा ने रुक रुक कर तेल टपकाना जारी रखा और उसकी गांड तेल से लबालब हो गई. तो मैंने कहा- अगर तुम्हें अच्छा नहीं लगेगा तो हम नहीं करेंगे।नीतू ने कहा- ठीक है, जो करना है करो … लेकिन जल्दी करो. दोस्तो, कैसे हैं आप सब … आज मैं आप सबके लिए एक सच्ची चूत गांड डबल सेक्स कहानी लेकर आया हूं कि कैसे मेरी गर्लफ्रेंड मेरे दोस्त और मुझसे एक साथ में चुदी.

मैं उसकी पैंटी के ऊपर से ही चुत में उंगली करने लगा और कुछ देर बाद उसकी ब्रा और पैंटी भी खींच कर उतार दी. मैंने उसे कुछ नुक्ते बताये जिनसे वो उन लड़कों को अपनी तरफ आकर्षित कर सकती थी.

Xxx सेक्सी गर्ल की चुदाई कहानी में पढ़ें कि मेरे पड़ोस में आये एक परिवार में अंकल की कुंवारी बहन भी थी.

उसने अपने हाथ आगे लाकर सनी की छाती पर रखे, तो उसे अहसास हुआ कि उसकी छाती बिल्कुल ठोस और कठोर बन चुकी थी. इससे ऋतु का मजा बढ़ गया और उसका मुँह से मादक सीत्कार निकलने लगी थीं. लेकिन मैंने रमेश को मना लिया कि आज वह अंदर डाले बगैर बाहर-बाहर से ही मजा ले ले, बाकी दिनेश को ही ढीली कर लेने दे और कल वह कोशिश करे.

बाद में पता चला और चुदाई के बाद मीना ने भी बताया था कि लंड अन्दर जाकर ऐसा लग रहा था कि मुँह से निकल आएगा. मैं बता दूँ कि मैं अन्तर्वासना और फ्री सेक्स कहानी पर रोजाना सेक्स स्टोरी पढ़ता हूं. मामी- मुझे भी आज तुम्हारे साथ बहुत मजा आया … तुम्हारा स्टेमिना, चोदने का तरीका, उस सबकी मैं फैन हो गयी.

जैसे ही मैंने चिराग का टॉवल खोला, तो मेरा हाथ चिराग के गर्म लंड पर जा पड़ा.

हिंदी में देसी बीएफ पिक्चर: उसने मुझे कमरे में ले जाकर बिस्तर पर लिटा दिया और अपने कपड़े उतारने लगा. दोस्तो, अगर आप के मन भी कोई शंका है तो आप ईमेल से पूछ सकते हैं या किसी भी सोशल एप पर मुझसे बात कर सकते हैं.

[emailprotected]माउथ सेक्स कहानी का अगला भाग:मेरी यौन अनुभूतियों की कामुक दास्तान- 8. उनके गीले बाल जब उनके गालों पर आ रहे थे, तब वो और ज्यादा खूबसूरत दिख रही थीं. यह हॉट लेडी Xxx कहानी उस वक्त मार्च 2020 में शुरू हुई थी, जब कोरोना का डर शुरू हुआ था.

मेरे मुँह से लंड चूसने से लार बह रही थी, जिसके कारण मेरे बूब्स पूरे गीले हो गए.

दूसरी तरफ सपना का पति प्रदीप, प्रिया को खा जाने वाली नजरों से देखे जा रहा था. ऋतु अपने हाथ सनी के सिर के पीछे ले आई और मस्ती से उसके बालों को सहलाती हुई उसके होंठ चूस रही थी. कुछ ही देर में पिंकू के चेहरे पर संतुष्टि की लकीरें साफ दिखाई दे रही थी.