गांव देहाती सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बंगला सेक्सी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी चुदाई रंडी: गांव देहाती सेक्सी बीएफ, थोड़ी देर बाद उसने एक और धक्के के साथ पूरा लंड मेरी चुत में घुसेड़ दिया.

पूनम पांडे का सेक्सी

अच्छे से लंड चूसने के बाद रूपा ने ज़मीन पे लेट कर पप्पू के दोनों पैरों के एकदम नीचे उसके लंड के पास आते हुए उसे अपने मुँह पे बिठाया, जिससे उसका लंड पूरा रूपा की गिरफ्त में रहे और पप्पू की झाँट, गोटियाँ और गांड का छेद भी एकदम जीभ के पास हो. सेक्सी सेक्सी डॉगमॉंटी- हैलो दीदी, गुड मॉर्निंग कैसी हो आप?सुमन- गुड मॉर्निंग मॉंटी.

उसने फिर से बच्चों से पूछा- ये कौन है?तो बच्चे बोले- जो अन्दर हैं, यही तो हैं. मराठी बायांची सेक्सी व्हिडिओशायद उसे बाद में अहसास हुआ कि ऐसा नहीं करना चाहिए था, वो दोबारा उस नंबर पर कॉल करने की कोशिश करने लगी, पर मैंने तो सिम ही तोड़ दी थी.

फिर मैंने देखा कि रिया एक लड़के में कुछ ज्यादा ही इंटरेस्ट ले रही थी.गांव देहाती सेक्सी बीएफ: मैं बहुत दिनों से लंड लेने को तड़फ़ रही हूँ, आज बुझा दे अपनी दीदी की प्यास.

तब समझेगी कि जितना बड़ा लंड अन्दर जाता है, उससे उतना ही ज्यादा मज़ा आता है.अब मैं जोर जोर से नेहा की चूत चूस रहा था, जिससे नेहा सिसक रही थी और हमें देखकर सोनिया भी उत्तेजित हो गई थी.

सेक्सी फिल्म भेजो चालू - गांव देहाती सेक्सी बीएफ

लेकिन वहां की अव्यवस्था, व्यभियाचार और वहां के एक अधिकारी की लालची दृष्टि एवं दुर्व्यवहार के कारण चार ही दिनों बाद मैं वहां से भाग निकली.आपको वहां जाना चाहिए और वैसे भी जहाँ तक मुझे याद है, लास्ट टाइम आपने बताया था ना कि एक बार मामी ने खुद आपको बुलाने के लिए फ़ोन किया था.

ये कहिये कि जिसके लंड से मैंने अपना कौमार्य खोया, उसको ही पति मान लिया था मैंने बिना शादी के!आखिरकार एक दिन आशीष ने मुझे शादी के लिए कहा तो मैंने सहर्ष स्वीकार कर लिया. गांव देहाती सेक्सी बीएफ अब मैंने अपना हाथ साड़ी के अंदर डाला तो पाया कि वो पूरी गीली हो चुकी थी.

रानी ने मुझे मेहता के बारे में सब कुछ बता दिया था कि उसने मेहता को कैसे खुश किया था.

गांव देहाती सेक्सी बीएफ?

उनकी शादी एक साल पूर्व 2012 में हुई थी और व्यापार के सिलसिले में वो लोग हैदराबाद आए थे. हमें दूसरे दिन सुबह ही पहुँचना था तो हमने रात को निकलने का डिसाइड किया. हम दोनों ने मन्दिर में जा कर खून से माँग भर के शादी कर ली और अपने-अपने घर चले गए.

हाय दोस्तो मेरा नाम राजीव है, मैं आपको अपने जीवन की एक गहरी सच्चाई, रियल सेक्स स्टोरी बताने वाला हूँ. जब इसका सही वक़्त आएगा, मैं तुझे बता दूँगा तब तक बस तू ऐसे ही अलग-अलग फ्लेवर्स का मज़ा लेती रहना. आह… क्या माल लग रही थी वो…वो चल कर हमारे पास आने लगी और मैं तो बस उसे ही अपलक देखे जा रहा था.

मैंने ज्यादा देर ना करते हुए चाची का कुरता उतार दिया और अगले ही झटके में उनकी सलवार भी नीचे पड़ी थी. तेरी माँ बड़ी चुदक्कड़ है समझी? आजकल तो दारू पी कर मस्त हो कर चुदवाती है. लेकिन मेरे कॉल ब्वॉय बनने के पहले भी में काफ़ी भाभियों और लड़कियों को चोदा है, मेरे फैमिली की मौसी की बेटी और मेरी आंटी को भी चोदा है.

मैंने चाय बनाई और हम दोनों ने साथ में नाश्ता किया, फिर साथ में बैठ कर बाते करने लगे. जबकि मौसी के गुप्त अंग के पास इतने घने काले बाल देख कर पहले मैंने खुद की तरफ देखा और आश्चर्य से मौसी से पूछा- मौसी आपके वहां इतने सारे बाल कैसे हैं, मेरे तो नहीं हैं?मौसी बस मुस्कुरा दीं और कुछ नहीं बोलीं.

उसकी जांघें चिकनी मक्खन मलाई सी थी, मैंने उसकी नंगी जांघों को सहलाया तो उसे गुदगुदी हो रही थी.

मैंने सुबह ही घर से कॉलेज का बहाना किया और घर पर बोल दिया कि आज मेरी कुछ एक्स्ट्रा क्लास है इसलिए लेट हो जाऊंगा.

मैं अपनी जीभ को नुकीला करके भाभी की चूत में थोड़ा अन्दर-बाहर करते हुए फेरने लगा. मेरा भाई पहले तो गौर से मेरी चूचियों को देखता रहा और फिर उसने हाथ लगाया और धीरे-धीरे चूची दबाने लगा. मामा जी ने भी घुटनों के बल आधे बैठ कर लंड मेरी चूत में घुसा दिया और धक्का देने लगे.

रियल सेक्स स्टोरीपड़ोसन को स्कूटी सिखा कर चोदा-2से आगे:थोड़ी देर में बाथरूम से होते हुए सुमन मेरे पास आ गई. राहुल उनकी गद्देदार चूत के होंठों के आस पास धीरे धीरे से अपनी उंगली को घुमाने लगा. इस पोज़िशन में आठ-दस धक्के खाने के बाद रूपा चूत से लंड निकाल कर घूम के अपनी पीठ पप्पू की तरफ कर के लंड अपनी चूत में डाल कर चुदवाने लगी.

पहले मैं आपको अपने बारे में बता दूँ, मेरी उम्र 21 साल है और मैं चंडीगढ़ में रहकर बी.

उसे नहीं पता था मैंने वियाग्रा खा रखी है और मेरा लंड दो घण्टे तक नहीं बैठेगा. अब काकू ने टॉवल ऊपर करके उसके मम्मे ढक दिए और पैरों की ओर होकर पहले घुटने तक और बाद में जाँघों तक की मालिश करने लगा. मैंने फोन उठाया और कहा- कैसे हो हनी?उधर से पीटर ने मुझे फ़ोन पर ही चुम्मा देते हुए कहा- लंड हाथ में लेकर बैठा हूं तेरे इंतजार में मेरी रानी.

रूपा रंडी… पहले मेरा लंड और फिर मेरी गोटियाँ और बाद में मेरी गांड चाट. क्यों रानी, गांड फटने के डर से फट गयी क्या तेरी?”नहीं मेरे राजा तेरा सात इंची लंड पूरा का पूरा अन्दर तक घुस जाए. आज फिर वो आने वाली है, क्योंकि जो अल्का की क्लास टीचर हैं, उनकी तबीयत खराब हो गई है.

मेरे कमरे के बगल में ही मेरी बेटी का कमरा था और उसी कमरे मे अमित को सोने के लिये बोला था और मेरी बेटी अपनी बुआ के पास सोई हुई थी.

सैफिना ने मेरी तरफ देखा तो मुझे भी कुछ समझ नहीं आया कि शहज़ाद क्या चाहता है और सैफिना को मैं क्या कहूँ. आशीष पूरा लंड निकल कर एकबारगी अंदर तक डाल देते मेरे न चाहते हुए भी चीख निकल जाती ‘उईइइ ईई ई ई ई आह्हः उफ्फ ओह्ह्ह आ…शी…ष.

गांव देहाती सेक्सी बीएफ अब मैंने चाची की एक टांग छोड़ी और उनकी टांगों के बीच में घुसकर उनकी एक टांग उठाकर चोदने लगा. उसने बोला- मैं रेहाना।कसम से दोस्तो, दिल ने इतनी ज़ोर से धक्का दिया कि मुझे लगा कि जैसे हार्ट अटैक आ गया हो। उसका फिगर दिखने में कोई ऐसा ख़ास नहीं कमर 28 की, बूब्स शायद 30 के, लेकिन वो सुंदर कमाल की थी।फिर मैंने रेहाना को कुर्सी दे दी और उसे बैठने को कहा तो वो बैठ गई.

गांव देहाती सेक्सी बीएफ वैसे भी तुम इस लंड और चुत के खेल में इतना आगे आ गई हो, अब तुम्हें भी लंड की जरूरत है. अंकल ने उसको सीधा लेटाया और उसके पैरों को मोड़ कर लंड को बुर पर सैट करके रगड़ने लगे.

अब विनय ने भी अपना लंड पूरा पेला और थोड़ी देर में ही उसका लंड कविता की चूत में चुदाई कर रहा था और दोनों के होंठ और जीभ मिले ही थे.

सेक्सी डाउनलोड वीडियो फिल्म

”, मेरी डार्लिंग”, ओह मेरी छमिया…”, उम्म्म”, आह… का मुलायम तवचा है तोहारी…” जैसी बातें निकल रही थी. सलवार का नाड़ा खुलने की बात तो मेरे समझ में आई, लेकिन उसकी अंगड़ाई ने मुझे उत्तेजित कर दिया. मैंने रूबी की चूत पर अपने होंठ लगाए, चूत के दाने को होठों से चूसना शुरू किया.

मेरी जाने कब से उसे चोदने की इच्छा है, पर कोई तरकीब समझ में नहीं आई. लोवर से मूत्र और पसीने ही हल्की मिक्स खुशबू आ रही थी जो मुझे और भी दीवाना बना रही थी। लोवर के ऊपर से ही उसका लण्ड का शेप साफ दिखाई दे रहा था जिसे मैंने होंठों में भर लिया. क्या हो गया है आपको! मैंने आपका नाम कब लिया? मैं तो बस ऐसे ही बता रहा था.

तो बेटा, आज तेरी चूत को कच्चे केलों का स्वाद चखाता हूँ मैं!” मैंने कहा और केलों के गुच्छों में से दो बड़े वाले जुड़े हुये केले तोड़ लिए और अपने लंड को उसकी चूत से बाहर निकाल के एक सबसे बड़ा वाला केले पर तेल चुपड़ के बहूरानी की चूत में कोशिश करके पूरा घुसा दिया, दूसरा केला नीचे लटक के झूलने लगा; इसी स्थिति में मैं लंड को फिर से अदिति की गांड में घुसाने लगा.

ये बहन, बीवी, माँ, साली, चाची, बुआ आदि इत्यादि रिश्ते तो इंसानों की बनाई हुई बकवास बातें हैं, जो ना मुझे पसंद हैं और ना मैं मानता हूँ. मैंने अपना लंड उसकी चूत पर से थोड़ा पीछे हटाया और फिर उसकी गर्दन पकड़ कर एक जोर से झटका लगा दिया. हमने एक मॉल में मिलने की बात तय की और मैं गया, जब मैंने उसे सामने देखा तो देखता ही रह गया.

उसकी चूत बहुत टाइट लग रही थी, उसे दर्द भी हुआ लेकिन उसने बर्दाश्त कर लिया. जो मेरी राइट साइड की लेडी थी उसने बोला- ज़्यादा ही भाव खा रहा है मादरचोद. हम दोनों एक-दूसरे के बांहों में समा चुके थे, उसका सारा दर्द जा चुका था और वो अब चुदाई का मज़ा ले रही थी.

उस के बाद मेरे हाथ उस के शर्ट के नीचे उसकी जाँघ पर घूमने लगे, संगीता की आँखें बंद थीं और उसके मुँह से हल्की ‘इसस्स. मैंने उसे चोदना चालू रखा, उसने स्पीड बढ़ाने के लिए कहा, बोली- थोड़ा जोर से करो, अब मजा आ रहा है.

रितु दीदी ने पूछा- गांड कैसे मारते हो?मैंने बताया कि जैसे लड़का लड़की की बुर में अपना लंड डाल कर अन्दर बाहर करता है, वैसे ही हम लड़के गांड में लंड घुसेड़ कर अन्दर बाहर करते हैं और गांड में ही झड़ जाते हैं. उस रात दो बजे तक मैंने रूबी को तरह तरह से चोदा और उस रात को बेहद रंगीन बना दिया. वो लोग किसी शानदार रूसी लड़की यानि पोर्न एक्ट्रेस की खोज में थे, जो एनल सेक्स में एक्सपर्ट होने के साथ-साथ गजब की सुन्दर भी हो!जिस दोस्त ने मेरा रुस्लान से परिचय कराया था, वो थोड़ी देर बाद हम लोगों से क्षमा मांगते हुए विदा हो गया और रुस्लान संग हम दोनों बियर की चुस्कियां लगाते रहे.

फिर मैंने उसकी चूत को जुबान से ही चोदना शुरू कर दिया, इससे उसे बहुत मज़ा आ रहा था.

अब तुम्हारा आगे क्या करने का प्रयोजन है तथा मुझे बताओ कि मैं तुम्हारी सहायता कैसे कर सकता हूँ?मैं बोली- मुझे तो सिर्फ इतना पता है कि अब मुझे सिर्फ इस बच्चे के लिए ही जीना है लेकिन यह नहीं मालूम उसके लिए क्या करूँ. शायद ये अहसास उसी को हो सकता है, जो उस स्थिति में पहुँच कर ही जाना जा सकता है. मैं अंदर से बहुत डरी हुई थी, मैं बोली- प्लीज यार छोड़ दो!लेकिन सब मूड में आ चुके थे, सबका लण्ड तन के रॉड बन चुका था.

मैं मैदान की भीड़ भाड़ से थोड़ा अलग गया और सुनसान मैदान, हल्के अँधेरे और कुछ गिने चुने खण्डहरों को देखने लगा और इन सब के बीच किसी जवान मर्द के मूसल जैसे लंड की कल्पना करने लगा. जैसे ही कमरे पर पहुँचा तो वो बोली- इसलिए मैंने एक्सेप्ट नहीं की थी.

मेरा सबसे पसंदीदा स्टेप घोड़ी वाला है, मैंने उसे घोड़ी बनाया और पीछे से उसकी चूत को निशाना बना कर लंड अन्दर डाल दिया. मैंने माथे का पसीना पौंछा और उस लड़की के फोटो पर नज़रें गड़ गईं मेरी. फिर से लड़कों में कुछ इशारे हुए और उन्होंने हमें टेबल पे ही उल्टा किया और कुतिया की तरह हमें चोदने लगे.

राजस्थानी गांव की देसी सेक्सी वीडियो

टीना ने झट से नीचे बैठ कर अतुल के लंड को मुँह में भर लिया और चूसने लगी.

फिर तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड क्यों नहीं है?बस ऐसे बात करते करते पता ही नहीं चला कि कब हम दोनों होंठों पर किस करने में लग गए. लगभग 5 मिनट के बाद जब राहुल उनके दोनों चूचुकों को चॉकलेटी से लाल कर चुका था तो उसने उनके बदन से सारे कपड़े उतार दिए और अपने हाथों को अनामिका जी के पेट से घुमाते हुए उनकी नाभि और उनकी नाभि से उनकी चूत तक ले गया जो कि पूरी तरह गीली हो चुकी थी. जैसे ही पप्पू का हाथ अपने लंड पे गया, रूपा अपने हाथों से खुद अपनी चूचियाँ मसलती हुई बोली- उउम्म्म थोड़ा और जोर से मार ना… पूरा लेना है लौड़ा चूत में हरामी.

मगर अफ़सोस कि मुझे बहन नहीं मिली है वरना आज ये सब लिख ना रहा होता बल्कि इस वक़्त उसे चोद रहा होता. माँ बेटी दोनों चुदक्कड़ थीं जिन्हें मैं हर रोज बारी बारी से चोदता रहा. सेक्सी भोजपुरी सेक्सी व्हिडिओप्रिया- मैंने क्या देखा?मैं- झूठ मत बोलो मैंने आपको देखा था उस छेद से आप मुझे देख रही थींप्रिया आंटी ने मुस्कुरा कर कहा- ओके नहीं बताऊंगी.

मैंने सोचा शायद आज सारा काम मुझे ही करना पड़ेगा, फिर मैंने उनका पेटीकोट का नाड़ा खींच कर पेटीकोट उतार दिया. मैं जल्दी से उस कुर्सी पर बैठ कर बेटे को दूध पिलाने लगी और अपना सिर घुमा कर कमरे में रखी वस्तुओं को देखने लगी.

लंड को उस की चुत में अन्दर बाहर करने के दौरान संगीता 2 बार मुझसे तेज़ी से चिपक कर अकड़ गई थी. तुम सारा दिन ये क्या चूसती रहती हो?फ्लॉरा- भाई ये लॉलीपॉप है और ये मेरी फेवरिट है. कविता ने कसमसा कर उसको रोकने की कोशिश की पर तब तक पैंटी उतर चुकी थी.

मामा जी ने मेरे चूतड़ अपने दोनों हाथ से फैला कर अपने होंठ पीछे से मेरी चूत पर चिपका लिए; अब मेरी चूत को पीछे से ही चूसने लगे, मैं गर्म होने लगी, मेरे मुँह से मादकता भारी आवाज़ निकलने लगी, मैं बोलने लगी- जल्दी से अपना लंड मेरी चूत में घुसा दीजिए. आपका विक्की खन्ना[emailprotected]सेक्स कहानी का तीसरा भाग :इश्क विश्क प्यार व्यार और लम्बा इन्तजार-3. शहज़ाद ने मेरे होठों से होंठ चिपका दिए और उसी अवस्था में मुझे बेडरूम ले गया.

थोड़ी देर बाद मैं बैठ गया और उनके ब्लाउज के 2 बटन खोल कर ब्लाउज ऊपर खिसका दिया क्योंकि पूरा ब्लाउज खोलने में रिस्क ज्यादा था.

हाय फ्रेंड्स, मैं नेहा! मुझे मेरे दोस्त ने बताया कि मॉडलिंग ट्राई कर क्योंकि मैं बहुत हॉट एंड सेक्सी हूँ. ’ बोला और वहां से हम दोनों बिलासपुर आ गए जबकि उसकी छुट्टियां अब भी बाकी थीं.

बाहर जोर की आवाज़ हुई शायद कोई बर्तन गिरा था और उस आवाज़ के होते ही गुलशन जी ने जल्दी से लंड मुँह से निकाला और लुंगी में डाल लिया. कुछ दिनों में मेरी छुट्टियां भी ख़त्म हो गईं, मैं वापिस कॉलेज आ गया. मैं तो जैसे वहाँ से उड़ता हुआ अपने कमरे में पहुँचा और जल्दी से अपना बैग पैक किया और अपनी बाइक पर निकल पड़ा.

ये लंबी चीज है अगर तू पूरा मुँह में लेकर चूसेगी तो शायद इसका नाम बता पाएगी, नहीं तो हार जाओगी. दोस्तो, गुलशन जी को पता चल गया है कि फ्लॉरा उनकी सग़ी भांजी है, वो अपनीभांजी की चिकनी चूतचोद चुका है. वो मेरी चुत को पीने लगा, मैंने भी बदले में उसके लंड को मुँह में ले कर रस पान किया.

गांव देहाती सेक्सी बीएफ मुझे मस्ती चढ़ने लगी और मैंने भी नीचे से अपनी गांड उठा कर कमर से पैरों को जकड़ कर चुत में लंड ठुकवा रही थी. मैं आंटी से कहा- अब उल्टा हो कर लेट जाओ आंटी, तो आपकी कमर की भी मालिश कर दूँ.

हिंदी सेक्सी पिक्चर ऑनलाइन

भाई से चूत चुदाई की मेरी रियल सेक्स स्टोरी आपको कैसी लगी?[emailprotected]. मैं बहुत ज्यादा हैंडसम तो नहीं हूँ, पर औसत से थोड़ा अच्छा दिखता हूँ. कमसिन लड़की की चुत जितनी टाइट होती है, उससे कहीं ज़्यादा उसमें गर्मी होती है.

अब धीरे-धीरे जॉय दवा लगाने लगा और उसके हाथों का स्पर्श फ्लॉरा को उत्तेज़ित करने लगा. अब मैंने उन्हें बेड पर लिटा दिया, उनकी सलवार भी खींच कर अलग कर दिया. सेक्सी सेक्सी जानवरवो बोलीं- क्या हुआ?मैंने कहा- आपने अभी क्या बोला?उसने कहा- क्यों सुना नहीं?मैंने बोला- सुन तो लिया था.

वो 11 इंची नकली लंड गुं गुं की आवाज निकलते हुए मेरी चुत में तहलका मचाने लगा.

रूम का दरवाजा बंद करते ही मैंने उसको गोद में उठाया और दीवार से लगा कर अपने हाथों से उसके दोनों हाथ ऊपर की तरफ दीवार से चिपका दिया और उसको चूमने लगा. वैसे तो कमरे की लाइट बंद थी मगर बाहर से हल्की रोशनी अन्दर आ रही थी और उसने सुमन की चुत एकदम चमक रही थी.

उस फ्लोर पर एक फ्लैट खाली था, एक में एक बुजुर्ग कपल रहता था, जो 7 बजे ही अपने दरवाजे बंद कर लेता था. मैं भी तुरंत जोश में आ गया और उसे गोद में उठा कर सोफे पर लाकर पटक दिया और उस पर टूट पड़ा. निकाह के बाद हम दोनों शहज़ाद के परिवार में नहीं रहेंगे और घर से दूर शहर में अलग मकान ले कर रहेंगे.

फिर यश ने मुझे और मामी को ऐसी पोजीशन में बिस्तर पर लेटाया कि मेरे मुख में यश का लंड, यश का मुख मॉम की चूत पर और मॉम का मुख मेरी चूत पर…अब हम सब एक दूसरे के यौन अंगों को चूसने में लग गए.

मैं- अभी और भी बाकी है… शेव करूँ या!अनुराधा- करो…मैं- डॉगी स्टाइल में आजा…अनुराधा- पहले शेव तो कर लो…मैं- उसी के लिए कह रहा हूँ मैं… तेरी गांड के आस-पास भी झांटें हैं, उन्हें भी शेव करनी हैं. असुविधा होने पर दोनों पोजीशन बदल देते और थोड़ा रुक रुक कर चोदने से काफी लंबे चले. चाची झटके से खड़ी हुईं और बोलीं- पागल हो गए हो क्या? कोई आ गया तो?अगले दिन स्कूल लगना था तो चाची चाचा के साथ सीकर चली गईं.

सेक्सी वीडियो 3g 4gआप होकर आ जाओ, तब तक मैं अपना काम निपटा लेती हूँ और अपनी लाड़ली को भी उठा दो. मैं तो उनके सेक्सी लुक में खो सा गया था, तभी मामी ने मुझे पुकारा तो मैं अचानक होश में आया और मामी को नमस्ते करके घर के अन्दर आ गया.

खाली सेक्सी व्हिडिओ

उसके मम्मे इतने बड़े थे कि मुझे उन्हें दोनों हाथों से दबाने में बहुत मजा आ रहा था. अब कहाँ उनका मन था, तो बस वो बहाना बनाने लगे कि वो थक गए हैं, आराम करना है. इतने में उसकी नज़र खून के धब्बे पर पड़ गई और वो कहने लगी- ये क्या है?मैंने उससे कहा- क्या बायोलॉजी नहीं पढ़ी हो.

मॉम के आने के बाद भी हम दोनों को जब भी मौका मिलता है, तो हम दोनों चुदाई कर लेते हैं. साथ ही मैंने दीदी की नाइटी निकाल कर उनको सिर्फ़ ब्रा और अंडरवियर में रहने दिया. फिर मैं जाने के लिए रेडी होने लगा तो वह बोली- अब कब मिलोगे?मैं बोला- जब आप बुलाओगी.

मैंने उसकी ब्रा और पैंटी को भी उसके जिस्म से उतार कर फ़ेंक दिया और उसजे मम्मों को दबाने लगा, चूसने लगा, कभी उसकी चूची चूसता तो कभी उसकी नाभि तो कभी उसकी चूत. मैंने उनसे पूछा- आप अपनी झांटें साफ़ नहीं करती हैं?वो बोलीं- कभी कभी करती हूँ, पर इधर समय ही नहीं मिल पाया. वो दोनों जब नीचे पार्किंग में पहुंचे तो वहाँ और सड़क पर बहुत पानी भरा हुआ था, दोनों वापिस आ गये.

मैं फिर से उसी आनन्द के सागर में चली गई, बस आशीष का इंतज़ार था कब लंड को बुर में डालें… मेरी बुर से पानी निकल रहा था लिसलिसा सा!बुर लंड का मिलन ‘उफ्फ… ये आशीष देर क्यों कर रहे हैं?’ वे अपने लंड को मेरी बुर के छेद पे टिकाते फिर हटा लेते. मुझे मेहता का लंड भी बहुत पसंद आ गया था इसलिए मैं आज भी उसके घर जा कर उससे खूब जम कर चुदवाती हूँ और मजा लेती हूँ.

मैंने कहा- आप ना तो ज़्यादा मेकअप करती हो फिर भी साफ़-सफाई का इतना ध्यान रखती हो, जो मुझे बहुत अच्छी लगती है.

मेरे पूछने पर कि उसका शयनकक्ष कौन सा है तो उसने कमरे से बाहर जाते हुए बिल्कुल साथ वाले बड़े शयनकक्ष की ओर इशारा कर दिया. सेक्सी फोटो सेक्सी ब्लूमैं भी तुरंत जोश में आ गया और उसे गोद में उठा कर सोफे पर लाकर पटक दिया और उस पर टूट पड़ा. सेक्सी गर्ल्स वीडियोसकुछ ही पलों बाद शायद चुत को काफ़ी तेज रगड़ने से मौसी का बदन ऊपर की ओर उठा, फिर धम से खाट पर उनकी कमर गिरी और वो शांत हो गईं. मेरे लंड ने उसकी चुत में पानी की जो बौछार करी कि वह हवस की मारी मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

आज शाम को भैया भाभी शादी में चले जाएंगे कल सुबह जब तू दूध देने आएगा तो देख लेना… मस्त एक से एक आइटम दिखाऊंगा।वह भी थोड़ा खुश हो गया लेकिन कुछ जवाब नहीं दिया… उसके जवाब ना देने से मैं थोड़ा असमंजस मैं था कि आखिर सर्वेश की क्या इच्छा है.

और सबसे बड़ी बात ये थी की वो खुद को बड़ी अच्छे तरीके से मेंटेन करती थी. मैंने उसकी पैंटी को एक झटके में अलग कर दिया और उसके पैरों के बीच आ गया. अगर मैं कुछ और बोलती तो हो सकता कि वो डर जाता और नेक्स्ट टाइम मुझे लंड के दर्शन भी न होते.

वो कहती है कि जब तक मैं उसकी चुत में अपना लंड का मज़ा नहीं देता, तब तक उसे नींद नहीं आती है. मतलब मसला, तुझे आज मसल के चोदूँगा… अब रही सिर्फ़ श्वेता जब छुट्टियों में हॉस्टल से आएगी तो उसे भी चोदूँगा. सुमन ने मुझे ऐसा करते देख लिया था, उसने कहा- लाओ मैं खुद से लगा लूँगी.

कुत्ते कुत्ते की सेक्सी वीडियो

मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया पर ये चुदाई करने के लिए सही वक्त नहीं था तो मैं नीचे आ गया और सीधे बाथरूम में जाके रात की चुदाई को याद करके मुठ मार कर लंड को शांत करने लगा. बीच के बाल आगे से पीछे की ओर थे और साईड़ के बहुत छोटे थे जो एक सेक्सी लुक दे रहे थे. बीच-बीच में मणि मुझे भी टच कर के मजे ले रहा था, मुझे भी अच्छा लग रहा था तो मैं कोई ऐतराज नहीं कर रही थी.

आप जल्दी कोई लड़की तो देख कर रखो ताकि सही वक़्त पर हम उसको पापा के पास लेकर जा सकें.

तो सविता भाभी ने अपनी सहेली की मदद करनी ही थी उसके प्रथम यौन-मिलन में, शोभा का कौमार्य-भंग में !कौन होगा वो भाग्यशाली नौजवान जिसे इस अक्षतयौवना को पहली बार भोगने का मौका मिलेगा? क्या वो ज़िम-ट्रेनर? या वो ब्रा सेल मैन? या कोई और?एक दिन शोभा सविता भाभी के घर जा रही थी.

मैं- लव यू अनु… एक बार मेरा लंड चूस ताकि वो बिल्कुल चिकना हो जाए और आसानी से घुस सके. शोभा- सविता भाभी क्या मैं भी आपके साथ उस ट्रेनर से मिल कर कुछ टिप्स ले सकती हूँ?सविता भाभी- अरे नहीं, वे कसरतें तुम्हारे लिए ठीक नहीं होंगी. सेक्सी पिक्चर 3 घंटे काजब हम दोनों उनके गले मिली तो कुछ लड़कों ने कुछ ज्यादा ही कसके हमें गले लगाया और साथ साथ हमारी गांड और मम्मे भी मसल दिए.

कमरे में एक ही बिछौना था, गद्दी भी एक ही थी, तो होना क्या था?आपके मन में जो भी कल्पना आई होगी वही हुआ. चाची बोली- भावेश, एक सवाल पूछूँ?मैं- हाँ चाची, पूछिए ना?चाची- क्या बात है आजकल तू मुझे कुछ ज़्यादा ही देखता रहता है?मैं- नहीं चाची, ऐसी तो कोई बात नहीं है. पर फिर वो अलग हो गए… मैं अपनी सांसों पे काबू करने में लगी रही, मेरी चूचियां तेज़ी से ऊपर नीचे हो रही थी.

गुलशन जी ने चुत पे साबुन लगाया, उसके बाद धीरे-धीरे वो रेजर से चुत को चमकाने में लग गए. मालती मुझे दूसरे कमरे में ले गई और वहां पर मुझे बेड के तरफ धकेल दिया.

मैं उनसे बात तो कर रहा था, लेकिन मेरी नज़रें आंटी के मम्मों पर टिकी थीं.

तभी राजीव ने कहा- निकी, क्या तुम हमारी साकी बनना पसंद करोगी? बाद में रिया हमारी साकी बनेगी. ऐसा लग रहा था कि आज रागिनी पूरी मस्ती में है और पूरी तृप्ति पा चुकी है. नीता के हाथ से अपना लौड़ा छुड़ाते हुए पप्पू ने फिर नीता को बेड पे लिटाया.

सेक्सी ब्लू कैटरीना कैफ फिर अपना लंड पेंट से बाहर निकाल लिया और साथ ही अपने बैग से एक ड्रॉप्स वाली बोतल भी निकाली, जिसमें पाइनॅएपल का रस था. फिर हमने बिस्तर ठीक करके नाश्ता किया और उसने अनवॉंटेड की दवा ले ली.

मैं मन ही मन सोच रही थी कि यह मेरे साथ क्या हो रहा है, हमेशा सड़क पर ही मेरी चुदाई क्यों होती है. मैं 25 साल 6 फुट लम्बा एक बहुत ही हैंडसम लौंडा हूँ, मेरा कलर एकदम फेयर है. वो कहर बरपाती हुई किचन में चली गई और राहुल मुझसे मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में पूछने लगा.

एक्स एक्स एक्स कार्टून सेक्सी

मैंने उसे बताया कि मैं तो रितु दीदी से सब बता चुका हूँ कि हम तुम दोनों एक दूसरे की गांड मारते हैं, लंड भी चूसते हैं और सड़का भी मारते हैं. नई फसल का काम था तो खेत में ही रुकने के लिए एक कमरे का घर बनाया था. लगता है तेरे पति का लंड ज्यादा बड़ा नहीं है जो मेरा लंड इतना टाइट जा रहा है.

फिर मैंने कुछ ही देर में उसको घुमा दिया और उसकी पीठ को भी चूमने और चाटने लगा. जब हम लोग बाजार पहुंचे तो मैंने उसकी मनपसंद आइसक्रीम गुड़िया को दिलवा दी। गुड़िया आइसक्रीम को बहुत मजे से जीभ निकाल निकाल कर चूस रही थी जिसे देख कर मुझे ऐसा लग रहा था जैसे वह मेरा लंड चूस रही हो।उसे आइसक्रीम खाते देख कर मुझे बहुत मजा आ रहा था.

मैंने भाभी की झांटें भी कई बार साफ़ की क्रीम लगा कर! जब भाभी का मासिक धर्म हो रहा होता तो भी भाभी मुझे प्यार करती थी, अपने हाथ से मेरी मुठ मार कर मुझे मजा देती थी.

तेरी माँ भी इतनी चुदक्कड़ है कि मुझे कहा कि जब मैं शॉर्ट्स में झड़ जाऊँ तब मैं शॉर्ट्स ना धोऊँ ताकि बाद में तेरी माँ मेरी शॉर्ट्स चाट सके और इसी वजह से यह दाग है. मैं बोला- हाँ लेकिन अभी ये इस खड़े लंड का क्या करूँ?तो दीदी ने कहा- बाथरूम में मुठ मार लेना. मुझे बड़ी मुश्किल हो रही थी… मेरा लंड जा नहीं रहा था और उसे भी काफ़ी दर्द हो रहा था.

दोनों मुझे कमरे में देख कर घबरा गये, दोनों के चेहरे पर हवाइयां उड़ने लगी थी. साथ ही एक हाथ से भाभी की ब्रा को उतार दिया, अब उनके दोनों संतरे आजाद थे. दोस्तो, यह कहानी अन्य भाई बहन की चुदाई कहानी को आगे बढ़ाने का प्रयास है.

फिर एक बार मौक़ा आया, मेरी बुआ के लड़के की शादी थी तो मुझे घर जाना था.

गांव देहाती सेक्सी बीएफ: अब उसकी चुत में मुझे कोई इंट्रेस्ट नहीं रहा था इसलिए मैंने उसका बनाया हुआ खाना खाया और उसे वापस भेजा. करके चिल्लाया और अपना लण्ड मेरे मुँह से निकाल कर अलग किया जिसमें से एक लंबी पिचकारी निकली… शायद वह अपना वीर्य मेरे मुँह में गिराना नहीं चाहता था लेकिन यह तो मेरे लिए अमृत था, मैंने तुरंत उसका लण्ड अपने मुँह में गले तक भर लिया जिससे बाकी कि 4 पिचकारियों से निकला ढेर सारा काम रस मेरे मुँह में भर गया और वह निढाल हो गया.

वो बियर और नमकीन लेकर आ जाएगा और बाकी खाने का विक्की और साहिल देख लेंगे. मैंने कहा- इस एल्बम में तुम्हारी गर्लफ्रेंड की फोटो?वो बोला- चोंच बंद रखेगा?वो एल्बम पलटता रहा… और एक पेज़ पर आकर रुक गया। फोटो में उसकी बहन, बहन का पति और एक दोनों तरफ दो लड़कियाँ खड़ी थीं. फिर एक लड़के ने बोला- यार, ऐसा करते हैं इसे पार्क में लेकर चलते हैं.

नहा कर दोनों थक गयी थी तो डिनर पास के रेस्तराँ से आर्डर पर मंगवा लिया और खा पीकर नंगी ही चिपट कर सो गयीं.

कल तुम इसे आई पिल दे देना ताकि यह प्रेग्नेंट न हो जाए और एक तुम भी खा लेना. हाँ उसने सुमन के बारे में भी पूछा तो गुलशन जी ने सुमन को उनसे मिलवाया, तो बड़े खुश हुए और आशीर्वाद भी दिया, फिर चले गए. मैंने अपने दोनों हाथों से रूबी के मम्मे पकड़े और धीरे धीरे लंड को अंदर बाहर करने लगा.