हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी

छवि स्रोत,सेक्सी मूवी स्कूल गर्ल्स

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी गपशप: हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी, मेरे मुँह से बस सिसकारियाँ और आहें निकल रही थी। मैंने अपने पंजों से उसके सर को अपनी चूत में पूरा जकड़ लिया।थोड़ी ही देर में मेरी चूत से पानी झड़ गया और मैं निढाल हो गई।मेरे शरीर में जैसे कोई ताकत नहीं थी।पर विवेक का जोश कहीं नहीं गया था.

बिहार का सेक्सी वीडियो पिक्चर

अलीज़ा तनिक गुस्सा हुए बोली- तुमने पानी अन्दर क्यों डाला?रोशन लाल बोला- मादरचोदी पोस्टिंग करवाना है ना … तो ज्यादा चुदुर चुदुर नहीं कर. मरीज और डॉक्टर की सेक्सी वीडियोमैं जैसे लंड को अन्दर बाहर करता था, वैसे ही आंटी ‘अह्ह्ह्ह अह्ह्ह उईईई.

अगर मां को प्रॉब्लम होती तो वो उस दिन के बाद से आपके साथ कभी नजर ही नहीं मिलाती. सेक्सी फिल्म की शूटिंगइस अन्तर्वासना स्टोरी हिंदी में मजा लें कि मेरी गर्लफ्रेंड की चुदाई की तमन्ना अधूरी रह गयी.

फिर भाभी ने मेरा अंडरवियर खींच दिया और मेरा लंड उसके मुंह पर जाकर लगा.हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी: आप बाथरूम में ब्रा और पैंटी लेकर मत जाओ और फिर अंदर जाकर उसे अपने भाई से बहाना करके मंगवाओ.

ओहो क्या नजारा था यार वो!फिर आंटी मुझे बेडरूम में ले गईं और सुहागसेज पर मुझे बिठाकर किचन में चली गईं.मीतेश से चुदवाना मेरे लिए वही कहावत सार्थक करता है कि खाया पिया कुछ नहीं, गिलास तोड़ा बारह आना.

सेक्सी भाभी का चुदाई वीडियो - हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी

ये इंडियन भाभी के साथ इंडियन सेक्स कहानी मेरे एक स्टूडेंट से जुड़ी हुई है.दस मिनट तक मैंने उसको लंड चुसवाया और एक बार फिर से पानी निकाल दिया.

भाभी लंड रस गटागट पी गईं और कहने लगीं- आपके लंड के पानी का स्वाद बहुत मजेदार है … बहुत दिनों के बाद ऐसी मलाई का स्वाद मिला है. हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी मगर उस दिन काफी देर हो चुकी थी तो मैं स्कूल से वापस आ गया, पर मैं इन बातों से इतना भी अंजान नहीं था कि मैं समझ ना सकूँ कि मैडम और सर कहां चले गए होंगे.

मैंने लौड़े को उसकी चूत की फांकों के बीच में रख कर कुछ देर आगे पीछे करते हुए रगड़ा और फिर सही टाइम देखते हुए उसकी चूत में लंड को ठेल दिया.

हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी?

उस पर चुदाई का चस्का ऐसा चढ़ा कि वो भूल गयी कि वो सड़क के किनारे ये सब कर रहे हैं. मेरी बात सुनकर वो तीनों लाइन में खड़े हो गए और मैं शिबु का लंड छोड़ कर उन तीनों के पैंट निकालने लगी. तभी ममता आंटी आयी, वो मुझे चिकोटी काटते हुए बोलीं- सो गए क्या?मैं बोला- नहीं तो!वो बोलीं- चलो खेल शुरू करते हैं.

उसको ब्रा और पैंटी के अलावा कुछ और पहनने का मौका नहीं मिल पा रहा था. दोनों हाथ से मौसा के लंड की लम्बाई नापी जाये तो करीब 7 इन्च के ऊपर ही था. फिर मैंने उसके मुँह में अपने लंड को थोड़ी और अन्दर पेला और भीतर बाहर करने लगा.

मौसी ने ब्रा पैंटी के ऊपर नाइटी पहनी और मेरे साथ मेरे कम्बल में सोने आ गईं. पांच मिनट तक लंड चुसवाने के बाद मैंने उनको बेड पर पटक लिया और उनकी चूत में लंड देकर उनकी टांगों को पकड़ कर चोदने लगा. कुछ देर चुदाई की रेलगाड़ी चलने के बाद पानी निकल गया और मैं दीदी के ऊपर ही लेटा रहा.

अमन अभी भी मुझे किस किये जा रहा था और मेरे बूब्स को दबाए जा रहा था. जैसे ही मैं अंदर गया उसने कस कर मुझे गले से लगा लिया और बेतहाशा चूमने लगी.

मैंने पूछा- माँ आज बहुत ज्यादा लेट हो गयी?उन्होंने कहा- बेटा, आज थोड़ा जरूरी काम था।पता नहीं क्यूं अब मुझे माँ के ऊपर शक होने लगा था.

दोनों के बदन पसीने से गीले हो गये थे और फिर पापा तेज तेज सिसकारियों की आवाजें करते हुए मेरी बीवी की चूत में झड़ने लगे.

पहली बार में सभी लड़कियों का खून निकलता है जिनकी सील नहीं टूटी होती है. अपनी यात्रा के लिए मैंने एक प्राइवेट बस में स्लीपर की नीचे वाली सीट बुक करवाई थी. वैसे तो ऑफिस वाले कुछ और दिन का काम बता रहे हैं, पर वो करवाचौथ आ रही है तो मुझे आपकी बहू के पास जाना पड़ेगा.

मैंने अपना हाथ आगे ले जाकर मामी की चूचियों पर रख दिया, तो मामी ने हाथ को हटा दिया. जब बबलू ने भी ग्रेजुएशन पूरी कर ली तो उसकी नौकरी भी मैंने अपने परिचित के यहां लगने में उसकी मदद कर दी. मैंने ताई के सामने ब्लू फिल्म चला दी जिसमें एक औरत एक आदमी के लंड को मस्ती में चूस रही थी.

मैंने कहा- जी मैम, मैंने आपकी फ़िल्म में सिर्फ आपके जिस्म को देखा, बेड सीन देखे, आपकी जवानी को अपने बिस्तर में देखा। और तो और … सीन के वक़्त आपकी वो आवाजें … ऐसा लग रहा था कि आप मेरे साथ सेक्स कर रही हैं।वो मुस्कुरायी, उसने कहा- अच्छा सच में?मैंने कहा- हाँ.

तुम्हारे पास तो लंड भी है आज!वो नशे की वजह से मेरी बात मान रही थी।उसने कहा- मैंने फ़िल्म से पहले अपने एक्स को पकड़ा, पैंट उतारी. कुछ ही देर में ताई अब चुदाई के लिए तड़पने लगी और मैं भी जोश में आ गया. मुझे नीचे दी गई ईमेल पर मैसेज करें अथवा कमेंट बॉक्स में अपने कमेंट छोड़ें.

आंटी की सहेली की चुदाई का मजा मैंने कैसे लिया? पड़ोसन आंटी ने अपनी सहेली को अपने घर बुला कर मुझसे चुदवाया. हुआ यूं कि मैं रोज़ाना की तरह बुर्का पहने बस स्टैंड पर खड़ी बस आने का इंतज़ार कर रही थी. थोड़ी देर बाद मैंने अचानक से उसको बिना बताए फिर से एक और धक्का दे दिया.

मोनिका ने कहा- वाह दीदी … आज तो शिव की स्पीड बढ़ गई है … शिव क्या खाया है आज?मैंने कहा- तेरी चूत का जूस पिया था ना … इसलिए दम आ गया है.

मैंने पहले ही आपको बताया था कि भाभी की गांड बहुत बड़ी और सेक्सी थी, इस वजह से उनकी गांड मेरे हाथ में अच्छे से नहीं आ रही थी. उसने कहा कि नहीं … उंगली नहीं, इसमें मुझे सिर्फ और सिर्फ आपका लंड चाहिए.

हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी साथ ही रिया लम्बी लम्बी आहें भी भर रही थी, जो मुझे और उत्तेजित क़र रही थी. तो उसने फर्स्ट टाइम होने की वजह से मेरे को कुछ टिप्स दिए।रात भर नींद नहीं आ रही थी.

हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी मैंने उसे अपनी तरफ खींचा और उसके होंठों को अपने होंठों में भर चूसने लगा और उसके मम्मों को दबाने लगा. पापा की हालत पहले से ज्यादा कमजोर हो गयी थी इसलिए समाचार सुनकर एक बार मिल आयी।दूसरा महीना लगते ही हम मौसा संग फिर एक सप्ताह के लिए भोपाल गए.

अब मैंने उसकी पैंटी को भी उसकी जांघों से सरकाते हुए नीचे पैरों में लाकर निकाल दिया.

सनी लियोन का सेक्सी व्हिडीओ एचडी

क्योंकि मेरी ये बर्थ दो लोगों के लिए थी और मुझे नहीं मालूम था कि दूसरा कौन भोसड़ी वाला आएगा. उसकी सलवार और कुर्ते को निकाल दिया और उसकी ब्रा को खींच कर उसकी चूचियों को नंगी कर दिया. मैं कुछ मदद करूं?वो बोली- नहीं, शहर के सभी डॉक्टर को दिखा चुके हैं.

कुछ देर के बाद ताई मेरे रूम में आई और बोली- शादी के बाद पति पत्नी एक ही रूम में और एक ही बिस्तर पर सोते हैं. फिर जब वो घर तक आया तो मन किया कि उसको अपनी पैंट खोल कर दिखा दूं अपना लंड. मजा लें इस सेक्स कहानी का!एक बार होली के दिन रेलगाड़ी के सफर में एक भाभी से मुलाकात हुई.

ऊपर से तो पूरी पैंटी मेरे थूक में गीली हो गयी थी और नीचे उनकी चूत के रस में।उसके बाद मैंने पैंटी को भी निकाल दिया.

मैंने आंटी के पास जाकर उनसे बोला कि आंटी मैं घर ही जा रहा हूँ, आप मेरी बाईक पर बैठ जाइए … मैं आपको घर छोड़ देता हूँ. जहां पहले मेरी चूची अमरूद के आकार की हुआ करती थी, अब वो मोटी सेब की तरह बिल्कुल गोल हो गयी थी और मेरी छाती पर तनी हुई रहती थी. मैंने उसकी चूत के छेद पर देसी लंड को सेट कर दिया और तेज झटके के साथ आधा लंड उसकी चूत में घुसा दिया.

फिर मैंने सुमित से हां कह दी और बोली कि दो दिन के बाद मैं तुम्हारे रूम पर आऊंगी. आकाश नीचे से भी पूरा नंगा हो गया और उसका लंड एकदम से उछल कर बाहर आकर लटकने लगा. पीले रंग की सिल्क की साड़ी पहने हुए रेखा को मैंने अपने सीने से लगा लिया.

मैंने और ज्यादा ध्यान नहीं दिया और फिर मैं दो-चार मिनट टहलने के बाद फिर से वार्ड में आ गयी. मुझे बहुत ही मादक क्षण लगा ये जब मेरी उंगलियां उसकी चूत के पानी में भीग रही थीं.

मैं मोबाइल में उसकी फोटो देख उसके बारे में सोच रहा था कि …दोस्तो, मैं आपका साथी एक बार फिर हाज़िर हूँफाइव स्टार होटल की स्टाफ लड़कियों की चुदाईसे आगे की कहानी लेकर!दरअसल शिफ्ट की वजह से टाइम नहीं मिल रहा था और तो और मुझे लगता है कि मेरा लंड अब वी आई पी हो गया है क्योंकि मैंने कभी नहीं सोचा था कि किसी एक्ट्रेस को चोदने का मौका मिलेगा. उस बाहर वाली लड़की की चुदाई के ख्यालों में मैंने काफी देर तक अपने लंड को रगड़ा. ये सुनकर मैं बहुत डर गई- क्या मतलब है तुम्हारा?मैंने अपने शिबु की तरफ देखा.

आंटी का दम घुटने लगा तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया और निकालते ही आंटी के चेहरे पर वीर्य की पिचकारी छूट कर लगी.

यही नहीं मेरी पत्नी भी की चूत भी किसी अन्जान लड़के के नीचे पेली जा रही थी और वो दोनों मां-बेटी खूब मजा ले रही थी. शाम को सोनम और रीना दोनों मेरे पास जब पढ़ने आईं, तो मैं दोनों को देखता रह गया. फिर वो बोले- एक दूसरे का लंड लेकर देखें क्या?मैंने कहा- ओके।फिर कौन पहले किसकी गांड में डालेगा इस बात को लेकर झगड़ा होने लगा.

एक घंटे बाद श्वेता आंटी अपनी खरीदारी से फ्री हो गईं और हम दोनों वापस आने लगे. अगर आप लोगों ने सही रेस्पोन्स दिया तो मैं आगे भी आप लोगों के लिए अपनी आपबीती लेकर आती रहूंगी.

मैंने दोबारा से दरवाजा बंद कर दिया और फिर से साबुन मल कर नहाने लगी. काम के बाद मैंने उसके बॉयफ्रेंड का पूछा तो …अब तक मेरी इस प्यारी सी कुंवारी लड़की की चुदाई की कहानी के पहले भागइंडियन कॉलेज गर्ल की चुदाई का पहली बार मजा-1में आपने पढ़ा कि मेरी क्लासमेट मेरे कमरे में मेरा साथ सेक्स करने के लिए मूड बना कर ही आई थी. मेरी इन्सेस्ट कहानी चुदाई की में पढ़ें कि कैसे अपनी मां को मैंने बुआ के बेटे से चुदाई कराते पकड़ा.

डॉट कॉम सेक्सी कहानी

सुनीता हंसी और बोली- जाकिरा कैसी रहेगी?इस पर मनोज हड़बड़ा गया और कहा- मैं समझा नहीं?अम्मी ने इस बात पर गुस्से वाले भाव दिखाए.

अब्बू जब मैं बाथरूम में नहा रही थी, तो मैं उस समय यही सोच रही थी कि काश मेरे अब्बू बाथरूम में आकर अपनी आरज़ू बिटिया को खूब पेल दें. दो मिनट तक मेरी चूचियों को चूमने और काटने के बाद वो फिर से मेरी पजामी खींचने लगा. मैं उसका लंड और तेज़ी से हिलाने लगी और अगले ही पल उसके लंड से गाढ़ा और सफेद पानी मेरे गालों पर आ गिरा.

कैसे अपनी शादी को बचाऊं? अगर उनकी दूसरी शादी हो गई तो मेरे पास मरने के अलावा कोई रास्ता नहीं बचेगा. रात को डिनर करने के बाद करीब दस बजे हम तीनों टीवी बंद करके अपने कमरे में चले गए. किन्नर का सेक्सी विडियोउस पर उसकी कजरारी आंखें और होंठों पर लाल लिपस्टिक, क़यामत लग रही थी।मैं उसे घर में लेकर आ गया.

पांच मिनट में ही दीदी ने मुझे मेरी उत्तेजना की चरम सीमा पर पहुंचा दिया. Xxx गर्ल सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि ऑफिस से आते हुए रात के अंधेरे में एक बड़ी गाड़ी में से मुझे कुछ आवाजें आईं.

मैंने थोड़ा नीचे झुक कर एक हाथ से उसका स्तन पकड़ा और दूसरा स्तन मुंह में भरकर चूसा जिससे उसे आराम मिले. मैंने भी उसके लंड पर खूब सारा थूक दिया जिससे उसका लंड और मेरी चूचियों की घाटी दोनों ही चिकने हो गये. उधर उनकी एक सहेली ने मेरे साथ छेड़खानी करते हुए मुझे धक्का दे दिया, तो मेरे हाथ मामी की चूचियों से लग गए.

कुछ देर यूं ही चोदने के बाद मैंने दीदी को घोड़ी बना दिया और दीदी की मस्त गांड पर चपत लगाकर पीछे से उनकी गांड में लंड घुसा कर जोरों से कमर पकड़कर धक्के मारने लगा. अब जब भी दोनों पढ़ने आतीं तो मैं उसे ही देखता रहता था और इशारे करता. फिर मैंने मम्मी से उनका फोन मांगा और अपने कमरे में जाकर कोमल दीदी को फोन लगा कर ये सब बताया.

उनके गहरे गले के ब्लाउज से झांकती उनकी 36 साइज की कड़क चूचियां बहुत खूबसूरत लग रही थीं.

जिस दिन मेरी गर्लफ्रेंड को रात में आना था, उस रात पिंकी ने मेरा रूम ऐसे सजाया जैसे मेरी सुहागरात हो. पापा के हटने के बाद मैंने अपना लंड अपनी बीवी की चूत में डाल दिया और उसकी चूचियों को पकड़ कर मसलते हुए उसकी चूत को चोदने लगा.

अब मुझसे रुका नहीं जा सकता था और मैंने उसकी चूत को उसकी चड्डी के ऊपर से ही सहलाना शुरू कर दिया. लवली से मैंने पूछा- कितने लोगों को बुलाती है तुम्हारी मां?वो बोली- पहले जो मेरे साथ एक वो है और एक दूसरा है. मैं तेजी से उसके लंड पर कूदते हुए उसके लंड को पूरा जड़ तक घुसवाने लगी.

मेरी चूचियों को दबाते दबाते वो उनको पीने लगा और फिर उसको नींद आ गयी. मैंने पूछा- इतना क्या हो गया … ऐसा क्यों कर रही हो?वो कुछ नहीं कह रही थी बस उसकी आंखों से आंसू निकले जा रहे थे. फिर भाभी के कहने पर मैंने बाहर से खाने का आर्डर कर दिया क्योंकि सोनम और रीना कालेज से आने वाली थीं.

हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी ” मैं दर्द के मारे कराह कर चिल्लाई।नीरव कुछ देर रुका रहा फिर उसने एक जोरदार धक्का और लगाया। इस बार उसका मोटा सुपारा मेरे छेद के अंदर प्रवेश पाने में सफल हो गया. अब उसने मेरी अंडरवियर निकाल दी और मेरे तने हुए 8 इंच के शेर को देख कर कहने लगी- अनु यार, अपने राजा को मैं आज बहुत दिनों बाद देख रही हूं … कुछ बड़ा सा हो गया है क्या!मैंने हंस कर उसे चूमा और कहा- हां तेरी याद में रोज थोड़ा थोड़ा हिलाता था, इसलिए ये एक इंच बड़ा हो गया है.

नांगी सेक्सी व्हिडिओ

तो मेरा पहला सवाल ये है कि तुमने मेरी मूवी में क्या देखा?अब मुझे जवाब देना था. अब मुझे अपने लंड पर तेल की चिकनाहट महसूस हो रहा थी, लेकिन जिस टाइप से मोहित अंकल अपना लौड़ा मेरे मुँह में डाल कर मुझसे लंड चुसवा रहे थे … उस वजह से उनकी पूरी बॉडी मेरे सामने थी और मुझे कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था कि नीचे पूजा आंटी मेरे लंड के साथ क्या कर रही हैं. मौसी की चूत चुदाई की कहानी में पढ़ें कि मैं मां के साथ मैं ननिहाल गया.

फिर अचानक ऐसे हवा चली कि तब से आज तक मैं बहुत सारी भाभी और लड़कियों को चोद चुका हूं।कुछ ऐसे ही शुरू हुआ सफर मेरे जीरो से हीरो बनने का सफ़र।पर भाभियों में कुछ अलग ही बात होती है. मामी जोर जोर से सिसकारने लगी- आह्ह कमल, मर गयी … आईई … आह्ह … मैं बर्दाश्त नहीं कर पा रही हूं. वीडियो सेक्सी जंगलमैंने अपने मोबाइल पर लेस्बियन पॉर्न खोल कर पॉज़ कर दिया था और स्क्रीन का लॉक खुला छोड़ दिया था.

मैंने- वो क्यों चढ़ते हैं मामी?मामी तेज हंसते हुए कहने लगीं- तुझे नहीं मालूम कि तेरा मामा मेरे ऊपर क्यों चढ़ता है?मैंने उन्हें उकसाया- नहीं मामी मुझे नहीं मालूम … आप बताओ न … मामा आपके ऊपर क्यों चढ़ते हैं और कैसे चढ़ते हैं?मामी बोलीं- चल पहले खाना खा लेते हैं … मुझे बहुत भूख लग रही है.

दोस्तो, अन्तर्वासना के मंच पर ये मेरी पहली सेक्स कहानी है, जो मैं आप सभी के साथ साझा करने जा रहा हूँ. मगर फिर भी उन सबकी सुंदरता मेकअप से उत्पन्न थी लेकिन पारुल और साधना के शरीर की सुंदरता गजब की थी.

इतने मैं मेरा बैलेंस बिगड़ गया और मैं अपने दोस्त की सास के ऊपर गिर पड़ा. फिर मैं रोज उसके घर जाने लगा और जब भी मैं चाची के सामने या आसपास होता … तो उनको घूरता रहता था. मेरी मां ने ब्लू फिल्मों की रंडियों की तरह उस आदमी का माल अंदर पी लिया और उसके लंड को चूस चूस कर साफ कर डाला.

फिर पापा ने मुझे बुलाया और कहने लगे- तुम्हारी मां की शिकायत है कि तुम उनकी चूचियों को घूरते रहते हो.

मैंने उसके लंड को सहलाते हुए कहा- जानू मुझे चोदोगे नहीं?उसने कहा- इसीलिए तो खड़ा करवाया है. रोशन लाल को मैं कई बार आइटम सप्लाई कर चुकी थी, तो वो मेरी बात मानता था. इतने मैं मेरा बैलेंस बिगड़ गया और मैं अपने दोस्त की सास के ऊपर गिर पड़ा.

मॉम हॉट सेक्सी वीडियोउसके पति को शायद ज्यादा समय नहीं मिलता था उसकी चूत को चोदने के लिए, इसी वजह से वो इतनी जल्दी अपनी चूत मुझसे चुदवाने के लिए तैयार हो गयी थी. उन्होंने मुझे देखकर अपने आंसू पौंछ लिए और झूठी मुस्कान के साथ कहने लगीं- अरे अंकित तुम यहां कैसे … आओ बैठो.

सेक्सी कॉलेज हिंदी

मुझसे भी अब रुका न गया और मैंने उस लड़के के फड़फड़ाते लंड को उसकी लोअर के ऊपर से ही अपने हाथ में भर लिया. मैंने आंटी के शरीर पर साबुन लगा दिया और आंटी के मम्मों को दबाने लगा. मेरी गर्लफ्रेंड ने उसकी सहेली के साथ मेरी चुदाई की विडियो बना ली और उसे ब्लैकमेल करने लगी.

इसके बाद भी मैंने मैडम की कई बार चुदाई की, उसकी कहानी मैं अगली बार लिखूंगा. जिस वक्त कोई चुत को चौड़ा करके उसमें जीभ घुसाता है, तब चुत की आग कितना मजा देती है. फिर मैं उसकी कमर से नीचे उसके चूतड़ों पर हाथ फिराने लगा, तो मोनिका का ध्यान बदला और वो थोड़ा पीछे हट गई.

पापा मेरी गर्दन पर किस करने लगे तो मैंने कहा- पापा … ये सब क्या है?वो बोले- कुछ नहीं, तू बस मजा ले।दरअसल अंदर ही अंदर मैं भी यही सब चाहता था. निकलते ही मैंने उसे पास करते हुए बोला- मुझे कुछ करना है।उसने पूछा- क्या करना है अब तुझे?मैंने बोला- तुम्हें गले लगाने का मन कर रहा है।वो बोली- ओह्ह, तो फिर यहां खुले में लगायेगा क्या? यहाँ नहीं. देखते ही देखते दोनों के बदन पर अंडरगार्मेंट्स के सिवाय कुछ नहीं बचा.

उसके बाद मैं लवली को अपने कमरे में ले गया और पूछा- तुम्हारी चूत की प्यास शांत हुई कि नहीं?वो बोली- पापा तो बहुत अच्छा चोदते हैं. वो इतनी गर्म हो गयी कि मुझसे उसकी चूत में लंड डालने के लिए मिन्नतें करने लगी.

अपनी जांघों को भींचने लगी लेकिन सुमित ने मेरी टांगों को पकड़ लिया था.

उसकी मस्त गोरी बांहों और उसके नर्म नर्म हाथों का स्पर्श पाने मात्र से ही मेरा लंड मेरे कच्छे में मुंह उठाने लगा था. लेटेस्ट सेक्सी चुदाईकुछ ही देर बाद उसके बमपिलाट धक्के मेरी नंगी चुत के चिथड़े उड़ाने लगे. सेक्सी इंडियन मूवी हिंदीजिस काम वाली को मेरे परिवार ने सेलेक्ट किया था, उसका नाम पिंकी था वो 5 फुट की थी और उसके आधे बाल सफेद थे. जब मम्मी नीचे काम कर रही थी तो हम दोनों पीछे वाले कमरे में गये और नंगे होकर एक दूसरे को चूमते हुए आवाजें करने लगे.

अगर उनको हाथ में भर लूं तो सोचो कि क्या होता होगा!मेरी गर्लफ्रेंड के स्तन उतने ही बड़े हैं जितने कि उसके शरीर के हिसाब से होने चाहिएं.

मेरे मां और पापा मेरी बड़ी बहन के साथ उसकी शादी के लिए लड़का देखने गांव चले गये. हिन्दी सेक्सी कहानी में पढ़ कर मजा लें कि कैसे मुझे एक नवविवाहिता लड़की की कुंवारी चूत चोदने को मिल गयी. मैंने भी जानबूझ कर अपने हाथों से उसकी टांगों को सहलाते हुए, कमर दबाते हुए टॉप पकड़ा और ऊपर धीरे धीरे लेकर जाते हुए बूब्स पर हाथ छुआते हुए उतार कर जमीन पर डाल दिया.

एक हाथ से उसकी दूसरी चूची को दबा रहा था और दूसरे हाथ से उसका पेटीकोट खोल क़र उसकी पैंटी में हाथ डाल कर उसकी चूत सहलाने लगा. वो कभी मेरी चूत में जीभ घुसा रहा था और कभी उसकी फांकों को अपने दांतों से पकड़ कर खींच रहा था. फिर मोनिका कुछ बात करके जाने के लिए बोलने लगी, तो मैंने मोनिका के पास जाकर उसके होंठों पर किस करना शुरू कर दिया और उसको बांहों में पकड़ लिया.

इंडियन सेक्स सेक्सी बीपी

मेरे पति मुझसे बहुत प्यार करते हैं और मैं भी उनसे बहुत प्यार करती हूं. मन तो और भी बहुत कुछ करने का कर रहा था लेकिन लड़कियों के साथ थोड़ा देख कर ही पेश आना पड़ता है. वहां पर एक लड़के ने मुझसे पूछा- ये रंडी है क्या आपके साथ में?मैं बोला- हां.

गिलास उठाने के साथ साथ हर कोई उसके जिस्म के किसी न किसी हिस्से को सहला देता था.

अगर आप में से भी कोई भाई बहन का सेक्स का सोच रहा है तो मुझे जरूर बतायें.

उनके बालों में मेरे मुंह से निकला उनके लंड का वीर्य और मेरा थूक भर गया. अब रोशन लाल ने उससे पूछा- पहले चुदी है या नहीं?अलीज़ा मुस्कुरा कर बोली- जब मैं ट्रेनिंग में गई थी, तो वहां जो ट्रेनिंग ऑफिसर था … वो सारी लड़कियों को चोदता था. सेक्सी बिडियो डाउनलोडवो मेरी बीवी की चूत के पीछे ऐसे पागल हो गये थे कि मेरी मां से मेरी ही सेटिंग करवाने के लिए तैयार हो गये थे.

वो बोली- अब तुम मुझे ब्लैकमेल करोगे?मैं- नहीं, बस एक डील कर रहा हूं. वो मुस्कुराया और बोला- अबे तो उस टाईम हमने उसे अच्छे से इस्तेमाल नहीं किया था. रोशन लाल को मैं कई बार आइटम सप्लाई कर चुकी थी, तो वो मेरी बात मानता था.

उस दिन के बाद से हम दोनों मां के सामने चुदाई करते रहते थे और मां देख कर चली जाती थी. चटाई पर लिटा कर मामा ने मेरी टांगें अपनी जांघों पर खींच लीं और मेरी चूत का मुंह अपने लण्ड के करीब ले आये.

और जब सब पीने बैठे तो प्रिंसीपल ने मुझे एक कोल्ड ड्रिंक लाकर दी जिसमें ताकत की दवा मिलाई हुई थी।मैं वो पूरा पी गई।अब आगे की रण्डी आंटी स्टोरी:मैं एक सिंगल सोफे पर बैठी थी.

मैंने उसकी पीठ अपने हाथ से सहलाते हुए उसकी ट्यूब के रिबन को खोल दिया. कभी मेरे कंधे पर चूम रहा था तो कभी मेरी वक्षरेखा में मुंह दे देता था. वो बोला- क्या बेगम को अपनी छोटी सी चुत के लिए ये लम्बा और मोटा लौड़ा वाकयी माफिक लगा है?मैं एकदम से चौंकी और हंसते हुए कहने लगी- अब प्लीज़ मुझे सताओ मत.

डॉग सेक्सी वीडियो लेडीस वो अपनी मैक्सी को ऊपर उठाकर अपनी चूत को सहलाने लगीं और अपनी चूत में उंगली करने लगीं. आकाश ने जिया के पैर को पकड़ कर ऊपर किया और अपने लंड को उसकी चूत पर लगा कर अंदर पेल दिया.

काफी देर की चूत चुदाई के बाद उसने मुझे मेरे बालों से पकड़ कर नीचे बिठा दिया और अपना लन्ड फिर से मेरे मुंह में दे दिया. थोड़ी देर की लंड चुसाई में ही मुझे लगा कि मेरे से अब रुका नहीं जाएगा. वो भी चॉकलेट सिरप डाल कर मेरा लंड चाटने लगी और बीच में मेरे आंड भी चाट लेती।ऐसा लग रहा था जैसे में जन्नत की सैर कर रहा हूं।वो लंड चूसने में एक्सपर्ट लग रही थी।अब हम 69 में आ चुके तो और एक दूसरे को चाट रहे थे।थोड़ी देर बाद वो घूम कर मेरे ऊपर आ गई और मेरे सीने को चाटने लगी।फिर मैंने उसे घुमा कर उसे नीचे गिरा दिया और उसके ऊपर आ गया.

सेक्सी ग्रूव इमोशन 1 घंटा

मेरे लंड और उसकी चूत का मिलन वाला भाग हम दोनों को ही दिख रहा था जिसको देखकर दोनों ही और ज्यादा कामुक हो रहे थे. लेकिन मोसी कपड़े अंदर रूम में भूल गई थी तो नंगी मोसी कपड़े लेने जा नहीं सकती थी क्योंकि मैं रूम के बाहर ही बैठा था।मोसी- अरे तू मेरे कपड़े ले आ!जब मैं अंदर से कपड़े लेकर आ गया और देने गया. वो सिसकारने लगे- हमम्म … अच्छा लग रहा है राहुल, बहुत ठंडक पहुंच रही है.

मैं- दीदी के खुशी के लिए अपनी जान भी दे सकता हूं … लेकिन यह बिल्कुल गलत है. मेरी चूचियों को दबाते हुए बोला- जानेमन … तुझे चोदने में गजब का मजा आ गया.

इसके लिए मैंने दो दिन के लिए हनीमून स्वीट और चार दिन के लिए एक बीच हाउस बुक करवा दिया.

ऊपर एक बहुत ही खुला और चुस्त सा सलवार सूट पहना था … जिसमें मैं एकदम रंडी लग रही थी. मां की मोटी मोटी चूची उनके ब्लाउज में ऐसे कैद थी कि उससे बाहर आने के लिए जैसे आतुर हो रही हों. इसी बात पर अम्मी मुझ पर नाराज हो रही थीं … और तुम्हारे भाई भी इसी बात से कुछ गुस्सा थे.

मैं समझ गई कि मेरी चूत अब परमानेंटली फैल गई है।वॉशरूम से बाहर आकर यह बात मैंने अपने दोनों प्रेमियों को बताई।नीरव ने मेरी पेंटी खिसका कर देखा और मेरे छेद का फोटो लिया और मुझे दिखाया।मैंने फोटो में देखा कि मेरी चूत का दरवाजा खुल गया है।अब मैंने मुस्कुरा कर अपने दोनों प्रेमियों को बोला- अब तो मेरी पूरी फट गई है. आंटी की चूत गांड चुदाई की ख्वाहिश कैसे पूरी हुई?दोस्तो, मेरा नाम फरहान अंसारी है. कुछ मिनट की भरपूर चुदाई के बाद मैंने अपना लावा छोड़ दिया और उसके ऊपर ही निढाल हो गया।सुबह के 4:30 बज चुके थे.

मेरे लंड पर तेल तो पहले से ही लगा हुआ था, तो मैंने शीशी से थोड़ा तेल लेकर अपनी बिटिया की गांड में भी डाल दिया.

हिंदी वीडियो बीएफ सेक्सी मूवी: वो तीनों मेरे बालों को पकड़ कर मेरे सिर को अपने लौड़ों की ओर धकेल रहे थे. प्रिया ने पहले ही रूम में बेड और बाकी फर्नीचर, टीवी और ज़रूरत का सब सामान होटल की तरफ से मौजूद करवा दिया था.

साड़ी में उनका खुला पेट और गहरे गले से झांकती चूचियों ने मुझे उत्तेजित कर दिया था. अपने लण्ड का सुपारा मेरी चूत के लबों पर रगड़ कर मामा मुझे भी उत्तेजित कर रहे थे और अपना लण्ड भी टाइट कर रहे थे. थोड़ी देर बाद मैं फिर से भाभी की चुचियों को सहलाने लगा और चुंबन करने लगा.

जिया की ओर देख कर मैंने कहा- मेम आपकी परमिशन हो तो मैं भी?वो बोली- अब तुम्हें मेरी परमिशन लेने की जरूरत नहीं है.

हालांकि मुझे अब नंगी गांड मरवाने में मजा आने लगा था … मगर तब भी मैं अंकल आंटी के सामने अपने मजे को शो करना नहीं चाहता था. ऐसा मजा तो मुझे कभी किसी चीज में नहीं मिला था जितना पापा मेरा लंड चूसते हुए दे रहे थे. मैंने उनकी सलवार उतार दी और आंटी की चुत चाटते हुए उनकी कुर्ती को भी उतार दिया.