गधा के बीएफ

छवि स्रोत,நியூ செக்ஸ்வீடியோ

तस्वीर का शीर्षक ,

ओपन बीएफ चाहिए: गधा के बीएफ, वो एकदम से शांत होकर लेट गई और धीरे धीरे अपना हाथ मेरे लंड पर आगे पीछे हिलाती रहीदो मिनट बाद वो उठी और बाथरूम में चली गई.

इंडियन भाभी की

अब सीट के नीचे हम दोनों की टाँगें पूरी तरह से चिपकी हुई थीं और सीट के हैंडल पर हाथ का हाथ पर घर्षण हो रहा था. बीपी इंडियन सेक्सीपंजाबी सूट में उसके टाइट चुचे मानो मुझसे कह रहे थे कि हमें आजाद कर दो, हम ब्रा की बंदिश में नहीं रह सकते.

आंटी के इस तरह से चोदने से मुझे लगा आंटी मुझे इसी तरह चोद कर खेल खत्म कर देंगी. बीपी सेक्सी पिक्चर वीडियोकरीब आधा घंटे तक मेरे जिस्म को चूमने चाटने के बाद उन्होंने मुझे पूरी नंगी कर दिया और कहने लगे- खुशबू बहू … तू तो एकदम माल है रे … कोई भी तुझे अपनी रंडी बना लेगा.

गरम औरत चुदाई कहानी के पहले भागअनजान महिला मुझे होटल में ले गयीमें अब तक आपने जाना था कि मुझे रास्ते में एक मैडम ने अपनी कार में बिठा लिया था.गधा के बीएफ: मेरा लौड़ा अब जोश में आकर तेज तेज झटके मारने लगा।अब वो भी गर्म हो गई और लंड को मजे से चूत में लेने लगी।मैं उसकी चूचियों को दबाने लगा और उसकी चूत को ऊपर से सहलाने लगा।अब हम दोनों चुदाई का मज़ा लेने लगे।मामी बोली- राज आज से 7 दिन मैं तेरे लंड की गुलाम हूं.

इसी का फायदा उठाते हुए उस औरत ने मोना के पैरों पर पड़ी चादर हटा दी और वह लड़का मोना की जांघों को सहलाने लगा.मेरे भाई बहन भी अपने स्कूल गए थे और अब्बू तो घर में रहते ही नहीं थे.

बहिण भाऊ झवाझवी - गधा के बीएफ

फिर मैंने उसकी टांगें फैलायीं और उसके दोनों हाथों को अपने एक हाथ के नीचे दबा लिया.फिर मैं बोला- कोई बात नहीं दो-चार मिनट इंतजार कर लो, क्या पता लाइट आ जाये?उसने कहा- ठीक है.

एक बार लंड दिख जाए, तो मेरी कोशिश रहती है कि उस लंड को पकड़ का चूस लूं या सहला कर उसकी गांड मार लूं. गधा के बीएफ नेहा- पर मैं ट्रांसपेरेंट नाईटी में रहती हूँ जिसमें से मेरे दूध दिखते हैं.

मेरी हवस की आग और ज्यादा भड़क उठी तो मैंने हेमा चाची को उठाकर अपने ऊपर छाती से छाती मिलाकर लेटा लिया और अपने दोनों हाथों से हेमा चाची की मस्त गोल घुमावदार गांड को मसलने लगा.

गधा के बीएफ?

मैं चुपचाप अपने रूम में आ गया और अपनी मोबाइल में उसकी चुदाई की वीडियो देखने लगा. बस तुम फिलहाल इससे अपनी वो नस खुलवा लो, उसके लिए तेज सेक्स की जरूरत है, जो यह करेगा. पांच मिनट की चुदाई के बाद लंड ने सुमन की चूत में फिर से वीर्य गिरा दिया.

यह सीन देखकर मुझे भी हेमा चाची से अपना लंड चुसवाने का ख्याल आया, पर उस टाईम मैं कुछ नहीं बोला. बाल करीने से बँधे हुए, होंठों पर एकदम लाल लिपस्टिक, हाथों में चूड़ियां पहने हुए क्या कयामत लग रही थी. हमारी सेटिंग कैसे हुई?दोस्तो, इस हॉट पड़ोसन की चुदाई स्टोरी में मैंने करोना काल में चुदाई की मस्ती का रस भरने की कोशिश की है.

तभी मैं समझ गया कि आज रात हेमा चाची सेक्स के पूरे मूड में हैं और उन्होंने अपनी चूत के बाल भी साफ कर लिए हैं. उस दिन उसने शॉर्ट्स और टीशर्ट पहनी थी।फिर से उसको मैं किस करने लगा और साथ ही मैं एक हाथ से शॉर्टस के ऊपर से उसकी चूत रगड़ रहा था. फिर मैंने सोचा मां चुदाए, इससे मुझे क्या … मुझे तो चुत चोदने मिल गई है.

मेरी इस बात पर उसने मेरी तरफ देखा और पूछा- क्या मतलब है तेरा?मैंने कहा- जो कमी आपकी ज़िन्दगी में है वही कमी मेरी भी ज़िन्दगी में है और जैसे आपको चुदवाना पसंद है मुझे भी वैसे ही चोदना पसंद है. मैं आज भी जब उसचुदाई की रातके बारे में सोचती हूं, तो मेरा रोम रोम झूम उठता है.

सुमन ने मुझे मनजीत के सामने ही बांहों में भर लिया और मेरे होंठों से अपने होंठ सटा दिए.

उन दोनों के अंदाज से ही पता चल रहा था कि दोनों चुदाई के खेल में माहिर खिलाड़ी थे.

धीरे से मैंने उसकी चूत में अपना पूरा लौड़ा डाल दिया।वह थोड़ी उचकी मगर मैंने अपने होंठ उसके होंठों पर रख दिये फिर मैंने धीरे से धक्के देने शुरू कर दिये. सर ने मेरे लंड की तारीफ़ करते ही उसे हाथ में पकड़ लिया और सहलाने लगे. बलविंदर ने उसके दूध को एक बार जोर से चूसते हुए छोड़ा और उसकी आंखों में आंखें डालकर पूछा- नीचे क्या हो रहा है बेबी?अलीमा- मुझे ऐसा लग रहा है कि नीचे इसके अन्दर कोई कीड़ा रेंग रहा है.

मैंने अपना एक हाथ फ्री कर दिया और उसकी चूची पर कमीज के ऊपर से ही रख दिया. पर भीड़ की धक्का मुक्की के कारण हम ट्रेन के टॉयलेट की गैलरी में आ गए थे. बाबा ने उसके मुँह पर हाथ रख दिया और बोले- साली ज्यादा तेज न चिल्ला … वरना आयुष उठ जाएगा.

मैंने कॉल उठाई तो कल्पना कहा- कैसे हो मेरे दोस्त? कैसे लगी उसकी चूत?मैंने कहा- कमाल है साक्षी की चूत.

मैंने एक ड्रम बाहर रखा हुआ था, जिसमें नल आने पर भाभी को सिर्फ नल खोलना होता था. मैंने उनकी तरफ एक बार देखा, तो आंटी ने मुस्कुरा कर कंप्यूटर की तरफ जाने का इशारा किया. उसने उसे लंड की तरफ इशारा करते हुए कहा- क्या तुम कुल्फी चूसना नहीं चाहोगी?अलीमा बोली- मुझे अच्छा नहीं लगता है.

मैंने उनसे पूछा- मुझे यहां आये हुए 45 मिनट हो गए और आपने अपना नाम तक नहीं बताया. घर में मैं और मेरी बहन ही थे और हम दोनों के संघर्ष की ही ये कहानी है. उसने आते ही मुझसे तौलिया मांगा और उसकी मैक्सी व अंडरगार्मेंट्स लाने को कहा.

अब आंटी ने बैठ कर ब्लाउज और पेटीकोट, चड्डी को धोया और जैसे ही वो झोपड़ी की तरफ मुड़ीं, मैं वापिस झोपड़ी में आ गया.

इसी तरह मौका पाकर वो तीनों मेरे पास आ गये और तीनों एक साथ ही मेरे बदन पर हाथ फिराने लगे. मैंने उसे अन्दर आते देखा तो झट से बेड की चादर से अपने बदन को ढकने की कोशिश करने लगी.

गधा के बीएफ जब वापस आते थे तो डोले और छाती फूली होती थी जिसको देखकर मेरीगांड में कुलबुलाहटसी होने लगती थी. इस प्यार के लिए आप सभी का बहुत बहुत धन्यवाद।आज की यह मैरिड गर्ल सेक्स स्टोरी मेरी और मेरी गर्लफ्रैंड कुलदीप कौर की है। इसलिए अब मैं आपको सीधे स्टोरी की ओर ले चलता हूं.

गधा के बीएफ पीछे से वो लंड से मेरी गांड चोद रहा था औऱ आगे से उंगली से मेरी चूत चोद रहा था. हेमा आंटी की सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया आप मुझे मेल करना न भूलें.

कुछ ही पलों में मैं महसूस कर पा रहा था कि हेमा चाची अपनी चूत वाले हिस्से से मेरे खड़े लंड को दबा रही थीं.

बीएफ वीडियो ओपन सीन

चूंकि मेरे पास भी काम नहीं था और दूसरी तरफ चूत चोदने का मजा भी दिख रहा था. यह और भी ज्यादा हर्ष की बात है मेरे लिये कि मैं देसी चूतों को गर्म करने में कामयाब रहा. शालू अपने कमरे में लेटी हुई सोचने लगी कि ससुर ने उसको साथ जो किया वो ठीक था या नहीं.

कुछ पल बाद वो मेरे होंठों को अपने होंठों में लेने की कोशिश करने लगा. अब मैं उसके कपड़े उतारने लगा और जल्दी ही वो मेरे सामने केवल पैंटी में थी. मैंने देर करना ठीक नहीं समझा क्योंकि मेरा लंड भी पैंट में परेशान हो चुका था.

मेरे माता-पिता के गुजर जाने के बाद हमारे पास खाने के लिए रोटी तक भी नहीं नसीब होती थी.

उसके साथ मैंने कई बार चुदाई की और हर बार उसने अपनी चुदाई की कहानी अन्तर्वासना पर लिख कर डालने के लिए कहा. मैं अभी सुपारे की गर्मी का मजा ले ही रही थी कि उसने जोर से धक्का दे दिया. भाभी ने लंड सहलाकर खड़ा कर दिया।फिर भाभी ने साड़ी के नीचे से अपनी पैंटी उतार दी और मुझे बैग को बगल में रखने को बोला.

नीचे हाथ ले जाकर उसने मेरे लंड को चूत के छेद पर टिका कर लंड को अंदर ले लिया. उनकी बहुत सी सामान्य फ़ोटोज में एक बहुत ही सेक्सी ओर हॉट लड़की होती थी. तुम भी चूसोगे?मैं गर्म हो रहा था- वो लड़का तुम्हारा लंड कितनी देर तक चूसता है?उसका लंड खड़ा होने लगा था.

वो भी गांड उठा उठाकर चुदाई करवाने लगी।मैंने अपने लौड़े को जल्दी जल्दी अंदर बाहर करना शुरु कर दिया और वो भी मजे से चुदने लगी. वो बोला- जब तक मेरे लंड का पानी नहीं निकला जाता, वो तब तक मेरा लंड चूसता ही रहता है.

टॉर्च की रोशनी थी और हम दोनों एक दूसरे को बुरी तरह से चूम चाट रहे थे. मेरा दर्द कुछ कम हुआ तो मौका देखते हुए उसने एक और 440 वोल्ट का झटका मेरे चूत में मारा जिससे मेरी चूत पूरी तरह से चिर गयी. अंकिता ने बोला- मगर मैं तुम्हारे घर आऊँगी कैसे … अगर किसी ने देख लिया तो?मैंने बोला- तुम छत के रास्ते से आ जाना.

अब आगे की कहानी:भैया की शादी के दिन 14 फरवरी को बाथरूम में मुझे उसकी चूत के दर्शन हो गये थे.

मैं झट से उसके ऊपर चढ़ गया और उसके पेटीकोट का नाड़ा ढीला करके उसे अपने टांगों की मदद से बाहर का रास्ता दिखा दिया. फिर मैंने लैपटॉप पर एक पोर्न साइट खोली और उस पर गे वाली कैटेगरी पर क्लिक कर दिया. वो भी मेरे अंडकोष पकड़ कर दबाने लगी।मैंने उनकी चूत में दो उंगली एक साथ डाल दीं।वो चिहुंक उठी।मैंने उंगली अंदर बाहर करना चालू किया।वो भी अपनी गांड ऊपर नीचे करते हुए मेरा साथ देने लगी.

फिर सोचा साली ये लंड नहीं चूस रही है तो क्या हुआ, मैं तो इसकी चुत चूस कर मजा ले ही सकता हूँ. मैंने फोन दिया और बताया- आपका फोन ऑफ़ आ रहा था, तो भैया ने मेरे फोन पर फोन करके आपसे बात करवाने के लिए कहा है.

अब सुमन उठ कर बैठ गयी और मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर हाथ आगे पीछे चलाने लगी. चाची गांड मटकाती हुई मेरे कपड़े लेकर वाशिंग मशीन की तरफ चली गईं और मैंने चुदाई की इस हसीन कल्पना में डूबकर चाय पीकर खत्म की. पहले तो मैंने उन्हें समझाया … और पीने के लिए पानी का गिलास अपने हाथों से उनके होंठों से लगा दिया.

चुदाई हिंदी बीएफ वीडियो

जैसे ही मैं बाथरूम में घुसा, तो मैंने देखा कि बाथरूम में खूंटी पर हेमा चाची की गुलाबी रंग की चड्डी टंगी थी.

चाची बोलीं- भास्कर, आज तो तुम्हारे साथ उस दिन छत से भी ज्यादा मजा आया. मैं कई बार अकेली औरत को संतुष्ट करके आता था तो कई बार औरतों के ग्रुप में बुलाया जाता था. मगर रानी ये जानती थी कि वो सीढ़ियों से नहीं बल्कि दो मर्दों के लंड के नीचे आ गयी थी और उसकी चूत और गांड का बैंड बज चुका था.

पहले तो उसने ध्यान नहीं दिया लेकिन फिर धीरे धीरे हमारी नजरें मिलने लगीं. उसी पल शबाना भाभी की चुत का दाना मेरे होंठों के बीच दब गया और मैंने सर उठा कर उस दाने के मां चोद दी. सेक्सी वीडियो कॉल गर्लवे बोले- कहां हो?मैंने लंड चुदाई रोक कर कहा- बबली बुआ के घर आया हुआ हूँ।वो बोले- वो बेचारी बिना पति के दो बच्चों को पाल रही है.

पर वो नाकाम रही और उसने शर्म के मारे दोनों हाथों से अपना मुँह छुपा लिया. धीरे से मैं दीदी के कान में बोला- अब मत तड़पाओ मेरी जान … मेरे लंड को अपनी चूत में ले लो.

घर में कोई नहीं था और घर के सभी कमरे बंद पड़े थे, सिवाय मेरे कमरे के. जब मैं अपने झटके की रफ्तार तेज करने लगा तो ‘ईई उईई हह’ की सिसकारियां चाची के मुंह से निकलने लगी।मैंने चाची को बताया- मैंने बुआ, सुमन और सुनील की बहन को चोदा. दिन भर वो मम्मी के साथ रहती थी और रात को भी मम्मी के ही रूम में सोती थी.

कुछ देर लंड चूसने के बाद सर ने उस पर मुझे लेटा दिया और उल्टे होकर मुझ पर लेट गए. ओये होये होये … यारो जवानी क्या होती है … ये मुझे उस रात ही पता चला था. मेरे रहने के लगभग 3 महीने बाद हमारे पड़ोस के एक नए मकान में रूबी नाम की नई किराएदार और उसका पति रमेश आए थे.

फिर मैंने जैसे ही अपना हाथ हटाया, तो वो रोते हुए बोली- बाबू प्लीज़ इसे बाहर निकाल लो प्लीज़ … और जो भी करना है … ऊपर से कर लो बाबू, लेकिन इसे निकाल लो प्लीज़.

उस दिन हेमा चाची ने सफेद रंग की टाईट नाईटी पहन रखी थी और भीगने के बाद तो उस टाईट सफेद नाईटी में हेमा चाची का एक एक अंग उभर कर आ रहा था. ये बहाना बनाकर निकल जाना और मैं तुमको छुपा दूंगा यहीं घर में।वो बताता रहा- पनीर हम पहले ही लाकर रख देंगे.

मैंने उसके मुँह से लंड निकाला तो उसने मेरे गाल पर एक चांटा रख दिया. अन्तर्वासना चाची की कहानी में पढ़ें कि चाची मुझसे चुदकर बहुत खुश हुई. फिर 5 मिनट के बाद मैंने उसको अपनी गोद में बैठाया और उसकी चूत में लंड घुसा दिया.

फिर उसने विरोध करना बंद कर दिया और वो आराम से उंगली करवाने का मजा लेने लगी. और साहिल को अभी इसका पता नहीं था क्योंकि साहिल मेरी चूचियों को दबाने और अब हल्का सा ऊपर होकर मेरे कान और गले को चाटने और चूमने लगा. वो भी गर्म हो गयी और फिर उस साली ने मेरा सिर पकड़ कर अपनी चूची पर दबा दिया।उसकी नर्म नर्म चूची पर मुंह लगाते ही मैं तो पागल हो गया.

गधा के बीएफ मुझे लगा कि इसके आ जाने से न जाने आज भी मैं अपने पति से चुद पाऊंगी या नहीं. मैंने भी अपना लंड उसकी नाभि पर रखा और सारा वीर्य उसकी नाभि में भर दिया.

बीएफ हिंदी में शॉर्ट

मैंने चुपके से हिमानी के कान में कहा- हिमानी मैं ऊपर थर्ड फ्लोर पर जा रहा हूं जहां कोने में एक छोटा सा कमरा है. हालांकि अंकिता पहले से ही खेली खाई थी … मगर वो काफी दिनों बाद चुद रही थी जिससे उसे दर्द हो रहा था. वे बोले- अपने हिसाब से तुम अपनी ज़िंदगी जियो।इसी तरह एक साल बीत गया.

जब वो प्रमोद की बीवी बनकर आ गयी तो भानू की नजर भी अपने बेटे की बीवी पर रहने लगी. उनकी गोरी गोरी चूचियां चूसने में मुझे ऐसा मजा आ रहा था कि शब्दों में मैं लिख ही नहीं सकता. सेक्सी पिक्चर ब्लू पंजाबीअब प्रीति फिर से गर्म हो गयी थी- राहुल प्लीज अब अन्दर डाल दो … मुझसे अब सहन नहीं हो रहा.

अब वो मेरी बीवी की खुली टांगों के बीच में आकर सैट हो गया और दोनों हाथों से मोना के दोनों मम्मों को दबाने लगा.

भाभी ने थोड़ा शर्मा कर कहा- आपका इरादा क्या है?मैं बोला कि सच कह रहा हूँ कि अगर आप मुझे पहले मिली होतीं … तो मैं आपको अपनी गर्लफ्रेंड बना लेता. किसी दिन मौका मिलता तो हमारी पलंगतोड़ चुदाई भी होती थी लेकिन ऐसे मौके बहुत कम आते थे.

मैंने अपनी चड्डी को प्रीति के मुँह में वापस डाल दी और अपना लंड उसकी चूत पर सैट करके धक्का मारने लगा. बॉडी को टॉवल से पौंछने के बाद मुझे याद आया कि मैंने जो ब्लैक ब्रा पैंटी का सैट लिया था, वो तो मैं बाथरूम में लाना ही भूल गई. नन्दा एकदम से सिहर गई और तुरंत मेरे सर हाथ रखते हुए हटाने का जतन करने लगी- आह नहीं … आप ऐसी गन्दी जगह मुँह मत लगाओ.

बात कैसे बनी?दोस्तो … मैं देवदास आप सभी के लिए एक नई हॉट क्लासमेट सेक्स की कहानी लेकर आया हूं.

दोस्त की बीवी को चोदाई कहानी पर राय देने के लिए आप कमेंट्स में लिखें. हेमा चाची के मोहल्ले में आने के कुछ दिनों बाद से ही मेरी उनसे बातचीत होने लगी थी. तभी मैंने झुकते हुए मैडम की एक चूची को अपने दांत से दबा कर खींच दिया.

हाई क्वालिटी सेक्सी वीडियोयह सीन देखकर मुझे भी हेमा चाची से अपना लंड चुसवाने का ख्याल आया, पर उस टाईम मैं कुछ नहीं बोला. मैंने कहा- क्यूं, क्या हुआ? आपको अच्छा नहीं लग रहा?वो बोली- बहुत अच्छा लग रहा है.

बीएफ वीडियो 2017 का

मैंने तुरंत लंड को बाहर निकाला और कॉन्डोम में जमा वीर्य को बिना सुईं वाले सिरींज में भर लिया. पर भीड़ की धक्का मुक्की के कारण हम ट्रेन के टॉयलेट की गैलरी में आ गए थे. अपना अपना फ्लेवर बताओ, अपनी रंडी को सारे फ्लेवर चलते हैं।रोहन- हम तो बिना कॉन्डोम के ही चोदेंगे।अनमोल- कोई कॉन्डोम नहीं लाएगा, सारे तेल लगा कर लंड देंगे उसको।मोनू- मेरा लन्ड अभी से मचल रहा है, शाम में क्या क्या और कैसे कैसे चोदोगे उसको … हाय … सोच सोचकर मेरा लौड़ा फूला जा रहा है.

इससे मुझे बड़ी हिम्मत मिली और मैंने अपनी अम्मी की चीटिंग सेक्स स्टोरी को लिखना तय कर लिया. राहुल का लंड तो कुछ पतला लग रहा था मगर विजय का लंड 7 इंच से कम नहीं था और मोटा भी काफी था. भाभी बात की नजाकत को जानकर बोलीं- मुझे गांव के किसी प्रोग्राम में जाना है, तुम दोनों बातें करो.

इसके कुछ देर बाद उसकी एक सहेली आ गई और मैं उसे छोड़ कर अपने घर आ गया. हमारा एक दूसरे के घर आना जाना होने लगा।फिर वो दिन आ ही गया जब मुझे सील टूटने में होने वाले मीठे दर्द का अहसास हुआ. उसने उसे लंड की तरफ इशारा करते हुए कहा- क्या तुम कुल्फी चूसना नहीं चाहोगी?अलीमा बोली- मुझे अच्छा नहीं लगता है.

मैं वहां से वापस आने लगा और रास्ते में अपना काम निपटाने में मुझे दो घंटे लग गये. तब तक मैंने रागिनी का हाथ पकड़ा और लेजा कर साहिल के लन्ड पर रख दिया.

उसके हाथों का स्पर्श मेरे जिस्म में एक अजीब सी सनसनी पैदा कर रहा था।हिमानी की निगाहें मुझ पर ही टिकी थीं.

तभी अलीमा ने लंड को मुँह से निकाला और बलविंदर की ओर बड़ी नशीली आंखों से देखते हुए बोली- कैसा लग रहा है अंकल … आप खुश तो है ना?बलविंदर ने उसे उठाया और उसके होंठों पर चुंबन कर दिया. सेक्सी वीडियो बीपी मारवाड़ीमैं वहाँ से उठ कर चला गया।फिर कुछ दिनों तक जब किसी ने मुझसे कुछ नहीं कहा तो मैं समझ गया कि इसने अब तक किसी को कुछ नहीं बताया है।मेरी हिम्मत बढ़ गयी और फिर से मैं छुप छुप कर कभी उसकी गांड को तो कभी उसकी चूचियों को घूरने लगा. காலேஜ் பெண்கள் செக்ஸ் படம்पकौड़े बेहद लजीज थे … मगर मेरी नज़र तो बार-बार नन्दा को निहार रही थी. उसने अपनी दोनों टांगों को मेरी गांड पर लपेट लिया और लंड को चूत में अपने आप सेट कर लिया.

अलीमा ने बलविंदर की बात को मानते हुए थोड़ा सा लंड अपने मुँह में ले लिया और लंड अन्दर लेकर रुक गई.

हम दोनों ने कपड़े पहने और मैंने मेडिकल से दर्द की और गर्भनिरोधक गोली लाकर उसे दी और मैं अपने घर आ गया. उसने छटपटा कर अपनी कमर को झटका दिया तो मेरा लंड अन्दर जाकर बाहर आ गया था. उन्होंने मुझे बहुत देर तक चोदा और अपन सारा माल मेरी एक चुची पर गिरा दिया.

मैंने उससे पूछा- मनु जी, कोई ब्वॉयफ्रेंड है आपका!उसने मेरे झूलते लंड को देखते हुए कहा- नहीं है. पहली बार मैं उस कमसिन जवान लड़की की कुंवारी चूत को अपनी आंखों के सामने नंगी देखने वाला था. ये कह कर चंपा ने हंस कर ठाकुर को देखा और अपनी कमर मटकाते हुए अन्दर चली गई.

कुंवारी लड़की की चुदाई वाली बीएफ

मैंने उसकी चूत को अपनी दो उँगलियों से खोला और अपनी जीभ को उसमें घुसा दिया. मैंने एक झटका मारा, तो वो चिल्ला उठीं और बोलीं- माँ के लौड़े साले धीरे कर … भैन के लंड अपनी बुआ की चूत मार रहा है … किसी रंडी की नहीं … आह आराम से चोद. ये सुनकर अम्मी ने कहा- ठीक है, तू हाथ मुँह धोकर बाहर आ जा, मैं खाना लगा देती हूँ.

अन्तर्वासना एक्स कहानी में पढ़ें कि मैं विवाहिता हूँ लेकिन पति से अलग रहती हूँ.

सबके सोने के बाद सुरभि अपनी पैंटी उतार कर ही बिस्तर में आती थी … ऐसा इसलिए ताकि उसे रात में चड्डी उतारने में कोई दिक्कत न हो.

काफ़ी देर तक एक उंगली से करने के बाद जब उसने दो उंगली साथ डालीं तो मैं बिल्कुल तड़प गई. मैंने पास में पड़ी नन्दा की पैंटी से अपने उस्ताद को साफ किया और मन ही मन खुश होने लगा. मारवाड़ी भाभी की चुदाई वीडियोमैंने लंड को बाहर खींचने की कोशिश करने का नाटक किया और बोला- लंड फंस गया है.

उसका लंड काफी चिकना हो गया था इससे मुझे भी सही लगा कि अब ये मेरी गांड में आसानी से घुस जाएगा. आंटी बोली- प्लीज़ आप किसी को बताइएगा मत … वरना मेरी बहुत बदनामी होगी. बाद में चोदने के लिए बुला लूंगी, या खुद आ जाऊंगी मैं।वो उठी और अपनी चूत और गांड को गमछी से साफ किया.

फिर वो नारियल का तेल लाये और मेरी गांड के छेद में उंगली से अंदर लगाने लगे. ये कह कर चंपा ने हंस कर ठाकुर को देखा और अपनी कमर मटकाते हुए अन्दर चली गई.

अब सीट के नीचे हम दोनों की टाँगें पूरी तरह से चिपकी हुई थीं और सीट के हैंडल पर हाथ का हाथ पर घर्षण हो रहा था.

एक लंड गांड में, एक मुँह में और एक एक दोनों हाथों में … मुझे जैसी चुदक्कड़ के लिए ये सब एक हसीन सपना ही तो था. एक बार आंटी हर्ष के लंड को मुंह में लेती और अर्पित के लंड की मुठ मारती. अब मैं आगे बढ़ना चाह रहा था क्योंकि यही सही समय था भाभी को गर्म करने का.

ब्लू फ़िल्म दस मिनट तक मैंने चाची की चुत को चाट कर उसे झड़ा दिया और सारा रस पी गया. क्योंकि मुझे हमेशा से ही ऐसे काम के चक्कर में अपनी गांड की मां ना चुद जाए, इसका डर लगा रहता था.

चुदाई खत्म हुई तो मैं और हेमा चाची बाथरूम में शॉवर चला कर नहाने लगे. सलमान- और क्या फटेगी?अम्मी- और क्या फटेगी … मैं समझी नहीं?सलमान अम्मी की चूची को मसलता हुआ बोला- और तेरी गांड भी फटेगी मेरी जान. जब भी कभी मैं चाची को नजर आता, तो चाची मुझे अपने पास बात करने बुला लेती थीं.

बीएफ 16 साल की लड़की के साथ

फिर मैं उनके कानों को चूसने लगा और कानों के पीछे उनकी गर्दन पर भी चूमाचाटी कर रहा था. उनके कमरे में घुसते ही हेमा चाची को देखकर मेरे अन्दर हवस जागने लगी और मेरा लंड खड़ा हो गया. वो बोली- क्या तरीका है?मैं बोला- उसके लिए आपको मेरी एक बात माननी होगी.

चाची Xxx स्टोरी में पढ़ें कि दो बार सेक्स भरी मस्ती के बाद मैंने पड़ोसन चाची को उनके ही घर में पूरी नंगी करके पहली बार कैसे चोदा. मॉम और डैड को किसी जरूरी काम से गांव जाना पड़ गया। मैं और मेरी बहन नहीं जा पाए क्योंकि अगले महीने बोर्ड एग्जाम होने वाले थे।मेरी बहन की एक सहेली थी जिसका नाम रानी था.

फिर मैंने झूट बोला कि मुझे नहीं मालूम था कि दादी ने उसको बोल दिया था घर रुकने को! ये बस अभी पांच मिनट पहले आया है।वो बोली- ये बता … इसने तुम्हारी ली या नहीं अब तक?जिसपे मैंने अपना हाथ छुड़ाते हुए उसको बोला- पागल हो क्या? ये मेरे घर का है।वो बोली- फिर ठीक है.

दोस्त की बीवी की चुदाई की इस कहानी को लड़की की वासना भरी आवाज में सुनें. वो खाँसने लगी, मैं अनसुनी करते हुए उसके मुँह में झटके देने लगा और उसके मुँह को चोदने लगा. और उसका … या यूं कहिए कि इतने मस्त शरीर वाले लड़के का नंगा शरीर मैं पहली बार देख रही थी।अब मैं उसकी छाती को चूमने और चाटने लगी और उस पर भी मैंने अपने दांत के निशान दिये.

वह पागल होकर सब भूल गयी और कहने लगी- आपका लंड बहुत मोटा है … मेरी चूत में जा नहीं पाएगा. अब मैंने लंड को मुंह से निकाल लिया और मदहोशी में अपना सिर बेंच पर रख लिया. पूरे कमरे में नन्दा की गर्म आवाजों और लंड चुत की फचाफच की आवाजें गूंजने लगीं.

ऐसा लग रहा था जैसे कोई लड़का किसी सेक्सी लड़की के चूचे को देख कर कामुक हो जाता है।मैंने बनियान पहन लिया और जीन्स उतार दी.

गधा के बीएफ: इस दौरान उसने मुझे बताया था कि मुखिया की बेटी कोमल उसकी पहली बीवी की लड़की है. मैडम ने दोनों हाथों से अपने ब्लाउज को खींचा, तो चट चट करते हुए उसके ब्लाउज के सारे बटन खुल गए और ब्लाउज ब्रा में कैद चूचियों पर झूल गया.

इसलिए मैंने उसकी टेबल से क्रीम उठाई और चूत और लंड पर लगा कर फिर से रेडी हो गया. वो हिमानी से बोली- आज का दिन दुल्हन की जिन्दगी में बहुत अहम होता है. बस दुख इसका था कि अब मैं साहिल से प्यार करने लगी थी और अपना प्यार किसी से चुदे या किसी और को चोदे तब दुख होता है।बहरहाल अब कुछ किया नहीं जा सकता था.

बिल्कुल डबल रोटी के समान फूली हुई मखमली सफाचट चुत जैसे मेरे लंड से चुदने के लिए ही झांटों को साफ़ किया गया था.

मैंने उसकी पैंटी को पूरी नीचे खींच दिया और उसकी टांगों से निकाल कर बाहर ही कर दिया. उसका लंड मेरी चूत में उतर गया और मेरे मुंह से एक तेज आह्ह … निकल गयी. अंजलि ने झट से अपनी चूचियां अंदर कर लीं और बेड पर बैठ गयी।मैं उठा और रूम में गया और बोला- यार मुझे अभी याद आया कि पनीर लाना हम भूल गए.