बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली

छवि स्रोत,बीएफ चाहिये हिंदी मे

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी हॉट देसी भाभी: बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली, इसके ठीक बाद मैसेज आया- मैं क्या और कितनी क्यूट हूँ?मैं बोला- आप पूरी की पूरी क्यूट हो.

कामसूत्र दिखाएं

वो मेरी गांड को जोर जोर से मथ रही थीं और मैं उनके ऊपर पूरे जोर शोर से अपने लंड की मार कर रहा था. मोटी आंटी कामैंने नीचे से गांड उठाई तो उसने एक करारे धक्के के साथ पूरा लंड चुत में घुसा दिया.

और हम दोनों हम्म … हम्म … करते हुए हाँफने लगे।उसने फिर कुछ देर बाद कहा- थोड़ी देर लंड चूसो यार!तो मैंने बिना कुछ कहे घुटनों के बल उसके लंड के बीच आ गयी और गप्प गप्प चूसने लगी।सुनील बस हाथ पीछे टिकाये उम्महह … उम्महह … करते हुए लंड चुसवाने लगा।मैंने उसका लंड चूसने के बाद कहा- अब ठीक है?उसने कहा- हाँ, आओ ऊपर, मेरी तरफ कमर कर के लेटो।मैं उसके बगल में कमर कर के लेट गयी. ब्लू पिक्चर वीडियो बताओतालाब की ऊंची दीवार से पानी में कूदते, जिसे हम मुटार लगाना कहते थे.

रश्मि की चूत दर्द से बिलबिला उठी जिसके भाव रश्मि के चेहरे पर साफ साफ दिख रहे थे.बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली: दोस्तो, मेरी ये मारवाड़ी सेक्सी लेडी से सेक्स की कहानी आपको कैसी लगी … आप मेल करके जरूर बताना.

फिर उसने शैम्पेन की बोतल उठाई और बची हुई शैम्पेन दोनों गिलास में डाली.वो मेरे लिए बिल्कुल पागल था। उसका बस चलता तो वो मुझ गर्म भाबी को टेरिस पर ही पटक कर चोद देता.

बीएफ बीएफ ब्लू पिक्चर - बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली

आप सब तो जानते ही हैं कि इन बरसातों में जब तेज घनघोर बारिश हो रही हो बिजली कड़क रही हो तो उस टाइम चूत मारने में कितना आनंद मिलता है.तो आप कहानी का आनन्द लीजिए।मेरी इस कहानी की शुरूआत भी अन्तर्वासना की पाठिका द्वारा मेल पर चैट करने से होती है.

लंड के ऊपर की त्वचा नीचे सरक चुकी थी और मेरा गुलाबी सुपारा चमक कर प्रतिभा की आंखें चौंधिया रहा था. बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली इससे पहले की नेहा कुछ बोलती मैंने एक झटके में पूरा लंड नेहा की चूत में घुसा दिया.

इतना जेंटलमेन टाइप दिखने वाला और इंग्लिश बोलने वाला आदमी … अचानक हिंदी में इतनी गालियां कैसे देने लगा.

बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली?

फिर उसने हाथ कुछ अन्दर किया और अब जुनैद मेरी पिघलती बुर को ऊपर से सहलाने लगा. लेकिन मम्मी हंसती हुई अपना चेहरा बार-बार उसके मुंह से हटा रही थी जैसे वो किस नहीं करना चाहती थी. वो बड़बड़ाते हुए बोला- आह्ह … क्या माल हो भाभी! एकदम गरम मसाला सनी लियोनी की तरह! काश … आप मुझे पहले मिलीं होती.

तुम्हारे पास सिम 25 से 1 हफ्ते पहले सिम आयी थी और 24 को तुमने सिम चालू कर लिया था. पर मैंने देखा उसके साथ गुलाबो भी आ धमकी है।आप सोच सकते हैं मुझे मधुर और गुलाबो पर कितना गुस्सा आया होगा। साली यह किस्मत भी लौड़े लगाने से बाज नहीं आने वाली। अब मुझे अपनी गलती का अहसास हुआ। कल मधुर का भी फोन आया था तो मैंने उसे बंगलुरु जाने के प्रोग्राम के बारे में बता दिया था।ओह … तो यह सब उस मधुर की बच्ची का कारनामा है लगता है उसी ने गुलाबो को मेरे बंगलुरु जाने वाली बात गुलाबो को बताई होगी. इसमें बुरा मानने से क्या होगा!अब तो जैसे नेहा ने मेरे अस्तित्व को ही ललकार दिया था.

मैंने बिंदास सोते हुए अपनी करवट ली, तो मेरी गांड उसकी तरफ हो गई और मेरी नाइटी, मेरी चुत और गांड दिखाते हुए काफी ऊपर को उठ गई. हो सकता है कि मैं उसे बिकनी टाइप की ड्रेस में अपनी तरफ आकर्षित कर सकूं और उसका लंड मुझे मिल सके. वह कहने लगी- आप ऐसा मत सोचो, मैं आपसे प्यार करती हूं और मुझे आपसे मिलकर बहुत अच्छा लगा था.

जब मैंने कुछ बोलने के लिए मुँह खोला तो नेहा ने अपने होठों पर उंगली रखकर मुझे चुप रहने का इशारा किया और फिर अपनी मम्मी की तरफ देखने लगी. फिर मैंने मामी को चुदाई की पोजीशन में लिटा दिया और उनकी कमर के नीचे एक तकिया लगा दिया, जिससे उनकी चुत अब पूरा खुले में सामने थी.

कुछ मिनट चुत चुसवाने के बाद मैंने थॉमस को रोहन को वापिस भेजने का इशारा किया.

मुझसे बिल्कुल भी नहीं चला जा रहा था क्योंकि मेरी गांड और चुत में बहुत दर्द हो रहा था.

वे बोले- तूने अभी तक किस किस की मारी?नसीम बोला- दो की मार चुका हूँ. बिन्दू ने हां में गर्दन हिलाई और मुस्कुरा कर बोली- हाँ, यह ठीक है, स्कर्ट में तो कोई यह नहीं देखेगा कि नीचे पैंटी पहनी है या नहीं, वैसे भी मुझे पैंटी पहनना ही पसंद नहीं है. मैंने खाने का पहला कौर निष्ठा को अपने हाथ से खिलाया फिर उसने भी पूड़ी खीर के साथ मुझे खिलाई.

मैंने उससे कहा- अरे आप … लाइए आपका आधा सामान मैं ले लेता हूँ, आपको आराम रहेगा. मैंने बिन्दू से पूछा- दोबारा करना है?बिन्दू कहने लगी- अभी तो दर्द हो रहा है, कल देख लेंगे. सागर के जाने के बाद पल्लवी भाबी ने मुझे बुलाया और बोला कि आज रात को सभी को बुला कर कल का प्लान डिसकस कर लेते हैं.

मुझे उसके लंड से लगने लगा था कि बिना चिकनाई के इसका लंड लेना मेरे लिए कष्टकारी हो जाएगा.

मैंने अपनी इस देसी Xxx सेक्स कहानी को लेकर किंचित मात्र भी शर्मिंदा नहीं हूँ. मैं तब से ही वेट कर रहा हूं कि किसी जवान लड़की की चुदाई या भाभी की चुदाई करने का मौका मिले. वो जब भी अपने रूम से नीचे जाती थी, तो मेरे रूम की ओर झांकते हुए हल्की सी स्माइल पास कर देती थी.

मैं- मीता कैसा लगा?मीता- कुछ मत पूछो अंकल … बस उन पलों को मुझे जी लेने दो … मैंने जितना सोचा था, उससे कई हज़ार गुना सुख आपने दिया. मेरी चूत से उबलती हुई पानी की धार मेरी मोटी जाँघों से होकर नीचे फ़र्श तक जा रही थी।मैं बीच बीच में चूत से उंगली निकाल कर अपने मुख में लेकर पानी का स्वाद ले लेती। इन्ही सब के दरम्यान लगभग 10 मिनट बाद उसने अपने धक्कों की स्पीड बहुत ही तेज कर दी और जोर जोर से आहें भरने लगा।अब मैं समझ गयी कि उसका माल निकलने वाला है. मैं अभी रॉबर्ट के सामने सिर्फ एक छोटी से ट्रांसपेरेंट ब्रा-पैंटी में थी.

अब आगे:उस अफ्रीकन क्लाइंट रॉबर्ट ने व्हिस्की के गिलास को होंठों से लगाया और एक चुस्की लेते हुए कहा- देर मत करो डार्लिंग … अब मुझे बिकनी पहन कर दिखाओ.

इसलिए आप लोग बने रहिए अन्तर्वासना के साथ और मेल करके बताते रहिए कि आपको यह घटना कितनी पसंद आई। आप कहानी के बारे में नीचे दिए हुए कमेंट बॉक्स पर भी मुझसे बात कर सकते हैं। मैं यथासंभव आपके सवालों का जवाब दूंगा। आपका प्यारा राजवीर।[emailprotected]. फिर मैंने प्रतिभा के कानों में आहिस्ते से कहा- पर इस बारे मैं सिर्फ चूत नहीं फाडूंगा … मुझ तुम्हारा एस होल यानि गांड का छेद भी उपहार में चाहिए.

बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली ये देख कर वो अपनी धोती उठा कर ज़मीन पर सीधा लेट गया और मुझे अपना लंड चूसने को बोला. क्योंकि थॉमस का लंड बहुत मोटा और लम्बा था, जिससे चुदने में मुझे बहुत मजा आ रहा था.

बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली चूचियाँ भारी भारी गोल होनी चाहिए, गांड भी भरी और गोल होनी चाहिए, चूत भरी और मोटी होनी चाहिए, मुझे सूखी हुई चूत जिसमें से केवल छेद दिखाई दे, वैसी चूत कम पसन्द है. लेकिन सनम तो जैसे पागल सी हो गई थी, वह बहुत जोर जोर से लंड चूसने लगी.

कमरे में मेरे पैरों की पायल की झनझनाहट गूंज रही थी, बस शुक्र यही था कि मेरी सास सो रही थीं.

आपने बीएफ

बस थोड़ा सा दर्द होगा जब लंड तुम्हारी गांड में घुसेगा तब, फिर मज़ा ही मज़ा मिलेगा. मगर अंकल का लंड तो मेरी बेचारी सी चूत के अंदर जा ही नहीं रहा था।फिर उन्होंने मेरे हाथ छोड़ दिये और मेरी पीठ पर हाथ ले जा कर मुझे अपने सीने से लगा लिया. वो धीरे धीरे पहले अंगूठे से मेरे मम्मों के निचले हिस्से को सहला रहे थे और पीछे से मेरी गांड पर लगातार अपने लंड से दबाव बनाए हुए थे.

मैंने भी उनकी चौड़ी छाती पर तीन चार बार किस किया और उनका साढ़े सात इंची लम्बा लंड पकड़ लिया. जीजूऊऊऊऊऊ … दर्द हो रहा है; धीरे करो प्लीज … मैंने छक्के मारने को कहा था पर आपने तो अटठा मारना शुरू कर दिया. ”उसे मैंने घोड़ी बनने को कहा, उसकी चूत पर पीछे से लंड रख कर जोर का धक्का मारा.

मैं तब से ही वेट कर रहा हूं कि किसी जवान लड़की की चुदाई या भाभी की चुदाई करने का मौका मिले.

वहाँ लोग भी ज्यादा ही खड़े थे जिससे ये सब किसी को भी पता नहीं चला।इतने में भाभी ने मेरी तरफ देखा और मुस्करा कर बाथरूम की तरफ चल दीं।बाथरूम बिल्कुल पीछे के हिस्से में था, मैं भी उनके पीछे पीछे चला गया. मैंने भी उसे मदभरी नजरों से देखा और उसके पेंट के ऊपर से ही उसके लंड को सहला दिया. जैसा कि मैंने ऊपर लिखा है कि यूँ तो मैं पहले से रिलेशन और अन्य बातों में लकी रहा हूँ … तो मैं अपने लंड के लिए निश्चिन्त था कि कोई ना कोई मेरे आने वाली है, बस थोड़ा सा इंतज़ार करना होगा.

अंकुश जीभ से मेरी चूत की चुदाई करने लगा, तो मैं मचलने लगी और उसके सिर को अपनी चूत में दबाने लगी. नेहा ने अपना हाथ मेरी छाती पर लगा लिया और बोली- राज, धीरे धीरे करना, पता नहीं इतना बड़ा अंदर ले पाऊंगी या नहीं?मैं नेहा की चुचियों पर झुक गया और मैंने अपनी दोनों कोहनियां नेहा के अगल बगल में रखकर हाथों से नेहा के कंधों को पकड़कर उसे बिल्कुल अपने नीचे काबू कर लिया और लंड को अंदर धकाने लगा, आधा लंड अंदर चला गया था. रात के अंधेरे में सुनसान सड़क पर गाड़ी में दोनों चुम्बन का मजा ले रहे थे.

मैंने कहा- सिर्फ एक बार जाते जाते मिल लेता … और वो भी तो घर में नहीं है. अमन के जाते ही मैं किचन में गया और नीरा की गोरी पीठ पर किस करने लगा.

हम चारों निकल पड़े और अपने पांचवें साथी के पास पहुँच कर हम पांचों खेतों में घुसकर उन लोगों को तलाश करने लगे. अर्पित मेरी जांघों के अंदर चूमता हुआ मेरी चूत के इर्द गिर्द चूम रहा था. उसने बड़ी अदा से कहा- हायय … मैं तो कब से आपकी बांहों में समाना चाहती हूँ … पर अभी इसका वक्त नहीं है.

अब धीरे-धीरे मेरा दर्द भी जा रहा था लेकिन अभी भी जलन बहुत ज्यादा हो रही थी.

फिर भाभी को कस कर पकड़ लिया और अपने सीने से लगाकर किस करने लगे। किस करते करते भैया ने भाभी की ब्रा का हुक खोल दिया और पैंटी भी निकाल दी. मैंने सोचा कि फ्रेश होकर 2-3 घंटे आराम कर लेता हूं ताकि अच्छे से फ्रेश दिमाग से परीक्षा दे सकूं. मैंने बिन्दू को अपने ऊपर आने का इशारा किया, बिन्दू मेरे ऊपर आ गई और उसने अपनी बुर को मेरे लौड़े के ऊपर रख लिया.

अब मुझे मस्ती आनी शुरू हो गई थी, मेरी चूत में खुजली भी होनी शुरू हो गई थी. मैंने सोचा कि साला गांव की किसी भाभी की चुदाई दिखाने की कह रहा होगा.

उनका ये पेटीकोट उनकी ब्रा के ऊपर तक चढ़ा हुआ था जिससे उनकी गोरी पिंडलियां मुझे उत्तेजित कर रही थीं. विन्नी- क्या हुआ? ऐसे क्या देख रहे हो?मैं- देखने तो दो कुछ देर, बड़ी मुश्किल से दिन में चांद नज़र आता है. उसने अपनी चुत को मेरे लंड पर घिस दिया था और हम दोनों को चुदाई का पहला स्पर्श अन्दर तक झनझना गया था.

सेक्सी मूवी बीएफ फिल्म बीएफ

फिर नेहा ने मेरे चेहरे की ओर देखा और बोली- चलो ठीक है, 6 हजार और ले लो.

उससे बात हुई, तो उसके पति ने कहा- खाना हम सारे मिल कर किसी होटल में खाएंगे. 30 हो चुके थे मुझे नहा धोकर अपने चूत की चुदाई के लिए तैयार होने में!जिम लास्ट फ्लोर पे थी मेरे फ्लोर से 5 फ्लोर ऊपर! मैंने लिफ्ट का गेट खोला और उसमे बैठे स्टाफ से जिम के फ्लोर पे ले जाने को बोला. बाहर टीनशेड में साईकिल के पंचर जोड़े जाने का सामान बिखरा पड़ा था … व दुकान में अन्दर नई साईकिलें रखी दिख रही थीं.

मुझे पता था कि आज मेरी जमकर चुदाई होने वाली है … शायद कल से भी ज्यादा दर्दनाक … या मजेदार चुदाई होगी. उसने जोरदार तरीके से लंड को अन्दर बाहर करते हुए मेरी चुदाई करना शुरू कर दिया. भोजपुरी देहाती एक्स एक्स एक्समैं सोच में पड़ गयी कि अगर मैं न बोलती हूँ, तो ये नौकरी, घर और ऐशो आराम सब निकल जाएगा … जिसके लिए में हमेशा के लिए तरसती रही हूँ.

मुझे भी तो ठण्डा होना है यार।फिर मैंने उनके लंड को हाथ में भर लिया और जोर-जोर से आगे-पीछे करने लगा. वो भी मेरे लंड से अपनी चुत की सील खुलवाने के लिए पूरी तरह से मन बना चुकी थी.

वहां से कुछ ही दूर पर रेलवे स्टेशन था और उससे ही पहले ट्रेन खड़ी होती थीं. अब सनम ने एकदम से राजू को अपने कब्जे में ले लिया और उसे ज़ोर ज़ोर से किस करने लगी. मैं उस मम्मे के निप्पल को अपनी उंगली और अंगूठे से धीरे धीरे मसलने लगा.

मैं बिन्दू के घर में अपनी जगह बनाना चाहता था अतः मैं यह सोचता रहता था कि किस तरह से इनके घर आना जाना करूं ताकि तीन तीन चूतों का आनंद ले सकूँ. मेरी गांड की दरार से होते हुए उसकी आग मेरी चूत में जाने को बेताब हो रही थी।अर्जुन मेरे जिस्म के उतार चढ़ाव से असहज हो रहा था. पर मामा बोले- नहीं नहीं … दीदी ऐसी कोई बात नहीं … सूरत में भी तो मैं किराए पर ही रहता था.

अब मुझसे रहा नहीं जा रहा था और मेरा 7 इंच लम्बा लंड अब तनकर पूरा खड़ा हो गया था।अंकल मुझे किस करते हुए मेरे लंड को पकड़कर आगे-पीछे कर रहे थे.

उफ्फ्फ आप भी ना … जीजू, अपना वो घुसा कर सम्भोग करो जल्दी से!” वो मिसमिसा कर बोली. मैंने धीरे धीरे अपना लण्ड अन्दर बाहर करते हुए गुरजीत से पूछा- एक बात बताओ गुरजीत, तुम्हारे मन में पहली बार कब आया कि मैं तुम्हें चोदना चाहता हूँ?करीब तीन साल पहले.

डेजी अब कराहने लगी थी और मुझसे रुकने की कह रही थी, लेकिन बहन का लौड़ा मेरा लंड शांत ही नहीं हो रहा था और न ही पानी छोड़ रहा था. मैं आपसे प्रेम करती हूँ, अगर आप मुझे नकार भी दोगे, तब भी मैं आपसे प्रेम करती रहूंगी. अमित तो अपनी वाली को चोदते हुए कह रहा था कि साली ये पुलिस वालीं भी बड़ी मस्त चुदवाती हैं.

घबराओ मत, मना नहीं करूंगी, मेरा खुद मन है अब तो तुमसे चुदवाने का!सुनील भी खुश हो गया और कहा- ठीक है।इसके बाद फ़ाइनल प्रतियोगिता भी आ गयी और थोड़े बहुत मुश्किलों के बाद मैंने उत्तर देना जारी रखा और आखिरकार हमारे कॉलेज की टीम मेरी बदौलत जीत भी गया।सब लोगों ने मुझे बधाई दी अपनी टीम को हारते हुए से जिताने के लिए।जीतने के बाद प्रतियोगिता समाप्त हो गयी. हुआ यूं कि मेरी सास की तबियत अचानक खराब हुई और मेरी पत्नी एक सप्ताह के लिए मायके चली गई. मैंने भाभी की चुत की फांकों को फैलाकर एक एक को मुँह में भरकर जी भर कर चूसा.

बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली मैंने अपनी ड्रेस पहले से एक नंबर छोटा लिया और उसको एकदम फिटिंग का करवा लिया. फिर वो उठी और मुझे नीचे पटक कर मेरे लंड को भूखी शेरनी की तरह चूसने और खाने लगी.

कश्मीरी बीएफ कश्मीरी बीएफ

फिर धीरे धीरे उसके पेट को सहलाते हुए उसकी पजामी में हाथ डालकर मैंने सपना की चूत को सहलाया तो मालूम हुआ कि उसकी चूत पूरी तरह से पानी पानी हो गयी थी. आंटी लंड चूसने लगीं और मेरा रस अपने मुँह में लेकर उसे मेरे लंड पर ही लगाने लगीं. धीरे धीरे वो अपना भार उसके लंड पर बढ़ाने लगी और सरक सरक कर रमेश का लंड रश्मि की गांड को चौड़ी फाड़ता हुआ अंदर घुसने लगा.

आंटी लंड चूसने लगीं और मेरा रस अपने मुँह में लेकर उसे मेरे लंड पर ही लगाने लगीं. कुछ देर तक पीछे से मेरी चूत में लंड पेलने के बाद सर ने मुझे सीधे किया और मेरे सारे कपड़े उतार तक अलग रख दिए. सेक्सी बीएफ भेज दोहम दोनों ने ऊपर के कपड़े अभी नहीं खोले थे और भाभी मेरी गोद में उछल उछल कर चुदवा रही थीं.

और लंड को चूत से बाहर निकाल कर बहती चूत को पौंछ दिया फिर उसके लेटने की पोजीशन बदलते हुए निष्ठा को पलंग की चौड़ाई में लिटा दिया जिससे उसके पैर दीवार की तरफ हो गए; फिर मैंने नीचे तकिया लगा दिया और पैरों को मोड़ कर ऊपर उठा दिया.

वैसे मैं खुद यह जान कर खुश सा था कि वे मेरी कमउम्र समझ कर ये मान रहे थे कि वे एक चिकने अनचुदे फ्रेश लौंडे की गांड मार रहे हैं. वो कहने लगे- आप लोग तो जा रहे हैं मगर रचिता वहां जा कर क्या करेगी? आप ऐसा करिये कि उसे हमारे यहाँ छोड़ सकते हैं.

मीता, तुम्हारे कोमल-कोमल गाल, कोमल-कोमल होंठ, बड़ी-बड़ी आंखें, जो हल्का सा काज़ल लगने के बाद इतनी कातिलाना हो जाती हैं कि किसी का भी खून हो जाए. मैंने तुरंत निष्ठा को आवाज लगाई और ये समाचार सुना दिया कि उसकी दीदी को कल अस्पताल से छुट्टी मिलने वाली है. यह डेस्क भी इतना सही ऊंचाई पे था जिससे मेरे चूत को अर्जुन का लंड आसानी से फाड़ सके.

उन्होंने मेरे होंठों को अपने होंठों के बीच दबा लिया और जोर-जोर से चूसने लगे.

मैंने भी सारा ध्यान चुदाई पर केंद्रित कर 10 15 शॉट लगाए और अपने लण्ड से वीर्य की गर्म गर्म पिचकारियाँ मारते हुए अंदर तक बिन्दू की गहराइयों को लबा लब भर दिया और बिन्दू को बेड पर धकाते हुए लण्ड डाले डाले उसकी कमर के ऊपर पसर गया. मैं- क्लेरिसा, तुम्हारे निप्पल तो बहुत टाइट हो गये हैं, लगता है तुम मेरी मसाज का पूरा मजा ले रही थी. मैंने नेहा की चूचियों को अपने हाथों से मसला, उसे किस किया और नेहा भी मेरे लण्ड को हाथ से हिलाती रही.

बीएफ देवर भाभी की” कहते हुए मैंने उसके गालों को चूमना शुरू कर दिया।प्रेम! एक बात बोलूँ?”हाँ जान?”तुम्हारा नाम प्रेम नहीं या तो कामदेव होना चाहिए या फिर प्रेमगुरु!”कैसे?” मैंने हंसते हुए पूछा।किसी स्त्री को कैसे अपने वश में किया जाता है तुम बहुत अच्छे से जानते हो?”अरे नहीं … ऐसा कुछ नहीं है?”अब देखो ना तुमने अपने शब्द जाल में मुझे फंसाकर मुझे इस काम के लिए भी आखिर मना ही लिया. मैंने देखा कि मीता के गोरे चूतड़ों पर मेरी उंगली के लाल निशान उभर आए थे.

बीएफ यूटिलिटीज लिमिटेड के बारे में

पति के साथ तो उसका झगड़ा होता ही रहता था और इसके अलावा उसने किसी से अपनी चूत चुदवाई नहीं. उसने कमरे में आकर अपना पैंट उतार दिया, साथ में गन्दी बदबू देती बनियान भी उतार दी. तुझे कुछ नहीं होने दूँगा।उसने अपना लंड रश्मि की छोटी सी गांड की तरफ बढ़ाया लेकिन पहली बार में जरा सा भी अंदर नहीं जा पाया.

मैंने लंबी सांस लेते हुए अपना वीर्य स्वीटी मैडम की चूत में डाल दिया … और अलग होकर उनके बगल में लेट गया. फ़िर नीचे से हाथ डाल कर उनकी चूत को सहलाने लगा और अन्दर उंगली डालने लगा. अब मैंने बिन्दू से कहा- बिन्दू, तुम मुझसे एक वादा करो कि तुम बाहर किसी भी लड़के से नहीं मिलोगी, अगर किसी ने भी तुम्हें किसी लड़के के साथ बात करते हुए देखा या कोई ऐसी बात पता लगी तो मैं तुमसे बात करना बंद कर दूंगा.

मेरे गालों पर किस करते हुए उसने कहा- मौका मिला, तो मैं खुद चली आऊंगी. तभी तो तुम्हारे साथ पहली बार की मुलाकात में ही रूम में आग गयी लेकिन पुलिस का डर था. आह्ह … तुम्हें चोदने में कितना मजा आ रहा है बेबी … यस बेबी … अब तुम्हारी गांड चुदाई भी करने दो।वो आहिस्ता से उठी और उसने डिल्डो को अपनी गांड में डाल लिया.

इस बार वो भी मस्त थी … तो मैंने उसे दबा कर चोदा और उसके कूल्हे पर थप्पड़ मारने लगा. मैंने नाश्ता खत्म किया और चाय पीकर मां को बोला- मैं जरा बाहर जाकर आता हूँ.

उदय सर मुझे अपनी छाती से चिपकाते हुए बोले कि इसको बजाते समय अपने शरीर को सीधा रखा करो, वरना तुम्हारे ये यूं ही झुक जाएंगे.

फिर थॉमस ने एक झटका और मारा और उसका पूरा लंड मेरी चूत में जड़ तक उतर गया. कामसूत्र ओपन सेक्स20 अगस्त को सुबह फोन आया कि आज वो बाहर जाने वाला है, तुम आ जाना 11 बजे तक. बीएफ फिल्म चुदाई हिंदीमैंने भी उसे अपनी बांहों में भर लिया और पता ही नहीं चला कि कब एक दूसरे के होंठ चिपक गए. मुझे पूरी उम्मीद है कि क्लेरिसा के साथ ऑफिस सेक्स करते हुए भी मुझे उसकी चूत में चोदने में इतना ही मजा आयेगा.

फिर धीरे धीरे मुंह खोल कर आधा लंड मुंह में भर लिया और मेरी ओर देखती हुई चूसने लगी.

मैंने उससे पूछा- अर्जुन, कैसा लगा अपनी चाहत को चोद कर?अर्जुन ने अपने शांत होते लंड से एक झटका मारते हुए मुझे किस किया. मैं बोली- टेंशन मत लो दीदी … मैं बहुत जल्द तुम्हारे पति से चुदूंगी और फिर तुम्हें सुनाऊंगी. मेरे मन में लड्डू फूट रहे थे कि काश ये मुझे मिल जाए। मगर मेरी बिल्कुल भी हिम्मत नहीं हो रही थी कि मैं उनसे कुछ बोल सकूं.

बाजू में निष्ठा गहरी नींद में सोई हुई थी उसकी सांसों के उतार चढ़ाव से चादर के भीतर से उसके स्तनों का उठना बैठना साफ दिख रहा था. पर मेरा ध्यान मेरे स्टोर रूम में बंद खजाने पर था।मैंने दोनों के लिए खीर परोसी और चुपके से उनके हिस्से की खीर में नींद की दो गोलियां मिला दी। दोनों खीर लेकर टीवी के सामने बैठकर खाने लगी. मैं दिमाग से कम और अब चूत से ज्यादा सोच रही थी।मैंने रिसेप्शन से चाभी ली और रूम का गेट खोलते ही थोड़ा शॉक हो गयी.

बीएफ सेक्सी सील टूटी

फिर कुछ देर बाद उसने फिर से लंड चूत में से निकल कर गांड में डाल दिया और धक्के मारने शुरू कर दिए. फिर मैंने सनम को आवाज़ लगाई तो वो भी उठ गयी और हमें ऐसे देखकर कूदकर राजू के पास आयी और उसे थप्पड़ मार दिया जिससे मैं चौंक गयी. इसलिए नहीं बन सकती तुम्हारी गर्लफ्रेंड।फिर हम प्रतियोगिता की बात करने लगे।मैंने कहा- तुम तो हर साल जीत जाते हो.

मुझे बहुत मजा आ रहा है … मैं अपनी जिंदगी पहली बार इतने मजे ले रही हूँ.

बिन्दू कहने लगी- लेकिन आपका तो बहुत बड़ा है, इस छोटे से छेद में कैसे जाएगा?मैंने कहा- बुर का छेद दिखने में छोटा होता है लेकिन जब लड़की कामवासना से भर जाती है तो बुर में अपने आप लचीलापन आ जाता है.

मैं तो यह सोच के डर रही थी कि ऐसी चुदाई मेरी गांड की होती तो शायद मैं मर ही जाती!हा हा हा!तो मेरे दोस्तो, कैसी लगी आपको अपनी प्यारी चाहत की चुदाई की दास्तान? आप सब अपने जज्बात मुझे मेल कर सकते हैं. मैंने नाश्ता खत्म किया और चाय पीकर मां को बोला- मैं जरा बाहर जाकर आता हूँ. देसी सेक्स वीडियो बीएफअब उसका 2 घण्टे बाद फोन आया तो मैं बोला- मेरे सभी नम्बर ब्लॉक कर दिये तुमने? मैंने ऐसा तुम्हारे साथ क्या कर दिया?वो बोली- तुमने कुछ नहीं किया है.

दरअसल जिस चूत के छेद के बाहरी होंठ मोटे होंगें उस चूत को चोदने का अलग ही नशा है. रमेश- रवि? रवि कुछ बोलता क्यों नहीं तू?रवि को कुछ सूझ ही नहीं रहा था कि वह क्या बोले. ऐसा करते करते अचानक से उसने चूत के छेद पर अपना लंड रख कर जोरदार धक्का मार दिया.

फिर मैंने पीछे हाथ करके अर्पित की शॉर्ट्स के ऊपर से ही उसके लंड को सहला दिया. बल्कि वो लंड यदि मुझे अच्छा लगता है तो मैं खुद उसको पेमेंट करती हूँ.

जीजा साली Xxx कहानी मजेदार है या नहीं?[emailprotected]जीजा साली Xxx कहानी जारी रहेगी.

फिर भाभी ने मेरी गोटियां सहलाईं और कुछ तेज झटके के साथ मैंने अपना पूरा माल भाभी की चूत में डाल दिया. मैंने प्रतिभा से खुद को छुड़ाया और कहा- मैंने कहा था ना … मुझे अपनी तारीफ बिल्कुल पसंद नहीं. मेरी निगाहों से निगाहें मिलने से वो थोड़ी शरमाई और नीचे नज़र झुका कर बैठ गई.

आदिवासी बीएफ सेक्स वीडियो सोफा भी बेड से सिर्फ दो मीटर की दूरी पर था, जहां से रोहन को मेरी चुदाई के नज़ारे साफ दिख सकते थे. साली जी ने ब्रा भी डिजाइनर ही पहिन रखी थी मैंने उसके कप मुट्ठियों में जकड़ लिए और मसलने लगा.

वो मेरे पीछे पीछे सीढ़ियों से उतरने लगा। हम टीवी हॉल में पहुंचे और उसे सोफे पर धक्का दे दिया।वो सोफे पर अपने लण्ड को सहलाते हुए बैठ गया।मैंने टीवी ऑन किया और एक गाने पर उसके सामने थिरकने लगी. अब मैंने फिर से कॉल डिटेल देखा तो पता चला इसका मोबाइल 25 तारीख से अभी तक रोमिंग में है. नमस्कार दोस्तो, मैं अतुल आप लोगों का स्वागत करता हूँ और आपलोगों को मुझे अपने मेल भेजने और अपने सुझाव देने का शुक्रिया अदा करता हूँ.

सन 2022 का बीएफ

पर मेरी चुत पर चूतरस के साथ साथ रागुल्ले का रस भी लग गया था जिससे चुत बहुत चिपचिपा रही थी. अब तक की चूमाचाटी में मेरा वन पीस नीचे से मेरे चुचों पर आ चुका था और मैं अनिकेत की गांड पर हाथ रख कर उससे अपने ऊपर चढ़ जाने को कह रही थी. अभी तक मैंने बिन्दू को कई मजे नहीं दिए थे इस इरादे से मैंने उसे अपने ऊपर से उतार कर बेड पर लिटाया और उसकी चूत की तरफ जाकर उसकी जांघों को चौड़ा किया और उसकी चूत पर अपना मुंह रख दिया.

उसकी गर्दन पर अपनी जीभ की नोक बना कर फिराने लगा और हल्के हल्के से दांतों को गर्दन पर दबाते हुए उसे गर्म करने लगा. बदले में तू ये बात किसी से बोलेगा नहीं … वरना हम बोल देंगी कि तूने हमारे साथ छेड़छाड़ की है.

दोस्तो, मैं राजवीर, महायाराना के अंतिम भाग के साथ आपका मनोरंजन करने के लिए एक बार फिर से हाजिर हूं.

हम दोनों एक कॉफी शॉप में कॉफी पीने चले गए।वहाँ हम दोनों कॉफी पीते पीते बातें करने लगे।थोड़ी देर में उसने इधर उधर बातें घुमाते हुए मुझे प्रपोज़ कर दिया गर्लफ्रेंड बनने के लिए।मैंने प्यार से मना कर दिया और बोला- तुम्हारे ऑफर के लिए थैंक्स! पर मैं इन सब चक्करों में नहीं पड़ना चाहती. तो गुरजीत ने कहा- ज्यादा देर हो जायेगी?नहीं, तुम इण्टरवल के बाद निकल आना. मेरे स्कूल की ड्रेस में सफ़ेद शर्ट और ग्रे स्कर्ट था और शनिवार को सफ़ेद स्कर्ट के साथ सफ़ेद शर्ट पहननी होती थी.

सोनू यह जानकर खुश हो गई और बोली अब तो बात बन जाएगी, तुम मम्मी को पटा लो. मित्रो, इस कथा को कहने से पहले एक बात और कहना चाहूंगा कि आप सब इस कथा को धीरे धीरे रस ले ले कर पढ़ियेगा. और उसका प्रकाशन भी हो गया, जिसे पढ़कर आप सभी पाठक पाठिकाओं द्वारा प्रशंसा के खूब संदेश आए।कुसुम ने भी कहानी की जमकर तारीफ की.

अब मर्ज़ी तो मेरी भी थी, लेकिन मैं तुरंत तो उससे नहीं चुदवा सकती थी … तो पहले मैंने थोड़ा नाटक किया.

बीएफ बीएफ पिक्चर चुदाई वाली: श्रीनगर पहुंचने पर मैंने होटल में रूम लिया और फिर मैंने विन्नी को कॉल की. हसबैंड वाइफ सेक्स स्टोरी में प्शें कि जब मेरी बीवी को बच्चा होने वाला था तो डॉक्टर ने सेक्स के लिए मना कर दिया.

अब मैं अपनी सेक्स स्टोरी का अगला भाग लेकर फिर से हाज़िर हूँ।मैंने और अंकल ने रात के खाने के बाद कुछ देर टीवी देखा क्योंकि अभी इस समय तक कोई न कोई आ सकता था।करीब 10 बजे अंकल ने घर का दरवाजा बंद किया।उसके बाद अंकल ने मुझे एक गोली दी. मैंने बिन्दू को घोड़ी बनने को कहा तो बिन्दू फट से तैयार हो गई और उसने अपने बड़े और गोरे गोल चूतड़ों को मेरे सामने कर दिया. मैंने तो आनन्दसागर में डूबकर आंखें मूंद लीं और उसकी कामुकता से लाल हो चुकी आंखें भी स्वतः मुंद गईं.

अच्छा सुनो न जानू … मैं थोड़ी देर बाद में बात करती हूँ … अम्मी बुला रही हैं.

ये कहते हुए उसने मुझे इशारा किया तो मैंने दो पैग बना कर जाम टकराए और दारू अन्दर कर ली. फिर मैंने उसके पति समीर से पूछा- आप लोगों को यहां आने की जरूरत क्यों पड़ी, जबकी आपके पास तो पूजा जैसा ख़ास तराशा हुआ हुस्न है. मैं बड़बड़ाने लगी- ओह्ह … आह … अर्पित … चूसो … चाटो … मेरी चूत को … ओह्ह।फिर उसने मेरी चूत की दरार में जीभ फिराई.