बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी

छवि स्रोत,एचडी वीडियो बीएफ ओपन

तस्वीर का शीर्षक ,

ब्लू सेक्स सेक्सी वीडियो: बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी, कितनी हरामी औरत थी यह रूपा जो अपने यार को अपनी नंगी बेटी का जिस्म दिखा कर उसका लंड चूस रही थी.

चेन्नई बीएफ वीडियो

इस तरह की कामुक देसी चुदाई कहानियों को पढ़ने के बाद और काफी सोचने के बाद आज मैं भी अपनी देसी चुदाई की कहानी लिख रहा हूँ. चोदा चोदी बीएफ हिंदीबुआजी के पास में सोए होने की वजह से वह अपनी सिसकारियों और अपनी साँसों को दबाने की कोशिश करने लगी.

तो उसका फोन किसी लड़की ने उठाया तो मैंने उससे पूछा- क्या मैं अंशुल गोयल से बात कर सकती हूँ?उस लड़की ने जवाब दिया- 2 मिनट होल्ड कीजिये, अभी आपकी बात करवाती हूँ. हिंदी बीएफ फिल्म ओपनलेकिन एक दिन मैं और वेरषा घर के बाहर बैठ कर बातें कर रहे थे और बात करते-करते हमारे बीच कुछ सेक्सी मज़ाक भी होने लगा.

जब भी वो अपनी जीभ मेरी चुत के अन्दर तक डालता, मुझे अपनी चूत में बहुत जलन सी होती थी ‘आह्ह आह्ह और अन्दर तक डालो… आह्ह आह्ह और डालो…’मैं उसके मुँह पर मेरी चूत दबाकर अपनी चूत रगड़ती हुए सिसयाने लगी- आह्ह मर गई आह्ह विजय चोद दो मुझे फाड़ दो मेरी चूत… विजय अह्ह्ह आह्ह मर गई… आह्ह…हमें देखकर फिर से अल्का और दिनेश हँसने लगे.बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी: वो बोला- बाद में क्यों, क्या तुम मेरा पूरा लंड अपनी चुत में नहीं लेना चाहती हो?मैंने कहा- लेना चाहती हूँ.

हम दोनों एक-दूसरे से मिलना चाहते थे, लेकिन ऐसा कोई अवसर नहीं मिल पा रहा था कि हम मिल सकें.सुदेश- यार ऐसे ये नहीं पहचान पाएगी कुछ आसान करो, जिससे ये अपने महेश को पहचान सके.

मध्य प्रदेश बीएफ - बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी

मैं बहुत जोर जोर से उनकी चूत चुदाई कर रहा था और अब वो भी अपने चूतड़ों को आगे पीछे करके चूत चुदाई का मजा ले रही थीं.लंड जब बाहर आता तो अन्दर से लाल लालखरबूजे के जैसी गिरी को बाहर लाता और अन्दर कर डालता.

मैं आंटी को काफ़ी देर तक चोदता रहा और फिर झड़ गया, मैंने लौड़े को बाहर निकाल कर सारा माल आंटी की गांड पर छोड़ दिया और हाँफने लगा. बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी वो बता रही है कि जब भी हॉस्टल में छुट्टियां होती हैं तो वो अपने घर दो तीन दिन बाद ही जाती है, ये दो तीन दिन वो अपने यार, अपने बॉयफ्रेंड के साथ चुदाई करके बिताती है.

यह कहते हुए मैं उस बाहुबली जवान मर्द से लिपट गया और एक धक्का देते हुए उसे दीवार से टिका दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी?

मैं सोचने लगा कि करूँ भी तो क्या?अगले दिन वो नई लड़की खाना लेकर अकेली आई. ये गलत है और आप भी मुझसे प्रोमिस कीजिए कि आज के बाद आप आज जो कुछ भी हुआ, उसे भूल जाएंगे और कभी भी इस तरह की हरकत नहीं करेंगे. उसका छोटा भाई अमन एक किताब पढ़ा रहा था और उसका लंड उसके हाथ में था, वो किताब पढ़ पढ़ कर मुठ मार रहा था.

मैं विनीता की जांघों के बीच अपना मुँह लाया और उसके हुस्न के खजाने यानि चूत पर अपने होंठ रख दिये और अपने दोनों हाथों से विनीता की चूचियां मसलने लगा. थोड़ी देर बाद चाचा और उनके दोस्त चुटकुले सुनाने लगे और सब हंसने लगे इधर चाचा अपना हाथ मेरी जाघों में चलाने लगे, मैं ब्लैक कलर का सूट पहने थी, सलवार के उपर से ही चाचा मेरी जांघों के बीच में मेरी चूत में कपड़े के ऊपर से ही उंगली करने लगे. कुछ देर तक लिपकिस करने के बाद चाचाजी ने मेरे कान के पास आके धीरे से कहा- शाहीन मेरी जान अब तुम्हारी बारी है.

मैं उससे पहले प्रोफेशनल रिश्ते बनाना चाहता था, जिससे मुझे उससे नियमित मिलने का मौका मिल सके. मेरा लंड कड़क हो चुका था तो मैंने पीछे से ही अपना लंड चाची की चूत में डाल दिया. 30 बजे मेन गेट खुलने की आवाज आई और कोई घर में आया, जब तक मैं उठी तब तक वो मेरी सास के कमरे में जा चुका था और मेरी सास के कमरे का दरवाजा बन्द हो चुका था.

बहुत उत्तेजित थी वो!वक़्त की नजाकत को समझते हुए मैंने उसका निचला होंठ अपने होंठों में दबा लिया और चूसने लगा. रियल सेक्स स्टोरी का पहला भाग :सेक्स कहानी प्यार में दगाबाजी की-1कहानी का दूसरा भाग :सेक्स कहानी प्यार में दगाबाजी की-2अब तक की रियल सेक्स स्टोरी में आपको मालूम हुआ था कि आज मेरी गैंग बैंग चुदाई की कहानी का खेल शुरू होने वाला है.

इधर अमित से भी रहा नहीं गया और उसने माया की चुत पे अपनी जीभ लगा दी.

मुझे लगा काम में बिजी होगी और सबके सामने डर रही होगी, सो मैंने भी जाने दिया और अपने काम में लग गया.

उसकी बात सुन के मैं भी थोड़ा नम हो गया, मैंने उससे कहा- नहीं, तुम हमेशा मेरे पास रहोगी. मैंने उसकी आँखों में हैरत से झांका तो उसने कहा- तुम्हारा मुझको देख कर मुठ मारना मुझे अपने लिए कॉंप्लिमेंट सा लगा और मैं इस तरह से धन्यवाद कहना चाहती हूँ. थोड़ी देर बाद उसने अपना माल छोड़ दिया और जल्दी ही मेरा रस भी निकल गया.

मैंने बस चैन खोल कर लंड निकाला और उसके ऊपर लेट कर लंड उसकी गांड की दरारों में डाल कर ऊपर नीचे करने लगा. अब मैंने उन दोनों को बेड पर लिटा कर उनकी सलवार और कुर्तियाँ निकाल दीं. ”रेखा शायद मुझसे कुछ शर्मा रही थी, इसा लिए बोली- मुझे नहीं देखना, तुम ही देख लो जो देखना है…”हुंह… अभी बड़ी नखरे दिखा रही है.

सुमन- आह… पापा… बहुत मजा आ रहा है उफ़फ्फ़ आपने तो चुत में आग लगा दी… अब मत तड़पाओ ना आह… प्लीज़ ओफ्फ…पापा- सुमन अब वक़्त आ गया बेटा… ले संभाल लेना ठीक है.

मैंने मामी को नीचे बेड पर लेटा कर अर्चना को अपनी बांहों में भर लिया. मैंने वो पहली बार देखा था तो मैंने मम्मी से पूछने का निर्णय किया और उसे अपनी जेब में रख लिया. थकान की वजह से थोड़ी ही देर में सास ससुर और चाची दोनों के कमरों की लाइट्स बंद हो गईं, शायद वो सो गए थे.

इसके बाद वो साबुन लगा कर अपने शरीर को रगड़ने लगीं और अपने पैर फ़ैला कर पेटीकोट को जाँघों से ऊपर उठा कर साबुन मलने लगीं. लंड तो खड़ा हुआ है फिर क्या अपनी माँ चुदाने के लिए रुका है?मेरी रंडी के लिए आज का आखिरी तोहफा मेरी तरफ से. तुम अपनी मर्जी से कभी भी हमारे साथ शामिल हो सकती हो बशर्ते किसी को भनक तक नहीं लगे.

दोस्तो, ये मेरी रियल सेक्स स्टोरी थी, आपको कैसी लगी, मुझे कमेंट्स करके जरूर बताएं!अभि.

मैंने उसको बोला कि अगर ऐसा है तो प्रूव कर!उसने बस अपने लिप्स आगे कर दिए और फिर शुरुआत हुई हमारी सेक्स लाइफ की. जहां मेरा घर है, उसी के पड़ोस में एक घर है, जो कि किराये के लिए ही बनाया हुआ है.

बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी मगर टीना ने कुछ अलग किया, वो अजय और विक्की दोनों का लंड बारी-बारी चूस रही थी, शायद उसको चुत नहीं चटवानी थी या फिर वो जल्दी इनको तैयार करके चुदना चाहती थी. लड़के ने धीरे से अपने दूसरे हाथ से लौंडिया की पैंटी को नीचे कर दिया.

बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी साहिल ने अपना मोटा लंड उसके मुँह में भर दिया और बाकी तीनों भी उसकी चुत और जाँघ को चूसने लगे. जब हम दोनों के लंड, चुत की गरमी शांत हुई तो मैं उठकर सीधे अपने रूम में चला गया.

ये सुन कर मैंने भाभी कस के पकड़ लिया और पीछे से उसके चूतड़ों को कस के जकड़ लिया.

चूत की चुदाई सेक्स

वो भी तो तेरी ही बेटी थी?गुलशन- अनिता की बात अलग है, वो मेरी सग़ी बेटी नहीं है. मैं उठी और भाग कर जीजू के पास पहुंची और गुस्से में पूछने लगी- ये क्या है जीजू… कौन है ये आदमी और ये यहाँ क्या कर रहा है?जीजू मुस्कुराते हुए बोले- यही तो है सरप्राइज!तभी वो आदमी उठ कर मेरी तरफ आया. आंटी ने जल्दी से पेटीकोट उठा के पहना, ऊपर से सामने से पूरा खुलने वाला गाउन डाला और लाइट बंद करके सोने के लिए बिस्तर पे आ गईं.

अब मैंने आंटी से कहा कि मैं आपकी गांड भी मारना चाहता हूँ, मुझे ट्रेन में आपकी गांड मस्त लगी थी. पप्पू की बांहों से छूटने का नाटक करती हुई वो बोली- आप मुझे छूएं मत ऐसे अंकल. मैं कपड़ों के ऊपर से ही उसके चूचे दबाने लगा, वो मजे लेने लगी… मादक सिसकारियां लेने लगी, बोली- मुझे कुछ हो रहा है… प्लीज़ कुछ करो.

मोना- अच्छा ये बात है चल ये बता तुझे अपने जीजू का लंड पकड़ने में मज़ा आया कि नहीं?नीतू- दीदी सही कहूँ.

वो कुछ देर और मुकाबला कर लेती तो जंग जीत जाती पर वो थक गई और कुछ धीरे हो गयी. उसने एकदम से पीछे हटना चाहा, तो रीतिका ने उसे आगे को धक्का दे दिया. फ़िर मैंने कहा- आपको आज मैं ऐसे तरीके से चोदूँगा, जिससे आपको भी बहुत मजा आएगा.

इसी तरह शमशेर ने दो तीन बार प्रयास किया, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली. वो बोला- यो ए लेना था नै तन्नै… ले इब साले… पूरा चूस!(यही लेना था ना तुझे. हताशा में उन्होंने एक झटके में अर्चना को खींच कर बेड पर पटक दिया और मुझे उसकी जींस उतारने का इशारा किया.

मैंने कहा- मेरे पास इसका कोई तरीका नहीं है कि मैं आपको ये सिद्ध करके बता सकूँ. तो जितना कम लंबा लंड वो मुझे गांड में, जिसका लंड बड़ा है उसको बोलती हूँ तुम आगे से चोदो, मुझे स्वर्ग सा आनन्द मिलता है.

हमेशा की तरह पांच बजे मेरी नींद खुल गयी, बहूरानी का एक हाथ अभी भी मेरी गर्दन में लिपटा था और वो नींद में किसी अबोध शिशु की तरह गहरी गहरी सांसें लेती हुई निद्रामग्न थी. तभी शमशेर ने जोर जोर से ठाप लगाई और 25-30 कस के ठापें मारीं और शांत हो गया. देखते ही देखते दीदी की चुचियाँ ब्रा से भी आज़ाद होकर बाहर उछल पड़ी.

जब ट्रेन चल दी तो उसने डोर लॉक कर दिया और अपनी बर्थ पर जाकर लेट गया.

कुछ ही देर में जिसको मैं चोदने के ख्वाब सोचता था, वो मेरे सामने नंगी खड़ी थी. थोड़ी देर तक ऐसे ही हाथ रखे रहा और कुछ देर बाद जब बहन की तरफ से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई. इतना मोटा दीदी की छोटी सी बुर में जाएगा कैसे?आख़िरकार जीजाजी ने अंदर पेल ही दिया… दीदी की सिसकी कमरे में गूँजी इसस्स्स्स सस्स…”अब जीजाजी ने दीदी को धकाधक पेलना शुरू किया, भीगा लंड बाहर आता और खच… की आवाज़ के साथ अंदर घुस जाता.

चाचाजी ने अपनी पेन्ट की जिप खोलकर अपने तने हुए लंड को बाहर निकाल कर मेरे हाथ में थमा दिया. पापा- अच्छा अगर ये बात है तो फिर मैं आज तुम्हारी माँग भर कर अपनी जीवनसंगिनी बनाऊंगा, उसके बाद लंड के पानी से तेरी चुत भरूंगा, कहो मंजूर है तुम्हें?सुमन- मतलब आप मुझसे शादी करोगे और बेटी से बीवी बनाओगे मुझे?पापा- अब प्लीज़ तुम मत कहना कि मैं अपनी माँ की सौतन नहीं बनूंगी.

गांव में हम लोगों के छोटे छोटे तीन मकान जो इकट्ठे बने हैं, वहां पर मेरी बुआ का परिवार रहता है. अब मुझ पर भी भी सेक्स का भूत सवार हो गया, वासना के जोर में मैं कंडोम लगाना भी भूल गया और सीधा लंड उसकी चूत पर टिका दिया. गुलशन जी सीधे दुकान गए, वहां अपना काम निपटा कर वो अनिता के पास चले गए.

મારવાડી સેક્સ

मैं उठ कर बैठ गया तो मेरी नजर चादर पर पड़ी, जिसमें मेरे वीर्य के धब्बे थे.

दीदी ने बोला- सागर एक तो तेरा लंड ही इतना बड़ा है कि मेरी चुत में अभी दर्द हो रहा है और तू मेरी गांड में भी घुसाना चाहता है. मैंने कहा- इसमें तेरी शक्ल, तेरा रूम सब झूठ है? इसमें सब दिख रहा है. मुझे लगा काम में बिजी होगी और सबके सामने डर रही होगी, सो मैंने भी जाने दिया और अपने काम में लग गया.

मेरा पानी छूट भी नहीं सकता था क्योंकि मुठ जो मारी हुई थी और वाइन का भी असर था. इसे आप यहाँ से download करें!बठिंडा पंजाब की सेक्सी लड़की नीलम से हिंदी और पंजाबी में सेक्स चैट करने के लियेदिल्ली सेक्स चैट गर्ल नीलमपर आयें और सेक्स की मजेदार बातें करके मजा लें!. एक्स एक्स सेक्सी हिंदी बीएफयह सुन कर सुमन भाभी ने कहा- कोई लड़की देख रखी है क्या?मैंने कहा- लड़की नहीं, एक भाभी देख रखी है.

मेरा इतना कहते ही उसने मेरे बियर के मग को उठा कर उसमें से एक सिप ले लिया और बोली- अब ठीक है. हमने फिर हिंदी में बात शुरू की, मैंने कहा- रिया क्या करें?तो उसने कहा- यार, मेरी भी समझ नहीं आ रहा है.

बाज़ार जाकर उन्होंने कुछ सामान खरीदा और इसके बाद मामी एक लेडीज गारमेंट्स की दुकान में घुस गईं. पप्पू की गोटियाँ मसलते हुए वो बोली- आहहहह… और चाट मेरी चूत और ऐसे ही मसल डाल मेरे मम्मे पप्पू. इस हिंदी सेक्स की कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि विक्रांत के बेटे को उसकी भाभी एडल्ट मूवी दिखाने ले गई है.

फिर सागर ने जैसे ही मेरी चुत में लंड डाला और मैं बिना दर्द के भी जोर से चिल्ला उठी- ओह राजा. अब मोहन का नम्बर आया तो उसने मम्मी को बोला- रानी, अब तू घोड़ी बन जा. कमर भी यही कोई 30 की रही होगी और जब वो आदमी की गोद में बैठ रही थी, तब मुझे उसके उठे हुए चूतड़ों का आकार भी लगभग 38 इंच का लगा था.

फिर मैं बैंगन को गांड के छेद पे रख कर अंदर की ओर ठेलने लगी लेकिन बैंगन में वेसलिन लगी होने के कारण बार बार फिसल जाती थी बहुत कोशिश करने के बावजूद बैंगन थोड़ी से भी अंदर ना घुस पाई और आख़िरकार बैंगन टूट गयी.

कॉलेज में संजय अपने दोस्तो के साथ बैठ बातें कर रहा था, तभी टीना पीछे से वहां पहुँच गई और उनमें से किसी ने उसको नहीं देखा वो बस अपनी बातों में लगे हुए थे. मेरे पास यही मौका था चाची को किसी तरह पटाने का और मैंने ये मौका जाने नहीं दिया.

बाबा तो वासना के भंवर में फंसे हुए थे वो कहाँ नीतू की सुनने वाले थे. घर पर आया तो मम्मी खाना बना कर फ्री हो गई थीं और वो बोलीं- बेटा आज स्कूल नहीं जाना क्या?मैंने उनकी बात को अनसुनी करते हुए कहा कि मम्मी मुझे एक चीज मिली है. बस सबके मेल इसी तरह से आते रहे थे कि मुठ मार लो … कोई चुत मिलने वाली नहीं है और अगर ज्यादा चुदास चढ़ी हो, तो तो किसी रंडी के साथ चुदाई कर लो.

इतना कह कर उसने अपनी लुंगी उठानी चाही तो मैंने तुरंत ही उसकी लुंगी उठा ली और कहा- तुम ऐसे ही बहुत अच्छे लग रहे हो. हमेशा की तरह फिर से बेबी ने रोना शुरू किया और मैंने आंटी के चूचे निकाल के बेबी को दूध पिलाना शुरू कर दिया. मामा जी अर्चना पर चिल्ला रहे थे क्योंकि उनके ड्यूटी के कपड़े गीले रह गए थे और उनको नाईट ड्यूटी पर जाने के लिए कुछ घंटे रह गए थे.

बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी अब से पहले उसकी चूत के होंठ चिपके हुए थे, ऐसे बैठने से उसकी चूत के होंठ खुल गए और अंदर के छोटे होंठ बाहर दिखने लगे. अमित ने आगे बढ़ के माया के एक बोबे को मुँह में भर लिया और माया की चुत की गर्मी के आगे टिक ना सका.

देसी पुसी

टी वी देखते देखते मेरी आँख लग गयी, नींद खुली तो दिन के दस बज चुके थे. जल्दी कर या और मारूं?मैंने तुरंत अपने सारे कपड़े उतार दिए और एकदम नंगा हो गया. क्या होगा… ये सोच कर सारी रात जाग जाग कर गुजारी, नींद आने का नाम ही नहीं ले रही थी.

उन्होंने चूत से रस छोड़ने के बाद एक पल की देर नहीं की और तुरंत अगले पल मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया. तो उस का वेट कर सकती हो। वैसे मैं भी अकेले बोर हो रहा हो।वो बोली- ओके. सेक्स वीडियो बीएफ हिंदी देहातीउसका पति मुंबई में जॉब करता था और महीने में मुश्किल से एक बार ही उससे मिलने आ पाता था.

भाभी तो कामुकता से जैसे पागल सी होने लगीं, उनके मुख से बस ये आवाज़ें निकलने लगीं ‘आमम्म.

मोना- आज मैं बहुत खुश हूँ गोपाल, जैसी लड़की मुझे चाहिए थी, वैसी मिल गई. लेकिन अंकल यह दाग धब्बे कैसे हैं इस शॉर्ट्स पर?नीता के पूरे नंगे जिस्म की झलक देख कर पप्पू का लंड और तन गया.

मेरे कजिन ने मुझ से कहा कि भैया आप में कितनी ताकत है, जरा मुझे भी दिखाओ. उन्होंने अपने दोनों पैर फैला दिए थे और मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पे रगड़ना शुरू कर दिया था. नमस्कार अंतर्वासना के प्रिय पाठकगण, मैं भगवान दास अपने जीवन की एक और देसी सेक्स स्टोरी लेकर हाजिर हूँ,आपने मेरी पिछली सेक्स स्टोरीमामी की चुदाई के बाद उनकी बेटी को चोदामें पढ़ा कि किशोरावस्था से ही मामी अपनी वासना पूरी करने हेतु मेरा जमकर इस्तेमाल करती रही थीं, जिसके कारण मैं चुत का आशिक बन गया था.

अब ये आगे क्या गुल खिलाएगी ये तो आपको आगे आने वाले पार्ट में पता लगेगा.

कुछ देर बाद मेरा माल निकलने वाला था तो मैंने अपना माल आइसक्रीम में गिरा दिया और अपनी बेटी को बोला कि वह मेरा पूरा माल आइसक्रीम के साथ चाट जाए. मेरा लंड इतना कड़ा और बड़ा हो चुका था कि उसका सुपाड़ा मेरी जॉकी से बाहर दिख रहा था. धीरे धीरे जैसे जैसे उसकी शादी की डेट नजदीक आती गई, मेरा दिल कमजोर हो गया.

सेक्सी फिल्में बीएफ वीडियोमैं जुबान की नोक से उस के दाने को सहलाता रहा, फिर जुबान उसकी चूत में घुसेड़ने लगा. तो मम्मी थोड़ा साहस करके बोलीं कि हम कहीं भी जाएं, आपको क्या मतलब है.

सेक्सी पिक्चर देसी

‘बुद्धू काहे की…?’‘उस लड़की को बहुत मजा आ रहा है… वो चिल्ला थोड़ी रही है, चुदाई के मजे ले रही है… वो भी तीन तीन जगह से… तू नहीं समझेगी… मैं शुरू से प्ले करती हूँ. खंडहर स्कूल वाली घटना हुई, तब से पापा ने मुझ से कभी बात तक नहीं की. उसकी आँखों से आँसू बहने लगे, सर चकराने लगा मगर उसने हिम्मत नहीं हारी.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पर मेरी सेक्सी कहानी पढ़ कर मुझे एक मेल आई जिसमें मुझे उनकी सेक्सी स्टोरी अन्तर्वासना पर प्रकाशित करवाने का आग्रह किया. अब मामी ने मुझे सीधा बैठाया और आकर मेरे लंड पे अपनी चूत को सैट करने लगीं. मैं थक गया था तो बेड पर लेट गया, पर कुछ मिनट के बाद मैं फिर से तैयार हो गया.

रीतिका हंसने लगी, कहती- मेरी भोली ननद रानी जी, जब कल तुम फोन पर आज का प्रोग्राम बना रही थी तो मैंने सब सुन लिया था. उसके बाद मैंने उनकी टांगें थोड़ी फैला दीं और अपना लंड दीदी की चुत की फांकों के बीच रख दिया. दोपहर को दीदी और उनकी सास को कहीं बाहर जाना था, जाने से पहले दीदी मेरे पास आईं और बोलीं- संचू डार्लिंग, मैं अपनी सास के साथ कहीं जा रही हूँ, रात तक वापिस आएंगे, कुछ चाहिए हो तो अंजलि से ले लेना.

अपनी पैन्ट की पॉकेट से कंडोम निकाला तो अर्पिता बोली- प्लीज कंडोम से नहीं. मैं ढूँढने लगा तो मुझे वहां एक सफेद रंग का गुब्बारा मिला, जिसमें ऊपर से गांठ लगा कर बांधा गया था, उसमें कुछ सफेद रंग का गाढ़ा सा पदार्थ भरा था.

मन ही मन कह रहा था ‘सारी रोटियां तो खुद ही खा गया और मुझसे कह रहा है कि तू खा ही नहीं रहा.

चल खोल दे अपनी चुत!मामी ने लंड पकड़ कर मसल दिया और कहा- तू ही नंगी कर दे ना. चूत चुदाई बीएफ फिल्मदीदी मादक सिस्कारियां लेते हुए चिल्ला रही थीं- आह उम्म्ह… अहह… हय… याह… मोनू और जोर से और जोर से. हिजड़ा का बीएफ वीडियोभीड़ में छेड़छाड़ करने का उसका कोई इरादा ना था, पर बार-बार पीछे के धक्कों से वो आगे वाली औरत यानि रूपा से टकरा जाता था. मेरा मन तो जय से चुदवाने को कर रहा था लेकिन ये बात मैंने जाहिर नहीं होने दी.

सुमन के मुँह से दर्द भरी चीख निकली मगर जल्दी से गुलशन जी ने उसके होंठों पर अपने होंठ रख दिए और कमर को फिर पीछे किया और एक और जोरदार झटका मार दिया.

पूछो बेटा?”अभी आप मुझसे दूर ड्राइंग रूम में क्यों सोये थे?”अदिति बेटा, मैं सुबह से ही देख रहा था कि तुम मेरी नज़रों से बच रही थी, आंख झुका के बात कर रहीं थीं तो मुझे लगा कि हमारे बीच बन गए सेक्स के रिश्ते का तुम्हें पछतावा है और तुम अब वो सम्बन्ध फिर से नहीं बनाना चाहतीं, इसीलिए मैं अलग सो गया था. पर मैं उनका हाथ पकड़ कर बाथरूम में खींच ले गया और शावर खोल दिया मौसी ने अपनी ब्रा उतार दी. उसने अपने मोटे लंड को मेरे मुँह में धांस दिया और राजीव और रवि मेरे एक एक चूचे पे कब्जा जमा कर लेट गए और मेरे निपल्स को चूसने लगे.

मेरे घर के जीने बाहर से हैं, तो कोई भी आये जाए किसी को पता नहीं चलता. भाभी की तड़फ देख कर मैं अपने मोटे लंड को भाभी की चुत पर रगड़ने लगा भाभी गांड उठा उठा कर पूरा एंजाय करने लगी. उसकी कुंवारी रोयेंदार बुर की महक से अब मेरा भय जाता रहा और मैं पूरी तन्मयता से उसकी छोटी सी बुर चाटने लगा.

कामवाली के साथ सेक्स

उन्होंने एक साथ दोहरे हमले से एवं बेड पर झुक कर हाथों का सहारा ले लिया. उस दिन पापा घर पर ही थे, वे काम पर नहीं गए थे क्योंकि चाचा 15-20 दिनों के लिए बाहर गए थे. इस बीच वो 2 बार झड़ी, मैंने भी उसकी चूत में अपना वीर्य उगला और उसके ऊपर ही लेट गया.

लगभग 10 मिनट तक एक दूसरे के होंठ चूसते रहे, उसके बाद मैं सूट के ऊपर से ही उसके मम्मे दबाने लगा.

ये तो बाद में पता चलेगा कि ममता ने वो पायजामा क्यों पहना, पर पहना तो था ही.

पर अब चाचा कहां मानने वाले थे, उन्होंने नाड़ा खोल दिया और अपना हाथ मेरी पैंटी के ऊपर ले जाकर बिल्कुल चूत में रख दिया और जोर से दबाने लगे मुंह से मेरे सिसकी निकल गई. फिर जीजू ने कहा- देखो न रोमा, मौसम कितना सुहाना हो रहा है, बारिश के भी हल्के हल्के छींटे आ रहे हैं क्या इस मौसम में तुम्हारा चुदाई करने का मन नहीं कर रहा?मैंने कहा- जीजू, कर तो बहुत रहा है पर करेंगे कहाँ?तो जीजू ने कहा- यहीं छत पर मैं तेरी चूत चोदूंगा… रोमा आ जाओ न मेरी बाँहों में!कह कर जीजू ने मुझे अपनी बाँहों में ले लिया और मुझे चूमने लगे. बीएफ एचडी भोजपुरी मेंहिंदी पोर्न स्टोरी पहला भाग :सेक्सी माया की अन्तर्वासना-1कहानी का दूसरा भाग :सेक्सी माया की अन्तर्वासना-2अब तक आपने पढ़ा था कि अमित ने कहा था कि माया तू कल से बिना ब्रा पेंटी के ऑफिस आएगी.

एक तरफ मेरा दिल करता है कि हमारी बात न हो क्योंकि हमारा बात करने का कोई मतलब ही नहीं है तो दूसरी तरफ दिल करता है सब भाड़ में जाओ बस मुझे तो मोनिका ही चाहिए. रूपा की ब्रा में भरे मम्मों को देख के पप्पू चकाचौंध हो गया क्योंकि वो बड़े और कसे हुए मम्मे रूपा कि ब्रा में भी नहीं समा रहे थे. वो तड़फ कर कह रही थी- जान करो न, प्लीज, चाहे आप मेरी जान ले लो पर मेरी इसमें.

मेरे सामने अखाड़े में मिट्टी और रेत में लथपथ शरीर के साथ संदीप वहाँ पर खड़ा हुआ था… वही संदीप जिसकी बाइक पर मैंने लिफ्ट ली थी रवि के घर तक आने के लिए और वो मुझे किसी दूसरे गांड नेवली खुर्द में ले गया था और वहां उसने एक कोठरी में शराब पीकर अपने दो दोस्तों के साथ मेरी गांड मारी थी और मुझे वहीं पर कोठरी में घायल अवस्था में सोता हुआ छोड़ कर चले गए थे।आगे की कहानी जल्दी ही लेकर लौटूंगा. ये वाकिया करीब दस दिन पहले का है, मैं रोज की तरह अपने ऑफिस नॉएडा सेक्टर 16 से मेट्रो से अपने घर लौट रहा था.

मेरी गांड से लंड निकालकर वो खड़ा हो जाता है और माथे का पसीना पोंछते हुए बगल में झटक देता है.

मैं और मेरे चाचा का छोटा पांच साल का बेटा रोहित रह गया था, वो मेरे साथ ही रहता था, मम्मी ने मुझे बोला- तुम उस गाड़ी में जाकर बैठ जाओ, तुम्हारे चाचा उस गाड़ी से आयेंगे. अगर आपको बाहर आना है तो आप मुझे सिर्फ इशारा करेंगी। मैं 13 नंबर की केबिन में रहूंगी जिसका नंबर आपको अंदर से आसानी से दिख जायेगा। मगर जब तक आप अंदर हैं, तब तक आप किसी को सेक्स के लिए मना नहीं कर सकती। अगर आपको उसके साथ सेक्स नहीं करना तो आप सिर्फ मुझे इशारा करना तो बाकी मैं देख लूंगी। किसी भी तरह की चिकित्सा सुविधा यहाँ मौजूद है. मुझे देखते ही चाचाजी के चेहरे की रौनक बढ़ गईचाचाजी- जान, सानिया को क्यों साथ लाईं??मैं- अगर वो उठ जाती तो मेरे वहाँ न होने पर सब को जगा देती.

सेक्सी बीएफ हिंदी दिखाइए वो बोला- यो ए लेना था नै तन्नै… ले इब साले… पूरा चूस!(यही लेना था ना तुझे. ” इससे पहले माया अपनी बात पूरी बोल पाती, अमित ने अपना पूरा लंड माया की गांड में ठूंस दिया था.

हालांकि वो थोड़ी सी मोटी हो गई थीं, उनकी चूचियां भी बहुत बड़ी बड़ी थीं, तब भी मेरी मौसी एक काँटा माल थीं. दोस्तो, मैं माया फिर से एक नई और रियल सेक्स कहानी लेकर आपकी समक्ष हाजिर हूं. सुबह भाभी ने मुझसे गले लगकर मुझे एक अंगूठी दी और कहा- ये तुम्हारे लंड की दिखाई है … इसे पहली चुदाई का प्यार समझ कर लो.

ओपन वीडियो एक्स एक्स एक्स

उसने भी फ्लॉरा की चुत में पूरा लौड़ा घुसा दिया और अब तीनों लौंडियां एक साथ छह लंडों से चुद रही थीं. अब मैं लंड को पूरा अन्दर ले गया और फिर लंड को अन्दर बाहर करता रहा, जिससे समीर को बहुत मजा आ रहा था. ”अन्दर पांच हज़ार गिनकर रखे हैं हज़ार से एक पैसा ज्यादा लिया तो टांगें तोड़ दूंगी.

उस ख़ुशी में मैंने खड़े हो कर उसकी गांड को अपने दोनों हाथों के पकड़ कर उसे ऊपर उठा दिया. अब संजय का खुद पे काबू नहीं था उसकी नसें फूलने लगी थीं और एक के बाद एक पिचकारी उसके लंड से छूटने लगीं, जो पूजा की गांड में मलहम का काम कर रही थीं.

मेरा हाथ में उसकी मांसल शरीर और उसकी मस्त चूचियों को सहलाए जा रहा था.

एक दिन उसने चुदते हुए मुझसे एक बात पूछी- क्या तुम मुझे चोदकर बोर नहीं हुए?यानि?” मैंने पूछा. आंटी का बदना गोरा था, गदराया हुआ था, उनकी जांघें मोटी मोटी थी, चूचियां बड़ी बड़ी थी, पेट थोड़ा सा निकला हुआ था, चूतड़ भी पीछे की ओर उठे हुए थे. इधर मामी भी अपनी सांसों को नियंत्रित कर के अपनी बेटी की चुत चाटने लगी थीं.

मैंने उन्हें देख कर कहा- जीजू, आप यहाँ मेरे घर की छत पर कैसे आये?तो उन्होंने बताया कि उन्होंने मेरे घर की बिल्डिंग ओर उनके घर की बिल्डिंग के बीच में लकड़ी के दो फट्टों को लगा दिया है जिससे एक ब्रिज बन गया. मेरा कद 5’5″ है, मेरी चूचियाँ मोटी मोटी हैं, मेरा रंग गोरा, मेरी गांड एक दम भरी हुई है. मैंने उसे माफी मांगी, लेकिन उसने कातिलाना नजरों से मुस्कराकर कहा- यह मेरी गलती है.

ऑपरेट होने के बाद सभी जानते हैं कि कम से कम एक सप्ताह रूकना पड़ता है और इसी बीच मेरा और रागिनी का यौन सम्बंध बन गया.

बीएफ सेक्सी वीडियो ब्लू पिक्चर हिंदी: अब वो कहने लगीं- इतने बड़े लंड से मैं पहली बार चुदाई करवाने जा रही हूँ. सुमन- ठीक है पापा जैसा आप कहो, तो पहले मैं आपका लंड चूसूं या आप मेरी चुत चाटने वाले हो.

एक दिन मेरी छोटी बहन वर्षा मुझ से बोली- दीदी, तुम्हारी ये हरकतें अच्छी नहीं हैं. अपना इंट्रो तो दे दो, पता तो चले कि हमारे मेहमान कौन हैं?सबने एक-दूसरे को अपना नाम बताया और थोड़ी हल्की हँसी-मजाक भी की. हम दोनों भी काफी गर्म हो चुके थे और मेरा लंड एकदम से टाइट हो रहा था.

पहले तो मैं हैरान रह गया उसकी बातें सुन कर कि वो शादीशुदा है और उसका बच्चा भी है.

उनका लंड एकदम टाइट हो गया था और वो भी बहुत ज़्यादा उत्तेजित हो गए थे. मैंने कहा- तुम ऐसे ही सोते हो क्या? तुम्हें शर्म नहीं आती?वो बोला- सॉरी भाभी गहरी नींद में सोने की वजह से अकसर मेरी लुंगी खुल कर इधर उधर हो जाती है. तुम्हारा लम्बा लंड जब भी मेरी चुत में घुसता है तो बस मेरी तो चुत फटने लगती है.