बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी

छवि स्रोत,देसी गांव की सेक्सी फिल्में

तस्वीर का शीर्षक ,

जीतो मटका जीतो मटका: बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी, भले ही मोनी के साथ धोखा हुआ था लेकिन मैं अब भी उससे बदला लेना चाहता था.

इंडियन सेक्सी ब्लू फिल्म इंडियन

किसी तरह मुझे उसकी चूत मारनी थी इसलिए मैंने कुछ प्रतिक्रिया नहीं दी और चुपचाप हाथ हटा लिया. देहाती सेक्सी पिक्चर सेक्सीकुछ देर उसी स्थिति में रहने के बाद जब अलीमा अपनी कमर को हिलाने लगी.

मैंने अपने लंड पर थूक लगाकर उसकी चूत पर सैट किया और हल्के से उसकी चुत में लंड ठेल दिया. प्रियंका का सेक्सी पिक्चरमगर जब उसको उठाने लगा तो उसके बदन से गिरे पानी पर मेरा पैर भी फिसल गया और हम दोनों ही वहीं गिर पड़े.

वो मजे से लंड चुसवाने लगा और फिर मेरे बालों को पकड़ कर मेरे मुंह में धक्के देने लगा.बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी: इस दौरान मुझे अन्तर्वासना से जुड़ने के लिए कुछ ज्यादा ही समय मिल गया था.

उस समय मेरी कॉलेज की पढ़ाई चल रही थी, नया नया खून था और जवानी चरम पर थी.एक बार लंड दिख जाए, तो मेरी कोशिश रहती है कि उस लंड को पकड़ का चूस लूं या सहला कर उसकी गांड मार लूं.

तेरी भाभी सेक्सी - बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी

वो मुस्करा दी और बोली- क्यों पहले नहीं लगती थी क्या?मैंने कहा- नहीं, ऐसी बात नहीं है, आज तो ऐसा लग रहा है कि तुम मेरी जान निकाल ही लोगी.अब नहीं मिलने वाला!उसने बताया कि वो मुझसे बात करना चाहती थी पर भाई के साथ होने के कारण नहीं बोल पायी।तब उसने बताया- मैं लखनऊ में अपने भाई के साथ रहती हूँ.

अगले ही पल उसने एक ज़ोर का झटका माराऔर उसका टोपे से कुछ ज़्यादा हिस्सा मेरे चूत को चीरते हुआ घुस गया. बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी मैंने पंखा चला कर चैक किया और भाभी से कहा- लो जी भाभी जी, आपकी हवा चालू हो गई.

मैंने उसको उठने को कहा और बाहर चलने को कहा तो हम लोग घर के बाहर आ गए.

बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी?

मैं भी खुद को सयंत कर चुका था और मुझे अपराधभाव सा महसूस होने लगा था. मैंने अपना पूरा लंड धीरे धीरे अंदर डाला और फिर पूरा बाहर निकल लिया. इसके बाद जब उनके होंठ मेरे होंठों से लगे तो मैं तो मानो बिखर ही गई.

मेरी एक बार उनके हिलते हुए मम्मों पर नज़र गई तो मैंने नजरें हटाने का प्रयास ही नहीं किया. करीब आधे घंटे में अलीमा दो बार झड़ी फिर बलविंदर ने भी अपने लंड का रस अलीमा की चुत में ही निकाल दिया. मैं अपने घर गया और दरवाज़ा खुला छोड़ कर वहीं पास में खड़ा हो गया उसके इंतज़ार में.

आज इस दूधिया आइसक्रीम के कटोरे को चूसते हुए मुझे ऐसा लग रहा था कि ये मलाई कभी खत्म ही नहीं हो सकेगी. इस समय मेरा लंड इतना सख्त हो गया था कि उसको अपनी आग शांत करने के लिए सिर्फ हेमा चाची की चूत में समा जाने का इंतजार था. मैं भाभी के दूध मसलते हुए उनकी चुम्मी लेकर उनसे सेक्सी बातें करने लगा.

उसका 7 इंच का लंड आंटी की गांड में फंस गया और वो जोर जोर से चिल्लाने लगी- आह्ह … ऊह्ह … मर गयी … ईईई … आआआ …. क्लासरूम सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी क्लास के एक हैंडसम लड़के को मैं पसंद करती थी.

फिर पूनम के पैरों को अपने कंधे पर रख कर मक्खन में गर्म चाकू की तरह उनकी चूत में लंड घुसा दिया.

बस में चढ़ते ही मैं बाजू वाली सीट पर बैग रख देता था ताकि कोई लड़का उस पर न बैठ जाये.

साहिल अपनी कुर्सी पर बैठा था और रानी एक स्टूल पर उसी के बिल्कुल आगे थी।कुछ देर बाद जब रानी ने कुछ गलती की तो साहिल अपनी कुर्सी एकदम रानी के स्टूल से सटा कर बैठ गया और खुद माउस पकड़ कर बताने लगा. आप मेरे साथ अन्तर्वासना की प्यासी भाभी सेक्सी कहानी से जुड़े रहिये और अपने मेल करते रहिये. मुझसे रुका ही न गया और मैंने उसकी पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत पर जीभ फेर दी.

ठाकुर- सब?ये कह कर ठाकुर ने चंपा के स्तनों पर उंगली रखते हुए कहा- ये भी?चंपा ने शर्माते हुए नीचे गर्दन करते हुए हां में सर हिला दिया. दूसरी बात ये कि केवल यही एक पेशा है जिसमें लड़कियों को लड़कों से ज्यादा पैसे मिलते हैं. एक हाथ उसके सिर के पीछे लगाकर मैं उसके होंठों को चूसे जा रहा था और दूसरे हाथ से उसके चूचे दबा रहा था.

मैं ऊपर साहिल के लन्ड पर बैठ कर उड़ने को तैयार थी।अब मैं अपनी गांड उठा उठा कर उसके लन्ड में अपने दोनों चूतड़ पटकने लगी.

इससे मेरा काम हो गया वरना मैं उन दोनों की लाइव चुदाई मिस कर देती।राजसी साहिल को होंठों को फिर से चूसने लगी और साहिल के दोनों हाथों को लेकर अपने दोनों 32″ की चूचियों पर रख कर मसलने लगी. बस मेरा जिम इन्स्ट्रक्टर एक ऐसा ही सेक्सी लौंडा था, जो मेरे दिलो दिमाग में रच बस गया था. फिर मैंने हेमा चाची से कहा- चलो न चाची, पहले मैं आपके टीवी की सैटिंग ठीक कर देता हूँ.

प्रिया ने उन्हें पूरी चुदाई के बारे में बताया था।तो दोस्तो, इस तरह से मैंने अपनी भाभी की बहन यानि कि मेरे भाई की साली और मेरी होने वाली बीवी की चुदाई शादी से पहले ही कर दी. वो बिस्तर पर बिंदास फ़ैल कर मेरे हाथों से अपने मम्मों की मालिश का मजा लेने लगी. उसने मुझसे पूछा- सोडा के साथ लेगी या पानी के साथ!मैंने कहा- पानी के साथ.

मैं भाभी के दूध मसलते हुए उनकी चुम्मी लेकर उनसे सेक्सी बातें करने लगा.

धीरे धीरे करके मैं दीदी की चूत और गांड, दोनों छेदों को ही चाट रहा था. करीब दस मिनट बाद उसने चुप्पी तोड़ते हुए कहा- सुशांत मैं जानती हूँ कि तुम आजकल मुझसे बात क्यों नहीं करते हो, पहले मुझे लगता था कि तुम मेरे दोस्त हो.

बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी अगली सेक्स कहानी में मैं आपको अपनी अम्मी को पटा कर अपने लंड से उनकी चुत चुदाई की कहानी लिखूंगा. बीस मिनट के बाद मैं झड़ने वाला हो गया था तो उसने कहा- अन्दर ही निकाल देना.

बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी मेरा शरीर न केवल दिखने में एकदम दुबला पतला है बल्कि ये अन्दर से भी एकदम लड़कियों जैसा ही है. अगर मुझे पता होता कि तुम इतने स्ट्रॉन्ग हो और इतनी मस्त चुदाई करते हो तो मैं तुम्हें पहले ही पटा लेती.

तब तक पूनम बाहर चली गयी एक स्टूल लाने!जब मेम बाहर से स्टूल लेकर आई तो उन्होंने दरवाज़ा अंदर से बंद कर दिया.

লেডিস সেক্স ভিডিও

यह भाभी हॉट सेक्स कहानी एक सेक्सी लेडी की चूत चुदाई की है जिसके घर मैं बिजली की रिपेयर का काम करने गया था. नूपुर- नहीं मैं नहीं लूंगी … ये इतना बड़ा है … मेरे मुँह में भी नहीं आएगा. उसने थोड़ी देर के बाद फिर से मेरा लंड पकड़ लिया और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी.

अब बताने के बाद साहिल ने अपना हाथ पीछे किया और रानी से फिर से लिखने को बोला।अबकी गलती करने पर साहिल अपने दोनों हाथों को उसके हाथों के नीचे से ले जाकर कीबोर्ड पर टाइप करने लगा जिसकी वजह से साहिल का हाथ रानी के चुचों को मसल रहा था।अगले पल साहिल ने फिर से रानी से लिखने को बोला. आज इस दूधिया आइसक्रीम के कटोरे को चूसते हुए मुझे ऐसा लग रहा था कि ये मलाई कभी खत्म ही नहीं हो सकेगी. कुछ दूर जाकर एक गार्डन में मैंने उसे बिठाया और उसे चूम कर कहा- यार क्यों तड़पा रही हो? बताओ तो तुम क्या चाहती हो?वो छूटते ही बोली- चुदना.

मैंने फोन करके अपने घर पर बोल दिया कि आज मैं बाहर बारिश में फंस गया हूँ इसलिए अपने एक दोस्त के घर ही रुक गया हूँ.

मैंने पूछा- क्या हुआ है? चुदवाकर ही तो आई है न अपने यार से?वो बोली- हां, मयंक ने पहले खुद चोदा और फिर अपने दो दोस्तों को भी बुला लिया था. मैंने भी झट से अपनी पैंट की जिप खोल दी और अपना लंड बाहर निकाल लिया. इससे पहले मेरे टट्टे किसी लड़की या भाभी ने अपने मुँह में नहीं लिए थे.

वो लड़का मेरी बहन को एक क्वार्टर में ले गया और अंदर आते ही उसने रानी को किस करना शुरू कर दिया और शर्ट के ऊपर से ही बूब्स दबाने लगा. आंटी मेरे गाल से गाल लगा कर कहने लगी थीं- राजा मैं क्या करूं, मेरे पास अपनी गर्मी शांत करने के लिए इन्हीं फिल्मों का सहारा रहता है. जिसके बाद उनकी नाभि को चूमते हुए साहिल ने उनकी साड़ी उठा कर उनके पैंटी उतार कर पहले तो सूंघा फिर उसको अपने कपड़ों के पास फेंक दिया.

एक दूसरे की बांहों में बांहें डाले हुए हम पड़े रहे और फिर ऐसे ही नींद आ गयी. मेरी बीवी ने अपने चूत का पूरा माल मेरे मुँह में निकाल दिया, जिसे मैंने जीभ डाल कर चाट लिया.

उसने मुझसे एक बाल्टी मांगी, तो मैंने उसे बाल्टी दे दी और वो नल के पास खड़ा होकर बाल्टी भरने लगा. आदित्य ने बहन को अपने कंधों पर बैठा रखा था और अपना मुँह उसकी चूत में घुसा रखा था. वो वहीं मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी।फिर हम दोनों बिस्तर पर आ गए और नंगे ही चिपक के सो गए।सुबह जब मैं उठा तो 9 बज चुके थे।मैंने मामी को जगाया और मैं स्कूल के लिए तैयार होने लगा.

लेकिन बलविंदर को अलीमा के चेहरे को देखकर लग रहा था कि वो उसे खुश करने के लिए फिर से मुँह में लेना चाहती थी.

फिर बस में भीड़ ज्यादा होने के कारण में लड़कों के बीच में आ गया था और मन ही मन में सोच रहा था कि आज कोई तगड़ा लंड मिल जाए, तो मजा आ जाए. तभी मैंने उसे पूछा- रिया कैसा लग रहा है मेरे लंड का स्वाद?रिया- मस्त है यार … नमकीन काला लंड तेरा, बहुत रसीला है।मैं- तेरे यार का चूसती है क्या तू साली?रिया- हां, पर तेरा चूसने में ज्यादा मजा आया है मेरे चोदू राजा. मैंने किचिन में जा के देखा तो मंजुला जरूरत के बर्तन इत्यादि, और खाने का जरूरी सामान ला के रख चुकी थी.

मेरा मन कर रहा था कि और सब बाद में सोचूंगा, पहले इसको अपने नीचे ले कर एक बार चोद दूं. लम्बा मोटा और मजबूत टिकाऊ टाइप का लंड है, जिसकी चुत में घुस गया, तो समझो एक ही चुदाई में उसका दो-तीन बार पानी निकाले बिना बाहर नहीं निकलता है.

तब टीचर ने कहा- ऐसे ही क्लास में बैठे रहोगे … या स्कूल को देखोगे भी!तो सब स्कूल में घूमने के लिए जाने लगे. यह तो इशारा करता ही था, मैं ही इसे आगे बढ़ने के लिए इजाजत नहीं देती थी. मेरे कमरे की टीवी में एक हॉलीवुड की फिल्म चल रही थी, जिसमें उसी समय हीरो और हीरोईन के बीच कुछ अतरंग सीन चलने लगे.

செக்ஸி ஏ படம்

भाभी ने लंड सहलाकर खड़ा कर दिया।फिर भाभी ने साड़ी के नीचे से अपनी पैंटी उतार दी और मुझे बैग को बगल में रखने को बोला.

अब पढ़ें कि कैसे मैंने सेक्सी चाची की चूत मारी:मेरे नीचे चुदासी पड़ीं हेमा चाची ने मुझे कस कर अपनी बांहों में जकड़ लिया और कुछ मिनटों तक हम दोनों इसी तरह लेटे लेटे बातें करते रहे. एक बार जब उनसे गांड मरवा ली, तो मैंने भी उनकी गांड मारी और इस तरह से मैं गांड मरवाने और मारने का शौकीन बन गया. अब मुझे समझ में आया कि समीर और अनुज मामा इतने अच्छे दोस्त कैसे बने हुए थे.

तुम उसे कैसे बुलाते हो?वो बोला- मैं जब घर पहुंचने वाला होता हूँ तो उसे फोन कर देता हूँ और वो मुझसे मिलने आ जाता है. हंसी मजाक भी बहुत था लेकिन कभी गांड मरवाने की इच्छा को मैं जाहिर कर ही नहीं पाया. रेशमी का की सेक्सी वीडियोइन मेल्स में मुझसे सभी ने कहा कि एक और नयी कहानी लिखिए, तो मैं एक और नई सेक्स कहानी के साथ हाजिर हूँ.

हम दोनों के बीच पहले ही बात हो गई थी कि चुदाई के साथ साथ शराब भी पियेंगे इसलिए वो शराब लेकर आया था. मैं सोई हुई हेमा चाची की गोरी जांघ पर कभी अपना हाथ मलने लगा, तो कभी हेमा चाची की चिकनी चूत पर अपना हाथ फेर देता.

उन्होंने अन्दर एक ब्लैक रंग की ब्रा पहनी थी, जिसे देख कर मैं पागल हो गया. मेरा लंड अभी आधा ही चुत में गया था कि वो चीखने लगी- आह मर गई … निकालो इसको … आह बहुत दर्द हो रहा है. सलमान ने मेरी अम्मी की चुत में पीछे से लंड पेला और उनकी चूचियों को पकड़ कर ताबड़तोड़ चुदाई शुरू कर दी.

मैंने कहा- कहां जा रही हो आप?उन्होंने कहा- हम सभी बाहर इस झोपड़ी के पीछे नहाते हैं. उसने मुझे कुछ ही सेकंड में पूरी नंगी कर दिया और मुझे सोफे पर लिटा कर मेरा दूध पीने लगा. आह … क्या कोमल हाथ था हेमा चाची का कि मैं शब्दों में बयान ही नहीं कर सकता.

मुझे बहुत मज़ा आ रहा था और मैं भी आहें भर रही थी- आह्ह … आह्ह … आदि … आह्ह … ओह्ह … आदि … हाय … आह्ह।मेरी आंखों में बस सेक्स भरा था और तभी उसने अपनी लोअर और अंडरवियर उतारनी शुरू की.

वो कुछ नहीं बोल रही थी, मगर वो शुरू में मेरा साथ भी नहीं दे रही थी. मैं बोली- सिर्फ मेरे ही कपड़े उतारोगे या खुद के भी उतारोगे?मेरे कहते ही तीनों ने जल्दी से उठकर अपने पूरे कपड़े उतार दिये और फिर राज खड़े खड़े मुझे किस करने लगा.

हम दोनों ने कपड़े पहने और मैंने मेडिकल से दर्द की और गर्भनिरोधक गोली लाकर उसे दी और मैं अपने घर आ गया. मैंने उसकी पैंटी को हल्का सा नीचे की ओर किया और उसकी चूत के ऊपर वाले हिस्से पर अपने होठों से प्यारा से चुम्बन दे दिया. उसकी चीख निकलने ही वाली थी कि उसी पल मैंने उसके होंठों पर अपने होंठों का ढक्कन लगा दिया.

सुरभि कहने लगी- यह छेद तो बहुत टाइट है … इसमें आपका लंड कैसे समाएगा?मैंने कहा- इस छेद में भी चला जाएगा बन्नो. मैंने अपने रुमाल से उसका लन्ड साफ किया और फिर उसका लन्ड वापस उसके पैन्ट में रख कर ज़िप बंद की और खड़ी हो गयी. कई मिनट तक अर्पित ने लौड़ा चुसवाया और फिर आंटी चुदने के लिये तैयार हो गयी.

बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी अलीमा बोली- अंकल मैं डर नहीं रही हूं … और मेरी आंखों में जो आंसू हैं, यह खुशी के हैं. अभय की हालत बुरी हो गयी थी; इतना चूस लिया था अंजलि ने उसके लंड को।अंजलि ने अभय को बेड से नीचे खड़ा किया.

नवरात्रि की सेक्सी वीडियो

वो मेरी उंगली को लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी और अपनी ही चूत के पानी का मजा लेने लगी।अब मैं उठा और उसकी चूत को बजाने के लिए!अपने लंड को हिलाते हुए मैं उसके सामने आ गया और लंड को चूत से टकरा कर रगड़ने लगा. फिर मैंने उसकी साड़ी उसके जिस्म से जुदा कर दी और उसकी चिकनी नंगी कमर को सहलाते हुए उसके कूल्हे दबा दबा के मसलने लगा. भाभी ने मेरे सिर को पकड़ा और कान में धीरे से बोली- शिवम्, प्रिया के सामने अच्छे से रह … वरना इसको पता चल जाएगा। और तेरी शादी में प्रॉब्लम हो सकती है।मैं चुपचाप बैठ गया और फिल्म देखने लगा.

मेरे लंड का पानी हेमा चाची की चूत से रिसता हुआ बाहर बाथरूम के फर्श पर टपक रहा था. और अगर कोई आएगा तो टॉपिक बदल देंगे।इस बात से अब मुझे चाची की हरकत कुछ ठीक नहीं लग रही थी।वो जानबूझकर सेक्स की बातें करना चाह रही थी. आरंभ सेक्सी वीडियोबीच बीच में मैं अपनी पहली उंगली और अंगूठे के बीच में उसकी चूची के निप्पल को जोर से भींच देता था.

वो अब अपने घर पे साहिल को अपनी सहेलियों और खुद को चुदवाने के लिए बुलाने लगी.

अब अगले दिन से साहिल दिन में ऑफिस जाता और रात को हमारे यहां रुक जाता. होटल पहुंच कर मैंने थोड़ी देर बेड पर लेट कर रेस्ट किया और अपने घर से यहां गुवाहाटी आने तक की एक एक घटना को याद करने लगा.

फिर उसने उन सभी के पास जाकर कुछ बोला तो चारों मुझे देख कर मुस्कुराने लगे. वो गांड उठाते हुए जल्दी पेलने का इशारा करते हुए कह रही थी- अब देर न करो राजा आज मेरी इस बंजर जमीन को सींच दो. अम्मी भी हंस कर बोलीं- हां यार, राणा अब बड़ा हो गया है, उसके सामने मुझे भी बड़ी शर्म आ रही थी कि वो न जाने क्या सोचेगा.

फिर हम दोनों एक दूसरे के ऊपर इस तरह लेटे कि मेरा लंड उसके मुँह में और उसकी चूत मेरे मुँह के पास थी.

मगर अगले ही पल उसने मेरे हाथ पर हाथ मारा और मेरे हाथ को बाहर खींचकर निकलवा दिया. उसके निप्पलों के तनाव से साफ पता चल रहा था कि वो उत्तेजित है और सेक्स करना चाहती है. उससे बात हुई और फिर मैंने उसको चुदाई के लिए कैसे पटाया?अंतर्वासना के सभी पाठकों को मेरा लंड भरा नमस्कार! मेरा नाम नील है जो कि रीयल नहीं है.

गांव देहात सेक्सीघर लौटा तो पता चला कि मेरी दादी माँ और बुआ दूसरे गांव में एक रिश्तेदार के यहां चले गए हैं।ब घर में सिर्फ मैं, रिया और चाचा और उनके बच्चे ही थे।गांव में वैसे सब ताश-पत्ते से खेलते रहते हैं. मैं बोला- क्यूं साली, बहुत घमंड है न तुझे अपनी जवानी पर! तेरी ये जवानी मैं सारी दुनिया को दिखा दूंगा.

प्रीति जिंटा की सेक्सी फोटो

वो अपने हाथों से मेरे शरीर के एक एक अंग को दबाकर मुझे पागल किये जा रहा था. अपने कमेंट्स में राय दें या फिर मेरी ईमेल पर भी मुझे मैसेज कर सकते हैं. मैं भी सिसकारते हुए बोला- आह्ह दीदी … चूस लो ये लौड़ा, ये आपके लिए बहुत तड़पता रहता है.

लेकिन अपने शर्मीले स्वभाव के कारण मैं उससे दूर बैठ कर बात कर रहा था. अब हम दोनों जमकर चुदाई करने लगे।देसी चाची की चूत ने पानी छोड़ दिया।मैंने उसे उठाकर दीवार पर टिका दिया और उसकी एक टांग उठा कर लंड घुसा दिया और झटके मारने लगा।तभी मां की आवाज आई. फिर अचानक राहुल ने कहा- बस में मजा आया था कि नहीं!उसकी बात से मैं मुस्कुरा दी और ना में सर हिला दिया- पूरा मजा किधर से आता?अजय- किस मजे की बोल रहे हो यार हमें भी तो बताओ?दीपक और कमल- हां बताओ ना यार … कैसा मजा?फिर अजय ने कहा- गर्मी ज्यादा है यार … मैं तो लोवर उतार रहा हूँ.

मैंने पूछा- तुम्हारे हस्बैंड!तो उन्होंने कहा- मेरे पति एक एमएनसी में काम करते हैं. मैं बोला- क्यों भाभी?वो बोलीं- तेरा ये हथियार तो कभी नीचे ही नहीं रहता. काफी देर तक भाई की साली को चोदा मैंने और फिर उसके बाद मैं उसकी चूत में ही झड़ गया.

इसके बाद हेमा चाची ने शॉवर चालू कर दिया और उनके सेक्सी बदन पर पानी गिरने लगा. जया ने मेरा 7 इंच का खड़ा लंड देखा, तो डर गई और बोली- ये तो कितना बड़ा मोटा है … अन्दर कैसे जाएगा!मैंने कहा- आराम से डालूंगा … तो चला जाएगा.

भाभी बोलीं- उससे क्या होगा?मैंने धीरे से कहा- मेरी जो फट गई है, वो सिल जाएगी.

इस गांड चुत में लंड कहानी के अंत में मैं अपनी बात के लिए आपके मेल की इल्तजा कर रही हूं. सेक्सी नंगी कांडमैंने मैडम की एक चूची को मुँह से चूमा और उनकी बात से सहमति जताते हुए कहा- क्या आप भरोसा करोगी कि ये मेरा पहला अवसर है. जर्मनी का सेक्सीमैंने भाभी की पैंटी को उतारा और जोर से उसकी फुद्दी को हथेली से रगड़ने लगा. फिर मैंने उसकी गर्दन के पीछे हाथ देकर उसको अपने होंठों पर झुका लिया और हम दोनों एक बार फिर से किस करने लगे.

कुछ देर बाद बाबा का लंड फिर से सलामी देने लगा और उन्होंने आंटी को इशारा किया.

बलविंदर अलीमा की चूचियों को चूसने के साथ साथ उसे बहुत ही प्यार से देख रहा था. शबाना ने कहा- जब तुम्हारे लंड के सुपारे की चमड़ी आगे पीछे होकर मेरी चुत की फांकों से रगड़ती थी तब मुझे जन्नती मजा मिल रहा था. खुशबू ने अपने बैग से सिगरेट निकाली और सुलगाते हुए धुंआ के छल्ले उड़ाने लगी.

गरम लड़की की सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मैं मकान मालकिन की बेटी की मदद किरायेदारों से किराया वसूल करने में रहा था. भाभी ने सिर्फ वासना से लंड की इस हरकत को देखी और लंड साफ़ करके हाथ हटा लिया. मेरी जीभ मॉम की चूत के अंदर बाहर होने लगी और तभी उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया.

सेक्सी वीडियो हिंदी पोर्न वीडियो

लेकिन फ़ोन उठाना भी ज़रूरी थी फिर मैंने अपनी उखड़ती हुए सांस को थोड़ा थामा और फिर फ़ोन उठाया. वो मजे से लंड चुसवाने लगा और फिर मेरे बालों को पकड़ कर मेरे मुंह में धक्के देने लगा. मैंने उस दिन खाना आने से पहले दो पैग लिए और खाना आया तो खाकर एक सिगरेट फूंकते हुए भाभी की ब्रा पैंटी वाली छवि को अपने दिमाग में उकेरने लगा.

वो थोड़ा सोचकर बोली- ठीक है, जब मौका मिलेगा तो अगली बार गांड में कर लेना लेकिन धीरे करना प्लीज।फिर मैंने उसको हग किया और किस करके वहां से आ गया अपने घर।तो दोस्तो, ये मेरी दीदी की सहेली की चूत चुदाई की कहानी थी.

मेरा मोटा लंड देख कर भाभी बोलीं- हाय इतना मोटा लंड … इसको लूंगी, तो मेरी चूत ही फट जाएगी.

जाने से पहले सोहेल मुझसे मिला और उसने मुझसे कहा- तुम ही मेरे परिवार का ध्यान रखने वाले हो. मैं उससे यही सब बातें करते हुए धीरे धीरे से लंड उसकी गांड में डालता जा रहा था. कटरीना कैफ का सेक्सी विडियोअब आगे की हॉट टीनेज गर्ल्स सेक्स स्टोरी:कुछ देर बाद वो फिर से मेरे लंड को पकड़ कर हिलाने लगी.

एकदम मक्खन सी चिकनी त्वचा और 34-30-36 के जानलेवा फिगर की मीठी जलेबी सी शोला थी वो!उसकी 5 फिट 1 इंच की हाईट एकदम गोल चाँद सा मुस्कुरता मुखड़ा, भरा हुआ बदन, गुलाब से रस से भरे हुए होंठ, झील सी गहरी नशीली आंखें, जो किसी को एक ही बार में घायल कर दें. मुझे भी बहुत मज़ा आ रहा था कि मेरे साथ ये सब हो रहा है और मुझे एक अलग ही रोमांच मिल रहा था. दीदी उसको अंदर लेकर जाने लगी और पीछे से उसकी गांड उसकी पजामी में मटकती हुई दिखाई दे रही थी.

मगर मैंने भी पार्न फिल्म्स बहुत देखी हैं और उसी का अनुभव आज काम आ रहा था. प्रमोद तो कुछ कमा नहीं रहा था और वो पैसे अपने सास-ससुर से मांग नहीं सकती थी.

तो मैंने उससे पूछा- अपनी चुत के बाल साफ किए हैं या नहीं!सुरभि बोली- कल सुबह करूंगी.

मैंने कहा- कैसा है?वो मुस्कुराईं और अगले ही पल घुटनों के बल बैठ कर मेरी चड्डी को नीचे करके लंड को बाहर निकालने लगीं. अब चूत से रस टपकने लगा।मैंने अपने लौड़े को चाची की चूत के रस में रगड़कर गीला कर दिया. ये हेमा चाची की ओर से खुली इजाजत थी कि मैं जो चाहूँ, हेमा चाची के साथ कर सकता हूँ.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो पिक्चर इस गांड चुत में लंड कहानी के अंत में मैं अपनी बात के लिए आपके मेल की इल्तजा कर रही हूं. बीच बीच में मैं अपनी पहली उंगली और अंगूठे के बीच में उसकी चूची के निप्पल को जोर से भींच देता था.

फिर दोनों के बीच अगले दिन चुदाई का प्लान बना।अगले दिन मेरी चुदासी बहन रानी सज-संवर कर कॉलेज जाने के लिए तैयार हो गई. तभी मुझे लगा कि मेरा काम तमाम होने वाला है, तो मैंने अंकिता को अपने नीचे ले लिया. उसके बाद हम एक ही रूम में सोये और रात को मैंने दो बार फिर से उसकी चूत मारी.

मारवाडी सेक्सी फिल्म

पूजा होने के बाद हम सब छत पर पटाके फोड़ने चले गए।कुछ देर बाद सब फ़ोटो खिंचवाने लगे तो साहिल ने मुझे इशारा कर के अपने पास बुलाया. आज मैं बहुत खुश था, तो मेरी सगी बहन ने मुझे पूछ लिया कि भाई क्यों आज इतना खुश क्यों हो?मैंने कहा- कुछ नहीं … बस यूं ही. नजदीक आते ही उसे अपने सामने बिठा लिया और उसके हाथों में अपना लंड पकड़ा दिया.

उसके बाद मामा ने मेरे साथ क्या क्या किया वो सब भी मैं आपको बताऊंगा. उसने मेरा कॉल नहीं उठाया और मैसेज लिख कर भेज दिया कि वो अपने बेटे के साथ में है.

अब आगे अकेली भाभी की चुदाई स्टोरी:शबाना भाभी की जीभ जैसे ही मेरे मुँह में चलने लगी मेरी समझ में आ गया कि माल टूट कर टपक गया है और अब इसकी चुत में लंड की सख्त जरूरत आन पड़ी है.

पिछला भाग:मेरी जवानी और सेक्स की प्यास- 6इसी तरह एक दिन साहिल दोपहर के समय हमारे घर आया. वो भी कहीं न कहीं मुझसे मिलना तो चाह ही रही थी, तो वो भी झट से राजी हो गई. वह दीवार की तरफ झुकती है और एक व्यक्ति अपने हाथों से उसके स्तन दबा रहा होता है।मैं उस दृश्य को देखकर चौंक गया। फिल्म एक दो प्रेम दृश्यों के साथ अच्छी थी लेकिन अचानक यह दृश्य मैंने सोचा नहीं था।यह दृश्य सिर्फ 2 मिनट का था।मेरी मम्मी ने मुझे उस दृश्य को देखने के दौरान देखा.

शबाना भाभी ने भी मेरे लंड के रस को पूरी तरह से चूस लिया था और वीर्य को चटखारे लेकर मजा ले रही थी. तो अब मैं अपने कमरे में आ कर सोचने लगी कि ये फिर हम लोगों को सही मौका मिला है तो मैंने तुरंत रागिनी को कॉल करके साब बताया तो वो बोलने लगी कि ठीक है मैं आ कर कुछ करती हूं।जब दोपहर में रागिनी आयी तो दादी ने उसको भी बोला- आज तैयारी कर लो. पूरा लंड अंदर सेट होने के बाद उसने अपनी टांगों को मेरी कमर पर लपेट लिया.

तो दादी को जाना था।दादी ने मुझको अपने साथ चलने के लिए बोला क्योंकि घर में किसी एक का रुकना ज़रूरी था.

बीएफ सेक्स हिंदी भोजपुरी: मेरी तरफ मुड़कर वो मुस्कराते हुए बोली- मुझे पता था कि तू ऐसा कुछ जरूर करेगा. मेरी गोरी गोरी जांघ देख उसके मुँह से निकला- कसम से यार … तुम कितनी मस्त हो.

मेरे पूरे बदन पर किस करते हुए ही वह सारी ज्वेलरी एक एक करके उतारने लगा. मैंने हिम्मत बांधते हुए उससे बात आगे बढ़ाते हुए कहा- आपके पति कितने दिन आपके पास रहते हैं?उसने उदास होकर कहा- महीने में करीब पांच छह दिन ही इधर रहने के लिए आते हैं. धीरे धीरे हमारा इतना मजाक अधिक बढ़ गया था कि मैं दुकान में उसके साथ हंसते बोलते उसके दूध दबा देता था और वो कुछ नहीं बोलती थी … बस केवल हंसती रहती थी.

अजमेर से भीलवाड़ा का सफर ज्यादा दूर का नहीं है तो थोड़ी देर में ट्रेन भीलवाड़ा पहुंचने वाली थी … पर हमारा खेल बिना कुछ बोले चलता चला जा रहा था.

वो एकदम से दूर हटने लगी और बोली- ये क्या कर रहे हो हितेश? ये गलत है!!मगर मेरे लंड ने कुछ भी सोचने से साफ मना कर दिया. अब वो जाग गई, बोली- उतर गई शराब?मैं चुप रहा मैं जानता था कि वो मुझे चाचा समझ रही है।उसने अंधेरे में भी मेरे लंड को ढूंढ लिया और सहलाने लगी।मैंने उसे उठाकर नीचे बैठा दिया और उसके मुंह में अपना लौड़ा डाल दिया. मेरा सुपारा उसकी चूत में फंस गया और कपड़े के अंदर से ही उसके मुंह से जोर की चीख निकली.