बीएफ वाला वीडियो दीजिए

छवि स्रोत,जानवर वाला सेक्सी पिक्चर

तस्वीर का शीर्षक ,

चुदाई विडयो: बीएफ वाला वीडियो दीजिए, भाभी- क्यों प्रवीण, मुझमें ऐसा क्या है?मैं- क्योंकि भाभी आप का फिगर मुझे बहुत अच्छा लगता है और आप तो बहुत हॉट एंड सेक्सी हो, मेरा तो मन करता है कि आपकी किस ले लूँ.

सेक्सी हिंदी वीडियो वीडियो

उसके साथ मेरी सेटिंग कैसे हुई?नमस्कार दोस्तो, मैं देवराज शर्मा राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले के एक छोटे से ग्राम से हूं. उमर फतेहीअब अपनी मम्मा सौम्या को फिर से पीछे से अपनी बांहों में भरकर मैं उनकी चूत पर लंड और उनकी सुराहीदार गर्दन पर अपने होंठ रगड़ने लगा.

भाभी ने शायद सब समझ लिया था, इसलिए उन्होंने बेख़ौफ़ मेरा फ्रेंची भी उतार दिया. गोल्डन नवरत्नमैंने अपनी माँ को बताया कि सुषी का उसकी माँ के साथ झगड़ा हो गया है.

फिर मैंने धीरे से महसूस किया कि उसने मेरी ज़िप खोल दी और अंडरवियर को हटा दिया.बीएफ वाला वीडियो दीजिए: प्रिया- आआहह … आअहह … भैया … भैया … बहुत अच्छा लग रहा है … और चाटो … आआंह पी जाओ पूरा पानी … आअहह!मैंने करीब दस मिनट तक प्रिया की चूत पी.

पूरे 20 मिनट अंकल की गांड चोदने के बाद मैं झड़ गया और मैंने अंकल की गांड में ही सारा वीर्य छोड़ दिया.जब गांड मराने की इच्छा होती है, तो बिना मराए चैन नहीं पड़ता है … और फिर मन पसन्द लंड गांड में जाए, तो क्या कहना.

हिंदी में सेक्सी पिक्चर फुल एचडी - बीएफ वाला वीडियो दीजिए

अब यह क्रम रोज ही चलने लगा, ये अंकल जी मुझे भा चुके थे और मन ही मन मैंने तय कर लिया था कि मैं अपनी चूत की सील तो इन्हीं अंकल जी से तुड़वाकर चैन की सांस लूंगी.वैसे सऊदी में पोर्न साइट्स बैन है तो वो ऑनलाइन कुछ नहीं देख सकती है.

ब्वॉय्स और गर्ल्स के लिए हॉस्टल भी नए बना दिए गए थे … जो कि स्टूडेंट्स की संख्या से काफी बड़े और ज्यादा कमरों वाले थे. बीएफ वाला वीडियो दीजिए मैं भी एक सयुंक्त परिवार में रहता हूँ और ये सेक्स कहानी मेरे ताऊ और ताई की है.

साथ ही अमर ने हाथ नीचे किया और पिंकी के पेटीकोट के नाड़े को खींच दिया.

बीएफ वाला वीडियो दीजिए?

फिर मैं अपने होंठों से सरिता के दोनों मम्मों के आस-पास किस करने लगा और फिर दोनों दूध बारी बारी से चूसकर मैं उसके पेट पर अपनी जीभ फिराने लगा. लंड है कि आफत, लम्बा मोटा लोहे सा सख्त और क्या चुदाई, कैसे भूल सकता हूं. कॉफी लेकर बाहर आने ही वाला था कि राशि भी किचन में आ गई और उसने पीछे से मेरी पीठ पर अपने नर्म होंठों का चुम्बन देते हुए मुझे बांहों में भर लिया.

मैं इस बार उसको अपने कमरे में ले जाकर तौलिया से पौंछ कर बुर में महलम लगाकर कर उसे लेटने के लिए कह दिया. हम जब भी मिलेंगे तब पति पत्नी की तरह एक दूसरे को प्यार और खुशियां देते रहेंगेसरिता बहुत खुश हो गयी थी, उसने मेरे होंठों को चूस लिया. उफ्फ … भाभी का वह चेहरा अब मुझे याद आता है तो मेरी चूत में कुलबुली मच जाती है.

उनके मुँह से यह बात सुनकर मैं उनको लेकर बाहर कमरे में आ गया और उनको बेड पर ले आया. मैंने उसको इशारा किया और वो तुरंत मेरी गोदी में आकर बैठ गयी उसने अपनी चूत मेरे लौड़े पर टिकाई और जोर लगाया, परन्तु लौड़ा अन्दर नहीं जा रहा था. इस मदहोश आवाज को अमर ने समझ लिया और नारी सुलभ लज्जा को मसलते हुए वो ब्लाउज के ऊपर से ही पिंकी की चूचियां दबाने लगा.

आशीष मेरे होंठों को अपने होंठों से चूमने लगा, मेरी सांसें उसकी सांसों से. मैं उनके करीब गया तो मायरा ने मुझे किस किया और कहा- आप हमारे प्यारे भैया हैं.

उस समय अगर मैंने उसके होंठों को अपने होंठों की कैद में ना किया होता तो उसके चिल्लाने की आवाज कमरे से बाहर तक चली जाती.

मैं पहन कर देख रही थी कि रोहन ने कहा- अंजलि, मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूँ.

मैंने मन ही मन कहा कि पापा मैं तो कली से फूल पहले ही बन चुकी हूँ मगर आपको नहीं पता है इस बारे में. मुझे थोड़ा बुरा भी लगा कि मैं बिना खटखटाये आंटी के कमरे में चला गया. मैं भी मस्त होकर अपनी दोनों जांघें एक दूसरे पर रगड़ कर चुत के होंठों को एक दूसरे पर रगड़ने लगी.

उसने मेरी तरफ सवालिया नजरों से ऐसे देखा मानो वो जानना चाह रही हो कि वो डायरेक्टर उसकी मुट्ठी में कैसे आ सकता था. मम्मा मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगीं और 2-3 मिनट में मैं भी झड़ गया. यह सुनकर आरती बहुत खुश हो गई, एकदम से उसने मुझे हग करते हुए मेरे होंठों को चूमा और बोली- यार, मैं खुद भी उस के लंड के लिए तड़फ़ रही हूँ और उसी से चुदवाना चाहती हूँ.

वह बोली- क्या शर्त है?मैंने कहा- जब भी मैं चाहूँगा, तुमको मेरे पास चुदवाने के लिए आना पड़ेगा और जब मेरी श्वेता तुम्हारे बॉयफ्रेंड से चुदवाएगी तो तुम्हें उसका वीडियो बनाना पड़ेगा.

लेकिन जब भी नया लण्ड मिलता है तो ऐसा लग रहा है कि पहली बार चुद रही हूं. अब वो बस ब्लाउज और पेटीकोट में मेरे सामने थी और मैं अकेली जींस में था. कुछ देर में एकदम से अकड़ गई और शायद झड़ गई, लेकिन मैं धकापेल चुदाई में लगा रहा.

लगभग 5 मिनट तक एक दूसरे को चूसते रहने के बाद जब दोनों की सांसें चढ़ने लगीं, तब हम अलग हुए. लाल रंग के साड़ी में गहनों फूलों से लदी ज़रीना महकती हुई सुहाग की सेज़ पर मेरे इंतज़ार में सो गयी. थोड़ी देर तक ऐसे ही लेटा रहा, वो बिल्कुल सीधे सो रही थी।कहानी अगले भाग में जारी रहेगी.

जीजू ने मुझे अपनी दोनों बांहों में कस लिया और मुझे किस करने लगे, मेरे दोनों बूब्स जीजू की छाती से चिपक गए एकदम से और धीरे धीरे मेरे दोनों हाथ भी जीजू से लिपट गए, अब हम दोनों एक दूसरे को चूमने लगे.

जागृति मेम देखने में बीस साल की लड़की सी लगती थीं और देखने में बहुत खूबसूरत और हॉट माल लगती थीं. मेरी योनि भी अभी काफी टाइट है क्योंकि उसका अभी तक ज्यादा इस्तेमाल नहीं हुआ है, उसने ज्यादा लंड नहीं लिए हैं.

बीएफ वाला वीडियो दीजिए मैंने प्रिया की चूत में पीछे से लंड घुसाया और एक ही बार में पूरा अन्दर तक डाल दिया. नैना ने धीरे से मेरे हाथ पे हाथ रख दिया और बोली- होता है ऐसा!इस हरकत के बाद वो मुस्कराने लगी.

बीएफ वाला वीडियो दीजिए मैं बोली- क्या हुआ, क्यों इतना घबराए हुए हो?तो आशीष बोला- यार तुम्हारी सील तो टूटी नहीं, तुम इतना चिल्ला रही थी … इतना दर्द हुआ तुझे … तो मैंने सोचा सील टूट गई होगी, पर तेरी सील तो पहले से टूटी हुई है. मैंने उसके गर्म और नर्म होंठों पर अपने होंठ फिर से रखे और किस करने लगा.

मैंने कहा- क्या घुसा दूँ?वो बोली- अपना लण्ड मेरी बुर में घुसा कर फाड़ दो.

बीएफ बड़ी

पिंकी भी अमर से ऐसे लिपट गई जैसे कोई सांप किसी पेड़ के तने पर लिपट जाता है. जब मैं उसकी दोनों टांगों के बीच में आया तो उसने मेरा लन पकड़ कर अपनी फुद्दी पर सेट कर लिया. फिर मैंने एक और जोरदार धक्का मारकर अपना 8 इंच का लौड़ा उसकी चूत की गहराई में उतार दिया.

जब मैंने लंड लगाया था, तब शायद उसको लगा था कि मैं धीरे से लंड डालूँगा. हाँ, उसकी चूत मार कर मन को कुछ शांति तो मिल गई थी लेकिन उसके प्रति जो मेरे मन में भावनाएँ जगी थीं उनके कारण मैं उसको अपनी आंखों के सामने नंगी देखना चाहता था. एक बात की ख़ुशी है मुझे कि आशा भाभी के मुकाबले मैं ज्यादा बड़ा, ज्यादा मोटा और ज्यादा काला लंड चूसती भी हूँ और अपनी चूत और गांड में लेती भी हूँ.

मैंने कहा- आपको मेरी गर्लफ्रेंड की बड़ी जानकारी है भाभी … वैसे मैं बता दूँ कि अभी तक कोई लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बनी ही नहीं है.

उसी समय मेरी परीक्षा आने वाली थी, तो मम्मी ने पापा के करीबी दोस्त कमलेश सर को ट्यूशन पढ़ाने के लिए बोल दिया. साथ ही साथ मैं उसकी चूत की फलकों को भी अपने होंठों से चूम लेता तो कभी दांतों से काट लेता था. बातों बातों में उसने बताया कि अगले दिन मेरा जन्मदिन है, पर मैं किसके साथ मनाऊंगी … हस्बैंड तो ड्यूटी पे है.

सोनम रानी, अब होने को तो कुछ हो भी सकता है पर लण्ड से जब रस की पिचकारियां छूटती हैं तो उनका अलग ही आनन्द आता है, आता है या नहीं?” वो बोली. इसलिये मैं एक बार फिर पहली वाली पोजिशन में आया और अपने दोनों हाथों को एक बार फिर बिस्तर पर टिकाया और इस बार थोड़ा तेज धक्के लगाने लगा. सुषी ने कहा- कोई आ गया तो?मैंने कहा- कोई नहीं आएगा, अभी माँ को वापस आने में लगभग दो घंटे का वक्त और लगने वाला है, इसलिए तुम चिंता मत करो.

एक दिन हमारे स्कूल में नवरात्रि के दिनों में गरबा का प्रोग्राम रखा गया. चुदाई के समय तो श्वेता ने शुभी का नाम लेने के बारे में कुछ नहीं कहा मगर जब चुदाई हो गई तो वह गुस्सा करके चली गई.

उसने मुझे अपनी बांहों में दबा लिया और बहुत देर तक हम ऐसे ही पड़े रहे। करीब 10 मिनट के बाद मैं उठा, किचन में गया और पानी की बॉटल फ्रिज से निकाल के पानी पिया और उसे भी दिया।पानी पीने के बाद वो एक बार फिर से मेरे लन्ड को पकड़ के हिलाने लगी. दोस्तो, मैं संजू आर्यन कुमार एक बार फिर से आप लोगों के लिए एक नई और सच्ची कहानी के साथ हाजिर हूँ. मैं नित्य ही सुबह उनके आने जाने के टाइम पर घर के सामने खड़ी रहती या टहलती रहती.

उनके शरीर पर एक भी कपड़ा नहीं था, जिस वजह से उनकी चूतड़, चुचियां सब कुछ साफ़ दिख रहा था.

अब उसने मलहम लगाना बंद कर दिया और लंड को हाथ में पकड़कर बोली- हर्षद तुम्हारा ये कितना बड़ा है. हमने थोड़ी बहुत बात की, फिर उसने मुझे कॉफ़ी के लिए पूछा, तो मैंने उन्हें मना नहीं किया. हम दोनों कराह रहे थे ‘आआह ह ऊऊह्ह …’कुछ देर में वह फिर घूमी और अपनी पीठ मेरी ओर कर दी.

जमाई जी का तना हुआ गर्म लौड़ा हाथों में ऐसा आया कि हाथों ने मजे ही मजे में लंड को सहलाना शुरू कर दिया. राधिका के साथ दिशा और सोनल के नंगे मम्मे देख कर मुझे बियर की तलब लगने लगी.

जब से मैंने उसको देखा था तभी से मैं उसको चोदने के सपने देखने लगा था. मेरी जवानी की कहानी के दूसरे भाग में आपने पढ़ा कि मेरी चूत में उंगली करने के बाद सर ने मुझे पेपर करने की परमिशन दे दी थी. हालांकि मैं फील कर सकता था कि अपनी मम्मा सौम्या का मन मेरे साथ सेक्स करने का था लेकिन मैं रुक गया.

निशा बीएफ

फिर उसके बाद मैंने अपना पूरा बोझ जूली के जिस्म के ऊपर डाल दिया और उसके होंठों को चूसने लगा.

आपने मेरी कहानीआपा के हलाला से पहले खाला को चोदामें पढ़ा कि कैसे मैंने सारा आपा के हलाला से पहले नूरी खाला को चोदा और फिर मेरा निकाह सारा आपा से हुआ. मैं धीरे-धीरे उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ने लगा और उसको जल्दी ही मजा आने लगा. फिर मैंने जल्दी से हील्स पहन ली जो कि मैं बाथरूम में अपने साथ ही लेकर घुसी हुई थी.

भाभी के गुलाब गाल और रसीले होंठों को देख कर किसी का भी लंड खड़ा हो जाएगा. [emailprotected]इंडियन आंटी न्यूड कहानी का अगला भाग:तलाकशुदा आंटी की खुली छत पर चुत चुदाई- 2. ट्रिपल एक्सः स्टेट ऑफ दि युनियनमैं पहन कर देख रही थी कि रोहन ने कहा- अंजलि, मैं तुमसे कुछ कहना चाहता हूँ.

खासकर विधवा औरतें व बूढ़ी हो चुकी औरतें, जिनके पति उनकी भूख को सतुंष्ट करने में सक्षम नहीं होते और उनकी इच्छा अभी भी जागृत होती है. आंटी बोलीं- मैं यहां बड़े वाले सोफे में ही बैठ जाती हूं, तुम मालिश कर दो.

मुझे ये भी लगता था कि 29-30 साल की उम्र में मौसी का तलाक हो गया था और तब से लेकर अभी तक मौसी अकेली रही हैं, तो फिर मौसी अपने शरीर की ज़रूरतों को कैसे पूरी कर रही होंगी. फिर कुछ देर में मैं अपने लंड को हिलाने लगा और ट्रेन की तरह अपनी स्पीड को बढ़ाने लगा. लंड तो खड़ा हो गया और वो भी अकेले में, फिर हाथ कैसे न जाता उसके पास.

जैसे ही भाभी मेरे करीब आईं, तो मेरी नज़र उसके लिए कुछ अलग ही दिखने लगी और मेरा लंड टाइट हो गया, जिसे नफीसा भाभी ने भी महसूस किया. जवाब में वो बोली- मेरी फिकर ना कर … अपनी चूत को समभाल … मुझे पता है वो तेरी भी बजाएगा रात को. फिर मैंने अपना हाथ हटाया तो वो गुस्से में बोली- करना है तो ठीक से कर … साले ऐसे नहीं.

बीवी ने बगल में रखी वैसलीन की डिब्बी मेरे हाथ में दे दी, जो उसने पहले से ही अपने पास ले रखी थी.

मीना और मैं इसी तरह एक दूसरे को जकड़े हुए कुछ देर लेटे रहे और फिर हांफते हुए अलग हुए. वो मेरे हाथ से कटोरा लेती हुयी बोली- लगता है चुदाई के मामले आप बहुत दिमाग रखते हो?फिर नम्रता कुर्सी से उठी और वाशरूम की तरफ घूमी, लेकिन फिर अचानक मेरी तरफ घूमते हुए बोली- शरद मुझे भी तुम्हारी मलाई चाहिये.

जिसने भी इस असीम सुख के सागर में गोता लगाया है, सिर्फ वही इसका आनन्द जान सकता है. सुबह की हवा मुझे बहुत अच्छी लगी तो मैं अपने घर के आगे ही टहलने लगी. उसके होंठों पर लगी पिंक रंग की लिपस्टिक उसकी खूबसूरती में 4 चांद लगा रही थी.

उसने फिर कहा- अगर तुम चाहो तो मैं भी तुम्हारे लिए कोई नया लंड ढूँढ कर दिलवा दूँगा. मैं उसे लगातार धक्के देकर चोदता रहा। मैं पीछे से उनके मोमों को पकड़ कर दबाता रहा और चूचुक मसलता रहा. ’आज अपने पति की धमाकेदार चुदाई से मैं तो मानो हवा में तैरने लगी थी.

बीएफ वाला वीडियो दीजिए वो मेरी जीभ को अपने मुँह में अन्दर लेकर चूसने लगी थीं; मेरे होंठों को काट रही थीं. मैं उनको अभी कुछ और देर चोदना चाहता था लेकिन मम्मा की चूत झड़ने से बहुत ज्यादा गीली हो गई थी जिससे मज़ा खराब हो गया.

हिंदी में बीएफ चाहिए सेक्सी

मैंने अपने हाथ मेरे सिर के पीछे रखे थे, इसलिए मेरे स्तन तने हुए थे, उस पर कस कर बैठी मेरी ब्रा अब खुल गई थी. पर आजाद मम्मे रखने का मतलब था, मर्दों को खुली दावत … इसलिए मैंने ब्रा पहनना तय किया. मैं रोज उसके घर जाता और हम बात करते लेकिन कोई भी मौका नहीं मिला। फिर एक दिन चाचा-चाची कहीं शादी में गए थे और दूसरे दिन आने वाले थे और मुझे घर सोने के लिए बोल दिया.

बुर की दोनों फांकें एकदम फूली हुई थीं, जैसे पावरोटी एक दूसरे से चिपकी हुई हों. मैंने हिम्मत करते हुए अपने सारे कपड़े उतारे और सिर्फ चड्डी में होकर बाथरूम में घुस गया. राजस्थानी सेक्स वीडियो देहाती’मैंने अंकल का लंड मुँह में लिया और उनके चूतड़ों को अपनी बांहों के घेरे में ले लिया.

कुछ देर के बाद जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने शुभी की चूत पर अपना लंड सेट किया और तेजी से चूत में डाल दिया.

भला थन से दूध निकले बिना छोड़ने वाला थोड़े ही था मैं? हिलाते हुए जब दूसरी बार ख्यालों में पूजा को नंगी किया तो अबकी बार चूत में लंड को पेल दिया और दो चार धक्कों के हसीन ख्वाबों ने वीर्य को बाहर निकलने पर मजबूर कर दिया. वसुन्धरा के दोनों बाज़ू मेरी पीठ के इर्द-गिर्द सख्ती से लिपट गए और वसुन्धरा के दोनों पुष्ट स्तनाग्र मेरी छाती में छेद करने पर आमादा थे.

लंड का सुपारा चूत की फांकों में जैसे ही सैट हुआ, मैंने जोर से धक्का दे दिया. नम्रता- वो कैसे?मैं- जब भी आप कहें …नम्रता- ठीक है, देखते है, ऊपर वाला मेरी इच्छा कब पूरी करता है. मैं उससे कस कर चिपक गया और उसकी चूत में ही झड़ गया। हम लोग काफी देर तक इसी अवस्था में पड़े रहे.

रूम में घुसते ही मैंने उसे गले से लगा लिया और उसको काफी देर तक महसूस करता रहा.

मैंने बोला- ऐसा नहीं है मम्मा, आप सच में बहुत खूबसूरत हो … इतनी कि मैं आपसे शादी कर लूं. आप रंग से भले सलोनी हो पर आपके चेहरे में एक कशिश है और आंखों में उदासी है जो शायद आपको अपने रंग से हीनता के कारण हो रही है. एक दिन ऊपर वाले ने मेरी हालत को समझा और मुझे चुदाई के सुख से रूबरू करवा दिया.

हिंदी में सेक्सी वीडियो फिल्मतब उसने मुझे बताया कि उसका पति वैसे तो बहुत अच्छा है, पर उसकी टाइमिंग काफी कम है, जिससे वो खुश नहीं हो पाती. ये सब क्या है सर? छोड़ दो मुझे”मैं उनकी पकड़ से आज़ाद होने के लिए छटपटाई.

सेक्सी बीएफ चुदाई जबरदस्ती

मैंने ध्यान रखा कि मेरा लण्ड मेरी नयी दुल्हन की चूत से बाहर न निकले. मैं मर जाऊँगी!मैंने जल्दी से अपने मुँह से उसके मुँह को दबा दिया और फिर एक और झटका मारा. मैं माया भाभी की टांगों के बीच में घुटनों के बल आधा खड़ा होकर उसकी चूत में अपना लंड डाले नंगा खड़ा था.

गुलाबो के स्तन ऊपर की ओर उठ गए और शरीर एंठन में आ गई जैसे ही मेरा 8 इंची गर्म लिंग पूरी तरह से गीली हो चुकी योनि में घुस गया. मैं सोचता था कि यदि मुझे ऐसी मशीन मिल गई तो मैं सबसे पहले अपने भूतकाल में जाकर अपनी मम्मा को पटाऊंगा और उन्हें बहुत मजे से चोदूंगा. अगले दिन मैं उम्मीद कर रहा था कि वह अपनी खामोशी को तोड़ कर मुझसे इस बारे में अब कुछ बात जरूर करेगी.

क्या गुलाबी बुर थी यार … एकदम साफ … एक भी बाल नहीं, जैसे आज ही मेरे लिए बुर को शेव किया हो. मैंने उनकी बात में दोहरा अर्थ समझा मगर मन ही मन मुस्कुरा कर रह गया. दूसरी तरफ अगर मैंने बिना कंडोम के किया तो हो सकता था कि वह पेट से हो जाए और फिर एक मुसीबत और आ खड़ी हो.

वो मुझे अपनी बांहों में भरे हुई थी और अपने हाथ मेरे बालों में फिरा रही थी. NRI भाभी X हिंदी स्टोरी में पढ़ें कि कैसे सऊदी में रहने वाली एक इंडियन भाभी ने अन्तर्वासना पर मेरी कहानी पढ़ कर मुझे मेल किया तो हमारी दोस्ती हो गयी.

मैंने उनकी तरफ सवालिया निगाहों से देखा तो वो मुझे रुकने का इशारा करके चली गईं.

साला चाची के खानदान की क्या लड़कियां, क्या औरतें … सब एक से बढ़कर एक!मुझे लगा कि चाची ने हमें देख लिया था. हैदराबादी ब्लू फिल्मसाथ ही साथ चूत चुदवाने के उतावलेपन में वह काम भी फटाफट निपटा रही थी. सबसे छोटी बच्ची का सेक्स वीडियोथोड़ी देर तक ऐसे ही लेटा रहा, वो बिल्कुल सीधे सो रही थी।कहानी अगले भाग में जारी रहेगी. ये मेरी खासियत बन गई है कि मेरा वीर्य तभी छूटता है, जब मैं चाहता हूँ.

फिर क्या था … हम दोनों 69 के पोज में आ गए और मैं अपनी मम्मा सौम्या की रसीली चूत को चाटने लगा.

वह बोली- ठीक है, मगर वादा करो कि अंदर नहीं डालोगे?मैंने कहा- नहीं, अंदर नहीं डालूंगा. हम दोनों मुस्कुरा उठे और एक दूसरे की आंखों में काफी देर तक देखते रहे. भाभी कुछ नहीं बोलीं, बस यूं ही अपने मम्मे हिला हिला कर मेरे लंड में आग लगाती रहीं.

वे जाने की कहने लगे तो मैंने कहा- आपके साथ कौन रहता है, कहां रहते हैं?वे बोले- अकेला रहता हूं. सहलाते समय उसका सेक्सी बदन भी हिल रहा था तो मेरा हाथ अब सीधे उसकी चुत पर लग रहा था, जिसे मैं हटा नहीं रहा था और वो भी मना नहीं कर रही थी. पीछे से आशीष मेरे दोनों दूध भी पकड़ कर पूरी ताकत से कसके दबाने लगा.

सेक्सी बीएफ हॉट इंडियन

उसकी छाती ज्यादा मजबूत तो नहीं दिख रही थी लेकिन फिर भी अच्छी लग रही थी. मैं समझ गयी कि इसे आज ये मौका मिला है, अपनी दिल की इच्छा पूरी कर के रहेगा. फिर मैंने अपनी बहन रूपा के मम्मों को मुँह में लेकर चूसना और दबाना शुरू कर दिया.

बीवी की चुत की चुदाई करके इतना काबिल हो गया हूँ कि अब मैं अपनी बीवी को, वो जितनी देर चुदाई करवाती है, उतनी देर तक उसकी चुत की चुदाई कर देता हूँ.

विशाल भाई से बात करने के बाद उन्होंने बताया कि उनकी कंपनी में एक कंप्यूटर इंजीनियर की जगह खाली है.

और वो बाथरुम चली गई।इधर रोहित मेरे पास आकर हाथ जोड़कर बोला- भैया, मैं आपका ये उपकार जिंदगी भर नहीं भूल पाऊँगा।मैं उसे बोला- कोई बात नहीं … जाओ कपड़े पहन लो!और वो अपने कपड़े पहनमें लगा।तब तक संजना फ्रेश होकर आ गई, वो अबकी बार एक लाल रंग की नाईटी पहन कर आयी थी जिसमें उसकी चूची और गांड का उभार स्पष्ट दिख रहा था, वो पूरा फ्रेश दीख रही थी।वो आई और बोली- रुकिये, मैं आप लोगों के लिए कुछ खाने को लाती हूँ. वैसे तो मैं हर किसी की चुत नहीं चाटता हूँ, पर अमीषी की चूत देख कर मुझसे रुका नहीं गया और मैंने धीरे से अपनी जीभ बाहर निकाल कर चूत पर धीरे से नीचे से ऊपर की तरफ फेरी. अंग्रेजी वीडियो सेक्सी हिंदीमैंने सोनू को अपनी छाती से लगा लिया और उसकी टांगें चौड़ी करके अपने हैवी लंड को उसकी चूत के नीचे लगाया.

एक बार तो मैंने ध्यान से उनकी चूत को देखा, फिर कपड़े के ऊपर से उनकी चूत पर अपना मुँह रख दिया. राधिका- राज, मैं चाहती हूं कि तुम अपनी बहन का कुरता अपने हाथों से निकाल कर मुझे दे दो. सरनी के पापा से अपने काम की बात करके मैं वहाँ से जाने लगा तो सरनी की माँ ने मुझे आवाज दी.

पर उसके चार दिन बाद उन्होंने मुझे अपनी बालकनी से देखा तो मुझे आवाज़ लगा कर कहा- गौरव अगर खाली है तो थोड़ा घर साइड आना. साथ ही साथ चूत चुदवाने के उतावलेपन में वह काम भी फटाफट निपटा रही थी.

यह कहते हुए जीजू ने पीछे से ही मेरे दोनों बूब्स पकड़ लिए और मेरी गर्दन पर किस करने लगे.

उसी समय शिल्पा की आवाज आई- निशा सही से सो ना …मैं शिल्पा की आवाज सुनकर उसकी तरफ देखने लगा, पर उसने अपनी आंखें नहीं खोली थीं. मुझे मिनी ने बताया कि नीचे फ्लोर पर एक और रूम बुक है जहां मिनी ने कपड़े बदले हैं. उसकी बुर लाल हो चुकी थी।मेरा फिर से मन डोलने लगा और मैंने उसकी बुर को चाटना शुरू कर दिया।फिर से उसकी बुर में उंगली से चोदा।मेरी इन हरकतों से वो फिर जाग गयी.

सेक्सी हिदी आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी, इसके बारे प्लीज कमेंट करके जरूर बतायें और अगर आप मुझसे मैसेज पर बात करना चाहते हैं तो मेल करें. उसकी एक टांग को ऊपर उठा दिया और दोनों हाथों से पकड़ कर लंड को उसकी चूत पर सेट कर दिया.

इस दौरान मैं सोनू को जगह-जगह पर चूमता रहा, इससे उसको पूरी संतुष्टि मिल गई. भाभी तिरछी नजरों से मुझे देख रही थीं, साथ साथ जब मैं भैंस को आवाज देते हुए सैट कर रहा था, तो भाभी मुस्कुरा रही थीं. वो तो जैसे मेरा ही इंतज़ार कर रहे थे; मेरे भीतर घुसते ही उन्होंने गेट बंद कर दिया और मेरी साइकिल अन्दर रख दी.

बीएफ फुल एचडी हिंदी में बीएफ

अब मेरे पति मेरे दोनों चूतड़ छोड़क़र मेरी साड़ी प्रेस करने लगे और अपना लंड मेरे चुत में अन्दर बाहर करके मेरी चुत चोदने लगे. सोनू बोली- ज्यादा मोटा था क्या?नीरजा बोली- हां यार साले का मूसल जैसा था … जब जब अन्दर जाता … समझो जान ही निकाल देता. फिर पूरे कमरे को झाड़ू लगा कर आंटी ने मुझसे कहा- मैं मुँह हाथ धोने के बाद आकर काम बताती हूं.

काफी देर की घमासान चुदाई के बाद मेरे लंड ने उसकी चूत में अपने वीर्य की गरम पिचकारी मारनी शुरू की. उसके मुख से एक आह निकली- आई ईईई … मादरचोद, बिल्कुल रांड समझ कर ठोक दिया अपना हथियार.

डॉक्टर ने रिया को उल्टा सोने को कहा और कहा कि अपनी टी-शर्ट ऊपर कर दो.

मेरी उम्र 25 वर्ष है, मेरा रंग गोरा है तथा मैं 5 फुट 9 इंच लम्बे कद का हूं. उस समय मेरा दिल जोर-जोर से धड़क रहा था क्योंकि ऐसा हसीन नजारा मैंने पहली बार देखा था. कभी उसके कान, गाल और होंठों को काटने लगा, तो सरिता और मदहोश हो गयी.

उसकी बात सुनकर मैं हंसते हुए सोनल के पास गया और नीचे झुककर उसकी चुत पर किस किया. मैंने पहली बार किसी लड़की की चूची ऐसे अपनी आंखों के सामने नंगी देखी थी. इसके बाद मैं रात में अपने और निक के बारे में सोचती रहती कि उसका लौड़ा कितना बड़ा होगा.

मैं भी उसके सर के बालों को पकड़ कर जोर जोर से उसके मुँह में झटके देने लगा.

बीएफ वाला वीडियो दीजिए: मैंने अपने घर पर कॉल करके बोल दिया कि मैं आज रात अपने दोस्त के घर पर ही रुकूंगा. प्रिया- आअहह … ये मेरी बेस्ट पोज़िशन है … इसी में चोदिए मुझे भैया … आंह.

सर बोले- हां पर क्या करूँ?मम्मी हाथ से उनको छूते हुए बोलीं- अभी तो आप जवान हैं. मेरी गांडू कहानी के तीसरे भागदिल मिले और गांड चूत सब चुदी-3में अब तक आपने पढ़ा कि मेरी बहन शैली भी उपिंदर से चुद ली थी. रात को अब मैं अपने घर पर जाऊं या यहीं रुक कर अपनी चूत की आग विलियम के लण्ड से बुझाऊं … मुझे कुछ सूझ नहीं रहा था.

फिर सुषी के लिए एक रिश्ता आया और उसके घर वालों को रिश्ता पसंद आया और उन्होंने एक लड़के के साथ सुषी का रिश्ता पक्का कर दिया।शादी को सिर्फ 45 दिन ही रह गए थे। एक दिन संडे को मेरी ऑफिस की छुट्टी थी तो मैंने और रवि ने घूमने का प्लान बनाया। मैं सुबह दस बजे उसके घर गया तो मैंने देखा कि आंटी और सुषी कुछ बात कर रहे थे.

फिर मैंने उसकी गांड में एक जोर का धक्का दिया और पूरा लंड जड़ तक अंदर घुसा कर फिर से उसके चेहरे के पास उंगली ले जाकर अपने होंठों पर रख कर समझाने की कोशिश की. अब मैं ये भी समझ गयी थी कि मेरा भाई भी रात में चाची से ही बात करता रहता होगा. आशीष मेरे होंठों को अपने होंठों से चूमने लगा, मेरी सांसें उसकी सांसों से.