इंग्लैंड की बीएफ

छवि स्रोत,सनी लियोनी सेक्स बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

வீடியோ கால் செஸ்: इंग्लैंड की बीएफ, फिर मैंने बातों ही बातों में सुषी से पूछा तो उसने बताया कि जिस लड़के से उसकी शादी होने वाली है वह उसको पसंद नहीं है.

हिंदी फिल्म सेक्सी बीएफ हिंदी

अच्छा! साली … दिन में तो तुझे ये भी पता था कि रस कैसे पीते हैं लौड़े का … अब तेरा काम निकल गया तो पूछ रही है ये सब क्या है! तुम क्या सोच रही हो? मैं तुम्हें यूँ ही थोड़े जाने दूँगा. हिंदी मूवी चुदाई बीएफकरन समझ गया कि मैं झड़ने के करीब पहुँच चुकी हूँ। उसने अपनी बची हुयी पूरी ताकत से धक्के मारने शुरू कर दिया और कुछ ही पल बाद फच्च्ह की आवाज के साथ आआहह हह हहहह… के साथ झड़ गयी और उसे अपने से दूर धकेल दिया और वहीं नीचे बैठ गयी और तेज़ तेज़ सांस लेने लगी।उसने बोला- बस मुझे और झड़ जाने दो प्लीज!मैंने हम्म कहा और खड़ी हो गयी.

फिर नीचे पार्किंग में पहुंच कर मैंने अपनी कार का दरवाजा खोला और रिया को बिठा दिया. बीएफ हिंदी ट्रिपल एक्सउसके बाद मैं उसके पेट पर किस करता हुआ नीचे की तरफ आने लगा और मैंने उसकी लोअर को उतार दिया.

इसके बाद वो बोली- काश तुम्हारे जैसा पार्टनर मुझे मिल जाए, तो मजा आ जाए.इंग्लैंड की बीएफ: मेरी इस हरकत से वो अपना कंट्रोल खो बैठीं और जोर जोर से अपनी कमर ऊपर नीचे करने लगीं.

मेरा पूरा लंड राधिका के मुँह में चला गया था, जिससे मैं धीमे स्वर में सिसकारने लगा था.मेरी और नीता के मिलने की और भी बहुत सी कहानियां हैं, जिन्हें मैं आपको बाद में बताऊंगा.

बीएफ वीडियो सुहागरात वाला - इंग्लैंड की बीएफ

फिर उसने जैसे ही मेरे लंड को अपने मुँह में लिया, मेरी आवाज निकलने वाली हो गई थी.इस पर वो शुरू शुरू में तो कहती रही कि नहीं मैं नहीं आ सकती, नहीं आ सकती.

कल्पना मेरी तरफ ऐसे देख रही थीं, जैसे पूछना चाह रही हों कि इसका क्या करोगे. इंग्लैंड की बीएफ इससे पिंकी भाभी ने ‘आयह अहा आहाहाहा …’ करती हुई बेड की चादर को अपनी मुट्ठी में भर लिया और अपनी आंखें बंद करके चुदाई का मजा लेने लगी.

मैंने खुद पर बड़ी ही मुश्किल से कंट्रोल किया और श्वेता के डांस करने के बाद गेम फिर से शुरू हुआ.

इंग्लैंड की बीएफ?

इसी ख्याल से ही मैं रोमांचित हो गई, इसीलिए चुत पर सिर्फ हाथ रखने से ही चुत ने पानी छोड़ दिया. खैर … हम दोनों सम्भोग की दुनिया में डूबे हुए एक दूसरे को खा जाने की तरह किस कर रहे थे. मेरी यह सच्ची दास्तान आपको कैसी लगी, मुझे इस पर अपनी राय और अपने कमेंट मेरी मेल आईडी पर जरूर दें.

मुश्किल से एक या डेढ़ मिनट ही बीता होगा कि उन्होंने मेरे बाल कस कर पकड़ लिए और काँपने लगीं … और भलभला कर मेरे मुँह में ही झड़ गईं. मैंने कहा- आपको मेरी गर्लफ्रेंड की बड़ी जानकारी है भाभी … वैसे मैं बता दूँ कि अभी तक कोई लड़की मेरी गर्लफ्रेंड बनी ही नहीं है. एक दिन जब दीदी घर से बाहर गयी हुई थी तो हमने मौके का फायदा उठाया और अपनी हवस को पूरी करने की सोची.

वो जोर जोर से सिसकारियां भर रही थी और आंखें बंद किए हुए बोल रही थी- आह … यश आराम से. फिर मार्च 2012 में अच्छी सैलरी मिलने के कारण मैं दूसरे शहर में चला गया. मैंने भी अपनी बहन रूपा के मम्मों को मुँह में लेकर चूसना चालू कर दिया.

वो मुझे इस सोफे से उठ कर दूसरे सोफे पर बैठने को बोल रही थीं ताकि वो इधर झाड़ू लगा सकें. भाभी की टांगें खोल कर मैंने उनकी चूत की फांकों में लंड का सुपारा टिकाया और धचाक से लंड पेल दिया.

कुछ देर रगड़ने पर निशा बोली- यश अब डाल भी दो यार … कितना तरसाते हो तुम!मैंने निशा की चूत पर अपना लंड रख कर हल्के से धक्का मारा.

कल्पना- पैरों की सिकाई करोगे आप?मैं- अगर दर्द पैरों में है, तो पैरों की ही सिकाई कर दूंगा.

अंकल ने दरवाजा खोला, उनके गाल पर शेविंग क्रीम का फोम लगा हुआ था- बैठो नीतू, तब तक मैं शेविंग कर लेता हूँ. उधर मीना जल बिन मछली सी तड़प रही थी, उसे अब भोग चाहिए था, संभोग का भोग! लिहाजा उसने मुझे फिर से अपने ऊपर खींच लिया और अपनी टांगों को फैला दिया जिससे मेरा लन्ड उसकी चूत में जल्दी से जा सके. वो मेरे ऊपर झुक गई, उसने अपने हाथों से अपना एक दूध पकड़ कर निप्पल मेरे मुँह में दे दिया और कहा- लो मेरा दूध पियो.

मैंने रवि से कहा कि मैं सुषी को अपने घर ले जाता हूँ नहीं तो ये दोनों फिर से लड़ाई शुरू कर देंगी. वह कहानी फिर कभी आपको बताऊंगा जिसमें वेलम्मा मेरी दुल्हन जैसी बनकर मेरे ही फ्लैट पर मेरे साथ पूरी रात रही और हम दोनों ने अपनी सुहागरात मनाई. यह मेरा पहली बार का मामला था और मुझसे बिल्कुल भी सब्र नहीं हो रहा था.

उसकी चीख निकलने से पहले ही मेरे मुँह के ढक्कन ने उसकी चीख को दबा दिया.

उनकी गर्म-गर्म सांसें पूरी की पूरी जांघों से होते हुए पैरों पर पड़ रही थीं. तो मैंने भी अपना सर हिला कर उसकी हां में हां मिलाया और मुस्कुराने लगी. आरती को चार बार चोदा है इसने आज … मगर फिर भी दिल नहीं भरा, तुम्हारी चूत के पीछे पड़ा है.

एक दिन उनको बातों ही बातों में बताया कि मैं अब यहाँ से नौकरी छोड़ कर मुंबई जा रही हूँ क्योंकि मेरा भाई वहीं काम करता है और उसने मेरे लिए एक नौकरी खोज ली है. वो अंडकोष पर मलहम लगाते लगाते मेरी गांड के छेद पर अपनी उंगलियां ले जा रही थी. दूसरे हाथ में अभी भी उसका हाथ था और उसके बदन और हाथों का कंपन बता रहा थी कि उसकी भी इच्छाएं जग गई हैं।मैंने उसकी आँखों में भरपूर नज़रों से देखा.

’‘अंकल आप सब इतने प्यारे हैं, आपके लंड इतने खूबसूरत हैं कि देखते ही चूत में गांड में आग लग जाती है.

मम्मी सर से चिपकते हुए बाते करते हुए बोलीं- आपकी वाइफ नहीं है, बड़ी तकलीफ से रात गुजरती होगी. अगले दिन हमारी आंखें मिलीं तो इस बार इन आंखों में एक अलग सा ही अहसास था.

इंग्लैंड की बीएफ इस सेक्स कहानी में मेरी गर्लफ्रेंड की बहन की चुदाई हुई है, जिसको मैंने पूरी रात जमकर चोदा था. आप अपने सुझाव व जवाब मुझे मेल या फेसबुक पर इसी आईडी पर दे सकते हैं.

इंग्लैंड की बीएफ मुझे चूमती हुई उसने एक एक कागज़ दिया और बोली- मेरे जाने के बाद इसे पढ़ लेना. मैं क्या सोचता था इनके बारे में, क्या समझकर इनकी इज्जत करता था मैं … और आज इन्होंने मुझको ये क्या बोल दिया है.

जब मेरा वीर्य सोनू की चूत के अंदर पिचकारी मार रहा था तो सोनू को बहुत आनन्द आ रहा था.

देसी बीएफ भोजपुरी में

मेरी पहली कहानी थीबहन की सास और मेरी माँ से सेक्सयह कहानी मेरी एक मित्र की है. वो बोला- साली कुतिया तू बहुत बड़ी चुदक्कड़ है रे … मादरचोदी ले और चुदवा साली … बोल कितना चोदूं …वो कस कसके मेरी चुत को चोदने लगा. मैं आप सबको एक बार पुनः बता दूं कि मैं वास्तव में घटित हुई घटना को ही लिखना पसन्द करता हूँ! उसका वर्णन करने का मज़ा ही अलग होता है.

बदले में मोनी ने भी अपनी जीभ की हरकत दिखाई और उसने भी मेरा साथ देना शुरू कर ही दिया. अब आगे:जैसे ही आशीष ने अपना लंड का सुपारा मेरी गांड में घुसाने की कोशिश की, मुझे दर्द महसूस हुआ. सुमन की मस्त जवानी, जबरदस्त बोबे और मस्त होंठों को चूसते हुए मैंने सटासट धक्के लगाने शुरू कर दिए और कुछ ही देर में लंड से वीर्य निकल कर उसकी चूत में भर दिया.

अपने ब्वॉयफ्रेंड को बोल देना कि जगह का इंतजाम कर ले और वहां आराम से अच्छे से उसके साथ सुहागरात मना लेना.

मां और बापू खेत गए हैं और भाभी नहाने गयी हैं, थोड़ी देर तो मजे लेने दो ना. मैंने कहा- ओह … अंकल कैसे?तो अंकल ने कहा- बहुत लम्बी कहानी है बेटा … तुमको बताने बैठ गया, तो बहुत समय लग जाएगा और तुमको इतना समय नहीं होगा. हम्म मिल गया!” सर ने कहा और पेपर लेकर हमारे पास आए और हमारे बीच फंसकर बैठ गये- ये लो, जल्दी-जल्दी करो.

मैंने कहा- सॉरी भाभी, आपका नम्बर सेव नहीं था इसलिए मैंने आपको पहचाना नहीं. साली के छोटे मम्मों पर उसके निप्पल पूरे कड़क हो गए थे और चुत एकदम गीली थी. शारदा, क्या तूने कभी किसी को बताया है कि ममता मेरा बीज है?”चाची- इसमें बताना क्या है? इन्हें तो पक्का पता है कि ये तीनों औलादें उनकी नहीं हैं.

मैं तेरे से सिर्फ चुदवाने के लिए ही शादी करूंगी और जोर जोर से डाल दे मादरचोद आशीष … बहनचोद और डाल पूरा लौड़ा … चोद मुझे जमके … और घुसा. वहां उन्होंने मेरा अंडरवियर उतार कर मुझ जमीन पर लिटा दिया व मेरे ऊपर चढ़ बैठे थे.

रिम्पी के मम्मी पापा दोनों लोग जॉब करते थे इसलिए वो बस अपने भाई से बचती थी. मैं उसकी एक चूची को दबाने लगा और उसकी दूसरी चूची को अपने मुँह में लेकर चूसने लगा था. लेकिन धीरे धीरे जब मुझे सेक्स के बारे में पता चलना शुरू हुआ मतलब जब मुझे अपने दोस्तों और पोर्न से जानकारी मिली, तो धीरे धीरे मुझे मेरी मम्मा अब बहुत सेक्सी और हॉट माल नजर आने लगी थीं.

उसकी चूत के ऊपर सहलाते हुए मैं उसकी चूत के छेद पर दबाव बनाते हुए लंड पेलने की कोशिश करने लगा.

मैं कुछ देर के लिए उसके ऊपर ही पड़ा रहा तो कुछ देर के बाद वो शांत हुई. फिर उसी क्रम में मेरा हाथ एक बार उनके मम्मों के पास चला गया, मैंने जानबूझ कर अपना हाथ नहीं हटाया. जिस बाथरूम को विपिन जी यूज करते हैं उसमें बिना बल्ब के कोई नहीं जा सकता.

भाभी बार बार ये देख कर मुस्करा रही थीं, साथ में मैं भी मुस्करा रहा था. तुम्हारे मुंह में ही निकल जाएगा मेरा माल!वह बोली- अगर तुम चूत में निकालोगे तो दिक्कत हो जाएगी.

कोई 20 मिनट के संभोग के बाद सुखबीर ने मुझसे पूछा- सारिका जी क्या आप झड़ने वाली हैं, अगर हों, तो मुझे बता देना. एक रात को मैंने उससे बोला- मुझे तुम्हें किस करना है, कल तुम मेरे रूम पर इस बहाने से आ जाना कि कंप्यूटर में कुछ डाक्यूमेंट्स चैक करने हैं. दोस्तो, मैं आपका अपना दोस्त अरुण एक बार फिर से आप सभी के सामने हाजिर हूँ.

गर्ल सेक्सी वीडियो बीएफ

मैं समझ गया कि मेरी बहन की जवान बेटी भी वही चाहती है, जो मैं चाहता हूँ.

मेरी सेक्स कहानी के पहले भागमामी को रिटर्न गिफ्ट: रसीली चुदाई-1में आपने पढ़ा कि नौकरानी ऊषा के साथ प्लान बनाकर मैंने अपने भोले-भाले पति विपिन को मामी के सामने चुदाई करवाने के लिए कैसे फंसाया था. मैंने उनके बालों पर अपना हाथ सहलाते हुए कहा- हां तो आप बता रही थीं कि जब मैंने आपकी बुर को किस किया, तो कैसा लगा था आपको?एक बार मेरी तरफ देखा और फिर से मुस्कुराते हुए अपना चेहरा छुपा लिया. उसके कुछ पल बाद ही मैंने अपना लंड उसके मुंह से निकाल कर उसकी चूत पर रगड़ना शुरू कर दिया और एक झटका दिया तो लंड सट्ट से चूत में जा घुसा.

धीरे धीरे अब तो ये हालत हो गई थी कि मैं उसके रूम पे एक दो दिन न जाऊँ, तो वह उदास हो जाता और फोन पर कहता कि वो मुझे बहुत मिस कर रहा है. सुबह उठ कर मैंने दोनों दिलिया, सारा और गुलाबो को अपनी कसम दी कि वह मेरे लंड के सूजने और न बैठने की बात खास कर परिवार में किसी को नहीं बताएंगी क्योंकि खानदान के लोग बेकार में फ़िक्र करेंगे. सेक्सी शायरी बीएफमैं- हां ले मादरचोद … तेरी मां की चूतरंडी की औलादभड़वी साली … तेरी मां भी चोद दूंगा भैन की लौड़ी लंड की प्यासी भोसड़ी वाली.

मैंने गुलाबो के नमकीन आंसू पी लिए और उठ कर अपने कपड़े उतारे, अब मैं सिर्फ अंडरवियर में था! मैं गुलाबो के करीब आया और उसके मुंह के पास अपनी अंडरवियर लाया और उसे नीचे कर दिया।गुलाबो ने अपना चेहरे को ऊपर किया, मेरा लंड 8 इंच लम्बा और तीन इंच मोटा था, देख कर वो डर गयी, गुलाबो बोली- यह तो बहुत तगड़ा है, मुझे तो मार देगा. मैं- हाय जीजूजू जू जू जू … उम्म्ह… अहह… हय… याह… यह क्या कर दिया आपने तो मेरी चूत फाड़ दी मार डाला रे मां, प्लीज बाहर निकालो इसे मेरे से सहन नहीं हो रहा मर जाऊंगी मैं!जीजू- शिवांगी, पहली बार ऐसा होता है.

इस पर मैंने कहा- यह सब काम तेरा पति कर देता तो आज तुझे परेशान नहीं होना पड़ता. सोनू से मैंने कहा- अपनी दोनों टांगें चेयर के आसपास फैला कर मेरे लंड को अपनी चूत में लेकर मेरी गोद में बैठ जाओ. मेरे मुँह में पूरा लंड समा ही नहीं रहा था, लंड पूरा मेरे गले के नीचे तक उतर रहा था.

हम दोनों ने एक दूसरे को ओरल सेक्स देने के बाद एक दूसरे को किस किया और उसके बाद चुदाई की कबड्डी शुरू होने की स्थिति बन गई. फिर उसने अपनी गांड हिला कर इशारा किया … तो मैंने बाकी का लंड उसकी चूत में पेल दिया. मैंने उन्हें समझाया कि सेक्स के दौरान शर्म, झिझक नहीं करते, वरना आप सेक्स का पूरा मज़ा नहीं ले पाओगी.

आधा लंड तो आसानी से गांड में घुस गया, तब पूजा ने अपना चेहरा पीछे मेरी तरफ कर दिया और कहा- रुक क्यों गए … पूरा लंड मेरी गांड में घुसा दो ना.

काफी देर सन्नाटा सा रहा; फिर सलोनी बोली- राहुल जो तुम कह रहे हो वो सच है या सिर्फ मेरा दिल रखने को बोल रहे हो?”मैं बोला- मैंने जो भी बोला वो बिल्कुल सत्य है. वहां सोनम, उसकी बड़ी मम्मी की बेटी थी और एक और सोनम की पड़ोस की लड़की थी.

लेकिन तब सामाजिक बंधन इतने मजबूत हुआ करते थे कि पड़ोसन की लड़की को बहन ही मान लेना पड़ता था. फिर दोपहर में हमने खाना खाया और सोफे में बैठी थी और जोन्स रूम में चला गया. ऐसे ही 15 मिनट की चुदाई के बाद मैंने उनकी योनि को अपने कामरस से भर दिया.

मैं- कुछ बोलेंगी भी या शर्माते ही रहेंगी? अगर आप बताओगी नहीं, तो मुझे कैसे मालूम पड़ेगा कि आपको कैसा लगा और जब तक मुझे मालूम नहीं पड़ेगा, तो आगे मुझे क्या करना है, ये कैसे मैं डिसाइड करूँगा. दिशा मेरे पास आई और मैंने उसे अपनी गोद में उल्टा बैठाकर उसके मम्मे दबाने लगा. फिर हम दोनों एक दूसरे से चिपक कर सो गए।यह थी मेरी मौसी की लड़की के साथ मेरी लंड चुसाई की कहानी.

इंग्लैंड की बीएफ वसुंधरा की केले के पेड़ के तने सी चिकनी दोनों टाँगें और घुटनों के ऊपर दो मरमरी दूधिया जांघें, दोनों जाँधों के ऊपरी जोड़ पर छोटी सी, गुलाबी जाली वाली साटन की डिज़ाईनर पेंटी जिस के जाली के बाद वाले गुलाबी साटन के कपड़े में ठीक बीच में से उठे हुए धरातल का एक त्रिभुज का आकार और उसके बीचों-बीच से शुरू होकर एक नीचे की ओर घुमाव लेती एक रेखा … सबकुछ साफ़-साफ़ नुमाया हो रहा था. हमारा बैच लक्की था कि हमें कॉलेज की नई बिल्डिंग और नया हॉस्टल मिला था.

बीएफ चाहिए सेक्सी में

प्रेक्टिकल्स में वो ही सब टेस्ट वगैरह करता था, तो मुझे ज्यादा टेंशन नहीं होती थी. वो मुझे इस नाम से इसलिए बुलाती थी कि सब अपरिचितों के सामने जान कहकर नहीं बुला सकती थी, तो उसने जॉन नाम रख दिया. इस बार उसने मुझे जल्द ही चोद कर लंड झाड़ दिया और हम दोनों का पानी निकल गया.

इससे आगे की कहानी मैं बाद में बताऊँगा कि कैसे शुभी के बॉयफ्रेंड ने मेरी गर्लफ्रेंड श्वेता की चुदाई की. सरिता- नहीं मैं नहीं करूंगी, इसमें से सुसु आता है … ये गंदी जगह है. सेक्सी बीएफ वीडियो दिखानाआख़िर में मैंने भी लास्ट झटके मार के नफीसा की चुत में माल निकाल दिया.

मैंने कहा- अमीषी तुम बहुत अच्छा लंड चूसती हो … कितनों को चूसा है पहले?वो मेरी तरफ देखते हुए बोली- बस एक का.

मैं- अरे मैंने तेरी नहीं चाटी क्या? तुझे मजा नहीं आया क्या? चल अब नखरे मत कर … आजा ले ले मुँह में इसे. मैंने उसकी जांघों पर किस करते हुए उसकी क्लीन चूत को जैसे ही हाथ से मसला तो वो और जोर से सिसकारियां लेने लगी।मैं धीरे से उसकी चूत के दोनों फलकों को अलग करके अपनी जीभ को अंदर डाल कर उसकी चूत को जोर से चूसने लगा। मैं उसकी पूरी गीली हो चुकी चूत के रस को चाट रहा था.

हम दोनों अलग अलग मुँह करके सो रहे थे मतलब उसकी और मेरी गांड आपस में मिल रही थीं. सर्दी थी तो मैंने एक शाल ओढ़ लिया ताकि किसी को पता नहीं चले कि कौन है. मैं उठी और विपिन पर बिगड़ते हुए बोली- चलिये मेरी चूत ने आपको माफ किया.

”नितिन की आवाज से साफ़ लग रहा था कि उनके घर जाने के लिए वो एकदम उत्सुक था.

आज मेरी सासू माँ ने तुमको बुलाया था और मैंने आप दोनों की सारी बात सुन ली है. मैंने मौके को समझा और उसके कंधे पकड़े हुए लंड पर प्रेशर बना कर पूरा जोर से झटका उसकी चूत में दे मारा. मैंने सोनू की चूत में अपना अंगूठा लगाया और उसके क्लिटोरिस को रगड़ते हुए सोनू से पूछा- आज तुम्हारी यह चूत क्या मेरे इस लंड को लेने के लिए तैयार है?सोनू ने कहा- ट्राई करके देखो.

बीएफ मारवाड़ी चुदाईहम पलंग पर लेट गए और गांव की पुरानी बातें करते रहे, दोस्तों को याद करते रहे. नैना ने धीरे से मेरे हाथ पे हाथ रख दिया और बोली- होता है ऐसा!इस हरकत के बाद वो मुस्कराने लगी.

बीएफ सेक्सी फिल्म देवर भाभी की

उसका मुझे पता ही नहीं चला और मैं बिल्कुल नंगे बदन उस अंकल के सामने पड़ी थी. बस दो प्यासों की तरह एक दूसरे की जिस्म की अग्नि को बुझाए जा रहे थे. मुझे पेशाब लगी थी तो मैं रूम से बाहर चला गया, सुसु करके वापस आ गया.

वैसे उसकी लिपस्टिक अब उसके होंठों पर कम … और मेरे होंठों पर ज्यादा थी. अब मैंने उसके सूट से हाथों को बाहर निकाल लिया और अपने हाथ नीचे की तरफ ले आया. कहानी पढ़ कर मुझे ईमेल करके ज़रूर बताईयेगा ताकि अगली बार मैं उस गलती को ठीक कर सकूँ.

लेकिन मैं उनके शरीर को हर तरह से अपनी सांसों और निगाहों में बसा लेना चाहता था. अमर पूरी तरह से पिंकी के ऊपर चढ़ गया और अपने लंड को अपने हाथ से पकड़ कर उसने पिंकी की चुत में सैट कर दिया. जब तक मैं उनके मायके के घर पर रहा, मैंने उनको बहुत बार चोदा और उनको अपनी चुदाई से संतुष्ट किया और उसके बाद मैंने उनको कई बार अपने घर पर भी चोदा और बहुत मज़े किए.

मैं भाभी की तरफ से हरी झंड़ी पाकर एकदम खुश हो गया और उन्हें झट से पकड़ कर वहीं सोफे पर किस करने लगा. अंकल का रंग एकदम गोरा, मोटा सा शरीर, बड़ी बड़ी काली मूछें, चेहरा बिल्कुल फूला हुआ और चमकदार था और वो बहुत प्यारे लग रहे थे.

भाई बहन Xxx स्टोरी के पहले भागमामा की बेटी की अन्तर्वासना जगाई, फिर चुदाईमें आपने अब तक पढ़ा था कि मेरी बहन प्रिया बाथरूम में मेरे साथ नंगी थी और चुदने के लिए मचल रही थी.

फिर बीवी ने अपना दांया पैर मेरे शरीर को लगाकर सीधा कर दिया और बांया पैर बेड के किनारे लंबा कर दिया. सेक्सी बीएफ गंदीशारदा चाची- सन्नी, दोस्तों से ही बातें करता रहेगा या कुछ काम भी करेगा?मैंने मन ही मन सोचकर कहा- चाची आपका तो सारा काम कर दूं आप करने तो दो?मैंने मन की हवस के आवेग से अपने मन की बात चाची के मन तक पहुंचाने की कोशिश की. प्रियंका चोपड़ा का बीएफ पिक्चरमैंने उसके जी-पॉइंट यानि चुत के दाने को हल्के से काटा, तो वो उछल पड़ी. उसके आकार का परिवर्तन मेरी गांड में दस्तक देने लगा था जिससे मेरी नींद खुल गयी.

प्रिया- आआह … आआहह … और तेज भैया … और तेजज … और कस के भैया … और कसके चोदिए … बहुत मज़ा आ रहा है.

जब लौंडिया स्खलित होती है तो उसके हाथ पैर ठन्डे हो जाते और बदन मूर्छित जैसा हो जाता है. वह बोली- तो फिर रोका किसने है?इतना कहते ही हम दोनों ने एक दूसरे के कपड़े उतारने शुरू कर दिये. अब मेरी हिम्मत बढ़ गई और मैंने अपना चेहरा उसके चेहरे के पास ले जाकर हल्की सी किस करके हट गया। फिर भी उसका कोई रिएक्शन नहीं था.

मेरे हाथ पकड़े, ये सब इतना जल्दी हुआ कि मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा था. भाभी मेरी तरफ देख कर बोलीं- आजकल तुम मुझे कुछ ज्यादा ही देखने लगे हो … क्या बात है? क्या गर्लफ्रेंड ने मना कर दिया है. मैंने कहा- इतनी लड़कियां तो तेरे कुनबे में ही होंगी जिनको तुमने चोदा होगा?वह बोला- मैं कुनबे की लड़कियों को छोड़ कर बता रहा हूँ!मैंने कहा- हाय दईया … तब तो तुम बड़े चोदू हो अंकल? लेकिन इतने दिनों तक कहाँ थे तुम?वह बोला- हां मैं विदेश चला गया था। तब तुम छोटी थी। मैं कल ही आया हूँ.

लंड की बीएफ

मन कर रहा था कि बस पूजा आ जाये और उसकी चूत, गांड, मुंह सब के अंदर अपने प्यासे लंड को डालकर अपना पानी उसकी चूत के सूखे खेत में डाल दूँ. निशा बोली- अभी नहीं, शिल्पा को अच्छे से सो जाने दो … अभी ऐसे ही काम चलाओ. मेरे चेहरे को अपने हाथों में लेकर सरनी बोली- आज तुम्हें जो चाहिए, जैसे चाहिए, मैं वैसे करने को तैयार हूं.

बाकी लंड की जरूरत होने पर वो अपने हस्बैंड से बस ढीलापोला सेक्स कर लेती थी.

कमाल की बात ये थी कि इस रगड़न से मुझे उसकी मुलायम गांड का अहसास कुछ ज्यादा ही हो गया था मगर बंदी ने कुछ नहीं कहा.

अगले दिन मैंने जवाब मांगा, तो उसने हां कह दिया, पर साथ मैं कहने लगी कि आप ऊपर मत आया करो, मम्मी को शक होता है. जैसे जैसे संभोग और धक्कों की अवधि बढ़ती जा रही थी, वैसे वैसे हम दोनों की सांसें तेज़ और जोश आक्रामक रूप लेती जा रही थीं. एचडी एक्स बीएफउसकी पिंक पैंटी के ऊपर से ही अपनी उंगली उसकी चूत की दरार में डालने की कोशिश की, जो गीली हो चुकी थी.

मार्केट पहुंच कर भाभी ने सारा सामान ले लिया और थोड़ा बहुत चाट पकौड़ी खा पीकर हम घर के लिए वापस निकल पड़े. आह … क्या एहसास था! उसका थूक और लार भी उस समय मुझे मीठा लग रहा था।एक बार फिर से मैं उसके नंगें शरीर के ऊपर आया और उसको गली देते हुए और उसकी गाली सुनते हुए मैं उसे चोदने लगा. मैंने उसकी चुत पर अपने होंठ रख दिए और उसके चुत के छेद में जीभ घुसा घुसा कर चूसने लगा.

उसने मुझसे कहा- यार प्रवीण, मुझे तुम्हारा इन्तजार करते करते तीन साल हो गए. मेरी पिछली कहानीमुंबई की शनाया की कुंवारी बुर की चुदाईको पसंद करने के लिए आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद.

फिर पिंकी एक हफ्ते यानि सात दिन तक अमर के घर पर ही रुकी और उन दोनों ने इन दिनों में जम कर चुदाई की.

अभी इसके थोड़े दिन पहले करीब चार-पांच महीने पहले हुआ था, जब मैं लेट्रीन करने अपनी कजिन सिस्टर के साथ गई थी. अन्तर्वासना पर चुदाई की कहानी के शैदाई सभी पाठक दोस्तो, मेरा नाम निशा है. लेकिन मैं रुका नहीं और उसकी आँखों से आंसू निकलने लगे और मैं कुछ देर की चुदाई के बाद उसकी चूत में ही झड़ गया और सुषी के नंगे बदन पर लेट गया.

बीएफ वीडियो कुंवारी लड़की भाभी का सर मेरे कंधे पर था और मैं धीरे धीरे उनके पूरे पेट औेर कमर पर हाथों से रंग लगा रहा था. मेरे इतने तेज धक्कों के बाद भी संगीता के चेहरे पर एक मस्ती सी चढ़ती जा रही थी.

’शैली बोली- क्यों अंकल, एक और राउंड करना है?‘नहीं शैली … मैं तो नहीं, पर पापा के जन्मदिन पे बच्चों को भी तो मज़ा आना चाहिए … क्यों मालिनी?’‘हाँ जी ज़रूर. हम दोनों कुछ ही दिनों में अब स्टूडेंट और टीचर नहीं रह गए थे, आपस में दोस्त बन गए थे. उन दिनों मैं छुट्टी में घर आया था तो मैं अपने घर की छत पर धूप में बैठा था.

बीएफ सेक्सी होली

खैर जब मैं नहीं रह पाती लंड के बिना … तो बेचारी मामी कहाँ रह पायेंगी. वाह … क्या मजा आ रहा था यार!मैं बहुत गरम हो चुका था और अब मैं उनकी गांड मारना चाहता था. मैंने सोनू के दोनों चूचों को अपने हाथ से दबाया और एक झटके में पूरा लंड अंदर बैठा दिया.

बाद में कल्पना ने बताया कि नेक्स्ट टाइम वो अपना अधूरी फैंटसी पूरा करना चाहेंगी. फिर क्या था … हम दोनों 69 के पोज में आ गए और मैं अपनी मम्मा सौम्या की रसीली चूत को चाटने लगा.

डाक्टर ने फिर से कहा- शर्माओ मत, डाक्टर और वकील से कुछ भी मत छुपाना चाहिए.

हम पलंग पर लेट गए और गांव की पुरानी बातें करते रहे, दोस्तों को याद करते रहे. परन्तु मैं वर्जिन साली की बुर फ़ाड़ूँ … तो कैसे?तभी मेरी पत्नी ने अपनी छोटी बहन से कहा- ऋतु, हाथ पांव धो लो. उसने मेरे टॉप को पकड़ा और एक झटके में उतार के फेंक दिया और नीचे झुक कर मेरी लैगी भी निकाल दी.

मैंने दिलिया को सहलाया उसका निचला ओंठ चूसा तो दिलिया की चुत का छेद वापस सिकुड़ गया था. दो तीन बार उसने ऐसा किया और फिर मुझसे बोली- अब तुम मुझे अपना माल का टेस्ट दो. ननद के घर पहुंचने के बाद पिंकी ने अमर के लिए, हॉस्पिटल में ले जाने के लिए अमर की मां और अपनी ननद के लिए खाना बनाया.

तब उन्होंने मुझसे पूछा- उसके परिवार में कौन कौन है?तब मैंने बताया- वो अपने माता पिता का इक्लोता लड़का है और वो मेरे लिए मेरा सगा भाई है.

इंग्लैंड की बीएफ: ”जान एक काम करो ना … तुम पूरे कपड़े उतार क्यों नहीं देती … और फिर मुझे याद करके चालू हो जाओ … हा हा हा …”तुम्हें मस्ती सूझ रही है … खुद तो एसी में बैठे हो … और मुझे नंगी बैठने को बोल रहे हो … और क्या करूँ नंगी हो कर? तुम आओगे क्या अभी?”काश आ पाता … पर वर्क लोड बहुत है न … तुम अपनी उंगलियों को ही मेरा लंड समझ कर मिला दो न अपनी मुनिया से. इमरान झट से मान गया और मैंने उसी दिन दिलिया और ज़रीना से भी निकाह कर लिया.

कहानी के पिछले भाग में आपने पढ़ा कि मेरी पत्नी रीना के घर वापस आने से पहले ही प्लान शुरू हो चुका था जिसके मुताबिक विक्रम अपनी बीवी वीणा को होटल लेकर चला गया था. उम्म्ह… अहह… हय… याह… ये देख कर दीपक अंकल ने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दी. करीब 10 मिनट के बाद उसने मुझे नीचे उतारा और फिर से पलंग में फेंक दिया और मुझे पेट के बल लिटा दिया.

ऊपर वाले से बस यही दुआ करता था कि जल्द से जल्द कोई आइटम चोदने को मिल जाए.

मैंने बहुत नर्मी से अपने लिंग पर दबाव बढ़ाया, तत्काल वसुन्धरा के चेहरे पर पीड़ा की लक़ीरें उभरी. मैं बोला- साली रंडी नाटक मत कर, चुपचाप करने दे … साली लंड का मज़ा ले और चुत का मजा दे. मैंने सरिता को उठाया और खड़ा कर दिया, फिर उसे अपनी बांहों में कस लिया.