ब्लू एचडी बीएफ

छवि स्रोत,गावठी सेक्सी विडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

चूत चुदाई वीडियो हिंदी: ब्लू एचडी बीएफ, लंड का पानी जब चाची ने मुँह में ले लिया, तब मैं चाची के ऊपर ही निढाल होकर गिर गया.

मराठी भाषा सेक्सी फोटो

देसी सेक्सी गर्ल हिंदी कहानी लाहौर की एक ताजी खिली लड़की की है जिसे अभी माहवारी शुरू हुई थी. सेक्सी वीडियो बीपी पिक्चर देसीअब मैंने उसके एक दूध के निप्पल को चूसना शुरू किया और वो मस्त होकर अपने हाथों से मेरे सर को अपने मम्मों पर दबाने लगी.

न्यूड आंटी सेक्स कहानी में पढ़ें कि हमारे पड़ोस में एक परिवार किराए पर आया. सेक्सी सेक्सी सेक्सी हिंदी पिक्चरफिर मैंने एक प्लान बनाया और छुट्टी के दिन उस इंस्टिट्यूट पर बुलाया.

कुछ देर तक मेरी चूत में जीजू का लंड घुसा रहा और जीजू मेरे बदन से खेलते रहे तो मेरा दर्द कम हो गया और मेरी रुलाई भी बंद हो गई.ब्लू एचडी बीएफ: मैंने कहा- दूध पिलाओगी?वो खुल कर बोली- चूत भी पिलाऊंगी, आप आओ तो!मैंने कहा- फाड़ दूंगा.

मैं सीधा जाकर बिस्तर पर गिर पड़ा और वो अपना सामान ठीक करने में व्यस्त होने लगी.उनके जाने के बाद मैंने भाभी को देखा तो भाभी ने दरवाजे बंद किए और मेरे पास आकर मेरे लंड को सहलाने लगीं.

हिंदी भजन सेक्सी - ब्लू एचडी बीएफ

मैंने देखा कि राजवीर सोफे पर चुपचाप बैठा हुआ हमारी लाइव चुदाई देख रहा है और अपनी पैन्ट की ज़िप खोल के लण्ड को बाहर निकाल कर हिला रहा है।मैं बोला- भोसड़ी के, क्या कर रहा है ये?वो बोला- तुम्हारी चुदाई देख के रहा नहीं गया यार … मेरा भी मन कर रहा है।मैं बोला- मेरा हो जाये तो तू भी कर लेना।राजवीर बोला- इतना टाइम नहीं है.मैंने पलट कर देखा तो ये वही लड़की थी जो मेरे तम्बू पर नजर लगाए हुए थी.

भैया ने करीब 20 मिनट मेरी धकापेल चुदाई की और हम दोनों एक साथ झड़ गए. ब्लू एचडी बीएफ करीब बीस मिनट तक बहन की चूत चोदने के बाद मेरा पानी निकलने वाला हो गया था.

वीडियो कॉल में मेरे नंगे जिस्म को देख उनका तो पहले से ही बुरा हाल था और मैं भी उनके जैसे हट्टे-कट्टे मर्द से चुदाई के लिए बेकरार थी.

ब्लू एचडी बीएफ?

मुझे टेबल कोहनी पर चुभे न, इसलिए सोफे के कुशन मैंने कोहनी के नीचे रख लिए थे. शायद वो भी इस बात को जानती थी कि जब भी शॉप के बाहर झाड़ू लगाने या रंगोली बनाने के लिए झुकती है, तो आजू-बाजू की दुकान वाले और बहुत सारे लोग उसकी मोटी गांड देख कर अपनी आंखें सेंक रहे हैं. कुछ मिनट के बाद वो अन्दर आकर बोली- अब कोई दिक्कत नहीं है, तुम आराम से बाहर जा सकते हो.

छोटे-मोटे दचकों से उसके हाथ आगे-पीछे ऐसे होते, जैसे कोई मेरी जांघों को सहला रहा हो. फिर कोमल रोड पर लाकर मुझसे बोली- अब जहां मुझे ले जाने वाले थे, वहीं ले चलो. वो बोले- जान, चूत बस एक बार फटती है बार बार नहीं, इस बार तुमको अलग ही मजा आएगा.

सहसा मुझे याद आया कि चिकनाई पर्याप्त नहीं होगी तो उठकर टेबल पर से वैसलीन जैली को उठाया और लंड पर कायदे से लगाने लगा. मैंने कहा- चाची, तुम नंगी ही बाहर क्यों गई थीं, मम्मी देख लेतीं या नीचे बुला लेतीं तो?चाची बोलने लगीं- राज, तेरी इतनी गांड क्यों फटती है? मैं जानती हूं जीजी को … वो नहीं बुलातीं और मैं बाहर जाकर बात नहीं करती, तो फिर वो जरूर ऊपर आ जातीं. लगभग 2 महीने बीतने के बाद भैया ने बोला- तेरी भाभी को मायके जाना है.

एक शनिवार को हम दोनों शराब पीते समय आगे की जिंदगी में क्या करना है, इस पर चर्चा करने लगे. उधर वॉशरूम से निपट कर जब मैं कमरे में पहुंचा तो वहां का नजारा ही कुछ अलग सा था, पोर्न क्लिप की आवाज़ सुनाई दे रही थीं.

उधर साक्षी मेरे लंड को अपनी चूत में रख कर उस पर अपनी कमर हिलाकर लंड की रगड़ से चूत की खुजली मिटा रही थी.

मगर मैं समझ गया था कि चाची ने पैंट के ऊपर से मेरे लंड पर हाथ लगा दिया है.

जल्द ही कविता ने अपनी उंगली अपनी चूत में डाल दी और उंगली से ही अपनी चूत की चुदाई करने लगी. मुझे लगा कि उस दिन तो बस पाद निकली थी लेकिन कहीं आज टट्टी ही ना निकल जाए. क्या मस्त चूत थी उनकी … चूत पर हाथ फेरते ही मेरा लंड लोहा हो गया था.

ये कह कर बुआ घुटनों पर बैठ गईं और मुझे खड़ा करके मेरे लंड को लॉलीपॉप की तरह चूसने लगीं. मोहित ने कहा- अरे माँ चुदाने गयी ऐसी दोस्ती, जिसमें गांड मरवानी पड़े. जिसे मैं 15 मिनट पहले जानता भी नहीं था, उसकी बात मानकर उसके घर जा रहा था.

मुझे उसके साथ किस करने में बहुत मज़ा आ रहा था तो मैं भी उसका पूरा साथ दे रही थी.

मैं समझ गया और मैंने उससे फिर से कहा- तुम बहुत ही हॉट सेक्सी खूबसूरत हो. उसने कहा- तुम भी तो मुझे ऐसी नजर से देखते हो?मैंने कहा- नहीं, वो तो मैं बता रहा था कि तुम कैसी लगती हो. वह दो बच्चों की मां थी पर दिखने में लगती थी कि अभी अभी जवान हुई है.

वो जैसे जैसे मेरे लंड पर बैठ रही थी, मेरा लंड साक्षी की वर्जिन ऐस के छेद को चीरता हुआ अन्दर जा रहा था. पहले वाले पैग से दूसरे वाले पैग में व्हिस्की ज्यादा थी, तो एक ही गिलास में मेरी बीवी तो बिल्कुल टुन्न हो चुकी थी. मैं भी उससे मिलने के लिए बहुत एग्ज़ाइटेड था और वो भी!वो दिन आ ही गया, सब तैयारी करके मैं उससे मिलने चला गया.

वो बोले- अरे नहीं, ऐसे हर किसी के साथ बच्चे पैदा करता रहूँगा तो पाकि स्तान में चलने फिरने की जगह भी नहीं बचेगी.

भाभी जी ने नमस्ते स्वीकार की लेकिन शायद भाभी जी को मेरे द्वारा भाभी जी कहना पसंद नहीं आया. मैंने चाची की हवा में उठी दोनों टांगों को पकड़ा और दे दनादन चोदने लगा.

ब्लू एचडी बीएफ जब चाचा चाची मूवी देखने चले गए तो मैं उसके पास आ गया और उससे उसकी पुरानी बातें करने लगा. पर दिक्कत ये थी कि सैट किसे और कैसे करूं?पूरे कॉलेज में हर लड़की किसी न किसी के साथ भिड़ी हुई थी.

ब्लू एचडी बीएफ एक पैग के बाद तापोश ने दूसरा पैग बनाकर नीना को अपनी गोद में बिठाया और अपने गिलास से नीना को व्हिस्की पिलाई. तब मैंने देखा कि आंटी थोड़ी भीगी हुई थी मानो तुरंत बाथरूम से निकली हों नहा कर!जो कपड़े वे फैला रही थी, वे बहुत गीले थे इसलिए कपड़ों का सारा पानी उनके बदन पर और साड़ी में गिरा हुआ था.

मैंने बात की तो पता चला उनके पति आ गए थे इसलिए पहले कॉल कट कर दिया था.

आदिवासी सेक्सी मारवाड़ी वीडियो

मैं तो चादर में लिपटा हुआ था लेकिन शबाना को जन्मजात नंगी देखकर वह सब कुछ समझ गई- ये क्या किया तुमने?शबाना को कोई जवाब नहीं सूझ रहा था इसलिए चुपचाप मुँह लटकाकर बैठ गई. ये देख कर मैंने अपनी उंगली जोर से अन्दर तक डाल दी, जिससे उसकी आह निकल गई और आंखें खुली की खुली रह गईं. पटियाला सलवार मेरी कमर पर एकदम से कसी हुई फिटिंग वाली थी जिससे मेरे नितंब बहुत ही सेक्सी और बड़े दिख रहे थे.

मेरी मॉम की चूचियां बहुत ही मस्त थीं और आज मैं मॉम की चूचियों का सारा रस निचोड़ लेना चाहता था. मैंने उनके एक निप्पल को मुँह में भर लिया और उसे खींच खींच कर चूसने लगा. ऐसे मैं एक दिन मैंने रोते रोते अपनी आपा से कह दिया कि मुझे शादी नहीं करनी.

उस घटना के बाद मैं बहुत खुश था क्योंकि अब मैं एक चोदू मर्द बन गया था और बिना शादी के एक बच्ची का बाप भी.

नीना, तापोश अपने दोस्त के फार्म हाउस जाते और दिन भर ग्रीन हाउस में सब्जी उगाना सीखते. फिर मेडिकल स्टोर जाकर 5 कंडोम के बड़े वाले पैकेट लिए और सेक्स की गोलियों की एक पूरी डिब्बी ले ली. वो नीचे झुक कर मेरे लंड को हाथ से पकड़ कर सहलाने लगीं और उसे मुँह में लेकर आराम आराम से चूसने लगीं.

हमने आपस में असली सेक्स कैसे किया?दोस्तो, मैं आप सबकी कोमल मिश्रा अपनी एक और सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ. क्या हम आज भी बस एक दूसरे को निहार कर ही अपने अपने घर वापस चले जाएंगे. जब उसकी गांड थोड़ी ढीली हो गई तो उसकी गांड में मैंने पास में रखा हुआ नारियल का तेल डाल दिया.

कुछ पल बाद जब मेरा दर्द कम हुआ तो मैंने अपनी कमर हिलाई जिससे समीर को समझ आ गया कि अब मैं चुदाई के लिए तैयार हूं. मेरी अम्मी रोने लगी तो जलालुद्दीन आलिम ने कहा- घबराओ मत, इधर अच्छे अच्छे जिन्नातों को पेला गया है.

फिर उसने धीरे से मेरे लंड पर हाथ फेरा और पैंट में हाथ डाल दिया जिससे मैं मदहोश हो गया. उसने उस समय बस ऊपर कमीज़ ही पहनी थी, जिससे उसके बूब्स के बीच की लाइन काफ़ी अन्दर तक दिख रही थी. मैंने उसकी लेगिंग्स की इलास्टिक को उसकी कमर के नीचे घुटने तक खिसका दिया.

फिर उसने मेरे माथे को चूमा और मुझे दोबारा से अपने आप से अलग कर दिया.

मैंने उनकी गांड पर थूक लगाकर झटके से पूरा लौड़ा घुसाया और ताबड़तोड़ चुदाई शुरू कर दी. मुझे आंटी की चूत की वीडियो या फोटो निकालने का मन था लेकिन ऐसा हो नहीं पाया. कुछ देर बाद मैंने उसके ब्लाउज के बटन खोलना चाहा, तो उसने मना कर दिया.

मैंने कुछ देर वहां अपना हाथ रखा और फिर आगे बढ़ने का मन बनाते हुए थोड़ा दबाया. मैंने सोचा कि घर नजदीक ही है तो फटाफट पहुंच जाऊंगी लेकिन आते आते पूरी भीग गयी.

साक्षी ‘आह इस्स…’ करने लगी और मेरे मुँह में साक्षी की चूची से दूध की धार आने लगी. उसकी बुर चुदाई मैंने कैसे की?मैंने अपनी नौकरानी को चोदकर उसके कैसे मजे लिए, इस सेक्स कहानी में आपको मैं यही बताने वाला हूँ. उन्होंने सफ़ेद रंग की ड्रेस पहनी हुई थी और वो पसीने से भीगी हुई थीं.

देहाती किन्नर सेक्सी वीडियो

वो इतनी जबरदस्त तरीके से चूत को लंड पर घुस रही थीं मानो आज लंड के साथ मुझे पूरा ही अपने अन्दर भर लेंगी.

मैंने उनसे कहा- किसे गरिया रहे हो भैया?वो बोले- अरे ऐसे ही वो एक लौंडा हरकत कर रहा था. उनकी मेहनत रंग लाई और थोड़ी ही देर में मेरा लंड फिर से खड़ा हो गया. फिर सलीम ने मुझे सीधी करके मेरी दोनों टांगें ऊपर उठाकर अपने कंधों पर रख लीं और अपना लौड़ा मेरी Xxx गांड के अन्दर फंसाकर जोर जोर से झटके देने लगे.

मैं कोमल के हाथों को खोलकर उसके ऊपर लेट गया, जिससे मेरी छाती के बाल कोमल पीठ से रगड़ कर मस्ती करने लगे थे और मेरा लंड कोमल की गांड के दरवाजे पर दस्तक दे रहा था. मैंने उनसे उनके लंड की फोटो मांगी तो भैया ने मुझसे भी मेरी चूत और चूचों की फोटो मांग ली. सेक्सी गर्ल वीडियो इंग्लिशतभी आंटी ने एकदम से मुझे उनके‌ दूध देखते हुए देखा और उन्होंने ये भी देखा कि बिना‌ ब्रा के उनके निप्पल ऊपर से ही दिख रहे हैं.

उसके चूचों को एक साथ मिलकर दोनों निप्पलों को एक साथ चूसने लगा और एक भूखे बच्चे की तरह उसके निप्पल को दांतों से चुभलाने लगा. जैसे ही मैं पहुंचा, आंटी ने सीधा शॉल के अन्दर मुँह डाल कर बोला कि कोई इधर आए तो मुझे बता देना और वो नीचे होकर मेरे लंड को चूसने में लग गईं.

थोड़ी देर बाद मुझे अहसास हुआ कि उसका हाथ मेरी जांघों के जोड़ की तरफ बढ़ रहा है. उसने कहा- मैं हमारी शादी की बात नहीं कर रही, मैं तो तुम्हारे लंड और मेरी चूत की शादी की बात कर रही थी. मैंने कहा- आज तो आपका लण्ड किसी मूसल जैसा लग रहा हैजलालुद्दीन साहब धक्के मारते हुए बोले- ये सब तो अंग्रेजी दवाओं का कमाल है, इसी कारण तो आज तेरी गांड के चीथड़े हो रहे हैं.

मैंने नीचे आकर उनकी फुद्दी पर हल्का सा किस किया और अपना लंड उनकी चूत में घुसाने लगा. मैंने कई लड़कियां चोदी हैं, पर उसके बाद और पहले मैंने कभी ऐसी गुलाबी चूत नहीं देखी. और थोड़ी देर में मैडम भी क्लास में आ गयी।जहाँ उन्होंने मम्मी को मेरे नंबर बता दिए.

आज उसकी दुकान में उसका पति और माधुरी की दुकान के बगल में रहने वाली उसकी दो सहेलियां थीं.

फिलहाल इस कॉलेज स्टूडेंट पोर्न कहानी के लिए आपके मेल का इन्तजार रहेगा. मैंने चाची को उठाकर घोड़ी बना दिया और चूत में लंड लगाकर जोर से धक्का लगा दिया.

फिर अपने लंड का टोपा मेरी Xxx गांड के छेद पर रखकर उसे अन्दर धकेलने लगे. वो मेरे ऊपर आ गई थीं और मुझे अपने नीचे दबा कर चुदाई करती जा रही थीं. उसने कहा- तुमने बताया नहीं, आज मैं कैसी लग रही हूँ?मैंने कहा- तुम तो हमेशा से सुन्दर लगती हो.

वो दिखने में बहुत हैंडसम और 6 फुट की हाइट के हट्टे-कट्टे मजबूत मर्द थे. मैंने उसका पेटीकोट कमर तक किया और उसकी हरी सूती पैंटी को नीचे खींच लिया. चाची ने मेरे लंड को मुँह से बाहर निकाला और बोलीं कि कब तक मुँह में देकर रखेगा … अब तो चोद दे मेरी तीती को?मैंने कहा- साली जब तक मेरा माल नहीं निकल जाता, तब तक लंड मुँह में ही लेती रह!ये कह कर मैंने फिर से अपना लंड उनके मुँह में डाल दिया और चाची भी ज़ोर ज़ोर से लंड को चूसने लगीं.

ब्लू एचडी बीएफ उन्होंने दोनों हाथों से बालों का जंगल हटाया और मेरी गुच्छी को जोर से सूंघा और बोले- जिन्न की खुशबू आ रही है. अब मैं यह जगह छोड़ कर नहीं जाना चाहती थी बल्कि हमेशा के लिए इधर ही बस जाना चाहती थी, अपने प्यारे सेक्स लव जलालुद्दीन की बाहों में अपनी जिंदगी गुजारना चाहती थी.

आदिवासी सेक्सी दिखाना

जीजा साली आज अपनी चुदाई को रस्म पूरी करने के लिए बिल्कुल अकेले रह गए थे और एकदम निडर होकर एक दूसरे में समा जाने को आतुर भी. ये सब सुनकर मेरे अन्दर की औरत और भी मदहोश हो उठी और मैं भी उन्हें जी भरके किस करने लगी. थोड़ी देर तक जब उसने कोई हरकत नहीं की, तब मैंने अपना हाथ उसके दूध पर रख दिया.

अब हम दोनों अपना सामान चढ़ा कर टैक्सी में बैठ गए और टैक्सी गोवा की तरफ चल पड़ी. मैं ऐसे ही नंगा उठ कर किचन में गया और फ्रिज से मक्खन की कटोरी लेकर आ गया और भाभी की चूत में लगा कर उसे मलने लगा. मसाज सेक्सी व्हिडिओमेरे दिमाग में हर समय चुदाई के लम्हों की याद आती थी, बार बार मेरी चूत में चूल उठती थी जिसको मिटाने के लिए मैं हर पर जलालुद्दीन के बदन के नीचे लेती रहना चाहती थी और उनसे लगातार चुदाई करवाना चाहती थी.

दिल में तो खलबली सी मच उठी थी कि आखिरकार मैंने इस सुंदरी के नग्न रूप के दर्शन कर ही लिए.

मैंने ऐसे ही कुछ मिनट तक साक्षी की गांड में अपने लंड को अन्दर बाहर पेलता रहा. तभी मैंने देखा कि एक लड़का जिसका नाम अमन था, वो आयेशा को रंग लगा रहा था.

उसके सुर्ख होंठों को अपनी उंगलियों से टच करते हुए मैंने अपनी एक उंगली को कोमल के मुँह में डाल दी. मैंने कहा- ठीक है, मैं तुम्हें चोदने के लिए अपने कुछ नए साथियों को बुला लूंगा. आपको मेरी यह सच्ची दो चुत दो गांड की चुदाई कहानी अच्छी लगी या नहीं? मुझे जरूर बताएं.

मैं डर गयी और भैया को मना करने लगी पर वो बोले- आज नहीं चुदेगी तो शादी के बाद तो चुदाई करेगी ही, तो आज ही क्यों नहीं.

कॉलेज गर्ल बट्ट सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि मेरी क्लास की एक लड़की के चूतड़ मुझे पसंद आ गये. चूत खुल कर सामने आई तो मैंने उसकी चूत को अपनी उंगलियों से सहलाना शुरू कर दिया. ये देख कर पहले तो मेरी झांटें सुलग गईं कि दूसरी खटिया की क्या जरूरत थी.

एनिमल्स सेक्सी व्हिडिओदूसरे दिन जब हम लोग घूम के होटल वापस आ रहे थे तभी रास्ते में एक कुत्ता और एक कुतिया अपना माहौल बनाए हुए थे. यह कहकर मैंने आयशा को फिर से इशारा किया तो अबकी बार आयशा 4 मोमबत्ती ले आयी.

ओपन सेक्सी पिक्चर लावा

लेकिन खुले में यह सब करना हमें पकड़वा देता … इसलिए मैंने उसको मेरे कमरे में जाने को बोल दिया और खुद स्टोर रूम का दरवाजा बाहर से बंद कर दिया ताकि सुधा बाहर आ ना सके।जब मैं अपने कमरे में गया तो देखा कि वहां पर तो एकदम अलग ही नजारा है. मैंने उनके मम्मों को अपने हाथों में थाम लिया और उन्हें जोर जोर से दबाने लगा. कुछ दिन बीतने के बाद भाभी की मम्मी को कॉल आया कि भाभी के मामा की तबियत खराब हुई है और उनको बुलाया गया है.

फिर उसके पेट के नीचे दो तकिए रखकर उसकी गांड को थोड़ा पोजीशन में लाया. मैं मस्ती करते करते कभी उसके बूब्स को हाथ लगा देता, तो कभी उसके ऊपर लेट जाता, तो कभी उसके बूब्स ही दबा देता. उनको देख कर मुझे उनकी रात वाली हरकतें याद आ गईं और मैं मुंह छुपकर उनके लिए पानी लेने चली गई.

पहले मैंने उन दोनों को मजा दिया, फिर उन्होंने मिल कर मेरे साथ फोरप्ले करके मुझे आनन्द से भर दिया. मैंने सोचा कि जब ये खुद ही अपने मम्मे दिखा रही है तो क्यों ना इसका फायदा उठाया जाए. उसकी मादक सिसकारियां मुझमें जोश भर रही थीं ‘उम्म्म आ आ आ उऊँ आह …’दस मिनट की चुदाई के बाद मैंने उसको घोड़ी बनने को कहा.

कोई लड़की अगर मेरे लौड़े को एक बार देख ले, तो बिना चुदे उसका मन ही ना माने. अर्चना का चेहरा बिल्कुल ठीक मेरी आंखों के सामने था, मेरी और उसकी आंखें एक दूसरे दिन मिल चुकी थीं.

फिर वो दबी और घुटी हुई आवाज में बोली- आह मर गई … काफी गर्म और कड़ा है.

तो मैडम ने मुझे मम्मी को बुलाकर लाने को कहा।उस दिन के बाद मैं दो दिन तक स्कूल नहीं गया और न ही मम्मी को मैथ्स के नंबर बताये।उसके बाद मैं शनिवार को स्कूल गया तो स्टाफ रूम के बाहर से ही मैडम ने मुझे रोक लिया. हीरोइन की सेक्सी वीडियो कॉमअगर तू गांव जाएगी, तो न तेरी पढ़ाई हो पाएगी और न ही तेरे भैया के लिए खाना बनाने वाला कोई रहेगा. गुजराती सेक्सी वीडियो डब्लू डब्लूकुछ देर में जीजू कमरे में घुसे और उन्होंने दरवाजे खिड़की अच्छे से बंद कर लिए. धीरे धीरे माधुरी की भरी हुई जांघों में फंसी हुई पतली सेक्सी काले रंग की पैंटी निकली तो मैंने देखा माधुरी की चूत एकदम मस्त फूली हुई थी.

इससे बुआ की फिर से आवाज निकल गई ‘ऊईईई ऊईईई राज प्लीज़ साले धीरे चोद भोसड़ी के … मैं मर जाऊंगी …’लेकिन अब मैं कहां मानने वाला था, मैंने अपने धक्कों की रफ़्तार और बढ़ा दी.

ऐसे मैं एक दिन मैंने रोते रोते अपनी आपा से कह दिया कि मुझे शादी नहीं करनी. मेरे लिंग की बात करें तो मेरा लिंग 7″ लम्बा और 3″ मोटा है।आपको मैं अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में बताता हूं. माधुरी भी मेरे वीर्य की एक एक बून्द गटक गयी और साथ ही साथ उसकी चूत ने भी रुक रुक कर मेरे मुँह में अपने गर्म गर्म रस को छोड़ना शुरू कर दिया था.

बिना समय गंवाए मैंने शबाना की दोनों टांगों को फैलाया और होंठ चूत पर रखकर चाटने लगा. वो उफ्फ … अहह … अह … की मनमोहक आवाजें निकालने लगी जिससे मुझे और मजा आने लगा. पहले मैंने उन दोनों को मजा दिया, फिर उन्होंने मिल कर मेरे साथ फोरप्ले करके मुझे आनन्द से भर दिया.

da सेक्सी वीडियो

इनमें सबसे ज्यादा खूबसूरत चाची की बेटी थी क्योंकि वो भरी हुई गदराये बदन की मालकिन थी, रंग गोरा … एकदम माल लगती थी. इसके अंत में मैं आपको अपनी फेसबुक आईडी का लिंक दूंगा, आप वहां पर भी अपनी प्रतिक्रया दे सकते हैं. मुझे लंड चूसने में काफी मजा आया था और वीर्य का स्वाद भी मस्त लगा था.

चाची जब तक सम्भल पातीं, मैंने एक तगड़ा धक्का दे मारा, जिससे मेरे लंड का टोपा अन्दर घुसता चला गया.

उस घटना के बाद मैं बहुत खुश था क्योंकि अब मैं एक चोदू मर्द बन गया था और बिना शादी के एक बच्ची का बाप भी.

वो भी मुझे यूं अनायास आया हुआ देख कर शर्मा गई और अपने आपको ढकने लगी. अगले पल मैंने एक और धक्का लगाया, चूत के चिपचिपे पदार्थ और वैसलीन जैली की चिकनाहट से मेरा आधे से ज्यादा लंड शबाना की चूत में पेवस्त हो गया था. सेक्सी पेपर हिंदीजलालुद्दीन आलिम बोले- इतना खूबसूरत और रसीला बदन होगा तो जिन्न तो कब्ज़ा करेगा ही!और फिर मेरी गुच्छी में जीभ से जिन्न ढूंढने लगे.

इससे वो बेहद छटपटा रही थी और बेड की चादर को पकड़ कर नीचे से अपनी गांड को उछाल रही थी. बस यही बात थी कि मेरे मुँह से निकल गया- कमाल की माल लग रही थीं, तुम्हारी लाल साड़ी में तुम एकदम सेक्स की देवी लग रही थीं. अब आगे सगी चाची की गांड फाड़ चुदाई:मैंने लंड को चूत से बाहर निकाला और चाची के हाथों को खोल कर उनको बेड पर सीधा लेटा दिया और उनकी टांगों को ऊपर उठा कर फैला कर उनकी चूत का रस पान करने में जुट गया.

हमने एक फ्लैट किराए पर लिया हुआ था जिसमें मैं, वो और एक अन्य लड़की साथ में रहती थी. वो मुझे पसंद करने लगी थी और मैं तो उसकी जवानी का रस चूसने के लिए व्याकुल था ही.

मीना दिखने‌ में साधारण थीं लेकिन उनकी मोटी गांड और भरी हुई 34 नाप की चुची ‌‌देख कर मेरी नियत खराब हो गई और मैं देसी आंटी की चुदाई की ‌सोचने‌ लगा.

फिर मैं मॉम को बोलने लगा- साली कुतिया सीमा, बहुत आग है ना तेरी चूत में … आज मैं तेरी चूत चोद चोद कर तेरी चूत का भोसड़ा बना दूंगा. उसने मेरी पैंटी को खींच कर उतार दिया।वो मेरी जांघों पर चूत के आसपास चूमने लगा और मेरे बदन में जैसे बिजली के झटके लगने लगे. मैंने चाची को बेड पर सीधी लेटा दिया और उनकी जांघों के बीच में घुस कर उनकी चूत को अपनी जीभ से चाटने लगा.

बड़े लंड वाली सेक्सी वीडियो फिल्म तभी मॉम ने मुझसे कहा- आदर्श इसकी भी ले ले … और ध्यान रखना इसकी चूत में पानी नहीं जाने देना, नहीं तो ये प्रेग्नेंट हो जाएगी. उस दौरान जाने अंजाने में मैंने पड़ोस में रह रही भाभी के साथ अपनी फंतासी पूरी किस तरह से की थी, यह उसकी सेक्स कहानी है.

जैसे ही लंड अन्दर जाता, उसकी ‘आह … अह …’ निकलती और बाहर आने पर वो ‘अम्म्म … ओह्ह …’ कराहती. काफी देर तक जीजू मेरे होंठ चूसते रहे तो मुझे भी अच्छा लगने लगा और मैं भी जीजू के होंठ चूसने लगी. कोई हिजड़ा कहता- तुम्हारे बड़े बड़े मम्मे और कंटीली कमरिया देखकर तो हम छक्कों के ईमान भी डोल जाते हैं.

ठाकुर सेक्सी सेक्सी

फ्रेंड्स, मैं निहारिका एक बार फिर से आपसे मुखातिब हूँ और अपने मौसेरे भैया से अपनी सीलपैक बुर की चुदाई की कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हूँ. मैं गया और चाय बनाने लगा और मन में ये सब ही चल रहा था कि‌ यार मैं अच्छा खासा काम कर रहा था और इसी में आंटी आ गयीं. मुझे लगा कि उस दिन तो बस पाद निकली थी लेकिन कहीं आज टट्टी ही ना निकल जाए.

मैं- है, आपको कैसे पता चला?जीजू- अरे तुमने गलती से पर्दा हिला दिया था और मुझे पता चल गया. मेरा पति तो भोसड़ है साला … भैन का लंड बस पॉर्न देखेगा और मुठ मारता रहेगा.

उनको देख कर मुझे उनकी रात वाली हरकतें याद आ गईं और मैं मुंह छुपकर उनके लिए पानी लेने चली गई.

मैंने देखा कि अंजलि ने अपने कपड़े नहीं पहने थे, वो अभी भी सिर्फ पैंटी में ही थी।वो अपने कपड़ों से अपने बदन को छुपा रही थी. क्यों ना हम इस चारदीवारी के अन्दर समझौता करके अपना मामला यहीं रफा-दफा कर लेते हैं. डिंपी- फिर भी देखो मेरी किस्मत में कोई नहीं है, क्या फायदा ऐसी हॉटनेस का?मैं- फिर तो सिंगल रह कर ही मजे करो.

यदि खाने में भाभी कोई भी नई चीज बनातीं, तो मेरे लिए अवश्य ही बचाकर रख देती थीं. लगभग 11:30 में सामने वाले स्लीपर से कुछ ‘ऊउमाह्ह …’ जैसी अज़ीब अज़ीब सी आवाजें आने लगीं. मैंने आगे बोलना शुरू किया- फिर जब तुम अपने बाल सुखाने के लिए झुकीं, तो तुम्हारे टॉप के गहरे गले से मुझे अन्दर का नजारा देखने को मिला.

कुछ देर तक ड्राइवर से चुदने के बाद मेरे बदन में गर्मी आने लगी थी और मैंने सिसकारियां भरनी शुरू कर दिया था.

ब्लू एचडी बीएफ: जैसे ही आंटी ने अपना हाथ मेरी ज़िप के ऊपर किया, मैंने भी शॉल के अन्दर से अपना हाथ उनके मम्मों पर रख दिया और एक को सहलाने लगा. उनकी असल जिंदगी की इस कोल्ड वाइफ नो सेक्स कहानी उनकी जुबानी सुनते हैं कि उनके साथ क्या क्या हुआ.

एक दिन मैंने उसे अन्तर्वासना की भी बहन वाली स्टोरी भेज दी, जिसे देख कर उसका पहली बार रिप्लाई आया- छी: इतनी गंदे लोग भी होते हैं?मैंने कहा- हां ऐसा होता है. फौजी बाबू शादी और सुहागरात के अगले ही दिन ड्यूटी पर चले गए थे और करीब एक साल से छुट्टी न मिलने से घर नहीं आ सके थे. कामरस मेरे लंड से मेरे लंड की गोलियों से होता हुआ मेरी जांघों में जाता हुआ मुझे साफ महसूस हो रहा था.

शुरुआत में तो मैंने भी यही सोच कर बात करनी चालू की थी कि इस बार छुट्टी पर जाऊंगा, तब उसे चोद कर आऊंगा, जैसे कि सब सोचते हैं.

उसने मेरी तरफ पीठ करके मेरे मुँह पर अपनी चूत रखी और खुद मेरे काले लंड को लॉलीपॉप की तरफ चाटने लगी. वो बिस्तर पर इतना मस्त खेलने लगी थी कि कभी कभी तो मुझे खुद भी लगने लगता था कि ये साली मुझे पूरा खा जाएगी. इस बार फिर से रोहित ने थोड़ा ज्यादा सा तेल गांड में लगाया और लंड को सैट करके पेल दिया.