सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ

छवि स्रोत,हिंदी सेक्सी मूवी फुल वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ साड़ी वाली की चुदाई: सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ, फिर तो मैं तुम्हारा ही वेट करती थी कि कब तुम आओगे और अपना लंड हिलाओगे, तुम्हारा लंड मेरे पति से बहुत लम्बा और मोटा है.

हिंदी विलेज सेक्सी

मेरे पति जब भी आते हैं थक-हारकर सो जाते हैं और मेरी तरफ देखते भी नहीं. धमाकेदार सेक्सकुछ देर चूचियों को पीने के बाद मैं नीचे की ओर आया और पेटीकोट खोलकर एक तरफ फेंक दिया.

मेरा नाम विवेक जोशी है और मैं औरंगाबाद (महाराष्ट्र) का रहने वाला हूँ. पाकिस्तान वर्सेस वेस्टइंडीजलंड देख कर दीदी गर्म हो गई थीं और इस कारण उनके मम्मों के निप्पल तन गए थे.

डॉक्टर मेरे अन्दर बहुत सेक्स भरा पड़ा है, लेकिन मैं कुछ कर नहीं पाता हूँ.सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ: मुझे हर वक्त ठरक चढ़ी रहती है और मैं बस किसी भाभी की चुदाई या आंटी की चुदाई का मौका देखता रहता हूं.

फिर मैंने झटकों की स्पीड बढ़ा दी और पागलों की तरह उस लड़की की चुदाई करने लगा.ट्रेन सेक्स कहानी शुरू करने से पहले मैं आपको बता दूं कि मेरी उम्र 26 साल है.

लड़की डॉग सेक्स वीडियो - सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ

अब कभी वो फास्ट स्पीड में गांड हिलाती, तो कभी हौले से लंड को सुपारे तक बाहर निकालकर वापस पूरा अन्दर तक डाल लेती.यदि आपको ट्रेन सेक्स कहानी पसंद आयी हो तो मैं आपके लिए आने वाले समय में भी कईरियल लाइफ एक्सपीरियंसलेकर आऊंगा.

मैंने आपको भाभी कहा, आपको बुरा तो नहीं लगा?रुक्मणी- नहीं, बुरा क्यों मानूंगी. सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ कुछ देर फिल्म देखते देखते मेरी भी आंख लग गई और मेरा मोबाइल फ़ोन मेरे और मेरी बहन के बीच में गिर गया.

वापिस आने के बाद मैंने देखा कि मेरी क्लास में काफी नए छात्र आ गए थे.

सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ?

उसके बाद हमारी सेक्स कहानी का दूसरा माली यानि मेरा दोस्त आ गया और हम दोनों ने नीला की चूत और गांड एक साथ मारी. फिर हल्के से मेरा दरवाज़ा उड़का कर बंद दिया, पर बाहर से बंद नहीं किया. मैंने तारीफ़ करते हुए लिखा- भाभी आप सच में बहुत सुंदर हो … और बहुत सेक्सी हो.

अब मुझे इसका पता लगाना ही होगा, नहीं तो वो हमेशा मीता को यूं ही नुकसान पहुंचाता रहेगा. मैंने उसको फिर बेड पर डॉगी स्टाइल में किया और अपने लंड पर थोड़ा सा थूक लगा कर उसकी चूत में लंड को डालना शुरू किया. अभी अम्मी के चेहरे पर एक स्माइल थी, पहले शायद डर रही थी कि कहीं मैं बाहर न आ जाऊं.

वो दोनों बातें कर रहे थे, तभी सुरेश की नज़र कालू पर पड़ गई, जो जा रहा था. मगर फिर सोचा कि अगर सोनू इस बीच आ गये तो कहेंगे कि अकेले ही शुरू हो गयी. मैं धक्के लगाने लगा और अब पूरे रूम में उसकी कामुक सिसकारियां ही सुनाई दे रही थीं.

मैं चाह रहा था कि जब तक अशोक आए, तब तक उसे चुदाई के लिए गर्म कर दूँ. उसके मेरे ऊपर आकर गिरने की वज़ह से और मेरे उसके हाथ पकड़ रखने की वजह से, मेरी उंगलियां उसके स्तनों को महसूस कर रही थीं.

दोस्तो, किसी तरह से मैंने फोन सेक्स कर करके और फोन पर ही सर से चुद चुद कर दो दिन निकाले.

तो मैंने पूछ लिया- कोई ब्वॉयफ्रेंड बना लिया है क्या?दिव्या हंसी और बोली- ना रे बाबा, मेरा कोई ब्वॉयफ्रेंड नहीं है.

मेरी मदमस्त कर देने वाली सेक्स कहानी को लेकर मुझे अपने मेल लिखना न भूलना कि इस सेक्स कहानी में आपको कितना मजा आया!आपकी पिंकी सेन[emailprotected]कहानी का अगला भाग:गांव की चुत चुदाई की दुनिया- 12. उस पर मैंने इतना साउंड रखा कि मुझे पोर्न स्टार की तड़पने की आवाज़ सुनाई दे. मैंने एक बार पहले धीरे से उसकी ब्रा के ऊपर से ही चूची को पकड़ लिया.

थोड़ी देर बाद उसको भी मजा आने लगा।फिर मैंने उसकी दोनों टांगों को अपने कंधों पर रखा और जोर के धक्के मारने लगा. इसका क्या राज है?वो शर्माने लगीं- नहीं तो, ऐसी कोई बात नहीं … ऐसा तुम्हें लगता है?मैं- नहीं भाभी, मैं सच बोल रहा हूँ. अब मैंने अपनी नाइट पैंट उतार दी और नंगा होकर उसकी गांड को सहलाने लगा.

मुखिया की तेज आवाज़ सुनकर सुलक्खी भाग कर अन्दर आई और मुखिया से पूछने लगी- सरकार क्या हो गया है?मुखिया- होना क्या था … ये लड़की किसी काम की नहीं है.

उस समय इकबाल सिंह और धीरज की बुरी नजर मुझे साफ़ दिखाई दे रही थी, लेकिन मेरे पति को तो जैसे कुछ ध्यान ही नहीं था. थोड़ी देर तक दोनों बातें करते रहे और सुरेश ने मीता को कुछ बातें समझाईं, जैसे फुन्नी को चुत कहते हैं और अगली बार उसको अलग मज़ा देगा वगैरह. यहां या ऊपर की ओर?गीता- डॉक्टर सब नीचे की तरफ दर्द है और पैर भी दुख रहे हैं.

फिर मेरे सामने सफेद झूठ बोलने लगे- हम तो अब बूढ़े हो गये हैं बेटा, हम सुहानी बहू को सुख देना चाहते थे लेकिन वो हमसे बहुत शर्माती है. भाभी की गांड चुदाई करते हुए मुझे जो मजा आ रहा था वो भाभी की चूत चुदाई करते हुए भी नहीं मिला था. फिर मैंने तेल की शीशी लेकर चाची की गांड में उंगली से तेल अंदर तक लगा दिया.

अचानक भाभी की सांसें फूलने लगीं और उन्होंने मेरे लंड को ज़ोर से मुट्ठी में पकड़ लिया, जिससे मुझे दर्द हुआ.

देसी बुआ की चुत चोदी कहानी में पढ़ें कि मैं बुआ के घर गया तो वे अकेली थी. मेरा फ्लैट एक होटल स्टाफ के लिए बनी बिल्डिंग में है, जो 11वीं मंज़िल पर है.

सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ अभी भी मैं उसको चोदता रहता हूं और हमारा ये प्यार अब और ज्यादा गहरा होता जा रहा है. मैं सब जानता हूँ और मीता जैसी बहुत लड़कियां मेरी गुलाम हैं बस मेरा तो मन इसी पर आया हुआ है.

सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ मैंने भूसा लगी उनकी मस्त गांड को चाटा और फिर उनके मस्त नर्म चूतड़ों को मसलने लगा। चूतड़ों की गोलाइयों में और गहराई में भी भूसे ने जगह बना ली थी। मुझे चूतड़ों को मसलने में बहुत आनंद आ रहा था. तू एक काम कर बलराम के पास जा, उसका हाल चाल पूछ कर आ और उसकी कोई सेवा भी कर आना.

कासिब मेरा हाथ अपने लंड पर रख कर बोला- आह दिलकश … देख तेरी चूत की खुजली मिटाने के लिए तेरे भाई का लंड कैसे उतावला हो रहा है.

मराठी xxxxx

मैं उन दोनों से बोली- देखो मेरा पति नशे में था … और वो जीतने की लालच में ऐसा कर बैठा. तो वो बोल पड़ी- मां, भैया कहां हैं … वो खाना नहीं खाएंगे क्या?सुलक्खी- अरे क्या बताऊं बिटिया, वो काम से दोपहर वापस आ गया था. इसी बात को लेकर कपिला से मेरी लड़ाई हो गयी और फिर मैं उससे कभी नहीं मिला.

इंडियन हॉट भाभी स्टोरी में पढ़ें कि सामने वाली भाभी हमें देखती थी जब मैं अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई करने उसे दोस्त के फ्लैट में ले जाता था. आदिल ने अपने हाथ में रंग लिया और मेरी चूचियों पर रगड़ने लगा।इतने में ही मुझे लगा कि मेरी जांघ पर कुछ चल रहा है. वो मेरे हाथों को हटाने लगी लेकिन मैंने उसको बेड पर नीचे पटक लिया और उसकी चूचियों को जोर जोर से दबाने लगा.

मैंने कहा- तू चिंता मत कर, मैं हूँ न!मैंने दीक्षा को हिलाया और उठने का कहा.

सबसे बात करने के बाद सिमरन ने ये कहते हुए फ़ोन रखा कि आप लोग जब घर पहुंच जाएं, तो इसी नम्बर पर कॉल करें. चूंकि मुझे काफी नशा हो गया था, तो शराब के नशे में शबाव का नशा मुझे काफी मजा दे रहा था. सुमन को बाद में आने का बोलकर मुखिया जल्दी से कालू को लेकर वहां से निकल गया.

फिर हम दोनों 69 की अवस्था में आ गए और एक दूसरे को पूरी तरह से पागल बनाने में लग गए. एक दिन आंटी ने बताया कि अगले दिन से अंकल की नाइट शिफ्ट शुरू हो रही है. अक्सर मैं प्रिया को अपने छत वाले रूम में बुला लेता हूं और दोनों एक दूसरे केजिस्मों की प्यासबुझाते हैं.

मैंने जो कहा वो किया, अब तेरी बारी है, तू भी मुझे खुश कर दे मेरी रानी. उसका लंड मेरी गांड पर दांव लगाए हुए था और मेरी गांड उसके लंड को जीतना चाह रही थी.

उसके घर जाकर मैंने मसाज करके उसकी सेक्सी पत्नी रीमा मैडम को गर्म किया और उसकी चूत में उंगली करके उसको चुदाई के लिए उकसा दिया. मेरा ब्लाउज का गला भी काफी बड़ा था जिसमें से मेरी छातियों का उभार और क्लीवेज स्पष्ट रूप से दिखती है. फिर धीरे धीरे से नीचे होते हुए मेरे लंड पर बैठती चली गई और मेरा लंड उसकी चूत में घुसता चला गया.

[emailprotected]ससुर बहू सेक्स की कहानी का अगला भाग:जवान बहू की चुदास- 2.

उसके बाद फिर सर के साथ मेरी चुदाई में मैंने क्या क्या मजे किये और सर ने कितनी बार मेरी चूत और गांड का बाजा बजाया वो मैं आपको अपनी किसी और कहानी में बताऊंगी. सुरेश- तो फिर सरजू होगा, वैसे भी रात को तुमने उसका लंड चूसा तो वो जाग गया होगा … और मज़े ले रहा होगा. जानते हुए भी मैं अनजान बना रहा और मैंने ऐसा दिखावा किया कि जैसे मैं उसको नहीं पहचान पाया.

क्योंकि वो जानती थी कि मुखिया हरामी है, कहीं गुस्सा होकर उसकी बकरी ना ले जाए. हैलो साथियो, मैं पिंकी सेन अपनी सेक्स कहानी को आगे बढ़ाने के लिए आप सभी के सामने एक बार फिर से पेश हूँ.

जैसा कि बुआ जी ने फोन पर कहा था, मैं शादी के एक महीने पहले बुआ के घर आ गया. मैंने कहा- अब अगर छुरी से केक काटो, तो ध्यान रखना … कहीं मेरी ये ना काट देना. मेरा मन कर रहा था कि सर अगर मेरे मुंह में एक बार झड़ जायें तो मैं उनका सारा माल पी लूं.

ब्लू फिल्म का सेक्स वीडियो

मैंने तुरंत मौसी को पकड़ा और उनके होंठों को अपने मुँह में भरकर चूसने लगा.

देसी बुआ की चुत चोदी कहानी में पढ़ें कि मैं बुआ के घर गया तो वे अकेली थी. कुछ पल सहलाने के बाद राहुल ने एक ही बार हल्के से उन्हें दबाया ही था कि उसको एक जोरदार करंट सा लगा. मैंने भी सिसकारते हुए उसकी चूत को अपनी उंगलियों से भींच दिया और हम दोनों तड़प गये.

मैं तो चाची के स्तनों के नजारे में ही खो गया था और मैंने चाची की बात पर ध्यान नहीं दिया. वो हमेशा उसको सपने में नंगा देखता है … और आखिर में वो लड़की उसको मिल जाती है. बुर मे हात download sexy video hd fullउसकी चूत भी पानी पानी हो रही थी, जिसे मैंने चाट चाट कर साफ कर दिया.

मतलब यह था कि ये पूरी तरह से रंडी थी और उसे चुत चुदवाने का बहुत शौक था. फिर वो मेरे लन्ड पर बैठती चली गई जिससे मेरा पूरा लन्ड उनकी रसीली चूत में गप्प से घुस गया। उन्होंने मेरे दोनों हाथों को पकड़ लिया.

राजेश मेरे ऊपर लेटा हुआ पागलों की तरह कभी गालों को तो कभी होंठों को और कभी मेरी चूचियों को चूमता-चूसता जा रहा था. उस समय इकबाल सिंह और धीरज की बुरी नजर मुझे साफ़ दिखाई दे रही थी, लेकिन मेरे पति को तो जैसे कुछ ध्यान ही नहीं था. विक्रम ने मेरे चूतड़ों पर हाथ फिराया।मैं सीधी होने लगी तो आदिल ने मुझे कंधे से पकड़ लिया।तो मैं झुकी रही।तभी विक्रम ने अपना लण्ड मेरी गांड में डाल दिया।मेरे दोनों छेदों में लौड़े थे।आदिल ने नीचे से और विक्रम ने पीछे से मुझे चोदना शुरू कर दिया.

फिर धीरज बोला- अरे इकबाल साली की पेन्टी उतार न इसकी चुत तो देखने दे. अब आगे मेरी पहली असली चुदाई:मेरा जवाब सुनते ही सार्थक ने लाइट ऑन कर दी. उसने पूछा- पापा आप सब कैसे हो?उन्होंने कहा- हम तो ठीक हैं, तुम किस होटल में हो.

सुमन- कैसे मर्द हो आप, एक हसीना आपके सामने बिछने को तैयार है … और आप मना कर रहे हो.

मगर चुदाई का जो मजा उस दिन मुझे मिला उसके अहसास को शब्दों में बता पाना मुश्किल है. गाँव के डॉक्टर की बीवी मुखिया जी का बिस्तर गर्म कर रही थी और डॉक्टर की नजर कुंवारी लड़की पर थी जिसे उसने दवाखाने में अपनी मदद के लिए रख लिया था.

कुछ ही मिनटों बाद मुझे लंड चूसना बहुत अच्छा लगने लगा तो मैं किसी बेशर्म रंडी की तरह उनके मुंह की ओर देख देख कर लंड चूसने चाटने लगी. एक दिन मैंने देखा कि जब मैं सुबह उन्हें चाय देने गयी तो वे मुझे देख कर अपने लंड को सहलाने लगे थे और उनकी लुंगी में से उनका विशाल लंड तना हुआ दिख रहा था. वो बोली- तुम अपना मसाज पार्लर खोल लो, बढ़िया चलेगा।मैंने बोला- ठीक है, देखेंगे बाद में!उसके बाद मैंने थोड़ा सा तेल लिया और उसकी चूत के पास हाथ ले जाकर सहलाने लगा और फिर एक उंगली उसकी चिकनी चूत में डाल दी.

तेरे रंजीत भाई तो पूरा लंड मेरे मुँह में घुसा देते हैं … और दे दनादन मुँह को चोदकर मलाई भी मुझे खिला देते हैं. मुखिया- तू बड़ा होशियार है रे कालू … मेरी आधी से ज़्यादा मुश्किलें तू आसान कर देता है. अपने मोबाइल में उनकी फोटोज देखता रहता … शायद मुझे भाभी से प्यार हो गया था.

सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ ’राहुल चाहता तो मेरे मुँह को ढक कर आवाज को बाहर जाने से रोक सकता था, लेकिन उसने मानो जानबूझकर मेरी चिल्लाहट नहीं रोकी. फिर मैंने उससे उसके ब्वॉयफ्रेंड के बारे में पूछा, तो बोली- मैंने अभी तक किसी को हां नहीं बोली.

સેકસી ભાભી

मैंने देखा मौसा जी की नज़रें मेरे स्तनों के बीच की घाटी में ही ठहरी हुई थीं. तो दोस्तो, ये थी मेरे जीवन की सबसे हसीन चुदाई, जो हर मर्द और औरत चाहती है. जब बुआ बाहर आईं, तो मैंने देखा कि बुआ सिर्फ टॉवल बांधे हुए ही बाहर आई थीं.

फिर मेरे पति उससे बोले- यार मेरे पास पैसे नहीं थे … और बाहर भी उधार हो चुका है, कैसे आता!धीरज बोला- अरे अजय क्या यार, हम तेरे दोस्त हैं. झटके के साथ ही उसकी चीख निकली लेकिन मैंने तुरंत उसके मुंह के दबा लिया. सेक्सी वीडियो 2020भाभी सेक्सी अंदाज में बोलीं- हम्म … कुछ भी का मतलब!मैंने अपना एक हाथ भाभी की गर्दन पर रख दिया और उन्हें अपनी ओर खींच कर उनके गुलाबी होंठों को चूमने लगा.

क्या मस्त खुशबू आ रही थी उसकी चूत से! मैंने लगभग 2-3 मिनट तक उसकी चूत को चाटा और चूसा।उसके बाद में खड़ा हुआ और उसके दोनों पैरों को अपने दोनों कंधों पर रखा और फिर अपने लंड को उसकी चूत के द्वार पर सेट कर दिया.

कुछ देर बाद राज ने मेरी अम्मी की गर्म चूत पर अपने लंड का सुपारा रख कर एकदम से अन्दर कर दिया. वासना की कहानी में पढ़ें कि कैसे डॉक्टर अपनी बीवी की चूत चुदाई की तैयारी में था कि गाँव का मुखिया आ गया.

उस दिन मैं दिन में दीदी को पीछे से देख रहा था, तो उनके शर्ट में पीछे से ब्रा भी झलक रही थी. उसकी गांड में लंड लगाकर मैं उसकी पीठ को चूमने लगा और वो जोर जोर से सिसकारने लगी. उन्होंने उस ब्रा को मेरे सामने ही चूचों से अलग कर दिया और मेरा मुंह खुला का खुला रह गया.

मैं जान गया था कि वो अगर चुदाई के लिए तैयार नहीं होती तो शोर मचाने लगती, लेकिन वो सिर्फ हल्के से नखरे कर रही थी इसलिए मैं उनकी किसी बात पर ध्यान नहीं दे रहा था.

वो सिहर उठी और उसने बेड की चादर को दोनों हाथों की मुट्ठी में भींच लिया. मीता- देखो बाबूजी, बापू कोई 45 साल के होंगे, मां 43 की, बड़ा भाई सरजू 24 का, उससे छोटा महेश 22 का, मेरी बड़ी बहन गीता 21 की … और मैं 19 की. रोल प्ले सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि जब मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं बनी तो मैंने अपनी ममेरी बहन पर ही कोशिश करने की सोची.

राजस्थानी सेक्सी वीडियो गांवमैं थोड़ी देर रुका, लंड थोड़ा बाहर निकाला और दूसरा झटका देकर अपना पूरा लंड गांड में पेल दिया. मेरी नज़र वहीं की वहीं अटक गयी और मन में एक चाहत उमड़ पड़ी कि काश अभी इसी वक़्त एक बार और …पर उन विचारों को मैंने दबा दिया और चाय का कप रख कर मैं जल्दी से उलटे पांव वापिस लौट आई.

सेक्सी सेक्सी ब्लू बीपी

रात के अंधेरे में किसी से चुदवाना अलग बात होती है पर दिन के उजाले में अपने पिता सामान व्यक्ति से यूं अपने गुप्तांगों पर छेड़छाड़ सहना नितांत अलग अनुभव होता है. सुरेश- अरे रघु आओ बैठो … ये मीनू है ना तुम्हारे साथ!रघु- जी बाबूजी, मैंने इसको सब समझा दिया है. फिर ये चुम्बन की लय टूट गई और राहुल ने रूचि को एक नशीली नजर से देखा.

उसका नाक नक्श भी बिल्कुल आलिया भट जैसा और फिगर 30-26-32 का मदमस्त था. मौसा जी के फ़ार्म हाउस पर पहुंच कर मौसा जी ने ताला खोला और हम भीतर चले गए. उन्होंने मुझे अपनी गोद में लिए लिए ही खूब प्यार किया और मेरे मम्मों को खूब चूसा.

अब मैं भी जल्दी से जल्दी पाण्डेय सर के लंड से चुदकर मजा लेना चाहती थी. मैंने उनकी बात नहीं मानी और उनकी गांड में उंगली करता रहा।गांड में उंगली करने के बाद उनको वापस पलट दिया। उनको पलटते ही मैंने देखा कि अब वो पूरी की पूरी भूसे में सन चुकी थी. साबुन देकर वो वापस चली गई। मैं मेरी योजना के अनुसार धीरे-धीरे आगे बढ़ रहा था। अब एक दिन दोपहर का समय था। मैं उनके साथ उनके कमरे में बैठा हुआ था। हम दोनों बैठे बैठे टीवी देख रहे थे.

कल से बीमार है इसे बुखार बहुत तेज हो रहा है … और पेट भी दर्द कर रहा है. मगर इतने में ही वो हलचल करने लगी और मैंने घबराकर अपना हाथ तेजी से बाहर खींच लिया.

फिर हल्के से मेरा दरवाज़ा उड़का कर बंद दिया, पर बाहर से बंद नहीं किया.

मैंने अम्मी के कमरे के अन्दर झांकने की जगह देखना शुरू की, तो पीछे खिड़की का एक कांच जरा सा टूटा हुआ था. इंग्लिश डॉग सेक्सी वीडियोमेरे नाना-नानी नहीं हैं। मुझे चूत की बहुत ज्यादा ज़रूरत थी। मुझे पता था कि मेरे इन वाले मामा के यहां बहुत सारी चूतें हैं. हिंदी सेक्सी 2019पहले तो समीक्षा शायद सोच रही थी कि उसे रोज रोज चुदना पड़ेगा … उसका क्या होगा. उसकी चूचियां एकदम से तन गयी थीं और उनके निप्पल अलग से चमकने लगे थे.

मैंने जल्दी से कपड़े निकाले और मैं दो पल बाद सिर्फ अंडरवियर में ही था। अंडरवियर में मेरा मूसल जैसा लंड उनकी गांड को सलामी दे रहा था।बहुत कामुक नजारा था.

क्या आप मुझे एक मौका दे सकती हो?वो बोली- नहीं, किसी को पता चल जायेगा. अब मेरी स्पीड बढ़ने लगी और मामी के मुंह से कामुक आवाजें भी और तेज होने लगीं- आह्ह … राजू … आईईई … आह्ह … मार ही डालेगा तू तो … आह्ह मेरी चूत … आह्ह मजा आ रहा है राजू … चोदता रह … ऐसे तो कभी तेरे मामा ने भी नहीं चोदा. उस दिन मौका पाकर मैंने करण की गर्लफ्रेंड को अपने घर में लाकर चोदा था.

मैंने पूछा- आंटी पहले भी चुदवा चुकी हो क्या पीछे वाला छेद?वो बोली- नहीं रे, तेरे अंकल से चूत तो चोदी नहीं जाती, गांड क्या खाक चोदेंगे?ये सुनकर मैं खुश हो गया. दोस्तो, आपको मेरी मॉम की एडल्ट सेक्स कहानी कैसी लगी, मुझे बताना न भूलियेगा. सुमन- मुझे बहुत दुख हुआ सुनकर वैसे उसका बच्चा भी उसके साथ ही …कालू- नहीं नहीं मैडम जी उसने चाँद जैसी बेटी को जन्म दिया था.

लड़की को चोदने वाला सेक्सी वीडियो

मुझे ये बात बिल्कुल नहीं पता थी कि आगे लॉक डाउन हो जाएगा, तो मैं कहीं भी नहीं निकल पाऊंगा. मुखिया- क्या हो गया सुमन … तुम इतनी गुस्से में क्यों हो?सुमन- आप मुझे मारना चाहते हो तो खुद मार देते. ये तो सेक्स कहानी का पहला पार्ट था, जो फोन सेक्स में ही खत्म हो गया.

किसी तरह मैंने खुद को कंट्रोल करके रखा जब तक कि भाभी रूम से चली नहीं गयी.

सन्नो- ऐसे तो हम काम करते हुए बूढ़े हो जाएंगे और हमारी जवानी बेकार निकल जाएगी.

जी करता था कि किसी मर्द के हाथों अपने इन मोटे मोटे प्यासे स्तनों को जोर जोर से मसलवा लूं. दोस्तो, मजा आ गया मामी का दूध पीकर।वो प्यार से मेरे बालों में अपना हाथ घुमा रही थी और अपनी चूचियां पिला रही थी. हीरोइन वाला सेक्सवो बोली- हां-हां, सब जानती हूं मैं!मैं- यार तुम इतनी सेक्सी लग रही हो कि तुम्हें अभी बेड पर ले जाकर …नताशा- बस-बस! समझ गयी मैं.

जबसे हम गांव से शहर आए थे, तब से मैंने गौर किया था कि मेरी अम्मी काफी बदल गयी थीं. आपने ओरल सेक्स फ्री सेक्स स्टोरीज के पिछले भागगाँव के मुखिया जी की वासना- 8में अब तक पढ़ा था कि सुमन कालू से कुरेद कुरेद कर उसकी सेक्स लाइफ के बारे में पूछ रही थी. लड़की की गर्म जवानी की कहानी में पढ़ें कि शादी के बाद मैं अपने पति के साथ सेक्स करके खुश तो थी पर मन में आता था कि मैं कुछ और भी मजा लूं.

ईयर फोन में सर की गर्म सिसकारियां मेरी चूत में और ज्यादा आग लगा रही थीं. सुरेश ने अपने लंड को पैंट में एड्जस्ट किया और मीता के मम्मों को टच करके गौर से देखने लगा.

फ्रेंड्स, मेरी चुदाई की कहानी सुनकर सच्ची सच्ची बताना कि आपका लंड खड़ा हुआ या नहीं … और मेरी प्यारी प्यारी पाठिकाओं की चुत में आग लगी कि नहीं … ये सब आप मेरी इस सेक्स कहानी पर अपने मेल लिख कर जरूर बताएं.

फिर उसकी कोमल टांगों को फैला कर चूत खोली और लंड को चुत की फांकों में फंसा कर धीरे धीरे अन्दर डालने लगा. भाभी नंगी नंगी चूत की कहानी में पढ़ें कि मैंने भाभी की दीदी को नंगी करके चुदाई शुरू कर दी थी. मामी बोली- अब राजू … अब चोद दे मुझे … और इंतजार नहीं हो रहा है … मैं बहुत दिनों से चुदने के लिए प्यासी हूं.

মা বেটি কি চুদাই मैं भी पूरे जोश में आ गया और मैंने मामी की गर्दन पकड़ कर अपने लंड पर झुका ली और उनके मुंह में लंड दे दिया. राहुल उठा और केक से सने हुए अपने होंठों को मेरे होंठों और जीभ से मिला दिया.

विक्रम साइड में बैठ गया और मैं सीधी हो गई।आदिल का लण्ड मेरी गांड में था, मैं उस पर कूदने लगी।उसका लण्ड मेरी गांड में अन्दर बाहर होने लगा।थोड़ी देर में वो चिल्लाया- बहन की लौड़ी मैं आने वाला हूं!इतना सुनते ही मैं और तेजी से उछलने लगी. दूसरे हाथ से उसने लंड की शाफ्ट को थाम लिया और चमड़ी को आगे पीछे करने लगी. अम्मी को चुत चटवाने में मजा आने लगा था, वो अपनी गांड उछाल उछाल कर मेरे दोस्त से अपनी चूत चटवा रही थीं.

সেক্সি বৌদির চূদাচূদি

मैं बारी बारी से दोनों के लंड चूसने लगी और सर ने मेरे मुंह में अपना माल पिला दिया. कुछ देर के बाद मेरा निकलने को हो गया तो मैंने लंड को बाहर निकाल लिया. अब आगे देसी सेक्स का खेल:मालिक मालिक … गजब हो गया मालिक! जल्दी चलो!”बाहर से ही कोई चिल्लाता हुआ अन्दर भागता हुआ आया, जिसे देख कर मुखिया खड़ा हो गया.

इसको कुछ हो गया तो हम अपनी मंज़िल पर कभी नहीं पहुंच पाएंगे … समझे!हरी- साले मुखिया तू क्या सोचता है अब तू कर पाएगा, नहीं कभी नहीं … मैं मर जाऊंगा मगर इस ग़लत काम में तेरा साथ कभी नहीं दूंगा … समझा तू!मुखिया- इसके मुँह पर पट्टी लगा पहले दो … भैन का लौड़ा बहुत चिल्ला रहा है. रेखा आंटी की चूत में मेरा वीर्य गिरने लगा और उनकी चूत मेरे वीर्य से भर गई।थोड़ी देर बाद हम दोनों अलग-अलग होकर बिस्तर पर लेट गए।उसने मुझे बताया कि वो पहले भी मेरा लौड़ा चोरी से देख चुकी है।मैंने पूछा- कैसे?तो उसने बताया कि एक रात वो कपड़े लेने छत पर आ रही थी तो मेरे रूम का दरवाजा हल्का सा खुला हुआ था.

सिसकारते हुए वो बोले:बस यूं ही चूसती रह डार्लिंग!मेरा घोड़े जैसा लंबा मोटा लंड।जब जोर-जोर से हिलाऊंगा पलंग,दूर हो जाएगा तेरे यौवन का घमंड।”सुहानी तो लंड को चूसती ही रही.

अब मेरे मुंह में उसकी चूची थी और नीचे से मेरा हाथ उसकी चूत को सहला रहा था. उसने अपने पैरों को मेरे चूतड़ों पर रख दिया।सुहानी ऊपर से मुझे अपने सीने से लगा पकड़े हुए थी इसलिए धीरे-धीरे ही मैं शुरू हुआ और चूतड़ों को ऊपर-नीचे करके लंड से प्रहार करने लगा। मेरा भीगा लन्ड उसकी सूखी योनि में से गुजर कर रगड़ खाने लगा जिससे वह पूरा कड़क और बढ़कर 10 इंच का हो गया. मैंने कल नीला को बियर पिला कर उसकी गांड मारने का तय कर लिया था ताकि उसे नशे में ज्यादा दर्द न हो.

मैं इस लॉकडाउन में जिस शहर में फंस गया था, वो मेरे घर से 1500 किमी दूर था. उनके भीगे ब्लाउज में मॉम की चूचियों के निप्पल साफ साफ उभरे हुए दिख रहे थे. मैं उठा और उसको वहीं बेड पर गिरा लिया और दोनों एक दूसरे के होंठों को चूसने में मशगूल हो गये.

दोस्तो, गांव की चुत चुदाई की दुनिया में आपका एक बार फिर से स्वागत है.

सेक्सी बीएफ बढ़िया दिखाओ: अब मैंने अपने लौड़े की रफ्तार बढ़ा दी और ताबड़तोड़ झटके मारने लगा। मुझे आंटी की चुदाई करने में मस्त मजा आ रहा था. सुरेश- पहले ये बता तूने कभी किसी आदमी का लंड देखा है क्या?मीता- नहीं बाबूजी, कभी नहीं देखा.

सुरेश- कपड़े तो पहन लो, क्या तुम्हें ऐसे ही नंगी सोना है!सुमन- हां आज अपन दोनों नंगे लिपट कर ही सोएंगे … मज़ा आएगा. बस उसकी तरफ से हरी झंडी मिलते ही मुझे ऐसा लगा जैसे मैंने सपने में आसमान में किसी हूर को देखा था और वो खुद चुदने आ गयी. रणजीत- अरे जागी होती है ना … क्या पता कब इधर आ जाए और हमें ऐसी हालत में देख ले.

शायद उसका दर्द अब कम हो गया था। अब उसे दर्द कम और मजा ज्यादा आने लगा था।करीब 20 मिनट तक जोरदार चुदाई चली.

फिर पांच मिनट के बाद उसने मुझे जोर से कसकर पकड़ लिया और वो जोर से आवाज करते हुए झड़ गयी. शुरू में जो उससे गांड मारने की बात कही थी, उसे उसने मेरा मजाक समझा था. इससे भाभी मेरी ओर देखने लगी- अरे ये क्या कर रहे हो!मैं- कुछ भी तो नहीं.