ओन्ली हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,देसी सेक्स वीडियो जबरदस्ती

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी ब्लू सेक्सी इंडियन: ओन्ली हिंदी बीएफ, भाभी ने चुत उठाई तो मैंने एक तेज धक्का दे मारा जिससे मेरा आधा लंड चुत के अन्दर घुस गया.

हिंदी सेक्सी ब्लू बीपी

फिर उसने मुझे पकड़कर नीचे खींचा और मेरे होठों पर एक लिप किस किया और फिर से मेरे लंड को चूसने लगी. भाई बहन की चुदाई वाली फिल्मआप लोगों को मैं क्या बताऊं … जब मेरा लंड उनकी चुत में घुसा तब मुझे कैसा फील हुआ.

अब मेरी 56 साल की उम्र में मुझे कौन सहारा देगा, यही सोच सोच कर मैं घर में दिन काट रहा था. ગુજરાતી સેક્સ ફિલ્મमैंने उसके नग्न स्तनों को देखा तो मैं इतना उत्तेजित हो गया कि मैंने झट से उसके एक दूध को अपने मुँह में ले लिया.

उसकी चुत की फांकें मानो गुलाब की पंखुरियां थीं और चुत में से उसका रस टपक रहा था.ओन्ली हिंदी बीएफ: तब सनी को पता नहीं क्या सूझा और उसने मेरा हाथ पकड़ कर मेरे घर के मंदिर के सामने खड़ा कर दिया.

चाची- हां, वो तेरे दादा दादी आ गए थे वर्ना मैं भी कुछ देर बाद तुझे समझाती और शायद तुझे मुझसे बात करने में इतना डर न लगता.जब मैं सो कर उठा तो सोचा कि अब नीचे चल कर जुबैदा आंटी की चुत चोदने का इंतज़ाम किया जाए.

हिंदी में पोर्न फिल्म - ओन्ली हिंदी बीएफ

फिर कुछ मिनट बाद मैंने बोला- अब डाल दूं?आंटी बोली- नहीं … अभी मुझे भी चूसना है.कुछ देर बाद मुझे महसूस हुआ कि उसका हाथ फिर से मम्मी के कम्बल के अन्दर है.

तभी चाची ने अपने गाउन में हाथ फेरना शुरू कर दिया और बोलीं- न जाने मुझे क्या होने लगा है. ओन्ली हिंदी बीएफ [emailprotected]सेक्स विद फ्रेंड वाइफ कहानी का अगला भाग:दोस्त की खूबसूरत सेक्सी वाइफ- 2.

मैंने ध्यान से देखा, तो समझ गया कि शायद ही कोई मेरा स्कूटर देखेगामीना को डरा हुआ असमंजस में देख कर मैं समझ गया कि इसने अभी तक कुछ भी नहीं किया है.

ओन्ली हिंदी बीएफ?

मैं खुद इतनी उत्तेजित हुई जा रही थी कि दिल कर रहा था कि अब बस ट्राउजर नीचे खिसका के उसे अंदर घुसने का मौका दे ही दूं. जिस कमरे में वो लोग थे, वहां की खिड़की से सब कुछ साफ़ साफ़ दिख रहा था. सपना को मेरे लम्बे मोटे लंड से दर्द होने लगा था, उसने अपने दांत भींच लिए थे और चादर पकड़ ली थी.

फिर मैंने उसकी दोनों टांगों को ऊपर लिया और उसकी चुत के मुँह पर अपना लंड सैट कर दिया. कॉलेज स्टार्ट होते ही मैंने एक ब्वॉयफ्रेंड बना लिया था, उस नाम हितेश था. साल भर बाद वह लड़का एक दिन मेरे घर आया और उसने बताया कि मेरे कहने पर चाट का ठेला चालू किया और साल भर में छोटा सा रेस्टोरेंट हो गया.

जब तक मैं उनके घर नहीं गया, तब तक हमारी फोन पर और मैसेज परसेक्सी बातेंचलती रहीं,भाईदूज के बाद मैं जैसे ही फ्री हुआ, उनके घर आ गया और उनकी जबरदस्त चुदाई की. फिर मैं खाना लेकर कमरे में आया, तो रचना बाथरूम में वोमिट करके आ गई. मैं वो किताब ढूंढ रहा था तो मुझे सिरहाने पर एक और किताब मिल गई जिसमें कुछ लिखा था और बहुत कंडोम भी मिले.

मैंने भाभी के एक निप्पल को अपने मुँह में भर लिया और खींचते हुए चूसने लगा. राहुल मुझसे बहुत खुला हुआ था, वह मुझसे सभी तरह की बातें करता था।हम दोनों घर पर ही रहते थे इसलिए हम दोनों एक दूसरे के साथ ही ज्यादातर वक्त बिताते थे.

गर्म तो मैं था ही, वैसे भी चिकनी चूत देख कर लंड भी कुलांचें भर रहा था.

यह कहकर मैंने दोबारा उनका हाथ पकड़ा और उनकी हथेली में अपना लंड दे दिया.

मैं सरसों के तेल से आप की मालिश कर देता हूँ जैसे दोपहर को आपके सर की मालिश की थी. तब भी और आज भी लड़कियां खुद ही ऐसी परिस्थितियां पैदा करती हैं कि जिसको वो पसंद करती हैं, उसको मौका उपलब्ध हो सके. फिर आकांक्षा का पूछा, तो मुझे पता चला कि आकांक्षा दुकान कुछ लाने गई है.

मेरे पहुंचते ही वो दोनों चुप हो गए और जैसे में रूम से बाहर निकला, उनकी बातें फिर से शुरू हो गईं. फिर भाभी ने मुझसे बैठने का कहा तो मैं बैठ गया और भाभी से बात करने लगा. अभी मैं इंतजार कर ही रही थी कि तभी उस झोपड़ी से वो लड़का निकला और झोपड़ी के पीछे जाकर अपना पजामा नीचे करके पेशाब करने लगा.

एक दूसरे को चूमते हुए दोनों ने कब अपने वस्त्र उतार दिये पता ही नहीं चला.

वो अपनी पार्टनर को मसल देना चाहता है और स्त्री को भी उसके हाथों मसला जाना अच्छा लगता है. जैसे ही हमारी नजरें मिलीं, मामी मुस्कुरा दीं और अपनी उंगली पर चूत का पानी लेकर चाटने लगीं. हम दोनों सो गए, उस दिन हमने सेक्स भी नहीं किया क्योंकि मैं चाहता था कि मोनाली कल पूरी गर्म रहे.

वह गर्मागर्म आवाजें किए जा रही थीं- आह ईह आह ओह … ध्रुव मेरी जान … आज फाड़ दे मेरी चुत को आह बहुत तड़फाती है ये निगोड़ी चुत … तेरे चाचा से तो अब कुछ बनता ही नहीं है. चुपके से मैं पीछे के दरवाज़े से बाहर निकल कर चिराग के झोपड़ी की तरफ़ बढ़ने लगी. मैंने उनके होंठ चूसते हुए खड़े खड़े ही अपने लंड को हाथ से पकड़कर उनकी चूत पर लगा दिया.

मैंने उसको गाली देते हुए कहा- साले कुत्ते गिरा क्यों दिया मुझे … उठा और घर लेकर चल!फिर उसने सावधानी से मुझे उठाया और घर तक लेकर गया.

मीना मेरा हाथ पकड़ अपने कमरे में ले गई और खुद बाहर जाकर दरवाज़ा बंद कर आई. अब मैंने उनकी दोनों टांगें अपने दोनों कंधों पर रख उनकी चूत में अपना लम्बा मोटा लंड रख दिया.

ओन्ली हिंदी बीएफ फिर मंजू एक तेज आवाज के साथ बिल्कुल शांत हो गई पर उस छेद से ढेर सारे लिसलिसे पानी को मैंने महसूस कर लिया था. फिर एक ही झटके में मैंने अपना पूरा लंड चुत में धकेला, तो लंड अन्दर चला गया.

ओन्ली हिंदी बीएफ शाम हो गई मगर मेरा मन नहीं लग रहा था तो मैंने पैग बनाए और अकेले ही पीना शुरू कर दी. ले कुतिया आंह मेरा पूरा लंड ले रांड!प्रिया- आहह भाई … मैं आ रही हूँ … आंह मुझे न जाने कुछ हो रहा है … आंह आंह और तेज चोद दे साले …आंह मां मैं गई ईई.

विकास समता का हाथ पकड़कर रैली में आगे बढ़ने लगा और जहां भाषण होना था, वहां उसने समता को अपने बगल वाली कुर्सी पर बिठा लिया.

द एक्सएक्स के गाने

कुछ देर बाद मुझे महसूस हुआ कि उसका हाथ फिर से मम्मी के कम्बल के अन्दर है. उनके तने हुए लंड ने बता दिया कि अभी भी मेरी चूत और गांड के ख्यालो में खोये हुए थे।फिर वे मेरी बगल में आये, बोले- कुछ चाहिये क्या?क्या?”करन चार महीने से नहीं आया है। तुम्हें कुछ चाहिये तो नि:संकोच बताना।”ठीक है पापा जी, मैं बता दूंगी।”कहकर मैं फिर अपने काम में मगन हो गयी. प्लीज अपना लौड़ा अंदर तक डालो! भैया और तेज!इतना बोल कर पिंकू मेरी कमर को पकड़कर मेरा लन्ड जल्दी-जल्दी अपनी चूत में डालने लगी।मैं बोला- पिंकू ,थोड़ी देर रुक जा … मैं भी आने वाला हूं!दोनों हाथों से मैं उसके दूध को मसलने लगा और चुदाई की स्पीड बहुत तेज कर दी.

नीतू अब मेरा और अभिषेक का लन्ड पकड़ कर अपने हाथों से धीरे-धीरे हिला रही थी. अब्बू के दोस्त पैसे वाले हैं और अब्बू की पॉलिटिकल पावर है तो चार्ज भी कम ही लग रहा था. छवि घर आई, उस वक्त मैं एक ब्लू फिल्म देख रहा था और सिगरेट पी रहा था.

थोड़ी देर में मीना के होश ठिकाने आए तो मैंने उसको अपने लंड पर उसका हाथ रखवा कर उसको आगे पीछे करना बताया.

ऋतु ने अपनी पूरी ताकत से अपना मुँह खोल दिया और सनी के एक टट्टे को हल्का सा दबा दिया जिससे सनी की आंख खुल गईं. पर ऐसे मौके को हाथ से गंवाया नहीं जा सकता था इसलिए मैंने आँखें बंद होने का नाटक करते हुए पैंटी उनकी जांघों पर ऊपर कर रहा था. अब्बू के आते ही खाला उनके रूम में जाकर अब्बू के पैरों की मालिश करने लगीं.

उस रात मैंने 4 बार भाभी की चुदाई का मजा लिया और थक कर मस्ती करने लगे. खाना हमने रास्ते से ही पैक करा लिया था और 4 बोतल बीयर की ले ली थीं. जब दोनों उंगली सही से अन्दर घुस गईं तो मैं समझ गया कि अब मामी की गांड लंड लेने के लिए तैयार है.

मैं निरोध को एक कागज़ में बांध कर और अपने कपड़े पहन कर वहीं बैठ गया और टीवी देखने लगा. मोहिनी शनिवार को मायके चली गयी, मैंने शर्माजी को फोन किया कि मैं घर में अकेला हूं और अगर उनके पास समय हो तो वो आ जाएं। हम पीकर मजा करेंगे।वो मान गए और मेरे घर आ पहुंचे।थोड़ी पीने के बाद सेक्स की बात होने लगी.

वो मेरी मलाई अपने मुँह में पाते ही एकदम से हड़बड़ा गई और बोलीं- ये क्या किया बेबी … मुँह में ही निकाल दिया. फिर मैंने अपना ड्रिंक खत्म किया और प्रीति को गोद में उठा कर बैडरूम में ले गया और उसे आहिस्ता से बेड पर लेटा दिया. सविता भाभी कार्टून सेक्स वीडियो में देखें कि सविता ने नया नौकर मनोज घरेलू काम के लिए रखा.

मुझे लगने लगा था कि चाची चुदासी हो रही हैं इसलिए ही उन्होंने मेरे साथ ये कपड़े उतारने वाला खेल खेलना स्वीकार किया था.

उन्होंने मेरे मम्मों के बीच में अपने फौलादी लंड को रखा और हाथों से मम्मे दबा कर मेरी बूब फकिंग करने लगे. एक बार शाम को मैं रूम के बाहर ऐसे ही टहलने के लिए निकल गयी और उसी समय एक कार ने मुझे पीछे से टक्कर मार दी. आज जो लोग 50 साल की उम्र के आस-पास हैं, उनको जीवन में बहुत से अनुभव होते हैं और उन्हीं अनुभवों में से एक अनुभव होता है सेक्स … या सेक्स लाइफ.

मैंने अपने चूतड़ दोनों तकियों पर आराम से रखे हुए थे और मोहित भी कम्फ़र्टेबल पोजीशन में था. वो दोनों यह सोच कर राजी हो गए कि चलो जिसका लौड़ा बड़ा होगा, वो मीना को चोदे लेगा और दूसरा मुझे!पर उनको कहां पता था कि खेल कुछ और ही है.

सुमन उठी और मेरे मुंह पे चूत दे कर बैठ गई, चूत को मेरे मुंह पे रगड़ने लगी जैसे कि वो मेरे मुंह को चोद रही हो।कभी चूत में मुंह डलवाती, कभी नाक डलवाती. मामी- आह आह … अब आया मजा बेबी … आह आह आह और तेज … और तेज पेल आंह!मैं- आह मामी माय स्वीटहार्ट मजा आ गया … आज आपकी चूत में लंड को चैन पड़ गया … आह आह्म्म ओहम्म उह्म्म. ऑफिस संबंधी फॉर्मेलिटी पूरी की और आफिस के चौकीदार की सहायता से एक रूम देखने निकल पड़ा.

ब्लू पिक्चर चोदा चोदी चोदा चोदी

वैसे तो दीदी के बूब्स के ऊपर उनके बाल थे … पर फिर भी किनारे से उनके बूब्स आराम से नजर आ रहे थे.

मैंने भाभी के अन्दर ही सारा वीर्य छोड़ दिया और भाभी के बगल में ही लेट गया. आपका अंशु सिंह[emailprotected]हॉट 69 सेक्स स्टोरी का अगला भाग:मेरी पत्नी की गैर मर्द के लंड से चुदाई- 3. मैंने भी तुरंत ही झटका दे मारा और पूरा सुपारा उसकी चुत में पेल कर फंसा दिया.

फिर मैंने उसके नाम की मुठ मारना शुरू कर दी और उसकी ब्रा पैंटी को देख कर मुठ मारने लगा. मेरा भी उत्तेजना के मारे बुरा हाल था, पर घबराहट इतनी थी कि कुछ समझ में नहीं आ रहा था. भोजपुरी वीडियो डाउनलोड hdलेकिन मम्मी ने बोला- चलो प्रिंस, तुम और पापा और मैं बुआ जी के यहां चलते हैं.

अंजू की चूचियां भी आकार ले चुकी थीं, उसके चूतड़ भी मेरे दबाने से गोल और मस्त हो गए थे. वो भी आहह उह उम्मह हह आहह करके मस्ती से चुदवा रही थी।मेरा लन्ड नफीसा की चूत की बांसुरी बजा रहा था और पूरे कमरे में हह उह उम्मह हह आहह की आवाज तेज हो गई थी।अब मैं बिस्तर पर लेट गया और नफीसा मेरे लंड पर चूत टिका कर बैठ गई.

जैसे जैसे लंड भीतर जाता, दर्द और बढ़ता जाता … लेकिन चिकनाई खूब होने से लंड पूरा भीतर समा ही गया. वह अपनी जीभ से मेरे टोपे के चारों तरफ घुमा रही थी और मेरे गोटे चाट रही थी. धीरे धीरे उसके मन में अब उत्तेजना ज्यादा बढ़ने लगी और मामा के प्रति इसके मन में भी हवस जगने लगी.

मैं भी नीचे से झटके लगाने लगा।अब दोनों मस्ती से चुदाई का मज़ा लेने लगे. दूसरी बात ये थी कि भैया भाभी की चुदाई एक दो मिनट तक ही कर पाते थे जिस वजह से भाभी की चुत प्यासी रह जाती थी. मैंने उनक पैरों को पूरा फैला कर धीरे से लंड का सुपारा चुत में डाल दिया.

कुछ देर में चचा उठे और उन्होंने मेरी कमर के नीचे तकिया रख दिया, वे अपने लंड को मेरी गांड के छेद पर रगड़ने लगे.

दीदी झट से रजाई मुँह से हटा कर छोटी बहन से बोली- सो गई तू?छोटी बहन ने कुछ जवाब नहीं दिया. एक गैरमर्द के कठोर लंड की याद करते ही ऋतु मन ही मन खुश हो गई और उसकी गीली चूत में एकदम से खुजली बढ़ गई.

मैंने उसकी चैट के स्क्रीनशॉट ले लिए ताकि मैं उसको यह दिखा कर उसके साथ सेक्स कर सकूँ. मैंने ऐसी एक्टिंग की कि मुझे पता नहीं चल रहा है और मैं गहरी नींद में हूँ. सपना के बूब्स हिल रहे थे … उसे चोदते चोदते मेरा लंड बाहर निकल गया तो मैंने उसको लिटा कर एक पैर ऊपर करके हाथ में पकड़ा और चोदने लगा.

मैं लगातार कोशिश कर रहा हूँ अपनी बीवी को किसी गैर मर्द से चुदवाने की. दोस्तो, बिना किसी रूपरेखा के मैं बताना चाहती हूँ कि सच्ची घटनाओं से इस सेक्स कहानी का कोई संबंध नहीं है, यह अकेली औरत सेक्स कहानी पूरी तरह काल्पनिक है. जब मैंने रिसेप्शन पार्टी में मुकेश की वाइफ क्षिति को देखा तो मैं भौचक्का रह गया.

ओन्ली हिंदी बीएफ इसलिये कह रहा था!”शायद वो मुझे आजमाना चाह रहे थे।मैंने भी अपने होंठों को गोल करते हुए कहा- ठीक है बाबूजी, आप कह रहे है तो पहनकर आती हूं।‘हम्म् …’ करते हुए उन्होंने सहमति दी. उस दिन उनके घर पर कोई नहीं था; तभी शायद दीदी ने उस लड़के को घर पर बुलाया था.

हार्ड सेक्स बीपी

वैसे मैं भी भगवान में अटूट आस्था रखता हूं और रोज़ सुबह दो घंटे तक मेरी पूजा चलती है. कुछ देर बाद बुआ बोलीं- देख तू मुझे खुश कर दे वरना मैं भैया को सब बता दूंगी. शुरूआती दौर में हम सभी को ज्यादा जानकारी नहीं थी और लॉकडाउन का हम सख्ती से पालन भी नहीं करते थे.

मोहिनी गांड उछाल उछाल कर चुदने का मज़ा लेने लगी।काफ़ी देर बाद मैं मोहिनी की चूत के अंदर झड़ गया. वहां मुझे सबसे मिलकर बहुत ख़ुशी हुई क्योंकि उसकी सहेली के घर के लोग बड़े ही खुशमिजाज किस्म के थे. ब्लू पिक्चर गांव कीकरीब 10 मिनट बात उन्होंने लड़खड़ाती हुई आवाज से कहा- राज … अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा है … जल्दी से मेरी चूत में अपना ये मूसल डाल दो.

ऋतु- आह आह सनी, पूरा घुसा दिया फिर से … मेरी चूत मजा दे रही है … सी सी ई ई ई उफ्फ.

सेक्स में उसने अभी तो सिर्फ मुँह में लंड ही लिया था और चूचियां दबवाई थीं. उसी दौरान मेरी पत्नी रिया की खास सहेली ज्योति का फोन मेरे नंबर पर आया.

सब लड़के हमारी लेने के लिए चांस मार रहे थे किंतु दीपक और प्रकाश हमसे ज्यादा प्रभावित थे. वो झट से घोड़ी बन गई।मैं जानता था कि बहन की पहली चुदाई है तो पिंकू को थोड़ा सा दर्द होगा. तो भाई ने मुझे कस कर पकड़ लिया और मुझे होठों पर किस करते हुए तेजी से धक्के मारने लगे.

पर वो लड़का इस बात को समझ ना सके कि ये मौका उस लड़की ने खुद दिलवाया है, इसका ध्यान भी रखती है.

मेरी मम्मी और वह दोनों हंस हंस कर बात किया करते थे और एक दूसरे के पास बैठते थे. मेरी छाती पर छोटे छोटे लेकिन नजर में आ जाएं, ऐसे स्तन आकर लेने लगे थे. अगली बार से तू मोटे से मोटा लंड भी अपनी चुत में बड़ी आसानी से ले लेगी.

sax मराठीआपको देसी पड़ोसन आंटी जी की चुदाई कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल करना न भूलें. मैं आज अपनी लाइफ में आयी सबसे सुंदर हॉट और सेक्सी लड़की को चोदने वाला था.

police सेक्सी फिल्म

आप लोगों ने मेरी पुरानी सेक्स कहानीअब्बू ने बजाई बाजी की चूतपढ़ी होगी, तो आपको मेरी बाजी के बारे में पता होगा. मम्मी सिसयाती हुई बोल रही थीं- आंह और जोर से चोद मुझे … आंह पूरा अन्दर जा रहा है राजेश … बड़ा मजा आ रहा है. मनोज भी अपने सब कपड़े उतार कर नंगा हो गया और मुझे घुटने के बल बैठा कर लंड चुसवाने लगा.

[emailprotected]शीमेल पोर्न स्टोरी का अगला भाग:धर्म से धारा बनने तक का सफर- 3. उस दिन मुझे दोपहर में कॉल आया कि हमारी गाड़ी में कुछ प्रॉब्लम हो गई थी इसी लिए उन्होंने मुझे स्लीपर वाली एक लग्जरी बस के टिकट दे दिए जो कि काफी महंगा था. मैंने लंड हिला कर भाभी को ललचाया, तो भाभी मेरे करीब आकर घुटने के बल बैठ गईं और मेरे लंड को पकड़ कर चूसने लगीं.

मैं मन में सोचने लगा कि मेरे घर वालों ने मुझे जाने के बारे में क्यों नहीं बताया. मेरा नाम रोहन है, मेरी उम्र 21 साल है और मैं 6 फिट का लंबा चौड़ा लड़का हूँ. वो बेड पर खड़ी हो कर डांस करने लगीं और घूम घूम कर दादा जी को अपना नंगा बदन दिखाने लगीं.

सपना भी मेरा साथ दे रही थी लेकिन उसके मुँह से वो दर्द भरी आवाजें निकलना बन्द नहीं हो रही थीं. वो दुबारा बाथरूम में गई और अपने कपड़े चेंज करके गाउन पहन कर वापस आ चुकी थी.

मैंने उसे उसकी ड्रेस के रंग से बता कर पूछा- क्या आप वही हैं, जो सामने खड़ी हैं?उसने मेरी तरफ देखा और हाथ हिला दिया.

सपना बोली- हां इसलिए तो तुझे बुलाया है मेरी जान!मैंने देर न करते हुए सपना को किस करना चालू कर दिया. தமிழ் நடிகைகள் ஆபாச வீடியோआप लोग अगर मेरी सेक्सी चुदाई कहानीमुंह बोली बेटी ने पापा से औलाद मांगीको पढ़कर मुझे इतना प्यार न देते और मुझे इतना मोटीवेट न करते, तो मेरी इतनी हस्ती कहां थी … जो आपके सामने ऐसा नया नजराना पेश करने की हिमाकत करता. सेक्सी वीडियो एक्स एक्स एक्स एचडीउसी गोली ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया था।रेखा ने भी खुद को नंगी कर दिया और मेरा लौड़ा अपने मुंह में लेकर चूसने लगी. दोस्तो आपको मेरी हवस भरी काल्पनिक सेक्स कथा हिन्दी में कैसी लग रही है, प्लीज़ मुझे मेल करें.

जैसे ही मैंने मुंह खोला, उसने चुत को मेरे मुंह में लगा अपना पानी छोड़ने लगी जिससे मेरा मुंह भर गया।मैं सुमन का सारा माल पी गया।अब सुमन बेसुध होकर सो गई, उसका काम हो गया था।20 मिनट आराम करने के बाद सुमन उठ कर मेरे लन्ड को मुंह में ले कर चूसने लगी, मेरा लन्ड खड़ा किया।मैंने सुमन को अपनी जींस से कॉन्डम निकाल कर दिया.

ऋतु कराही- उफ़ सनी … मेरी जान ही लोगे क्या आज … पैंटी उतार कर चूसो न मेरी जान!सनी ने चीते की फुर्ती से ऋतु की पैंटी उतार दी और जैसे ही उसने ऋतु की चूत को देखा, उसका लंड जोरदार हुंकार मारते हुए फनफनाने लगा. निप्पल मसलने से मामी कराहने लगीं- आउच ओह बेबी हल्के से दबाओ ना … मैं कहीं भागी नहीं जा रही हूं. उसकी गर्म सांसें मेरी चुत को एक अजब सा नशा दे रही थीं और मैं उसके सर पर हाथ रखे हुए उसे सहला रही थी.

उन्होंने अपने पति के बारे में भी लिखा था कि वो उनके हिसाब के नहीं हैं. अब पापा बोले- तो भोसड़ी के हमारे लंड में क्या कांटे लगे हैं, जो तुझे दर्द होने लगेगा. उन सभी के साथ क्या हुआ … ये बाद में लिखूँगा, अभी मीना के साथ क्या हुआ, उसका मजा लीजिए.

छोटी सरदानी

मैंने एक तेज शॉट मारा और मेरा पूरा लंड उसकी चुत में बिना किसी अवरोध अन्दर घुसता चला गया. मैं बोला- अब मैं आ गया हूँ ना … तुमको चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है!ये कह कर मैंने जल्दी से अपना लंड निकाला और तुरंत ही उसके मुँह में डाल दिया. मेरी हॉट कॉलेज सेक्स कहानी के पहले भागमेरी पहली चुदाई की दास्तानमें अब तक आपने पढ़ा था कि मेरा ब्वॉयफ्रेंड शैंकी मुझे नंगी करके अपने साथ लिटाए हुए था और मेरे दूध चूस रहा था.

मैं लंड को तुनकी मार रहा था तो भाभी की गांड हल्के हल्के से लंड से रगड़ खा रही थी.

शिल्पा दीदी सीत्कारती हुई आवाज निकालने लगीं- आह … उह … अरे यार प्लीज़ … आह!थोड़ी देर के बाद शिल्पा दीदी की चूत ने पानी छोड़ दिया।कुछ पल बाद दीदी ने उस लड़के का लंड अपने मुँह में लिया और अन्दर बाहर करने लगीं.

मुझे गर्मी सी लगने लगी थी; मैंने अपनी शर्ट उतार दी और मीना की साड़ी भी खींच कर अलग कर दी. स्वाति ने उन्हें मोहिनी और मेरे से मिलवाया।हमने उन्हें हमारे घर आने का निमंत्रण दिया।स्वाति और मोहिनी फ़ोन पर बात करते रहते. सेक्सी दो हिंदीथोड़ी देर लंड रगड़ने के बाद मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ तो मैंने अपना लंड लोअर से बाहर निकाल लिया और उनकी गांड पर रगड़ने लगा.

प्रदीप बोला- हम दोनों का एक बार हो गया है … अब क्या करना है?सपना ने लंड को मुँह से बाहर निकाला और मुँह बनाकर बोली- वहीं जाओ और बैठो, जितना करना है करो. इसके अलावा मुझे ऐसी सेक्स कहानियां भी पसंद हैं, जो अनजान लोगों के मिलने से चुदाई तक बात पहुंच जाती है. मैं उनके पीछे पीछे चल दिया और रूम में जाते ही मैं भाभी पर टूट पड़ा.

मैं उनके एड्रेस पर पहुंचा तो मेरा स्वागत मेरी भाभी ने गेट खोल कर किया. वो लंड चूसने लगी तो मैंने उसके बालों से पकड़ कर झटके देने शुरू कर दिए.

मैंने तुम्हें बचपन मैं ही बिना कपड़ों का देख लिया है और वैसे भी कल रात को तो …रेणु ने मेरे मुँह पर हाथ रख दिया और झट से अपनी टी-शर्ट उतार दी.

वो मुझसे बोली- आज तुमने मेरी चुत की प्यास बुझा कर मुझे तृप्त कर दिया. फिर बोली- देख मैं तेरे से बड़ी हूँ, मंजू को तेरे से मिलवाने में मैं तेरी मदद कर दूंगी. नीता बोली- आज मैं आपसे धार्मिक विषयों पर खूब चर्चा करूंगी क्योंकि मुझे बहुत अच्छा लगता है.

ভাই বোনের সেক্স चाचा अपना हाथ मम्मी के सलवार के अन्दर डालना चाहते थे तो उन्होंने मम्मी को इशारा किया. 2 बार चूसने के बाद मैंने लंड मुंह से निकाल दिया।मैं उनको तड़पाना चाहती थी ताकि वो अपना लंड चुसवाने के लिए मेरी हर बात मानें.

गाँव की लड़की की चूत कैसे चुदी:कुछ देर बाद बारिश बन्द हो गयी तो मैं उठ कर बाहर आ गया. आंह क्या पिंक निप्पल थे!मैंने एक निप्पल को जीभ से चाटना शुरू कर दिया और दूसरे दूध को हाथ से मसलना शुरू कर दिया. आप जब चाहें मुझे बुला सकती हैं, पर मैं अपनी सुविधा के अनुसार ही आऊंगा.

ब्लूटूथ पिक्चर नंगी

धन्यवाद[emailprotected]मामी के साथ गर्म सेक्स किचन में का अगला भाग:लखनऊ वाली जवान मामी की कामुकता- 4. उसका रंग गोरा, सुनहरे बाल, लाल होंठ, पतली कमर, बूब्स का साइज़ 32B, चूतड़ों का साइज़ 34 इंच … वो अपने आपमें कमाल का माल है. इधर सपना बोली- प्रदीप तुम गेस्ट रूम में प्रिया के साथ चले जाओ, अंकित और मैं अपने ही रूम में रहेंगे.

मेरा और अभिषेक का लन्ड बराबर ही था लेकिन मेरा लन्ड गोरा था और अभिषेक का लन्ड काला था जैसा उस वीडियो में उस आदमी का था।अब वह हमारे लंड को बड़े ध्यान से देख रही थी और जोर-जोर से हिलती जा रही थी. मेरा लम्बा लंड लेने में उसकी भी चीख निकल गई थी तो मुझे पता था कि मंजू भी जरूर चीखेगी.

पूरी रात तुझे चोदूंगा,मैंने अपनी नाइटी हटा दी और उसके सामने चुत खोल दी.

अब उसे अहसास हो रहा था कि आखिर क्यों लड़की को एक अनुभवी व्यक्ति से जरूर चुदना चाहिए. बाथरूम से आकर मैं दोबारा उसके ऊपर चढ़ गया और फिर से बहेन की चुदाई करने लगा. मैंने उसके नग्न स्तनों को देखा तो मैं इतना उत्तेजित हो गया कि मैंने झट से उसके एक दूध को अपने मुँह में ले लिया.

पहले शॉट में ही मैंने अपना आधे से ज्यादा लंड भाभी की चूत में पेल दिया. मगर उस फौजी ने बहन के लांचा के नाड़े को पकड़ कर खींच दिया, जिससे लांचा निकल गया. मैंने बेड पर एक बड़ा गद्दा लगाया और छोटे गद्दे अपनी बांहें रखने के लिए अगल बगल में लगा दिए.

इन हालातों में ही तीन दिन बाद अस्पताल वालों ने मुझे सिर्फ एक फोन करके बता दिया कि आपकी पत्नी का देहांत हो गया है और हम उसका अंतिम संस्कार कर देंगे.

ओन्ली हिंदी बीएफ: तभी चाची ने मेरे सिर को अपनी चुत में दे दिया और मैं उनकी चुत से टपकने वाले जवानी के रस को चूसने लगा और चाची की चुत को पिए जा रहा था. उस समय भाभी ने इतनी जोर से अपने पैरों को जकड़ लिया था कि लंड मानो चुत में फंस सा गया था.

जीजू का लंड मेरी जीभ की नोक से टच होता और मैं उसी पल जल्दी से अपनी जीभ लंड के टोपे पर फिरा कर जीजू को मजा दे देती. उसी ने बताया था कि जब भी किसी कुंवारी लौंडिया को चोदो, तो निरोध लगा कर चोदना. फिर तो उस अधकचरी सेक्स की किताबों का ज्ञान काम आया और मैं उसको गर्दन और यहां वहां चूमने लगा.

दूसरे ने कहा- जरा माल तो दिखाओ रानी … क्या क्या माल है तेरे पास!मेरी बहन इठला कर बोली- साले माल देख कर बेहोश हो जाओगे.

तीन तीन पैग के बाद मैंने मोना भाभी से कहा- अब बताइए कि आपको अपने पति से क्या परेशानी है. मेरे बायां हाथ रेणु की छाती पर था, वो भी इस तरह, जैसे मैं उसके बूब्स दबा रहा हूं. मौसी के टॉयलेट जाने की बात सुनकर उनकी लड़की बोली- अब ये दस पन्द्रह मिनट के लिए गईं.