बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो

छवि स्रोत,अमरपाली सेक्सी गाना

तस्वीर का शीर्षक ,

बांग्ला सेक्सी भाभी: बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो, वहीं पास में कुछ लोग और खड़े थे, फिर भी अंकित पास आकर बोला- वन्द्या मान जा और चुदाई करवा ले! मुझसे अच्छा लन्ड और कहीं नहीं पायेगी.

हॉट सेक्सी भाभी मूवी

इस बार पूरा लंड प्रिया की चूत में चला गया और उसकी चीख निकल गई ‘उह्ह … उह्ह …’प्रिया को दर्द हो रहा था, पर उसने मुझसे छूटने की कोशिश नहीं की … क्योंकि उसे भी पता था कि ज्यादा दिन बाद सेक्स हो रहा है, तो उसकी चूत भी टाइट हो गई है. पुरानी सेक्सी दिखाओवो तो बहुत दिन पहले ही हो चुकी है।पापा ने कहा- आओ आओ अंदर आकर बात करते हैं.

”अरे इसमें शर्माने की क्या बात है… आज कल सभी देखते हैं… मैं और तुम्हारी मम्मी भी …”ईट्स ओके पापा … वह आप की पत्नी है… आप उनके साथ कुछ भी कर सकते हो. પોલીસ સેક્સ વીડિયોवो अपने फार्म हाउस, जो शिमला के पास है, में रहना पसंद करते हैं और इसलिए बीच-बीच में वहां जाते रहते हैं.

जब मैं उनके साथ रहूँ तो उनकी बीवी बनकर रहूँ और जब मैं कमरे पर रहूँ या कॉलेज में रहूँ तो विद्यार्थी बनकर रहूँ.बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो: ऊपर से मयूरी ने उसका लंड अपने हाथ से पकड़ रखा था और बीच-बीच में दबा भी रही थी.

मेरा लंड तो उसके छूते ही खड़ा हो गया, मेरे लंड को पहली बार किसी औरत का छुअन ज्यादा समय तक सहन नहीं हुआ और मेरा स्खलन हो गया और पैंट में से गीला सा दिखने लगा, फिर मैं अपने आप को कंट्रोल नहीं कर पाया और मैंने उसे कस कर अपनी बांहों में जकड़ लिया, वो हड़बड़ाकर दूर हो गयी।फिर उसने मुझसे 10-15 दिन तक कोई बात नहीं की और ऐसे ही चलता रहा.वो बहुत खुश थी और विदा होने से पहले मुझसे बोल रही थी कि दीदी आप ज़रूर पिछले जन्म में या तो मेरी माँ रही होंगी या फिर मेरी बड़ी बहन, जो कि मेरी देखभाल करती रही होंगी.

ब्लू फिल्म सेक्सी हिंदी मे - बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो

नाजुक अंग है तो थोड़ी एहतियात से करना।” उसने मेरी स्वीकृति की परवाह किये बगैर बंधी हुई टॉवल को पेट तक उठा दिया।और तब मुझे पता चला कि उसने नीचे चड्डी नहीं पहनी हुई थी।क्रमशःआप मेरे बॉस की सेक्सी बीवी की कहानी के विषय में मुझे अपनी राय से मेरी मेल आईडी या फेसबुक पर अवगत करा सकते हैं…[emailprotected]फेसबुक: https://www.मैंने उसे पकड़ लिया और उसकी तरफ होंठ बढ़ा कर चुम्मी का इशारा किया, तो उसने अपनी बांहें फैला दीं और मैं उसके करीब होकर उसे लिप किस करने लगा.

इसकी महक बहुत ही मदहोश करने वाली है, मैं अब तक मैं ज्यादा तो नहीं, पर दस बारह लड़कियों को ही चोद चुका हूं. बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो ऐसा कहते हुए बड़े ही कामुक अंदाज़ में अपना हाथ अपनी पैंटी में डालकर अपने चूत को छेड़ने लगी.

भाभी ने बताया कि वह हमारी सारी सेक्सी मैगजीन देखती रहती है, उसके पास एक पतला सा प्लास्टिक का चाइनीज़ डिल्डो भी है, जिसे वह यूज़ करती है.

बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो?

चाची लंड को जोर जोर से हिलाते हुए कहने लगीं- आपका लंड भी तो मेरी चूत चोदने के लिए देखो. मैंने उस दिन अंदर काली समीज और नीली ब्रा पहनी थी, वो मेरी शमीज के ऊपर से ही मेरे दूध को दबाने लगा, मैं पूरे जोश में आकर सिसकारियां लेने लगी, वो जोर जोर से दूध दबाये जा रहा था और मेरे होंठों को चूमे जा रहा था. मैंने कहा- हिमानी! यह लौड़ा है, भगवान ने चूत के लिए इसे बनाया है और चूत को कोई नुकसान न हो इसलिए इसके सुपारे को आगे से सॉफ्ट और गुदाज बनाया है, चूत में भी बहुत कैपेसिटी होती है इसे लेने की.

अब उसके साथ मुहब्बत का ये सिलसिला सहलाने के साथ रोज शाम को किस करने पर ही खत्म होने लगा था. तीनों को इस बात की पुष्टि हो चुकी थी कि अब जल्दी ही माँ-बेटों की चुदाई होने वाली है और आपस में पूरी सहमति है. तो ऐसे ही उन्होंने मुझे सरप्राइज देकर किसी सहेली से मिलाया और हमने साथ में कई मर्तबा चुदाईयां कीं.

मेरी प्यासी चूत की कहानी के पहले भागशादी में चूत चुदवा कर आई मैं-1में आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपने पति के साथ राजस्थान के एक गाँव की शादी में आई. मैं चन्द्रप्रकाश भोपाल में पढ़ने के लिए गया था और कमरा लेकर अकेला रहता था. ये सब उसने अकेली प्लान किया था और उसने सारी बात अपने परिवार में किसी को भी बताई नहीं थी.

रजत- तो क्या हुआ… कोई बात नहीं… हम अपने घर में हैं… और घर पर कोई नहीं है… तो किसी को पता नहीं चलेगा… तुम निश्चिंत रहो. भाभी का पति अपनी फैमिली को अपने पास शहर में ले गया और मैं आज तक प्यार की तलाश में अकेला ही हूँ.

कमल के जैसी आँखें, रंग एकदम गोरा और उसकी मुस्कुराहट पर तो मैं क्या.

पर अशोक अभी रुकने के मूड में नहीं था, उसने एक और झटका मारा और बाप का लंड जड़ तक बेटी की गांड के अंदर चला गया.

कुछ समय में वो अपने दर्द को भूलकर चुत चुदाई का मजा बंद आँखों से लेने लगी. उन्होंने अलमारी खोलकर एक एलबम निकाला और मेरे सामने एक तस्वीर कर दी. पूजा तब मेरे मुरझाए हुए लंड को पकड़कर हिलाते हुए बोली- टॉयलेट क्यों जाया जाता है.

मैंने कहा कि मामी आप चेंज कर लीजिए, मैं बाहर से खाना ले कर आता हूं. हमारी टैक्सी लाल किले के निकट पहुंच रही थी; किले की गुम्बदें साफ़ दिखाई देने लगीं थीं इधर कम्मो की जांघों के बीच छुपा लालकिला भी मुझे ही पुकार रहा था जिस पर मुझे चढ़ाई करके जीतना था पर सुरक्षित जगह की वजह से पता नहीं जीत भी पाऊंगा या नहीं. सच में उसके मम्मे इतने सॉफ्ट थे कि मैं खुद को रोक ही नहीं पाया और उसके टॉप के ऊपर से उसके एक चूचे को चूसने लगा.

बलवंत ने मुंह में बहुत सारा थूक इकट्ठा किया और एक पिचकारी सी मारते हुए मेरी गांड के छेद पर फेंकने लगा.

चाँदनी की हल्की सी रोशनी में हमारे बदन किसी छाया की तरह दिख रहे थे. वैसे भी इंसान एक लंड और एक चूत से ज्यादा और है भी क्या। सगे रिश्ते तक मर्यादा तो फिर ठीक है लेकिन जहां शादी जायज है वहां चोदने में क्या परेशानी. वो मुझे किस करते ही जा रही थी, तो मैंने भी उसे सहयोग करना शुरू कर दिया.

जैसे ही ट्रेन आई, मैंने अपना बड़ा बैग जैसे तैसे ट्रेन में भीड़ से घुसते हुए रखा. साथ-ही-साथ ऊपर नीचे कूदने की वजह से उसकी छोटी सी स्कर्ट जो पहले ही पड़ी मुश्किल से उसकी चूत और जाँघों को ढक पा रही थी, बार-बार हवा में ऊपर ही रह जा रही थी और उससे मयूरी की जांघें और गांड बिल्कुल नंगी सामने से नजर आ रही थी. मुझे मेरे लंड पे गर्म खून का अहसास हुआ और साथ उसके पानी से लंड पे बहुत गर्म अहसास होने लगा.

मैं उसे उठा कर बाहर रूम में ले आया और उसे और खुद को तौलिये से सुखाया.

अब भाभी की हरकतें, जैसे उन्हें मेरी तरफ आकर्षित होना देखकर मुझे लगने लगा था कि उनको भी मेरी ज़रूरत महसूस होती होगी. इसका टेस्ट थोड़ा नमकीन था, लेकिन मुझे बहुत पसंद आया और मैंने उनका सारा वीर्य चाट लिया.

बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो मुझे मेरे भाई ने खूब मजा दिया, मेरी वासना की पूर्ति का साधन अब मेरा भाई बन गया था. इस पर वो बहुत खुश हो गई और बोली- यार दोस्त हो तो कोई तुम्हारे जैसा, वरना यहां तो सब साली हरामजादियां ही हैं.

बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो उनके नर्म गुदगुदे स्तन चोली में से उभरी हुई चोटियों की तरह मुझे आमंत्रित से कर रहे थे. तब उसने मेरी ब्लाउज और पेटीकोट भी निकाल दिया और मैं उसके सामने ब्रा और पेंटी में हो गयी.

मैं और मेरे पति बहुत दिनों से इस साईट पर चुदाई की कहानी पढ़ रहे हैं.

सेक्सी फिल्म ब्लू सेक्स फिल्म

मैं समझ गयी कि उसने अन्दर कुछ नहीं पहना है और साथ ही अचंभित भी थी कि जिस प्रकार लिंग झूल रहा था, वो काफी बड़ा लग रहा था. दोस्तो, आज मेरी कहानी एक मेरी अन्तर्वासना पाठिका की है, जिसने मुझे अपने घर बुला कर चुत चुदाई कराई. हमें कुछ नहीं करवाना है आपसे न कुछ दिखाना है आपको, बस!” कम्मो अभी भी जिद पर अड़ी थी.

मैं बस चाहता था कि जैसे पॉर्न में थ्रीसम के वक्त तीसरा पार्टनर बिना सेक्स किए सपोर्ट करता है, वैसे आप भी सपोर्ट कीजिये न. मैंने उनके दोनों पैरों को फैलाकर चुत को सूंघा तो उनकी चूत से एकदम मदहोश कर देने वाली खुशबू आ रही थी. इसकी कोई प्राब्लम है, जो यह खुद ही आपको बताएगी मगर आप इससे ज़बरदस्ती ना कुछ भी पूछना.

सुबह उठकर देखा तो टीम और स्टीव जा चुके थे, साहिल मेरे बराबर में नंगा सोया हुआ था मगर आयेशा वहाँ नहीं थी.

विक्रम और रजत एक साथ- कककक… क्या????मयूरी- हाँ… तुम दोनों बिल्कुल सही सोच रहे हो. थोड़ी देर जब मैं थक गया तो उसको अपने बगल में लेटे हुए लंड लगाए हुए लेटा रहा. फिर उन्होंने मुझे अपनी तरफ को किया और बोले कि मुझे तुम बहुत अच्छा लगते हो और मैं तुम्हें प्यार करना चाहता हूँ.

कुछ देर इसी प्रकार चोदने के पश्चात् हम दुबारा अपने दोनों लंड सेक्स की देवी के सबसे बड़े छेद में घुसेड़ देते और खूब घिच-पिच कर मुंह को इकट्ठा चोदने लगते. मेरी सास ने मुझसे सबके जाने के बाद कहा- बहू मुझे नहीं पता था कि मेरे घर पर तुम जैसे बहू आई है. उससे पहले मेरी लम्बी कहानीपापा की चुदक्कड़ सेक्रेटरी की चालाकीआपके समक्ष आ चुकी है.

एक बार मैं अपनी दीदी के देवर के साथ घर में किसी को बिना बताए घूमने चली गयी थी. उसने उस पर एक क्रीम चिकनाई के लिए लगाई और उसे फिर से उसके गुप्तांग में घुसा धक्के मारने लगी.

’मैं उसको इतनी जोर से चोद रहा था कि लग रहा था जैसे आज इसकी चुत फट कर भोसड़ा बन जाएगी. लेकिन शादी के कुछ दिन बाद जो चुदाई चालू हुई, तो बस रात दिन ठुकाई ही होती रही. मैंने भी जल्दबाजी नहीं की और धीरे धीरे उसकी छाती को चूमना सहलाना शुरू कर दिया.

इसी के साथ साथ अपने होंठों से मेरे लंड पर किस करने लगीं और लंड के आगे वाले भाग को अपने मुँह में लेकर अपनी जीभ से स्पर्श करते हुए चूसने लगीं.

तभी एक दिन प्रिया मुझे अपने घर बुलाती है और मैं प्रिया के घर जा कर उसकी शाम तक 5 बार उसकी चुदाई करता हूँ. मैंने उससे कहा- मेरी मम्मी ने राजमा चावल बनाए हैं … चलो हम दोनों पहले लंच कर लेते हैं … फिर कैरम खेलेंगे. सत्यम ने कहा कि वो मेरे साथ ठीक उसी तरह से सुहागरात मनाएंगे जैसे उन्होंने उनकी पहली बीवी चांदनी के साथ मनाई थी.

कुछ देर बाद मौसी अपना काम खत्म करके आईं और रूम अन्दर से बंद करके बेड पे लेट गईं. जो एक साथ पूरा का पूरा लंड घुसेड़ दिया, ज़रा धीरे धीरे चोदो ना, मैं कोई भागी जा रही हूँ क्या?मैंने तब धीरे धीरे धक्के मारते हुए कहा- माना कि ये कोई रंडी की चूत नहीं है, लेकिन ये एक छिनाल की चूत तो है, जो अपने पति के अलावा दूसरे मर्द से अपनी चूत चुदवा रही है.

मैं एक ही झटके में पूरा उसकी गांड में डालना चाहता था, पर अभी भी उसकी गांड थोड़ी टाइट थी इसलिए इस झटके में मेरा आधा लंड ही अन्दर गया होगा कि वो चीख पड़ी. उसी शादी में मुझे कमलेश नाम की ग्रामीण बाला भी मिली थी जो कि रिश्ते में मेरी बहूरानी की भतीजी लगती थी यानि मैं एक तरह से उसका दादाजी लगता था. फिर उसने अपने बारे में बताया कि वो हैदराबाद की है, उसके हस्बैंड के जॉब के कारण यहां आयी है.

इंग्लैंड की फुल सेक्सी वीडियो

मैंने उसकी टांगों को फैलाया और उसके दोनों घुटनों को थोड़ा मोड़ा तो वह घबराने लगी और बोली- यह तो बहुत मोटा है, मुझे डिल्डो से ही मजा दे दो.

वह अपने आपको छुड़ाने लगी और बिस्तर पर इधर उधर भागने लगी लेकिन मैंने छोड़ा नहीं … मैं बस उसको चोदे जा रहा था. लेकिन अब मैं उनकी चूत में धीरे-धीरे लंड डालने लगा, चूत अभी भी टाइट थी, मैंने पूछा- रेशमा रानी, इतनी टाइट?तो उन्होंने कहा- पिछले दो महीने से अपने हस्बेंड को छूने भी नहीं दी है. अगले दिन जब मैं उनसे कॉलेज में मिला तो मुझे उनसे मिलने में बहुत शरम आ रही थी.

अब मैंने बेहिचक पायल की कमर को कसकर पकड़ लिया और अपने लंड को चुत के छेद पर सैट कर दिया. अब मैंने उनके पैरों से चूमना शुरू किया और उनकी जांघों व नाभि को किस करता हुआ दोनों स्तनों तक पहुंच कर उन्हें मुँह में भर कर चूसा, चूमा और जीभ से चाटने के साथ-साथ हाथों से भी दबाया, सहलाया व मरोड़ा. मराठी सेक्सी ॲटमउनका पेटीकोट ढीला था, तो मुझे उनका पिछवाड़ा भी दिख रहा था और उनके बोबे जोकि नंगे थे साफ दिख रहे थे.

दोस्तो, ये मेरी ज़िंदगी के सबसे हसीन लम्हे थे, मेरी सेक्सी मौसी मेरी बांहों में थीं, वो मेरा लंड सहला रही थीं और मैं उनकी गर्म चूत को सहला रहा था. मैंने उससे कहा- सुनो मेरी एक दोस्त है, जो पूरी एक नंबर की चुदक्कड़ है, उसका नाम मालती है.

उनके गोल और बड़े आकार के मम्मों को छूकर मैं मन ही मन बहुत खुश हो रहा था. पर बाद में जैसे जैसे गपशप होने लगी, कहानियों का, पॉर्न का और सेक्स का जिक्र होता गया, माहौल अपने आप बनता गया. उसने ऑफिस पहुँचते ही फोन किया- और सुनाओ मीता रानी, क्या हो रहा है?मैंने कहा- बस आराम कर रही हूँ तुम्हारी बदौलत.

थोड़ी देर जब मैं थक गया तो उसको अपने बगल में लेटे हुए लंड लगाए हुए लेटा रहा. उसने मेरा पैग जो कि हाफ हो गया था, उसको उठा लिया और एक ही सांस में पूरा पी लिया. मैंने उसके आंसू पी लिए और उसे किस करते हुए चूचों को मसलता रहा, जिससे उसे दर्द कम हुआ.

प्रिया को ये बहुत अच्छा लगा और वो अपनी गांड को हिलाते हुए बोल रही थी- आह … ऐसे ही और जोर जोर से चाटो … हां हां ऊऊह … ओह्ह …प्रिया अब पूरी तरह से चुदने को तैयार हो चुकी थी.

इस चुदाई से उसे खूब मजा आया था और वो मुझसे बहुत खुश हो गई थी और अब तो गाहे बगाहे उसकी चुदास को मेरा लंड शांत करने लगा था. इतना कहकर उन्होंने मेरा एक हाथ पकड़ कर रज़ाई के अन्दर से ही अपने मम्मों पर रख दिया और मेरी तरफ देखते हुए मुस्कारने लगीं.

मेरी चूत एकदम टाइट थी, उसकी उंगली ठीक से अंदर नहीं जा पा रही थी, वो फिर भी कोशिश करता रहा और उसकी उंगली मेरे अंदर तक चली गई. हिमानी की मम्मी लगभग 37-38 साल की सुन्दर और मस्त माल थी जो मुश्किल से 30-32 साल की लग रही थी. मैं कुछ कुछ समझ तो गया था, सो मैं जल्दी से उनके बगल में ही लेट गया.

जैसे अंकित मेरी पीठ से चिपका, उसका जो मेरे पीछे चुभ रहा था, मैं समझ गई कि अंकित का लन्ड है और अंकित सो नहीं रहा क्योंकि उसका लन्ड खड़ा हुआ था. हनी के साथ खेलने के बहाने मेरी भाभी भी मेरे साथ मस्ती करने लगी थीं. मैंने अपने ऊपर से रज़ाई हटाई और दोनों तकियों के साथ सेक्स शुरू कर दिया.

बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो किस करते हुए जैसे ही मैंने पूजा की सलवार खोलनी चाही तो पूजा दूर हो गयी और बोली- बस आज के लिए इतना ही … बाकी फिर कभी।मैंने काफी मिन्नतें भी की पर पूजा के दिमाग में बड़ा प्लान चल रहा था जो मैं उस वक्त नहीं समझ सका। लेकिन तब तो मैं पूजा से गुस्सा हो गया. उसे और ज्यादा मजा आने लगा और कमर उठा उठा कर चुत में उंगली लेने लग गई.

అంకుల్ సెక్స్ వీడియోస్

मैंने अपने घर पर अपने काम को लेकर सोमवार तक बाहर जाने का बोला, तो मेरे घरवाले भी बड़ी आसानी से मान गए थे. एक दिन मैं ऑफिस से घर आया तो वो मेरे घर में मेरे पत्नी के साथ बात कर रही थीं. मयूरी को अब बहुत ज्यादा आनन्द आने लगा, उसने अपने होंठ पापा की होंठों पर रख दिए और जवाब में पापा ने भी अपने होंठों से उसके निचले होंठ को कैद कर लिया.

थोड़ी ही देर में उसने अपना दूसरा हाथ, जो बेटी की गांड के छेद में व्यस्त था, को वहां से आजाद कर उसको मयूरी की चूचियों पर लगा दिया, इस तरह से अशोक अब पूरी तरह अपना ध्यान उन विशाल और बहुत ही आकर्षक गोरी चूचियों को चूसने और मसलने में व्यस्त हो गया. तुम चोदते रहो … जब तक तेरा वीर्य नहीं निकलेगा, तू मुझे चोदता रह … मैं पीछे नहीं हटूंगी. नंगी से नंगी सेक्सीवो अपना मुंह हथेलियों से ढके सीधी लेटी थी, उसके उन्नत उरोज सांसों के उतार चढ़ाव के साथ उठ बैठ से रहे थे; दोनों पैर अलग अलग से फैले थे जिससे उसकी मांसल जांघों का वो फैलाव उसके बदन की कामुकता को और प्रबलता से दर्शा रहा था.

आपको मेरी दीदी की चुत चुदाई की हिंदी सेक्स कहानी कैसी लगी, जरूर बताइएगा.

मुझे ये तो पता लग गया था कि यहां पर लड़कियां अपनी चूत के बल पर ही नौकरी को निभा रही हैं वरना काम करने में तो इन सबकी माँ चुदती है. खैर जैसे-तैसे शाम हुई, अशोक घर आया और अपने कमरे में आराम करने चला गया.

इस मुलाकात से बाद अब जब भी सोनिया मुझे कहीं पर भी मिलती तो बात कर लेती थी. तू तो मेरी प्यारी प्यारी गुड़िया रानी है न!” मैंने बहुत ही मीठी आवाज में उसे मक्खन लगाया. और जो गुण एक संस्कारी बहू में होनी चाहिए वो सारे गुण मेरे अन्दर हैं.

मैं भी अब तक समझ गयी थी कि मुनीर की हालत अब बहुत खराब हो चली है और वो जल्द से जल्द झड़ना चाहती है.

मैंने अपने रूम का दरवाजा हल्के से खोला और फिर मनीषा के रूम की तरफ दबे पांव गया. मेरी बहूरानी और कम्मो दोनों भी खूब जम के डांस कर रहीं थीं; मैंने जेब से रुपये निकाल कर उन दोनों के ऊपर से न्यौछावर कर बैंड वालों को दे दिये. घर आकर मैंने खाना खाया, मम्मी पापा से थोड़ी बात की और आराम करने के लिए लेटा ही था कि भाभी हमारी बाल्टी लेकर आ गईं.

सेक्सी बड़े बूब्सपता नहीं किस जन्म के किए कर्मों का फल ईश्वर ने मुझे दिया है जो तुम जैसे बहू मिली है. अब मैं लड़की हो चुकी थी तो मेरे छटी इन्द्री कह रही थी कि आज कुछ बहुत अलग होगा.

जानवर कुत्ता सेक्सी वीडियो

मुझे लड़कों में भी रुचि है, ये मुझे दसवीं क्लास में ही पता चल गया था. प्लीज प्रिया … ऐसा मत करो … बोलो ना … मैं जानता हूँ, तुम्हें सब पता है. अरे के डी एल पी नहीं के एल पी डी, मतलब खड़े लंड पर धोखा दे रही है तू!”अंकल देखो, मैं कोई धोखा नहीं दे रही आपको, मुझे शर्म आती है उजाले में बस.

लगभग दस मिनट तक मैंने दीदी के दोनों मम्मों को चूसता रहा और उनका मीठा दूध पीता रहा. है तो आपके ससुर ही, आप उनकी मदद कर देना और उन्हें इसके बारे में थोड़ा सचेत कर देना ताकि वे अपने कदम फूंक-फूंक कर रखें!उनकी बातें करने के बाद हम थोड़ी देर बाद नार्मल बातों पर आने लगे. फिर मैंने भी देर ना करते हुए भाभी के सारे कपड़ों को उतार दिया और अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी थीं.

उसके कंठ से हल्की मादक सिसकारियों की आवाज़ बाहर तक आसानी से सुनाई दे रही थी. मैं पल्लवी के ऊपर से उतरकर उसके बगल में आ गया।एक बार इस अमृत को पीकर देखो, अच्छा लगेगा।” मैंने पल्लवी को आग्रह किया. मैंने जैसे ही दरवाजा बंद किया पीछे से ज्योति ने मुझे अपनी बांहों में भर लिया.

वो मेरी चूत चाटने के बाद अपना लंड मुझे चूसने के लिए बोला और मैं अपने भाई का लंड चूसने लगी. इस भाग में हुई देरी के लिए माफी मांगती है आप सबकी जान रूपिंदर कौर![emailprotected]^नशे में चूर^^बूंद, अंश.

इसी प्रकार श्लोक को भी उसके बच्चे से अपनापन होगा, हम चारों के बच्चे हमारे बच्चे होंगे और कोई भेद नहीं होगा। अगर ऐसा होता है तो तेरा बच्चा मेरा बच्चा की भावना भविष्य में हमारे सामने नहीं आएगी.

मेरा हाथ पूरा फ़ैलाने के बाद भी उसकी गांड को पूरी तरह से नहीं ढक पा रहा था. బ్రదర్ అండ్ సిస్టర్ సెక్స్ వీడియోआप खुद बजरिये इस कहानी जान लेंगे तो लीजिये सुनिए:कॉलेज में उस दिन एक्स्ट्रा क्लास थी. सेक्सी भाभी गांव वालीकम्मो ये ब्रा भी उतार दो अब”क्यों, क्या मुझपे अच्छी नहीं लगी ये?”अरे बेटा, वो बात नहीं है. उसको ठीक कराकर घर छोड़ने में रात हो गयी, जिसका धन्यवाद उसने मेरे होंठों पर किस करके दिया.

अब मैंने भी बिना देर किए भाभी को सीधा लेटाया और अपना लंड उनकी चूत की फांकों में लगा कर अन्दर डालने लगा.

पर तेरी मम्मी के और भी यार हैं, सब पैसे वालों को तेरी मम्मी फंसा के रखती है. डांस वांस करके फोटो खिंचवा के हम लोग धीरे से बारात के पीछे होते जायेंगे और फिर चुपके से निकलकर यहीं धर्मशाला में आ जायेंगे. बस मिरर के सामने खड़े होकर उसकी पेंटी और ब्रा को पागलों की तरह सूँघे जा रहा था.

एक दिन बुआ जी ने कहा- अब तो कुछ टाइम बाद मैं चली जाऊंगी, उसके बाद तुम क्या करोगे?मैंने कहा- दीदी, आपकी मुझे बहुत याद आएगी, अगर आप कहेगी तो मैं कभी कभी आपसे मिलने आ जाया करूँगा. एक दिन भैया को किसी बुक स्टोर से कोई किताब लानी थी तो उन्होंने मुझसे फोन पर कहा कि ला देगा क्या?मैंने कहा- ठीक है. उसके धक्कों में इतनी ताकत थी कि तारा खुद को रोक न पाई और उसका पूरा बदन थरथराने लगा.

भाई बहन का सेक्सी वीडियो भाई बहन का

मैंने सोचा ‘यह क्या … आया था मैं यहां पर मालकिन के लिए … लेकिन यहां तो नौकरानी भी चूत खोले बैठी है! इसका मजा भी मुझे चख लेना चाहिए!जब वह मुझे बाथरूम में छोड़ कर बाहर जाने लगी तो मैंने उसका हाथ पकड़ा कर अपनी ओर खींच लिया और उसकी चूचियां दबा दी, साथ ही कस कर एक किस कर दिया मनमाने ढंग से!वो मुझसे खुद को छुड़ाने की कोशिश करती रही लेकिन वह असल में छुड़वाना भी नहीं चाह रही थी, मजा लेना चाह रही थी. इस पर उसने मुझे टोन्ट मारते हुए कहा- सच्चा प्यार घुस गया ना तुम्हारे पिछवाड़े में? आजकल कोई भोसड़ी का सच्चा प्यार नहीं करता. मैं कल ही किसी वकील से मिल कर इसे गोद लेने की पूरी क़ानूनी करर्वाही करती हूँ.

मैंने और श्लोक ने आश्रम से गुप्त दान की औपचारिकताओं को पूर्ण किया और दोनों अपने अपने होटल में लौट आए.

जानती हैं किसलिए? क्योंकि मैं आपसे दिल ही दिल में बहुत प्यार करता था.

मेरी एक गर्लफ्रेंड थी, जो बरेली में ही मेरे साथ रहती थी और वहीं पर जॉब करती थी. लंड के सुपारे से टपकता प्रीकम उसकी चूत के रिसते पानी से मिला, तो हम दोनों गनगना उठे. एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो मारवाड़ीवो अपना मुँह मयूरी की चुत के पास ले जाकर उसको सूंघने लगा और मयूरी ने अपनी चुत की झाँटें आज ही साफ़ की थी तो उसका योनिक्षेत्र एकदम साफ़ सुथरा था.

भाभी की दोनों बगलों को जी भर के चूसने के बाद फिर मैं थोड़ा नीचे आया और भाभी की पतली कमर पर हाथ फिराकर चूमने लगा. वो मेरी रजा समझ गया और अब वो मेरी चूची को अपनी हाथों में लेकर दबाने लगा. अगले ही पल चाची जोर से एक लम्बी सिसकारी भरते हुए मुझे जोर से अपने बाहुपाश में कस लिया और अपने बदन को ऐंठने लगीं.

मैं कुछ कुछ समझ तो गया था, सो मैं जल्दी से उनके बगल में ही लेट गया. भीड़ की वजह से वो मुझे ठीक से देख नहीं पा रही थी, पर शायद उसे भी मैं पसंद था.

अपने हाथों से आंटी के आमों को मसलते हुए मैं अपनी गांड को गोल गोल घुमाता रहा.

मुझे मेरे चाचा और चाची ने अपना कर्ज़ चुका ना पाने की वजह से तुम्हारे बाप के पास बेचा था. दरवाजा खोलने में इतनी देर? दीदी नहीं तो दोस्तों की महफिल? बताऊं क्या दीदी को कि जीजू को सामान उठाने का भी होश नहीं था. दोनों एक साथ करते हैं, और लड़की पसंद आयी तो बहुत पैसे देते हैं। बता वन्द्या, सच बोल दे … तेरा ही फायदा है, यहाँ से बीस किलोमीटर दूर मानिकपुर शहर है, वहां ले चलकर शापिंग वो लोग करवा देंगे, तेरी ऐश हो जायेगी। सच सच बता दे वन्द्या, बात कर लूं?मैं बोली- तू बहुत कमीना है! मैं इस तरह की लड़की नहीं हूं, समझे और न मैं करती हूं न करूंगी!मुझे जोर से सू-सू आ रही थी, मैं बोली- छोड़ मुझे … बहुत सू सू आ रही है.

इंग्लैंड सेक्सी वीडियो हिंदी लेकिन भैया पता नहीं कहीं ड्यूटी के सिलसिले में कहीं बाहर गए हुए थे और वैसे भी वो नौकरी के सिलसिले मैं बहुत ही कम घर पर रहा करते थे. हमारे सामाजिक और पारिवारिक जीवन को ठेस पहुँचाए बिना खुद को तृप्त करने का जरिया मात्र होती हैं कहानियाँ.

सभी दोस्तों को मेरा नमस्कार, मैं आपको मेरी वाईफ से सेक्स की कहानी सुनाने जा रहा हूँ, जिसमें किसी भी तरह के झूठ या शक की कोई गुंजाइश ही नहीं है. उधर जगत देव अंकल भी बोले- वन्द्या आज मैं तुम्हें जी भर के बहुत चोदूंगा, तुम कल मुझसे शादी कर लेना, फिर तुम जो बोलोगी, सब करूंगा. अब मैंने सोचा कि अब इसकी गीली चूत में लंड घुसाने का सही वक्त आ गया है.

सेक्सी पिक्चर नंगी बढ़िया

जैसे जैसे उनकी किसिंग बढ़ती गयी, मैं अपने हाथों से दोनों को सहलाने लगा. मैं बस यही सोचती कि काश कैसे भी आकर मुझे कोई अपनी बांहों में भर ले, और मेरे जिस्म को मसल दे … आज मेरी तमन्ना पूरी कर दे … मेरी प्यास बुझा दे, मेरे साथ जमकर सब वो करे जो मेरे गर्मी को शांत कर सके।परंतु ऐसा कोई नहीं मिला, कैसे मिलता जब तक कि कोई बातचीत ना हुई हो. मैंने उससे कहा- जानेमन मेरा भी पानी निकलने वाला है … कहाँ निकालूं?तो उसने कहा- आज मैं सभी प्रकार से सभी सुख लेना चाहती हूँ … इसलिए अन्दर ही निकाल दो मेरी जान.

उसके लंड की टोपी पूरी पीछे करके सुपारा पायल के दांतों पे जुबान पे रगड़ने लगा. ठीक है साब फिर आप बाहर का ताला लगा के चाभी ले जाओ अपने साथ!” उसने मुझे राय दी.

तो मैंने उसके होंठों पर किस करना शुरू कर दिया और हाथों से कमर को पकड़कर सहलाना शुरू कर दिया.

मैंने बड़ी तसल्ली से उसकी चूत में धीरे धीरे करके थोड़ा लंड घुसा कर एक जोरदार धक्का मारा. मैंने उससे कहा- जानेमन मेरा भी पानी निकलने वाला है … कहाँ निकालूं?तो उसने कहा- आज मैं सभी प्रकार से सभी सुख लेना चाहती हूँ … इसलिए अन्दर ही निकाल दो मेरी जान. इधर मेरी उंगलियां फड़क रहीं थीं कि मैं उसकी चूत को सलवार के ऊपर से थोड़ा सा छू कर ही देख लूं.

मैं जरा लंगड़ाते नंगी ही गई, थोड़ा दरवाजा खोला तो बाहर से रीना बोली- बधाई हो सीमा. उस दिन मेरी बड़ी गांड वाली मौसी ने घाघरा और ऊपर टाइट ब्लाउज पहना हुआ था. कॉलेज के लगभग दो महीने पूरे हो गए थे, सब लोग दूसरे को समझने लगे थे.

जब तक तू अपना मस्त मोटा तगड़ा लंड मेरी चूत में नहीं घुसा कर जोरदार धक्के मार कर चुदाई नहीं कर देता.

बीएफ वीडियो हिंदी ऑडियो: मैं वैसे तो बहुत बार चुदवा चुकी थी लेकिन मुझे अपने दीदी के देवर से चुदवाने में थोड़ा अजीब सी फीलिंग आ रही थी. तो मैंने उनके पास जाकर पूछा- क्या हुआ दिव्या? कुछ बोल क्यों नहीं रही हो?दिव्या जैसे मेरे इसी प्रश्न का इंतजार ही कर रही थी, अपनी मां की ओर देखते हुए मुझे बोली- मैं जानती हूँ कि मेरी माँ एक औरत है, उसके शरीर की भी कुछ जरूरतें हैं.

बस मैं उसके ऊपर किसी भुक्कड़ की तरह टूट पड़ा और दोनों मम्मों को भींच कर दबाता और हॉर्न जैसे दबा दबा कर चूसता जा रहा था. उसने विक्रम को आवाज़ लगायी- भैया?विक्रम- हाँ…मयूरी- जरा बाहर आना…विक्रम- क्या हुआ?मयूरी- एक जरूरी बात करनी है… प्लीज जल्दी बाहर आओ…विक्रम (बाहर आते हुए)- क्या हुआ मयूरी?मयूरी- इधर सोफे पर बैठ जाओ, एक जरूरी बात करनी है. करीब 5 मिनट चूत चाटने के बाद मैंने उसके चूतड़ों पर थप्पड़ मारने शुरू किए और चूत चूसना जारी रखा.

देखो अंकल जी ये हरा वाला गोला जिसमें फोन का निशान है यही है न भाटइसएप?” वो खुश होकर बोली.

लेकिन शायद वो समझ नहीं पाई कि ये सीक्रेट वीडियो रेकॉर्डिंग हो रही है. करीब पांच मिनट तक चाचा मेरी गांड में जीभ घुसेड़ कर उसको पागल कुत्ते की तरह चूसते रहे. ऐसे ही कुछ दिन बीत गए और फिर एक दिन मेरे मामा के घर से फ़ोन आया कि उनके लड़के की शादी तय हो गयी है और दो दिन बाद सगाई का कार्यक्रम है, तो सबको आना है.